विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
चंद्र ग्रहण में छोटा सा दान, बनाएगा धनवान : 5 जून 2020
Puja

चंद्र ग्रहण में छोटा सा दान, बनाएगा धनवान : 5 जून 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

2020 में अबतक 75 आतंकी ढेर, 'कंगन' ने ठोक दी मसूद अजहर के आतंकी ताबूत में आखिरी कील!

कंगन मुठभेड़ कंगन मुठभेड़

अनंतनागः प्रसव पीड़ा से तड़पती रही कोरोना संक्रमित गर्भवती, अस्पताल की गैलरी में बच्ची को दिया जन्म

अनंतनाग जिले के बिजबहेड़ा में कोरोना संक्रमित एक महिला ने एक बच्ची को अस्पताल की गैलरी में जन्म दिया। परिजनों का आरोप है कि कोई भी डॉक्टर अथवा स्वास्थ्य कर्मी उसकी मदद के लिए आगे नहीं आया। इसके कारण बच्ची के शरीर में प्लेसेंटा बना रहा और बाद में उसे श्रीनगर स्थानांतरित करना पड़ा। इस बीच प्रशासन ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

उपायुक्त केके सिद्धा ने बताया कि ऐसी शिकायत मिली है। तथ्यों का पता लगाने के लिए एसडीएम को निर्देश दिया है। लेकिन प्रारंभिक जांच से कोई चिकित्सकीय लापरवाही सामने नहीं आई है। उनका कहना है कि जच्चा-बच्चा दोनों ठीक हैं और उनके परिजनों को घबराने की जरूरत नहीं है।
... और पढ़ें

जैश कमांडर अब्दुल के खात्मे के बाद अब्दुल्ला गाजी की बारी, आईजी बोले- सेना जल्द उसको भी मारेगी

जम्मू-कश्मीर पुलिस के कश्मीर जोन के आईजी विजय कुमार ने बताया कि सुरक्षाबलों के हाथों मारा गया पाकिस्तानी जैश कमांडर अब्दुल रहमान उर्फ फौजी वर्ष 2017 से दक्षिण कश्मीर में सक्रिय था। वह अफगानिस्तान में भी आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में शामिल रहा है।

इसी वर्ष हिजबुल कमांडर रियाज नायकू के मारे जाने के बाद फौजी का मारा जाना एक बड़ी सफलता है। उन्होंने कहा कि हमारा अगला टारगेट अब्दुल्ला राशिद गाजी है। इससे पहले वर्ष 2019 के एक एनकाउंटर में ये बच निकला था।

यह भी पढ़ेंः 
2020 में अबतक 75 आतंकी ढेर, 'कंगन' ने ठोक दी मसूद अजहर के आतंकी ताबूत में आखिरी कील!

आईजी विजय कुमार ने बताया कि पुलवामा मे सक्रिय फौजी जैश ए मोहम्मद का आतंकी था। इसके अलावा वलीद भाई और लंबू दोनों भी जैश के आईईडी एक्सपर्ट हैं। हमारा अगला टारगेट अब्दुल्ला राशिद गाजी है, वो ज्यादा सामने नहीं आता है। वह पुलवामा के ग्रेव इलाके में सक्रिय है। सेना जल्द उसको भी मारेगी।
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीरः घाटी में कोरोना से एक और मौत, प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 2,858 हुई

जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। आज यानी कि गुरुवार को कश्मीर संभाग में एक संक्रमित की मौत हो गई है। इससे पहले बुधवार को प्रदेश में सेना के 11 जवान, बीएसएफ का एक जवान, सीआरपीएफ का एक जवान, एक एयरफोर्स कर्मी और दो पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए थे।

बुधवार को पाए गए 139 संक्रमितों के साथ प्रदेश में संक्रमित मामलों की संख्या 2,858 हो गई है। इनमें से 1,816 सक्रिय हैं। इसमें जम्मू संभाग के 532 और कश्मीर संभाग के 1284 मामले हैं। इस बीच राहत यह रही कि प्रदेश के अलग-अलग अस्पतालों से 54 संक्रमित मरीज स्वस्थ होकर घर चले गए। अस्पताल से छुट्टी पाने वालों में जम्मू से एक और बाकी कश्मीर संभाग के हैं।

जम्मू जिले में संक्रमित आए 10 मामलों में सेना के सात जवान, एक सीआरपीएफ जवान और दो पुलिस कर्मी भी हैं। इसमें जगती निवासी पुलिसकर्मी 25 मई को श्रीनगर से लौटा था। 27 मई को बीमार हुआ और 28 को उसका सैंपल लिया गया। बुधवार को उसके संक्रमित होने की पुष्टि हुई।

 
... और पढ़ें

घाटी में महिला भाजपा नेता को पाकिस्तान से आई धमकी, सोशल मीडिया पर ऑडियो वायरल

जम्मू कश्मीर में कोरोना वायरस
आतंकी संगठन स्थानीय महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए काम कर रही महिलाओं को गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दे रहे हैं। बडगाम जिले की एक महिला भाजपा नेता को पाकिस्तान स्थित अल-बद्र आतंकी समूह ने चेतावनी दी है कि वह अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं को भूल जाएं अथवा गंभीर परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें। अल-बद्र के झंडे के साथ ऑडियो संदेश और भाजपा नेता की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

हालांकि जम्मू-कश्मीर पुलिस का दावा है कि वह ऐसी किसी भी शिकायत मिलने पर संबंधित व्यक्ति को पूर्ण सुरक्षा प्रदान करेगी।
1989 में कश्मीर में उग्रवाद की शुरुआत के बाद से महिलाओं को हिंसा से उत्पन्न परिस्थितियों के कारण आर्थिक पिछड़ेपन का खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। विशेषज्ञ इसे महिला सशक्तीकरण के लिए काम करने वालों के लिए खतरनाक संकेत मान रहे हैं। ऐसी धमकियों के कारण कई लड़कियों को अपनी पढ़ाई छोड़ कर घर का काम संभालना पड़ रहा है।

जम्मू के कश्मीर के पूर्व पुलिस महानिदेशक कुलदीप खुड्डा मानते हैं कि कई युवा लड़कों ने आतंक का दामन थाम लिया। माता-पिता की देखभाल करने के लिए पढ़ाई छोड़ दी। राज्य के पुलिस प्रमुख के रूप में सबसे सफल कार्यकाल प्राप्त करने वाले खुड्डा ने कहा कि उस दौर में सभी खूंखार आतंकी संगठनों में एक समानता थी कि उनमें आधुनिक शिक्षा के माध्यम से महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए गहरी नफरत थी।

पिछले साल कश्मीर में आतंकवादियों ने कई महिलाओं को निशाना बनाया। पुलवामा में आतंकियों ने नेजेना बानो की गोली मारकर हत्या कर दी। इशरत मुनीर की भी जान ले ली। शोपियां में पिछले साल खुश्बू जान नाम की महिला की हत्या कर दी थी।
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीर: पुलवामा मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने मसूद अजहर के रिश्तेदार समेत तीन आतंकियों को किया ढेर

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। सुरक्षाबलों ने पुलवामा में हुए मुठभेड़ में आतंकी सरगना मौलाना मसूद अजहर के रिश्तेदार समेत तीन आतंकियों को मार गिराया है। सुरक्षाबलों ने आतंकियों के कब्जे से भारी मात्रा में गोला-बारूद भी बरामद किया है।

14 फरवरी 2019 में पुलवामा हमले वाली कार में इस्माइल ने फिट की थी आईईडी
गौरतलब है कि मारे गए तीन पाकिस्तानी आतंकियों में से फौजी भाई उर्फ इस्माइल मसूद अजहर का रिश्तेदार और आईईडी विशेषज्ञ था। 14 फरवरी 2019 को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर जिस कार ने हमला किया था उसमें आईईडी इस्माइल ने ही फिट की थी। इस हमने सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। पिछले महीने पुलवामा में आईईडी से भरी जो कार ब्लास्ट हुई थी उसके पीछे भी इस्माइल का ही हाथ था। इस्माइल की मौत सुरक्षाबलों के लिए बड़ी कामयाबी है।

आज सुबह हुई मुठभेड़
बुधवार की सुबह हुई मुठभेड़ में पुलवामा जिले के कंगन इलाके में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को ढेर कर दिया है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद बुधवार सुबह पुलवामा के कंगन इलाके की घेराबंदी की।



वहां तलाश अभियान चलाया। उन्होंने बताया कि तलाशी अभियान उस समय मुठभेड़ में बदल गया जब आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। इसके बाद सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की।

अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए। मारे गए आतंकवादियों की पहचान की जा रही है और यह पता लगाया जा रहा है कि वे किस संगठन से जुड़े हुए थे। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ स्थल से हथियार और गोला-बारूद समेत आपराधिक सामग्री बरामद की गई है।
... और पढ़ें

वैष्णो देवी यात्रा की तैयारियां तेज, भवन से गुफा तक सामाजिक दूरी के निशान बनाए गए

देश भर में आठ जून के बाद धार्मिक स्थल खोलने की केंद्र सरकार की घोषणा के बाद विश्व प्रसिद्ध वैष्णो देवी यात्रा को लेकर भी तैयारियां तेज कर दी गई हैं। वैष्णो देवी भवन के गेट नंबर एक से लेकर गुफा तक प्रत्येक छह फुट की दूरी पर निशान लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। 

इससे एक दिन पहले यहां पचास घोड़ों के साथ पालकी वालों के सैंपल भी लिए गए थे। हालांकि राज्य सरकार की ओर से अब तक यात्रा शुरू करने के बारे में कोई फैसला नहीं लिया गया है।  

ऐसा माना जा रहा है कि आठ जून के बाद किसी भी दिन वैष्णो देवी यात्रा शुरू की जा सकती है। श्रीमाता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड कोरोना संक्रमण के बीच संभावित यात्रा में कोई कोताही नहीं रखना चाहता, इसके लिए आने वाले यात्रियों की सुरक्षा हर स्थिति में पुख्ता करने की तैयारी में जी जान से जुटा है। 

उसने कोरोना संक्रमण के दौरान सामाजिक दूरी का पालन कराने के लिएू वैष्णो देवी भवन के गेट नंबर एक से लेकर प्राकृतिक गुफा तक छह फुट की दूरी पर निशान लगाने शुरू कर दिए हैं। 

इसी तरह यह निशान भवन पर भोजनालयों के साथ ही हिमकोटी के पास भोजनालय के आसपास भी बनाए जा रहे हैं। इसके साथ ही श्राइन बोर्ड ने अपने सभी कर्मचारियों को ड्यूटी ज्वाइन करने के भी निर्देश दि हैं। कर्मचारी लगातार यहां पहुंचकर ड्यूटी ज्वाइन भी कर रहे हैं। भवन पर साफ सफाई का काम भी तेजी के साथ शुरू कर दिया गया है। 

18 मार्च से बंद है यात्रा
कोरोना संक्रमण के कारण 18 मार्च 2020 को वैष्णो देवी यात्रा रोक दी गई थी। श्राइन बोर्ड ने पूर्व में कराए गए सभी रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिए थे। बोर्ड ने बाहर से आने वाले यात्रियों से अगले आदेश तक यात्रा पर न आने की अपील की थी। यहां प्रतिवर्ष लाखों लोग दर्शन के लिए पहुंचते हैं।
... और पढ़ें

बेटी की हत्या कर पिता ने कब्रिस्तान में दफनाया शव, फिर फैला दी लापता होने की बात, अब गिरफ्तार

जम्मू-कश्मीर के पूंछ जिले में उस वक्त सनसनी फैल गई जब ये खबर सामने आई कि एक पिता ने अपनी ही बेटी की बर्बरता से हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ कर रही है।

पुलिस के अनुसार आरोपी ने तीन-चार दिन पहले अपनी बेटी की हत्या कर शव को कब्रिस्तान में दफन कर दिया और गांव में अपनी बेटी के लापता होने की खबर फैला दी। इसकी जानकारी मिलने पर जब पुलिस ने जांच शुरू की तो पिता को संदिग्ध पाया।

उससे सख्ती से पूछताछ करने पर आरोपी पिता ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या की धाराओं में केस दर्ज किया है। आरोपी की पहचान रियाज अहमद के रूप में हुई है जो पूंछ के मंडी का रहने वाला है। उस पर अपनी 12-13  साल की बेटी की हत्या का आरोप है।
... और पढ़ें

कश्मीरः आतंकियों के 50 मददगार पंजाब में सक्रिय, रच रहे आतंकी साजिश, खुफिया एजेंसियां सतर्क

कश्मीर में सख्ती के बाद आतंकी अब पंजाब से अपना नेटवर्क चला रहे हैं। हमला करने, हथियार मुहैया कराने, नए आतंकी ठिकाने बनाने या आतंकियों के लिए पैसा जुटाने की साजिश पंजाब में रची जा रही है।

खुफिया एजेंसियां भी आतंकियों की इस नई रणनीति को लेकर सतर्क हैं। यही कारण है कि पंजाब की तर्ज पर जम्मू कश्मीर में एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स बना दी गई है। जो आतंकवाद और ड्रग्स के नेटवर्क को ध्वस्त करने में काम करेगा।

खुफिया एजेंसियों के सूत्रों का कहना है कि कश्मीर के लगभग 50 ओवर ग्राउंड वर्कर (ओजीडब्ल्यू) पंजाब के अलग-अलग हिस्सों में सक्रिय हैं जो वहां बैठकर साजिश रच रहे हैं। पैसा जुटाने के लिए कश्मीर से पंजाब में बड़े स्तर पर हेरोइन, भुक्की, चरस आदि भी भेजी जा रही है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us