विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
होली के दिन, किए-कराए बुरी नजर आदि से मुक्ति के लिए कराएं कोलकाता के दक्षिणेश्वर काली मंदिर में पूजा : 9- मार्च-2020
Astrology Services

होली के दिन, किए-कराए बुरी नजर आदि से मुक्ति के लिए कराएं कोलकाता के दक्षिणेश्वर काली मंदिर में पूजा : 9- मार्च-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन

गोरखपुर

शुक्रवार, 28 फरवरी 2020

इस रिपोर्ट का इंतजार करना पुलिस को पड़ सकता है भारी, कहीं साक्ष्य से हाथ ना धो बैठे

कोतवाली इलाके के नखास स्थित घर में दवा कारोबारी सईद की तीन गोली लगने से मौत की गुत्थी सुलझाने की जगह कोतवाली पुलिस समय गवां रही है। ऐसे में खतरा है कि वह साक्ष्यों से ही न हाथ धो बैठे। जांच की जगह पुलिस सईद की मौत को आत्महत्या साबित करने में पूरा दिन गुजार दे रही है। जबकि घटना के समय घर में मौजूद हर एक शख्स संदेह के घेरे में होना चाहिए।

संभव है कि पुलिस का ढीला रवैया आरोपित को बच निकलने का मौका दे दे। साथ ही घर के सदस्यों और आसपास के लोगों का ब्रेन वॉश कर उन्हें उस वक्त की कहानी पर अडिग कर दिया जाए जो पुलिस की पहली पूछताछ में सामने आई थी। हालांकि अफसरों का यही कहना है कि वैज्ञानिक साक्ष्य से सबकुछ स्पष्ट हो जाएगा।
... और पढ़ें

DDU Exam: 12469 ने दी परीक्षा, एक विद्यार्थी नकल करते पकड़ा गया

गोरखपुर विश्वविद्यालय एवं संबद्ध महाविद्यालयों की परीक्षा में बृहस्पतिवार को एक विद्यार्थी नकल करते पकड़ा गया। हालांकि ऑनलाइन मानीटरिंग में सर्वर की दिक्कत भी बनी रही। सबसे ज्यादा दिक्कत पहली पाली में हुई। कई परीक्षा केंद्रों के लिंक टूट गए और नोडल सेंटर से उनका संपर्क कट गया।

डीवीएन पीजी कॉलेज स्थित नोडल कमांड सेंटर से माड़ापार के एमके जीएन डिग्री कॉलेज का लिंक नहीं जुड़ सका। इसके अलावा सिकरीगंज के श्यामेश्वर डिग्री कॉलेज और सिधुआपार के शांति सशक्तीकरण महिला डिग्री कॉलेज का लिंक भी टूट गया। कमांड सेंटर से शिक्षकों ने फोन करके इन कॉलेजों में संपर्क किया लेकिन नेटवर्किंग की समस्या दूर नहीं हो सकी।

101 छात्र गैरहाजिर
परीक्षा में बृहस्पतिवार को 12469 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी। 101 छात्र गैरहाजिर रहे। पहली पाली में 7256 विद्यार्थी नामांकित थे जिसमें 43 छात्र गैरहाजिर रहे। जबकि दूसरी पाली में 5213 में से 58 छात्र गैरहाजिर रहे।

वीएनबीपी के प्राचार्य ने दी सफाई
सरहरी स्थित वीएनबीपी पीजी कॉलेज के प्राचार्य बृहस्पतिवार को विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक के पास पहुंचे। प्राचार्य ने लिंक नहीं जुड़ पाने पर सफाई दी और बताया कि तकनीकी खामी की वजह से ऐसा हुआ। खामी को दूर कर लिया गया है। उन्होंने परीक्षा नियंत्रक को वैकल्पिक मोबाइल नंबर भी दिया।
... और पढ़ें

CISCE 10वीं की परीक्षाएं शुरू, 16 केंद्रों पर हुई परीक्षा में लगभग तीन हजार विद्यार्थी हुए शामिल

