विज्ञापन
विज्ञापन
कार्य बाधा एवं परेशानियों को दूर करने हेतु कामाख्या शक्तिपीठ में कराएं बगलामुखी विशिष्ट पूजा
Navratri Special

कार्य बाधा एवं परेशानियों को दूर करने हेतु कामाख्या शक्तिपीठ में कराएं बगलामुखी विशिष्ट पूजा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

योगी आदित्यनाथ का वो बयान, जो सात साल बाद हुआ था वायरल

सीएम योगी आदित्यनाथ। (फाइल) सीएम योगी आदित्यनाथ। (फाइल)

गोरखपुर पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ, करेंगे महानिशा और शस्त्र पूजन

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री व गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ गोरखपुर पहुंच गए हैं। वह रात को गोरखनाथ मंदिर के शक्ति मंदिर में अष्टमी तिथि पर महानिशा पूजन, शस्त्र पूजन और हवन-यज्ञ करेंगे।
 
नाथ संप्रदाय की परंपरा के मुताबिक अष्टमी तिथि की रात में ही गोरखनाथ मंदिर में हवन की परंपरा है। मुख्यमंत्री विजयादशमी तक गोरखनाथ मंदिर में ही प्रवास करेंगे।

मंदिर के सचिव द्वारिका तिवारी ने बताया कि आज की शाम 6 बजे से गौरी-गणेश की पूजा से शुरूआत होगी। इसके बाद गोरक्षपीठाधीश्वर वरुण पूजन, पीठ पूजन, यंत्र पूजन, स्थापित मां दुर्गा की विधिवत पूजा, भगवान राम-लक्ष्मण-सीता का षोडषोपचार पूजन, भगवान कृष्ण एवं गोमाता का पूजन, नवग्रह पूजन, विल्व अधिष्ठात्री देवता का पूजन, शस्त्र पूजन, द्वादश ज्योर्तिंलिंग-अर्धनारीश्वर, शिव-शक्ति पूजन, बटुक भैरव, काल भैरव, त्रिशूल पर्वत पूजन करेंगे।
... और पढ़ें

रूट एक, ट्रेन एक मगर ड्राइवर-गार्ड की ड्यूटी अलग-अलग, जानिए क्या है पूरा मामला

रूट एक, ट्रेन भी एक और ड्राइवर (लोको पायलट) व गार्ड की ड्यूटी का समय अलग-अलग। हो यह रहा है कि कुछ रेल गाड़ियों में ड्राइवर जितनी दूरी तक ड्यूटी करते हैं, उतने में दो गार्ड लगाए जाते हैं। जबकि कई रेल गाड़ियों में चालक और गार्ड बराबर की ड्यूटी कर रहे हैं। अब ऑल इंडिया गार्ड एसोसिएशन ने संरक्षा और रेल राजस्व के नुकसान का हवाला देकर नियमों में बदलाव की मांग की है।

गार्ड की ड्यूटी निर्धारण में खामी की वजह से कभी-कभी गार्ड की कमी होने पर पैसेंजर और मालगाड़ी के गार्ड को एक्सप्रेस रेल गाड़ियों में भेजा जाता है, जोकि नियमानुसार सही नहीं है। इससे हादसे की गुंजाइश रहती है। वहीं, गार्ड की ड्यूटी पर 15 प्रतिशत अतिरिक्त माइलेज भत्ता भी देना पड़ता है। इसके अलावा वैशाली एक्सप्रेस, पाटिलीपुत्र और अवध एक्सप्रेस आदि रेल गाड़ियों में चालक और गार्ड की बराबर ड्यूटी होती है। जहां तक चालक रेल गाड़ी लेकर जाता है, वहां तक गार्ड भी जाता है।

पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल में ड्राइवर और गार्ड की ड्यूटी में अधिक असमानता है। इस मंडल में दस से ज्यादा ट्रेनें हैं, जिनमें ड्राइवर सात से आठ घंटे तक ड्यूटी करते हैं और गार्ड की ड्यूटी तीन से चार घंटे होती है। रास्ते में गार्ड को बदलना पड़ता है। जबकि चालक गंतव्य तक जाता है।

