विज्ञापन
विज्ञापन
समस्त बाधाओं का निवारण करने हेतु अचूक उपाय है यह विशेष कृष्ण पूजन,अभी बुक करें !
Puja

समस्त बाधाओं का निवारण करने हेतु अचूक उपाय है यह विशेष कृष्ण पूजन,अभी बुक करें !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

एनडीएमसी ने जारी किया डॉक्टरों का सितंबर तक का वेतन, डॉक्टर बोले- वेतन खाते में न आने तक हड़ताल रहेगी जारी

उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने डॉक्टरों का सितंबर 2020 तक का वेतन जारी कर दिया है। निगम ने डॉक्टरों का जुलाई से लेकर सितंबर तक का वेतन जारी किया गया है। उत्तरी निगम ने सिर्फ डॉक्टरों का ही नहीं बल्कि सफाई कर्मचारियों और डोमेस्टिक ब्रीडिंग चेकर्स की सैलरी भी अगस्त 2020 तक की रिलीज कर दी है।

वहीं दूसरी तरफ उत्तरी निगम के कस्तूरबा गांधी अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि, निगम वेतन जारी करने को लेकर झूठी खबर फैला रहा है। किसी भी डॉक्टर के खाते में पैसे नहीं आए हैं और जब तक खाते में पैसे नहीं आ जाते वे हड़ताल बंद नहीं करेंगे।

नर्सों व शिक्षकों आदि का भी वेतन जारी
नर्सों का जुलाई तक का वेतन, स्वास्थ्य कर्मचारियों का जून तक वेतन जारी कर दिया गया है। वहीं उत्तरी नगर निमग से संबद्ध शिक्षकों और अन्य ग्रुप ए, बी, सी, अन्य क्लास फोर स्टाफ और दिहाड़ी मजदूरों की जून 2020 तक की सैलरी जारी की गई है। वहीं अप्रैल 2020 तक के पेंशन जारी किए गए हैं।

केजरीवाल ने आज ही कहा था- एमसीडी का डॉक्टरों को वेतन ना देना शर्मनाक
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) के अस्पतालों के डॉक्टरों को बिना वेतन के काम करने के लिए मजबूर करना शर्मनाक है। साथ ही उन्होंने केंद्र से नगर निगमों को अनुदान देने का अनुरोध भी किया ताकि वे डॉक्टरों का वेतन दे पाएं।

उत्तरी दिल्ली नगर निगम के कई डॉक्टरों ने दावा किया है कि वे पिछले तीन महीने से बिना वेतन के काम कर रहे हैं और इसको लेकर वे पिछले दो सप्ताह से प्रदर्शन भी कर रहे हैं। केजरीवाल ने एमसीडी के कामकाज में घोर कुप्रबंधन और भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि चीजें सही करने का समय आ गया है।

गाजीपुर के कुक्कुट और मछली बाजार में अपशिष्ट से ऊर्जा बनाने के संयंत्र का उद्घाटन करते हुए केजरीवाल ने कहा, ‘मुझे इस बात का काफी दुख है कि डॉक्टरों को वेतन के लिए प्रदर्शन करना पड़ रहा है। इन डॉक्टारों ने वैश्विक महामारी के दौरान हमारे लिए अपने जीवन को खतरे में डाला। यह शर्मनाक है।’

उन्होंने पूछा, ‘हम देख रहे हैं कि कई वर्षों से नगर निकाय अपने शिक्षकों, सफाई कर्मचारियों और डॉक्टरों को वेतन नहीं दे पा रहे। आखिर एमसीडी में कोष की कमी क्यों है?’

केजरीवाल ने कहा, पूर्व सरकारों की तुलना में हमने एमसीडी को कहीं अधिक कोष दिया है। हमने बकाया से अधिक दिया है। केजरीवाल ने कहा कि डॉक्टरों के वेतन के मामले पर राजनीति नहीं की जानी चाहिए और उनको वेतन मिले, इसके लिए सभी को मिलकर प्रयास करने चाहिए। उन्होंने दावा किया कि केंद्र ‘दिल्ली को छोड़कर देश के सभी नगर निगमों को अनुदान दे रहा है।’
... और पढ़ें
हड़ताल पर कस्तूरबा अस्पताल के डॉक्टर हड़ताल पर कस्तूरबा अस्पताल के डॉक्टर

