विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

हरियाणा

शुक्रवार, 24 जनवरी 2020

कब खत्म हो रही पासपोर्ट की वैधता, मैसेज से चलेगा पता, विदेश मंत्रालय ने शुरू की नई व्यवस्था

पासपोर्ट धारकों के लिए विदेश मंत्रालय ने एक नई सुविधा शुरू की है। इसके तहत पासपोर्ट की समाप्ति तिथि से पहले धारकों को अवगत करा दिया जाएगा कि उनके पासपोर्ट की वैधता अगले कुछ दिनों बाद खत्म हो जाएगी। इसके लिए पासपोर्ट समाप्त होने के नौ व सात माह पहले धारकों को मैसेज भेजे जाएंगे।

चंडीगढ़ क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय के अधिकारियों ने बताया कि अक्सर देखने को मिलता है कि पासपोर्ट धारक समय पर अपने पासपोर्ट का नवीनीकरण नहीं करा पाते हैं। वे पासपोर्ट की वैद्य तिथि समाप्त होने तक का इंतजार करते हैं।

 लेकिन यदि अचानक से विदेश यात्रा की जरूरत पड़ जाए तो लोग वैध पासपोर्ट होने के बाद भी यात्रा करने से वंचित रह जाते हैं। नियम के मुताबिक उनके पासपोर्ट की वैध तिथि समाप्त होने में छह महीने से कम का समय बचा होता है। अधिकतर देशों में वीजा देने की शर्त में यह भी एक नियम है कि यदि किसी पासपोर्ट धारक के पासपोर्ट की समाप्ति तिथि छह माह से कम हो तो वह विदेश की यात्रा नहीं कर सकते। पासपोर्ट नवीनीकरण के लिए धारक  www.passportindia.gov.in पर जाकर या पासपोर्ट सेवा केंद्र पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।
... और पढ़ें

गजब! मंगवाए थे वीडियो कैमरे, कोरियर खोला तो उसमें जो चीज थी, देखकर खुली रह गईं आंखें

एक कोरियर कंपनी की ओर से कोरियर डिलिवरी के दौरान चौंका देने वाला मामला सामने आया। कोरियर में से जब सामान के स्थान पर ईंटे निकली तो उपभोक्ता इसे देखकर स्तब्ध रहा गया।

इसके बाद उसने मामले की शिकायत पुलिस को दी। मामले के अनुसार तलाकी गेट स्थित चौधरी फोटो स्टोर के मालिक मुनीष चौधरी ने ग्रेटर नोएडा की सोनी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को ऑर्डर देकर पांच वीडियो कैमरे मंगवाए थे।

जिसकी डिलिवरी के लिए बुधवार को जब हिसार के विकास नगर स्थित अनेक्स लॉजिस्टिक प्राइवेट लिमिटेड कोरियर कंपनी की ओर से सचिन, राकेश और ड्राइवर सीताराम पहुंचे तो दुकानदार ने उस कोरियर को उन्हें ही खोलने को कहा।

इस पर कोरियर कंपनी के इन कर्मियों ने अपने मैनेजर सतेंद्र को वहां बुला लिया। मैनेजर सतेंद्र ने मौके पर पहुंचकर कोरियर को खोला तो इसमें कैमरे के स्थान पर ईंटें भरी मिली।
... और पढ़ें

'सुपर-100' के रास्ते किसान की बेटी और रेहड़ी वाले का बेटा पहुंचेगा आईआईटी, ये है प्रक्रिया

एक किसान की बेटी और रेहड़ी चलाकर परिवार का पालन पोषण करने वाले पिता का बेटा अब आईआईटी में प्रवेश पाकर अपने सुनहरे भविष्य की नींव रखेंगे।

ये सच हो सका है शिक्षा विभाग की महत्वाकांक्षी योजना सुपर-100 के कारण। फतेहाबाद जिले से कुल 12 बच्चे इस परियोजना के लिए सक्षम पाए गए थे और उन्हें रेवाड़ी में ही निशुल्क कोचिंग दिलवाई गई थी जिसमें से दो विद्यार्थियों ने जेईई मेन की परीक्षा में 95 प्रतिशत से अधिक अंक हासिल किया है।

