बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
कन्या राशि में चंद्रदेव, सात राशि वालों के बनेंगे बिगड़े काम
Myjyotish

कन्या राशि में चंद्रदेव, सात राशि वालों के बनेंगे बिगड़े काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

हिमाचल में अब रोज 60 हजार लोगों को लगेगी कोविड-19 वैक्सीन

प्रदेश सरकार ने हिमाचल में प्रतिदिन 60 हजार लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा है। केंद्र सरकार हिमाचल को फ्री वैक्सीन उपलब्ध करा रही है। 20 जून तक हिमाचल में इसकी सप्लाई पहुंचने की संभावना है। 21 जून से यह कार्यक्रम शुरू हो जाएगा। अस्पतालों, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के अलावा अब स्कूलों, कॉलेजों, दफ्तरों और पंचायत घरों में वैक्सीन सेंटर बनाए जाएंगे।

सरकार प्रदेश में एक हजार और वैक्सीनेशन सेंटर बनाने जा रही है। वैक्सीन अभियान को लेकर स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने मेडिकल कालेजों के प्रधानाचार्यों, सीएमओ, बीएमओ को ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए कहा है। सरकार ने 18 साल से अधिक आयु वर्ग के लोगों को अक्तूबर तक वैक्सीन लगाने का टारगेट रखा है।

टीकाकरण की नई नीति के तहत वैक्सीन लगाने के लिए लाभार्थियों को दो श्रेणियों में बांटा गया है। श्रेणी-ए में पहली खुराक के लिए 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के सभी लाभार्थी, इसी आयु वर्ग के कोविशील्ड की दूसरी खुराक के लिए पात्र सभी लाभार्थी, सभी स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ता, अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ता, जबकि 18 से 44 आयु वर्ग के लाभार्थियों को बी-श्रेणी में रखा गया है। 

अक्तूबर तक 18 साल से ऊपर सभी लोगों को दोनों डोज लगाने का लक्ष्य 
स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने बताया कि हिमाचल में प्रतिदिन 60 हजार से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाने का टारगेट रखा है। अक्तूबर तक 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज लगाई जानी है।  
... और पढ़ें
कोविड-19 वैक्सीन(सांकेतिक) कोविड-19 वैक्सीन(सांकेतिक)

शिमला सैलानियों से पैक : 90 फीसदी तक पहुंची ऑक्यूपेंसी, 8000 से अधिक वाहनों ने किया प्रवेश

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के होटलों में वीकेंड पर सैलानियों का सैलाब उमड़ आया है। शहर के होटलों में शनिवार को ऑक्यूपेंसी 70 से 90 फीसदी तक पहुंच गई। कुछ होटल 100 फीसदी पैक हो गए। अगले हफ्ते के वीकेंड के लिए अभी से कुछ होटलों में 50 फीसदी तक बुकिंग हो चुकी है। शनिवार को  शहर की सबसे बड़ी लिफ्ट कार पार्किंग दोपहर ढाई बजे पैक हो गई जिसके बाद संचालकों को एंट्री प्वाइंट चेन लगाकर बंद करना पड़ा। शनिवार को रिज मैदान और मालरोड पर सैलानियों की खूब चहलपहल रही। शिमला के अलावा सैलानियों ने मशोबरा, नालदेहरा, कुफरी और नारकंडा का भी रुख किया। 

कॉम्बरमेयर होटल के महाप्रबंधक पुरुषोत्तम राणा ने बताया कि शनिवार को होटल 100 फीसदी पैक रहा। होटल विलो बैंक फ्रंट ऑफिस के मैनेजर संजय शर्मा ने बताया कि शनिवार शाम तक ऑक्यूपेंसी  95 फीसदी पहुंचने की उम्मीद है। होटल मरीना के प्रबंधक सुनील चंदेल ने बताया कि शनिवार के लिए होटल 90 फीसदी बुक हैं। होटल रेडीसन के वाइस प्रेजीडेंट विकास कपूर ने बताया कि वीकेंड पर होटलों की आक्यूपेंसी 75 फीसदी है। कुफरी के गलू स्थित होटल स्टर्लिंग के ऑपरेशन मैनेजर जीआर शर्मा ने बताया कि वीकेंड पर होटल में 80 फीसदी आक्यूपेंसी रही।

ई-पास के अप्रूवल में  पेश आ रही दिक्कत
शहर के होटल कारोबारियों का कहना है कि सैलानियों को शिमला आने के लिए ई-पास अप्रूव करवाने में दिक्कत पेश आ रही है। कई बार दो से तीन दिन बाद पास अप्रूव हो रहे हैं। कुछ होटलों में सैलानियों के ई-पास अप्रूव न होने के कारण सैलानियों को एडवांस बुकिंग रद्द भी करवानी पड़ी है।

36 घंटे में शोघी बैरियर से 8000 वाहनों की शहर में एंट्री
बीते 36 घंटों में शहर के प्रवेशद्वार शोघी बैरियर से करीब 8000 वाहनों की शहर में एंट्री हुई है। डीएसपी ट्रैफिक शिमला अजय भारद्वाज ने बताया कि शुक्रवार 18 जून को सुबह 8 बजे से शाम 8 बजे तक 3828 वाहन शोघी बैरियर से शिमला की ओर प्रविष्ट हुए। रात 8 से सुबह 8 बजे के बीच 326 वाहन और शनिवार सुबह 8 से शाम 8 बजे तक 3836 वाहनों शहर में प्रविष्ट हुए। शहर में पर्यटक वाहनों को नियंत्रित करने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।
... और पढ़ें

हिमाचल पथ परिवहन निगम ने बंद किए 222 रूट, जानें वजह

हिमाचल पथ परिवहन निगम ने शनिवार को 222 रूटों पर बस सेवा बंद की है। सवारियां न मिलने के कारण यह फैसला लिया गया है। इसमें लोकल 195 और 27 लांग रूट शामिल हैं। रविवार को भी परिवहन निगम कम रूटों पर बसें भेजेगा। बीते शुक्रवार की बात करे तो निगम ने 1639 रूटों पर बसें चलाई थीं। शनिवार को 1417 रूट पर सेवाएं दी गई। परिवहन निगम का मानना है कि शनिवार और रविवार में बाजार बंद रहते  हैं। ऐसे में ज्यादातर लोग घरों में रहते हैं। इस कारण सवारियां नहीं मिलती हैं। हालांकि, परिवहन निगम ने दावा किया है कि शनिवार को बसों में 40 फीसदी ऑक्यूपेंसी रही है। परिवहन निगम इस समय एक हजार के करीब बसें रूटों पर चला रहा है।  
 
 कब कितने रूट पर चलीं बसें   
14 जून 1226 
15 जून 1528 
16 जून 1611 
17 जून 1515 
18 जून 1639 
19 जून 1417
... और पढ़ें

सरकारी नौकरी: हिमाचल में 386 वन रक्षकों की भर्ती प्रक्रिया शुरू, जानें ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि

कोविड के चलते लगातार टल रही वन रक्षक भर्ती की प्रक्रिया  शनिवार को शुरू हो गई है। वन विभाग व वन विकास निगम में कुल 386 पदों को भरने के लिए पीसीसीएफ हॉफ की ओर से सभी वन मंडलों को भर्ती के लिए आवेदन मांगने की प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 6 जुलाई से 19 अगस्त तक सिर्फ ऑनलाइन आवेदन ही लिए जाएंगे। वन मुख्यालय की ओर से जारी आदेश के अनुसार विभाग में 311 वन रक्षक की भर्ती के लिए 5 जुलाई को संबंधित जिले के मुख्य वन अरण्यपाल या वन अरण्यपाल प्रक्रिया और चयन के मापदंड के संबंध में विज्ञापन जारी करेंगे। वहीं, वन निगम के वन रक्षक  के 75 पदों के लिए निगम के निदेशक दक्षिण विज्ञापन रिलीज करेंगे।

यह भर्ती राज्य स्तर पर होगी, जबकि वन विभाग में मंडल स्तर पर पद भरे जाएंगे।  कोविड के चलते शारीरिक दक्षता परीक्षा (पीईटी) को भी हर मंडल के स्तर पर आयोजित कराया जाएगा। पहले प्रदेश में सिर्फ तीन स्थानों पर ही पीईटी प्रस्तावित था। 20 अगस्त से 8 सितंबर के बीच आवेदनों की छंटनी होगी और 9 से 20 सितंबर के बीच शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए सूचना दी जाएगी। 21 सितंबर से 20 अक्तूबर के बीच शारीरिक टेस्ट होंगे और 21 से 25 अक्तूबर के बीच सर्किल एडमिट कार्ड अपलोड करेंगे। 31 अक्तूबर को लिखित परीक्षा होगी। वहीं, 4 से 6 दिसंबर के बीच तीन दिन में मेरिट लिस्ट बनाकर अंतिम परिणाम जारी किए जाएंगे। पीसीसीएफ हॉफ डॉ. सविता ने बताया कि पारदर्शिता बनाए रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।

कहां कितने पद भरने की है तैयारी
मंडल                संख्या 
बिलासपुर        30
चंबा                 15
धर्मशाला         57
हमीरपुर         37
कुल्लू            30
मंडी              35
नाहन            20
रामपुर          23
शिमला          24
सोलन          17
वन्यजीव शिमला        15
वन्यजीव धर्मशाला        3
जीएचएनपी शम्सी        5
वन निगम                  75
... और पढ़ें

हिमाचल में 10 और कोरोना संक्रमितों की मौत, 232 नए पॉजिटिव, जानें सक्रिय केस

हिमाचल वन विभाग
हिमाचल प्रदेश में शनिवार को 10 और कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई है। कांगड़ा, शिमला और हमीरपुर में दो-दो, जबकि चंबा, सोलन, मंडी और ऊना में एक-एक संक्रमित ने दम तोड़ा। उधर, प्रदेश में 232 नए कोरोना पॉजिटिव मामले आए हैं। कांगड़ा जिले में 47, मंडी 40, चंबा 33, शिमला 27, ऊना 16, सिरमौर 15, सोलन 13, किन्नौर 11, कुल्लू 12, बिलासपुर आठ, हमीरपुर सात और लाहौल स्पीति में तीन नए मामले आए हैं। 

बीते 24 घंटों के दौरान प्रदेश में 432 मरीजों ने कोरोना को मात दी। अब प्रदेश में कुल कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 200282 पहुंच गया है। इनमें से अब तक 193850 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। सक्रिय कोरोना मामले घटकर 2990 रह गए हैं। प्रदेश में अब तक 3423 संक्रमितों की मौत हुई है। बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना की जांच के लिए 20003 लोगों के सैंपल लिए गए। प्रदेश के सभी जिलों में सक्रिय मामले एक हजार से नीचे आए गए हैं। 

किस जिले में कितने सक्रिय मामले
कांगड़ा         783
शिमला       329
सोलन         150
मंडी            340
चंबा            307
सिरमौर       233
ऊना           234
बिलासपुर    102
हमीरपुर       226
कुल्लू          146
किन्नौर        96
लाहौल-स्पीति 44
... और पढ़ें

देवभूमि हिमाचल के बेटों ने रोशन किया नाम, वायु सेना में बने फ्लाइंग अफसर

देवभूमि के युवा हवा में उड़कर देश की सुरक्षा करेंगे। शनिवार को हैदराबाद में हुई पासिंग आउट परेड में हिमाचल प्रदेश के युवा भी फ्लाइंग अफसर बने हैं। बच्चों को फ्लाइंग अफसर बनता देख अभिभावकों की सीना गर्व से चौड़ा हो गया है। कुछ दिन पहले ही हिमाचल के 16 युवा लेफ्टिनेंट बने हैं और अब देश की रक्षा के लिए प्रदेश के युवा एयर फोर्स में फ्लाइंग अफसर बने हैं...

पिता-भाई के बाद अब मनोज भी करेंगे देश की सेवा
रामशहर की साई चढ़ोग पंचायत के रहने वाले मनोज ठाकुर इंडियन एयर फोर्स में फ्लाइंग अफसर बन गए हैं। वायुसेना की ओर से उन्हें शनिवार को ट्रेनिंग पूरी होने के बाद फ्लाइंग अफसर का रैंक मिली है। शनिवार को एयरफोर्स अकादमी हैदराबाद में उन्हें एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने एयर अफसर का रैंक दिया। मनोज ठाकुर के पिता  मिजोरम में आईजोल बटालियन में सूबेदार मेजर के पद पर तैनात हैं। उनके बड़े भाई हर्ष ठाकुर राजस्थान में कैप्टन के पद पर सेवारत है। मंगल सिंह ने बताया कि उनके दोनों बेटे देश की सेवा करेंगे। इससे बड़ी खुशी उनके लिए और कुछ नहीं है। मनोज ठाकुर ने आर्मी स्कूल और केंद्रीय विद्यालय चंडीगढ़ से अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी करने के बाद शिमला विवि से कंप्यूटर साइंस में डिग्री ली लेकिन उन्हें देश सेवा करने का जज्बा था। वर्ष 2019 में उनका एयर फोर्स में फ्लाइंग अफसर के लिए चयन हुआ तथा दो साल के प्रशिक्षण के बाद उन्हें शनिवार को हैदराबाद में फ्लाईंग आफिसर का रैंक मिल गया है। उन्होंने सफलता का श्रेय माता जया ठाकुर, पिता मंगल सिंह और बड़े भाई कैप्टन हर्ष ठाकुर को दिया है। 

मनोज ठाकुर इंडियन एयर फोर्स में फ्लाइंग अफसर बन गए हैं।
... और पढ़ें

हिमाचल भाजपा: खन्ना बोले- जीतने की क्षमता के आधार पर होगा टिकट पर फैसला

हिमाचल कर्मचारी चयन आयोग: 836 पद भरने के लिए चार जुलाई से लिखित परीक्षाएं, शेड्यूल जारी

हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग ने 53 पोस्ट कोड में 836 पदों को भरने के लिए लिखित परीक्षा का शेडयूल जारी कर दिया है। पोस्ट कोड 856 के एक पद के लिए चार जुलाई सुबह जबकि पोस्ट कोड 827 के तीन पदों के लिए चार जुलाई को शाम के सत्र में परीक्षा होगी। पोस्ट कोड 842 के तीन पदों के लिए पांच जुलाई सुबह व पोस्ट कोड 840 के एक पद को भरने के लिए शाम के सत्र में परीक्षा होगी। पोस्ट कोड 854 के तीन पदों के लिए छह जुलाई सुबह, पोस्ट कोड 850 के दो पदों के लिए 10 जुलाई सुबह, पोस्ट कोड 844 के एक पद के लिए दस जुलाई की शाम के सत्र में, पोस्ट कोड 858 के पद के लिए 11 जुलाई सुबह, पोस्ट कोड 884 के तीन पदों के लिए शाम के सत्र, पोस्ट कोड 849 के पांच पदों के लिए 18 जुलाई सुबह, पोस्ट कोड 889 के चार पदों को भरने के लिए शाम के सत्र, पोस्ट कोड 870 के  11 पदों के लिए 25 जुलाई सुबह, पोस्ट कोड 838 के 90 पदों के लिए शाम के सत्र, पोस्ट कोड 892 के 28 पदों के लिए एक अगस्त को सुबह के सत्र, पोस्ट कोड 886 के 73 पदों के लिए शाम के सत्र में परीक्षा आयोजित होगी। 


 पोस्ट कोड 908 के छह पदों को भरने के लिए तीन अगस्त सुबह के सत्र, पोस्ट कोड 909 के दो पदों के लिए शाम के सत्र, पोस्ट कोड 910 के छह पदों के लिए चार अगस्त सुबह के सत्र, पोस्ट कोड 905 के 29 पदों के लिए शाम के सत्र, पोस्ट कोड 893 के 90 पदों के लिए पांच अगस्त सुबह के सत्र, पोस्ट कोड 898 के दो पदों के लिए शाम के सत्र, पोस्ट कोड 852 के एक पद को भरने के लिए छह अगस्त को सुबह, पोस्ट कोड 902 के एक पद के लिए शाम के सत्र, पोस्ट कोड 829 के 156 पदों के लिए आठ अगस्त सुबह के सत्र, पोस्ट कोड 786 के 32 पदों के लिए शाम के सत्र, पोस्ट कोड 923 के दस पदों के लिए 10 अगस्त सुबह के सत्र, पोस्ट कोड 914 के एक पद के लिए शाम के सत्र, पोस्ट कोड 901 के दो पदों के लिए 11 अगस्त के सुबह सत्र में, पोस्ट कोड 899 के छह पदों के लिए शाम के सत्र, पोस्ट कोड 913 के एक पद के लिए 12 अगस्त को सुबह के सत्र में, पोस्ट कोड 897 के एक पद के लिए शाम के सत्र,  पोस्ट कोड 922 के एक पद के लिए 13 अगस्त को सुबह के सत्र में परीक्षा आयोजित होगी। 

पोस्ट कोड 841 के दो पदों के लिए शाम के सत्र में, पोस्ट कोड 855 के एक पद के लिए 14 अगस्त को सुबह, पोस्ट कोड 853 के दो पदों के लिए शाम के सत्र में, पोस्ट कोड 819 के छह पदों के लिए 22 अगस्त को सुबह व पोस्ट कोड 894 के 100 पदों के लिए शाम के सत्र में, पोस्ट कोड 887 के 19 पदों के लिए 29 अगस्त को सुबह, पोस्ट कोड 900 के पांच पदों के लिए शाम के सत्र में, पोस्ट को 839 क्लर्क के 13 पदों के लिए पांच सितंबर को सुबह, पोस्ट कोड 833 के पांच पदों के लिए शाम के सत्र में, पोस्ट कोड 831 के तीन पदों के लिए 11 सितंबर को सुबह, पोस्ट कोड 834 के एक पद के लिए शाम के सत्र में, पोस्ट कोड 785 के दस पदों के लिए 12 सितंबर को सुबह, पोस्ट कोड 772 के पांच पदों के लिए शाम के सत्र में, पोस्ट कोड 822 के 40 पदों के लिए 19 सितंबर को सबह, पोस्ट कोड 848 के  पांच पदों के लिए शाम के सत्र में, पोस्ट कोड 891 के आठ पदों के लिए 26 सितंबर को सुबह, पोस्ट कोड 906 के छह पदों के लिए शाम के सत्र में, पोस्ट कोड 823 के 13 पदों के लिए नौ अक्तूबर को सुबह, पोस्ट कोड 843 के आठ पदों के लिए शाम के सत्र में, पोस्ट कोड 818 के दो पदों के लिए 10 अक्तूबर को सुबह के सत्र में और पोस्ट कोड 837 के तहत छह पदों को भरने के लिए शाम के सत्र में परीक्षा आयोजित होगी। आयोग के सचिव डॉ. जितेंद्र कंवर ने कहा कि अभ्यर्थी परीक्षा से 15 दिन पहले से आयोग की वेबसाइट से एडमिट कार्ड डाउनलोड़ कर सकते हैं।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन