विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

अब अधिक दाम पर सामान बेचने वालों की खैर नहीं, दुकान के बाहर चस्पा करनी होगी रेट लिस्ट

हरियाणा में दुकानदारों और फेरी वालों ने निर्धारित रेट से ज्यादा दाम पर सब्जियां, फल या अन्य सामान बेचा तो उनकी खैर नहीं है।

5 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

पानीपत

रविवार, 5 अप्रैल 2020

निजामुद्दीन मरकज से पानीपत आए 51 लोग किए ट्रेस, किया गया क्वारंटीन

निजामुद्दीन मरकज की जमात में गए 51 लोगों को स्वास्थ्य विभाग ने पानीपत में ट्रेस किया है। इनमें से 11 पानीपत के हैं जबकि 40 तामिलनाडु, असल और कानपुर के हैं, जो निजामुद्दीन मरकज में भाग लेने गए थे। यह दिल्ली से पानीपत आ गए थे। जिन्हें ट्रेस कर क्वारंटीन कर दिया गया है। हालांकि इनके अलावा मुंबई से पानीपत आने वाले 16 लोगों को भी ट्रेस कर लिया, लेकिन यह लोग दिल्ली निजामुद्दीन मरकज में भाग लेने नहीं गए थे। इन्हें भी क्वारंटीन कर दिया है। दिल्ली निजामुद्दीन की घटना को देखते कुल 67 लोगों को क्वांरटीन किया है। स्वास्थ्य विभाग की तलाश जारी है। माना जा रहा है कि और भी लोग हो सकते हैं।
इन सबको ट्रेस करने के बाद जांच के लिए सिविल अस्पताल लाया गया। पानीपत में पहले ही चार कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं, ऐसे में जिला बेहद संवेदनशील है। इतने लोग कोरोना संदिग्ध के दायरे में आ जाने से पानीपत और भी संवेदनशील हो गया, लेकिन स्वास्थ्य विभाग, प्रशासन और पुलिस की सतर्कता से सभी को जल्द से जल्द ट्रेस किया जाना जारी है। स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने लगातार 12 घंटे इन लोगों की जांच की है। इनमें से एक में कोरोना वायरस के कुछ लक्षण मिले हैं। उसको अस्पताल में आइसोलेट कर दिया गया है। बाहर से आए 15 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेज दिए गए हैं। इन सबको समालखा, बापौली, प्रेम इंस्टीट्यूट और गढ़ी बैसक गांव की मस्जिद में क्वारंटीन कर दिया गया है। सभी जगहों पुलिस की ड्यूटियां भी लगा दी गई है।
- दो लोग फरार, एक पकड़ा
निजामुद्दीन से लौटे दो लोग पुलिस और स्वास्थ्य विभाग को चकमा देकर फरार हो गए हैं। ये लोग चांदनी बाग थाना क्षेत्र से फरार हुए हैं। इनको पकड़ने के लिए पुलिस की टीमें लगातार प्रयास कर रही हैं। सिविल सर्जन ने एसपी से जल्द दोनों को पकड़ने की अपील की है, वहीं दूसरी ओर गांव डाडोला से फरार हुए एक व्यक्ति को पुलिस ने गांव रिसालू के पास से पकड़ लिया है। ये निजामुद्दीन से पानीपत आया था। इसकी जांच कर समालखा अस्पताल में क्वारंटीन कर दिया गया है।
- पानीपत में ट्रेस हुए मरकज में शामिल हुए लोग -
पानीपत के 11, तमिलनाडु के आठ, कानपुर के 10 और असम के 22 लोग हैं। यह सभी दिल्ली निजामुद्दीन के मरकज में शामिल हुए थे। बाकी 16 लोग मुंबई के है, जो पानीपत में क्वारंटीन हैं, हालांकि ये निजामुद्दीन मरकज में नहीं गए थे।
- यहां किए गए कवारंटीन
18 लोगों को गांव गढ़ी बेसिक की मस्जिद में, 36 लोगों को समालखा अस्पताल में, 13 लोगों को प्रेम इंस्टीट्यूट में क्वारंटीन किया गया है। इनकी निगरानी के लिए पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीमों को तैनात कर दिया गया है। ये 14 दिन तक क्वारंटीन रहेंगे।
- रेरकलां में चार लोगों की रिपोर्ट आई नेगेटिव-
रेरकलां में संदिग्ध परिस्थितियों में एक व्यक्ति की मौत के बाद उसके परिवार के चार लोगों क्वारंटीन किया गया था। इन सभी के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे, जिनकी रिपोर्ट नेगेटिव आ गई है। रेरकलां गांव को सैनिटाइज करा दिया गया है।
- विकास नगर मस्जिद में पहुंची पुलिस व विभाग की टीम-
स्वास्थ्य विभाग को सूचना मिली थी कि दिल्ली से आए कुछ लोग विकास नगर में मस्जिद में छिपे हैं। इस सूचना पर पुलिस व विभाग की दो टीमें मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक लोग यहां से जा चुके थे।
- 67 हुए ट्रेस, लेकिन 150 तक तक पहुंच सकती है-
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार दिल्ली से काफी लोग पानीपत व सोनीपत पहुंचे हैं। काफी लोग फरार हो गए है। कुछ लोग छुप गए हैं। अब तक 67 को ट्रेस किया गया है। पानीपत में छुपे होने वाले लोगों की संख्या 150 तक पहुंच सकती है। ऐसे में जिले के लिए बड़ी मुसीबत खड़ी हो गई है।
इन क्षेत्रों में मरकज से लौटे लोग-
-खटीक बस्ती से एक
-हॉली कॉलोनी से दो-गोस अली से एक
-विद्यानंद कॉलोनी से एक
-अशोक विहार कॉलोनी से एक
-सौदापुर से एक
-पल्हेडी से दो
-भारत नगर से एक
- पुलिस की मदद से लोगों को ट्रेस कर कॉरंटीन कर रहे हैं- डॉ. वर्मा
अब तक 67 लोगों को ट्रेस कर क्वारंटीन किया है। 15 लोगों के सैंपल भेजे हैं। सभी लोगों को ट्रेस करने का प्रयास किया जा रहा है। दो लोग फरार हो गए है। पूरे ऑपरेशन में पुलिस की मदद ली जा रही है। लोगों से अपील है कि छिपने के बजाय स्वयं आगे आएं।
- डॉ. एसएल वर्मा, सिविल सर्जन पानीपत।
- अब तक लिए गए 71 सैंपल
स्वास्थ्य विभाग की ओर से अब तक जांच के लिए 71 सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। इनमें से 52 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है, जबकि तीन पॉजिटिव आए थे, जिनकी फिर से कराई गई जांच में रिपोर्ट नेगेटिव आई है, यानि कोरोना वायरस की चपेट में आए यह मरीज रिकवर कर गए हैं। फिलहाल 16 लोगों की रिपोर्ट आना बाकी है।
... और पढ़ें