इनमें गांव इंदाछोई की काजल पुत्री गुरचरण ने 99.31 अंक हासिल किए हैं जबकि इसी गांव के जस्सी पुत्र कृष्ण कुमार ने 96.71 प्रतिशत अंक लेकर आईआईटी में प्रवेश के लिए अपना दावा ठोक दिया है। इसके अलावा गांव बनमंदौरी की छात्रा भावना ने भी 88 प्रतिशत से अधिक अंक लेकर जेईई मेन की परीक्षा पास कर परिजनों को गौरवान्वित किया है।
... और पढ़ें

कॉलेज प्रोफेसर बनने का सुनहरा मौका, 2592 पदों पर होनी है भर्ती, मौका छूट न जाए कहीं

फाइल फोटो फाइल फोटो

हरियाणाः सीएम ने आलाकमान की मंजूरी के बाद बदला सीआईडी विभाग और खत्म हो गई खींचतान

हरियाणा में लंबे समय से चल रही सीआईडी की खींचतान पार्टी आलाकमान के हस्तक्षेप के बाद थम गई है। बुधवार रातोंरात सीएमओ के अफसरों ने राज्यपाल के हस्ताक्षर करवा सीआईडी का महकमा मुख्यमंत्री मनेाहर लाल के खाते में डाल दिया है। यही नहीं मनोहर लाल ने बुधवार को ही दिल्ली में आलाकमान को इस बाबत सूचित भी कर दिया है।

आलाकमान के हस्तक्षेप के बाद सीआईडी लेने से पहले विज के महकमों में बैलेंस बनाने का काम किया गया। उसी के तहत वी उमाशंकर का तबादला किया गया। एनएचएम में निदेशक लगाया गया और डाक्टर भर्ती शुरू करने पर सहमति जताई गई। शाम के समय सीआईडी एसपी राजेश कालिया ने विज के कमरे में जाकर अनिल विज को सीआईडी से संबंधित ब्रीफिंग की।

यह भी पढ़ें: सीएम मनोहर लाल और दो मंत्रियों को मिले नए विभाग, गृह मंत्री अनिल विज से छिना सीआईडी

अनिल विज अब इस पूरे मामले में ठंडे पड़ गए हैं। उन्होंने कहा है कि सीआईडी की ब्रीफिंग उन्हें शुरू हो गई। जो कि उनके लिए आवश्यक थी। चूंकि मैं गृह मंत्री हूं, इसलिए सीआईडी की ब्रीफिंग मेरे लिए जरूरी है। उन्होंने कहा कि मैने शुरू से कहा है कि सीएम सुप्रीम हैं। मेरा सीएम से कोई विरोध नहीं। वे जब चाहें महकमा ले या दे सकते हैं। मेरा विरोध सिर्फ अफसरों के लिए था। अब ब्रीफिंग शुरू हो गई है तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है। ... और पढ़ें

हरियाणा में हवाओं ने बढ़ाई ठंड, आज-कल साफ रहेगा मौसम, 28 और 29 को बारिश के आसार

दिनभर धूप निकलने के कारण कड़ाके की ठंड और कोहरे से गुरुवार को लोगों को थोड़ी राहत मिली, हालांकि हरियाणा में 11.1 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली सर्द हवाओं के थपेड़े भी लोगों को झेलने पड़े। मौसम साफ हुआ तो कोहरे से भी निजात मिली। मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश में शुक्रवार और शनिवार को भी मौसम साफ रहेगा। उसके बाद बादलों की आवाजाही शुरू हो जाएगी। इस माह में छठी बार पश्चिमी विक्षोभ के असर से 28 और 29 जनवरी को प्रदेश में छिटपुट हल्की बारिश के आसार हैं।   

हिसार, नारनौल समेत प्रदेश के ज्यादातर शहरों में सुबह से धूप निकलने के बावजूद दिन के तापमान में मामूली गिरावट आई। चार-पांच दिनों के बाद मौसम का यह मिजाज देखा गया। दिनभर धूप खिलने के बावजूद तेज सतही हवा के चलने से रोहतक में दिन का तापमान सामान्य से 5 डिग्री कम रहा, वहीं हिसार में 3 डिग्री और करनाल में 2 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। हालांकि हिसार में रात के तापमान में बढ़ोतरी हुई, फिर भी सामान्य से एक डिग्री कम रहा। 

दिनभर धूप निकलने से बाजारों और पार्कों में चहल-पहल रही। मगर दिन ढलने के साथ ही उत्तर-पश्चिमी बर्फीली हवाओं ने लोगों को गर्म लबादों में लिपटने को मजबूर कर दिया। हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कृषि मौसम विभाग के अध्यक्ष डॉ. मदन खीचड़ ने बताया कि उत्तर-पश्चिमी हवाओं के चलने से अगले तीन दिन रात के तापमान में गिरावट आ सकती है। वहीं मौसम केंद्र चंडीगढ़ के मुताबिक अगले 96 घंटे तक मौसम शुष्क रहेगा। प्रदेश में 26 जनवरी को भी कोहरा छाने की चेतावनी जारी की गई है। 
... और पढ़ें

सरकार मंत्रालयों के बंटवारे और खींचतान में व्यस्त, बताए कब शुरू करेगी कामः भूपेंद्र सिंह हुडडा

हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुडडा ने सरकार पर काम न करने का आरोप लगाते हुए अपनी सरकार के विकास कार्य गिनवाएं हैं। उन्होंने कहा है कि अब तक के कार्यकाल में सरकार ने न तो सड़के बनाई, न ही मेट्रो बढ़ाई और न ही रेल की कोई परियोजना आई। सरकार अपने ही मंत्रियों से जूझ रही है। ऐेसे में प्रदेश की जनता हाशिए पर आ गई है। विकास थम गया है और बेरोजगारी चरम पर है।

यहां पत्रकारों से बातचीत में हुडडा ने सरकार से पूछा है कि काम करना कब शुरू करेंगे। उन्होंने आंकड़ों के साथ बताया कि कैसे अर्थव्यवस्था, रोजगार, कानून व्यवस्था, भ्रष्टाचार और कृषि के मोर्चे पर बीजेपी सरकार विफल रही है। सरकार असली मुद्दों पर ध्यान देने की बजाए मंत्रालयों के बंटवारे में खींचतान और अधिकारियों के तबादले में व्यस्त है। एनसीआरबी के आंकड़ों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि जो प्रदेश पहले विकास के मामले में नंबर वन था, वो आज अपराध के मामले में पहले नंबर पर है।

प्रदेश में रोज 3 हत्याएं, 4 दुष्कर्म और 14 अपहरण के मामले सामने आते हैं। रोज महिलाओं के साथ किसी ना किसी तरह की वारदातें होती हैं। रोज वाहन चोरी होते हैं। रोज 54 चोरी, लूट, डकैती और जबरन वसूली की वारदातें होती हैं।

बच्चों के अपहरण के मामले में भी हरियाणा देश में सबसे आगे है। दंगों के मामले में भी हरियाणा देश में तीसरे नंबर पर है। मौजूदा सरकार ने यूपी और बिहार को भी पीछे छोड़ दिया है। आंकड़ों का हवाला देते हुए ही भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि आज हरियाणा का युवा नशे की तरफ बढ़ रहा है। नशे से मौत के मामले में हरियाणा ने पंजाब को भी पीछे छोड़ दिया है।

हुडडा ने कहा कि बिना कॉमन मिनिमम प्रोग्राम के चल रही गठबंधन सरकार दिशा और दशाहीन है। 31 दिसंबर को जारी हुई ताजा रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि हरियाणा में बेरोजगारी दर अब भी 28 फीसदी बनी हुई है। हरियाणा लगातार बेरोजगारी के मामले में टॉप पर है। उन्होंने ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर भी गहरी चिंता जताई।
... और पढ़ें

हरियाणाः समन्वय समिति की बैठक में भाजपा-जजपा घोषणा पत्र के 33 वादों पर सहमति बनी

भूपेंद्र हुड्डा (फाइल फोटो)
हरियाणा की गठबंधन सरकार का न्यूनतम साझा कार्यक्रम जल्दी सामने आ सकता है। भाजपा-जजपा के घोषणा पत्र में शामिल 33 वादों पर समयन्य समिति में सहमति बन गई है। गुरुवार को समिति की दूसरी बैठक हुई। जिसमें वित्त विभाग और एजी कार्यालय की वित्तीय व कानूनी पहलुओं से संबंधित रिपोर्ट पर चर्चा की गई। 

गृहमंत्री अनिल विज की अध्यक्षता में हुई बैठक में समिति सदस्य एवं शिक्षा मंत्री कंवर पाल, पूर्व मंत्री ओपी धनखड़, जननायक जनता पार्टी की ओर से राज्यमंत्री अनूप धानक व पूर्व विधायक राजदीप फोगाट, हरियाणा के एजी यानि महाधिवक्ता बलदेव राज महाजन, वित्त विभाग से सुनील शरण और मुख्य सचिव के प्रतिनिधि नितिन यादव ने अपने-अपने सुझाव दिए। 

