विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्रि पर कन्या पूजन से होंगी मां प्रसन्न, करेंगी सभी मनोकामनाएं पूरी
Astrology Services

नवरात्रि पर कन्या पूजन से होंगी मां प्रसन्न, करेंगी सभी मनोकामनाएं पूरी

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus: सिरसा और हिसार पहुंचा कोरोना वायरस, हरियाणा में एक दिन में बढ़े सात मामले

हरियाणा में कोरोनावायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं एक ही दिन में 7 नए केस सामने आए हैं। यह वायरस अब सिरसा और हिसार तक भी पहुंच गया है।

1 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

अंबाला

बुधवार, 1 अप्रैल 2020

विदेशों से आए 9 लोगों की पासपोर्ट के आधार पर जांच हुई तो पते निकले फर्जी

अंबाला। जिला प्रशासन की ओर से की गयी जांच में पिछले दिनों विदेश से लौटे नौ लोगों के पासपोर्ट में दिखाए गए पते गलत पाए गए हैं। जब जिला प्रशासन की टीमें इन घरों में पहुंची तो वह नहीं मिले। अब इन लोगों पर जिला प्रशासन ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। साथ ही दो दिन में स्थिति स्पष्ट करने को कहा है। अन्यथा उनके विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई करते हुए पासपोर्ट अथारिटी को लिख दिया जाएगा। ऐसे में उनका पासपोर्ट निरस्त हो सकता है।
संपदा अधिकारी द्वारा करवाई गई जांच
उपायुक्त के आदेशों के बाद यह जांच इस्टेट ऑफिसर सत्येन्द्र सिवाच द्वारा करवाई गई है। यह लोग अपनी वास्तविक स्थिति स्वास्थ्य विभाग के एसएमओ डा. राजेन्द्र राय के मोबाइल नंबर 9416394750, डीएमओ कार्यालय मलेरिया के दूरभाष नंबर 0171-2556157, कोरोना डिस्ट्रिक शिकायत मोबाइल नंबर 8929087040 व सीएमओ कार्यालय के स्टेनो के दूरभाष नंबर 0171-2557473 पर दे सकते हैं।
इन लोगों के गलत पाए गए पते
तनवर अभिषेक, मकान नंबर 1341 सेक्टर 9 अंबाला शहर। मुल्तानी मनजीत कौर, एस पर पीपी, अंबाला शहर। अंटल नवजोत सिंह, एस पर पीपी, अंबाला शहर। सतेन्द्र सिंह, 15बी, दयाल बाग, महेशनगर। यादव रोहन, मकान नंबर 28 बी, शास्त्री कालोनी नजदीकी जीटी रोड पड़ाव ब्रिज अंबाला छावनी। चौधरी जय शंकर मकान नंबर 115/2, न्यू कालोनी महेशनगर औद्योगिक क्षेत्र अंबाला। जयसवाल आदित्य, 16 विष्णु गार्डन अंबाला। हंसराज क्वार्टर नंबर 8, एचटी लाईन अंबाला कैंट। दुर्गेश गांव रतनगढ़ अंबाला शहर।
जांच में नौ लोगों के पते गलत पाए गए हैं जोकि उन्होंने अपने पासपोर्ट में दिखाए थे। ऐसे लोगों को 48 घंटे का समय दिया गया है। यदि वह अपनी स्थिति खुद स्पष्ट नहीं करेंगे तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
- सत्येंद्र सिवाच, संपदा अधिकारी।
... और पढ़ें

जरूरी चीजों की आपूर्ति के लिए अंबाला मंडल चलाएगा 'कोविड-19' विशेष पार्सल ट्रेन, शेड्यूल जारी

देश में चल 14 अप्रैल तक चले रहे लॉक डाउन को लेकर आमजन से जुड़ी कुछ आवश्यक वस्तुओं की कमी होने लगी है। इस कमी को पूरा करने के लिए अंबाला मंडल ने कोविड-19 विशेष पार्सल ट्रेनों को चलाने का फैसला किया है। पहली ट्रेन बांद्रा टर्मिनस -लुधियाना -बांद्रा टर्मिनस के बीच, चलेगी और दूसरी पार्सल ट्रेन कंकरिया -लुधियाना-कंकरिया के बीच चलेगी।