बता दें कि वाराणसी मंडल में गोरखपुर पूर्व में एक्सप्रेस, पैसेंजर और मालगाड़ी में कुल स्वीकृत पद 107 हैं और वर्तमान में कुल 81 गार्ड ही तैनात हैं। 26 गार्ड की कमी है।
... और पढ़ें

कोविड टीकाकरण के लिए बन रही है इन खास लोगों की सूची, जानिए कौन लोग हैं शामिल

कोविड-19 की रोकथाम संबंधित टीकाकरण के लिए अग्रिम तैयारियां शुरू हो गई हैं। टीका (वैक्सीन) आने के बाद सबसे पहले सरकारी और निजी अस्पतालों में कार्यरत तकनीकी और गैर तकनीकी स्वास्थ्यकर्मियों को ही लगाया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए सूची तैयार करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. श्रीकांत तिवारी ने सभी सरकारी और गैर सरकारी अस्पतालों से सूची तैयार करने को कहा है।

अधीक्षकों/ प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों तथा निजी अस्पतालों के संचालकों की अलग-अलग बैठक में सीएमओ ने दिशा-निर्देश दिया है कि यह कार्य प्राथमिकता के साथ होना चाहिए। इस संबंध में चिकित्सा-स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को पत्र भी भेजा है। जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पांडियन के निर्देश पर जिले में सरकारी और निजी अस्पतालों में कार्यरत समस्त स्वास्थ्य एवं अन्य संबंधित कर्मियों का डेटा बेस तैयार किया जा रहा है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि शासन और जिलाधिकारी से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार जनपद में कार्यरत समस्त मेडिकल, पैरामेडिकल एवं नॉन मेडिकल स्टॉफ को सूचीबद्ध किया जाना है। इस सूची में नियमित कर्मचारियों के अलावा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के संविदा और आउटसोर्सिंग के कर्मचारी भी शामिल होंगे।
... और पढ़ें

नवरात्रि 2020: यहां रूदल ने की थी मां दुर्गा की स्थापना, श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है ये मंदिर

सांकेतिक तस्वीर।
उत्तर प्रदेश के महराजगंज में स्थित मां दुर्गा का प्राचीन मंदिर शारदीय व वासंतिक नवरात्रि में आस्था का सैलाब उमड़ता है। काले पत्थर से निर्मित प्रतिमा की स्थापना आल्हा के भाई रूदल ने की थी। श्रद्धालुओं का मानना है कि यहां आने वाले भक्तों की मनौती पूरी होती है।

जनश्रुतियों के अनुसार, महोबा के राजा आल्हा के छोटे भाई रूदल महोबा से वनवसिया में स्थित बनारस स्टेट के राजा सैयद से मिलने जा रहे थे। रात होने के चलते उन्होंने अपने सैनिकों के साथ आनंदनगर में ही पड़ाव डाल दिया। सोते समय मां जगदंबा ने रूदल को यहां पर अपने होने का स्वप्न दिखाया। सुबह होने पर रूदल ने मां की अराधना की। फिर मां दुर्गा की प्रतिमा की स्थापना की। रूदल के नाम से ही राजस्व अभिलेखों में यहां का नाम रूदलापुर सेखुई हो गया।

यहां का एक टोला भी रूदलापुर के नाम से आज भी जाना जाता है। कालातंर में प्राकृतिक प्रकोप के कारण मंदिर ध्वस्त हो गया था। सेठ आनंदराम जयपुरिया ने 1932 में कस्बे में गणेश शुगर मिल की स्थापना कराते समय खुदाई के समय एक प्रतिमा मिली, जिस पर जयपुरिया ने मंदिर का निर्माण करवाया।

इस मंदिर की प्रसिद्धि दूर-दूर तक फैली हुई है। हर वर्ष नवरात्रि के दिनों काफी संख्या में लोग मां का दर्शन करने आते हैं। मंदिर के पुजारी रवि नंदन पाठक ने बताया कि सच्चे मन से मांगी गई मनौती जरूर पूरी होती है। कस्बे के अधिकांश लोग प्रतिदिन मंदिर में पहुंच कर मां की आराधना कर आशीर्वाद लेते है।