मुख्य रूप से वादों को पूरा करने में आने वाली वित्तीय व कानूनी अड़चनों पर गहन विचार-विमर्श किया गया। समिति ने 33 ऐसे वादों की छंटनी कर ली है, जिस पर दोनों दल सहमत हैं और उन्हें पूरा करने में किसी तरह की दिक्कत आने वाली नहीं है। इनमें से अनेक वादे ऐसे हैं जो भाजपा और जजपा दोनों ने अपने-अपने घोषणा पत्रों में किए हैं। 
... और पढ़ें

RTI में गौशालाओं की खुली पोल, सिरसा जिले में सवा साल में 10,772 गोवंश की मौत

हरियाणा के सिरसा जिले की गोशालाओं में सवा साल में 10,772 गोवंश की मौत हुई है। यह आंकड़ा अप्रैल 2017 से जुलाई 2018 के बीच का है। हर माह औसतन 673 गोवंश ने दम तोड़ा। पानीपत के सूचना अधिकार प्रहरी पीपी कपूर की ओर से आरटीआई में मांगी गई जानकारी प्राप्त होने पर यह खुलासा हुआ है। कपूर ने बताया कि गौ सेवा आयोग से आरटीआई में मिली जानकारी के अनुसार सिरसा जिले की कुल 117 गोशालाओं में ये मौतें हुई हैं।

सूचना अधिकार प्रहरी ने इतनी संख्या में गोवंश के मरने की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की है। साथ ही हरियाणा गोसेवा आयोग की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाए हैं। कपूर के अनुसार 5 सितंबर 2019 को गोसेवा आयोग में आरटीआई लगाकर प्रदेश की सभी गोशालाओं में मरे गोवंश की संख्या, लावारिस गोवंश की संख्या, जिला स्तरीय स्ट्रे कैटल फ्री कमेटियों के एक्शन प्लान, गो रक्षकों की कुल संख्या, शेष पकड़े जाने वाले आवारा पशुओं की संख्या की सूचना मांगी थी। लेकिन, आयोग ने बिना कोई ठोस सूचना दिए आवेदन पत्र को महानिदेशक पशुपालन, सभी अतिरिक्त उपायुक्तों, सभी शहरी स्थानीय निकायों को भेजकर अपना पल्ला झाड़ लिया। 

सघन पशुधन विकास परियोजना सिरसा के उपनिदेशक ने 18 अक्टूबर 2019 को पत्र के जरिए जिला सिरसा की गोशालाओं में अप्रैल 2017 से जुलाई 2018 की अवधि में मरे गोवंश के आंकड़े उपलब्ध कराए थे। कपूर का कहना है कि सात अगस्त 2018 को सिटी मजिस्ट्रेट व 21 नवंबर 2018 को एडीसी सिरसा की अध्यक्षता में बेसहारा पशु कल्याण समिति की उच्च स्तरीय बैठकें भी हुईं, मगर दोनों बैठकों में बेसहारा गोवंश की मौत पर कोई चर्चा नहीं की गई। 

पशुपालन एवं डेयरी विभाग पानीपत के उपनिदेशक ने सूचित किया है कि गोशाला प्रबंधकों के पास गोवंश की मौतों का कोई आंकड़ा नहीं है। कपूर ने सरकार से गोवंश के मरने की उच्च स्तरीय जांच व प्रदेश को लावारिस पशुओं से मुक्त कराने की मांग की है।
... और पढ़ें

गजब! इंजीनियरिंग के छात्र ने वायरलेस ईयरफोन लगा कर डाले छह पेपर, फ्लाइंग ने दबोच लिया

छात्र नकल करने के नए-नए तरीके व उपकरण का इस्तेमाल कर रहे हैं। दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी यूनिवर्सिटी मुरथल में छात्रों ने ऐसा ही कुछ किया है। जहां नकल करने के लिए वायरलेस सिस्टम से ईयर फोन जोड़कर कान में घुसाया हुआ था जो किसी को दिखता भी नहीं था और उसे केवल चुंबक के सहारे ही निकाला जा सकता है।

इसीलिए छह पेपर में उसके सहारे खूब नकल की गई और अन्य छात्रों के जानकारी देने पर यूनिवर्सिटी के प्रोफेसरों ने सातवें पेपर में उसे नकल करते हुए पकड़ लिया। इसके साथ ही इस बार परीक्षा के दौरान नकल करते हुए 77 विद्यार्थियों को पकड़ा गया है। इन सभी की यूएमसी (अनफेयर मींस केसेज) बनाकर कॉपी व अन्य सामग्री सील कर दी गई है और यूएमसी स्टेंडिंग कमेटी इनकी जल्द सुनवाई करते हुए कार्रवाई पर फैसला लेगी।

दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी यूनिवर्सिटी मुरथल की दिसंबर व जनवरी माह में परीक्षा हुई थीं। जिसमें छात्रों को नकल करते हुए पकड़ा गया तो नकल करने के तरीके को देखकर हर कोई हैरान रह गया। एमबीए में मैनेजमेंट एंड ह्यूमेनिटीज के एक छात्र को नकल करते हुए पकड़ा गया। उस छात्र ने अपनी कमीज के कॉलर में वायरलेस सिस्टम लगाया हुआ था और कॉलर की ऊपर से सिलाई की हुई थी। जिससे वह चेकिंग करते हुए किसी को उसके बारे में पता नहीं लग सके। उस वायरलेस सिस्टम से ईयर फोन को जोड़कर अपने कान में अंदर घुसाया हुआ था।

वह कान के इतने अंदर था कि किसी को आसानी से दिखाई नहीं देता था और उसे काफी खींचतान के बाद चुंबक के सहारे ही बाहर निकाला जा सकता था। मैनेजमेंट एंड ह्यूमेनिटीज विभाग के चेयरमैन प्रो. राजबीर सिंह के अनुसार वह छात्र इस तरह नकल करके छह पेपर कर चुका था और वह किसी की पकड़ में नहीं आ सका। लेकिन प्रबंधन को पता चला कि एक छात्र इस तरह से वायरलेस सिस्टम का इस्तेमाल करके नकल कर रहा है, क्योंकि उसकी पहले ही लगभग 8 पेपर में सप्लीमेंटरी आ चुकी है।

इस कारण उसने किसी भी तरह पास होने के लिए नकल करने का यह तरीका अपनाया है। इसकी जानकारी मिलने के बाद उसके कॉलर खुलवाकर व कान में अंदर तक देखने के बाद ही उसे पकड़ा गया। उसके पास से मिले सभी उपकरण के साथ उसकी कॉपी भी सील करके यूएमसी बनाई गई है और उसपर कार्रवाई को लेकर यूएमसी स्टेंडिंग कमेटी फैसला लेगी।
... और पढ़ें

ड्रोन से तस्करी का मामलाः करनाल पहुंची खुफिया एजेंसी, सेनानायक के गांव में की पड़ताल

ड्रोन द्वारा पाकिस्तान से भारत में ड्रग्स और हथियार सप्लाई करने के मामले में पंजाब पुलिस द्वारा पकड़े गये सेना नायक सहित तीन व्यक्तियों के मामले में खुफिया एजेंसी ने करनाल के गांव मंगलौरा में जांच की है। सेना नायक राहुल यमुना तट के समीप बसे मंगलौरा गांव का रहने वाला है और वह पिछले आठ साल से अंबाला में रह रहा था। 

गांव में उसके पिता व भाई परिवार के साथ रहते हैं। राहुल आर्मी में भर्ती होने के बाद बहुत कम गांव में आता था। यही कारण है कि गांव वाले उसकी संदिग्ध गतिविधियों के बारे में अनभिज्ञता जता रहे हैं। बता दें 10 जनवरी को पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने चंडीगढ़ में प्रेसवार्ता कर खुलासा किया था, जिसमें उन्होंने बताया कि सेना नायक राहुल सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जो ड्रोन को पाकिस्तान भेजते थे और वहां से ड्रग्स और हथियार मंगाकर सप्लाई करते थे।

बसंत विहार से बरामद किया गया था ड्रोन
डीजीपी पंजाब ने खुलासा किया था कि दो ड्रोन बरामद किये गए, इनमें से पहला ड्रोन अमृतसर के मोधे गांव में एक सुनसान डिस्पेंसरी से बरामद किया गया, जबकि दूसरा ड्रोन राहुल की जानकारी पर करनाल के कर्ण विहार स्थित उसके दोस्त के घर से बरामद किया गया। राहुल ने पुलिस को बताया है कि उसने 2019 में ओएलएक्स से 1.50 लाख रुपये में काले रंग का एस्पायर-2 मॉडल का ड्रोन खरीदा था। 

