विज्ञापन
विज्ञापन
फ्री जन्मकुंडली बनवाएं और जानें ग्रहों की बदलती चाल किस प्रकार होगी आपके लिए प्रभावशाली
Kundali

फ्री जन्मकुंडली बनवाएं और जानें ग्रहों की बदलती चाल किस प्रकार होगी आपके लिए प्रभावशाली

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

गृहमंत्री अमित शाह के सुरक्षाकर्मी का अपहरण कर लूटपाट, मामला दर्ज कर जांच में जुटी पुलिस

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के निवास पर तैनात एक सुरक्षाकर्मी के अपहरण का मामला सामने आया है। तीन बदमाश सुरक्षाकर्मी को गाड़ी समेत अपहरण कर झज्जर ले गए और मारपीट कर उसकी गाड़ी छीन ली।

घटना की सूचना के बाद डीसीपी दीपक सहारण समेत भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच कर बदमाशों की तलाश में जुट गया। पटौदी थाना पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अलावा अपराध शाखा की तीन टीमें भी जांच में जुटी हुई है। 

रेवाड़ी के कोसली निवासी ऋषिराज (52) दिल्ली पुलिस में सहायक उप निरीक्षक है। वह केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के दिल्ली आवास पर सुरक्षा में तैनात है। सोमवार रात को वह अपने घर से गाड़ी में दिल्ली जा रहे थे।

पटौदी के करीब राजपुरा गांव में एक गाड़ी उनके बगल में आई, इसमें बैठे युवक ने गाड़ी के टायर की ओर इशारा करते हुए रोकने को कहा। सुरक्षाकर्मी ने गाड़ी में कुछ दिक्कत होने की आशंका पर गाड़ी रोकी, गाड़ी रुकते ही तीन बदमाश गाड़ी से उतरे व सुरक्षाकर्मी को घेर लिया।

एक ने उनके सिर पर पिस्तौल से वार किया और साथियों की मदद से पिछली सीट पर डाल दिया। बदमाशों ने सुरक्षाकर्मी के हाथ बांधकर उनके आंखों पर पट्टी बांध, अपहरण कर झज्जर की ओर ले गए। करीब एक घंटे गाड़ी में घुमाने के बाद मारपीट कर गाड़ी लेकर फरार हो गए। 

 राहगीर की मदद से सुरक्षाकर्मी ने झज्जर पुलिस को इत्तला किया। मामला पटौदी का होने के कारण उसे पटौदी लाया गया। यहां पूरे मामले की जानकारी डीसीपी मानेसर दीपक सहारण को दी गई। इसके बाद पुलिस में खलबली मच गई।

बड़ी तादाद में पुलिसकर्मी, अपराध शाखा यूनिट व इंटेलिजेंस टीमों के कर्मचारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस की टीमों को बदमाशों की तलाश कार्य में लगा दिया गया है। देर रात तक पुलिस में बदमाशों की तलाश छापेमारी कर रही थी। आसपास के जिलों में पुलिस ने अलर्ट करवा दिया है। पूरे मामले को सिर्फ लूट की आशंका से नहीं बल्कि दूसरे कोण से भी जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

दिल्ली में अवैध हथियार बनाने वाले और पुलिस के बीच हुई मुठभेड़, एक लाख का इनामी बदमाश गिरफ्तार

दिल्ली के वजीराबाद इलाके में बुधवार तड़के एक अवैध हथियार बनाने वाले और पुलिस के बीच मुठभेड़ हो गई, जिसमें बदमाश योगेश ऊर्फ पंडित ऊर्फ पप्पू को पैर में गोली लग गई। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर शास्त्री पार्क के जगप्रवेश अस्पताल में भर्ती कराया।

पुलिस के अनुसार आरोपी योगेश ने पुलिस पर दो राउंड फायरिंग की जबकि पुलिस इंस्पेक्टर संजय गुप्ता ने अपने बचाव में एक राउंड फायरिंग की। पुलिस को उसके कब्जे से 15 पिस्तौल, जिसमें आठ पिस्तौल और सात कट्टे शामिल हैं, 50 गोलियां मिली हैं।

योगेश जिस मोटरसाइकिल पर सवार था वो भी चुराई हुई है। योगेश पर दिल्ली पुलिस ने एक लाख का इनाम रखा था। वह पहले भी अलीगढ़ और भींड से गिरफ्तार हो चुका है।
... और पढ़ें

आरपीआई नेता के फार्म हाउस पर ताबड़तोड़ फायरिंग, गार्ड जख्मी

बीएसपी के टिकट पर 2014 में पूर्वी दिल्ली से लोकसभा चुनाव लड़ चुके मोहम्मद शकील सैफी के फार्म हाउस पर रविवार को नकाबपोश बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। वर्तमान में शकील रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया अठावले के अल्पसंख्यक विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। बदमाश उनके फार्म हाउस में घुसने का प्रयास कर रहे थे। रोकने पर अपराधियों सिक्योरिटी गार्ड  पर गोलियां चला दीं। 

हमले में दोनों टांगों में गोली लगने से सिक्योरिटी गार्ड हरिकिशन (50) बुरी तरह जख्मी हो गया।  शोरशराबा सुनकर आए लोगों का देखकर बदमाश करीब आधा दर्जन से अधिक गोलियां चलाकर मौके से फरार हो गए। सूचना मिलते ही जिले के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंच गए। जख्मी गार्ड को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया।  

छानबीन के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस सीसीटीवी फुटेज कब्जे में लेकर मामले की छानबीन कर रही है। जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि बदमाश ने कपड़े से अपना मुंह ढका हुआ था। पुलिस सीसीटीवी फुटेज से बदमाशों की पहचान करने का प्रयास कर रही है।  
जानकारी के अनुसार शकील सैफी रिपब्लिकन पार्टी के नेता होने के अलावा वर्ल्ड पीस हॉर्मनी नाम से एक संस्था भी चलाते हैं। 

संस्था आतंकवाद और असामाजिक तत्वों के खिलाफ आवाज उठाती रहती है। आशंका व्यक्त की जा रही है कि इसी वजह से शकील पर हमला हुआ है।  पुलिस के मुताबिक शकील सैफी अपने परिवार के साथ निहाल विहार-नांगलोई स्थित फार्म हाउस में रहते हैं।  सुबह करीब 9.00 बजे नकाबपोश दो युवक उनके फार्म हाउस पर पहुंचे। 

आरोपियों ने सुरक्षा गार्ड से शकील को बुलाने के लिए कहा। इस पर सुरक्षा गार्ड फोन पर अंदर बात करने लगा।  इसी दौरान बदमाश अंदर घुसने लगे। सुरक्षा गार्ड ने जब उनको रोकने का प्रयास किया तो अचानक एक बदमाश ने पिस्टल निकालकर गार्ड पर गोली चला दी। गोली उसकी दोनों टांगों में लगी। शोर हुआ तो बदमाश फरार हो गए। जख्मी हालत में घायल हुए गार्ड को अस्पताल में भर्ती कराया गया। 

सामूहिक दुष्कर्म के मामले में समझौता न कराने पर हुआ हमला
शकील सैफी ने बताया कि पिछले साल मई में एक युवती ने आईपी इस्टेट थाने में चार युवकों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था। युवती उनके पश्चिम विहार स्थित मकान में रहती है। शकील उसकी मदद कर रहे थे। 

इधर कई नेता व बड़े पुलिस अधिकारी मामले में समझौते का दबाव भी बना रहे थे। ऐसा न करने पर लगातार उनको जान से मारने की धमकी मिल रही थी। शनिवार को उनके लेटर बॉक्स में एक धमकी भरा पत्र मिला था। पुलिस उसके आधार पर मामले की जांच कर रही है।  
... और पढ़ें

दिल्लीः सुनील राठी गैंग के दो शार्पशूटर गिरफ्तार, 25-25 हजार का है इनाम

दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किए दो शार्पशूटर दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किए दो शार्पशूटर