अंबाला मंडल वरिष्ठ वाणिज्य अधिकारी हरि मोहन ने बताया कि कुछ आवश्यक वस्तुओं के कम मात्रा में परिवहन की आवश्यकता महसूस की जा रही थी जोकि फ्रेट ट्रैफिक में संभव नही हो पा रही थी। इसे देखते हुए रेलवे ने निर्धारित समय पर चलने वाली पार्सल ट्रेनों को चलाने का निर्णय लिया है। इन ट्रेनों को कोविड-19 विशेष पार्सल ट्रेन का नाम दिया गया है, इसमें 20 पार्सल वाहन कोच और एक एसएलआर कोच होगा।

बांद्रा टर्मिनस -लुधियाना -बांद्रा टर्मिनस के बीच पहली पार्सल ट्रेन
पहली पार्सल ट्रेन  बांद्रा टर्मिनस -लुधियाना -बांद्रा टर्मिनस के बीच दोनों दिशाओं में चलेगी। मार्ग में यह पार्सल ट्रेन वापी,  सूरत, वड़ोदरा, रतलाम, नागदा, कोटा, सवाईमाधोपुर, मथुरा, हजरत निजामुद्दीन ,मेरठ, सहारनपुर और अंबाला छावनी रेलवे पर आवश्यक वस्तुओं का लदान/उतरान सुनिश्चित करेगी। बांद्रा से यह पार्सल ट्रेन 31 मार्च, 3 अप्रैल, 6 अप्रैल और 9 अप्रैल को रात लगभग 9.25 बजे चलेगी और लुधियाना से दिनांक 2,5,8  और 11 अप्रैल को रात 11.30 बजे चलेगी।
... और पढ़ें

अंबाला में कई दिनों तक भटकता रहा कोरोना पीड़ित युवक का दोस्त अमन

अंबाला। कोरोना पॉजिटिव पंजाब के गुरप्रीत के साथ अंबाला का अमन सैनी भी आया था। ये दोनों काठमांडू नेपाल में डिप्लोमा इन्वोकेशनल स्कूल इन इलेक्ट्रिकल का कोर्स कर रहे थे। दोनों ही इंडिगो प्लेन से 19 मार्च को दिल्ली पहुंचे थे। इसी दिन दोनों बस में सवार होकर दिल्ली से अंबाला-पंजाब पहुंचे थे। इसके बाद गुरप्रीत खुद इलाज के लिए जिला नागरिक अस्पताल में आया और 26 मार्च को उसे आइसोलेट किया गया। जबकि अमन कई दिनों से इलाज के लिए इधर-उधर भटकता रहा। नजदीक के एक क्लीनिक में दवा लेने गया। जहां डाक्टर ने उसे जिला नागरिक अस्पताल में इलाज के लिए बोला क्योंकि उसे कोरोना के लक्षण नजर आ रहे थे। लेकिन इसके बाद भी अमन ने अनसुना कर दिया। वह इधर-उधर केमिस्ट शॉप व क्लीनिक से दवा लेता रहा। इस तरह कई लोग उसके संपर्क में भी आए। अमन का सैंपल लेकर पीजीआई भेज दिया गया है।
सभी पर मंडराए संकट के बादल
गुरप्रीत के पॉजिटिव आने के बाद अब अमन सैनी और उसके परिजनों पर भी खतरा मंडरा गया है। इसीलिए स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पूरे परिवार को होम क्वारंटीन कर दिया है। वहीं जिस क्लीनिक में अमन दवा लेने गया था उसे भी आगामी आदेशों तक बंद कर दिया गया है। वहीं न्यू दुर्गा नगर एरिया में अमन के आसपास के लोगों को भी अलर्ट कर दिया गया है क्योंकि खतरा अब इनपर भी मंडरा गया है।
स्वास्थ्य विभाग की टीम ही लेकर आई अस्पताल
सब कुछ साफ होने के बावजूद अमन अपने आप अस्पताल में नहीं गया। जब स्वास्थ्य विभाग की टीम को मीडिया के माध्यम से अमन की सूचना दी गई तो विभाग की टीम उसके घर पहुंची और उसे जिला नागरिक अस्पताल में आइसोलेट किया गया।
कुरुक्षेत्र पीपली बस स्टैंड पर खाया खाना
दोनों दोस्तों अमन और कोरोना से पीड़ित गुरुप्रीत ने कुरुक्षेत्र में प्लाईओवर के नीचे रात 9 बजे खाना खाया। इसी बस के जरिए यह 10 बजे अंबाला कैंट पहुंचे। इसके बाद गुरुप्रीत अपनी बुआ के घर शाहपुर मछौंडा नजदीक सैनी धर्मशाला के पास रुका। इस दौरान वह अपने रिश्तेदार भाई विनोद के साथ सोया। अगले दिन गुरुप्रीत पंजाब में अपने घर रामनगर पहुंचा। उसके पिता मजदूर हैं। बड़ी बहन शादीशुदा है। इनके घर में सामान्य बाथरूम है जिसमें सभी नहाते हैं। गुरूप्रीत को बुखार के साथ दस्त की शिकायत हुई है।
corona virious
corona virious- फोटो : Ambala
... और पढ़ें