पत्नी से झगड़े के बाद 26 वर्षीय युवक ने फंदा लगाकर दी जान, आठ महीने पहले की थी लव मैरिज

पत्नी से हुए झगड़े से परेशान 26 वर्षीय युवक ने फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। पड़ोसी किराएदारों ने युवक को फंदे पर लटका देखकर पुलिस को सूचना दी। संबंधित थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को नीचे उतारकर सामान्य अस्पताल भेजा। वहीं पुलिस ने बिहार के जिला पश्चिमी चंपारन में रहने वाले मृतक के परिवार को उपरोक्त घटना की सूचना दे दी है।
बुध बिहार के जिला पश्चिमी चंपारन, गांव साधखोत हवा निवासी संजय(26) पुत्र श्याम बदून घर से पिछले डेढ़ साल से लापता था। वह पिछले एक साल से पानीपत में न्यूज मुखीजा कॉलोनी में रहता था। आठ माह पहले संजय ने मीरा नामक लड़की से लव मैरिज की थी। दो माह उसकी पत्नी अपने भाई के पास चली गई थी। हाल ही में कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन के कारण संजय मजदूरी नहीं कर सका। वह पड़ोसी किराएदारों से पैसे लेकर अपना काम चला रहा था। इस दौरान उसका पत्नी से फोन पर झगड़ा भी होने लगा। मंगलवार दोपहर 12 बजे युवक ने पत्नी से फोन पर झगड़ा कर फंदा लगाकर जान देने की बात कही। पत्नी ने गांव से ही पानीपत में पड़ोसी किराएदार को फोन लगाया और पति का ध्यान रखने के लिए कहा। जब पड़ोसी किराएदार दोपहर एक बजे संजय के कमरे के पास गए तो कमरा बंद था और अंदर से कुंडी लगी हुई थी। उन्होंने खिड़की से देखा तो संजय फंदे पर लटका हुआ था। जिसके बाद उन्होंने पुलिस कंट्रोल रुम में सूचना दी, सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को सामान्य अस्पताल पहुंचाकर उसका पोस्टमार्टम कराया।
... और पढ़ें

लॉकडाउन तोड़ने वाले 121 वाहनों के किये चालान, तीन को किया इंपाउंड

पानीपत पुलिस ने बुधवार को लॉकडाउन तोड़ने वाले 121 वाहनों के चालान किए हैं। वहीं इसके अलावा तीन वाहनों को इंपाउंड भी किया है। इसके साथ साथ लॉकडाउन के दौरान गांव राक्सेड़ा से लाहन व तैयार कच्ची शराब को भी बरामद किया है।
उप-पुलिस अधीक्षक मुख्यालय सतीश कुमार वत्स ने बताया कि लॉकडाउन के चलते बेवजह घर से बाहर निकले वाले वाहन चालकों पर पुलिस की कार्रवाई जारी है। पुलिस ने बुधवार को 121 वाहनों के चालान किए और तीन वाहनों को इंपाउंड किया है। जिला पुलिस व प्रशासन द्वारा निरंतर लोगों को लॉकडाउन में बाहर नहीं निकलने बारे अपील की जा रही है। वहीं फिर भी कुछ लोग बेवजह घर से बाहर निकल रहे है। लॉकडाउन को पूर्णत लागू कराने के लिए ऐसे लोगों पर पुलिस द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है। वहीं दूसरी और पानीपत पुलिस ने शराब तस्करों पर शिकंजा कसते हुए बड़ी कार्रवाई की है। मंगलवार साय थाना समालखा पुलिस ने डयूटी मजिस्ट्रेट रवि कुमार खंड विकास एंव पचायत अधिकारी के साथ गांव राक्सेहड़ा में जोगेंद्र के मकान पर दंबिस देते हुए वहां से 100 लीटर लाहन, 10 लीटर तैयार कच्ची शराब व कच्ची शराब तैयार करने में प्रयोग किये जा रहे सामान सहित जोगेंद्र पुत्र करतार व बिल्लू पुत्र जोगेंद्र निवासी राक्सेहड़ा को गिरफ्तार किया। आरोपियों के खिलाफ समालखा थाना में धारा 188 व एक्साईज एक्ट 61-1-14 के तहत केस दर्ज कर किया गया है।
... और पढ़ें

