विज्ञापन

Coronavirus: लॉकडाउन ने कामकाजी महिलाओं के दोनों मोर्चों पर बढ़ाया काम, बदल सकता है वर्क कल्चर

अमित शर्मा, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Thu, 09 Apr 2020 05:32 PM IST
विज्ञापन
Lockdown work from home
Lockdown work from home - फोटो : Social Media
ख़बर सुनें

सार

  • नया वर्क कल्चर सीख रहा हिन्दुस्तान, बदल सकता है काम करने का तरीका
  • उत्पादकता के साथ ही बढ़ गईं चुनौतियां
  • काम के साथ छूटे हुए शौक भी हो रहे पूरे

विस्तार

भारतीय परिवेश में महिलाओं के लिए काम करने की परिस्थितियां पुरुषों के मुकाबले हमेशा मुश्किल होती हैं। ऑफिस के कामकाज के साथ-साथ उन्हें घर की भी जिम्मेदारी संभालनी पड़ती है। लॉकडाउन के दौरान कामकाजी महिलाओं को घर में रहते हुए भी अनेक चुनौतियों से जूझना पड़ रहा है।
विज्ञापन

लेकिन इस परिस्थिति में भी वे नई-नई राह निकाल रही हैं। एक बैंक के एचआर विभाग में काम करने वाली अनाया सिंह कहती हैं कि यह स्थिति सीखने के नए अवसर के रूप में सामने आई है। वे सीख रही हैं कि घरेलू परिस्थितियों में किस तरह काम को और बढ़ाया जा सकता है। वहीं, डॉक्टरी और अन्य जरूरी सेवाओं में लगी महिलाओं के लिए भी चुनौतियां बढ़ी हैं।  
 
आईसीआईआई बैंक की एचआर के तौर पर काम कर रहीं अनाया सिंह बताती हैं जब वे ऑफिस जाकर काम करती हैं तब उनकी आठ घंटे की ड्यूटी होती है। ऑफिस का समय खत्म होते ही उनके ऊपर से काम का दबाव खत्म हो जाता था। लेकिन जब से लॉकडाउन के कारण घर से काम कर रही हैं, उनके कामकाज के घंटे बढ़ गए हैं।

अब वे बारह से चौदह घंटे तक काम कर रही हैं। इस दौरान इतनी सुविधा अवश्य हुई है कि ऑफिस की ड्रेस में बैठकर काम करने की बाध्यता खत्म हो गई है। अब वे कभी बैठकर तो कभी लेटे हुए भी काम कर सकती हैं। इससे उन्हें काफी आराम मिल जाता है, लेकिन इससे उनकी उत्पादकता बढ़ गई है।
 
एचआर विभाग में काम करने के अनुभव के तौर पर अनाया का कहना है कि इस लॉकडाउन से हिन्दुस्तान की व्यवस्था में ‘वर्क फ्रॉम होम’ के कांसेप्ट का अध्ययन कर इसके लाभ-हानि का बेहतर मूल्यांकन कर पाने की स्थिति में है।

जब कर्मचारी ऑफिस में काम करता है तो वेतन के आलावा प्रति कर्मचारी ऑफिस एरिया, लाइट, बिजली, पानी, बैठने की व्यवस्था या वाहन जैसे कई अन्य खर्च कंपनी को करने पड़ते हैं। जबकि वर्क फ्रॉम होम में इन खर्चों से कम्पनी को बचत हो जाती है जो कई बार बहुत प्रभावी होता है। लेकिन यह कांसेप्ट उन्हीं कार्यों में ज्यादा परिणामदायक हो सकता है जिसमें काम का दूरी से बैठ कर भी मूल्यांकन करना संभव होता है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us