चार बेटों के काम न करने से परेशान मां ने चुना नशे का कारोबार, किराना की दुकान में बेच रही थी गांजा

बेटे जब बड़े हो जाते हैं तो मां-बाप के ऊपर से जिम्मेदारी का बोझ उतरना शुरू हो जाता है, लेकिन एक 58 वर्षीय मां अपने चार बालिग बेटों व उनके बच्चों का खर्च उठाने के लिए जरायम की दुनिया में उतर गई। छावला की रहने वाली गंगा देवी ने घर खर्च चलाने के लिए किराने की दुकान में गांजा रखकर बेच रही थी।

जब पुलिस ने उसे पकड़ा तो महिला के आंखों से आंसू निकल आए। उसने पुलिस को बताया कि किराना की दुकान से इतने बड़े परिवार का खर्च नहीं चल पाता है। जबकि चारों बेटे अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़कर नशेबाजी में डूबे रहते हैं। इसलिए उसने गुरुग्राम के एक शख्स की सलाह पर ज्यादा रुपये कमाने के लिए यह अवैध काम चुना।

छावला पुलिस को सूचना मिली कि रेवला खानपुर के पास परेना बस्ती के पास एक महिला किराने की दुकान में चोरी से गांजा बेच रही है। सूचना के आधार पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दुकान में छापेमारी कर 2500 ग्राम गांजा एक डिब्बे से बरामद कर लिया।

पूछताछ करने पर दुकान में मौजूद महिला ने अपना नाम गंगा बताया। आरोपिता गंगा ने पुलिस को जानकारी दी कि कुछ दिन पहले उसकी दुकान पर एक शख्स कुछ सामान खरीदने आया था। उसने गंगा की आर्थिक स्थित को देखकर उसे नशे के कारोबार में उतरकर मोटी रकम जल्द कमाने का प्रलोभन दिया।

उसकी बात सुनने के बाद गंगा को लगा कि इस काम से उसके घर की हालत सुधर जाएगी। पुलिस ने उसे गिरफ्तार एनडीपीएस अधिनियम के तहत जेल भेज दिया है।
... और पढ़ें

जल्द रुपये कमाने के लिए दोबारा करने लगा अपराध, गिरफ्तार 

उत्तम नगर थाना पुलिस ने एक ऐसे घोषित बदमाश को गिरफ्तार किया है, जो जेल से निकलने के बाद फैक्टरी में काम करने लगा और फिर कुछ दिनों तक अपने पिता के साथ मोटर मैकेनिक का काम किया। लेकिन जल्द रुपये कमाने के लिए फिर से वारदातों को अंजाम देने लगा। पुलिस ने बदमाश के कब्जे से एक बाइक और स्कूटी बरामद की है। पुलिस बदमाश से पूछताछ कर जांच में जुटी है। 

जिला पुलिस उपायुक्त एंटो अल्फोंस ने बताया कि गिरफ्तार बदमाश को पुलिस ने रोको-टोको अभियान के तहत पकड़ा। 15 जुलाई को उत्तम नगर थाने में तैनात हवलदार चांदराम सिपाही यशवंत इलोक में गश्त कर रहा था। एक बाइक का नंबर देखकर पुलिसकर्मियों को शक हुआ। पुलिसकर्मियों ने बाइक चला रहे युवक को रोका और उससे कागजात की मांग की। लेकिन युवक कागजात नहीं दिखा पाया।
 
जांच में पता चला कि बाइक डाबड़ी इलाके से  चुराई गई है। पुलिस ने बाइक चला रहे बदमाश ओम विहार निवासी राहुल(21) को गिरफ्तार कर लिया। राहुल उत्तम नगर थाने का घोषित बदमाश है। इसपर पहले से सात मामले दर्ज हैं।

जांच में पता चला कि अगस्त 2019 में जेल से बाहर आने के बाद वह एक फैक्टरी में काम करने लगा। फिर पिता के साथ मोटर मैकेनिक का काम किया। लेकिन जल्द रुपये कमाने के लिए वह वाहन चोरी कर झपटमारी की वारदात को अंजाम देने के फिराक में था। पुलिस ने उसके निशानदेही पर वर्ष 2019 में चोरी की गई एक स्कूटी भी बरामद कर ली है।
... और पढ़ें