उसने उसे ठीक करके 2.75 लाख रुपये में ओएलएक्स के माध्यम से बेच दिया। इसके बाद उसने पुणे से 3.20 लाख रुपये का नया ड्रोन खरीदा और उसे अमृतसर के एक अपराधी को 5.70 लाख रुपये में बेचा। करनाल से बरामद किए गए ड्रोन को उसने 5.35 लाख रुपये में खरीदा था जिसे अब पंजाब पुलिस ने बरामद किया है।
इस मामले की जांच पंजाब पुलिस कर रही है। खुफिया एजेंसी ने भी जांच की है। अभी उनके स्तर पर ही इस पूरे मामले की जांच की जा रही है। सुरेंद्र सिंह भौरिया, एसपी करनाल।
... और पढ़ें

सर्वदलीय बैठकः पंजाब के पास फालतू पानी नहीं, नॉन-बेसिन इलाकों को न दे केंद्र सरकार

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में गुरुवार को राज्य के जल संकट पर सर्वदलीय बैठक हुई। इसमें सभी दलों के नेताओं ने एकसुर में कहा कि पंजाब के पास फालतू पानी नहीं है। केंद्र सरकार को यह यकीनी बनाना चाहिए कि पंजाब के तीन नदियों का पानी किसी भी हालत में बेसिन से नॉन-बेसिन (जो नदी के आसपास न हो) इलाकों को स्थानांतरित न किया जाए। सभी ने इस पर चिंता जताते हुए पानी की उपलब्धता का फिर से मूल्यांकन किए जाने की मांग की। 

बैठक में अकाली दल की तरफ से एक प्रस्ताव पेश कर पंजाब के पानी के मसले का हल राइपेरियन सिद्धांत के तहत निकालने पर जोर दिया। वहीं, आम आदमी पार्टी ने पंजाब के दरियाओं के पानी की अन्य राज्यों द्वारा लूट का मुद्दा उठाते हुए प्रदेश की पूर्ववर्ती सरकारों को निशाने पर लिया। इसके अलावा जहरीले होते भूजल के लिए पंजाब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को जिम्मेदार ठहराया।

बैठक में सभी पार्टियों ने सर्वसम्मति से नए ट्रिब्यूनल की स्थापना के लिए प्रस्तावित अंतरराज्यीय नदी जल विवाद एक्ट में जरूरी संशोधन करने की मांग की ताकि पंजाब को इसकी कुल मांग और भावी पीढ़ियों की आजीविका के लिए अतिरिक्त पानी मुहैया करवाया जा सके। 
... और पढ़ें

चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर कोरोना वायरस का अलर्ट, इन यात्रियों पर खास नजर, पढ़ें- लक्षण

चीन के कुछ इलाकों में कोरोना वायरस फैला हुआ है और लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। यह वायरस भारत तक न पहुंचे, इसके लिए स्वास्थ्य  विभाग पूरी तरह अलर्ट हो गया है और बचाव के लिए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। सेहत विभाग ने कोरोना वायरस की चपेट से बचने के लिए सरकारी और निजी अस्पतालों को एडवाइजरी जारी कर दी है।

साथ ही इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर बाहर से आने वाले यात्रियों खासकर चीन की फ्लाइट से आने वालों पर खास नजर रखी जाएगी। वहीं, इस वायरस से संबंधित संदिग्ध मरीजों के बारे में तुरंत सेहत विभाग को सूचित करने के लिए कहा गया है। 

सिविल सर्जन डॉ. मनजीत सिंह ने कहा है कि भारत में कोरोना वायरस का अभी तक कोई केस सामने नहीं आया है। इसके लिए घबराने या डरने की जरूरत नहीं, बल्कि इसको लेकर पहले ही सावधानी और बचाव की जरूरत है। डॉ. मनजीत सिंह, जिला एपीडोमोलोजिस्ट, डॉ. हरमनदीप कौर और सेहत विभाग के अधिकारियों के साथ बुधवार को चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट, मोहाली में इमिग्रेशन, कस्टमर्स, सीआरपीएफ और एयरलाइंस अधिकारियों से विशेष तौर पर बैठक की गई है।

उन्हें बाहर से आने वाले यात्रियों को करीब से नजर रखने के लिए कहा गया है। वहीं, जो व्यक्ति कुछ दिन पहले चीन गया हो या वहां से आए व्यक्ति के संपर्क में हो। उस पर नजर रखने की भी हिदायत दी गई है। ऐसे यात्रियों की सेहत जांच बहुत जरूरी है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन