विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

नोएडा: कंपनी की लापरवाही के कारण संक्रमित हुए 13 लोग, महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज

आरोप है कि कंपनी के विदेश से आए ऑडिटर के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष संपर्क में आने से 13 लोग कोरोना से संक्रमित हो गए। 

29 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

गुरुग्राम

रविवार, 29 मार्च 2020

बेवजह सड़क पर घूमने वालों पर कार्रवाई, 33 पर केस

गुरुग्राम। लॉकडाउन के दौरान प्रशासन की अपील के बावजूद बेवजह सड़कों पर घूमने वाले लोगों पर पुलिस ने कार्रवाई की। सोमवार को गुरुग्राम पुलिस ने 13 थाना क्षेत्रों में 33 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए। पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकील ने बताया कि सभी थाना प्रभारियों को आदेश दिया गया है कि नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।
सोमवार को जिले से सभी चौक-चौराहों पर पुलिस ने नाकाबंदी कर गुजरने वाले वाहन चालकों की जांच पड़ताल की। इस दौरान बेवजह दोपहिया व कार में घूमने वाले वाहन चालकों को घरों में रहने की हिदायत दी गई।
इसके बावजूद लोग जान बूझकर बाजार, कॉलोनियों की सड़कों और सेक्टरों में घूमते मिले। सेक्टर-17/18 व सेक्टर-5 थाना क्षेत्र में पुलिस ने 11 लोगों के खिलाफ नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ मामला दर्ज किया। इसके अलावा सेक्टर-14, राजेंद्रा पार्क और पालम विहार थाना क्षेत्र में 9 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। शहर, शिवाजी नगर, सेक्टर-10ए, न्यू कॉलोनी, सिविल लाइन थाना क्षेत्र में 2-2 लोगों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया, जबकि डीएलएफ फेज-1, आईएमटी मानेसर और सेक्टर-9ए थाना क्षेत्र में 1-1 केस दर्ज हुए।
सोहना में भी सख्ती
सोहना कस्बे में भी मंगलवार को पुलिस ने घूम रहे वाहन चालकों के खिलाफ सख्ती दिखाई। पुलिस ने शहर और सदर थाना क्षेत्र में नाकों पर ऐसे वाहन चालकों को घरों में ही रहने की हिदायत दी, जबकि कई लोगों के खिलाफ केस भी दर्ज किया गया। इसके अलावा गैर अधिकृत रूप से वाहनों में सवारियां लेकर जाने वालों के खिलाफ सख्त एक्शन लिया।
... और पढ़ें

सख्ती के बाद नाके पर पुलिसकर्मियों से बहस करते रहे लोग

गुरुग्राम। लॉक डाउन पर पुलिस की सख्ती का असर मंगलवार सुबह से दिखाई देने लगा। मंगलवार को नाके पर पुलिस सख्ती के कारण लोग बहस करने लगे। सुबह से ही पुलिस ने कॉलोनियों की मुख्य सड़क पर डेरा डाल लिया, जिससे लोगों की संख्या कम रही। उधर, राशन व सब्जी खरीदने के लिए सब्जी मंडी व सदर बाजार में काफी भीड़ रही। राशन दुकानदारों ने ग्राहकों से दूरी बनाए रखने के लिए दुकान के आगे रस्सी बांध दी।
सोमवार को लॉकडाउन के पहले दिन लोग घर से बाहर निकल आए थे। इसको देखते हुए मंगलवार सुबह से ही पुलिस ने सख्ती कर दी। पुलिस ने कॉलोनियों, सेक्टरों के मुख्य मार्ग पर ही नाकेबंदी कर दी। ऐसे में बेफिजूल बाहर निकलने से रोकने पर पुलिसकर्मियों व स्थानीय लोगों की बहस हो गई। न्यू कॉलोनी मोड़, राजीव चौक पर इस तरह का नजारा देखने को मिला।
सब्जी मंडी में लोगों का जमावड़ा
मंगलवार सुबह लोग राशन व सब्जियां खरीदने के लिए घर से बाहर आ गए। इससे राशन की दुकान व सब्जी मंडी में लोगों का जमावड़ा लगा रहा। दुकानदारों ने ग्राहकों से दूरी बनाते हुए काम किया। इससे लोगों को अपनी बारी का करीब 20 मिनट तक इंतजार करना पड़ा। उधर, शॉपिंग मॉल में सब्जियों एवं ग्रॉसरी सामान की बिक्री की गई। नंबर के लिए लोग इंतजार करते रहे।
सेक्टर-14 आरडब्ल्यूए ने बंद किया गेट
सेक्टर-14 आरडब्ल्यूए ने कोरोना वायरस से बचने के लिए सेक्टर के मुख्य गेट को ही बंद कर दिया। गेट से किसी भी बाहरी व्यक्ति को प्रवेश से मनाही करते हुए नोटिस चिपका दिया गया।
सरहोल बॉर्डर और कापसहेड़ा बॉर्डर पर वाहनों की लाइन
शहर की सड़कों पर सोमवार की तुलना में मंगलवार को यातायात कम नजर आया। मुख्य सड़क पर कुछ वाहन दौड़ते दिखाई दिए। खाली सड़क देखते हुए कुछ वाहन एक्सप्रेसवे पर अत्यधिक तेजी से गुजरने लगे। मंगलवार को एटलस चौक के पास तेज रफ्तार मर्सडीज गाड़ी का टायर फट गया, जिससे वह पलटते हुए क्षतिग्रस्त हो गई। चालक को मामूली चोटें आई हैं। उधर, सुबह के वक्त सरहोल बॉर्डर समेत कापसहेड़ा बॉर्डर पर वाहनों की लाइन लगी रही। ज्यादातर वाहनों को पुलिस ने यूटर्न देकर वापस मोड़ दिया। दोपहर होने तक वाहनों की संख्या नाम के लिए रह गई।
... और पढ़ें

