विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

हरियाणा: रेवाड़ी में फंसे 13500 मजदूर, रोडवेज ने 100 बसें चलवाईं, यूपी के कोने-कोने तक जाएंगी

देशभर में 21 दिनों का लॉकडाउन है। कोरोना के खिलाफ दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी जंग लड़ रही है।

29 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

कुरुक्षेत्र

रविवार, 29 मार्च 2020

सरस्वती नदी से सफाई के दौरान मिला दस किलो वजनी मिसाइलनुमा बम, मचा हडकंप

सफाई के दौरान सरस्वती नदी से जिंदा बम मिलने से शहर में हड़कंप मच गया। नदी से बम मिलने की सूचना शहर में आग की तरह फैल गई। बम करीब 10 किलो वजनी बताया जा रहा है। इसकी सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने बम को अपने कब्जे में लेकर उसे शहर से बाहर कुरुक्षेत्र रोड पर डंपिंग जोन के पास रखवा तथा इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दी। बताया जा रहा है पालिका के सफाई सरस्वती नदी की साफ-सफाई कर रहे थे। इसी दौरान सफाई कर्मचारियों को मुलतानी कालोनी फौजी प्लाट के पास नदी से एक दस किलो वजनी मिसाइलनुमा वस्तु बरामद हुई, जिससे सफाई कर्मचारियों के होश उड़ गए तथा उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना पाकर थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने उसे कुरुक्षेत्र रोड पर शहर से बाहर डंपिंग जोन में रखवा तथा उच्चाधिकारियों व बम निरोधक दस्ते को मामले की सूचना दी। खबर लिखे जाने तक बम निरोधक दस्ता बम को निष्क्रिय करने के लिए पहुंचा नहीं था।
बम फटने से हो सकती थी भारी तबाही
थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार ने बताया कि बम का वजन करीब 10 किलो हैं। फटने पर यह बम भारी तबाही मचा सकता था। बम को नष्ट कराने के लिए बम निरोधक दस्ते को अंबाला से बुलाया गया हैं। बम के मिलने से जहां पूरे शहर में दहशत फैल गई। यहां बता दे पिहोवा में 22 मार्च रविवार से विश्व प्रसिद्ध चैत्र चौदस मेला शुरू होना था, जिसे प्रशासन ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए पहले ही रद कर दिया था। इस मेले में करीब पांच लाख से अधिक श्रद्धालु देश के हर कोने से पहुंचते हैं। चैत्र चौदस मेले पर चौदस का स्नान बेहद ही महत्वपूर्ण होता हैं। ऐसे में पिहोवा मेला रद होने से एक बड़ा हादसा टल गया।
थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार ने बताया कि सरस्वती नदी से मिला बम मिसाइलनुमा हैं। इसका अगला हिस्सा गोली की भांति ही नुकीला हैं। सफाई कर्मचारियों को यह बम नदी में गंदगी व कीचड़ से सना हुआ था जो करीब दस किलो वजनी हैं। फिलहाल पुलिस ने बम को कुरुक्षेत्र रोड पर शहर से दूर डंपिंग जोन क्षेत्र में रखवा दिया हैं। पुलिस के कर्मचारी उस क्षेत्र पर नजर रखें हुए हैं। बम को निष्क्रिय करने के लिए बम निरोधक दस्ते को सूचना भेजी गई हैं उनके आने के बाद ही बम को निष्क्रिय किया जाएगा। खबर लिखे जाने तक बम निरोधक दस्ता पहुंचा नहीं था।
... और पढ़ें

कोरोना को मात देने के लिए देश में पहली बार पूर्णत: बंद रही ट्रेनें और बसें

कुरुक्षेत्र। कोरोना वायरस को मात देने के लिए प्रधानमंत्री के आह्वान पर छेड़ी गई जंग में सभी अपनी-अपनी भूमिका निभाते दिखाई दिए। कुरुक्षेत्र और पिहोवा डिपो की करीब 143 बसों का पहिया जाम रहा। वहीं कुरुक्षेत्र जंक्शन पर कने रुवाली करीब 37 ट्रेनों में से 35 ट्रेनों का ठहराव भी पूर्णत: बंद रही। हालांकि शाम चार बजे सच खंड एक्सप्रेस और पश्चिम एक्सप्रेस ट्रेन कुरुक्षेत्र जंक्शन पर रुकी, जिनमें से करीब 10-12 यात्री उतरे। उन्हें रेलवे पुलिस ने स्टेशन से तत्काल भेज दिया। इनमें कुछ साधु संत भी थे, जो ब्रह्मसरोवर की ओर रवाना हुए। इस दौरान रेलवे पुलिस एवं रेलवे कर्मचारियों द्वारा सतर्कता बरती जा रही थी, ताकि जनता कर्फ्यू पूर्णत: सफल रहे। स्टेशन अधीक्षक एसएन गुप्ता ने बताया कि कुरुक्षेत्र जंक्शन पर 37 गाड़ियों का ठहराव होते है, जिनमें से 25 मेल एक्सप्रेस हैं और 12 पैसेंजर गाड़ियां हैं। इसके अलावा शाहाबाद क्षेत्र में प्रशासन की नजर मुख्य रूप से स्टेशन व धार्मिक स्थानों पर रही। नायब तहसीलदार परमिंद्र सिंह की टीम ने रेलवे स्टेशन पर कईं चक्कर लगाए और वहां खड़े भांग के पौधों की सफाई करवाने के लिए कहा। इसके अलावा आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। उन्होंने सभी से अपील की कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिशा निर्देशाों पर चलते हुए कारोना को देश से बाहर भगाने में मदद करें।
28 वर्ष की सर्विस में पहली बार देखा ऐसा कर्फ्यू: रमाकांत शर्मा
रेलवे कर्मचारी रमाकांत शर्मा ने बताया कि वह पिछले 28 वर्षों से रेलवे में सेवारत हैं, लेकिन आज तक ऐसा कर्फ्यू नहीं लगा, जब देशभर की ट्रेनें बंद की गई हों। उन्होंने कहा कि जब वर्ष 2016 में जाट आरक्षण के दौरान कर्फ्यू लगा था, तब भी मात्र कुछ लाइनों पर ट्रेनें रोकी गई थी।
देशहित में सभी ने दिया योगदान : सचिन कुमार
रेलवे के स्पेशल टिकट एग्जामिनर सचिन कुमार ने बताया कि साढ़े पांच वर्ष की सर्विस में उन्होंने पहला ऐसा अनोखा कर्फ्यू देखा है कि बिना किसी डर भय के लोग इसका पालन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी देशवासी इस महामारी का डटकर मुकाबला करें।
... और पढ़ें

जीत जाएंगे हम..., कुरुक्षेत्र कर रहा डटकर मुकाबला, नहीं आया अभी तक कोई कोरोना पॉजिटिव

नरेंद्र शर्मा
कुरुक्षेत्र। जीत जाएंगे हम..., यह पंक्ति कुरुक्षेत्र वासियों पर स्टीक बैठ रही है। कुरुक्षेत्र कोरोना वायरस से डटकर मुकाबला कर रहा है, अभी तक कुरुक्षेत्र में कोई कोरोना पॉजिटिव मामला सामने नहीं आया। अब तक स्वास्थ्य विभाग चार कोरोना संदिग्ध मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेज चुका है, लेकिन गनीमत रही कि कोई भी मरीज पॉजिटिव नहीं मिला। इसके साथ ही कोरोना वायरस से निपटने के लिए जिला प्रशासन सतर्कता बरते हुए है। जिला स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जो लोग विदेश से कुरुक्षेत्र पहुंचे हैं, उनके संपर्क में आने वाले 343 लोगों को आइसोलेशन पर रखा गया है। यही नहीं, मथाना सीएचसी के अंतर्गत भी करीब 10 लोगों को उनके ही घरों में आईसोलेशन पर रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम उक्त लोगों पर निगरानी रखी हुई है। उक्त लोगों के घरों पर स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा नोटिस चस्पाया गया है और हिदायत दी गई हैं कि इन मकानों में प्रवेश वर्जित है, ताकि समय रहते स्थिति पर कंट्रोल किया जा सके। वैसे कोरोना वायरस के चलते दुनियाभर में दहशत बनी हुई है, लेकिन कुरुक्षेत्र में राहत देने वाली खबर सामने आई है। जिस मरीज का गत दिवस जिला स्वास्थ्य विभाग ने सैंपल लेकर जांच के लिए लैब भेजा था, उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। रविवार को कुरुक्षेत्र में बिरला मंदिर के निकट एक साधुनुमा व्यक्ति को सांस की दिक्कत के चलते एलएनजेपी अस्पताल पहुंचाया गया। इसके अलावा शाहाबाद क्षेत्र में सिंगापुर से गांव दाऊमाजरा में पहुंचे दो व्यक्तियों की विशेष जांच करवाई गई। एसएमओ रूपंदिर सैनी ने बताया कि दोनों व्यक्तियों की जांच की गई है, इन्हें किसी तरह की दिक्कत नहीं है।
दुबई से पहुंचे दो लोग गायब
शनिवार रात को करीब दस बजे गुमटी गांव से दो लोग शाहाबाद के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे और उन्होंने बताया कि वह दुबई से लौटे हैं और वह अपना कोरोना वायरस की जांच करवाना चाहते हैं, लेकिन यहां तैनात चिकित्सक ने उक्त व्यक्तियों को यह कहकर अस्पताल से वापस भेज दिया कि शाहाबाद के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कोरोना टेस्ट की व्यवस्था नहीं है। इसलिए वह घर पर जाएं और उनके घर पर ही उनकी जांच की जाएगी, लेकिन उसके बाद वह दोनों व्यक्ति गुमटी में लोट गए, लेकिन समाचार लिखे जाने तक स्वास्थ्य विभाग की टीम वहां तक नहीं पहुंची थी।
अस्तपाल में दाखिल महिला की रिपोर्ट आई नेगेटिव
सिविल सर्जन डा. सुखबीर सिंह ने कहा कि एलएनजेपी अस्पताल में 21 मार्च को एक कोरोना वायरस से संदग्धि मरीज को दाखिल किया गया था। इस मरीज का सैंपल जांच के लिए भेजा गया था। इसकी जांच रिपोर्ट रविवार को अस्तपाल में आ गई है और यह रिपोर्ट नेगिटीव पाई गई है। सीएमओ ने कहा कि कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं है, बल्कि सावधानियां बरतने की जरूरत है।
... और पढ़ें

अब बीपीएल कार्ड के आधार पर नहीं, बल्कि जरुरत के आधार पर मिलेंगा राशन

कुरुक्षेत्र। लॉकडाउन के चलते लोग राशन के लिए भटकने को मजबूर हो रहे हैं। विशेषकर सबसे ज्यादा परेशानी प्रवासी लोगों को उठानी पड़ रही है। जिलेेेभर में प्रवासी लोगों की एक बड़ी तादाद हर रोज राशन के लिए भटक रही है। हालांकि कई धार्मिक व सामाजिक संस्थाएं ऐसे लोगों को भोजन व राशन बांटने का काम भी कर रही हैं। इसके बावजूद कई लोग भोजन व राशन की किल्लत के चलते अपने गृह क्षेत्र में पलायन करने को मजबूर हो रहे हैं। शनिवार को खेलमंत्री संदीप सिंह ने किसान विश्राम गृह में अधिकारियों को प्रवासी लोगों को राशन उपलब्ध कराने संबंधी दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कोरोना वायरस से बचाव संबंधी फिडबैक भी हासिल की। खेलमंत्री संदीप सिंह ने बताया कि किसी प्रवासी को राशन संबंधी परेशानी नहीं आने दी जाएगी बल्कि उनको घर पर ही खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए स्थानीय प्रशासन की ओर से व्यवस्था की जा रही है। स्थानीय प्रशासन टीम बनाकर जरूरतमंदो को राशन डोर टू डोर राशन वितरित करेंगे। उन्होंने बताया कि बीपीएल कार्ड के आधार पर नहीं, बल्कि जरूरत के आधार पर उनकी पहचान करके उन तक राशन पहुंचाना जाएगा। दानी सज्जन किसान रेस्ट हाउस में खाद्य सामग्री पहुंचाएं। यहां से एक सिस्टम बनाकर इस सामग्री को सरकारी कर्मचारियों और टीमों के जरिए जरूरतमंद लोगों तक पहुंचाया जाएगा। यह निर्णय लिया गया है कि सारा राशन एसडीएम, तहसीलदार और नगरपालिका सचिव की देखरेख में एक जगह पर एकत्रित किया जाए और यहां से सूची बनाकर इसे प्रत्येक जगह पहुंचाना सुनिश्चित किया जाए ताकि समान रूप से सभी जरूरतमंद लोगों तक पहुंच सके। पिहोवा, शाहबाद, लाडवा समेत क्षेत्र के लोगों तक भोजन और जरूरी सामान पहुंचाने की व्यवस्था कर दी गई है। इस मौके पर एसडीएम सोनू राम, तहसीलदार चेतना चौधरी, पालिका सचिव अंकुश पराशर, बीडीपीओ नरेंद्र, बिक्रमजीत सिंह, विकास राणा, अक्षय नंदा, गुरमेहर विर्क, गुरप्रीत कंबोज, प्रीतम सिंह मल्ली, जोगिंद्र सिंह बेदी सहित अन्य मौजूद रहे।
डेरों को सैनिटाइज करवाएं सरपंच
खेलमंत्री ने सरपंचों से अपील करते हुए कहा कि अपने गांवों को सैनिटाइज करने के बाद आसपास के डेरों की तरफ भी ध्यान दें। उनकी सुरक्षा और व्यवस्था की जिम्मेदारी भी पंचायतों और सरकार की है। जिन पंचायतों को छिड़काव के लिए दवा हासिल करने में कोई दिक्कत आ रही है वे अपने खंड के बीडीपीओ से संपर्क करके उनके जरिए दवा प्राप्त कर सकते हैं। बचाव कार्य के लिए उन्होंने अपने स्तर पर निजी टीमों का गठन भी किया है। खेल विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को भी लोगों की सेवा में तैनात किया गया है।
