हिंदी सिनेमा में हॉरर फिल्मों के 'जन्मदाता' तुलसी रामसे का निधन

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Updated Fri, 14 Dec 2018 02:49 PM IST
विज्ञापन
तुलसी रामसे
तुलसी रामसे

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

हिंदी सिनेमा में हॉरर फिल्मों के निर्माता तुलसी रामसे का आज सुबह निधन हो गया। तुलसी रामसे 75 साल के थे। रामसे ने 70 और 80 के दशक में अपनी पहली हॉरर फिल्म रामसे ब्रदर्स का निर्माण किया था। सत्तर का दशक वो दौर था जब हिंदी सिनेमा लोगों के घर में अपनी पहचान बना रहा था।

यही वो दौर था जब सदी के महानायक अमिताभ बच्चन सिनेमा की दुनिया को एक नए रूप से जोड़ने की कोशिश कर रहे थे। लोग एक्शन वाली फिल्मों पर सीटी बजाकर उसको हिट कर रहे थे। वहीं रामसे ब्रदर्स हॉरर फिल्म बनाकर सिनेमा में प्रयोग कर रहे थे। तुलसी रामसे छह भाई हैं।

जिनको इंडस्ट्री में रामसे ब्रदर्स के नाम से जाना जाता है। उन्होंने अपनी फिल्मों की शुरुआत लो बजट वाली हॉरर फिल्म से की। वहीं वह फिल्म की स्क्रिप्ट बहुत लंबी नहीं रखते थे। रामसे ब्रदर्स के ऊपर लिखी गई किताब Dont disturb the dead- the story of ramsay brother में इनके परिवार के बार में बताया गया है।

विज्ञापन

बुक में लिखा हुआ है। रामसे का परिवार 1946 में हुए पार्टिशन के बाद मुंबई आ गया। उनके परिवार का इलेक्टॉनिक्स का कारोबार था। सत्तर के दशक में हॉरर फिल्मों का निर्माण करने से कई साल पहले 1954 में ही रामसे का परिवार फिल्म निर्माण की दुनिया में उतर चुका था।

 

 

 

विज्ञापन
विज्ञापन
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X