निजामुद्दीन से आए 40 लोगों ने बढ़ाई अंबालावासियों की दिक्कतें, पांच संदिग्ध मिले

अंबाला। निजामुद्दीन जामा मस्जिद में हंगामे के बाद मंगलवार को वहां से करीब 40 लोग अंबाला पहुंचे। इनमें सर्वाधिक 16 लोग महाराष्ट्र से हैं। इसके अतिरिक्त 11 नेपाल, तमिनलाडू के 10 और आसाम से एक व श्रीलंका से दो व्यक्ति शामिल रहे। इनमें से महाराष्ट्र के भिवांडी का एक, नेपाल के दो और श्रीलंका के एक व्यक्ति में कोरोना के संदिग्ध लक्षण पाए गए। इन सभी को आइसोलेट कर दिया गया है जबकि शेष को क्वारंटीन कर दिया गया है। एक साथ बाहरी 40 लोगों के अंबाला में पहुंचने से जिलेवासियों की दिक्कतें बढ़ गई हैं। वहीं प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट पर है।
अंबाला में अभी तक लिए 49 सैंपल
अंबाला में अभी तक कुल 49 सैंपल लिये गए हैं। इनमें से तीन दिन पहले लिए गए दो सैंपल रिजेक्ट होने के बाद उन्हें दोबारा से मंगलवार को लिया गया। इन्हें रोहतक पीजीआई भेजा गया है जबकि पांच नए सैंपल मंगलवार को लिए गए। एक सैंपल पॉजिटिव पाया गया है जोकि पंजाब का युवक है। वह अब सुटेबल हैं। करीब 40 सैंपल फेल होने से प्रशासन ने राहत की सांसे ली हैं। कोरोना पॉजिटिव युवक के परिजन और उसका दोस्त भी नेगेटिव पाए गए हैं जबकि दो की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है।
सीएमओ की अपील, किसी भी हाल में घर से न निकलें
सीएमओ डॉ. कुलदीप कुमार ने लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि मीडिया के साथ स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टरों व कर्मचारियों और पुलिस की मजबूरी है कि उन्हें आमजन की सुरक्षा और व्यवस्था के लिए घर से बाहर निकलना पड़ रहा है लेकिन जनता से अनुरोध है कि वह किसी भी हाल में घर से बाहर न निकलें। वरना पुलिस आपको घेरे न घेरे लेकिन वायरस ने घेर लिया तो पूरे परिवार के लिए मुसीबत खड़ी हो सकती है।
... और पढ़ें
corona virious corona virious

होम क्वारंटीन घरों से निकलने वाला बॉयोमेडिकल वेस्ट सेहतमंदों के लिए खतरा

अशोक अंटवाल
अंबाला। होम क्वारंटीन घरों से निकलने वाला बॉयोमेडिकल वेस्ट दूसरे लोगों की जान के लिए खतरा बन सकता है। इस खतरे से अब नगर निगम व स्वास्थ्य विभाग के रुद्राक्ष एजेंसी कर्मचारी मिलकर निपटेंगे। इस वेस्ट के डिस्पोजल के लिए हरियाणा स्टेट पोल्यूशन कंट्रोल बोर्ड की ओर से भी गाइडलाइन जारी की गई है। कोई स्वस्थ व्यक्ति बॉयोमेडिकल वेस्ट के संपर्क में न आए इसलिए बेहद सावधानी से इसका डिस्पोजल किया जाएगा। इसके लिए होम क्वारंटीन घरों से वेस्ट उठाने का काम शुरू हो गया है। हालांकि पहले कूड़ा न उठ पाने की वजह से बेहद लोग परेशान थे।
ट्रेंड कर्मचारी ही उठाएंगे घरों से वेस्ट
1006 परिवारों को किया गया होम क्वारंटीन
अभी तक प्रशासन की ओर से विदेश से लौटे 1006 नागरिकों को होम क्वारंटीन किया गया है। ज्यादातर नागरिकों के साथ इनके परिजन भी होम क्वारंटीन की पाबंदिया झेल रहे हैं। होम क्वारंटीन होने के कारण परिवार के किसी भी सदस्य को घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं है। न ही कोई व्यक्ति ऐसे परिवार से मिल सकता है। ऐसे घरों के बाहर प्रशासन की ओर से होम क्वारंटीन के पोस्टर लगाए गए हैं ताकि कोई भी अंदर रहने वाले लोगों के संपर्क में न आ सके। इन परिवारों के कूड़ा तक उठाने पर पाबंदी लगाई है। ऐसे में अब प्रशासन की ओर से इन घरों से कूड़ा व बॉयोमेडिकल वेस्ट उठाने की रणनीति बनाई गई। इसके लिए पहले हरियाणा पोल्यूशन कंट्रोल बोर्ड की गाइडलाइन का संजीदगी से आंकलन किया गया। फिर कूड़ा उठाने वाले कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी गई।
हर घर में जाएंगे कर्मचारी
कूड़ा न उठ पाने की वजह से पिछले कई दिन से होम क्वारंटीन परिवार लगातार शिकायतें कर रहे थे। इन शिकायतों के समाधान के लिए प्रशासन ने तुरंत आदेश जारी किए गए। बीते रोज बॉयोमेडिकल वेस्ट को उठाने के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ नगर निगम व रुद्राक्ष कंपनी के कर्मचारियों की ट्रेनिंग हुई। क्योंकि यह कूड़ा स्वस्थ्य व्यक्ति की सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है इसलिए खुले में फेंकने की बजाय इसका डिस्पोजल भी बॉयो मेडिकल वेस्ट की तरह ही होगा। ट्रेनिंग प्रोग्राम में स्वास्थ्य विभाग की ओर से एसएमओ डॉ. राजिंद्र राय, सेनिटरी इंस्पेक्टर राकेश कुमार, रुद्राक्ष इंवायरो केयर के पुनीत चावला समेत कई अधिकारी भी मौजूद रहे।
सभी घरों से बॉयोमेडिकल वेस्ट उठाने का काम शुरू हो गया है। इसके लिए कर्मचारियों को विशेष ट्रेनिंग गई है ताकि इस कूड़े से किसी को नुकसान न हो। ट्रेंड कर्मचारी ही होम क्वारंटीन घरों से कूड़ा उठाएगा। इसमें संदेह नहीं कि इस कूड़े के कलेक्शन में लापरवाही बेहद भारी पड़ सकती है।
-डॉ. सुखप्रीत सिंह, प्रशासनिक ऑफिसर, सीएमओ ऑफिस
... और पढ़ें

अप्रैल से जून तक जिले के 18 हजार 404 उज्ज्वला परिवारों को मिलेगा मुफ्त सिलेंडर

अप्रैल से जून तक जिले के 18 हजार 404 उज्ज्वला परिवारों को मिलेगा मुफ्त सिलेंडर आईओसी, बीपीसी और एचपीसी एजेंसियों ने की शुरुआत, खातों में एडवांस में डाली जाएगी सिलेंडर की राशि माई सिटी रिपोर्टर अंबाला। उज्जवला योजना के तहत घरेलू रसोई गैस सिलेंडर उपभोक्ताओं के लिए राहत भरी खबर है। इन सभी उपभोक्ताओं को अप्रैल से जून तक निशुल्क रसोई गैस सिलेंडर बीपीसी, आईओसी और एचपीसी एजेंसी उपलब्ध करवाएंगे। कोरोना वायरस के चलते आई विपदा में इन लोगों की मदद के लिए कंपनियों ने भारत सरकार के आह्वान पर यह कदम उठाया है जिले में 18 हजार 404 उज्ज्वला लाभार्थियों को इससे सीधे तौर पर लाभ होगा। दरअसल उज्ज्वला के लाभार्थियों के खातों में यह कंपनियां सिलेंडर भरवाने की अग्रिम राशि इनके खातों में डाल दी जाएगी ताकि यह इस राशि से सिलेंडर भरवा सकें। ... और पढ़ें

