बड़े बदलाव: देशभर के कॉलेजों में दाखिले के लिए एक ही प्रवेश परीक्षा, बोर्ड भी साल में दो बार

सीमा शर्मा, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Tue, 22 Oct 2019 01:40 PM IST
विज्ञापन
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

सार

  • देश के कॉलेजों में प्रवेश प्रक्रिया में बड़े बदलाव की तैयारी
  • केंद्रीय मंत्री ने दी जानकारी, छात्रों पर होगा इसका असर

विस्तार

देश की शिक्षा व्यवस्था में बड़े बदलावों की तैयारी चल रही है। इस बारे में खुद केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने जानकारी दी है। उन्होंने कहा है कि सरकार देशभर के कॉलेजों व विश्वविद्यालयों में दाखिले के लिए एक ही प्रवेश परीक्षा आयोजित करने का प्रस्ताव ला रही है।
विज्ञापन

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि यह प्रस्ताव नई शिक्षा नीति (NEP - New Education Policy 2019-2020) के तहत लाया जा रहा है। इसमें देशभर के कॉलेजों व विश्वविद्यालयों में विषय विशेष दाखिले के लिए एक ही परीक्षा कराए जाने का प्रावधान है। साथ ही विषय विशेष में साल में एक से ज्यादा बार प्रवेश परीक्षा का प्रावधान किया गया है। ये भी कहा गया है कि ये परीक्षाएं राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA - National Testing Agency) आयोजित कराएगी। विश्वविद्यालयों और उच्च शिक्षण संस्थानों का काम एकेडमिक, रिसर्च  पर फोकस करना होगा। इसके अलावा भी कई बदलावों का प्रावधान किया गया है। जिनके बारे में आगे बताया जा रहा है।
ये भी पढ़ें : IIT बॉम्बे फिर बना टॉपर, दिल्ली तीसरे पर, कौन से नंबर पर है आपका संस्थान

बोर्ड परीक्षाओं में भी बड़ा बदलाव

विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट। उत्तराखंड बोर्ड 2020 का हाईस्कूल और इंटरमीडिएट का रिजल्ट जानने के लिए आज ही रजिस्टर करें।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us