104 जमातियों को किया ट्रेस, 13 की रिपोर्ट नेगेटिव

दिल्ली के निजामु्द्दीन मरकज से निकल पानीपत आए 104 जमातियों को ट्रेस कर दिया गया है। इनमें से दो जमाती उत्तर प्रदेश के शामली फरार हो गए है, इन्हें भी ट्रेस कर शामली पुलिस से संपर्क कर क्वारंटीन करने के लिए पत्र लिख दिया गया है। हालांकि राहत की बात यह है कि लक्षणों के आधार पर अब तक 13 जमातियों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे, इनकी जांच में सभी सैंपल नेगेटिव आए हैं। इसके साथ ही शनिवार को कोरोना वायरस की जांच के लिए दो सैंपल भेजे गए हैं वहीं वृंद एंक्लेव निवासी सेल्समैन के परिवार से लिए सात सैंपल की रिपोर्ट भी आ गई, यह भी नेगेटिव रही है।
कुछ जमाती होम क्वारंटीन और कुछ को निर्धारित जगहों पर किया गया क्वारंटीन
ट्रेस किए गए जमातियों में से 26 को होम क्वारंटीन में रखा गया है। इसके साथ ही अन्य 76 जामतियों को जिला प्रशासन की ओर से निर्धारित जगहों पर क्वारंटीन किया गया है। एसडीएच समालखा में 38, प्रेम नर्सिंग इस्टीट्यूट बडौली में 28 और सिविल अस्पताल पानीपत में एक रखा गया है। आठ की स्क्रीनिंग करने के साथ ही क्वारंटीन कर दिया गया है।
अब तक 82 में से 65 की रिपोर्ट नेगेटिव, 2387 लोग हैं क्वारंटीन
जिले में कोरोना वायरस से सम्बंधित अभी तक तीन केस पॉजीटिव पाए गए हैं। कुल 82 सैंपल अभी तक लिए गए हैं, जिनमें से 65 की रिपोर्ट नेगटिव प्राप्त हुई है। बाकी की आनी बाकी है। होम क्वारंटीन के तहत 674 घरों के बाहर नोटिस चस्पा किए गए हैं। अब तक 478 घरों में 2387 लोगों को क्वारंटीन किया गया है। - डॉ. संतलाल, सीएमओ
विदेश और देश के अन्य राज्यों से आने वालों की दें सूचना: उपायुक्त
जिला में विदेश या देश के अन्य राज्यों से आने वाले लोगों की सूचना प्रशासन को दें। जिससे कोरोना वायरस के संक्रमण को रोका जा सके। - हेमा शर्मा, उपायुक्त पानीपत
तेज बुखार के साथ आई वृद्धा, निजी अस्पताल ने कोरोना की आशंका पर सिविल भेजा था
शनिवार को जिला अस्पताल में बापौली से एक वृद्धा को सिविल अस्पताल लाया गया। उसे तेज बुखार और सिर में दर्द था। उसके कोरोना होने की आंशका थी। वह चाय बनाते हुए घर की रसोई में गिर गई थी। जिसके बाद उसे एक निजी अस्पताल ले जाया गया। जहां उन्हें कोरोना की आशंका को देखते हुए सिविल अस्पताल भेज दिया गया। यहां पर वृद्ध को करीब आधा घंटे एंबुलेंस में इंतजार करना पड़ा। इस दौरान परिजन परेशान होकर चक्कर काटते रहे, लेकिन डॉक्टर काफी देर बाद आए और लक्षण देखने के बाद कहा कि उसे कोरोना नहीं है और उसे निजी अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया।
थाईलैंड से घूमकर लौटे युवक भी पहुंचा अस्पताल
इसके साथ ही सिविल जट्टू चौक निवासी एक युवक भी अस्पताल पहुंचा। उसके सीने में दर्द था। वह 10 मार्च को थाईलैंड से आया था। स्वास्थ्य विभाग की ओर से कॉल कर उसके अस्पताल बुलाया गया था, जिस पर उसने कहा कि उसके सीने में दर्द हो रहा है। हालांकि इस क्वारंटीन कर आब्जर्वेशन में रखा गया है।
चेकअप करने की टीम के साथ मारपीट करने पर दंपती पर रिपार्ट दर्ज
मतलौडा। उरलाना खुर्द में होम क्वारंटीन किए गए लोगों का चेकअप करने के लिए शनिवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची। यहां पर एक दंपती ने टीम के साथ मारपीट की, जिस पर उकने खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। उरलाना चौकी प्रभारी रोहतास ने बताया कि तीन अप्रैल को इंदौर से आए हाक्कम सिंह को घर पर ही क्वारंटीन किया गया था। उधर, अपने मायके से आई कृष्णा और पति राजेश को भी होम क्वारंटीन किया गया था। शनिवार को स्वास्थ विभाग की टीम में बलवान सिंह और आशा वर्कर उनका चेकअप करने गए। जिस पर राजेश और उसकी पत्नी कृष्णा ने स्वास्थ विभाग के कर्मचारियों के साथ गालीगलौच की और मारपीट कर उन्हें भगा दिया। जिस पर दोनों के खिलाफ रिपार्ट दर्ज की गई है।
... और पढ़ें

