विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

बढ़ते संक्रमितों की वजह से श्रीनगर में सख्ती, एसएसपी बोले- लोग ऐसे छिपते हैं, जैसे हम आतंकी ढूंढ रहे हों

श्रीनगर में छह दिनों में कोरोना मरीजों की संख्या दोगुने से अधिक हो जाने के बाद प्रशासन ने शुक्रवार से पाबंदियों को सख्त करने का फैसला किया है। डीसी डॉ. शाहिद इकबाल चौधरी ने कहा कि बिना पास के कोई भी नहीं निकल सकेगा।

10 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

उधमपुर

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020

इंटनेट की 4जी सेवा बहाल करने की मांग

उधमपुर। लॉकडाउन के दौरान घरों में बंद लोगों के लिए इंटरनेट सेवा बेहद महत्वपूर्ण है। इससे लोग घरों में बैठकर सूचना प्राप्त करने के अलावा अपने आनलाईन कार्यों को कर सकते हैं। साथ ही विद्यार्थी वर्ग इससे शिक्षा के क्षेत्र में लाभ ले सकता है। लेकिन इसके बावजूद सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर में इंटरनेट की 4जी सेवा को बंद रखा गया है। जो सरासर जम्मू कश्मीर के लोगों के साथ अन्याय है। उक्त बातें शक्ति नगर के पूर्व सरंपच बलबीर सिंह ने वीरवार को जारी एक बयान में कहीं। उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि जल्द से जल्द जम्मू कश्मीर में इंटरनेट की 4जी सेवा बहाल की जाए। क्योंकि इसे बंद रखे जाने से यहां के हर वर्ग के लोगों का परेशानी सामना करना पड रहा है। पूरा देश इस मसय आपात स्थिति का सामना कर रहा है। लोग घरों में लॉकडाउन हैं। वैश्विक महामारी ने पूरी दुनिया में लोगों के आपसी मेलजोल तक पर पांबदी लगा दी है। जबकि केंद्र सरकार ऐसे हालात में भी जम्मू कश्मीर में इंटरनेट बाध्य करने जैसी पांबदियों को लागू रखे जाना बेहदउ अफसोस जनक है। सरकार से अपील है कि जल्द से जल्द इंटरनेट की 4जी सेवा को बहाल कर लोगों को राहत पंहुचाई जाए।
रिपोर्ट-विजय कुमार
... और पढ़ें

नपा कर्मियों ने गलियों को किया सैनिटाइज

कटड़ा। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण सभी स्थानों को सुरक्षा के दृष्टिकोण से सैनिटाइज किया जा रहा है। इसके तहत नगर पालिका कटड़ा में भी श्राइन बोर्ड के साथ मिलकर नगर पालिका ने नगर को सैनिटाइज करने का काम शुरू किया था लेकिन एक बार नगर को सैनिटाइज करने के बाद दूसरी बार से कुछ ही स्थानों को सैनिटाइज किया गया। अमर उजाला में खबर प्रकाशित होने के बाद प्रशासन चेता और वीरवार से सभी प्रमुख मार्गों समेत गलियों और घरों तक को सैनिटाइज काम शुरू हो गया।
कस्बावासियों ने बताया कि करीब एक पखवारा पूर्व श्राइन बोर्ड और नगर पालिका ने मिलकर नगर को सैनिटाइज कराने का कार्य शुरू किया। इसके लिए श्राइन बोर्ड ने दो गाड़ियां नपा प्रशासन को उपलब्ध करा दीं। सैनिटाइजेशन का काम भी शुरू हुआ लेकिन दोबारा केवल नपा उपाध्यक्ष के घर तक ही गाड़ी से छिड़काव हुआ। इसपर नाराज लोगों ने अपनी बात प्रशासन तक पहुंचाई तो वीरवार को नपा कर्मियों ने जहां तक गाड़ी जा सकती थी वहां तक सैनिटाइजेशन कराने के बाद गलियों में नपा कर्मियों ने हैंड मशीन से सैनिटाइज किया।
... और पढ़ें

रेड जोन क्षेत्रों के प्रवेश द्वारों पर आवाजाही नियंत्रण को लेकर जिला प्रशासन ने दिए सख्ती बरतने के आदेश

उधमुपर। कोरोना वायरस के संक्रमित मामलों के आधार पर जिले में घोषित किए गए सभी रेड जोन क्षेत्रों के प्रवेश द्वारों पर आवाजाही नियंत्रण को लेकर जिला प्रशासन की ओर से सख्ती बरतने के आदेश जारी किए गए हैं। जिला प्रशासन द्वारा उक्त आदेश रोड जोन एरियों के लिए जारी की गई एडवाईजरी की अनदेखी किए जाने के आधार पर जारी किया गया है। इसके तहत रेड जोन क्षेत्रों के लिए प्रशासन द्वारा जारी अधिसूचना की उल्ल्घंना करने वालों पर सख्त कारवाई की जाएगी। सभी संबधित थाना प्रभारियों को भी इसके लिए इन इलाकों के एंट्री प्वांईटो पर पूरी मुस्तैदी के साथ सर्तकता बरतने को कहा गया है। जिनमें उधमपुर के मगैनी, कोटली पांई, मग्योट, रक्ख संसू, पडानू, चोपडा शॉप, रैंबल, मोड़ा, डूगार, के अलावा सूक्का तालाब, रामगनर के थपलाल, कनाह, माड़ता, मोडा बस्सी, डाल्सर, खीन, कीडमू, व रामनगर का शहरी इलाका तथा उधमुपर का नरसू नाला क्षेत्र शामिल है।
रिपोर्ट-विजय कुमार
... और पढ़ें

कोरोना से जंग में जम्मू-कश्मीर भाजपा ने दिए एक करोड़ रुपए, रैना बोले- देश के लिए जीवन समर्पित

जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण तेजी से पांव पसार रहा है। इससे कश्मीर सबसे अधिक प्रभावित है। वहीं कोरोना वायरस से लड़ने के लिए सभी सामाजिक व राजनीतिक संगठन देश की मदद करने व कोरोना को मात देने में जुटे हुए हैं। इसी क्रम में जम्मू-कश्मीर में भारतीय जनता पार्टी ने पीएम केयर्स फंड में एक करोड़ रुपए की राशि दी है।

इस दौरान प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रवींद्र रैना ने कहा कि कोरोना वायरस से इस जंग में पार्टी की ओर से एक करोड़ रुपए पीएम केयर्स फंड में दिया गया है। हमारा लक्ष्य है कि इस जंग में जीत को सुनिश्चित करने व देश की मदद करने के लिए हम तीन करोड़ रुपए देंगे। उन्होंने बताया कि आज यानी शुक्रवार को दी गई यह रकम पार्टी के सभी नेताओं की ओर जुटाई गई है। जल्द ही हम निर्धारित लक्ष्य की शेष रकम भी देंगे।

रैना ने कहा कि पूरे देश में कोरोना को मात देने के लिए सरकारें और सभी संगठन जुटे हुए हैं। केंद्र सरकार कोरोना वायरस को मात देने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। लोग भी उनकी अपील का पूरा समर्थन और सहयोग कर रहे हैं।

रैना ने कहा कि प्रधानमंत्री के आव्हान पर जम्मू-कश्मीर भारतीय जनता पार्टी ने कोरोना की इस जंग को जीतने के लिए एक करोड़ रुपए दिए है। साथ ही अभी दो करोड़ रुपए और दिए जाएंगे। कहा कि देश के तन समर्पित, मन समर्पित और ये जीवन समर्पित। इस दौरान उन्होंने प्रदेश और देश के उन सभी लोगों का धन्यवाद किया जो कोरोना वायरस से जंग में अपना योगदान दे रहे हैं।
... और पढ़ें
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र रैना भाजपा प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र रैना

जम्मू-कश्मीर में तेजी से पांव पसार रहा कोरोना संक्रमण, मिले 23 और संक्रमित, कुल संख्या हुई 207

प्रदेश में कोरोना संक्रमण तेजी से पांव पसार रहा है। कश्मीर सबसे अधिक प्रभावित है। आज यानी कि शुक्रवार को प्रदेश में 23 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ प्रदेश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 207 हो गई है। इससे पहले गुरुवार को कश्मीर में 24 नए मामले सामने आए। इन मामलों में अधिकतर जमातियों के संपर्क में आने वाले लोग हैं। जम्मू के सुंजवां स्थित मस्जिद से 9 जमाती पॉजिटिव मिल चुके हैं।
 
पिछले छह दिनों में प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर दोगुनी से अधिक हो गई। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि मरीजों की संख्या बढ़ने के कई कारण हैं। सबसे बड़ा कारण यह है कि प्रदेश में जांच की गति तेज हो गई है। साथ ही जमातियों को भी खोज निकालने का काम युद्ध स्तर पर चल रहा है। इन सब वजहों से संख्या में तेजी से वृद्धि हुई है। इस बीच लखनपुर से लद्दाख तक लॉकडाउन रहा।
 
गुरुवार को जो नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं उनमें उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले के टंगमर्ग से आठ मामले शामिल हैं। इसके अलावा कुलगाम से एक व्यक्ति पॉजिटिव हुआ है। अनंतनाग में पहला मरीज पाए जाने के बाद चके वांगुंड को रेड जोन घोषित कर दिया गया। पॉजिटिव मामलों के आने के बाद प्रभावित क्षेत्रों में लॉकडाउन को लेकर सख्ती बढ़ाई गई है। कई इलाकों को रेड जोन घोषित करके कई पाबंदियां लगाई गई हैं।
 
उमेर कॉलोनी-बी लाल बाजार श्रीनगर को रेड जोन घोषित किया गया है। बांदीपोरा के हाजिन क्षेत्र में अभद्र व्यवहार पर डॉक्टरों ने प्रदर्शन किया। साथ ही हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी। श्रीनगर में दो सप्ताह का क्वारंटीन पूरा करने पर 39 लोगों को घर भेज दिया गया। अब तक 1811 लोगों को घर भेजा जा चुका है।
... और पढ़ें

बढ़ते संक्रमितों की वजह से श्रीनगर में सख्ती, एसएसपी बोले- लोग ऐसे छिपते हैं, जैसे हम आतंकी ढूंढ रहे हों

श्रीनगर में छह दिनों में कोरोना मरीजों की संख्या दोगुने से अधिक हो जाने के बाद प्रशासन ने पाबंदियों को पहले से अधिक सख्त कर कर दिया है। डीसी डॉ. शाहिद इकबाल चौधरी ने कहा कि बिना पास के कोई भी नहीं निकल सकेगा। उन्होंने अंतर जिला यात्रा भी कम करने की बात कही है। डीसी ने कहा कि 14 दिन का क्वारंटीन खत्म होने पर जब एक समूह का टेस्ट किया गया तो सभी पॉजिटिव निकले और इनका यात्रा इतिहास विदेश का था। श्रीनगर में करीब 2100 लोगों को प्रशासन द्वारा क्वारंटीन किया गया था। अभी भी करीब 6112 संदिग्ध हैं जो लो रिस्क की श्रेणी में आते हैं जबकि हाई रिस्क वाले करीब 648 संदिग्ध हैं। उन्होंने धार्मिक नेताओं से अहम भूमिका निभाने की अपील की।
... और पढ़ें

कश्मीरः जिला उपायुक्त पर लगा दुर्व्यवहार आरोप, डॉक्टरों ने किया प्रदर्शन, एसडीएम बोले- गलतफहमी हो गई थी

उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा जिले के समुबाल में डॉक्टरों ने डीसी पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाकर प्रदर्शन किया। एक डॉक्टर के मुताबिक इससे पहले भी ऐसी घटनाएं हुई हैं। ऐसी स्थिति में जब डॉक्टर खतरा मोल लेकर काम कर रहे हैं तो ये व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। डॉक्टर डीसी से माफी मांगने या उन्हें सस्पेंड करने की मांग कर रहे थे।

इधर, सुमबाल के एसडीएम शाहनवाज चौधरी ने बताया कि किसी छोटे से मामले को लेकर गलतफहमी हो गई थी जिसे सुलझा लिया गया है। उन्होंने बताया कि करीब बीस मिनट के भीतर ही सभी डॉक्टर अपनी ड्यूटी पर लौट आए हैं। चौधरी ने कहा कि उन्हें अपने डॉक्टरों पर गर्व है जो दिन रात एक कर इस कोरोना महामारी के खिलाफ डटे हैं।

उन्होंने बताया कि कुपवाड़ा और टंगधार में सैंपल इकट्ठा करने के लिए केंद्र स्थापित किए गए हैं। केंद्र की निगरानी डिप्टी कमिश्नर कुपवाड़ा अंशुल गर्ग करेंगे। एसडीएम ने कहा कि सीमा और दूरदराज के क्षेत्र में अपनी तरह का पहला अभिनव फोन बूथ नमूना संग्रह केंद्र भी स्थापित किया गया है।

उन्होंने कहा कि प्राथमिक संदिग्धों के 21 नमूने गुरुवार को एकत्र किए गए और जांच के लिए एसकेआईएमएस सौरा भेजा गया। एसडीएम ने बताया कि बागबेला गांव को रेड जोन और गोमल, शम्सपोरा, नाचियान, हाजिनाड गांवों में लोगों की आवाजाही को भी प्रतिबंधित किया गया है जिन्हें बफर जोन घोषित किया गया है।
... और पढ़ें

कोरोना वायरसः महिला का बेटा रोज जम्मू से जाता था उधमपुर, मौत के बाद पता चला कि वो संक्रमित थी

सांकेतिक तस्वीर
जम्मू संभाग में उधमपुर निवासी कोरोना संक्रमित महिला की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग ने महिला के कोरोना संक्रमण के शिकार होने के कारणों का पता लगाना शुरू कर दिया है। शुरुआती जांच में महिला का यात्रा इतिहास तो सामने नहीं आया, लेकिन महिला का पुलिसकर्मी बेटा हर रोज जम्मू से घर पहुंचता था।

जानकारी के अनुसार करीब डेढ़ सप्ताह पहले अचानक ही महिला की सेहत खराब हो गई। परिवार के सदस्य उसको अपने स्तर पर ही दवाई खिला रहे थे। बुधवार सुबह अचानक महिला की सेहत ज्यादा खराब हो गई और परिवार के सदस्य उसको नारायण अस्पताल ले गए। डॉक्टरों ने महिला की हालत देखी तो उनको कोरोना के संक्रमण का शिकार होने का संदेह हुआ और महिला को तुरंत जीएमसी जम्मू ले जाने को कहा। परिवार के सदस्य दोपहर 12 बजे महिला को लेकर जीएमसी पहुंच गए।

वहां डॉक्टरों ने महिला की जांच की और संदेह के आधार पर उसका कोरोना टेस्ट करवाया। बुधवार देर रात अचानक ही महिला की सेहत ज्यादा खराब हो गई और कुछ समय के बाद उसकी मौत हो गई। वहीं जब महिला की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट आई तो पता चला कि महिला कोरोना से संक्रमित थी। इसके बाद उधमपुर की स्वास्थ्य विभाग की टीम ने महिला का यात्रा इतिहास पता लगाना शुरू कर दिया, लेकिन जांच में पता चला कि महिला एक महीने के दौरान कहीं भी नहीं गई। वह घर पर ही थी।

 
... और पढ़ें

पाकिस्तान ने कुपवाड़ा के केरन सेक्टर में शुरू की भारी गोलाबारी, भारतीय सेना ने दिया माकूल जवाब

जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में आज यानी कि शुक्रवार को पाकिस्तान ने संघर्षविराम का उल्लंघन किया है। इस दौरान केरन सेक्टर में भारी गोलाबारी की गई। इसका भारतीय सेना माकूल जवाब दे रही है। सुरक्षा के मद्देनजर पहले उक्त इलाके में इंटरनेट सेवा को तत्काल प्रभाव से बंद कर दिया गया था, हालांकि उसे फिर से संचालित कर दिया गया है।

इससे पहले पाकिस्तानी सेना ने गुरुवार देर शाम कीरनी, कस्बा, शाहपुर, बालाकोट व मेंढर सेक्टर में सेना की चौकियों और रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर भारी गोलीबारी की। इससे नियंत्रण रेखा से सटे क्षेत्रों में दहशत का माहौल बन गया। सेना की तरफ से भी मुंहतोड़ जवाब दिया गया।

शाम करीब 5.45 बजे अचानक पाकिस्तानी सेना ने जिले के शाहपुर, कीरनी एवं कस्बा सेक्टर में सेना की चौकियों के साथ ही नियंत्रण रेखा से सटे रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर भारी गोलाबारी शुरू कर दी। शाम सवा सात बजे बालाकोट व मेंढर सेक्टर में भी गोलाबारी शुरू कर दी। इस पर सेना ने भी जवाबी कार्रवाई शुरू की।

स्थानीय लोगोें का कहना है कि एक तरफ कोरोना का डर और दूसरी तरफ पाकिस्तानी सेना की नापाक हरकत हमारे लिए परेशानियों का सबब बन कर रह गई है। जब से कोरोना का कहर शुरू हुआ है पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में भी बढ़ोतरी हो गई है।
... और पढ़ें

आतंकी के जनाजे में शामिल होने वालों पर शिकंजा कसना शुरू, ऐसे उड़ाई गई थीं लॉकडाउन की धज्जियां

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में संघ ने की 12 हजार परिवारों की सहायता, जानवरों तक खाना पहुंचा रहा नगर निगम

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में लखनपुर से लेकर लेह तक कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन में विगत 15 दिनों में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने 12 हजार से अधिक प्रभावित परिवारों को राशन समेत अन्य राहत सामग्री मुहैया कराई है।

जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए सेवा भारती की ओर से विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक हेल्पलाइन भी शुरू की गई है। इस हेल्पलाइन के जरिये लोग निर्धारित समय पर विशेषज्ञ डॉक्टरों से स्वास्थ्य संबंधी सलाह ले सकते हैं। आरएसएस जम्मू-कश्मीर प्रांत के संघचालक ब्रिगेडियर सुचेत सिंह, सह संघचालक डॉ. गौतम मैंगी और सेवा भारती के उत्तर क्षेत्रीय संगठन मंत्री जयदेव दादा ने यह जानकारी दी।

ब्रिगेडियर सुचेत सिंह ने कहा कि जम्मू कश्मीर में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। हालांकि इस संकट से निपटने के लिए समय रहते केंद्र सरकार ने लॉकडाउन के साथ अहम फैसले ले लिए थे।

संकट की घड़ी में आरएसएस के स्वयंसेवक जाति, पंथ, समाज से ऊपर उठते हुए लॉकडाउन से प्रभावित गरीब, असहाय और जरूरतमंद लोगों के अलावा प्रवासी मजदूरों की मदद में भी जुटे हैं। इसमें सेवा भारती के संकटमोचन रिलीफ दल ने समूचे जम्मू कश्मीर में अहम भूमिका अदा की है।
... और पढ़ें

जम्मू में 100 बेड का कोविड अस्पताल बनाने की तैयारी, बढ़ते मामलों को देखते हुए युद्धस्तर पर तैयारियां

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए युद्धस्तर पर तैयारियां की जा रही हैं। इसके लिए अधिक से अधिक क्वारंटीन, आइसोलेशन केंद्रों के साथ अस्थायी अस्पताल स्थापित करने पर काम शुरू कर दिया गया है। इस कड़ी में सेना के साथ मिलकर एमए स्टेडियम जम्मू के नए इंडोर कांप्लेक्स में 100 बेड अस्थायी कोविड अस्पताल स्थापित करने की तैयारी की जा रही है। इसमें सेना और स्वास्थ्य विभाग मिलकर सभी संसाधन जुटाएंगे।

गुरुवार को मेडिकल कॉलेज के समन्वय निदेशक डॉ. यशपाल शर्मा और सेना के अधिकारियों ने एमए स्टेडियम के इंडोर कांप्लेक्स का जायजा लिया। इसमें अस्पताल को स्थापित करने के लिए जगह के चयन पर चर्चा की गई। इसको लेकर शनिवार को सचिवालय में बैठक बुलाई गई है।

इसके बाद अस्पताल बनाने के फैसले को अंतिम रूप दिया जाएगा। सिविल सचिवालय में स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा विभाग के वित्तीय आयुक्त अटल डुल्लू के चैंबर में हुई बैठक में अस्थायी अस्पताल को बनाने पर चर्चा की गई।

ईएसआईसी का अस्पताल भी कोविड 19 घोषित
देश में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में इंप्लाइज स्टेट इंशोरेंस कारपोरेशन (ईएसआईसी) ने देश के विभिन्न हिस्सों में अपने 1042 आइसोलेशन बेड वाले आठ अस्पतालों को कोविड 19 (कोरोना) घोषित किया है। इसमें जम्मू का 50 बेड वाला ईएसआईसी अस्पताल भी शामिल किया गया है। 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us