डाक विभाग ने शुरू की मेल मोटर सेवा, 5 मेट्रो शहरों तक भी पहुंचेंगी सेवा

राधा स्वामी सत्संग भवन में ठहरे प्रवासी
डाक विभाग ने शुरू की मेल मोटर सेवा, 5 मेट्रो शहरों तक भी पहुंचेंगी सेवा माई सिटी रिपोर्टर अंबाला।  हरियाणा डाक परिमंडल ने कोरोना में आवश्यक सेवाएं देने के लिए मेल मोटर सेवा शुरू की है। इसके जरिए प्रदेश के डाकघरों से रजिस्टर्ड /स्पीड पोस्ट/पंजीकृत पार्सल व साधारण डाक जिसका वितरण हरियाणा के अधीनस्थ डाकघरों के माध्यम से होना है किया जाएगा। हरियाणा परिमंडल के मुख्य पोस्ट मास्टर जनरल रंजू प्रसाद ने बताया कि इसके अतिरिक्त 5 मैट्रो शहर दिल्ली, चेन्नई, कोलकता, मुंबई एवं बैंगलोर के लिए भी डाक भेजने के लिए भी विशेष व्यवस्था कर दी गई है। जो भी ग्राहक अपनी आवश्यक वस्तुएं हरियाणा में ही पंजीकृत/स्पीड़ पोस्ट/पंजीकृत पार्सल के माध्यम से वितरण करवाना चाहते हैं वह अपने नजदीकी डाकघर जाकर सेवा का लाभ उठा सकते हैं। लेकिन इसके लिए सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें ताकि कार्य प्रभावित न हो। उधर डाक विभाग के सभी कर्मचारियों को रोजाना इस्तेमाल के लिए उचित मात्रा में मास्क व रबड़ के दस्ताने उपलब्ध कराए गए हैं। सभी डाकखाने के मुख्य द्वार पर ग्राहकों, एजेंटो, खाता धारकों के इस्तेमाल के लिए सैनिटाईजर रखवाया गया है। ... और पढ़ें

राधा स्वामी सत्संग भवन मैं लोगों का सैनिटेशन

हरियाणाः नर्स ने इस्तीफा भेज कोरोना की जंग में खड़े किए हाथ, लाइसेंस रद्द करने का प्रस्ताव गया

कोरोना महामारी में एक ओर जहां डाक्टर और अन्य मेडिकल स्टाफ जी-जान से जुटा हैं, वहीं पंजोखरा साहिब पीएचसी में कार्यरत एक नर्स ने कार्य करने में असमर्थता जताते हुए इस्तीफा भेज दिया है। मामले में सीएमओ ने सख्त रुख अपनाते हुए संबंधित नर्स का लाइसेंस रद करने का प्रस्ताव भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार सोमवार को पंजोखरा साहिब पीएचसी में कार्यरत नर्स बबीता ने कोरोना महामारी के बीच काम करने से मना कर दिया। न केवल मना किया बल्कि अपना इस्तीफा विभाग को भेज दिया। जब इस बात का पता सीएमओ कुलदीप कुमार को चला तो उन्होंने महिला नर्स का इस्तीफा मंजूर करते हुए नर्स के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

महामारी एक्ट के तहत उन्होंने एफआईआर करवाने के स्थान पर महिला नर्स का लाइसेंस रद करने का प्रस्ताव काउंसिल को भेजने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि पंजोखरा साहिब पीएचसी में कार्यरत नर्स ने इस्तीफा भेजा है, जिसे स्वीकार कर लिया है, लेकिन इस आपदा के समय इस्तीफा भेजना शर्मनाक है। नर्स के खिलाफ एफआईआर तो नहीं करवा रहे, लेकिन नर्स का लाइसेंस रद करने का प्रस्ताव भेजा जाएगा।

पहले भी दो डॉक्टरों ने किया था इंकार
तीन दिन पूर्व भी दो डॉक्टरों ने काम करने से इंकार कर दिया था, लेकिन जब सीएमओ ने सख्ती दिखाई तो दोनों काम पर लौट गए। अब दोनों निष्ठा से अपनी सेवाएं भी दे रहे हैं।
... और पढ़ें

कोरोना से निपटने के लिए ठीकरी पहरा लगाने के आदेश 

जिलाधीश अशोक कुमार शर्मा ने कोरोना वायरस-19 महामारी की रोकथाम के लिये दी पंजाब विलेज एंड समाल टाउन पैट्रोल एक्ट 1918 की धारा 3 (1) के तहत जिले की सभी ग्राम पंचायतों / स्थानीय निकायों को ठीकरी पहरा लगाने के आदेश जारी किये हैं। आदेश 14 अप्रैल तक प्रभावी रहेंगे। आदेशों में कहा कि जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी, तहसीलदार, उपतहसीलदार, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी, ग्राम पंचायत, स्थानीय निकाय बेहतर समन्वय के साथ इन आदेशों की पालना करवाना सुनिश्चित करें। इसके साथ-साथ सभी थाना प्रबंधक इस मामले में नगर निगम/नगर परिषद, नगर पालिका/ग्राम पंचायतों से संपर्क बनाये रखेंगे। इन आदेशों की अनुपालना न करने पर अधिकारियों के खिलाफ भी नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।  ... और पढ़ें

सेवानिवृत्ति वाले अध्यापकों-प्राध्यापकों की सेवा वृद्धि की मांग

सेवानिवृत्ति वाले अध्यापकों-प्राध्यापकों की सेवा में वृद्धि की एसोसिएशन ने उठाई मांग संवाद न्यूज एजेंसी अंबाला। स्कूल लैक्चरार एसोसिएशन, सलाह हरियाणा ने 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो रहे विभाग के शिक्षकों की सेवाएं अन्य विभागों के कर्मचारियों की तरह बढ़ाने की मांग को लेकर चीफ सैक्रेटरी को एक पत्र भेजा है। चीफ सैक्रेटरी को भेजे पत्र में सलाह के राज्य मीडिया प्रभारी गुरदीप सैनी ने कहा कि पूरे देश में कोरोना रूपी महामारी के कारण कोहराम मचा हुआ है। विभिन्न विभागों के कर्मचारी इस महामारी से पार पाने के लिए ड्यूटी दे रहे हैं। सैनी ने बताया कि ड्यूटी दे रहे विभिन्न विभागों के काफी कर्मचारी 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो रहे हैं, उनकी सेवाएं 30 अप्रैल तक बढ़ाई गई हैं। इसमें ए, बी, सी, डी चारों गु्रप के कर्मचारी शामिल हैं। ... और पढ़ें

प्रदेश की सभी जेलों में नियुक्त होंगें एग्जीक्यूटिव मजिस्ट्रेट, मौके पर ही करेंगे रिहाई के आर्डर

उमेश भार्गव, अंबाला। प्रदेश की सभी जिला जेलों में अब एग्जीक्यूटिव मजिस्ट्रेट नियुक्त किए जाएंगे। ऐसे बंदी जिनकी रिहाई संभव है उनके लिए यह ईएम मौके पर ही सुनवाई के बाद आर्डर जारी करेंगे। इससे पहले इन सभी से सियोरिटी ब्रांड भी लिए जाएंगे। गृह सचिव जेल ने सोमवार को यह आदेश जारी किए। आदेशों में साफ किया गया है कि सभी जिलों में जिलाधीश (डीसी) अपने स्तर पर एक एग्जीक्यूटिव मजिस्ट्रेट जिला जेल के लिए नियुक्त करेंगे। इन एक्जीक्यूटिव मजिस्ट्रेट में तहसीलदार, बीडीपीओ या एसडीएम नियुक्त किया जा सकता है। इन आदेशों के बाद प्रदेश में सैकड़ों बंदियों की रिहाई की उम्मीद जग गई है। कोरोना वायरस के चलते कैदियों और बंदियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह कदम उठाया गया है। अंबाला सेंट्रल जेल से अभी तक कुल 106 हावालातियों को रिहा किया जा चुका है। इसके अलावा दो कैदी भी रिहा चुके हैं। सभी हवालातियों को कोर्ट के आदेशों पर रिहा किया गया है। रिहा होने वालों में वह हावालाती शामिल हैं जो सात साल या इससे कम की सजा काट रहे थे। वहीं जो दो कैदी रिहा हुए हैं उन्हें रिहा करने के आदेश सोनीपत जिला मजिस्ट्रेट ने जारी किए थे। अभी तक अंबाला की सेंट्रल जेल में करीब 1350 कैदी और बंदी थे। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us