बेलेंस चेक करवाने के बहाने थूक कर भागा तो लोगों ने पकड़ा

मॉडल टाउन थाना क्षेत्र में एक आरोपी ने मोबाइल बैलेंस चेक कराने के नाम पर युवक के चेहरे पर थूक दिया और मौके से भागने लगा, लेकिन नाकामयाब रहा। स्थानीय लोगों ने पकड़कर उसे मॉडल टाउन थाना पुलिस को सौंपा। पुलिस ने युवक पर केस दर्ज कर लिया है। मॉडल टाउन थाना क्षेत्र में एक युवक ने बताया कि वह अपनी दुकान के पास खड़ा हुआ था। इसी बीच एक युवक आया, जिसने अपना नाम साबीर पुत्र शाकिर बताया। युवक ने आते ही पहले पीड़ित के हाथ पर छुआ। आरोपी ने कहा कि मोबाइल बैलेंस चेक कर दो, पीड़ित ने आरोपी की पहचान व पता पूछा तो आरोपी पीड़ित के उपर थूक कर फरार हो गया। जिसको पीड़ित ने कुछ दूरी पर काबू किया। वहीं लॉकडाउन की अवहेलना व कोरोना वायरस के संक्रमण फैलाने के आरोप में आरोपी युवक के खिलाफ धारा 188 के तहत केस दर्ज किया गया है। ... और पढ़ें

हरियाणा में कोरोना के 27 नए मामले, जमातियों के कारण बढ़ी संख्या, 71 तक पहुंचा आंकड़ा

हरियाणा में कोरोना पॉजिटिव केस तेजी से बढ़ने लगे हैं। शनिवार को 27 नए मामले सामने आए हैं। कुल पीड़ितों का आंकड़ा 71 पहुंच चुका है। मरकज से संबंध रखने वालों की संख्या 28 पहुंच गई है। इनमें एक नेपाल का रहने वाला है। जबकि पांच तमिलनाडु, तीन केरल, तीन पश्चिम बंगाल और तेलंगाना, बिहार और यूपी के दो-दो लोग हैं। वहीं पंजाब, कर्नाटक, दिल्ली, महाराष्ट्र के एक-एक लोग शामिल हैं।

इनमें से आधा दर्जन जमाती हरियाणा से संबंध रखते हैं। सबसे ज्यादा पलवल जिले में 13 नए मामले सामने आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। फरीदाबाद में आठ और कैथल में भी एक जमाती पॉजिटिव पाया गया है। सभी मरीजों को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। उनके संपर्क में आने वाले लोगों को भी आइसोलेट कर दिया गया है। 

वहीं कोरोना से अंबाला में मौत के बाद शुक्रवार को रोहतक की एक महिला की दिल्ली में कोरोना की वजह से मौत हो गई थी, जिसकी किडनी खराब थी, उसे दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में दाखिल कराया गया था। जहां जांच के बाद कोरोना पॉजिटिव पाया गया। हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की है।

पलवल में संक्रमितों की संख्या सबसे ज्यादा
मरीजों के आंकड़े में पलवल पहले नंबर पर पहुंच गया है। पलवल में अब 17 केस हो गए हैं, जिनमें से एक ठीक हो चुका है। इसी तरह से 15 मरीजों के ठीक होने के बाद अब अंबाला में 3, भिवानी 2, फरीदाबाद 13 इस जिले में आठ मामले बढ़े हैं। गुरूग्राम 8, हिसार 1, करनाल 1, कैथल 1, नूंह 3, पलवल 16, पानीपत 1, पंचकूला में 2, रोहतक 1, सिरसा में 3 मरीज है।
... और पढ़ें

अवैध रूप से धर्म का प्रचार कर रहे श्रीलंका, तमिलनाडू के छह लोग गिरफ्तार

निजामुदीन मरकज से आकर पानीपत में अवैध तरीके से इस्लाम धर्म का प्रचार करने के आरोपी श्रीलंका के दो नागरिकों और तमिलनाडु के छह इस्लाम धर्म प्रचारकों के खिलाफ दो अप्रैल की देर रात को थाना सनौली में केस दर्ज किया गया है। वहीं आरोपियों पर सब इंस्पेक्टर सुरजीत सिंह की शिकायत पर फार्नर एक्ट 1946 की, आईपीसी की धारा 144 की, लॉकडाउन की अवेहलना करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है। श्रीलंका के इस्लाम धर्म के आरोपी प्रचारकों की शिनाख्त मोहम्मद फाजिल पुत्र मोहम्मद फोजिल अमरी निवासी डीएएम स्ट्रीट कोलंबो, श्रीलंका और मुस्ताक पुत्र मोहम्मद जबीर निवासी चार्सल पैलेस, देहीवाल, श्रीलंका के रूप में हुई। वहीं इनके साथ मिले तमिलनाडु के छह इस्लाम धर्म प्रचारकों की शिनाख्त एस. सराजदीन, यू.जफर अली, एम. मोहम्मद युसूफ, एस. नूर मोहम्मद अली, के. मोहम्मद आरूण, जेड अहमद दक्षीण के रूप में हुई। आरोपियों को पुलिस ने गांव नवादा पार से खोजा था, आरोपी गांव की जामा मस्जिद में निवास कर रहे थे। पुलिस की मौजूदगी में स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर आरोपियों को गांव से एंबुलेंस में सवार कर सिविल अस्पताल लाए थे। इनकी मेडिकल जांच के बाद इन्हें सिविल अस्पताल में ही क्वॉरंटीन कर दिया गया था। जबकि डॉक्टरों ने आरोपियों के सैंपल लेकर जांच के लिए खानपुर मेडिकल कॉलेज लैब भिजवा रखे हैं।
गांव की मस्जिद के इमाम पर भी केस दर्ज-
थाना सनौली पुलिस ने श्रीलंका और तमिलनाडु के इस्लाम धर्म प्रचारकों को लॉक डाउन में, धारा 144 लागू होने के बावजूद भी गांव नवादा पार की जामा मस्जिद में पनाह देने के आरोप में सब इंस्पेक्टर सुरजीत सिंह की शिकायत पर मस्जिद के इमाम यासीन पुत्र इसमदीन पर भी केस किया है। वहीं यासीन मस्जिद की देख-रेख करने के साथ जायरीनों को मस्जिद में नमाज पढ़वाता है, साथ ही मुस्लिम धर्म के मानने वालों के बच्चों को इस्लामिक शिक्षा देता है।
पुलिस ने गहन जांच के बाद दर्ज किया केस-
सनौली थाना पुलिस ने इस्लाम धर्म के श्रीलंका और तमिलनाडु प्रचारकों पर गहन जांच के बाद केस दर्ज किया है। पुलिस की टीम ने इस केस की जांच में गांव नवादा पार के सरपंच इसराइल पुत्र चौ.