विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

कश्मीर में मिले 14 और संक्रमित, कुल मरीजों की संख्या 106 हुई, 5,552 नए संदिग्ध निगरानी में

जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। आज यानी कि रविवार को कश्मीर संभाग में 14 और नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही अब प्रदेश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 106 हो गई है।

5 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

राजौरी

रविवार, 5 अप्रैल 2020

जम्मूः तब्लीगी जमात से लौटे व्यक्ति से फैला वायरस, दो बेटियां-छह महीने की नातिन हुई संक्रमित

जम्मू संभाग में उधमपुर की चिनैनी तहसील के नरसू इलाके में एक ही परिवार के तीन और सदस्य कोरोना संक्रमित मिले हैं। इसी परिवार से तब्लीगी जमात में शामिल हुआ एक सदस्य पूर्व में संक्रमित पाया गया था। कोरोना के नए संक्रमित मरीजों में जमाती की 12 व 26 साल की दो बेटियों के साथ छह महीने की नातिन भी शामिल है। जिला प्रशासन ने संक्रमित मामले आने के बाद जमाती के रिश्तेदारों और संपर्क में रहे सात लोगों को क्वारंटीन में भेज दिया है।

स्वास्थ्य विभाग ने सामने आए संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने वाले लोगों की पहचान और तलाश तेज कर दी है। बता दें कि उधमपुर जिले में पिछले एक सप्ताह से लगातार कोरोना संक्रमित मामले सामने आ रहे हैं। कुछ दिन पहले ही नरसू इलाके से तब्लीगी जमात का एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया गया था।

गत शुक्रवार को प्रशासन ने इस व्यक्ति के संपर्क में रहने वाले परिवार और अन्य 22 सदस्यों को कोरोना जांच के लिए जम्मू भेजा था। जिसमें तीन संक्रमित पाए गए। सभी संक्रमितों का जीएमसी जम्मू में इलाज चल रहा है। सरकार के प्रवक्ता रोहित कंसल ने बताया कि तीनों नए संक्रमित पूर्व के संक्रमितों के संपर्क में थे।
... और पढ़ें

बैकों में पेंशन लेने वालों की लगी भीड़ सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं रखा ध्यान

राजोरी। बैंकों में पेंशन लेने वालों की लगी भीड़ सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं रखा ध्यान संवाद न्यूज़ एजेंसी राजौरी कोरोनावायरस को रोकने के लिए लगाए गए लॉक डाउन के दौरान कई जगह सोशल डिस्टेंसिंग को तार-तार करता देखा जा सकता है। खासकर बैंकों के बाहर पेंशन लेने वालों की भीड़ दिखती है लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का कोई ध्यान नहीं रखता है। शनिवार को राजोरी शहर व आसपास के इलाकों में j&k बैंक मै लंबी भीड़ थी, लेकीन कहीं भी सोशल डिस्टेंसिंग का कोई खास ध्यान नहीं रखा जा रहा था।  पेनशन लेने वाले लोग सोशल डिस्टेंसनग  को तार-तार करके पेंशन लेने के लिए कतारों में खड़े नजर आए।  वही इस अवसर पर ना तो बैंक कर्मचारी ना कोई पुलिस जवान उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर ज्ञान देता नजर आया और वह लोग बिना परवाह किए भीड़ में खड़े रहे।  इतना ही नहीं सरकारी डिपो पर राशन लेने वाले लोग भी सोशल डिस्पेंसिंग को तार-तार कर राशन लेते नजर आते हैं।  कहीं पर भी कोई भी सरकारी कर्मचारि या पुलिस जवान उन्हें सोशल डिस्टेंस मेंटेन करने के लिए प्रेरित करता नजर नहीं आता।  ... और पढ़ें

जम्मूः बुजुर्ग महिला ने कोरोना को दी मात, इनका संदेश बदल सकता है इस जंग की तस्वीर, जानें ऐसा क्या बोलीं

लद्दाख निवासी बुजुर्ग महिला ने कोरोना से जंग में जीत हासिल कर ली। यह महिला जम्मू-कश्मीर में पहली कोरोना संक्रमित मरीज थीं। एक माह तक मेडिकल कॉलेज जम्मू में भर्ती रही महिला की आंखों में घर जाने के दौरान खुशी के आंसू छलक पड़े। उन्होंने बताया कि इस महामारी से जंग सरकार और चिकित्सकों द्वारा दिए जा रहे दिशानिर्देशों का पालन करने से ही जीती जा सकती है।

लद्दाख की मूल निवासी और वर्तमान में सरवाल में रह रहीं 63 वर्षीय महिला को एक मार्च के दिन जीएमसी में भर्ती कराया गया था। प्रदेश में पहले पाजिटिव मामले के बाद हड़कंप मच गया था। लेकिन इस बुजुर्ग ने अस्पताल में चिकित्सकों और अन्य स्टाफ को पूरा सहयोग दिया।

 
... और पढ़ें

भूखा ना रहे कोई के अंतर्गत राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कर रही राशन वितरित

राजौरी।कोरोना वायरस से आम जनता को बचाने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के दौरान घर में फंसे गरीब व बेसहारा लोगों की मदद करने के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक आगे आया है।   पिछले 1 हफ्ते से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ताओं ने सेंकरो परिवारों में राशन व अन्य जरूरी सामान वितरित किया है।   संघ की रजौरी इकाई ने भूखा ना रहे कोई कार्यक्रम के अंतर्गत शहर व आसपास के इलाकों में करीब 500 परिवारों में आटा,  चावल,  दाले, तेल व अन्य जरूरी सामान वितरित किया है।   कार्यकर्ताओं का कहना है कि वे इस प्रकार की सहायता आगे भी जारी रखेंगे और जब तक कोरोना की लड़ाई में जीत नहीं हो जाती और लॉकडाउन पूर्ण से खुल नहीं जाता तब तक गरीब परिवारों की मदद करते रहेंगे और राशन आदि माहिया करवाते रहेंगे ... और पढ़ें
राजोरी में r.s.s. कार्यकर्ता राशन वितरित करते हुए राजोरी में r.s.s. कार्यकर्ता राशन वितरित करते हुए

जिले के कोटरांका  क्षेत्र में भूमि धसने से अफरा-तफरी  करीब 25 परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह. 

राजोरी ।  जिले की कोटरंका सब डिवीज़न के कंडी क्षेत्र में उस समय अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया जब अचानक जमीन धंसना शुरू हो गई।   जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह लोग अपने घरों से उठे व  अचानक एकदम आवाज सुनाई दी आगे पीछे देखा तो पहाड़ पर जमीन धंसना  शुरू हो गई थी.। जिस स्थान पर जमीन धंसी है वहां से थोड़ी ही दूरी पर 25 के करीब परिवार रहते हैं जिनको मलबे के नीचे दबने की आशंका सताने लगी।  वहीं मामले की खबर लगते ही तत्काल प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह दी।   नायब तहसीलदार ने मौके का दौरा किया व लोग को सलाह दी कि वह लोग सुरक्षित स्थानों पर चले जाए। अधिकारी ने  उन्हें भरोसा दिलाया कि प्रशासन उनकी हर संभव सहायता करेगा।    प्रशासन ने भरोसा दिलाया कि जो परिवार अपने घर छोड़कर आगे पीछे जाएंगे उनको टेंट आदि व खाने-पीने का सामान भी मुहैया करवाया जाएगा।  फिलहाल 25 के गरीब परिवार अपने घर छोड़कर अपने आसपास कहीं रिश्तेदारों के घर में पन्ना लेकर रह रहे हैं।  वही पहाड़ी से मलबा राजौरी बुद्धल सड़क  पर गिरा,  जिस से  कम से कम 3 घंटे तक यातायात भी ठप रही।  ... और पढ़ें

कश्मीर में मिले 14 और संक्रमित, कुल मरीजों की संख्या 106 हुई, 5,552 नए संदिग्ध निगरानी में

जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। आज यानी कि रविवार को कश्मीर संभाग में 14 और नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही अब प्रदेश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 106 हो गई है। इससे पहले शनिवार को एक ही दिन में सर्वाधिक 17 नए मरीज सामने आए थे। इनमें तीन माह की बच्ची समेत जमातियों के नौ रिश्तेदार शामिल हैं। इनके अलावा भी संक्रमित आए नए मामलों में ज्यादातर तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों के संपर्क में रहे बताए जा रहे हैं।

शनिवार को सामने आए 17 मामलों में 14 कश्मीर घाटी व तीन उधमपुर के एक ही परिवार के हैं। कश्मीर में संक्रमित पाए गए मरीजों में छह जमाती हैं। इस बीच उधमपुर में एक होटल में क्वारंटीन किए गए 74 साल के एक संदिग्ध मरीज की शनिवार देर रात मौत हो गई।

जिले के रेड जोन घोषित एक गांव का निवासी इस व्यक्ति को 2 अप्रैल को क्वारंटीन किया गया था। गांव में दो संक्रमित मिले थे। 3 अप्रैल को जम्मू में इसका परीक्षण कराया गया था। इसकी रिपोर्ट का इंतजार था। मौत के बाद बुजुर्ग का शव जिला अस्पताल के शव गृह मे रख दिया गया है।
... और पढ़ें

जम्मू से यूपी पैदल चल पड़ा युवक, बोला- मां ने फोन पर कहा- तुझे देखना चाहती हूं, फिर त्याग दिए प्राण

शुक्रवार दोपहर मां से मेरी बात हुई थी। मां ने इच्छा जताई थी कि वो एक बार मुझे देखना चाहती है। अब सुबह नौ बजे के करीब मुझे पता चला है कि मां गुजर चुकी है। ये शब्द उस बेटे के हैं, जो कहीं से भी मदद मिलती न देख शनिवार सुबह जम्मू संभाग के कटड़ा के ककरीयाल गांव से पैदल ही निकल पड़ा।

उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले के रहने वाले अंकित मौर्या ने कहा कि उसने अपने गृह जिला, जम्मू और रियासी में हेल्पलाइन नंबरों पर भी संपर्क किया, लेकिन कहीं से कोई सहायता नहीं मिल पाई। ऐसे में यहां से पैदल ही निकलने का फैसला लिया है।

ककरियाल में पेंटर का काम करने वाला पंकज कहता है कि उसने निजी ट्रांसपोर्टर से बात भी की, लेकिन लॉकडाउन के कारण वह बहुत ज्यादा पैसे मांग रहा है। मेरे पिता जी, और भाई वहां मेरा इंतजार कर रहे हैं।
... और पढ़ें

धार्मिक संगठनों के नेता अपने अनुयायियों को कोरोना के प्रति जागरूक करेंः उपराज्यपाल जम्मू-कश्मीर

जम्मू-कश्मीर में लॉकडाउन
केंद्र शासित प्रदेश के सभी धार्मिक संगठनों के नेता अपने अनुयायियों को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक करें। उन्हें कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सामाजिक दूरी का पालन करने और अन्य बचाव उपायों के बारे में बताएं। यह बात उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न धार्मिक संगठनों के नेताओं और संगठनों के प्रमुखों से कही।

मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रह्मण्यम, उपराज्यपाल के प्रधान सचिव बिपुल पाठक, मंडलायुक्त जम्मू संजीव वर्मा, मंडलायुक्त कश्मीर पांडुरंग के पोले के अलावा विभिन्न धार्मिक संगठनों के प्रमुख और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भी वीडियो कांफ्रेंस के जरिए उपराज्यपाल के साथ बातचीत की।

उपराज्यपाल ने कहा कि जब तक जनता महामारी को रोकने के प्रयासों में सरकार का सहयोग नहीं करती, तब तक स्थिति नहीं उभर सकती है। उन्होंने कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए सामाजिक दूरी और सरकार के दिशानिर्देशों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए सोशल मीडिया, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का इस्तेमाल करें।
... और पढ़ें

15 अप्रैल से जम्मू-कटड़ा के लिए चलेंगी ये चार-चार ट्रेनें, डीआरएम बोले- हमारे पास कोई आदेश नहीं

21 दिनों के देशव्यापी लॉकडाउन के बाद 15 अप्रैल से फिरोजपुर डिवीजन 23 ट्रेनों का परिचालन शुरू करने जा रहा है। इसके तहत रेलवे प्रशासन ने स्टेशन मैनेजर व अन्य कर्मचारियों को ट्रेनों की समयसारिणी भेज दी है। इस कड़ी में जम्मू और कटड़ा के लिए चार-चार ट्रेनें चलाने की तैयारी है। सभी 23 ट्रेनों के रेक फिरोजपुर डिवीजन में हैं।
 
उत्तर रेलवे ने सभी डिवीजन को ट्रेनों के परिचालन करने को कहा है। इसमें जम्मू के लिए चार ट्रेनें चलाई जाएंगी, जिसमें जम्मू-वाराणसी बेगमपुरा एक्सप्रेस(12238), जम्मू-अजमेर पूजा एक्सप्रेस(12414), जम्मू-पुरानी दिल्ली शालीमार एक्सप्रेस(14646), जम्मू-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस(12426) है।

वहीं श्री माता वैष्णो देवी कटड़ा के लिए श्री माता वैष्णो देवी कटड़ा-बांद्रा टर्मिनल स्वराज एक्सप्रेस(12472), श्री माता वैष्णो देवी कटड़ा-ऋषिकेश हेमकुंठ एक्सप्रेस(14610), श्री माता वैष्णो देवी कटड़ा-नई दिल्ली उत्तर संपर्क क्रांति(12446), श्री माता वैष्णो देवी-नई दिल्ली श्री शक्ति एक्सप्रेस(22462) ट्रेन शामिल है।

मेल एक्सप्रेस ट्रेनों के परिचालन शुरू होने से लोगों को राहत मिलेगी। रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग सहित अन्य प्रबंध होंगे।

हमारे पास कोई आदेश नहीं
हमारे पास यात्री ट्रेन सेवा को शुरू करने के संबंध कोई आदेश नहीं है। इस संबंध में न तो सरकार और न ही रेलवे बोर्ड से कोई आदेश मिला है। -राजेश अग्रवाल, डीआरएम, फिरोजपुर डिवीजन
... और पढ़ें

कश्मीरः बांदीपोरा में सेना के जवान ने खुद को मारी गोली, मौत

उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा जिले में रविवार को सेना के एक जवान ने अपनी सर्विस राइफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। सूत्रों के मुताबिक मूल रूप से मध्यप्रदेश के मुरैना निवासी सिपाही सतेंद्र कुमार तोमर ने खुद को गोली मार ली।

घटना के वक्त वह बांदीपोरा में 14 आरआर कैंप में ड्यूटी पर थे। फायरिंग की आवाज सुनते ही साथी जवान उनकी ओर दौड़े। मौके पर पहुंचे जवानों ने उन्हें खून से लथपथ पाया। इसके बाद उन्हें सेना के अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

एक पुलिस अधिकारी ने उक्त घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि इस संबंध में मामला दर्ज किया गया है और आगे की जांच की जा रही है। अधिकारी ने कहा कि यह पता लगाया जा रहा है कि जवान ने ऐसा कदम क्यों उठाया।
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीरः कोरोना संदिग्ध मरीज की मौत, जमातियों के नौ रिश्तेदार संक्रमित, 5,552 नए संदिग्ध निगरानी में

जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। प्रदेश में शनिवार को एक ही दिन में सर्वाधिक 17 नए मरीज सामने आ गए। इनमें तीन माह की बच्ची समेत जमातियों के नौ रिश्तेदार शामिल हैं। इनके अलावा भी संक्रमित आए नए मामलों में ज्यादातर तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों के संपर्क में रहे बताए जा रहे हैं। इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 92 पहुंच गई है।

शनिवार को सामने आए 17 मामलों में 14 कश्मीर घाटी व तीन उधमपुर के एक ही परिवार के हैं। कश्मीर में संक्रमित पाए गए मरीजों में छह जमाती हैं। इस बीच उधमपुर में एक होटल में क्वारंटीन किए गए 74 साल के एक संदिग्ध मरीज की शनिवार देर रात मौत हो गई।

जिले के रेड जोन घोषित एक गांव का निवासी इस व्यक्ति को 2 अप्रैल को क्वारंटीन किया गया था। गांव में दो संक्रमित मिले थे। 3 अप्रैल को जम्मू में इसका परीक्षण कराया गया था। इसकी रिपोर्ट का इंतजार था। मौत के बाद बुजुर्ग का शव जिला अस्पताल के शव गृह मे रख दिया गया है।
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीरः सेना ने मार गिराए पांच और आतंकी, 24 घंटे में नौ का खात्मा, तीन जवान शहीद

कश्मीर घाटी में पिछले 24 घंटे में भारतीय सेना ने नौ आतंकियों का सफाया किया है। आज यानी कि रविवार को आतंकियों का एक दल नियंत्रण रेखा के पास केरन सेक्टर से घुसपैठ करने की फिराक में था। आतंकियों की मौजूदगी की भनक लगते ही सेना ने मोर्चा संभाला। इसके बाद चली मुठभेड़ में सेना ने पांच आतंकियों को ढेर कर दिया। इस ऑपरेशन को 4 पैरा स्पेशल फोर्स, 41 आरआर, 57 आरआर, 8 जाट और एसओजी कुपवाड़ा की संयुक्त टीम ने अंजाम दिया।

वहीं इस मुठभेड़ में भारतीय सेना के तीन जवान शहीद हो गए हैं। उधर, इलाके में तलाशी अभियान चल रहा है। आशंका जताई जा रही है कि अभी इलाके में आतंकी मौजूद हो सकते हैं। इससे पहले शुक्रवार रात पुख्ता जानकारी मिलने के बाद शनिवार सुबह सुरक्षाबलों ने कुलगाम जिले में बटपुरा इलाके की घेराबंदी कर चार आतंकियों को ढेर किया था। आतंकियों के कब्जे से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया। सभी आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन के थे। नादिमर्ग में स्थानीय लोगों की हत्या में इन्हीं आतंकियों का हाथ था। 

दक्षिण कश्मीर में आतंकियों ने बीते दिनों में अलग-अलग घटनाओं में चार नागरिकों की हत्या की है। इसके मद्देनजर सुरक्षाबलों की इंटेलिजेंस ग्रिड को और सक्रिय किया गया था। इसी बीच शुक्रवार की रात पुख्ता सूचना मिलने पर सुरक्षाबलों ने संयुक्त अभियान चलाकर कुलगाम जिले के बटपुरा इलाके की घेराबंदी कर ली।
 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us