विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus in Haryana: पंचकूला में दो जमातियों की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, संक्रमित मरीज हुए 164

हरियाणा में वीरवार को पंचकूला में दो जमातियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके साथ ही प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 164 हो गई।

9 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

सिरसा

गुरूवार, 9 अप्रैल 2020

12.25 ग्राम हेरोइन सहित तीन युवक काबू

जिले भर में चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत कार्रवाई करते हुए जिला पुलिस ने विभिन्न स्थानों से गश्त व चेकिंग के दौरान तीन युवकों को 12 ग्राम 25 मिलीग्राम हेरोइन के साथ काबू किया है। प्रथम घटना में सीआईए डबवाली पुलिस टीम ने गांव भंगू क्षेत्र से दो युवकों को 10 ग्राम 25 मिलीग्राम हेरोइन के साथ काबू किया है। पकड़े गए युवकों की पहचान सागर सिंह और सुखजिंद्र सिंह उर्फ जिंद्र सिंह वासियान भंगू के रुप में हुई है। सीआईए डबवाली प्रभारी इंस्पेक्टर कुलदीप सिंह ने बताया कि पकड़े गए युवकों से सप्लायर के बारे में नाम पता मालूम कर तीन लोगों के खिलाफ थाना बड़ागुढा में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज कर सप्लायर की तलाश शुरू कर दी है। वहीं एक अन्य घटना में जिला की शहर डबवाली थाना पुलिस ने गश्त व चेकिंग के दौरान मंडी डबवाली क्षेत्र से एक युवक को दो ग्राम हेरोइन के साथ काबू किया है। पकड़े गए युवक की पहचान रोहित निवासी डबवाली के रुप में हुई है। शहर डबवाली थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर सत्यवान ने बताया कि पकड़े गए युवक से सप्लायर के बारे में नाम पता मालूम कर दो लोगों के खिलाफ थाना शहर डबवाली में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज कर सप्लायर की तलाश शुरू कर दी है। ... और पढ़ें

हरियाणा: कोरोना के नूंह में 25 और फरीदाबाद में छह नए मामले, कुल 146 पीड़ितों में 90 जमाती

हरियाणा में निजामुद्दीन मरकज से लौटे संक्रमितों व्यक्तियों की संख्या 90 पहुंच गई है। प्रदेश में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 146 है। राज्य में महामारी सेअब तक तीन मौतें हो चुकी हैं। मंगलवार को नूंह में 25 और फरीदाबाद में छह मामले सामने आए हैं। यह सभी जमाती हैं। अब तक 17 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है, जबकि बाकी का अस्पतालों में इलाज चल रहा है। नूंह और पलवल में सबसे ज्यादा जमाती पॉजिटिव पाए गए हैं। उधर, नल्हड़ मेडिकल कॉलेज को कोविड अस्पताल बना दिया गया है। यहां पर सिर्फ कोरोना संक्रमित मरीजों का ही इलाज किया जा रहा है।

कहां कब हुई कोरोना से मौत
- 5 अप्रैल को करनाल के गांव रसीन निवासी 58 वर्षीय बुजुर्ग की पीजीआई चंडीगढ़ में मौत हुई थी।
- 3 अप्रैल को अंबाला के 67 साल के बुजुर्ग की पीजीआई चंडीगढ़ में मौत हुई थी।
- रोहतक की महिला की राम मनोहर लोहिया अस्पताल दिल्ली में कोरोना से मौत हुई थी।
... और पढ़ें

गांव देसूमलकाना में हत्या के मुख्य आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

