विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान
Puja

एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

94621 लोगों की प्रदेश में हुई वापसी

94621 लोगों की प्रदेश में हुई वापसी
67172 लखनपुर और 26797 विशेष ट्रेनों के माध्यम से लौटे,
बिहार के 5071 श्रमिकों को लेकर तीन श्रमिक स्पेशल ट्रेन कटरा से रवाना
संवाद न्यूज एजेंसी
जम्मू/कठुआ। लॉकडाउन के बीच विभिन्न राज्यों और प्रदेशों में फंसे जम्मू कश्मीर के 94 हजार 621 लोगों की मंगलवार तक प्रदेश में वापसी को प्रदेश सरकार ने सुनिश्चित किया है। इनमें से 67172 लखनपुर सड़क मार्ग से और 26797 विशेष ट्रेनों के माध्यम से प्रदेश में वापस लाए गए हैं। उधर, मंगलवार को तीन विशेष श्रमिक ट्रेनों के जरिए कटरा से 5071 श्रमिक बिहार को लौटे हैं। यह प्रवासी श्रमिक भी लॉकडाउन के चलते जम्मू कश्मीर में फंसे हुए थे।
प्रदेश में लौटे लोगों की सौ फीसदी सैंपलिंग को सुनिश्चित करने के साथ ही उन्हें 14 दिन के लिए क्वारंटीन किया जा रहा है। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए प्रभावी इंतजामों के साथ प्रदेश सरकार ने हाल में हवाई यात्रा के जरिए भी लोगों को प्रदेश में वापस लाने की व्यवस्था शुरू कर दी है।
आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में जम्मू और उधमपुर रेलवे स्टेशन तक विभिन्न राज्यों से फंसे नागरिकों को लाने के लिए 33 विशेष ट्रेनें चलाई गई हैं। उधर, छात्रों सहित लगभग 652 यात्री पहले ही 4 कोविड विशेष उड़ानों के माध्यम से वंदे भारत मिशन के तहत श्रीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंच चुके हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार लगभग 478 फंसे हुए यात्री 25 मई से 26 मई के बीच लखनपुर से प्रदेश में लौटे हैं, जबकि 763 यात्री मंगलवार को दिल्ली से चली 13वीं कोविड स्पेशल ट्रेन से जम्मू पहुंचे हैं। अब तक 13 ट्रेनें जम्मू में पहुंच चुकी हैं, जिसमें विभिन्न जिलों से जुड़े कुल 11,157 फंसे हुए यात्री हैं, जबकि अब तक 20 विशेष ट्रेनों में 15,640 यात्री उधमपुर पहुंच चुके हैं।
................
अब तक लखनपुर के जरिए प्रदेश में लौटे जम्मू कश्मीर के नागरिकों में पंजाब से 15997, हिमाचल प्रदेश से 20546, आंध्र प्रदेश से 21, दिल्ली से 6567, गुजरात से 1359, राजस्थान से 2760, हरियाणा से 3886, छत्तीसगढ़ से 150, उत्तराखंड से 3378, महाराष्ट्र से 1031, उत्तर प्रदेश से 4318, ओडिशा से 63, असम से 267 और मध्य प्रदेश से 991 लोग लौटे हैं। इसी तरह से देहरादून से 88, चंडीगढ़ से 1130, तेलंगाना से 684, कर्नाटक से 106, तमिलनाडु से 19, चेन्नई से 52, बिहार से 303, पश्चिम बंगाल से 155, झारखंड से 27, नेपाल से 3 और अन्य क्षेत्रों से 3271 लोगों की वापसी लखनपुर सड़क मार्ग से प्रदेश में हुई है। 19 मई से मंगलवार तक विभिन्न श्रमिक विशेष रेलगाड़ियों के माध्यम से 21686 लोग विभिन्न केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों में अपने गृह जिलों को लौट गए हैं।
... और पढ़ें

कंटेनमेंट जोन से कइयों के लिए सैंपल

जम्मू। स्वास्थ्य विभाग की मोबाइल टीम ने मंगलवार को शहर के कई कंटेनमेंट सहित अन्य कोविड प्रभावित क्षेत्रों से पीड़ितों के संपर्क में रहने वाले लोगों के सैंपल लिए। इनमें रूप नगर, बख्शीनगर, गोरखा नगर और त्रिकुटा नगर क्षेत्र से पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में रहने वाले करीब 30 लोगों के सैंपल लिए गए। कंटेनमेंट जोन पर तारबंदी करके आवाजाही को बंद किया गया है। इसमें मेडिकल इमरजेंसी में ही रियायत दी जा रही है।
गत दिवस कई पॉजिटिव मामले आने के बाद शहर के विभिन्न म्युनिसिपल वार्डों और गांव को कंटेनमेंट/रेड जोन घोषित किया गया था। मंगलवार को उक्त क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने पाजिटिव मामलों के संपर्क में आने वाले लोगों की शिनाख्त करके उनके सैंपल लिए। सभी को घरों पर क्वारंटीन किया गया है। वहीं, कंटेनमेंट जोन में सख्ती बढ़ाई गई है। इसमें आपदा महामारी से जुड़े सभी प्रोटोकाल लागू किए गए हैं। लोगों की आवाजाही रोककर संक्रमण को कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा रहा है। इस बीच जम्मू एयरपोर्ट पर मंगलवार को पहुंचे 181 यात्रियों को कोविड सैंपल लिए गए।
... और पढ़ें

घोड़े के साथ आ रहे व्यक्ति को पकड़ा, घोड़े को एक महीने का होम क्वारंटीन

राजोरी। कश्मीर से मुगल रोड से अपने घोड़े के साथ राजोरी पहुंचे एक युवक को उसके घोड़े के साथ क्वारंटीन कर दिया गया है। प्रशासन ने एहतियात बरतते हुए घोड़े को एक महीने के लिए होम तो व्यक्ति को 14 दिन के लिए प्रशासनिक क्वारंटीन किया है। पशु चिकित्सा विशेषज्ञों ने दावा किया है कि हालांकि, घोड़े को कोई खतरा नहीं है, लेकिन यह कोरोना वायरस का संभावित वाहक है इसलिए क्वारंटीन जरूरी है।
जम्मू-कश्मीर में किसी जानवर को क्वारंटीन करने का यह पहला मामला आया है। जानकारी के अनुसार मंगलवार देर शाम पुलिस की एक टीम ने कश्मीर घाटी से मुगल रोड से लौट रहे एक व्यक्ति को रोका। वह घोड़े को अपने साथ ले जा रहा था। थानामंडी तहसीलदार अंजुम खटक ने घोड़े की जांच के लिए पशु चिकित्सा विशेषज्ञ को बुलाया। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (एडीसी) राजोरी शेर सिंह ने बताया कि सभी विशेषज्ञ रायों को ध्यान में रखने के बाद, शरीर के तापमान के लिए घोड़े की चिकित्सकीय जांच की गई। इसके बाद इसे परिवार के अन्य सदस्यों को सौंप दिया गया। उनसे कहा है कि वह घोड़े को एक महीने तक दूसरे जानवरों से अलग रखें। इसके अलावा व्यक्ति को प्रशासनिक क्वारंटीन पर भेज दिया गया।
... और पढ़ें

पाकिस्तानी सेना ने मंगलवार सुबह तड़के मेंढर के बालाकोट सेक्टर में सेना की चौकियों के साथ ही रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर गोलाबारी की।


पाकिस्तानी सेना ने मंगलवार सुबह तड़के मेंढर के बालाकोट सेक्टर में सेना की चौकियों के साथ ही रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर गोलाबारी की। सेना के जवानों ने भी इस गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। पाकिस्तानी गोलाबारी में तीन पशुओं की मौत हो गई, जबकि दर्जन भर घायल हो गए। इसके साथ ही तीन मकानों को भी नुकसान पहुंचा है।

जानकारी के अनुसार मंगलवार सुबह करीब 3.30 बजे पाकिस्तानी सेना की तरफ से बालाकोट में संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए सेना की चौकियों के साथ ही रिहायशी इलाकों को निशाना बनाया गया। सेना ने भी उसी क्रम में गोलाबारी का जवाब दिया। 

समाचार लिखे जाने तक दोनों तरफ से गोलाबारी जारी थी। गोलाबारी से संदोट गांव में महफूज-उर-रहमान और अजीम खान व एक अन्य का मकान क्षतिग्रस्त हो गया है। इसके साथ ही उनके तीन पशुओं की मौत हो गई। साथ ही गोलाबारी में दर्जन भर मवेशी घायल हो गए हैं। नियंत्रण रेखा से सटे इलाकों में दहशत बनी हुई है। लोग घरों में ही बंद होकर रह गए हैं। संवाद

आईबी पर भी चांदवा पोस्ट पर दो घंटे की गोलाबारी
भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर पाकिस्तान ने फिर से संघर्ष विराम का उल्लंघन कर दो घंटे गोलाबारी की। सोमवार देर रात एक बजे से मंगलवार तड़के तीन बजे तक पाकिस्तानी चिनाब रेंजर्स ने पप्पु चेक पोस्ट से सीमा सुरक्षा बल की चांदवा पोस्ट को निशाना बनाते हुए 31 राउंड फायर किए। बीएसएफ जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तानी सेना को इसका करारा जवाब दिया। हालांकि इस गोलाबारी में किसी प्रकार के नुकसान की सूचना नहीं है। सीमा पर चल रहे सुरक्षा बांध के काम को बाधित करने के लिए पाकिस्तान रात को गोलाबारी कर रहा है।
... और पढ़ें
पाकिस्तान द्वारा किए गए सीजफायर के बाद उठता धुंआ पाकिस्तान द्वारा किए गए सीजफायर के बाद उठता धुंआ

सेना के लेफ्टिनेंट समेत नौ जवान कोरोना संक्रमित, जम्मू-कश्मीर में 60 नए मरीज

सेना भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गई है। जम्मू जिले में मंगलवार को सामने आए 11 पॉजिटिव मामलों में सेना के एक लेफ्टिनेंट समेत अलग-अलग यूनिटों के तैनात नौ जवान भी शामिल हैं। अब 60 और मामलों के साथ प्रदेश में संक्रमितों का आंकड़ा 1761 पहुंच गया है। नए मरीजों में जम्मू संभाग में 23 और कश्मीर संभाग में 37 मामले शामिल हैं। 

इस बीच श्रीनगर में कुलगाम निवासी एक संक्रमित की मौत हो गई। जम्मू-कश्मीर में अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, सूत्रों के अनुसार सोमवार को श्रीनगर से हवाई जहाज से जम्मू लौटे उपराज्यपाल के एक अन्य सलाहकार सहित दो लोगों के कोविड सैंपल लिए गए हैं। इन्हें जांच रिपोर्ट आने तक आइसोलेट रहने की हिदायत दी गई है। इससे पहले रविवार को उपराज्यपाल के एक सलाहकार की पत्नी और बेटा पॉजिटिव पाए गए थे। जानकारी के बाद सलाहकार ने खुद को क्वारंटीन कर लिया है।  

पिछले दिनों सेना की विभिन्न यूनिटें ट्रेन से जम्मू पहुंची थी, जिसमें सभी जवानों के कोविड सैंपल लिए गए थे। इनमें मंगलवार को नौ जवानों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई। जवान देश के विभिन्न हिस्सों से होते हुए जम्मू आए हैं और  अलग-अलग राज्यों के निवासी हैं। सभी जवान संबंधित यूनिटों में क्वारंटीन थे। इनमें एक जवान पलांवाला का है, जो दिल्ली से लौटा था। 

जम्मू जिले में मुट्ठी और टालीमोड़ से एक-एक व्यक्ति संक्रमित हुआ है, ये भी क्वारंटीन थे। नए पॉजिटिव मामलों में कठुआ, पुंछ, बांदीपोरा व गांदरबल में 4-4, उधमपुर व सांबा में 2-2, कुलगाम व कुपवाड़ा में 1-1, श्रीनगर में 7, बारामुला में 6, बडगाम में 12 और पुलवामा में 2 मामले शामिल हैं।  

जम्मू कश्मीर में 24 पॉजिटिव और स्वस्थ
जम्मू-कश्मीर के विभिन्न अस्पतालों से मंगलवार को 24 कोविड पॉजिटिव मरीज स्वस्थ हुए। इसमें जम्मू संभाग से 15 और कश्मीर संभाग से नौ मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई।
... और पढ़ें

तस्वीरेंः नहर की सफाई में खलल डाल रहा था पाक, बीएसएफ के मोर्चा संभालते ही सीमा पार हुआ सन्नाटा

प्रदर्शन करते डॉक्टर

श्रीनगरः आतंकी जुनैद की मौत पर दुख जताने अशरफ सेहरई के घर पहुंचे पीडीपी नेता इट्टू

पीडीपी के वरिष्ठ नेता इंजीनियर नाजिर इट्टू सोमवार को हुर्रियत चेयरमैन मोहम्मद अशरफ सेहरई के घर पहुंचे। वहां उन्होंने सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए उनके बेटे हिजबुल कमांडर जुनैद सेहरई की मौत पर दुख जताया। मालूम हो श्रीनगर के कानेमजार नवाकदल इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में जुनैद सहराई मारा गया था।

29 वर्षीय जुनैद सहराई सैयद अली शाह गिलानी के बाद तहरीक ए हुर्रियत के चेयरमैन बने मोहम्मद अशरफ सहराई का बेटा था। साल 2018 के मार्च महीने में जुमे की नमाज के बाद जुनैद लापता हो गया था। इसके बाद वह आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के साथ जुड़ गया था। जुनैद कश्मीर यूनिवर्सिटी से एमबीए की पढ़ाई पूरी कर मार्च 2018 में हिजबुल में शामिल हो गया था। यह काफी दिनों से सुरक्षा एजेंसियों की रडार पर था।
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीर में सलाहकार परिषद के गठन की कवायद तेज, उमर के दिल्ली जाने से चर्चाओं ने पकड़ा जोर

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में सलाहकार परिषद के गठन की कवायद तेज हो गई है। इस परिषद में 10 से 12 सदस्य हो सकते हैं। परिषद के पास गृह को छोड़कर सभी विभागों से जुड़े फैसले लेने का अधिकार होगा। यह परिषद मंत्रि परिषद की तरह काम करेगी। परिषद का नेतृत्व जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी के अध्यक्ष अल्ताफ बुखारी करेंगे। परिषद का शपथ ग्रहण दो जून को हो सकता है। इस सिलसिले में केंद्र सरकार के साथ बातचीत अंतिम दौर में है।

सूत्रों का कहना है कि परिषद में उत्तरी और दक्षिणी कश्मीर के युवा चेहरे को तरजीह मिल सकती है। परिषद सभी प्रकार के फैसले लेगी, वह केवल गृह विभाग से जुड़े मामलों में अपनी सिफारिशें केंद्र सरकार को भेजेगी जहां उस पर फैसला होगा।

बताया गया कि लॉकडाउन की वजह से इन दिनों दिल्ली में रह रहे अल्ताफ बुखारी की परिषद को लेकर केंद्र सरकार के साथ बातचीत चल रही है जो अंतिम दौर में है। वे 28 मई को श्रीनगर लौट सकते हैं। इसके बाद परिषद के सदस्यों के नाम को अंतिम रूप दिया जाएगा। इसके साथ ही कई लोगों को जिला विकास बोर्ड और विभिन्न कॉरपोरेशन व बोर्ड के उपाध्यक्ष का दायित्व सौंपा जा सकता है।
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीर: बालाकोट सेक्टर में पाकिस्तान ने बरसाए गोले, छह से अधिक जानवर मरे, कई घर क्षतिग्रस्त

पाकिस्तानी सेना अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रही है। जम्मू-कश्मीर के सीमावर्ती इलाकों में आए दिन संघर्षविराम का उल्लंघन कर आतंकियों को घुसपैठ कराने की नापाक हरकतें कर रही है। इसी क्रम में आज यानी कि मंगलवार को पाकिस्तान ने पुंछ जिले के बालाकोट सेक्टर में संघर्षविराम का उल्लंघन किया।

इस दौरान सीमा पार से भारी गोलाबारी की गई। सेना की चौकियों को निशाना बनाने के साथ ही पाकिस्तानी सेना ने रिहायशी इलाके में भी मोर्टार दागे। इस गोलाबारी में छह से अधिक जानवरों की मौत हो गई है। जबकि कई घरों को नुकसान पहुंचा है। पाकिस्तान की इस नापाक हरकत का भारतीय सेना माकूल जवाब दे रही है।

यह भी पढ़ेंः 
ग्राउंड रिपोर्टः हाथ में हंसिया और 'हथेली पर जान' रख रात में फसल काटते हैं किसान, वजह ना'पाक' हरकतें

वहीं पाकिस्तान की इस नापाक हरकत को लेकर इलाके में रोष है। लोगों ने सेना व प्रधानमंत्री से मांग की है कि पाकिस्तान को ऐसा सबक सिखाया जाए जिससे वह ऐसी हरकतें करने से पहले सौ बार विचार करे।
... और पढ़ें

आतंकी हमले में युवक गिरफ्तार, पूछताछ जारी

श्रीनगर। श्रीनगर के बाहरी क्षेत्र पांदछ में आतंकी हमले में शहीद हुए बीएसएफ के दो जवानों के मामले में जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार मामले की तफतीश के दौरान पुलिस स्टेशन सोवरा की एक टीम ने एक युवक को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ पर्चा दर्ज किया। उन्होंने बताया कि युवक की शिनाख्त पांदछ के वसीम अहमद उर्फ मास के तौर पर बताई जा रही है, जिसके खिलाफ पहले भी कई मामले दर्ज हैं। आरोपी से पूछताछ जारी है।
बता दें, 20 मई को आतंकियों के एक हमले में बीएसएफ के दो जवान शहीद हो गए थे। आतंकी उनकी सर्विस राइफल लेकर फरार हो गए थे।
कुपवाड़ा में तलाशी अभियान, दो यूबीजीएल बरामद
उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में सुरक्षाबलों ने दो यूबीजीएल (अंडर बैरल ग्रेनेड लांचर) बरामद किए हैं। दरअसल सुरक्षाबलों को जूनरेशी गांव के चौपान मोहल्ला में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी। इस पर सेना की 14 सिख लाई और जम्मू-कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने इलाके में एक संयुक्त तलाशी अभियान चलाया। तलाशी अभियान के दौरान किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us