लोगों को भाती है पोखरे की सुंदरता
मंदिर के बगल में स्थित पोखरे पर छठ पूजा का आयोजन होता है, जहां पर काफी संख्या में महिलाएं पहुंच कर वेदी बना कर पूजा करती हैं। पोखरे की सुंदरता लोगों का मन मोह लेती है। मंदिर पर अनेक वैवाहिक सहित धार्मिक कार्यक्रम होते हैं।
... और पढ़ें

पंजाब में किसान आंदोलन के चलते ट्रेनों का संचालन प्रभावित, आठ ट्रेनें निरस्त, 12 बीच रास्ते से चलेंगी

पंजाब में चल रहे किसान आंदोलन के चलते ट्रेनों का संचालन सामान्य नहीं हो पाया है। इसकी वजह से यात्रियों की दिक्कत बढ़ जाएगी। रेल प्रशासन ने आठ ट्रेनें निरस्त कर दी हैं जबकि 12 ट्रेनों को बीच के रास्ते तक ही चलाया जाएगा।

ये ट्रेनें हुईं हैं निरस्त
  • चंडीगढ़ से 22 अक्तूबर से चार नवंबर तक 04924 चंडीगढ़-गोरखपुर स्पेशल
  • गोरखपुर से 23 अक्तूबर से पांच नवंबर तक 04923 गोरखपुर-चंडीगढ स्पेेशल
  • गोरखपुर से 26 अक्तूबर तक 02587 गोरखपुर-जम्मूतवी स्पेशल
  • जम्मूतवी से 31 अक्तूबर को 02588 जम्मूतवी-गोरखपुर स्पेशल
  • भागलपुर से 29 अक्तूबर को 05097 भागलपुर-जम्मूतवी स्पेशल
  • जम्मूतवी से 27 अक्तूबर को 05098 जम्मूतवी-भागलपुर स्पेशल
  • अमृतसर से 21 अक्तूबर से 4 नवंबर तक 04624 अमृतसर-सहरसा स्पेशल
  • सहरसा से 22 अक्तूबर से 5 नवंबर तक 04623 सहरसा-अमृतसर स्पेशल
... और पढ़ें

पृर्वोत्तर रेलवे में बदला ये खास नियम, संविदा कर्मचारियों का शोषण करना निजी फर्मों को पड़ेगा महंगा

पृर्वोत्तर रेलवे में अब संविदा कर्मचारियों को ईपीएफ और ईएसआई की सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराने वाली निजी फर्मों का भुगतान रोक दिया जाएगा। यही नहीं फर्में अब नकद या चेक से भुगतान नहीं करेंगी, बल्कि वेतन कर्मचारियों के खाते में भेजना होगा। जांच कर संबंधित पर्यवेक्षक प्रमाणित करेंगे और अगर गड़बड़ी मिली तो उनकी ही जवाबदेही तय की जाएगी।

पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने व्यवस्था को पारदर्शी बनाने के लिए नए नियम लागू किए हैं। मुख्य कार्मिक अधिकारी (आईआर) संजय कुमार ने इस संबंध में आदेश जारी कर कहा है कि संबंधित पर्यवेक्षक एजेंसी या फर्म के अधीन कार्यरत श्रमिकों की उपस्थिति पंजिका प्रतिहस्ताक्षरित करें।

जब भी भुगतान के लिए कागजात प्रस्तुत होगा तो पर्यवेक्षक यह जांचेंगे कि श्रमिक को भुगतान उनके खाते में हुआ है या नहीं, भुगतान की कॉपी संलग्न होनी चाहिए। यही नहीं भुगतान की सभी सूचनाएं रेलवे की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड की जाए।
... और पढ़ें

जमीन की पैमाइश के लिए घूस लेना लेखपाल को पड़ा भारी, भ्रष्टाचार निरोधक टीम ने दबोचा

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के गगहा इलाके के मेहंदिया गांव में पैमाइश के नाम पर दो हजार रुपये घूस लेने के आरोप में हल्का लेखपाल प्रभुनाथ यादव को गिरफ्तार कर लिया गया। भ्रष्टाचार निरोधक टीम ने आरोपित को गगहा पुलिस के हवाले कर दिया है। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। बताया जा रहा है कि पांच सौ रुपये वह पहले ही ले चुका था और दो हजार देने से पहले ही भ्रष्टाचार निरोधक टीम को सूचना दे दी गई थी।

जानकारी के मुताबिक, मेहंदिया निवासी कृष्ण मुरारी सिंह, श्यामसुंदर सिंह लक्ष्मण सिंह, कृष्ण मोहन सिंह व राम सिंह गाटा संख्या 26 क व 26 ख के सीमांकन के लिए लगातार हल्का लेखपाल से पैरवी कर रहे थे, जिसके एवज में लेखपाल ने सीमांकन के लिए 2500 रुपये की मांग की तो सत्यप्रकाश सिंह पुत्र कृष्ण मोहन सिंह ने 500 रुपये पहले देकर बाकी दो हजार रुपये 22 अक्तूबर को सीमांकन के समय मौके पर देने की बात कही।

सत्य प्रकाश सिंह ने इसकी सूचना 19 अक्तूबर को भ्रष्टाचार निरोधक विभाग को दे दी थी। पहले से निर्धारित स्थान पर भ्रष्टाचार निरोधक विभाग गोरखपुर के प्रभारी निरीक्षक देव प्रकाश रावत, उप निरीक्षक अशोक कुमार सिंह, चंद्रेश यादव, चन्द्रभान मिश्रा, शैलेन्द्र कुमार राय व शैलेन्द्र कुमार सिंह मेंहदरांव पहुंचे थे। खेत का सीमांकन होना था। तभी हल्का लेखपाल प्रभुनाथ यादव भी मौके पर पहुंचे और सीमांकन से पहले पैसे की मांग की।  

जैसे ही सत्य प्रकाश सिंह ने लेखपाल प्रभुनाथ यादव को दो हजार रुपये दिए, वहां पहले से मौजूद टीम ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने प्रभारी देव प्रकाश रावत की तहरीर पर लेखपाल के खिलाफ केस दर्ज किया है।
... और पढ़ें

पोर्टल बताएगा आपके माल की मौजूदा स्थिति, रेलवे की 'फ्रेट बिजनेस पोर्टल सेवा' शुरू

अब व्यापारी पोर्टल के जरिए भेजे गए माल की मौजूदा स्थिति की जानकारी पा सकेंगे। यही नहीं अनुमानित माल भाड़ा, बुकिंग की जानकारी और मालगाड़ी के आने-जाने का समय भी जान सकेंगे। माल लदान को बढ़ावा देने के क्रम में रेल मंत्रालय ने 'फ्रेट बिजनेस पोर्टल सेवा' की शुरुआत की है। इसे रेलवे बोर्ड की वेबसाइट के माध्यम से भी उपयोग किया जा सकता है।
 
पूर्वोत्तर रेलवे के सीपीआरओ पंकज कुमार सिंह ने बताया कि पोर्टल के माध्यम से व्यापारी अपने एफएनआर नंबर द्वारा माल के वर्तमान स्थिति को ट्रैक कर सकते हैं। पोर्टल पर माल भाड़ा संबंधित नियमों तथा माल गोदामों पर उपलब्ध सुविधाओं जैसे-एग्रीगेटर, ट्रांसपोर्टर, वेयर हाउस तथा श्रमिकों की जानकारी भी उपलब्ध है। किस स्टेशन पर कौन से माल लोड हो रहा है, कंटेनर रेल टर्मिनल तथा प्राइवेट फ्रेट टर्मिनल की जानकारी भी प्राप्त कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि किसी भी प्रकार की असुविधा होने पर नामित नोडल अधिकारी से संपर्क कर समस्या का निदान किया जा सकता है। असुविधा होने पर उसमें सुधार के लिए ऑनलाइन पोर्टल पर सुझाव भी दे सकेंगे।

हादसे से सबक, 20 साल से पुरानी बोगियां हटाई गईं  
मुजफ्फरपुर में गोरखपुर से कोलकाता जा रही पूर्वांचल एक्सप्रेस की दो बोगियों के बेपटरी होने के बाद रेलवे प्रशासन चौकस हो गया है। अब 20 वर्ष से पुरानी कोच को रेक में नहीं लगाने का निर्देश जारी हुआ है। बुधवार को प्लेटफॉर्म पर खड़ी दादर एक्सप्रेस में लगे पुुराने एसी-2 कोच को निकालकर दूसरी बोगी लगाई गई। इसके चलते ट्रेन करीब डेढ़ घंटे की देरी से से रवाना हो सकी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X