‘दिल्ली कोरोना’ एप पर मिलेगी खाली बेड-वेंटिलेटर की जानकारी

Noida Bureauनोएडा ब्यूरो Updated Wed, 03 Jun 2020 01:10 AM IST
विज्ञापन
'Delhi Corona' app will get information on empty bed-ventilator
'Delhi Corona' app will get information on empty bed-ventilator

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना मरीजों को अब बेड या वेंटिलेटर के लिए अस्पतालों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। ‘दिल्ली कोरोना’ नाम के मोबाइल एप पर दिल्ली के सभी अस्पतालों में खाली बेड या वेंटिलेटर की जानकारी मिल जाएगी। इसके बाद मरीज अपनी सहूलियत के हिसाब से नजदीकी अस्पताल में भर्ती हो सकता है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को यह एप लांच किया।
विज्ञापन

अरविंद केजरीवाल ने बताया कि मोबाइल एप से दिल्ली के सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में बेड व वेंटिलेटर की मौजूदा स्थिति का पता चल सकेगा। व्हॉट्सएप नंबर 8800007722 पर भी सारी जानकारी मिल सकेगी। वहीं, वेब पेज delhifightscorona.in पर भी इसकी जानकारी मिल जाएगी। मुख्यमंत्री ने अपील की कि मामूली लक्षण या बिना लक्षण वाले मरीजों को अगर चिकित्सक घर पर इलाज करने की सलाह देते हैं तो उसे मान लेना चाहिए। उन्होंने बताया कि दिल्ली में अभी कुल 6731 कोविड बेड हैं। इसमें करीब 2600 बेड भरे हुए हैं और 4100 बेड खाली हैं। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं, लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है। दिल्ली के अंदर हमने आपके इलाज के लिए पर्याप्त इंतजाम किए हुए हैं। जरूरत के हिसाब से सभी को बेड, ऑक्सीजन या वेंटिलेटर मिलेगा। दुनिया के दूसरे देशों से दिल्ली की स्थिति अलग है, जहां मरीज बढ़ने से संसाधन कम हो गए थे, लेकिन दिल्ली की तैयारियां कोरोना के मामले में चार कदम आगे हैं।
दिन में दो बार सुबह 10 बजे और शाम 6 बजे अपडेट होगा एप
गूगल प्ले स्टोर से ‘दिल्ली कोरोना’ नाम का एप डाउनलोड करें। इसे खोलने पर कोविड-19 बेड विकल्प मिलेगा। इसमें कुल बेड के विकल्प पर क्लिक करेंगे। इसके खुलने पर दिल्ली के किस अस्पताल में कितने बेड खाली हैं और कितने भरे हुए हैं, यह पता चल जाएगा। इसी तरह वेंटिलेटर के विकल्प पर जाकर अस्पताल में खाली वेंटिलेटर के बारे में भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। दिल्ली में अभी कुल 302 वेंटिलेटर हैं। इसमें 92 भरे हुए हैं और 210 वेंटिलेटर खाली हैं। मोबाइल एप को दिन में दो बार सुबह 10 बजे और शाम 6 बजे अपडेट किया जाएगा। वहीं व्हॉट्सएप नंबर 8800007722 पर भी सारी जानकारी मिल सकेगी। यदि आप एप नहीं डाउनलोड कर सकते, तो इसका वेब पेज delhifightscorona.in भी खोल सकते हैं। इस पर भी बेड व वेंटिलेटर की जानकारी मिल जाएगी। इसके अलावा 1031 नंबर हेल्पलाइन पर भी कॉल कर सकते हैं। कॉल करने के कुछ ही देर बाद एसएमएस के जरिये आपको सभी अस्पतालों का उस वक्त का डेटा भेज दिया जाएगा।
बेड होने के बावजूद अस्पताल के मना करने पर सरकार करेगी मदद
केजरीवाल ने बताया कि बेड होने के बावजूद अगर अस्पताल मरीज को भर्ती करने से मना करता है तो हेल्पलाइन नंबर 1031 मददगार साबित होगी। अस्पताल के अंदर से ही इस पर कॉल करने पर शिकायत विशेष सचिव (स्वास्थ्य) के पास पहुंचेगी। वह तत्काल अस्पताल प्रशासन से बात कर बेड का इंतजाम करवाएंगे।
जरूरी होने पर ही अस्पताल में हों भर्ती
केजरीवाल ने अपील की कि अगर डॉक्टर घर पर रहकर इलाज करने की सलाह देते हैं तो सबको उसे मानना है। डॉक्टर पर दबाव डालकर भर्ती होने की जरूरत नहीं है। आज दिल्ली के अंदर 20 हजार से अधिक मरीज हो गए हैं, लेकिन केवल 2600 लोगों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत पड़ी है। बाकी 6-7 हजार लोग घरों से इलाज करा रहे हैं। केजरीवाल ने बताया कि इनकी देखरेख के लिए दिल्ली सरकार की टीमें काम कर रही हैं, जो दिन में दो से तीन-बार बात करके सलाह देती हैं। यदि घर में कोई गंभीर हो जाता है तो उसके लिए बेड का इंतजाम कर दिया जाता है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us