जिले में नहीं है कोई कोरोना पॉजिटिव, बचाव के लिए घर से ना निकलें: डीसी

Amar Ujala Bureauअमर उजाला ब्यूरो Updated Tue, 24 Mar 2020 09:54 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
यमुनानगर। डीसी मुकुल कुमार ने कोरोना वायरस से बचाव को लेकर अपने कार्यालय में जिला के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने करोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए नगर निगम आयुक्त तथा ग्रामीण क्षेत्र में डीडीपीओ के माध्यम से हापोक्लोराईड सोल्यूशन से सफाई कराने के आदेश दिये हैं, ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग व अन्य संबंधित विभागों द्वारा जिले में स्थित सभी कार्यालयों, सचिवालय, कोर्ट तथा अस्पतालों, सार्वजनिक स्थानों में हाईपोक्लोराईड सोल्यूशन का छिड़काव कर संक्रमण को रोका जा रहा है, परंतु घरों में छिड़काव के लिये किसी को भी अधिकृत नहीं किया गया है।
विज्ञापन

उन्होंने बताया कि प्रशासन द्वारा सेल्फ हेल्प ग्रुप के सहयोग से कपडे़ के मास्क बनवाये जा रहे हैं। इस मास्क को प्रतिदिन धो कर व पूर्णत: प्रैस करने के पश्चात ही प्रयोग में लाया जा सकता है। ये मास्क सभी विभागों के कार्यरत कर्मचारियों को निम्न दरों पर उपलब्ध कराये जा रहे हैं तथा इन्हें घर पर भी तैयार कर प्रयोग में लाया जा सकता है।
उन्होंने बताया कि जिला यमुनानगर में अभी तक कोई भी व्यक्ति कोरोना से ग्रस्त नहीं पाया गया है, परंतु विदेश से यात्रा कर वापस आये व्यक्तियों को अलग कर अपने ही घर पर रहने की सलाह दी गई है तथा उनके घरों के बाहर स्वास्थ्य विभाग द्वारा सूचना पट्टी भी लगाई गयी है।
सिविल सर्जन डॉ. विजय दहिया ने बताया है कि जिन व्यक्तियों के घरों के बाहर सूचना पट्टी लगाई गई है वे कोरोना से ग्रस्त नहीं है। उन्हें सावधानी के तहत उन्हें अन्य लोगों से अलग रखा गया है। क्योंकि कोरोना के लक्षण 14 दिन तक कभी भी आ सकते हैं।
उन्होने सभी से आग्रह किया है कि यदि किसी के आस-पास में कोई ऐसा घर है, जिसे 14 दिन के लिये घर पर रहने की सलाह दी गई हो और उसका कोई व्यक्ति घर से बाहर जाता हो तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग या प्रशासन के हेल्प लाईन नम्बर 7027823288, 7027972089 पर करें। डॉ. दहिया ने यह भी बताया की जिन व्यक्तियों को 14 दिन के पृथक उपचार पर रखा गया है, उनकी लगातार स्वास्थ्य विभाग द्वारा निगरानी कि जा रही है तथा सभी स्वास्थ्यकर्मियों को आदेश जारी किये गये हैं कि यदि इन परिवारों में किसी भी व्यक्ति का स्वास्थ्य बिगड़ता है तो तुरंत उसे सिविल अस्पताल या अलगाव वार्ड में भेज उसकी जांच करायें। वह व्यक्ति जिसे घर पर पृथक निगरानी में रखा हुआ है स्वयं भी हेल्प लाईन नंबर या 108 पर फोन कर एंबूलेंस बुला सकता है।
उन्होंने बताया कि जिला से पांच लोगों के सैंपल खानपुर में जांच के लिए भेजे गए तथा इससे पूर्व भी पांच सैंपल भेजे गए थे, जिनका रिजल्ट नेगेटिव पाया गया। इस बैठक में नगरनिगम के आयुक्त धर्मबीर सिंह, पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग, अतिरिक्त उपायुक्त प्रतिमा चौधरी, जिला परिषद के चेयरमैन सोहन लाल गोयल, बिलासपुर के एसडीएम नवीन आहुजा, रादौर के एसडीएम कंवरसिंह, जगाधरी के एसडीएम दर्शन कुमार, नगराधीश भारत भूषण कौशिक, जिला राजस्व अधिकारी अभिषेक, डीडीपीओ शंकर लाल गोयल सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us