कैंसर पीड़ित बच्ची के लिए 12वीं की छात्रा ने दान कर दिए बाल, लोगों ने जज्बे को किया सलाम

केरल की रहने वाली कैंसर पीड़ित बच्ची के लिए दान किए बाल। केरल की रहने वाली कैंसर पीड़ित बच्ची के लिए दान किए बाल।

CAA: दिल्ली में हिंसा को देखते हुए जारी हुआ निर्देश, जुमे की नमाज को लेकर पुलिस अलर्ट

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर दिल्ली में भड़की हिस्सा को देखते हुए गोरखपुर पुलिस भी अलर्ट है। शुक्रवार को एसपी, सीओ सड़कों पर मौजूद रहेंगे तो साइबर सेल सोशल मीडिया की निगरानी करेगा। इसे लेकर सभी अफसरों की ड्यूटी लगा दी गई है।

20 दिसंबर को जुमे की नमाज के बाद गोरखपुर में भी बवाल भड़का था, जिसको देखते हुए अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। डीआईजी राजेश डी मोदक ने रेंज के चारों जिलों के एसपी को पत्र भेजकर संवेदनशील जगहों पर सतर्क रहने का आदेश दिया है ताकि कोई भी उत्पाती कहीं पर भी माहौल को खराब ना कर पाए। साइबर सेल को एक्टिव किया गया है। ताकि सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट आते ही आरोपित की गिरफ्तारी कर ली जाए।

जुमे की नमाज को लेकर पुलिस को सतर्क किया गया है। अफसर संवेदनशील जगहों पर एक्टिव रहेंगे। यदि किसी ने भी भड़काऊ पोस्ट डाली या माहौल बिगाड़ने की कोशिश की तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। : राजेश डी मोदक, डीआईजी

बीस दिसंबर को पुलिस से भिड़ गए थे उपद्रवी
बीस दिसंबर को गोरखपुर बड़ी मस्जिद से निकले नमाजी सीएए को लेकर उग्र हो गए थे और फिर रेती के पास पुलिस से उनकी भिड़ंत हो गई थी। पुलिस को उपद्रवियों को काबू करने के लिए आंसू गैस के गोले भी छोड़ने पड़े थे। इस मामले में 26 लोगों पर नामजद एफआईआर दर्ज की गई थी, जांच में 13 नाम बढ़े थे, जिसमें चार की गिरफ्तारी भी की गई थी। अन्य आरोपित आज भी पुलिस की पकड़ से दूर हैं।
... और पढ़ें

भोजपुरी फिल्म 'अनाड़ी ऑटोवाला' का प्रीमियर, DDU में संगोष्ठी, देखें आज के रियल टाइम अपडेट

माफिया के इशारे पर शूटर ने मारी थी प्रापर्टी डीलर गोली, पुलिस को मिला अहम सुराग

15 दिसंबर 2019 की रात मेडिकल कॉलेज चौकी के पास प्रापर्टी डीलर आशीष उर्फ छोटू प्रजापति तथा उसके दोस्त को गोली मारने की सुपारी एक माफिया ने दी थी। आरोपित शूटर को क्राइम ब्रांच की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में उसने कई राज उगले हैं। खबर है कि क्राइम ब्रांच जल्द ही मामले का पर्दाफाश कर सकती है।

जानकारी के मुताबिक, 15 दिसंबर 2019 को बीआरडी मेडिकल कॉलेज चौकी के सामने रात में 9:30 बजे बाइक सवार तीन बदमाशों ने झुंगिया बाजार के रहने वाले प्रॉपर्टी डीलर आशीष उर्फ  छोटू प्रजापति को गोली मार दी थी। घायल आशीष को मेडिकल कॉलेज ले जाया गया।

सीने में गोली लगने से हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया। लखनऊ में लंबे समय तक चले इलाज के बाद वह खतरे से बाहर हैं। उनके बयान के आधार पर पुलिस ने तीन नामजद युवकों पर केस दर्ज किया था उनमें से दो को पुलिस ने पकड़ लिया है जबकि तीसरा फरार है।

क्राइम ब्रांच इस मामले में लगी थी इस बीच तीन और युवकों के नाम सामने आए। पता चला कि उन्होंने आशीष के साथ ही उसके दोस्त की भी हत्या की सुपारी ली थी। एक माफिया ने उन्हें यह सुपारी दी थी। माफिया की नजर में आशीष और उसके दोस्त पिछले कुछ दिनों से खटक रहे थे। पकड़ा गया शूटर इससे पहले शाहपुर इलाके में एक चर्चित मर्डर में शामिल रह चुका है। क्राइम ब्रांच अभी उससे पूछताछ कर रही है।
... और पढ़ें

बस्ती: बटन की तलाश में कई प्रदेशों में एसटीएफ ने बिछाया जाल, जल्द होगी गिरफ्तारी

प्रतीकात्मक तस्वीर।
आईसीआईसीआई बैंक लूट कांड के मास्टर माइंड फिरोज पठान के एनकाउंटर के बाद एसटीएफ के निशाने पर सिद्धार्थनगर जिले के बतौरिया निवासी 25 हजार का इनामी सलमान उर्फ बटन है। इसकी तलाश में एसटीएफ ने कई प्रदेशों में जाल बिछाया है।

बटन महराजगंज के फरेंदा में 17 अक्तूबर 2019 को एचडीएफसी बैंक में हुई लूटकांड में वांछित है। गिरफ्तारी को लेकर एसटीएफ की टीम बटन के ठिकाने को ढूंढ चुकी है, मगर अभी इसका खुलासा नहीं हो सका है। लूटकांड से जुड़े बदमाशों के धन को भी एसटीएफ खंगालने में जुटी है कि आखिर लूट का धन बदमाशों ने कहां खपाया है।

मालवीय मार्ग स्थित भीड़-भाड़ वाले इलाके में बदमाशों ने छह दिसंबर 2019 को आईसीआईसीआई बैंक से चालीस लाख रुपये से अधिक की लूट कर पुलिस को खुली चुनौती दे दी। इसके बाद एसटीएफ व जिले की पुलिस संयुक्त रूप से अध्ययन कि तो फरेंदा के एचडीएफसी बैंक व आंबेडकर नगर के टांडा की लूट एक जैसी लगी।
... और पढ़ें

रामगढ़ताल: 10 हजार घरों के भविष्य पर फैसला आज, एनजीटी में होगी सुनवाई

रामगढ़ताल वेट लैंड के मामले में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) में सुनवाई 28 फरवरी को होगी। इस दौरान रामगढ़ताल क्षेत्र के पांच सौ मीटर के दायरे में आने वाले करीब 10 हजार घरों के भविष्य का फैसला होगा। प्राधिकरण की तरफ से कराए गए सर्वे में इस दायरे में जीडीए के ही करीब 5 हजार आवास आए हैं।

बता दें कि एनजीटी की तरफ से गठित हाई पावर कमेटी ने ताल के पांच सौ मीटर के दायरे में आने वाली सभी निर्माणों को ध्वस्त करने की संस्तुति की थी। कमेटी की रिपोर्ट को ट्रिब्यूनल ने स्वीकार करते हुए सुनवाई की तारीख तय कर दी। उधर, एनजीटी की हाई पावर कमेटी से मिले झटके के बाद जीडीए ने एन्वॉयरमेंटल क्लीयरेंस के लिए अब तेजी दिखानी शुरू कर दी है।