बल्लभगढ़ में छात्रा हत्याकांड का दूसरा आरोपी गिरफ्तार, दिल्ली-मथुरा हाईवे पर प्रदर्शन जारी

कैबिनेट मंत्री के पहुंचते ही लगे मुर्दाबाद के नारे
हरियाणा के कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा के आते ही  प्रदर्शनकारियों ने मुर्दाबाद के नारे लगाए और अपनी नाराजगी जाहिर की।

बल्लभगढ़ हत्याकांड में आया सीएम खट्टर का बयान
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि बल्लभगढ़ में छात्रा की हत्या में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

दूसरा आरोपी रेहान भी हुआ गिरफ्तार
पुलिस ने दूसरे फरार आरोपी रेहान को भी गिरफ्तार कर लिया है। वहीं जांच के लिए एसआईटी का गठन भी कर दिया गया है। रेहान की गिरफ्तारी के लिए कई टीमें बनाई गई थीं जिसने गिरफ्तारी की है।

नेशनल हाईवे किया जाम
प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली-मथुरा हाईवे जाम कर दिया है। इसके साथ ही परिजनों की मांग है कि इस मामलेे की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में हो और जल्द से जल्ज इंसाफ मिले।

पिता का दावा- आरोपी की मां बेटी पर डालती थी धर्म परिवर्तन का दबाव
निकिता के पिता का दावा है कि आरोपी की मां पिछले दो साल से बेटी पर धर्म परिवर्तन का दबाव डाल रही थी। वह निकिता को फोन कर-करके उसे धर्म परिवर्तन के लिए कहती थी, जिससे बेटी काफी परेशान होती थी।

निकिता के कॉलेज से प्रदर्शन में पहुंचे छात्र
परिजनों के चक्का जाम करने के बाद फरीदाबाद के हार्डवेयर रोड पर और एनआईटी-1 में लंबा जाम लग गया है। निकिता के कॉलेज से छात्रों के आने से प्ररदर्शनकारियों की भीड़ में इजाफा हो गया है। यह सभी जुलूस के रूप में हाईवे की तरफ बढ़ रहे हैं। इस बीच विभिन्न संगठनों केे कार्यकर्ता भी प्रदर्शन में शामिल हो गए हैं।

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ने मामले में लिया स्वतः संज्ञान
राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने निकिता हत्याकांड का स्वतः संज्ञान लेते हुए हरियाणा के डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस को पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने दूसरे आरोपी को जल्द से जल्द पकड़ने की मांग की है।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष ने आरोपियों के लिए कड़ी सजा की मांग की
दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भी इस मामले पर ट्वीट कर आरोपियों के लिए कड़ी सजा की मांग की है। उन्होंने लिखा, कैसी लचर कानून व्यवस्था है जहां दिन दहाड़े एक लड़की को मार दिया जाता है। इतनी हिम्मत कहां से आ रही है इन जानवरों में? हरियाणा सरकार से अपील करती हूं इस दरिंदे को कड़ी से कड़ी सजा दिलाएं।

आरोपी तौसीफ को पुलिस कमिश्नर कार्यालय लेकर पहुंची क्राइम ब्रांच की टीम
निकिता हत्याकांड में मुख्य आरोपी तौसीफ को पूछताछ के लिए क्राइम ब्रांच की टीम पुलिस कमिश्नर के कार्यालय लेकर पहुंची है। बता दें कि आरोपी को वारदात के कुछ ही घंटों बाद नूंह से गिरफ्तार किया गया था। वहीं एक आरोपी जो कार चला रहा था, वह अब भी फरार है।

परिजनों की मांग है- हो एनकाउंटर
निकिता के परिजनों का कहना है कि अगर हमारी बेटी दूसरे समुदाय की होती तो यहां तुरंत सभी प्रशासनिक अधिकारी जुट जाते और हमारी बच्ची को न्याय मिल जाता। लेकिन हमारी बच्ची उस समुदाय से नहीं है इसलिए कोई सुध नहीं ले रहा। निकिता के भाई प्रवीण का कहना है कि हम चाहते हैं कि जल्द से जल्द हमारी बहन को न्याय मिले। दोषियों को फांसी हो या उनका एनकाउंटर किया जाए। आखिर पुलिस किस बात का इंतजार कर रही है जब सीसीटीवी में सबकुछ साफ दिखाई दे रहा है।