युवक ने ट्रांसजेंडर पत्नी का रेता गला, घायल अवस्था में पीड़िता ने पिता को वीडियो भेजा, ऐसे बुलाए पड़ोसी

दिल्ली के दक्षिणी-पूर्वी जिले की अमर कालोनी पुलिस ने ज्ञानेंद्र शुक्ला नाम के शख्स को गिरफ्तार कर एक हत्या के प्रयास का मामला सुलझाने का दावा किया है। आरोपी के पास से चाकू भी बरामद हुआ है। पूछताछ में आरोपी ज्ञानेंद्र ने बताया कि अवैध संबंध के शक में उसने अपनी ट्रांसजेंडर पत्नी का गला काटाकर हत्या का प्रयास किया था। वहीं घायल पत्नी नेहा का अस्पताल में इलाज चल रहा है, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

डीसीपी आरपी मीणा के मुताबिक, यह वारदात 11 जुलाई को सामने आई थी। पुलिस को अमर कॉलोनी के ए-ब्लॉक में एक महिला की गला काटे जाने की सूचना मिली थी। पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला कि घायल को एम्स ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करवाया गया है। इसके बाद सब इंस्पेक्टर ईश्वर एम्स पहुंचे, जहां नेहा शर्मा की हालत को देखा।

हालांकि घायल बयान देने की स्थिति में नहीं थी। इसी बीच अस्पताल में घायल के पिता धर्मवीर शर्मा भी मिले। उन्होंने बताया कि दामाद ज्ञानेंद्र ने ही बेटी का गला काटा है। पुलिस को पता चला कि घायल ट्रांसजेंडर है और उसकी ज्ञानेंद्र से शादी गत वर्ष ही हुई थी। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी को लगा था कि उसकी पत्नी मर चुकी है। इसके बाद वह घर से फरार हो गया था।
... और पढ़ें

सिरफिरे पति ने नशे की हालत में परिवार पर फेंका तेजाब, पत्नी व तीन मासूम झुलसे

आरोपी पति गिरफ्तार
उत्तर-पूर्वी दिल्ली के शास्त्री पार्क इलाके में शराब के नशे में धुत एक सिरफिरे पति ने अपनी पत्नी व तीन मासूम बच्चों पर तेजाब डाल दिया। पत्नी व मासूम दर्द से चीखने लगे तो पड़ोसी वहां पहुंचे। आरोपी को मौके पर ही तेजाब की बोतल के साथ दबोच लिया। तेजाब से झुलसी पत्नी व तीनों बच्चों को पहले जग प्रवेश चंद अस्पताल ले जाया गया, जहां से हालत गंभीर होने पर सभी को एम्स रेफर कर दिया गया।

उधर, पकड़े गए आरोपी की पहचान शाहिद (32) के रूप में हुई है। शुरूआती जांच के बाद पुलिस का कहना है कि घरेलू कलह और नशे में आरोपी ने वारदात को अंजाम दिया। शाहिद का अपनी पत्नी से हमेशा झगड़ा होता था। शास्त्री पार्क थाना पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। घटनास्थल से क्राइम टीम के अलावा एफएसएल की टीम ने सक्ष्य जुटाए हैं।

पुलिस के मुताबिक, शाहिद अपने परिवार के साथ गली नंबर-9, सी-ब्लॉक, शास्त्री पार्क में किराए के मकान में पहली मंजिल पर रहता है। इसके परिवार में पत्नी मुमताज (28) और आठ, छह और चार साल के तीन बेटे हैं। शाहिद इलाके में ही फलों की रेहड़ी लगाता है। अक्सर पति-पत्नी में छोटी-छोटी बातों पर झगड़ा हो जाता था। शाहिद को शराब पीने की भी लत है।
... और पढ़ें