निर्माण के वर्षों बाद कांशीराम आवासीय योजना का भी ईसी लेने की कवायद शुरू कर दी गई है। देवरिया बाईपास स्थित लोहिया एन्क्लेव का ईसी हासिल करने के लिए आवेदन करने के बाद अब अन्य योजनाओं के लिए भी कंसलटेंट की तलाश शुरू कर दी गई है। प्राधिकरण, तारामंडल क्षेत्र की वसुंधरा एन्क्लेव आवासीय योजना, लेक व्यू अपार्टमेंट योजना, कांशीराम आवासीय योजना, राप्तीनगर विस्तार योजना में प्रधानमंत्री आवासीय योजना एवं पत्रकारपुरम योजना के लिए भी ईसी प्रमाण पत्र प्राप्त करने में भी जुट गया है।
... और पढ़ें

गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे: 113 एकड़ जमीन का होगा अधिग्रहण, परियोजनाओं को लगेंगे पंख

गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के लिए समझौते के आधार पर यूपीडा के नाम जमीन कराने के बाद बचने वाली 46 हेक्टअर यानी करीब 113 एकड़ जमीन का भूमि अध्याप्ति (एसएलओ) विभाग अधिग्रहण कर यूपीडा को देगा। यह वह जमीन है जिसका कोर्ट में दाखिल वाद समेत किसी न किसी पेंच की वजह से प्रशासन समझौते के आधार पर बैनामा नहीं करा पा रहा है।

विभाग के मुताबिक सामाजिक समाघात अध्ययन समिति की रिपोर्ट के लिए टेंडर निकाला गया है। इसकी आखिरी तारीख 28 फरवरी है। यह समिति इस भूमि से जुड़ी पूरी रिपोर्ट तैयार करेगी जिसे बहुसाखीय अध्ययन समिति को भेजा जाएगा। इसके बाद भू-अधिग्रहण अधिनियम की धारा 11 के तहत संबंधित भूमि का अधिग्रहण के लिए नोटिफिकेशन होगा।
... और पढ़ें

गोरखपुर के पुराने रईस हत्याकांड को सुलझाने में जुटी एसटीएफ, जल्द हो सकता है खुलासा

राजघाट इलाके के बनकटी चक में पुराने रईस नुसरत उल्लाह वारसी की हत्या में शामिल शूटर की तलाश में एसटीएफ भी लग गई है। पुलिस के पास हेलमेट लगाए एक शख्स की तस्वीर और बाइक की फोटो है, जो सीसी टीवी कैमरे में कैद हुई थी। इसी के आधार पर पुलिस आरोपित की तलाश में जुटी है। नामजद आरोपित अनिल सोनकर भी अभी पकड़ा नहीं जा सका है।

कई लोगों के मोबाइल की लोकेशन और कॉल डिटेल भी पुलिस ने खंगाला है मगर अभी तक कोई ऐसा ठोस सबूत नहीं हाथ लग सका है जिससे घटना का पर्दाफाश हो सके। खबर है कि शूटर अनिल है या कोई और, इसकी छानबीन में पुलिस के साथ एसटीएफ भी लग गई है।

घटना के अगले दिन पुलिस ने सीसी टीवी कैमरे को ध्यान से देखा था और फिर समय और तरीके से अनुमान लगाया जा रहा है कि शूटर ने ही हत्या की है। पुलिस अब इसी बिंदु पर काम कर रही है। उधर, शक के आधार पर नामजद आरोपित बनाया गया अनिल सोनकर भी पुलिस की पकड़ में नहीं आ सका है। अनिल पर ही दो करोड़ से ज्यादा रकम गबन करने का केस नुसरत ने दर्ज कराया था। पुलिस को उम्मीद है कि उससे पूछताछ के बाद ही कुछ तथ्य हाथ लगेंगे।
... और पढ़ें

कौवाबाग अंडरपास: अधिकारियों ने देखी बारिश के बाद टूटी सड़क, ठेकेदार को किया तलब

कौवाबाग अंडरपास के उत्तरी छोर पर बारिश के बाद उखड़ी सड़क की मरम्मत होगी और उसपर जीरो साइज की गिट्टी की एक और परत बिछाकर सड़क को पुख्ता किया जाएगा। रेलवे अधिकारियों ने बुधवार को सड़क का निरीक्षण किया और ठेकेदार को तलब कर सड़क बनाने का निर्देश दिया।