कालांवाली थाना पुलिस ने बीते शनिवार को गांव देसूमलकाना में हुई हत्या के मामले में मुख्य आरोपी बलजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं इस मामले में आरोपी बलजीत सिंह की पत्नी भूपिंद्र कौर की शिकायत पर तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। जिसमें कि मृतक रघुबीर सिंह उर्फ महाशय, पम्मा और बग्गू है।
गांव देसूमलकाना में चार अप्रैल को रघुबीर सिंह की गांव में ही बलजीत सिंह ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में आरोपी परिवार की महिला ने पुलिस में दूसरे पक्ष के तीन लोगों के खिलाफ शिकायत देकर मामला दर्ज करवाया है। पुलिस को दी शिकायत में महिला भूपिंद्र कौर ने बताया कि उनके परिवार की एक लड़की की शादी पंजाब के गांव वैहनीवाला में हुई थी। शादी के कुछ वर्षों बाद उनके रिश्तेदार बलकरण सिंह की हत्या काला, मन्नू, बूटा और लक्ष्मण ने मिलकर कर दी थी। इस संबंधी थाना रामा मंडी में केस दर्ज हुआ था। इस केस में उसके पति बलजीत सिंह गवाह थे। काला सिंह ने इस केस में गवाही न देने बारे उसके पति पर दबाव बनाया था। लेकिन उसके पति ने बिना दबाव के चारों के खिलाफ गवाही दी, जिसपर चारों आरोपियों को कोर्ट ने दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी। तभी से दोनों परिवारों में रंजिश चल रही थी। चार अप्रैल को काला सिंह का भाई महाशय ट्रैक्टर लेकर चार से पांच व्यक्तियों को लेकर उनके घर के आगे आ धमका और जोर-जोर से गेट खोलने के लिए आवाज लगाने लगा। उसके पति के पास लाइसेंसी बंदूक है, जिसे वह अपने पास रखता है। जब उसका पति बलजीत सिंह गेट से बाहर निकला तो महाशय और उसके साथी पम्मा और बग्गू उसके साथ हाथापाई करने लगे। उसके पति ने अपने बचाव में अपनी बंदूक से फायर कर दिया। जोकि बाहर अंधेरे में गली में किसी व्यक्ति को लगा। जिसका नाम बाद में उसे महाशय मालूम हुआ। उसके बाद मेरा पति बलजीत सिंह अपनी लाइसेंसी बंदूक लेकर मौके से चला गया। महाशय और उसके साथियों के पास नाजायज असलहा और अन्य हथियार भी थे। जिन्होंने मेरे पति और हमारे परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी है तथा घर में घुस कर हाथापाई भी की है। जांच अधिकारी ताराचंद ने बताया कि शिकायत के बाद तीन आरोपियों के खिलाफ आर्म्स एक्ट और मारपीट का मामला दर्ज कर लिया गया है। जांच के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी।
अन्स आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दी जा रही दबिश
कालांवाली थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर ओमप्रकाश ने बताया कि इस हत्याकांड में गिरफ्तार किए गए युवक की पहचान बलजीत सिंह वासी देसूमलकाना के रुप में हुई है। आरोपी को अदालत में पेश किया जाएगा और रिमांड के दौरान हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि मृतक रघुबीर सिंह उर्फ महाशय निवासी देसूमलकाना के चाचा के लड़के मेजर सिंह की शिकायत पर इस संबंध में आरोपियों के खिलाफ थाना कालांवाली में हत्या का अभियोग दर्ज किया गया है। थाना प्रभारी ने बताया कि घटना के अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है जिन्हें शीघ्र ही गिरफ्तार किया जाएगा।
... और पढ़ें

विद्युत विभाग के कार्यालय में मिले युवक और महिला को ग्रामीणों ने किया लॉक

स्टेट हाईवे नंबर 32 पर स्थित गांव बिज्जूवाली के पटवार भवन में बने बिजली विभाग के कार्यालय में वीरवार को ग्रामीणों ने आपत्तिजनक हालत में युवक और महिला को पकड़ा। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को बाहर निकाला और अपने साथ ले गई। वहीं ग्रामीण दोनों पर कड़ी कार्रवाई करने पर अड़ गए। इस बीच पुलिस और ग्रामीणों में झड़प भी हुई, जिसमें कई ग्रामीण घायल हो गए। तनाव के मद्देनजर गांव में पुलिस बल तैनात किया गया है। वहीं पंचायत की शिकायत पर पुलिस ने तीन लोगों पर मामला दर्ज कर लिया है।
जानकारी के अनुसार गांव बिज्जूवाली में कार्यरत विद्युत विभाग का कर्मचारी गांव में बने अपने कार्यालय में पहुंचा। उसी समय उसका एक अन्य साथी एक महिला के साथ कार्यालय में पहुंचा। लॉकडाउन में नाके पर मौजूद व्यक्तियों को महिला के आने पर शक हुआ और इसकी सूचना ग्रामीणों की दी। जब ग्रामीण बिजली कार्यालय पर पहुंचे तो कर्मचारी ने युवक और महिला को कार्यालय में बंद कर बाहर से ताला लगा दिया। जिसपर विद्युतकर्मी से ताला खोलने की बात की गई तो ताला खेलने से मनाकर दिया। बाद में ग्रामीणों से बहस के बाद कर्मचारी ने ताला खोला तो युवक और महिला आपत्तिजनक हालत में पाए गए। इसकी सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी। जब मौके पर पुलिस पहुंची तो ग्रामीण युवक और महिला कड़ी कार्रवाई करने को लेकर अड़ गए और पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। इसी बीच ग्रामीणों और पुलिस के बीच में झड़प हो गई। इस पर पुलिस ने हल्का बल का प्रयोग किया गया, जिसमें कुछ लोगों को मामूली चोटें आने से ग्रामीण खफा हो गए। उग्र भीड़ ने पुलिस कर्मचारी की भी धुनाई कर दी। इसके बाद पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद युवक और महिला को बाहर निकाला और अपने साथ ले गई।
कोट
गांव बिजुवाली में बिजली विभाग के कमरे में एक युवक और महिला आपत्तिजनक हालत में मिले हैं। ग्रामीणों ने एकत्र होकर उक्त लोगों को पीटने का प्रयास किया तो पुलिस ने युवक और महिला सहित बिजली कर्मी को सुरक्षित बाहर निकाला। पुलिस की ओर से कार्रवाई की जा रही है।
-कुलदीप सिंह बेनीवाल, डीएसपी
... और पढ़ें
गांव में इक्ट्ठे हुए ग्रामीण व पुलिस कर्मचारी। गांव में इक्ट्ठे हुए ग्रामीण व पुलिस कर्मचारी।