कोरोना वायरस के 2 नए मरीज

गुरुग्राम। जिले में कोरोना वायरस पीड़ितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। मंगलवार को नेशनल इंस्टीट्यूट आफ वायरोलॉजी (एनआईवी) से आई रिपोर्ट के मुताबिक दो और मरीजों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। कोरोना पीड़ितों में से एक सेक्टर 83 स्थित एमआर पालम गार्डन व एक पालम विहार निवासी है। पालम विहार निवासी कोरोना पीड़ित युवक के बेटे और बेटी पहले से ही कोरोना पीड़ित हैं। अब युवक व उसकी सास में भी कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।
जिला प्रशासन के देर शाम जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक अब तक जिले से 232 मरीजों से सैंपल लिए जा चुके हैं। इसमें से 182 मरीजों की अंतिम रिपोर्ट आ गई है, जिसमें अब तक 10 मरीजों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है जबकि 172 मरीज कोरोना वायरस से मुक्त पाए गए हैं।
पालम विहार से सामने आए हैं चार मरीज
कोरोना वायरस पीड़ितों में सबसे ज्यादा 4 मरीज पालम विहार निवासी हैं, जबकि 2 मरीज निर्वाणा कंट्री व 2 मरीज सेक्टर 9-ए के निवासी हैं। वहीं एक मरीज सुशांत लोक व एक मरीज सेक्टर-83 स्थित एमआर पालम गार्डन सोसायटी निवासी है। कोरोना पीड़ितों में सेक्टर 10 स्थित नागरिक अस्पताल के दो चिकित्सक भी शामिल हैं।
ब्रिटेन से लौटी थी युवती
उल्लेखनीय है कि पालम विहार निवासी 22 वर्षीय युवती ब्रिटेन की यात्रा पर गई थी और वहां से लौटने के बाद उसमें कोरोना के लक्षण नजर आए थे। जांच के बाद यूपी में कोरोनावायरस की पुष्टि हुई थी। वहीं बाद में युवती का भाई भी कोरोना से संक्रमित पाया गया था। अब युवती के पिता व उसकी नानी में भी कोरोना वायरस की पुष्टि हो चुकी है।
... और पढ़ें

गुरुग्राम: तीन निजी लैब को मिली कोरोना जांच की अनुमति, 4500 रुपये लेकर होगी जांच

शासकीय अस्पतालों से कम हो रहा जांच का दबाव, 4500 रुपये लेकर होगी जांच

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) की तरफ से प्रदेश के 35 निजी लैब को कोविड-19 की जांच की अनुमति दी गई है, जिसमें गुरुग्राम के तीन लैब शामिल हैं। इन लैबों में 4500 रुपये लेकर जांच की जाएगी, वहीं शासकीय अस्पतालों पर दबाव भी कम होगा।