आइसोलेशन वार्ड का लिया जायजा
खेलमंत्री संदीप सिंह ने सरकारी अस्पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड का भी जायजा लिया। उन्होंने बताया कि सरकारी अस्पताल के अलावा सरस्वती मिशन अस्पताल, संत बाबा ईशर सिंह चैरिटेबल अस्पताल में भी आइसोलेशन वार्ड स्थापित किए गए हैं। इसके अलावा प्राइवेट स्कूलों को भी सूची में रखा गया है। यदि जरूरत पड़ी तो यहां भी सरकार व्यवस्था कर सकती है। खेल मंत्री ने कहा कि उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से बात करके जिला कुरुक्षेत्र के अस्पतालों द्वारा मांगी गई सेवाओं की सूची उन तक पहुंचा दी है।
370 लोगों को किया आइसोलेट
संदीप सिंह ने बताया कि पिहोवा में 464 लोगों की जानकारी उपलब्ध हुई है जो विदेशों से यहां पहुंचे हैं। उनमें से 370 को ट्रेस करके उनके घरों पर ही आइसोलेट किया गया है। शेष को भी घरों पर रहने की सलाह दी गई है। यदि कोई व्यक्ति सरकार के आदेशों को मानने में आनाकानी करता है तो प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग पुलिस की मदद लेकर नियमों की पालना सुनिश्चित करें।
जरूरतमंद परिवारों तक पहुंचाया राशन
खेल मंत्री संदीप सिंह ने टिब्बा फार्म पर झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले जरूरतमंद परिवारों में राशन और खाद्य सामग्री के बैग वितरित किए। उन्होंने कहा कि वे अपनी बचत राशि से जल्द ही 250 परिवारों के लिए खाद्य सामग्री के बैग यहां पहुंचाएंगे। खेल मंत्री ने ब्यास धर्मशाला में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से भिजवाए जा रहे पके हुए भोजन के पैकेट का वितरण भी जरूरतमंद लोगों में किया। स्टेट बैंक के चीफ मैनेजर एच एस बिंद्रा, विशांक गुप्ता, अंकित गर्ग व तरलोचन आदि ने बताया कि बैंक द्वारा प्रतिदिन 100 जरूरतमंद लोगों तक भोजन के पैकेट पहुंचाने की तैयारी की गई है। जब तक लॉक डाउन रहेगा, बैंक का यह प्रयास जारी रहेगा। उधर, शिव शिक्षा सीनियर सेकेंडरी स्कूल के एमडी सोहन लाल मित्तल व राजीव मित्तल ने दस हजार रुपये की सहायता का ड्राफ्ट प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा कराया।
जिला प्रशासन द्वारा निर्धारत खाद्य सामग्री का रेट दाम (रुपये प्रति किलो में)
हरी दाल 100 से 110
-तूर दाल 90 से 100
-मूंग दाल साबूत 100 से 105
-मूंग दाल धूली हुई 115 से 120
-उडद दाल धूली हुई 110 से 115
-उडद दाल 95 से 105
-मश्री दाल 70 से 80
-चना दाल 65 से 75
-चीनी 35 से 39
-चावल परमल 30 से 35
-चावल सरबती 40 से 42
-आटा 25 से 27
-रिफाइंड ऑयल 90 से 100
- नमक 18 रुपये प्रति किलो
-हल्दी 140 से 160
-मिर्च 200 से 240
-जीरा 200 से 220
-राजमा 90 से 115
-काला छोले 55 से 65
-बेसन 70 से 80
-मैदा 25 से 27
-सरसो का तेल 95 से 105
... और पढ़ें