लगभग सप्ताह भर पहले बनकर तैयार हुई कौवाबाग अंडरपास की सड़क सोमवार को हुई बारिश नहीं झेल सकी। उत्तरी छोर पर सड़क करीब 50 मीटर तक उखड़ गई। दरअसल अंडरपास को चालू करने की जल्दबाजी में आधा-पौना काम कर ही इसे आमजन के लिए खोल दिया। अब बारिश के बाद बिछिया के तरफ की सड़क बदहाल हो गई है। बृहस्पतिवार की रात में उधर से आने वाले कई लोग बाइक लेकर फिसलकर गिर गए। गनीमत रही कि किसी को ज्यादा चोट नहीं आई।

स्पीड ब्रेकर की मांग
पूर्वोत्तर रेलवे कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने अंडरपास से पहले दोनों तरफ स्पीड ब्रेकर बनवाने की मांग की। प्रवक्ता एके सिंह एवं महामंत्री विनोद कुमार राय ने कहा कि अंडरपास की ओर चार पहिया वाहन बहुत तेजी से चल रहे हैं। कभी भी दुर्घटना हो सकती है। दोनों छोर पर स्पीड ब्रेकर बनाया जाए।
... और पढ़ें

पुलिस की नौकरी पाने के लिए युवक ने चुनी गलत राह, ऐसे गवां दिए दो लाख रुपये

चौरीचौरा इलाके के भौवापार निवासी अनिल कुमार ने गलत तरीके से पुलिस विभाग में सिपाही की नौकरी पाने के लालच में दो लाख रुपये गंवा दिए। अब नौकरी और रुपये दोनों न मिलने पर युवक की मां कौशल्या देवी ने बृहस्पतिवार को एसएसपी से मुलाकात कर शिकायत की। जिसके बाद एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता ने चौरीचौरा पुलिस को मामले की जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

एसएसपी को दिए गए लिखित शिकायती पत्र में कौशल्या देवी ने बताया कि उनका बेटा अनिल इलाके के एक प्राइवेट स्कूल में शिक्षक है। उसके साथ इब्राहिमपुर निवासी एक युवती भी स्कूल में शिक्षिका थी। इस दौरान अनिल की मुलाकात उस युवती, उसकी बहन और बहन के पति से हुई। वर्ष 2018 में पुलिस विभाग के सिपाही भर्ती परीक्षा में बेटे अनिल ने फार्म भरा था।

आरोप है कि युवती, उसकी बहन व बहन के पति ने सिपाही की नौकरी दिलाने के लिए दो लाख रुपये एडवांस ले लिए और बोला कि एक लाख रुपये नौकरी मिलने के बाद देने होंगे। आरोप है कि इसके बाद बेटे के साथ पढ़ाने वाली युवती सिपाही की नौकरी पाकर ट्रेनिंग के लिए चली गई। जबकि उनके बेटे को नौकरी नहीं मिली। महिला का आरोप है कि आरोपित अब रुपये मांगने पर धमकी दे रहे हैं।

वहीं महिला ने आरोप लगाया कि युवती ने हाईस्कूल की मार्कशीट में फर्जीवाड़ा कर नौकरी हासिल की थी। उसने वर्ष 2002 में दसवीं की परीक्षा जगदीशपुर के एक स्कूल से दी थी। वहीं उम्र कम कराने के लिए उसने दोबारा वर्ष 2016 में कुसम्ही बाजार स्थित एक कॉलेज से दसवीं की परीक्षा उत्तीर्ण की है। दोनों मार्कशीट में जन्मतिथि अलग-अलग है। उसने एसएसपी को बताया कि विभागीय जांच के बाद जब वह फंसने लगी तो नौकरी से त्यागपत्र दे दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us