तीनों ही लैब शहर में अलग-अलग जगहों पर स्थित हैं। इसमें सेक्टर-34 स्थित स्ट्रैंड लाइफ साइंसेज, सेक्टर-18 स्थित एसआरएल लिमिटेड व जवाहर नगर स्थित मॉडर्न डायग्नोस्टिक एंड रिसर्च सेंटर शामिल हैं। इन प्रयोगशालाओं में 2.5-5 घंटे के अंदर कोविड-19 की जांच की जा सकेगी। हालांकि, मरीजों को रिपोर्ट अगले दिन ही मिल सकेगी। एसआरएल लिमिटेड के फ्रंट डेस्क में कार्यरत सुभाष ने बताया कि सरकार के दिशानिर्देशों के मुताबिक कोविड-19 की जांच के लिए फॉर्म-44 के साथ ही चिकित्सक की परामर्श पर्ची व मरीज का पहचान पत्र अनिवार्य कर दिया है। फॉर्म-44 में मरीज की सारी जानकारियां होंगी।

फोन पर लेना होगा अपॉइंटमेंट
कोविड-19 की जांच के लिए मरीजों  को फोन पर अपॉइंटमेंट लेना होगा,  जहां पर मरीज को अपनी पूरी जानकारी देनी होगी। अपॉइंटमेंट कन्फर्म होने के बाद बाद मरीज को ईमेल व फोन के जरिए सूचित कर सैंपल के लिए बुलाया जाएगा। मरीज के लिए सुरक्षा की दृष्टि से कुछ निर्देश दिया जा रहा है, ताकि दूसरों को कोरोना से सुरक्षित किया जा सके। उल्लेखनीय है कि कोविड-19 की जांच के लिए केंद्र सरकार ने 4500 रुपये फीस निर्धारित कर दी है।

खास बात यह है कि शहर में स्थित तीनों की निजी लैब की नोएडा, फरीदाबाद समेत दिल्ली एनसीआर में कई अन्य शाखाएं हैं, जहां से बुकिंग के बाद मरीजों को सैंपल लेने के लिए गुरुग्राम ही आना होगा।
... और पढ़ें
Lab Technicians सांकेतिक तस्वीर Lab Technicians सांकेतिक तस्वीर

गुरुग्राम: फेसबुक लाइव रोजाना शाम 8 बजे, दो हजार लोगों बता रहे अपनी परेशानी

फेसबुक लाइव: हर रोज दो हजार लोग बता रहे अपनी परेशानियां

कोरोना वायरस के कारण आई रही दिक्कतों को पता करने के साथ-साथ उन्हें दूर करने के लिए गुरुग्राम के उपायुक्त अमित खत्री का रोजाना फेसबुक पर रूबरू होना जिले के निवासियों को काफी रास आ रहा है। वह पिछले तीन दिन से शाम को आठ बजे फेसबुक पर आकर लोगों की समस्या जान रहे है। उनसे प्रतिदिन करीब दो हजार लोग अपनी समस्या बता रहे है और सुझाव दे रहे है।

खाद्य सामग्री विक्रेताओं को दी चेतावनी
उपायुक्त अमित खत्री ने इस दौरान लोगों से मिले फीडबैक के बाद उन सभी विक्रेताओं को चेतावनी दी है जो निर्धारित दरों से अधिक पर खाद्य सामग्री बेच रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे विक्रेताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। विक्रेता संकट की इस घड़ी में गलत तरीके से मुनाफा कमाने की बजाए लोगों की दुआएं लें। लोगों से अपील की कि वे अनावश्यक रूप से अपने घरों में सामान की जमाखोरी न करें। इससे समाज में अन्य लोगों को परेशानी होगी।

ऑनलाइन पास उपलब्ध कराने की हुई व्यवस्था
उपायुक्त ने कहा कि जिला प्रशासन ने ऑनलाइन पास अप्लाई करने की व्यवस्था की है। अति आवश्यक होने पर ही व्यक्ति को पास जारी किया जाएगा। आरडब्लूए संस्थाओं और रिटेलरों व होलसेलरों के लिए पास जारी किए गए हैं। जिले की प्रत्येक आरडब्ल्यूए को पांच-पांच पास दिए गए हैं, जो किसी व्यक्ति विशेष के नाम से नहीं बनाए गए हैं। 
... और पढ़ें

ऐसे कैसे हारेगा कोरोनाः लॉकडाउन का चौथा दिन, बस के आते ही दौड़ पड़ते हैं लोग

सुप्रीम कोर्ट ने BS4 वाहनों की बिक्री की समय सीमा बढ़ाई, लेकिन दिल्ली-एनसीआर में नहीं बिकेगी गाड़ी

corona virus lockdown

दिल्ली में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 40 हुई, भूख से परेशान लोगों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी

कोरोना का कहर पूरे देश समेत दिल्ली-एनसीआर में बढ़ता ही जा रहा है। संक्रमितों के आंकड़े में लॉकडाउन के बाद भी तेजी से वृद्धि देखी जा रही है। सिर्फ दिल्ली-एनसीआर में ही कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 74 हो गई है। ऐसे में सभी को विशेष एहतियात बरतने की जरूरत है और लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने की जरूरत है। लॉकडाउन के दौरान लोगों को रोजमर्रा की चीजों के लिए परेशान न होना पड़े सरकार इसके भी पुख्ता इंतजाम कर रही है। यहां पढ़ें दिल्ली-एनसीआर के दिनभर के अपडेट्स...

दिल्ली में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 40 हुई 

दिल्ली में अब कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 40 हो गई हैं। इसमे एक की मौत और पांच ठीक होकर डिस्टार्च किए गए मरीज भी शामिल हैं।

दिल्ली में भूख से परेशान लोगों के लिए हंगर हेल्पलाइन जारी
दिल्ली के लोगों को उन लोगों को अब भूख से परेशान होने की जरूरत नहीं है, लॉकडाउन की वजह से जिनका काम बंद हो गया है और पैसों की किल्लत है। दक्षिणी जिला के डीएम बृजमोहन मिश्रा ने बताया है कि सरकार ने हंगर हेल्पलाइन जारी की है। यहां फोन कर भूखे लोग खाना मंगा सकते हैं। यह नंबर- 9818523225 है। उन्होंने बताया कि हम लोगों के लिए संतुलित आहार बनाने की कोशिश कर रहे हैं। हमारे पास डाइटीशियन है जो खाने के मेन्यू और गुणवत्ता पर नजर रखते हैं। वहीं सामुदायिक डॉक्टर खाने के तैयार होते वक्त साफ-सफाई पर भी निगरानी रखते हैं।

गुरुग्राम से सटे पटौदी की झुग्गियों में भूख से तड़प रहे लोग
पटौदी के पास लगभग 70  के आसपास झुगियां हैं, इसके अलावा पटौदी में अन्य झुग्गियों में रहने वाले लोग भी भूख से तड़प रहे हैं। इन लोगों की कोई नहीं सुन रहा।



नोएडा में तीन नए संक्रमित अस्पताल में भर्ती
नोएडा में तीन नए पॉजिटिव केस सामने आने से यहां संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 17 हो गई है। इन सबका इलाज जिम्स अस्पताल में चल रहा है।
1. 33 वर्षीय महिला, पॉजिटिव मरीज से संपर्क में आने से संक्रमित हुई। जिसके संपर्क में आई उसका यात्रा इतिहास है।
2. 54 वर्षीय महिला, पॉजिटिव मरीज से संपर्क में आने से संक्रमित हुई। जिसके संपर्क में आई उसका यात्रा इतिहास है।
3. 36 वर्षीय पुरुष, इसका कोई यात्रा इतिहास नहीं है।

गाजियाबाद में सामने आए दो नए मामले
गाजियाबाद में दो नए मरीजों के साथ कोरोना पॉजिटिजी  मरीजों की संख्या पांच हो गई है। दो मरीज जिला एमएमजी अस्पताल में भर्ती हैं। एक मरीज दुबई से लौटकर आया था, जबकि एक मरीज नोएडा में कोरोना पाजिटिव के संपर्क में आया था। एक पॉजिटिव कार्डिएक सर्जन का इलाज दिल्ली के सफदरजंग में चल रहा है। उन्होंने टेलीफोन पर बातचीत में बताया कि अस्पताल में स्वास्थ्य में सुधार हो चुका है, सिर्फ गाइड लाइन के अनुसार समय पूरा करना है। उन्होंने बताया कि फ्रांस से वापस आने के बाद आइसोलेशन में रहने का फायदा हुआ कि ढाई साल की बेटी व पत्नी की रिपोर्ट निगेटिव आई है।  दो मरीज पिता-पुत्र इलाज के बाद स्वस्थ्य हो चुके हैं। बृहस्पतिवार को छह नए संदिग्ध भर्ती किए जा चुके हैं। सीएमओ डॉ. एनके गुप्ता ने बताया कि अब तक 102 सैंपल भेजे जा चुके हैं। इसमें से 87 निगेटिव आए हैं। होम क्वारंटीन में अभी भी 852 लोग हैं।





दिल्ली-एनसीआर में कुल मरीजों को संख्या
दिल्ली- 39 संक्रमित                      1 की मौत
नोएडा ग्रेटर नोएडा- 17  संक्रमित
गुरुग्राम-10 संक्रमित
फरीदाबाद- 2 संक्रमित
पलवल- 1 संक्रमित
गाजियाबाद- 5 संक्रमित
... और पढ़ें

जरूरत का सामान लेने निकले युवकों से मारपीट

जरूरत का सामान लेने निकले युवकों से मारपीट
गुरुग्राम। सेक्टर-14 स्थित संजय ग्राम में पुलिस की सहायता के लिए नियुक्त कथित स्वयंसेवकों ने जरूरत का सामान लेकर जा रहे युवकों से मारपीट की। सूचना मिलते ही सेक्टर-14 थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपियों को पकड़ लिया। पुलिस ने शिकायत न मिलने पर उन्हें चेतावनी देकर छोड़ दिया। हालांकि पुलिस ने क्षेत्र में गश्त बढ़ा दी है। दरअसल, लॉकडाउन में लोगों को घर के अंदर रखने के लिए पुलिस ने युवाओं से स्वेच्छा से मदद मांगी थी। मदद के नाम पर कुछ लोग जरूरत का सामान लेने निकले युवकों से मारपीट करने लगे। बुधवार देर शाम को सेक्टर-14 थाना पुलिस को सूचना मिली, लेकिन पुलिस को क्षेत्र में ऐसा कुछ नहीं मिला। बृहस्पतिवार सुबह सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पांच आरोपियों को पकड़ लिया। पूछताछ में सामने आया कि युवकों ने जिला प्रशासन के पास पंजीकरण करवाए बिना ही स्वयंसेवा करनी शुरू कर दी और घर से बाहर निकलने वाले प्रत्येक व्यक्ति को धमकाकर वापस भेजने लगे। पुलिस ने पीड़ितों से शिकायत मांगी, लेकिन उन्होंने शिकायत देने से मना कर दिया।
... और पढ़ें

दिल्ली-एनसीआरः कोरोना के तीन नए मामले आए सामने, कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 39 हुई

दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन जारी है। आज इसका दूसरा दिन है और दिल्ली-एनसीआर के ज्यादातर इलाकों में लोग इसे मानते नजर आ रहे हैं। दुकानों पर कम भीड़ देखी जा रही है और सड़कों पर भी आज कम आवाजाही है। वहीं बुधवार का दिन राजधानी दिल्ली के लिए कुछ खास नहीं रहा। यहां बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना पाजिटिव के पांच नए केस सामने आए हैं। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बुधवार को इसकी जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने बताया कि इसी के साथ ही दिल्ली में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 36 हो चुकी है, जबकि एक महिला की मौत हो चुकी है। मुख्यमंत्री ने बताया कि कोरोना के सामने आए पांच मामलों में से एक के हाल में ही विदेश यात्रा की जानकारी मिली है। वहीं अन्य इलाके जैसे नोएडा-ग्रेटर नोएडा, गुरुग्राम, गाजियाबाद, फरीदाबाद आदि में कोई नया मामला सामने नहीं आया है। हमारी इस स्टोरी में पढ़ें दिनभर के सभी अपडेट्स.....

गाजियाबाद में दो नए मामले आए सामने


शालीमार गार्डन और वैशाली में रहने वाले दो लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। दोनों ही मरीज एमएमजी जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं। इनमें से एक मरीज नोएडा में कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आया था। जबकि दूसरे की  विदेश से लौटने की हिस्ट्री है।

दिल्ली में कोरोना के तीन नए मामले मिले कुल संख्या 39 हुई

दिल्ली में कोरोना के तीन नए मामलों की पुष्टि हुई है, इसी के साथ कुल संक्रमितों की संख्या 39 हो गई है। इसमें 29 मामले विदेश यात्रा संबंधी हैं, जबकि 10 लोगों को किसी के संपर्क में आने से संक्रमण हुआ है। पांच मरीजों को उपचार के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है। दिल्ली में कोरोना से अब तक एक मरीज की मौत हुई है। अभी कोरोना के  32 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं। 

जरूरी सेवाओं में तैनात कर्मियों के लिए बस की सुविधा

लॉकडाउन के दौरान सार्वजनिक बसों में सफर करने की इजाजत केवल जरूरी सेवाओं में कार्यरत लोगों को दी जा रही है। इन लोगों को आईडी कार्ड दिखाने के बाद ही बसों में एंट्री दी जा रही है। डीटीसी के ड्राइवरों ने इसके लिए सख्ती शुरू कर दी है। ड्राइवर प्रीतम सिंह ने बताया कि आईडी कार्ड देखने के साथ-साथ जरूरी कार्यों के लिए जाने वाले व्यक्ति या आवश्यक सेवाओं में तैनात कर्मियों को ही बसों में सफर की इजाजत दी जा रही है। ड्राइवर शैलेंद्र कुमार ने बताया कि यात्रियों की पहचान के बाद ही उन्हें बसों में प्रवेश का मौका दिया जा रहा है। 

मजनू का टीला में भी मिला जरूरतमंदों को खाना
 


दिल्ली पुलिस ने आज शहर के कई हिस्सों में जरूरतमंदों को भोजन वितरित किया, इस क्रम में  मजनू का टीला क्षेत्र में भी लोगों को भोजन कराया गया। 

आठ महीने की गर्भवती को रहना पड़ेगा भूखा !
 

सपना और संजय, पति-पत्नी दोनों जंतर-मंतर के पास सड़क पर रहते हैं। संजय का कहना है कि देश में लॉकडाउन चल रहा है। हमारा राशन को खत्म हो गया है, पता नहीं अब क्या होगा। मेरी पत्नी 8 महीने की गर्भवती है, मेरे दिल में दर्द होता है कि उसे भूखा रहना होगा।


नजफगढ़ इलाके में जरूरतमंदों को भोजन
 

दिल्ली पुलिस ने आज दिल्ली के नजफगढ़ इलाके में जरूरतमंदों को भोजन वितरित किया

पुलिस ने बांटे खाने के पैकेट और राशन
दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में आज पुलिस ने खाने के पैकेट और राशन सामग्री बांटी। 

दिल्ली सरकार ने प्रेसवार्ता कर की कई घोषणाएं
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जिला मजिस्ट्रेट और पुलिस उपायुक्त से बैठक की। इस बैठक के बाद दिल्ली के सीएम ने कई घोषणाएं कीं। दिल्ली सरकार ने फैसला लिया है कि उन सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों का टेस्ट कराया जाएगा जो कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज कर रहे हैं।

उपराज्यपाल बैजल ने कहा कि ऑनलाइन सर्विस प्रदाता/ई-रिटेलर्स जो जरूरी सामानों और सेवाओं की आपूर्ति करते हैं वह अपना काम जारी रख सकते हैं। सभी जरूरत के सामान की दुकानें 24 घंटे भी खुली रह सकती हैं ताकि कोई भीड़ न लगे। केजरीवाल ने कहा कि फूड होम डिलीवरी सेवाएं भी जारी रहेंगी, डिलीवरी ब्वॉय को सिर्फ अपना आईडी कार्ड दिखाना होगा। मोहल्ला क्लिनिक भी चलते रहेंगे लेकिन एहतियात के साथ।

दिल्ली पुलिस ने सस्पेंड किया सब्जी की दुकान तोड़ने वाला कांस्टेबल
दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को अपने एक कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया जिसकी तैनाती रंजीत नगर पुलिस स्टेशन में थी। कांस्टेबल राजबीर पर आरोप है कि उसने लॉकडाउन के चलते एक सब्जी की दुकान में तोड़फोड़ की थी।

दिल्ली में संक्रमितों की संख्या हुई 36
 दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि दिल्ली में संक्रमित लोगों की संख्या 36 हो चुकी है। वह बोले कि एक मोहल्ला क्लिनिक का डॉक्टर और चार अन्य लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। यह लोग उस महिला के संपर्क में आने से संक्रमित हुए जो साऊदी अरब से आई थी। डॉक्टर की पत्नी और बेटी भी पॉजिटिव पाए गए हैं। डॉक्टर के संपर्क में आए कुल 800 लोगों को 14 दिन के क्वारंटीन में भेज दिया गया है।

नोएडा में तीन और पॉजिटिव केस सामने आए
नोएडा में तीन और पॉजिटिव केस सामने आए हैं, इनका इलाज नोएडा के जिम्स अस्पताल में चल रहा है। इनमें एस गोल्ड शायर सोसायटी में दो केस और लॉजिक्स ब्लॉसम कंट्री में एक मामला सामने आया है।
1. 21 वर्षीय महिला, माता-पिता पॉजिटिव हैं।
2. 33 वर्षीय महिला, कोई यात्रा इतिहास नहीं है।
3. 39 वर्षीय पुरुष, कोई यात्रा इतिहास नहीं है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री और उपराज्यपाल आज फिर करेंगे प्रेसवार्ता
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल ने आज फिर बैठक की और जल्द ही वह संयुक्त प्रेसवार्ता करने वाले हैं।

गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी का आदेश- जरूरी सामान ले जा रहे वाहनों को पास की जरूरत नहीं
गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी बीएन सिंह ने आदेश दिया है कि वो वाहन जो जरूरत के सामान ले जा रहे हैं उन्हें किसी पास की जरूरत नहीं है। कोई पुलिसवाला उन्हें नहीं रोकेगा।

लोगों ने दुकानों के सामने चूने से बनाए घेरे, सामाजिक दूरी का पालन करने की निकाली तरकीब
लोग पब्लिक प्लेस जैसे बाजारों आदि में भी सामाजिक दूरी के नियम का पालन कर रहे हैं। चूने के घेरे बनाकर लोग उसमें खड़े होकर लाइन लगाए हुए हैं। ताकि वह एक-दूसरे से दूर रह सकें।


दिल्ली-एनसीआर में कुल मरीजों को संख्या
दिल्ली- 36 संक्रमित                      1 की मौत
नोएडा ग्रेटर नोएडा- 14  संक्रमित
गुरुग्राम-10 संक्रमित
फरीदाबाद- 2 संक्रमित
पलवल- 1 संक्रमित
गाजियाबाद- 3 संक्रमित
 
... और पढ़ें

कोरोनाः श्रीलंका से लौटी चिकित्सक बिना स्वास्थ्य जांच के देख रही थी मरीज

कोरोना वायरस के खौफ के बीच चिकित्सक भी लापरवाही बरत रहे हैं। इसी बीच श्रीलंका से लौटी एक महिला चिकित्सक द्वारा बिना स्वास्थ्य जांच कराए ड्यूटी ज्वाइन करने का मामला सामने आया है। जानकारी लगते ही स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों ने उसे फोर्स लीव पर भेज दिया। विभाग अब उन लोगों की जानकारी जुटा रहा है, जो महिला चिकित्सक के संपर्क में आए हैं। 

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक सोहना नागरिक अस्पताल में कार्यरत एक महिला चिकित्सक पिछले दिनों विभाग को बिना सूचित किए श्रीलंका की यात्रा पर गई थी। यात्रा से लौटने के बाद महिला ने बिना स्वास्थ्य जांच कराए ही अपनी ड्यूटी जॉइन कर ली और करीब एक सप्ताह से भी ज्यादा समय तक वह मरीजों का इलाज करती रही। 

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को बुधवार को महिला चिकित्सक की विदेश यात्रा के बारे में पता चला तो उससे सख्ती से पूछताछ की गई। तब जाकर महिला ने बात स्वीकार की, जिसके बाद चिकित्सक को फटकार लगाते हुए 14 दिन के जबरन अवकाश पर भेज दिया गया। विभागीय सूत्रों के मुताबिक महिला चिकित्सक पलवल निवासी है और सोहना नागरिक अस्पताल में अनुबंध के आधार पर कार्यरत है। 

परिजनों को किया गया आइसोलेट 
पलवल स्वास्थ्य विभाग ने महिला चिकित्सक के साथ श्रीलंका की यात्रा पर गए परिजनों की जानकारी प्राप्त कर उनको पलवल स्थित घरों में ही आइसोलेट कर दिया है। कुछ दिन पहले ही सोहना निवासी एक दंपति घूमने के लिए मालदीव गए थे, वहां से लौटने के बाद 26 वर्षीय युवक व उसकी पत्नी की स्वास्थ्य जांच कराई गई। जिसमें कोरोना संक्रमण के कोई लक्षण नहीं मिले।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us