सांकेतिक तौर पर पुलिस ग्राउंड धर्मशाला में मनाया दशहरा पर्व

Shimla	 Bureauशिमला ब्यूरो Updated Sun, 25 Oct 2020 11:03 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
धर्मशाला। कोविड-19 के चलते इस बार धर्मशाला में दशहरा उत्सव सांकेतिक तौर पर मनाया गया। धर्मशाला के विधायक विशाल नैहरिया और उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति ने इस अवसर पर पुलिस ग्राउंड में कोविड-19 के प्रोटोकॉल की अनुपालना करते हुए सांकेतिक तौर पर पूजा-अर्चना की।
विज्ञापन

इस अवसर पर विशाल नैहरिया ने कहा कि विजयदशमी पर्व रावण पर प्रभु राम की विजय की स्मृति में मनाया जाता है। यह बुराई पर अच्छाई, अधर्म पर धर्म और असत्य पर सत्य की विजय का प्रतीक है। ऐसे पर्व संस्कृति और परंपराओं को सहेज रखने में काफी मददगार होते हैं। उन्होंने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम के जीवन मूल्यों से जुड़ा यह त्योहार नैतिकता और न्याय के महत्व को स्थापित करता है। उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति ने कहा कि यह त्योहार हमारी सांस्कृतिक एकता को सुदृढ़ करता है और हमें अच्छाई के मार्ग पर प्रेरित करता है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए सभी लोग सामाजिक दूरी की अनुपालना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव की अभी तक दवाई या वेक्सीन नहीं बनी है, इसलिए यह जरूरी है सभी लोग स्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थलों तथा बाजारों, दुकानों में भी सामाजिक दूरी बनाए रखें, मास्क पहनकर ही घर से बाहर निकलें, ताकि कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। इस अवसर पर एसडीएम हरीश गज्जू, एएसपी दिनेश शर्मा तथा दशहरा कमेटी के सदस्य उपस्थित रहे।
साधारण तरीके से मनाया गया दशहरा पर्व
नूरपुर (कांगड़ा)। कोरोना महामारी के चलते इस बार राजा साहिब रामलीला और दशहरा क्लब नूरपुर ने बहुत ही साधारण तरीके से वर्षों से चली आ रही दशहरे और रामलीला के आयोजन की परंपरा को निभाया। राजा साहिब दशहरा और रामलीला क्लब के प्रधान राकेश महाजन ने बताया कि इस बार कोरोना महामारी के चलते वे किसी भी तरह का जोखिम नहीं उठाना चाहते थे। उन्होंने कहा कि चाहे सरकार ने कुछ नियमों के साथ आयोजन की अनुमति दे दी थी, फिर भी वे लोगों की सेहत के साथ किसी भी प्रकार का जोखिम नहीं उठाना चाहते थे। उन्होंने कहा की दशहरे के आयोजन में अधिकतर बच्चे पहुंचते हैं और बच्चों की वजह से ज्यादा भीड़ इकट्ठा होना मामूली बात है। वहीं, बच्चों से नियमों का पालन करवाना तो और भी मुश्किल काम है। उन्होंने कहा की वर्षों पुरानी परंपरा को निभाते हुए हर शाम को बहुत ही साधारण तरीके से दशहरे का आयोजन किया। रात को रामलीला की जगह रामायण का पाठ आयोजित किया गया। उन्होंने कहा कि इस तरह न तो भीड़ इकट्ठी हुई और वर्षों से चली आ रही परंपरा को भी निभा लिया गया।
सुराणी में युवक मंडल थलाकन ने मनाया दशहरा
ज्वालामुखी (कांगड़ा)। उपमंडल ज्वालामुखी के सुराणी ओएनजीसी ग्राउंड में युवक मंडल थलाकन की ओर से दशहरे का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में डॉ. राजीव कुंडू ने शिरकत की। इस मौके पर कार्यक्रम के संयोजक अजय राणा ने बताया कि हर वर्ष की तरह इस बार भी विजयदशमी का उत्सव चंगर क्षेत्र के सुराणी में मनाया गया। युवाओं में इस कार्यक्रम का जोश देखते ही बनता है। उन्होंने कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए युवक मंडल थलाकन को बधाई दी और मुख्य अतिथियों का आभार प्रकट किया। कार्यक्रम में हिमगिरी हिंदू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष संजय शर्मा, सचिव किशन शर्मा, ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष अतुल कौशल, अध्यापक वर्ग से सतीश, भाजपा जिला सचिव अश्विनी, ज्वालामुखी मंदिर के गोरख डिब्बी के कोठारी महंत विशेष रूप से उपस्थित रहे।
जसूर में धूमधाम से मनाया विजयदशमी पर्व
जसूर (कांगड़ा) जसूर खंड में विजयदशमी का कार्यक्रम बड़ी धूमधाम से मनाया गया। इस कार्यक्रम में स्वयंसेवकों को डॉ. धर्मेंद्र कुमार, जिला प्रचार प्रमुख-नूरपुर का बौद्धिक प्राप्त हुआ। इसमें नौ शाखाओं से स्वयंसेवक उपस्थित रहे। उन्होंने विजयदशमी का महत्व बताया और कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में हिंदू समाज की संगठित शक्ति ही सभी समस्याओं का एक अचूक निदान है। इस अवसर पर शस्त्र पूजन भी किया गया। कहा कि पाश्विक और आसुरी शक्ति की उपासना, संघ का मंतव्य नहीं। इस कार्यक्रम में जिला कार्यवाह अरविंद भी उपस्थित रहे।
कोटला में नन्हें बच्चों ने जलाया रावण का पुतला
कोटला (कांगड़ा)। कोरोना महामारी के चलते कोटला में रामलीला का आयोजन नहीं किया गया तो दशहरे के दिन नन्हें बच्चों आर्यन, अर्पित, शौर्य, आदी और आहिल ने अपने प्रयासों से एक छोटा सा रावण का पुतला बनाया। उन्होंने कोटला में हर वर्ष होने वाली बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक दशहरा मनाने की परंपरा को जीवित रखा। वहीं, रामलीला क्लब कोटला ने भी दशहरे की परंपरा के तहत रामलीला के कलाकारों ने कोटला मैदान में पहले तो अनाधिकृत रूप से उगे हुए सूखे पौधों को उखाड़ा और इन पौधों को बुत का रूप देकर दहन कर दशहरे की परंपरा को जीवित रखा।
बच्चों ने अपने स्तर पर रावण का पुतला बना कर किया आग के हवाले
लंबागांव (कांगड़ा)। अपर लंबागांव के छोटे से गांव घरूं में बच्चों ने अपने ही अंदाज में बुराई पर अच्छाई की जीत का उत्सव मनाया। बच्चों ने खुद ही अपने जेबी खर्च से पैसे इकट्ठे किए और खुद ही रावण के पुतले का निर्माण किया। गांव के गंगोटी नामक स्थान पर रावण के पुतले के दहन का पूरा प्रबंध कर दिया। बच्चों ने गांव के बड़े-बुजुर्गों को इस कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता दिया। गांव के बुजुर्गों ने बच्चों के इस प्रयास और आपसी तालमेल की भरपूर प्रशंसा की। बच्चों की इस टोली का नेतृत्व आईआईटी खडगपुर में पढ़ रहे निशांत ठाकुर ने किया। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में बच्चों में शमु, अंश, अक्कू, गोलू, अंशु, गुगलु, गोलू, सचु और अभिनंदन ने अपना भरपूर सहयोग दिया। गांव के बजुर्गों दीनानाथ, बद्री प्रसाद, प्यार चंद, मोती राम, विक्रम सिंह, दिलावर सिंह, प्रताप चंद, लाल सिंह, जगदीश चंद, रमेश चंद आदि ने बच्चों के इस प्रयास को सराहनीय बताया।
खैरा में धू-धू कर जला रावण
खैरा (कांगड़ा)। सती मां सन्यारी प्रांगण खैरा में दशहरा पर्व धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर बाल कलाकारों ने रावण, मेघनाथ और कुंभकरण के पुतले जलाए। बाल कलाकारों ने राम और रावण की सेनाओं में शामिल होकर लोअर खैरा तक चहल कदमी की। इसके बाद राम और रावण की सेनाओं के बीच युद्ध का भव्य नाट्य मंचन किया गया। रावण की सेना की हार के बाद, रावण और अन्य पुतलों को आग के हवाले किया गया। इस अवसर पर आसपास के गांवों के काफी संख्या में लोग मौजूद रहे। इस अवसर पर मौजूद पंचायत वीरेंद्र राणा ने बुराई पर अच्छाई की जीत के पर्व पर लोगों को बधाई देते हुए उनसे सन्मार्ग पर चलने का आह्वान किया। इस अवसर पर अनीश, बॉबी, प्रिंस, मोंटू, निशबत, प्रिंस, अंचल, अनमोल, अजय, साहिल, आलिया, गौरी, गौरव और मनोहर आदि भी मौजूद रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X