करोना वायरस के बारे आमजन को जागरूक करेगा प्रचार वाहन

विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि थानेसर के सभी सेक्टरों, वार्डों व ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को कोरोना वायरस से बचाव के प्रति विभिन्न माध्यमों से जागरूक किया जा रहा है। इसी कड़ी में जन संपर्क विभाग द्वारा थानेसर शहर व ग्रामीण क्षेत्र में आमजन को जागरूक करने के लिए प्रचार किया जा रहा है। यह प्रचार वाहन थानेसर शहर व सभी गांवों में जाकर आमजन को कोरोना से बचाव के लिए किए जाने वाले सभी उपायों के बारे में विस्तार से जानकारी देगा और इस वायरस की रोकथाम के लिए जागरूक करेगा। उन्होंने कहा कि सूचना, जन संपर्क एवं भाषा विभाग की तरफ से कोरोना वायरस से बचाव के प्रति सावधानियां बरतने को लेकर तैयार की गई ऑडियो को थानेसर नगर परिषद के 70 टिप्परों पर चलाया जा रहा है। सहायक सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी डा. नरेंद्र सिंह ने कहा कि विभागीय कर्मचारी गांव-गांव जाकर आमजन को कोरोना से बचाव व लोगों को अपने घरों में रहने के प्रति जागरूक कर रहे है।
थानेसर हलका में जरूरतमंद लोगों को मिलेगा खाना : सुधा
विधायक ने कहा कि थानेसर हलका में जरूरतमंद लोगों को खाना वितरित किया जाएगा। इसके लिए समाज सेवी संस्थाओं का सहयोग मांगा जा रहा है, कोई भी समाजसेवी संस्था खाद्य साम्रग्री देने के लिए संपर्क कर सकती है और जिन लोगों को खाने की जरूरत है वह भी दूरभाष नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। इस सेवा के लिए हेल्पलाइन नंबर 92157-51664, 94169-11627 व 79880-09692 पर सूचना दे सकता है। बुधवार को गुरुद्वारा साहिब से अनुरोध करके 500 लोगों के लिए खाना तैयार किया गया और वितरित भी किया गया।
200 साधुओं को भेजा धर्मशालाओं में
उपायुक्त धीरेंद्र खडगटा के आदेशानुसार ब्रहमसरोवर पर और शहर में बैठे करीब 200 साधुओं को अलग-अलग धर्मशालाओं में भेजा गया है। इन सभी साधुओं को रैडक्रास सोसायटी के माध्यम से खाना वितरित किया गया है। सचिव कुलबीर मलिक ने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए सभी साधु धर्मशालाओं में जगह ले और कोई भी बाहर ना घूमें। उन्होंने कहा कि बुधवार को ब्रह्मसरोवर व आसपास के क्षेत्र से 200 साधुओं को धर्मशालाओं में भेजा गया है और उनका खाना भी उपलब्ध करवाया गया है।
स्लम बस्तियों में खाद्य सामग्री बांटी
रेडक्रास के सचिव कुलबीर मलिक ने कहा कि शहर में कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन किया गया है। इसलिए जरूरतमंद लोगों के खाने की व्यवस्था समाजसेवी संस्थाओं के माध्यम से प्रशासन द्वारा उपलब्ध करवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि अगर शहर की कोई भी सामाजिक, धार्मिक संस्थान या नागरिक किसी भी प्रकार की खाद्य सामग्री से संबंधित मदद करना चाहता है, तो वह जिला रेडक्रास कार्यालय के कर्मचारियों के दूरभाष नंबर 98960-50511 व 94165-91373 पर संपर्क कर सकता है।
... और पढ़ें

अज्ञात वाहन की टक्कर लगने से युवक की मौत

गांव संभालखा के पास अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक स्कूटी चालक की मौत हो गई। मृतक की पहचान श्याम सिंह निवासी गांव बूढ़ा के रूप में हुई है। जानकारी के अनुसार श्याम सिंह स्कूटी से गांव संभालखा की तरफ जा रहा था। इसी दौरान अज्ञात वाहन ने स्कूटी को टक्कर मार दी जिससे उसकी स्कूटी बेकाबू होकर सड़क किनारे पेड़ जा टकराई। घायल हालत में उसे लाडवा के सरकारी अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया। हादसे के बाद आरोपी वाहन चालक मौके से फरार हो गया। पुुलिस ने अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं। ... और पढ़ें

कुरुक्षेत्रः सरस्वती नदी से सफाई के दौरान मिला दस किलो वजनी मिसाइलनुमा बम, मचा हड़कंप

सफाई के दौरान सरस्वती नदी से जिंदा बम मिलने से शहर में हड़कंप मच गया। नदी से बम मिलने की सूचना शहर में आग की तरह फैल गई। बम करीब 10 किलो वजनी बताया जा रहा है। इसकी सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने बम को अपने कब्जे में लेकर उसे शहर से बाहर कुरुक्षेत्र रोड पर डंपिंग जोन के पास रखवा तथा इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दी। बताया जा रहा है पालिका के सफाई सरस्वती नदी की साफ-सफाई कर रहे थे।

इसी दौरान सफाई कर्मचारियों को मुलतानी कालोनी फौजी प्लाट के पास नदी से एक दस किलो वजनी मिसाइलनुमा वस्तु बरामद हुई, जिससे सफाई कर्मचारियों के होश उड़ गए तथा उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना पाकर थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने उसे कुरुक्षेत्र रोड पर शहर से बाहर डंपिंग जोन में रखवा तथा उच्चाधिकारियों व बम निरोधक दस्ते को मामले की सूचना दी। खबर लिखे जाने तक बम निरोधक दस्ता बम को निष्क्रिय करने के लिए पहुंचा नहीं था।