यह भी पढ़ेंः बल्लभगढ़ः दो साल पहले भी हुई थी निकिता के अपहरण की कोशिश, तब होती कार्रवाई तो आज वो जिंदा होती

प्रदर्शनकारियों ने चिकन शॉप में की तोड़फोड़
निकिता के लिए न्याय की मांग कर रहे लोगों ने प्रदर्शनस्थल के पास समुदाय विशेष के शख्स की एक चिकन की दुकान में तोड़फोड़ कर दी, जिसके बाद दुकान का मालिक शटर गिराकर वहां से चला गया। वहीं सूचना मिलने पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को दुकान के पास से खदेड़ा।

यह भी पढ़ेंः हरियाणा: अपहरण में विफल होने पर बीकॉम छात्रा को बीच सड़क पर मारी गोली, मौत
... और पढ़ें

Ballabgarh: दो साल पहले भी हुआ था निकिता का अपहरण, तब होती कार्रवाई तो आज वो जिंदा होती

हरियाणा: अपहरण में विफल होने पर बीकॉम छात्रा को बीच सड़क पर मारी गोली, मौत

बल्लभगढ़ थाना शहर इलाके के मिल्क प्लांट रोड स्थित अग्रवाल कॉलेज के सामने सोमवार शाम चार बजे बीकॉम अंतिम वर्ष की एक छात्रा का कार सवार दो युवकों ने अपहरण का प्रयास किया। इसमें नाकाम रहने पर एक युवक ने छात्रा को गोली मार दी।

वारदात के बाद कार सवार दोनों आरोपी फरार हो गए। मामला एकतरफा प्यार का बताया जा रहा है। मृतका के भाई की शिकायत पर पुलिस ने तौसीफ व एक अन्य युवक के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

सेक्टर-23 स्थित अपना घर सोसायटी में रहने वाली 20 वर्षीय निकिता तोमर उर्फ नीतू मिल्क प्लांट रोड स्थित अग्रवाल कॉलेज में बीकॉम ऑनर्स फाइनल ईयर की छात्रा थी। सोमवार को कॉलेज से परीक्षा देकर दोपहर करीब चार बजे जैसे ही वह बाहर आई तो कार सवार दो युवकों ने उसे गाड़ी में खींचने का प्रयास किया।

युवती के विरोध करने पर आरोपी उसका अपहरण करने में नाकाम रहे। इस बात से नाराज युवकों ने तमंचे से युवती को गोली मार दी। गोली युवती के कंधे में लगी और वह सड़क पर गिर गई। आननफानन आरोपियों से हथियार मौके पर ही छूट गया। घटना कॉलेज के गेट पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।
... और पढ़ें

दिल्ली-एनसीआर में हवा थोड़ी सुधरी, पर अब भी बेहद खराब श्रेणी में, ये रहे देश में 5 सबसे प्रदूषित शहर

फरीदाबाद में हत्या
दिल्ली-एनसीआर में सोमवार को अनुमान के मुताबिक हवा में थोड़ा सुधार हुई, लेकिन अधिकतर शहरों में बेहद खराब श्रेणी में ही रही। हालांकि गुरुग्राम की हवा में सबसे बेहतर सुधार दर्ज किया गया। यहां वायु गुणवत्ता सूचकांक(एक्यूआई) 258 दर्ज किया जो, रविवार को 317 था। दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक बीते 24 घंटों के मुकाबले 4 अंक बढ़कर 353 पहुंच गया, वहीं फरीदाबाद में 27 अंकों की सुधार के साथ 323 रिकॉर्ड किया गया। सफर का पूर्वानुमान है कि मंगलवार को हवा की चाल में मामूली सुधार होगा, लेकिन अगले दो दिनों तक गुणवत्ता बेहद खराब स्तर में ही बनी रहेगी। मौसमी दशाओं सुधार होता है तो हवा बेहतर हो सकती है। 
 
... और पढ़ें

बॉर्डर पर तनातनी, दिल्ली के सदर बाजार और चांदनी चौक में चीन के सामान की भरमार

चीन से भारत की भले ही बॉडर पर तनातनी है, लेकिन व्यापार को लेकर अब सबकुछ सामान्य से हो गया है। इस दीपावली भी भले ही कुछ संगठन देशी दीपावली मनाने की अपील कर रहे है, लेकिन दिल्ली का बाजार चीन के सामानों से पट गया है। खासकर दीपावली से घर को रौशन करने वाले मोमबत्ती, बिजली की लड़ियां, बिजली के रंग बिरंगे बल्ब, वंदनवार, घरो को सजाने के रंगोली समेत सभी सामान से दिल्ली का सदर बाजार पटा हुआ है।

दशहरा खत्म होने के बाद दिल्ली के बाजार दीपावली त्योहार के लिए सज गया है। चीन के सामानों के साथ स्वदेश निर्मित सामान बेचने की तैयारी में भी व्यापारी है। लेकिन पिछले साल की तरह इस साल भी चीन के ही समानों की धूम है। स्वदेशी लाइट बिक भी रही है तो सिर्फ पैकेजिंग ही स्वदेशी है। अंदर का माल चीन का ही है। पिछले साल के बचे चीन के झालर, लाइट, सजावटी सामान की बिक्री भी जमकर हो रही है। बाजार में रौनक बढ़ने से व्यापारियों को भी उम्मीद बढ़ गई है तो ज्वेलर्स भी अगामी त्योहार को लेकर खासे उत्साहित दिख रहे है।

अन्य राज्यों के व्यापारी भी पहुंचने लगे सदर
सदर बाजार एसोसिएशन के देवराज बावेजा ने बताया कि कोरोना की वजह से दिल्ली के होलसेल बाजार की स्थिति अब बेहतर होने लगी है। दीपावली त्योहार को लेकर बढ़ी भीढ़ से आशाएं बंध गई है। कोरोना की वजह से जो व्यापारी दिल्ली आने में परहेज करते थे वह अब पहुंचने लगे है। व्यापारी आत्म निर्भर भारत योजना के तहत सामान की बिक्री कर ही रहे है साथ ही दीपावली को लेकर चीन के सामान भी पिछले साल की तरह ही बिक्री की जा रही है। 

व्यापारी वर्ग में उत्साह
कन्फेडरेशन ऑफ सदर बाजार से जुड़े राकेश यादव ने बताया कि दशहरे के बाद अब भारत के सबसे बड़े त्यौहार दिवाली में केवल 20 दिन ही बचे हैं। इस त्योहार को लेकर व्यापारी वर्ग में काफी उत्साह है।  अगामी दीपावली को लेकर थोक मार्केट की बिक्री तेज हो गई है। अन्य राज्यों से आने वाले व्यापारी हर साल की तरह इस साल भी चीन निर्मित सजावटी सामान खरीदने में ज्यादा रूची दिखा रहे है। दरअसल सस्ती होने के कारण ग्राहक भी इसे ही पसंद करते है।

लाजपराय इलेक्ट्रॉनिक मार्केट के राजू नागपाल ने बताया कि चीन नीर्मित सभी इलेक्ट्रॉनिक सामान मिल रहे है। इतना जरूर है कि स्वदेशी के प्रति भी लोगों की जागरूकता बढ़ी है। सरकार स्वदेशी की बात तो करती है, लेकिन स्वदेशी को कैसे बढ़ाया जाए इसे लेकर नीतियां तैयार नहीं होती है।

कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स के महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने बताया कि कोरोना महामारी के कारण बर्बाद हुए व्यापार में जान आ गई है। चीनी बाजार को तोड़ने के लिए स्वदेशी को बढ़ावा दिया जा रहा है। उपभोक्ताओं को आकर्षित करने के लिए स्वदेशी लाइटिंग की विशेष व्यवस्था की होगी। हिन्दुस्तानी दिवाली के रूप में मनाने और चीनी वस्तुओं के पूर्ण बहिष्कार का आव्हान किया गया है। इलेक्ट्रॉनिक, इलेक्ट्रिकल, रसोई के बर्तन भी स्वदेशी नीर्मित वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है।
... और पढ़ें

केंद्र जल्द बताएगा कैसे लगेगी वायु प्रदूषण पर लगाम, पराली जलने और बारिश न होने से हालात गंभीर होने की आशंका

हिंदूराव के डॉक्टरों की भूख हड़ताल चौथे दिन भी जारी, आज से 9 अस्पतालों में दो घंटा काम नहीं करेंगे डॉक्टर

हिंदूराव अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टरों को वेतन न मिलने का मुद्दा गहराता जा रहा है। सोमवार को भारतीय चिकित्सक संघ ने डॉक्टरों का समर्थन किया है। संघ ने उत्तरी नगर निगम से जल्द से जल्द वेतन जारी करने कि मांग की है।    
   
भारतीय चिकित्सक संघ की ओर से जारी पत्र में  लिखा है कि कोरोना काल में डॉक्टर अपनी जान की परवाह किए बिना मरीजों की सेवा में लगे हुए हैं। सर्वोच्च न्यायालय की तरफ से साफ आदेश है कि डॉक्टरों, स्वास्थ्य कर्मियों का वेतन किसी भी सूरत में नहीं रोका जाना चाहिए । ऐसे में भी तीन महीने से डॉक्टरों को वेतन नहीं मिला है। डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मी राष्ट्र की संपत्ति हैं। उनका वेतन जारी न करना एक प्रकार से उनका अपमान है। निगम को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए और जल्द से जल्द सभी डॉक्टरों का वेतन जारी करना चाहिए। 

उधर, फेडरेशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (फोर्डा) ने मंगलवार से दिल्ली के सभी प्रमुख अस्पतालों के नॉन कोविड क्षेत्रों में दो घंटे काम रोकने की घोषणा की है। फोर्डा के अध्यक्ष डॉक्टर शिवाजी ने कहा कि लंबे समय से हिंदूराव और कस्तूरबा गांधी अस्पताल के डॉक्टर वेतन की मांग को लेकर संघर्ष कर रहे हैं ,लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। अब एसोसिएशन ने निर्णय लिया है कि क्टरों की इस लड़ाई में सभी रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन भी उनका साथ देंगी। इसी को देखते हुए यह फैसला लिया गया है।         

कई प्रमुख अस्पतालों की आरडीए ने दिया समर्थन    
दिल्ली के कई प्रमुख अस्पताल जैसे सफदरजंग , मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज, राम मनोहर लोहिया, महर्षि वाल्मीकि, जीटीबी अस्पताल की आरडीए ने पत्र जारी कर हिंदराव अस्पताल के डॉक्टरों का समर्थन किया है। इन अस्पतालों की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि मंगलवार से डॉक्टर हाथों पर काली पट्टी बांधकर काम करेंगे और अस्पतालों के नॉन कोविड क्षेत्र में दो घंटे काम का बहिष्कार करेंगे। 

लगातार चौथे दिन जारी है भूख हड़ताल      
 हिंदूराव अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टरों की भूख हड़ताल सोमवार को चौथे दिन भी जारी रही। अस्पताल के डॉक्टर सिद्धार्थ ने कहा कि निगम के महापौर ने दो बार वेतन देने का आश्वासन दिया है लेकिन, कोई हल नहीं हो रहा है। इस समय केंद्र, दिल्ली सरकार और नगर निगम को मिलकर डॉक्टरों की समस्या का समाधान निकालना चाहिए।

नगर निगम चिकित्सक संघ के डॉक्टर सामूहिक अवकाश पर रहे
वेतन की मांग को लेकर नगर निगम चिकित्सक संघ के सभी स्थाई डॉक्टर सोमवार को सामूहिक अवकाश पर रहे। इससे निगम के अधीन आने वाले अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गई। नगर निगम चिकित्सक संघ के अध्यक्ष डॉ आर आर गौतम का कहना है कि अगर उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो मंगलवार से चिकित्सक संघ के सभी डॉक्टर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे। डॉक्टरों का कहना है कि उन्हें जुलाई महीने से वेतन नहीं मिला है। जब तक बकाया वेतन नहीं मिल जाता प्रदर्शन और हड़ताल ऐसे ही जारी रहेगी।

तीसरी बार जंतर मंतर पर किया प्रदर्शन
उत्तरी नगर निगम के हिंदू राव कस्तूरबा और राजन बाबू टीबी अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टरों ने मंगलवार को तीसरी बार जंतर-मंतर पर कैंडल मार्च निकाला। इस दौरान डॉक्टरों ने उत्तरी नगर निगम के विरोध में नारे लगाए और जल्द से जल्द वेतन देने की मांग की।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X