विज्ञापन

Parliament Live: सांसदों के निलंबन पर हंगामा, कांग्रेस ने पूछा- किस आधार पर हुई कार्रवाई

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Fri, 06 Mar 2020 03:09 PM IST
Parliament Live Updates News In Hindi Delhi Riots congress protest loksabha rajyasabha shah
संसद LIVE: अधीर रंजन चौधरी - फोटो : ANI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

खास बातें

दिल्ली हिंसा लेकर विपक्ष ने संसद परिसर में गांधी प्रतिमा के पास प्रदर्शन किया और गृह मंत्री अमित शाह का इस्तीफा मांगा। लोकसभा में विपक्षी सांसदों के निलंबन को लेकर कांग्रेस ने पूछा कि किस आधार पर यह कार्रवाई की गई। डीएमके ने निलंबन को वापस लेने की मांग की। जिसपर सरकार की तरफ से संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि जो कल हुआ वैसा 70 सालों में नहीं हुआ था लेकिन ऐसा व्यवहार संसद में शोभा नहीं देता है। वहीं भारी हंगामे के कारण राज्यसभा और लोकसभा की कार्यवाही को 11 मार्च सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।
विज्ञापन

लाइव अपडेट

विज्ञापन
02:59 PM, 06-Mar-2020

जेबकतरों को फांसी पर नहीं लटकाया जा सकता

लोकसभा से कांग्रेस के सात सदस्यों के निलंबन को वापस लिए जाने की मांग करते हुए सदन में पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि ‘जेबकटुवा को फांसी के तख्ते पर नहीं चढ़ाया जा सकता’। चौधरी ने यह भी कहा कि कांग्रेस के सदस्य आसन को ‘पॉप ऑफ द वेटिकन’ की तरह सम्मान देते हैं और उन्होंने कभी आसन का अनादर नहीं किया है। उन्होंने कहा कि पार्टी के सात सदस्यों को एक साथ शेष सत्र के लिए निलंबित किए जाने का कोई आधार नजर नहीं आता। उन्होंने कहा कि प्रदर्शन के दौरान अन्य विपक्षी सदस्य भी थे लेकिन कारण पता नहीं है कि किस आधार पर सातों सदस्यों को निलंबित कर दिया गया। यह छोटी बात नहीं है।
 
संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने चौधरी के बयान के संदर्भ में कहा, ‘निलंबित सदस्यों की तुलना जेबकतरों से करना उचित नहीं लगता। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। हम इससे सहमत नहीं हैं।’ कांग्रेस सदस्यों के निलंबन को उचित ठहराते हुए जोशी ने कहा कि जब भाजपा विपक्ष में थी तो तत्कालीन नेता प्रतिपक्ष लालकृष्ण आडवाणी हमेशा सदस्यों को आसन का अनादर करने वाली किसी भी बात से रोकते थे।

जदयू सांसद राजीव रंजन ने भी चौधरी की टिप्पणी पर चुटकी लेते हुए कहा कि उन्होंने तो खुद अपने सदस्यों को ‘जेबकटुवा’ कह दिया यानी मान लिया कि उनसे गलती हुई है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us