विज्ञापन
विज्ञापन
जगन्नाथ मंदिर में पौष पूर्णिमा पर कराएं पूजन, वैवाहिक बाधाएं होंगी दूर !
Puja

जगन्नाथ मंदिर में पौष पूर्णिमा पर कराएं पूजन, वैवाहिक बाधाएं होंगी दूर !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

आधी रात को दरवाजा खटखटाकर घर में घुसे लुटेरे, महिलाओं पर डंडे से हमलाकर की लूटपाट

हरियाणा के सिरसा में सोमवार देर रात करीब डेढ़ बजे कालांवाली के वार्ड नंबर तीन में पांच-छह युवकों ने एक घर में घुसकर लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया। चोरों ने घर में महिलाओं पर डंडों से हमला कर उन्हें घायल कर दिया।

भागते समय लुटेरों ने फायरिंग भी की। एक युवक की टांग में गोली लगी। इसके बाद लुटेरे घर से नकदी और आभूषण लूटकर ले गए। वारदात की सूचना मिलते ही कालांवाली पुलिस मौके पर पहुंची। वहीं सीआईए सिरसा, सीआईए डबवाली, फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट टीम ने भी घटनास्थल का जायजा लिया।      


कालांवाली के वार्ड तीन निवासी महावीर की पत्नी प्रवीण ने बताया कि रात करीब एक बजे वह, उसका पति महावीर, ससुर रामकिशन, सास पालो देवी, ननद कांता और किरण अपने अपने कमरों में सो रहे थे। रात करीब एक बजे बाहर से किसी ने जोर जोर से दरवाजा खटखटाया।
 
शोर सुनकर जब उसके पति और ससुर ने दरवाजा खोला तो बाहर पांच-छह नकाबपोश खड़े थे, जिनके हाथों में पिस्तौल और डंडे थे। हमलावरों ने उसकी सास पालो देवी, ससुर रामकिशन, ननद किरण पर डंडों से हमला कर दिया, जबकि दादी सास सरवती को दीवार से टकरा दिया। किरण और कांता के कानों की बालियां छीन लीं। बाद में हमलावर अलमारी और संदूक में रखी नकदी व जेवरात भी ले गए। 

प्रवीण ने बताया कि जब उन्होंने शोर मचाया तो पड़ोसी मौके पर इकट्ठा हो गए। जिसके बाद हमलावर फायरिंग करते हुए भाग गए। फायरिंग में अंकुर वर्मा के पैर में गोली लगी। कालांवाली थाना के एएसआई राजकुमार पुलिस टीम सहित मौके पर पहुंचे। सुबह सीआईए सिरसा, सीआईए डबवाली, फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट टीमें मौके पर पहुंची। पुलिस टीम क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिंग खंगाल रही है। कालांवाली पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।
 
... और पढ़ें
सिरसा में लूट की वारदात के बाद जांच करते पुलिसकर्मी। सिरसा में लूट की वारदात के बाद जांच करते पुलिसकर्मी।

टोहाना हत्याकांड : हत्यारे की पत्नी के साथ थे वकील के संबंध, पत्नी ने जान देकर चुकाई थी कीमत 

हरियाणा के फतेहाबाद के टोहाना में एक महिला को अपने पति के संबंधों की कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ी। टोहाना के वकील चिमनलाल गोयल की पत्नी कुसुमलता की हत्या कैनाल पटवारी राजविंद्र उर्फ राजा ने अपने पिता की लाइसेंसी पिस्तौल से की थी। 

आरोपी ने पुलिस को बताया कि जब वह पैसे मांगने वकील के घर गया तो कुसुमलता ने उसकी पत्नी के साथ अपने वकील पति के संबंध होने की बात कही थी। इसी कारण उसने वारदात को अंजाम दिया। आरोपी हत्या के लिए जब वकील के घर में घुसा, उस समय वहां नौकरानी भी मौजूद थी। राजविंद्र के हाथ में पिस्तौल व चाकू देखकर वह डर गई। तब उसने कहा कि मेरी दुश्मनी वकील और उसकी पत्नी से है। उसे घबराने की जरूरत नहीं है। 

यह भी पढ़ें - 
आधी रात को दरवाजा खटखटाकर घर में घुसे लुटेरे, महिलाओं पर डंडे से हमलाकर की लूटपाट

एसपी राजेश कुमार ने बताया कि राजविंद्र ने वारदात को लेकर जो बयान दिए हैं, उससे मिलते-जुलते ही नौकरानी राजो देवी के बयान भी हैं। आरोपी राजविंद्र वकील और उसकी पत्नी को पहले से ही जानता है। वकील का भी राजविंद्र के घर आना-जाना था। एसपी के अनुसार, आरोपी की पत्नी के वकील के साथ संबंध भी थे। राजविंद्र वकील से पैसे भी उधार ले जाता रहा है। 

एसपी के मुताबिक, आरोपी पहले वकील के घर आया था। उसने वकील की पत्नी से पैसे मांगे थे। उसने पैसे देने के बजाय अपने पति और आरोपी की पत्नी के संबंधों को लेकर टिप्पणी कर दी। उनकी काफी देर बहस होती रही। इसके बाद आरोपी राजविंद्र वहां से चला गया। कुछ देर बाद घर से चाकू और पिता की लाइसेंसी पिस्तौल लेकर स्कूटी पर वकील के घर पहुंचा और पहले कुसुमलता पर चाकू से वार किए। जब उसने भागने की कोशिश की तो उस पर गोली चला दी। 

यह भी पढ़ें - फेसबुक पर हुआ प्यार, गोवा से पानीपत पहुंची किशोरी, अब प्रेमी पर लगाया दुष्कर्म का आरोप

आरोपी जब वकील के घर में घुसा तो उस समय नौकरानी भी मौजूद थी। वह डर गई थी। एसपी ने बताया कि आरोपी नशे का आदी है। वारदात के दौरान भी उसने नशा किया हुआ था। इसलिए पुलिस ने पूरा खुलासा करने में दो दिन का समय लिया है, ताकि यूं न लगे कि कोई बात नशे में कही गई है। आरोपी से वारदात में प्रयोग की गई पिस्तौल, चाकू, स्कूटी के अलावा मृतका का मोबाइल भी बरामद कर लिया गया है।
... और पढ़ें

हरियाणा में कोरोना टीकाकरण का दूसरा सत्र, पंचकूला में फ्रंटलाइनर्स में नहीं दिखा उत्साह

हरियाणा के पंचकूला में मंगलवार को पांच केंद्रों में कोरोना टीकाकरण का दूसरा सत्र शुरू हुआ। टीकाकरण के दूसरे दिन उत्साह ठंडा ही रहा। टीकाकरण का समय सुबह दस बजे तय किया गया था लेकिन कुछ ही केंद्रों में फ्रंटलाइन वर्कर पहुंचे। 

टीकाकरण के दूसरे सत्र में ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन न होकर कोविन पोर्टल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन हुआ था। इसलिए पहले ही तय था कि किसको टीका लगाया जाएगा। ऐसी स्थिति में फ्रंटलाइनर्स की टीम हरेक सेंटर में साढ़े दस बजे तक पहुंची।


पंचकूला के पांच केंद्रों, सेक्टर-4 की डिस्पेंसरी, सेक्टर-7 की डिस्पेंसरी, गवर्नमेंट हॉस्पिटल पिंजौर, अलकेमिस्ट हॉस्पिटल और पिंजौर के पीएचसी में टीकाकरण किया गया। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से सारा इंतजाम किया गया था। सुबह करीब साढ़े दस बजे पिंजौर के पीएचसी में टीका लगाया गया। यह टीका एसएमओ राजेश ख्यालिया को लगाया गया।

वहीं, सेक्टर-4 की डिस्पेंसरी में टीका लगवाने के लिए सामान्य भीड़ रही। सेक्टर-7 में डॉ. मीनू खुद मौजूद रहीं और स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगवाया। वहीं, कालका और अलकेमिस्ट अस्पातल में टीकाकरण सामान्य रूप से चला। 

टीका लगवाने वाले डॉ. राजेश ने कहा कि उनको किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं हुई। टीका लगवाने के बाद हरेक को आधा घंटा आब्जर्वेशन रूम में बैठाया गया। यहां उनके जाने के पहले डाक्टरों ने उनसे स्वास्थ्य की जानकारी भी ली।
... और पढ़ें

हरियाणा : निर्मला सीतारमण के साथ मनोहर लाल की बैठक, केंद्र से सीएम ने मांगे पांच हजार करोड़

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने केंद्र सरकार से केंद्रीय बजट 2021-22 में हरियाणा को विभिन्न परियोजनाओं के लिए पांच हजार करोड़ दिए जाने की मांग की है। मुख्यमंत्री ने यह मांग सोमवार को दिल्ली में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हुई बजट पूर्व बैठक में हिस्सा लेने के दौरान उठाई।

बैठक में मुख्यमंत्री ने केंद्रीय वित्त मंत्री को हरियाणा की विभिन्न महत्वपूर्ण परियोजनाओं के लिए वित्तीय आवश्यकताओं के बारे में अवगत करवाया। बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में मनोहर लाल ने कहा कि लघु सिंचाई परियोजनाओं और तालाबों के जीर्णोद्धार के लिए केंद्रीय बजट 2021-22 में हरियाणा को 1000 करोड़ और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के विकास के लिए 1000 करोड़ की रकम प्रदान करने की मांग की। इसके अलावा ग्रामीण विकास, कोविड-19 प्रबंधन, स्वास्थ्य व आधारभूत मेडिकल सुविधाओं के लिए 3000 करोड़ रुपये की मांग की। 

बजट पूर्व बैठक में हरियाणा वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टीवीएसएन प्रसाद और वित्त विभाग के अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने बताया कि हरियाणा में करीब दो हजार करोड़ का खर्च कोविड के दौरान हो चुका है। इस खर्च के लिए प्रदेश तैयार नहीं था लेकिन यह खर्च करना भी जरूरी था। हम तालाबों के जीर्णोद्धार पर भी काम कर रहे हैं। जिसके लिए बड़ी रकम की जरूरत है। इन्हीं सब आवश्यकताओं पर केंद्रीय नेताओं से बातचीत हुई है। उम्मीद है हरियाणा को बजट में बड़ी राहत मिलेगी, जिससे प्रदेश की रुकी हुईं विकास परियोजनाएं गति पकड़ेंगी।
... और पढ़ें

हरियाणा : कोरोना से चार की मौत, 119 पॉजिटिव मिले, सोमवार को 11457 लोगों को लगा टीका

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल हुए मनोहर लाल।
हरियाणा में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार कम होते जा रहे हैं। साथ ही मृत्यु का आंकड़ा भी कम हो रहा है। सोमवार को प्रदेश में कोरोना से चार मरीजों की मौत हो गई, जबकि संक्रमण के 199 नए केस सामने आए हैं। राहत की बात यह है कि एक ही दिन में 280 लोगों को ठीक होने पर अस्पतालों से डिस्चार्ज किया गया। इस समय रिकवरी 98.15 और मृत्यु दर 1.12 प्रतिशत है। 

सोमवार को कुरुक्षेत्र, पंचकूला, हिसार और यमुनानगर में एक मरीज की मौत हो गई। इसी के साथ गुरुग्राम में 32 और फरीदाबाद में 21 नए मामले सामने आए हैं, जबकि अन्य सभी जिलों में संक्रमण के केस 15 से भी नीचे हैं। चरखी दादरी, नूंह, कैथल, पलवल, झज्जर में एक भी केस नहीं मिला है।

11457 लोगों को लगाई कोरोना वैक्सीन
सोमवार को प्रदेश में दूसरे दिन 182 स्थानों पर 11457 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई है। हालांकि विभाग का टारगेट 188007 लोगों का था। स्वास्थ्य विभाग की ओर से लिस्ट में अंबाला में 400, भिवानी में 232, चरखी दादरी में 50, फरीदाबाद में 1362, फतेहाबाद में 271, गुरुग्राम में 2881, हिसार में 1364, झज्जर में 137, जींद में 88, कैथल में 254, करनाल में 400, कुरुक्षेत्र में 81, महेंद्रगढ़ में 624, मेवात में 961, पलवल में 270, पंचकूला में 16, पानीपत में 130, रेवाड़ी में 293, रोहतक में 122, सोनीपत में 1156 और यमुनानगर में 366 लोगों को दवा लगाई गई। सिरसा जिले में टीकाकरण का आंकड़ा शून्य रहा।

प्रत्येक हरियाणावासी को मुफ्त मिले कोरोना वैक्सीन : कुमारी सैलजा
हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने हरियाणा सरकार से प्रदेश वासियों को कोरोना वैक्सीन मुफ्त देने की मांग की है। कुमारी सैलजा ने कहा कि वैक्सीन पर आने वाला पूरा खर्च केंद्र की सरकार वहन करे। हरियाणा सरकार यह भी सुनिश्चित करे कि प्रदेश के प्रत्येक नागरिक को जल्द से जल्द सबसे सुरक्षित कोरोना वैक्सीन मिले। हरियाणा सरकार इन सबके लिए केंद्र सरकार पर दबाव बनाए।

कुमारी सैलजा ने कहा कि अभी हाल ही में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अपने चुनावी घोषणापत्र में बिहार के सभी लोगों को मुफ्त कोरोना वैक्सीन देने का वादा किया था। इसके साथ ही अन्य राज्य सरकारों ने भी अपने नागरिकों के लिए मुफ्त वैक्सीन प्रदान करने की घोषणा की है। अगर अन्य स्थानों पर मुफ्त कोरोना वैक्सीन दी जा सकती है तो यह हरियाणा में भी मुमकिन है।
... और पढ़ें

किसान मोर्चा का फैसला- अब किसी भी राजनीतिक दल की बैठक में शामिल नहीं होंगे गुरनाम सिंह चढ़ूनी

किसान नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी अब किसी भी राजनीतिक दल की बैठक में शामिल नहीं होंगे। यह फैसला सोमवार शाम को संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में लिया गया। साथ ही मोर्चा ने चढ़ूनी को अपना हिस्सा बताया और कहा कि वे पहले की तरह मोर्चे के हर कार्यक्रम में शामिल होंगे। यहां तक की सरकार और किसानों के बीच होने वाली वार्ता में भी जाएंगे।

इससे पहले कुंडली बॉर्डर पर किसान नेताओं की सियासत गरमाई रही। भाकियू हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ूनी के रविवार को राजनीतिक दलों की बैठक में शामिल होने के बाद से शुरू हुई सियासत में सोमवार शाम तक खींचतान चलती रही। गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने सोमवार सुबह किसान मोर्चा के सदस्य शिवकुमार कक्का पर आरोप लगाते हुए सवाल उठाए।

इसके बाद कक्का ने चढ़ूनी को लेकर किसी तरह की टिप्पणी नहीं करने की बात कही। साथ ही कुछ लोगों पर किसान आंदोलन को तोड़ने की साजिश रचने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई कराने की बात कही। यह बात सुन चढ़ूनी के सुर भी बदल गए। वह भी कुछ लोगों पर किसान आंदोलन को तोड़ने के लिए आपसी फूट डालने का प्रयास करने का आरोप लगाने लगे। 
... और पढ़ें

हेमा मालिनी को किसानों का न्योता, लिखा- पंजाब आकर समझाएं कृषि कानून, आने-जाने का खर्च हम देंगे

पीएमएफबीवाई की तर्ज पर हरियाणा में शुरू होगी मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना, 20 फसलें होंगी शामिल

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) की तर्ज पर अब हरियाणा में मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना की शुरुआत होगी। उद्यान विभाग की ओर से इसका पूरा खाका तैयार कर लिया गया है और जल्द ही सीएम मनोहर लाल इसकी शुरुआत करेंगे। खास बात ये है कि योजना के लिए प्रारंभिक पूंजी के रूप में दस करोड़ रुपये की व्यवस्था की जाएगी। 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत भी बागवानी फसलों को कवर किया जाता है लेकिन इसमें प्रति एकड़ आश्वस्त राशि का पांच प्रतिशत प्रीमियम जमा कराना पड़ता है। मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना के तहत यह राशि 2.5 प्रतिशत होगी। इससे प्रदेश के किसानों को इस योजना में शामिल होने के लिए कम राशि जमा करानी होगी। 

20 फसलें शामिल 
बीमा योजना के तहत बागवानी की कुल 20 फसलों को शामिल किया गया है। इसमें 14 सब्जियों की फसलें, दो मसाला फसलें और चार फलों की फसलें शामिल हैं। इनमें टमाटमर, प्याज, आलू, फूलगोभी, मटर, गाजर, भिंडी, घीया, करेला, बैंगन, हरी मिर्च, पत्तागोभी और मूली हैं। मसाला फसलों में हल्दी और लहसून जबकि फलों में आम, किन्नू, बेर और अमरूद को शामिल किया गया है। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X