बच्चे के जन्म के चंद दिन बाद ही पति ने पत्नी से किया अप्राकृतिक यौनाचार, अगले ही दिन घर से भी निकाला

मध्य दिल्ली के चांदनी महल इलाके में एक शख्स ने हैवानियत की हदों को तोड़ते हुए अपनी पत्नी के साथ अप्राकृतिक यौनाचार किया। वारदात से चंद दिनों पहले ही महिला ने एक बेटे को जन्म दिया था। बावजूद इसके आरोपी ने जबरन वारदात को अंजाम दिया।

यही नहीं आरोपी ने वारदात को अंजाम देने के बाद अगले दिन महिला को घर से निकाल लिया। महिला ने पहले तो लोकलाज के डर से वारदात की सूचना पुलिस को नहीं दी। मंगलवार को पीड़िता वेलकम थाने पहुंची, जहां से उसका केस चांदनी महल थाने भेज दिया गया। पुलिस ने मारपीट, अप्राकृतिक यौनाचार और जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस आरोपी पति की तलाश कर रही है।

पुलिस के मुताबिक समीरा (23)(बदला हुआ नाम) परिवार के साथ वेलकम के कबीर नगर इलाके में रहती है। वर्ष 2019 मई माह में समीरा की शादी चांदनी महल निवासी युवक से हुई। सब कुछ ठीक-ठाक चलता रहा। 12 मार्च को समीरा ने कस्तूरबा अस्पताल में एक लड़के को ऑपरेशन के बाद जन्म दिया। 16 मार्च को उसकी अस्पताल से छुट्टी हो गई।
... और पढ़ें

विकास दुबे के साथी मिश्रा परिवार के कारनामे से स्थानीय लोग भी स्तब्ध, घर में मिला हथियारों का जखीरा

दिल्लीः 12 वर्ष के लड़के से मोबाइल छीना, पीले रंग ने पकड़वाया

फतेहपुरबेरी थाना इलाके में एक झपटमार ने 12 वर्ष के लड़के से मोबाइल छीन लिया। बदमाश की स्कूटी का रंग पीला था। पीले रंग के चलते बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़ गया। साथ ही बदमाश सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गया था। पुलिस ने बदमाश की गिरफ्तारी से झपटमारी की दो वारदातों का खुलासा करने का दावा किया है। 

दक्षिण जिला डीसीपी अतुल ठाकुर के अनुसार आया नगर में रहने वाला एक 12 वर्ष का लड़का छह जुलाई को पास में स्थित दुकान पर जा रहा था। तभी स्कूटी पर युवक आया और उसका मोबाइल छीनकर ले गए। मामला दर्जकर फतेहपुरबेरी थानाध्यक्ष दलीप कुमार की देखरेख में हवलदार जसवीर व सिपाही संदीप की टीम ने जांच शुरू की।

पुलिस टीम ने घटनास्थल की सीसीटीवी फुटेज को खंगाला। सीसीटीवी व स्थानीय इनपुट्स से पता लगा कि आरोपी पीले रंग की स्कूटी से आया था। इसके बाद पुलिस टीम ने आरोपी जौनापुर गांव निवासी वीरपाल(24) को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के कब्जे से छीने गए दो मोबाइल फोन बरामद किए गए। आरोपी मोटरसाइकिल रिपेयरिंग की दुकान पर काम करता था। आरोपी के खिलाफ पहले से लूट का एक मामला दर्ज है।
... और पढ़ें

जैकेट में छिपाकर और कूड़ा ढोने वाले रिक्शे से करते थे शराब तस्करी, दो गिरफ्तार

पुलिस की नजर से बचने के लिए शराब तस्कर नए नए तरीके का ईजाद कर अवैध शराब को ठिकाने तक पहुंचाने का प्रयास करते हैं। मुंडका थाना पुलिस ने ऐसे ही दो शराब तस्करों को गिरफ्तार किया है जो अपनी जैकेट और कूड़ा ढोने वाले रिक्शा में छुपाकर शराब की तस्करी कर रहे थे। इनके कब्जे से पुलिस ने 20 कार्टून शराब बरामद किया है। 

बाहरी जिला पुलिस उपायुक्त ए कोन ने बताया कि मुंडका थाने में तैनात एएसआई रमेश और सिपाही हरीश टिकरी बार्डर के पास पिकेट पर मौजूद थे। उनलोगों ने गर्मी के इस मौसम में एक युवक को जैकेट पहनकर आते देखा। शक होने पर पुलिसकर्मियों ने युवक को रोका और उसकी तलाशी ली।

युवक के जैकेट से शराब के सौ पाउच मिले। जिसे उसने सेलो टेप से जैकेट में चिपकाकर रखा था। जांच में पता चला कि वह बहादुरगढ़ हरियाणा से शराब की तस्करी कर ला रहा था और उसे बाहरी दिल्ली इलाके में बेचना था। युवक की पहचान प्रेम नगर निवासी ईशू(20) के रूप में हुई। पुलिस उसे गिरफ्तार कर लिया है। 

वहीं एक अन्य मामले में मुंडका थाने में तैनात हवलदार सुनील और सिपाही संजय ने गश्त के दौरान कूड़ा ढोने वाले जगमोहन को पकड़ा। रिक्शा की तलाशी के दौरान उसमें 18 कार्टून शराब मिला। पूछताछ में पता चला कि वह कूड़ा ढोने वाले रिक्शे का इस्तेमाल शराब तस्करी के लिए करता था। जगमोहन सब्जी मंडी इलाके का रहने वाला है। पुलिस दोनों मामलों की छानबीन में जुटी है। 
... और पढ़ें

नकली नमक बनाने का धंधे का खुलासा, पुलिस ने छापा मारकर तीन हजार किलोग्राम नमक बरामद किए

बाहरी उत्तरी जिला की डीआईयू सेल ने बवाना इलाके में चल रहे नकली नमक बनाने के धंधे का पर्दाफाश किया है। आरोपी नकली नमक को नामी कंपनी के पैकेट में बंद कर उसे बेचते थे।

पुलिस ने इस मामले में एक दुकानदार व नमक बनाने वाले यूनिट के कर्मचारी को गिरफ्तार किया है। इनक कब्जे से पुलिस ने तीन हजार किलोग्राम नकली नमक, 22 सौ टाटा नमक के खाली पैकेट और पैकिंग का सामान जब्त किया है। 

शुरूआती जांच में पता चला है कि आरोपी गुजरात से एक रुपये प्रति किलोग्राम   नमक लाकर उसे फैक्टरी में तैयार करने के बाद नामी कंपनी के पैकेट में बंद कर दुकानदार को छह रुपये में बेच देते थे।

जिसे दुकानदार 20 रुपये में बेचता था। जिला पुलिस उपायुक्त गौरव शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान सुरजमल और गोविंद के रूप में हुई है। पुलिस धंधे में शामिल अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी है। 

टाया नमक कंपनी के अधिकारी ने डीआईयू विभाग में नकली नमक बेचे जाने की शिकायत की। शिकायत में उसने बताया कि शाहबाद डेयरी के प्रहलादपुर बांगर इलाके में एक दुकानदार नकली नमक बेचात है। जो लोगों की सेहत के लिए काफी हानिकारक है।

एसीपी दिनेश शर्मा के नेतृत्व में पुलिस टीम ने सूरजमल की दुकान पर छापेमारी की। जहां से पुलिस को भारी मात्रा में नकली नमक बरामद हुआ। पूछताछ में सूरजमल ने बताया कि वह यह सामान बवाना जैन कालोनी में गोविंद से लेता है। उसके बाद पुलिस ने जैन कालोनी में स्थित फैक्टरी पर छापा मारा।

जहां से भारी मात्रा में नकली नमक मिले। पुलिस ने गोविंद को गिरफ्तार कर लिया। जांच में पता चला कि इस धंधे का सरगना रिंकू नाम का व्यक्ति है जो कई बार नकली सामान बेचने के आरोप में पहले भी गिरफ्तार हो चुका है।
... और पढ़ें
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन