अनंतनागः गर्भवती महिला की मौत के मामले में जांच के आदेश, सीएमओ ने घटना को बताया दुर्भाग्यपूर्ण

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू Updated Thu, 28 May 2020 03:12 PM IST
विज्ञापन
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : सोशल मीडिया

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
मैटरनिटी एंड चाइल्ड केयर हॉस्पिटल (एमसीएचसी) की लापरवाही से दो गर्भवती महिलाओं की मौत हो गई। इनमें से एक गर्भवती की मौत मंगलवार की रात हुई। उसे कोरोना न होने के बावजूद उसे बिजबहेरा स्थित कोविड अस्पताल भेज दिया गया था। उसकी दो बार जांच निगेटिव आई थी। बुधवार को प्रशासन ने पूरे प्रकरण की जांच के आदेश दे दिए।
विज्ञापन

जानकारी के अनुसार, जिले के केंट गुंड शांगस के निवासी मुहम्मद अमीन शेख की पत्नी शिराजा जान को मंगलवार देर शाम एमसीएचसी ले जाया गया था, जहां से उसे रात लगभग 9.30 बजे बिजबहेड़ा एसडीएच (कोविड अस्पताल) भेज दिया गया। इससे पहले शिराजा का तीन मई को कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था परंतु 14 व 18 मई को हुए उसके परीक्षण निगेटिव थे।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी अनंतनाग डॉ. मुख्तार अहमद ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि इस महिला का टेस्ट पॉजिटिव आया था तो एमसीएचसी में बिना किसी सवाल के इलाज किया जाना चाहिए था। मालूम हो कि अनंतनाग का एमसीएचसी अस्पताल पहले भी जुड़वा बच्चों के साथ गर्भवती महिला की मौत के मामले में जांच का सामना कर रहा है।
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us