बम फटने से हो सकती थी भारी तबाही
थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार ने बताया कि बम का वजन करीब 10 किलो हैं। फटने पर यह बम भारी तबाही मचा सकता था। बम को नष्ट कराने के लिए बम निरोधक दस्ते को अंबाला से बुलाया गया हैं। बम के मिलने से जहां पूरे शहर में दहशत फैल गई। यहां बता दे पिहोवा में 22 मार्च रविवार से विश्व प्रसिद्ध चैत्र चौदस मेला शुरू होना था, जिसे प्रशासन ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए पहले ही रद कर दिया था। इस मेले में करीब पांच लाख से अधिक श्रद्धालु देश के हर कोने से पहुंचते हैं। चैत्र चौदस मेले पर चौदस का स्नान बेहद ही महत्वपूर्ण होता हैं। ऐसे में पिहोवा मेला रद होने से एक बड़ा हादसा टल गया।

थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार ने बताया कि सरस्वती नदी से मिला बम मिसाइलनुमा हैं। इसका अगला हिस्सा गोली की भांति ही नुकीला हैं। सफाई कर्मचारियों को यह बम नदी में गंदगी व कीचड़ से सना हुआ था जो करीब दस किलो वजनी हैं। फिलहाल पुलिस ने बम को कुरुक्षेत्र रोड पर शहर से दूर डंपिंग जोन क्षेत्र में रखवा दिया हैं। पुलिस के कर्मचारी उस क्षेत्र पर नजर रखें हुए हैं। बम को निष्क्रिय करने के लिए बम निरोधक दस्ते को सूचना भेजी गई हैं उनके आने के बाद ही बम को निष्क्रिय किया जाएगा। खबर लिखे जाने तक बम निरोधक दस्ता पहुंचा नहीं था।
... और पढ़ें

कोरोना वायरस: हरियाणा सरकार दिहाड़ी मजदूर-गरीबों को देंगी हर माह 4500 रुपये, 10 बड़ी घोषणाएं

सरस्वती नदी
हरियाणा सरकार ने कोरोना से जंग के बीच आमजन को राहत के लिए बड़ी घोषणाएं की हैं। किसानों के लिए विशेष राहत पैकेज तैयार हो रहा है, 28 मार्च से पहले घोषणा की जाएगी। मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना में पंजीकृत 12.38 लाख लोगों को 31 मार्च तक 2 हजार रुपये खातों में पहुंच जाएंगे। 4000 पहले मिल चुके हैं। 

आपदा के दौरान घर चलाने के लिए पंजीकृत निर्माण मजदूरों को हर महीने साढ़े चार हजार रुपये मिलेंगे। बीपीएल परिवारों को भी हर महीने 4500 रुपये सरकार देगी। इन्हें अप्रैल महीने का राशन फ्री मिलेगा। दिहाड़ी मजदूरों, रिक्शा चालकों, स्ट्रीट वेंडर्स को जिलों में डीसी के पोर्टल पर पंजीकरण कराना होगा। उन्हें भी 4500 रुपये हर महीने मिलेंगे। सीएम मनोहर लाल ने डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस में ये घोषणाएं की।

उन्होंने कहा कि कोरोना से जंग लड़ने वालों में से कोई संक्रमित होता है तो इलाज खर्च सरकार वहन करेगी, मरीज का इलाज करने के दौरान कर्मचारियों की मृत्यु होने पर एक्सग्रेसिया के तहत 10 लाख रुपये दिए जाएंगे। हरियाणा कोरोना रिलीफ फंड स्थापित कर दिया गया है। बतौर सीएम अपने निजी खाते से उन्होंने 5 लाख रुपये दिए हैं। विधायक एक महीने का वेतन देंगे। आईएएस ने एक महीने के वेतन का 20 प्रतिशत देने की बात कही है।
... और पढ़ें

कोरोना वायरस: हरियाणा में गरीबों की मदद के लिए हर माह 1200 करोड़, अप्रैल का राशन मुफ्त

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने राज्य में कोरोना वायरस से लड़ने व निम्न आय वर्ग लोगों के लिए लगभग 1200 करोड़ रुपये प्रति माह की वित्तीय पैकेज की घोषणाएं की हैं। जिसके तहत मजदूरों, रिक्शा चालकों, रेहड़ी वालों, स्ट्रीट वेंडर दैनिक वेतन भोगी सहित निर्माण कार्य में लगे मजदूरों, बीपीएल परिवारों को वित्तीय सहायता सीधी जाएगी। ताकि इस प्रकार के वर्ग के लोगों को लॉकडाउन के दौरान दिन-प्रतिदिन की आवश्यकता की चीजों के लिए किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो।

घोषित किए गए पैकेज के तहत सभी बीपीएल परिवारों को अप्रैल महीने के लिए उनके मासिक राशन को निशुल्क प्रदान किया जाएगा। जिस पर कुल 15 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इसमें चावल या गेहूं उनकी पात्रता के अनुसार, सरसों का तेल और 1 किलो चीनी शामिल होगी।

इसी प्रकार, स्कूलों और आंगनबाड़ियों को बंद करने की अवधि के दौरान सरकारी स्कूलों में नामांकित सभी बच्चों के लिए सूखा राशन प्रदान किया जाएगा। पैकेज के तहत जिन सभी बीपीएल परिवारों ने एमएमपीएसवाई के तहत पंजीकरण नहीं कराया है, उन्हें 30 मार्च से शुरू होने वाले साप्ताहिक आधार पर 4500 रुपये प्रति माह की राशि प्रदान की जाएगी।

इस राशि का भुगतान उनके बैंक खाते में किया जाएगा और इस पर 135 करोड़ की राशि खर्च की जाएगी। इसी प्रकार जो दैनिक आधार पर कमाई कर रहे थे जैसे कि मजदूर, स्ट्रीट वेंडर आदि संबंधित जिले के डीसी के साथ एक पोर्टल पर पंजीकरण कर सकते हैं, जो 27 मार्च तक स्थापित किया जाएगा। ऐसे सभी व्यक्ति जो पात्र पाए जाते हैं और जिनका बैंक खाता है, उन्हें सीधे 1000 रुपये प्रति सप्ताह की सहायता प्रदान की जाएगी और इस पर 45 करोड़ रुपये खर्च किया जाएगा। इस पैकेज में कर्मियों के वेतन सहयोग का भी प्रावधान किया गया है।
... और पढ़ें

23 से 31 मार्च तक घर से काम करेंगे कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के शिक्षक एवं गैर शिक्षक कर्मचारी

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय ने नोवल कोविड 19 कोरोना वायरस के संबंध में राज्य सरकार के उच्चतर शिक्षा विभाग व मानव संसाधन विकास मंत्रालय की दिशा-निर्देशों की पालना करते हुए सभी शिक्षक एवं गैर शिक्षक कर्मचारियों को 23 से 31 मार्च तक घर से काम करने के निर्देश दिए हैं। सभी शिक्षक, कर्मचारी, अनुबंधित कर्मचारी व आऊटसोर्सिंग के कर्मचारी अपने घर पर ही रहेंगे। जिन विभागों को जरूरत होगी, वे अपने कुछ कर्मचारियों को काम पर बुला सकते हैं। सभी कर्मचारियों को घर से काम करने की हिदायत दी गई है। इस संबंध में कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ कैलाश चंद्र शर्मा ने सोमवार को अधिकारियों की एक बैठक ली। बैठक में सभी शिक्षकों व संबंधित कॉलेजों के स्टाफ को घर से काम करने की सलाह दी गई है। 23 से 31 मार्च तक विश्वविद्यालय में आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सब कुछ पूरी तरह से बंद रहेगा। कुलपति ने सभी शिक्षकों को निर्देश दिए है कि वे ऑनलाइन रिसोर्स विद्यार्थियों के साथ साझा कर विद्यार्थियों की मदद करें। विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से जारी आदेशों के अनुसार शिक्षक अपने पाठ्यक्रमों का स्टडी मेटिरियल पीपीटी व वीडियो की फोम में विद्यार्थियों के साथ शेयर करें। उन्हें ऑनलाइन रिसोर्सिज के लिंक भेजें व साथ ही विद्यार्थियों को ऑनलाईन असाईनमेंट दे व उन्हें शोध कार्यों में शामिल करें। कुलपति ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों का विद्यार्थियों की पढ़ाई पर प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए। सभी विभागाध्यक्ष सुनिश्चित करें कि प्रतिदिन शिक्षकों ने विद्यार्थियों के क्या स्टडी मैटीरियल तैयार किया व उन्हें क्या भेजा। उन्होंने कहा कि यह हम सभी का दायित्व है कि घर बैठकर भी विद्यार्थियों के लिए व उनके अध्ययन के लिए हम सभी प्रयास करें। उन्होंने कहा कि कर्मचारी घर से काम करें लेकिन जरूरत के समय फोन पर उपलब्ध हों। जरूरत के समय शॉर्ट नोटिस पर उन्हें बुलाया जा सकता है। बैठक में विश्वविद्यालय से जुड़े शिक्षकों, विद्यार्थियों व कमर्रचारियों से अपील की गई कि राज्य व केंद्र सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देशों की पालना करें व एक दूसरे का सहयोग करते हुए अपना ध्यान रखें। ... और पढ़ें

23 से 31 मार्च तक घर से काम करेंगे कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के शिक्षक एवं गैर शिक्षक कर्मचारी

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय ने नोवल कोविड 19 कोरोना वायरस के संबंध में राज्य सरकार के उच्चतर शिक्षा विभाग व मानव संसाधन विकास मंत्रालय की दिशा-निर्देशों की पालना करते हुए सभी शिक्षक एवं गैर शिक्षक कर्मचारियों को 23 से 31 मार्च तक घर से काम करने के निर्देश दिए हैं। सभी शिक्षक, कर्मचारी, अनुबंधित कर्मचारी व आऊटसोर्सिंग के कर्मचारी अपने घर पर ही रहेंगे। जिन विभागों को जरूरत होगी, वे अपने कुछ कर्मचारियों को काम पर बुला सकते हैं। सभी कर्मचारियों को घर से काम करने की हिदायत दी गई है। इस संबंध में कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ कैलाश चंद्र शर्मा ने सोमवार को अधिकारियों की एक बैठक ली। बैठक में सभी शिक्षकों व संबंधित कॉलेजों के स्टाफ को घर से काम करने की सलाह दी गई है। 23 से 31 मार्च तक विश्वविद्यालय में आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सब कुछ पूरी तरह से बंद रहेगा। कुलपति ने सभी शिक्षकों को निर्देश दिए है कि वे ऑनलाइन रिसोर्स विद्यार्थियों के साथ साझा कर विद्यार्थियों की मदद करें। विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से जारी आदेशों के अनुसार शिक्षक अपने पाठ्यक्रमों का स्टडी मेटिरियल पीपीटी व वीडियो की फोम में विद्यार्थियों के साथ शेयर करें। उन्हें ऑनलाइन रिसोर्सिज के लिंक भेजें व साथ ही विद्यार्थियों को ऑनलाईन असाईनमेंट दे व उन्हें शोध कार्यों में शामिल करें। कुलपति ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों का विद्यार्थियों की पढ़ाई पर प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए। सभी विभागाध्यक्ष सुनिश्चित करें कि प्रतिदिन शिक्षकों ने विद्यार्थियों के क्या स्टडी मैटीरियल तैयार किया व उन्हें क्या भेजा। उन्होंने कहा कि यह हम सभी का दायित्व है कि घर बैठकर भी विद्यार्थियों के लिए व उनके अध्ययन के लिए हम सभी प्रयास करें। उन्होंने कहा कि कर्मचारी घर से काम करें लेकिन जरूरत के समय फोन पर उपलब्ध हों। जरूरत के समय शॉर्ट नोटिस पर उन्हें बुलाया जा सकता है। बैठक में विश्वविद्यालय से जुड़े शिक्षकों, विद्यार्थियों व कमर्रचारियों से अपील की गई कि राज्य व केंद्र सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देशों की पालना करें व एक दूसरे का सहयोग करते हुए अपना ध्यान रखें। ... और पढ़ें

कर्फ्यू के दौरान शराब का ठेका खोलने वाले दो गिरफ्तार

जिला पुलिस ने निर्देशाज्ञा करने के आरोप में दो युवकों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान अंबाला के कबीर नगर निवासी जयदेव पुत्र जयसिंह और जुलमत निवासी कुलदीप पुत्र महेंद्र के रूप में हुई है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गत दिवस थाना पिहोवा के एएसआई ओम प्रकाश, हवलदार संजय कुमार, बलविंद्र सिंह व ड्यूटी मैजिस्ट्रेट बीडीपीओ नरेंद्र सिंह की टीम कोरोना वायरस को लेकर सरकार के आदेशानुसार क्षेत्र की दुकानों एवं शराब के ठेके बंद करने के गश्त पर तैनात थी। गश्त के दौरान जब ड्यूटी मैजीस्ट्रैट और पुलिस की टीम बिलौचपुर बस अड्डा पर पहुंची तो बस स्टैंड बिलौचपुर पर जयदेव और कुलदीप ने सरकार के आदेशानुसार देसी शराब का ठेका खोला हुआ था। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। ... और पढ़ें

कर्फ्यू के दौरान शराब का ठेका खोलने वाले दो गिरफ्तार

जिला पुलिस ने निर्देशाज्ञा करने के आरोप में दो युवकों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान अंबाला के कबीर नगर निवासी जयदेव पुत्र जयसिंह और जुलमत निवासी कुलदीप पुत्र महेंद्र के रूप में हुई है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गत दिवस थाना पिहोवा के एएसआई ओम प्रकाश, हवलदार संजय कुमार, बलविंद्र सिंह व ड्यूटी मैजिस्ट्रेट बीडीपीओ नरेंद्र सिंह की टीम कोरोना वायरस को लेकर सरकार के आदेशानुसार क्षेत्र की दुकानों एवं शराब के ठेके बंद करने के गश्त पर तैनात थी। गश्त के दौरान जब ड्यूटी मैजीस्ट्रैट और पुलिस की टीम बिलौचपुर बस अड्डा पर पहुंची तो बस स्टैंड बिलौचपुर पर जयदेव और कुलदीप ने सरकार के आदेशानुसार देसी शराब का ठेका खोला हुआ था। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us