बशीर, गांव की जामा मस्जिद के इमाम यासीन पुत्र इसमदीन, गांव के चौकीदार याकूब पुत्र फतेह मोहम्मद, अकबर पुत्र लख्मी के साथ अन्य ग्रामीणों से गहन पूछताछ की और उनके बयान दर्ज किए। पुलिस की जांच में पता चला की आरोपी तब्लीगी मरकज जमात निजामुदीन, दिल्ली से जुडे इस्लाम धर्म के सक्रिय प्रचारक हैं और 23 मार्च को गांव नवादा पार की जामा मस्जिद में पहुंचे थे। इससे पहले आरोपियों ने तब्लीगी मरकज जमात, निजामुदीन, दिल्ली में निवास किया और यहां से आरोपित धर्म प्रचार के लिए पानीपत के इमाम साहब मोहल्ला पहुंचे, इसके बाद विद्यानंद कालोनी में धर्मप्रचार करते हुए गांव नवादा पार आए थे। आरोपितों एक साथ रहते थे और नवाज पढ़ते थे, वहीं आरोपी गांव नवादा के ही निवासी जुल्फान पुत्र खेरू के घर पर भी गए थे।
पर्यटक से धर्म प्रचारक बन गए फाजिल व मुस्ताक-
श्रीलंका के कोलंबो निवासी मोहम्मद फाजिल पुत्र मोहम्मद फोजिल अमरी और देहीवाल निवासी मुस्ताक पुत्र मोहम्मद जबीर भारत टूरिस्ट वीजा पर आए थे और पर्यटन करने के बजाए दोनों इस्लाम धर्म के प्रचार में जुट गए। पुलिस की जांच में पता चला कि मोहम्मद फाजिल व मुस्ताक, तब्लीगी मरकज जमात, निजामुदीन, दिल्ली के सक्रिय सदस्य हैं। आरोपी मोहम्मद फाजिल व मुस्ताक के टूरिस्ट वीजा के नियमों की अवेहलना की। दोनों ने पर्यटन करने के बाद भारत में अवैध तरीके से इस्लाम धर्म का प्रचार शुरू कर दिया। वहीं आरोपी जब पानीपत आए तो उन्होंने नियमानुसार प्रशासन को अपने पानीपत आने की सूचना नहीं दी। इसके चलते थाना सनौली पुलिस ने आरोपियों पर फार्नर एक्ट 1946 की धारा 14-बी, 14-सी, लॉक डाउन व धारा 144 की पालना नहीं करने के आरोप में आईपीसी की धारा 188 के तहत केस दर्ज किया है।
आईबी ने भी पानीपत प्रशासन को पत्र लिखा था-
ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन (आईबी) ने भी पानीपत प्रशासन को मोहम्मद फाजिल पुत्र मोहम्मद फोजिल अमरी निवासी डीएएम स्ट्रीट कोलंबो, श्रीलंका और मुस्ताक पुत्र मोहम्मद जबीर निवासी चार्सल पैलेस, देहीवाल, श्रीलंका के पानीपत में अवैध तरीके से आने व इस्लाम धर्म प्रचार करने के संबंध में पत्र लिख कर सचेत किया था। आईबी का पत्र मिलने के बाद ही पुलिस ने श्रीलंका के दोनों नागरिकों की तलाश की और दोनों गांव नवाद पार की मस्जिद में मिले।
आरोपियों को गिरफ्तार करेंगे : सुरेंद्र
थाना सनौली के एसएचओ सुरेंद्र ने बताया कि श्रीलंका के दो नागरिक मोहम्मद फाजिल पुत्र मोहम्मद फोजिल अमरी निवासी डीएएम स्ट्रीट कोलंबो, श्रीलंका और मुस्ताक पुत्र मोहम्मद जबीर निवासी चार्सल पैलेस, देहीवाल, श्रीलंका व तमिलनाडु निवासी एस. सराजदीन, यू.जफर अली, एम. मोहम्मद युसूफ, एस. नूर मोहम्मद अली, के. मोहम्मद आरूण, जेड अहमद दक्षीण का सिविल अस्पताल में उपचार चल रहा है। वहीं उपचार की प्रक्रिया खत्म होने के बाद आरोपितों को गिरफ्तार किया जाएगा। वहीं पुलिस का प्रयास रहेगा कि आरोपियों को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाए और गहन पूछताछ की जाए।
... और पढ़ें

यमुना में डूबने से 19 वर्षीय युवक की मौत

पुलिसकर्मी से बदतमीजी करने पर एडीए संस्पेंड

में संजय चौक पर लगे नाके पर वाहन चेकिंग के समय पुलिसकर्मी से अभद्र व्यवहार करने पर एडीए सुरेंद्र को सस्पेंड कर दिया है। हालांकि उन्हें जिला करनाल का हैड क्वार्टर अटॉर्नी बनाया गया है। बता दें कि एडिए सुरेंद्र अपनी गाड़ी से संजय चौक नाका पार कर रहे थे, इसी बीच एक पुलिसकर्मी ने उन्हें रोककर घर से निकलने का कारण पूछा था। जिस बात पर ही एडीए सुरेंद्र ने उनके साथ अभद्र व्यवहार किया था, जिसकी वीडियो सोशल मीडिया पर लगातार वायरल हो गई थी। इसी मामलें में हरियाणा के गवर्नर के आदेश पर हरियाणा सरकार के सहायक मुख्य सचिव व जस्टिस विभाग के प्रशासक विजय वर्धन ने पानीपत के असिस्टेंट डिस्ट्रिक अटॉनी सुरेंद्र सिंह को पद से निलंबित कर दिया है। एडीए सुरेंद्र पर लॉक डाउन के दौरान पानीपत में पुलिस द्वारा वाहनों की जांच के लिए लगाए गए नाके पर पुलिस की जांच में सहयोग नहीं करने, पुलिस टीम के साथ अभद्र व्यवहार करने, पुलिस कर्मचारी को धमकाने आदि के आरोप है। वहीं एडीए सुरेंद्र द्वारा पुलिस टीम के साथ किए गए गलत आचरण का वीडियो प्रदेश ही नहीं बल्कि के देशभर में खूब सुर्खियों में रहा। सोशल मीडिया पर भी एडीए सुरेंद्र को लेकर जनता ने तरह-तरह की टिप्पणी की। सोशल मीडिया पर इस प्रकरण को लेकर जनता द्वारा एडीए पर सख्त कानूनी कार्रवाई के दबाव के चलते जहां एडीए सुरेंद्र पर पानीपत पुलिस ने जुर्माना किया, प्रदेश के राज्यपाल ने इस मामले की जांच करवाई। वहीं एडीए सुरेंद्र द्वारा पुलिस टीम के साथ किए गए अभद्र व्यवहार के मामले की जांच की गई और वीडियो को साक्ष्य के रूप में मान कर उन्हें लॉक डाउन में पुलिस टीम का सहयोग न करने, लॉक डाउन की पालना न करने आदि का आरोपी माना गया और प्रदेश के गवर्नर के आदेश पर उन्हें एडीए के पद से जहां निलंबित किया गया, वहीं करनाल को जिला अटॉनी कार्यालय में सुरेंद्र का हैड क्वार्टर बनाया गया है। ... और पढ़ें

शेल्टर होम में ठहरे श्रमिक बोले, नहीं मिलता नाश्ता, लंच में आ जाती है चाय, सिर्फ चावल ने नहीं भरता पेट

रंजिश के चलते पिता सहित चार बेटों ने एक को पीटा

सौंधापुर में एक युवक के साथ एक पिता सहित उसके चार बेेटों ने मिलकर पुरानी रंजिश के चलते मारपीट कर दी। पीड़ित ने बचाव के लिए आवाज लगाई तो आरोपी मौके से फरार हो गए। असंध नाका चौकी पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस को दी शिकायत में मनोज कुमार पुत्र माह सिंह निवासी सौंधापुर ने बताया कि वह 31 मार्च को एक बजे अपने चाचा रामसिंह के साथ उनकी दुकान के सामने खड़े थे। वह आपस मेें बातचीत कर रहे थे, इसी बीच उनके पास आबिद खान व उसके लड़के सलमान, अरमान, फरमान, रजीवान ने पीड़ित के साथ लाठी डंडों से मारपीट की। इसके अलावा एक आरोपी ने तेजधार हथियार से हमला किया। पीड़ित ने बचाव के लिए आवाज लगाई तो आरोपी मौके से फरार हो गए। स्थानीय लोगों ने पीड़ित को सामान्य अस्पताल पहुंचाया और उसका प्राथमिक उपचार कराया। पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us