टीम पूछेगी जरूरतमंद को सूखा राशन चाहिए या पका हुआ भोजन

लॉकडाउन में प्रशासन ने जिले में लोगों को राशन वितरण, भोजन, दवाईयां आदि जरूरतमंदों चीजों के लिए सर्वे का काम शुरू किया है। इस सर्वे के लिए यूनिट लेवल कमेटी का गठन किया गया है। यूनिट लेवल कमेटी में एक बीएलओ, दो सोशल वर्कर्स को शामिल किया गया।
यूनिट लेवल कमेटी ने वीरवार को शहर में सर्वे का काम शुरू कर दिया। सुबह कमेटी सदस्यों को परफॉर्मा के साथ सैनिटाइजर और मास्क भी दिए गए। शहर के 31 वार्ड में करीब 130 पोलिंग बूथ है। पोलिंग बूथ के आधार पर ही 130 यूनिट लेवल कमेटी का गठन किया गया है। जो कि घरों में अकेले रह रहे बुजुर्गों, महिलाओं और बेसहारा लोगों की मदद के लिए सर्वे करेगी। सर्वे में लोगों में यूनिट लेवल कमेटी पता करेगी कि जरूरत मंद लोगों को सूखा राशन चाहिए या पका हुआ भोजन। जिन लोगों के पास राशन कार्ड है, उन्हें अप्रैल महीने का राशन मुफ्त में दिया जाएगा। जिन लोगों के पास राशन कार्ड नहीं है उन लोगों को समाज सेवी संस्थाओं से राशन मुहैया करवाने का प्रयास करेगी। इसके अतिरिक्त यदि समाज सेवी संस्थाओं के पास राशन नहीं है तो सरकारी पैसे से उन्हें राशन उपलब्ध करवाया जाएगा। इसकी पूरी रिपोर्ट बनाकर प्रशासन को दी जाएगी, इसकी मानिटरिंग सेक्टर लेवल कमेटी करेगी।
हर कमेटी में छह सदस्य शामिल
सिरसा शहर में कुल 10 सेक्टर लेवल कमेटी बनाई गई है। जिसमें कि छह सदस्यों को शामिल किया गया। जिसमें पार्षद, सरकारी कर्मचारी शामिल हैं। सेक्टर लेवल कमेटी के ऊपर जोनल लेवल कमेटी है। जिसमें कि नगर परिषद के सचिव गुरशरण सिंह, एकाउंट ऑफिसर सुरेंद्र मेहता, नगर परिषद के कार्यकारी प्रधान रणधीर सिंह हैं। बंसल ने बताया कि यूनिट लेवल कमेटी के कार्यकर्ता घर-घर जाकर एक रिहायशी इलाके में राशन वितरण, भोजन, दवाईयां आदि वितरण का कार्य करेंगी। यह कमेटी घरों में अकेले रह रहे बुजुर्गों, महिलाओं और बेसहारा लोगों की मदद प्राथमिकता से करेंगी। इनको रिहायशी क्षेत्र के बीपीएल परिवारों, श्रमिकों, जरूरतमंद नागरिकों की सूचि दी जाएगी। नगराधीश ने बताया कि सेक्टर लेवल कमेटी, जोनल कमेटी और यूनिट कमेटी के बीच तालमेल बनाएगी और यूनिट टीमों को आवश्यक सामान उपलब्ध करवाएगी। जोनल कमेटी अपने क्षेत्र की सारी रिपोर्ट उपायुक्त को देंगी तथा राहत कार्यों को संपन्न करवाना सुनिश्चित करेंगी।
उपायुक्त करेंगे जिला स्तरीय कमेटी अध्यक्षता : नगराधीश
नगराधीश कुलभूषण बंसल ने बताया कि ये चार स्तरीय कमेटी यूनिट लेवल, सेक्टर लेवल, जोनल कमेटी एवं जिला स्तरीय कमेटी बनाई जा रही है। जिला स्तरीय कमेटी उपायुक्त आरसी बिढान की अध्यक्षता में बनाई गई है। इसमें उपपुलिस महानिरीक्षक कम पुलिस अधीक्षक सिरसा, अतिरिक्त उपायुक्त, जिला परिषद की चेयरपर्सन, नगरपरिषद चेयरमैन, एसडीएम सिरसा, सिविल सर्जन, जिला राजस्व अधिकारी, जिला खाद्य एवं पूर्ति नियंत्रक, जिला आबकारी एवं कराधान अधिकारी सेल टैक्स, एसजीपीसी सदस्य सरदार गुरमीत सिंह और भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष सरदार गुरविंद्र सिंह को शामिल किया गया है।
दो तरह से होगा सर्वे
सर्वे फार्म में प्रथम कॉलम में परिवार के मुखिया, परिवार के सदस्यों की संख्या, राशन कार्ड है या नहीं, उसे सूखे राशन की जरूरत है या पके हुए राशन की जरूरत है। यह फार्म सालाना एक लाख 80 हजार की कम आय वाले लोगों को शामिल किया गया है। जबकि दूसरे कॉलम में जबकि मेडिसिन की जरूरत है, थेरैपिस्ट की जरूरत, ओल्ड एज केयर की जरूरत के लिए कोई सालाना आय का क्राइटेरिया नहीं रखा गया।
... और पढ़ें

35 बोतल देसी और 27 बोतल अवैध शराब के साथ 12 लोग काबू

पुलिस ने विभिन्न जगहों से 35 बोतल शराब ठेका देसी और 27 बोतल अवैध शराब के साथ 12 लोगों को काबू किया है। प्रथम घटना में रानियां थाना पुलिस ने गश्त व चेकिंग के दौरान गांव नत्थोर क्षेत्र से एक युवक को 20 बोतल अवैध शराब के साथ काबू किया है। पकड़े गए युवक की पहचान सेवक निवासी नत्थोर के रुप में हुई है। जानकारी देते हुए रानियां थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर साधु राम ने बताया कि पकड़े गए युवक के खिलाफ थाना रानियां में आबकारी अधिनियम और धारा 188 के तहत कार्रवाई की गई है।
एक अन्य घटना में जिला रानियां थाना पुलिस ने बाइक सवार दो युवकों को 2 बोतल अवैध शराब के साथ काबू किया है। पकड़े गए युवकों की पहचान संदीप सिंह उर्फ सीपू और उदय सिंह उर्फ वीरू वासियान संतनगर के रुप में हुई है। रानियां थाना प्रभारी ने बताया की पकड़े गए युवकों के खिलाफ थाना रानियां में केस दर्ज किया गया है। वहीं एक अन्य घटना में जिला की डिंग थाना पुलिस ने छह युवकों को पांच बोतल अवैध शराब के साथ काबू किया है। पकड़े गए युवक की पहचान हुकमचंद उर्फ हुकमा पुत्र वेद प्रकाश, दयानंद पुत्र वेद प्रकाश, पूर्ण पुत्र हरी सिंह, मदन पुत्र लालचंद, राकेश पुत्र राम भजन, वासियान सुचान और रविंद्र मोहल्ला उकलाना मंडी हिसार के रुप में हुई है। डिंग थाना प्रभारी इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार ने बताया कि पकड़े गए युवकों के खिलाफ थाना डिंग में आबकारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है। वहीं सरस्वती कॉलोनी सिरसा क्षेत्र से थाना शहर सिरसा पुलिस ने एक युवक को 14 बोतल ठेका शराब देसी बरामद की है। पकड़े गए युवक की पहचान विपिन उर्फ विक्की निवासी सरस्वती कॉलोनी सिरसा के रुप में हुई है। जिला की बड़ागुड़ा थाना पुलिस ने गांव बड़ागुड़ा क्षेत्र से एक युवक को 12 बोतल ठेका शराब देसी के साथ काबू किया है। पकड़े गए युवक की पहचान राजकुमार निवासी बड़ागुड़ा के रूप में हुई है। वहीं बेगू रोड सिरसा क्षेत्र से थाना शहर सिरसा पुलिस ने एक युवक को 9 बोतल ठेका शराब देसी बरामद की है। पकड़े गए युवक की पहचान मुकेश कुमार निवासी प्रीत नगर सिरसा के रूप में हुई है। थाना शहर सिरसा प्रभारी इंस्पेक्टर सुखबीर सिंह ने बताया कि पकड़े गए युवक के खिलाफ केस दर्ज किया है।
... और पढ़ें

Lockdown in Haryana: शिक्षा विभाग का फरमान- ऑनलाइन होगी स्कूलों में पढ़ाई, तय की गई टाइमिंग

प्रदेश के सरकारी स्कूलों के पहली से 12 वीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को परिस्थितियां सामान्य होने तक ऑनलाइन ही पढ़ाया जाएगा। स्कूल खुलने तक अध्यापक विद्यार्थियों को घर पर रहकर ही अभिभावकों की मदद से फोन एवं व्हाट्सऐप के जरिए ऑनलाइन पढ़ाएंगे।

शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने बताया कि प्रतिवर्ष नया शैक्षिक सत्र पहली अप्रैल से शुरू होता है। लेकिन इस साल कोरोना महामारी के चलते पूरे देश में लॉकडाऊन है। इस कारण यह सत्र अभी शुरू नहीं किया जा सका है। सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों की पढ़ाई का नुकसान न हो, इसलिए शिक्षा विभाग ने विभिन्न ई-लर्निंग प्लेटफॉर्म बनाए हैं।

इस बारे में सभी को पहले ही सूचित भी किया जा चुका है। विभाग ने ई-लर्निंग में मदद करने के लिए वेबसाइट www.haryanaedusat.com बनाई है। एजुसेट नेटवर्क पर टेलीकास्ट की जाने वाली ऑडियो, वीडियो सामग्री भी पोर्टल पर उपलब्ध कराई गई है, ताकि विद्यार्थी उसका उपयोग कर सकें। पढ़ाई के लिए एक सामान्य टाइम टेबल व शेड्यूल भी बनाया गया है, जो वेबसाइट पर उपलब्ध है।

अध्यापक प्रतिदिन सुबह साढ़े 9 बजे से दोपहर साढ़े 12 बजे तक विद्यार्थियों को ऑनलाइन पढ़ाएंगे। विद्यार्थी घर पर रहकर अपने माता-पिता और बड़ों की मदद से क्लास ज्वॉइन करेंगे। इससे विद्यार्थियों को अपनी पढ़ाई में निरंतरता बनाए रखने में मदद मिलेगी। वेबसाइट पर शिक्षा विभाग की विभिन्न पहल जैसे ‘दीक्षा’ और ‘चॉक-लिट’ के लिंक भी हैं।

यही नहीं विद्यार्थियों की ई-लर्निंग का परीक्षण करने के लिए वेबसाइट पर ‘ऑब्जेक्टिव टाइप क्वेश्चन बैंक’ भी उपलब्ध हैं।
... और पढ़ें

कोराना जांच के लिए भेजी गई 11 लोगों की रिपोर्ट आई निगेटिव

सांकेतिक तस्वीर
कोरोना वायरस संक्रमण की जांच के लिए 11 व्यक्तियों की भेजी गई रिपोर्ट निगेटिव आई है। इनमें से तब्लीगी जमातियों के संपर्क में आए आठ लोग शामिल हैं। इनमें से सात लोग रूपाणा बिश्नोईयां, रुपाणा गंजा और जोगीवाला गांव के थे। इन लोगों को बुधवार शाम को सिविल अस्पताल से छुट्टी देकर घरों में ही क्वारंटीन किया जाएगा। दूसरी ओर बफर जोन घोषित गांव चाहरवाला और रूपाणा बिश्नोईयां के 1466 लोगों की स्वास्थ्य जांच कर 14 दिन के लिए क्वारंटीन किया गया है। जिला में बाहर से आए 544 लोगों में से 350 ने अपना क्वारंटीन पीरियड पूरा कर लिया है। सीएमओ सुरेंन्द्र नैन ने बुधवार को उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान की अध्यक्षता में जूम एप पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान दी।
सीएमओ सुरेंद्र नैन ने बताया कि कोरोना वायरस की लंबित रही 11 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इनमें आठ जमातियों के संपर्क में आए थे। उन्होंने बताया कि जिला में बाहर से आए 544 लोगों में से 350 ने अपना क्वारंटीन पीरियड पूरा कर लिया है। इसी प्रकार बफर जोन घोषित गांवों के 1466 लोगों की स्वास्थ्य जांच की गई है। जांच में सभी स्वस्थ पाए गए हैं, लेकिन एहतियात के तौर पर इन सभी को 14 दिन के लिए क्वारंटीन किया गया है। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की ओर से सामान्य मरीजों की ऑनलाइन ओपीडी की जा रही है। उपायुक्त ने सीएमओ को निर्देश देते हुए कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी निजी एम्बूलेंस का गलत प्रयोग न हो। इसके लिए विशेष निगरानी रखी जाए और उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए।
बफर जोन गांवों का स्वास्थ्य विभाग ने किया सर्वे
फतेहाबाद जिला के गांव जांडवाला में कोरोना संक्रमण से ग्रसित युवक पाए जाने के बाद साथ लगते सिरसा जिला के गांव चाहरवाला को बफर जोन घोषित किया गया है। गांव जांडवाला के पास लगते गांव चाहरवाला, जोगीवाला, रूपाणा विश्रोईयां और रूपाणा गंजा में प्रशासन ने एहतियात के तौर पर सुरक्षा प्रबंधों को कड़ा कर दिया है। रूपाणा विश्रोईयां और चाहरवाला में नाथूसरी चोपटा के सीएचसी इंचार्ज डॉ. दीपक की अगुवाई में स्वास्थ्य विभाग और महिला एवं बाल विकास विभाग की संयुक्त 20 टीमें सभी ग्रामीणों के घर जाकर स्क्रीनिंग कर रही हैं। एक टीम में हेल्थ वर्कर्स, आशा वर्कर्स और आंगनबाड़ी वर्कर्स को शामिल किया गया है। जोगीवाला और रूपाणा गंजा में वीरवार को टीमें जांच करेंगी। साथ ही जांडवाला से गांव चाहरवाला आने के लिए दोनों रास्तों पर पुलिस द्वारा नाकेबंदी कर दी गई है। इस दौरान गांव चाहरवाला से बाहर जाने और आने पर पूर्णत: प्रतिबंध लगा दिया है।
12 लोगों में खांसी जुकाम के मिले सामान्य लक्षण
जांच के दौरान चाहरवाला गांव में 1012 घरों में 5259 का सर्वे किया गया। इसमें से 12 लोग खांसी, जुकाम के सामान्य लक्षण मिले। इन्हें होम क्वारंटीन किया गया। लेकिन इनका पॉजिटिव केस से कोई संपर्क नहीं है। इसी प्रकार से रूपाणा बिश्नोईयां में 48 घरों में 242 लोगों का सर्वे किया गया। लेकिन किसी में खांसी जुकाम के लक्षण नहीं मिले। वहीं शहर की बंसल कॉलोनी में बुधवार को एक महिला को सिविल अस्पताल में आइसोलेट किया गया। इस महिला को खांसी थी। किसी ने कंट्रोल रूम को शिकायत दी कि महिला को काफी समय से खांसी है। हालांकि महिला का दिल्ली से किसी बीमारी का इलाज चल रहा था। लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने महिला को एहतियात के तौर पर सिविल अस्पताल में क्वारंटीन किया है।
... और पढ़ें

प्रतिदिन सुबह और शाम 50-50 किसानों से होगी सरसों और गेहूं की खरीद

15 अप्रैल से सरसों और 20 अप्रैल से गेहूं की फसल की खरीद शुरू होगी। सरसों और गेहूं की खरीद को लेकर बुधवार को डीसी रमेश चंद्र बिढान के नेतृत्व में आढ़ती एसोसिएशन और खरीद एजेंसियों के साथ बैठक हुई। बैठक में प्रशासन ने 13 खरीद केंद्रों के अतिरिक्त गांवों में आढ़ती की सुविधा अनुसार खरीद केंद्र बनाने का प्रस्ताव रखा और इसके लिए मनरेगा के तहत मजदूर उपलब्ध रखवाने की बात कही। लेकिन आढ़तियों ने इस पर सहमति नहीं दी।
आढ़ती एसोसिएशन ने कहा कि मनरेगा में ज्यादातर मजदूर बुजुर्ग और महिलाएं होती हैं, गेहूं और सरसों के लदान का काम आसान नहीं है। इसके लिए कुशल मजदूर ही होने चाहिए। आढ़ती एसोसिएशन ने डीसी के समक्ष लदान के लिए मजदूरों का मुद्दा भी रखा। आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान हरदीप सिंह सरकारिया ने कहा कि सरसों और गेहूं की सिलाई के लिए जो मशीनी कारीगर आते थे वे पश्चिम बंगाल और बिहार के हैं। लेकिन लॉकडाउन के कारण वे नहीं आ सकते। प्रशासन उनके आने के लिए कोई परमिट की व्यवस्था करें तो हम उनके नंबर उपलब्ध करवा सकते हैं। लेकिन यह मामला अंतरराज्जीय होने के कारण इस पर सहमति नहीं बन पाई। आढती एसोसिएशन ने कहा कि यदि खरीद एजेंसियां मशीनी सिलाई की बजाए सूतली की सिलाई करने पर सहमति दे तो स्थानीय मजदूर भी ये सिलाई आसानी से कर सकेंगे। हैफेड अधिकारियों ने इस मामले पर स्थानीय स्तर पर फैसला लेने की बजाए अपने मुख्यालय को अवगत करवाने का फैसला किया। आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान हरदीप सरकारिया ने कहा कि लॉकडाउन के चलते किसान अपनी सुविधा अनुसार घरों में फसल को स्टॉक करें। महामारी से बचने के लिए सीजन लंबा चलें तो कोई परेशानी नहीं होगी। हमने प्रशासन के समक्ष कुछ मुद्दे रखे। गांवों में खरीद केंद्र बनाने पर अभी एसोसिएशन ने कोई फैसला नहीं लिया।
दो पाली में आएंगे 50-50 किसान
मार्केट कमेटी के सचिव विकास सेतिया ने बताया कि सरसों की खरीद के लिए प्लान तैयार किया गया है। इनकी खरीद के लिए प्लान तैयार किया है, जिसके अनुसार हर दिन 100 किसानों की सरसों की खरीद की जाएगी। दो पाली में 50 किसानों की सुबह और 50 किसानों की शाम को फसल की खरीद की जाए। ताकि सामुदायिक दूरी बनाई रखी जा सकें। खरीद आढ़तियों के माध्यम से ही की जाएगी।
इन मंडियों में होगी सरसों की खरीद
जिले में सरसों की खरीद हैफेड, हरियाणा वेअरहाउस, एफसीआई, फूड एंड सप्लाई विभाग करेगा। हालांकि अभी सरकार ने यह तय नहीं किया कि किसी एजेंसी किस मंडी में खरीद करेगी। जिले में सरसों खरीद के लिए 13 खरीद केंद्र बनाए गए है। जिसमें कि सिरसा अनाज मंडी, मल्लेका, चोपटा, पंजुआना, पनिहारी, रसूलपुर, बप्पां, भावदीन, दड़बी, कुतियाना, साहुवाला, मंगाला, गुडियाखेडा चिन्हित किया गया है। इसके अतिरक्ति प्रशासन ने आढ़तियों से भी अपनी सुविधा अनुसार गांवों में खरीद केंद्र बनाने का प्रस्ताव मांगा है। हालांकि अभी इस पर आढ़ती कोई फैसला नहीं ले पाए।
गेहूं के लिए किसान 19 अप्रैल तक कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन: डीसी
उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ान ने बताया कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार जिला में 15 अप्रैल से सरसों और 20 अप्रैल से गेहूं की खरीद शुरू की जाएगी। किसान अपनी गेहूं की फसल का पंजीकरण ऑनलाइन अवश्य करवा लें ताकि उन्हें अपनी फसल बेचने मेें किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो। सरसों खरीद के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि पंजीकृत किसानों के मोबाइल नंबर पर सरसों खरीद से संबंधित मैसेज भेजा जाएगा जिसमें सरसों बेचने हेतु संबंधित मंडी में दिन व समय दिया जाएगा तथा किसान निर्धारित दिन और समय पर मंडी में अपनी सरसों की फसल ला सकेगा। उन्होंने बताया कि गेहूं की खरीद केवल पंजीकृत किसानों से की जाएगी, इसलिए किसान 19 अप्रैल तक अपना पंजीकरण फसलएचआरवाईडॉटइन पोर्टल पर स्वयं या संबंधित सीएससी सेंटर से अवश्य करवा लें।
... और पढ़ें

शॉर्टसर्किट से स्पेयर पार्ट्स की दुकान कान में लगी आग

शहर के सिरसा रोड़ स्थित ऑटो मार्केट में एक स्पेयर पार्ट्स की दुकान में मंगलवार रात शॉर्ट सर्किट के कारण आग लग गई। घटना की जानकारी दुकान मालिक प्रवीण को बुधवार सुबह पड़ोसियों ने फोन पर दी। जिसके पश्चात घटना की सूचना फायर ब्रिगेड और पुलिसकर्मियों को भी दी गई। फायर बिग्रेड ने तुरंत मौके पर पहुंचकर करीब आधे घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। प्रत्यक्षदर्शी एक दुकानदार ने बताया कि उसका घर मार्केट के बिल्कुल करीब है, जब वह सुबह करीब पांच बजे घर से बाहर आया तो देखा की मार्केट से जोरदार धुआं आ रहा है, तब उसने पास जाकर देखा तो उपरोक्त दुकान में आग लगी हुई मिली। जिसकी सूचना उसे तुरंत दुकान मालिक प्रवीण बंसल को फोन से दी। वहीं दुकान मालिक प्रवीण का कहना है कि लॉकडाउन के दौरान उसने उपमंडल प्रशासन के आदेशानुसार अपनी इस स्पेयर पार्ट्स की दुकान को मंगलवार को सुबह आठ से दस बजे तक खोली थी, और घर जाते समय उसने अच्छे से सभी के बिजली स्विच भी बंद कर दिए थे। उन्होंने बताया कि दूकान में आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट है। ... और पढ़ें

Coronavirus: हरियाणा में कोरोना पीड़ितों की संख्या पहुंची 161, 13882 लोग चिकित्सा निगरानी में

हरियाणा में कोरोनाग्रस्त मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। मरीजों की संख्या अब 161 तक पहुंच गई है। किसी तरह इस संक्रमण को हरियाणा में रोका जाए, इसे लेकर सरकार भी जी-तोड़ कोशिशों में लगी हुई है।

इन 161 संक्रमित मरीजों में से 102 लोग विभिन्न राज्यों से ताल्लुक रखने वाले तब्लीगी जमात से है, जो हरियाणा पहुंचे थे। वे उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, केरल, पंजाब, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, चेन्नई, असम, महाराष्ट्र, जम्मू-कश्मीर, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश राज्यों से हैं।

प्रदेश में अभी तक कुल 2650 सैंपल में से 1885 लोगों के सैंपल निगेटिव आए हैं। कुल 612 सैंपल की रिपोर्ट का इंतजार है। बढ़ते कोरोनाग्रस्त मरीजों की संख्या को देखते हुए सरकार ने अभी तक प्रदेश में 13882 लोगों को मेडिकल सर्विलांस के दायरे में रखा है।

जिलों में अब तक आ चुके इतने मामले
कोरोनाग्रस्त मरीजों में अब तक अंबाला में 4, भिवानी में 2, चरखी दादरी में 1, फरीदाबाद में 28, फतेहाबाद में 1, गुरुग्राम में 34, हिसार में 1, जींद में 1, करनाल में 5, कैथल में 2, नूंह में 40, पलवल में 28, पानीपत में 4, पंचकूला में 2, रोहतक में 2, सिरसा में 3 व सोनीपत में 4 मरीज सामने आए हैं।

गुरुग्राम-फरीदाबाद हॉटस्पॉट घोषित
प्रदेश के दो जिलों गुरुग्राम और फरीदाबाद को कोरोना हॉटस्पॉट घोषित कर दिया गया है। क्योंकि गुरुग्राम में मरीजों की संख्या 34 और फरीदाबाद में 28 हो गई है। हालांकि पलवल और नूंह में भी काफी मामले सामने आ चुके हैं, लेकिन वे तब्लीगी जमात से जुड़े लोग हैं। लिहाजा भविष्य में इन जिलों को भी हॉटस्पॉट घोषित किया जा सकता है।
... और पढ़ें

अवैध शराब बना रहे तीन के खिलाफ केस दर्ज

क्षेत्र के गांव माधोसिंघाना में बीते दिन मंगलवार को किसी व्यक्ति ने पुलिस कंट्रोल रूम में फोन कर एक ढाणी में आग लगने की सूचना दी। जब पुलिस की टीम गांव में पहुंची तो मुखबिर से पता चला कि आग लगने की सूचना झूठी थी। जिस ढाणी में आग लगने की सूचना मिली थी, वहां कुछ लोग शराब निकाल रहे थे। जब शराब निकाल रहे लोगों को पुलिस को जानकारी मिलने की बात पता चली तो उन्होंने वहां पड़ी तूड़ी को आग लगा दी, ताकि शराब निकालने का पता न चले। जानकारी अनुसार पुलिस कंट्रोल रूम में किसी व्यक्ति ने फोन कर गांव माधोसिंघाना में खेतों में बनी एक ढाणी में आग लगने की सूचना दी। कंट्रोल रूम से सूचना मल्लेकां चौकी पुलिस को दी गई। सूचना पाकर पुलिस गांव में पहुंची तो मुखबिर से पता चला कि आग लगने की सूचना झूठी थी। मुखबिर ने पुलिस को बताया कि संदीप, राजेश और परमवीर निवासी माधोसिंघाना मिलकर संदीप की ढाणी में बने तूड़ी वाले कमरे में सिलेंडर की भट्टी से नाजायज शराब निकाल रहे हैं और पकड़े जाने के डर से सबूत को मिटाने के लिए तूड़ी के कमरे में आग लगाई हैै। जब पुलिस टीम खेत में मौके पर पहुंची तो संदीप के परिवार के सदस्य आग बुझा रहे थे। संदीप, राजेश और परमवीर तीनों मौके से भाग गए थे। जब पुलिस टीम ने छत के मलबे को साइड में करके जांच की तो पाया कि एक सिलेंडर जला हुआ पड़ा है और उसके साथ पाइप, रेगुलेटर, भट्टी, स्टील की प्लेट, बाल्टी, मटका व प्लास्टिक की बोतल पड़ी है, जिसमें अवैध शराब पड़ी थी। मटकी का मुंह किसी कपड़े से बांधा हुआ था। जब मटकी को खोलकर चेक किया तो उसमें 30 लीटर लाहन निकला। जांच अधिकारी एएसआई राजबीर सिंह ने बताया कि शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर लिया गया है। तीनों को काबू कर जांच के बाद ही आगामी कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें

10.40 ग्राम हेरोइन सहित युवक काबू

जिला की एंटी नारकोटिक्स सेल पुलिस ने गश्त व चेकिंग के दौरान बेगू रोड़ सिरसा क्षेत्र एक युवक को 10 ग्राम 40 मिलीग्राम हेरोइन के साथ काबू किया है। पकड़े गए युवक की पहचान पंकज कुमार उर्फ ढांडू निवासी इंद्रा विकास कॉलोनी बेगू रोड़ सिरसा के रुप में हुई है। एंटी नारकोटिक्स सेल के प्रभारी सहायक उपनिरीक्षक महेंद्र सिंह ने बताया की पकड़े गए युवक से सप्लायर के बारे में नाम पता मालूम कर दो लोगों के खिलाफ थाना शहर सिरसा में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज कर सप्लायर की तलाश शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि नारकोटिक्स सेल की एक पुलिस टीम बेगू रोड़ सिरसा क्षेत्र में मौजूद थी, इसी दौरान सामने से आ रहे युवक ने पुलिस पार्टी को देखकर वापस मुड़कर भागने की कोशिश की तो शक के आधार पर उक्त युवक को काबू कर उसकी तलाशी लेने पर उसके कब्जे से 10 ग्राम 40 मिलीग्राम हेरोइन बरामद हुई है। पकड़े गए युवक को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान हेरोइन तस्करी के इस नेटवर्क से जुडे़ अन्य लोगों के बारे में नाम पता मालूम कर उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us