विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नएवर्ष में कराएं महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग का एक माह तक जलाभिषेक, होगी परिवारजनों के अच्छे स्वास्थ्य की प्राप्ति
Astrology Services

नएवर्ष में कराएं महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग का एक माह तक जलाभिषेक, होगी परिवारजनों के अच्छे स्वास्थ्य की प्राप्ति

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

झारखण्ड

शनिवार, 14 दिसंबर 2019

झारखंड: नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी को अदालत ने सुनाई 10 साल की सजा

झारखंड की एक स्थानीय अदालत ने 16 वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म के मामले में 25 वर्षीय एक युवक को 10 साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। यह घटना रामगढ़ जिले में दो साल पहले हुई थी।

अतिरिक्त लोक अभियोजक एस के शुक्ला ने बताया कि अतिरिक्त जिला न्यायधीश संजय प्रसाद सिंह ने 30 नवंबर को पोक्सो अधिनियम के तहत रंगलाल महतो को दोषी ठहराया। न्यायाधीश ने महतो पर 20,000 रुपए का जुर्माना भी लगाया।

अभियोजन पक्ष के अनुसार महतो के खिलाफ पीड़िता के परिवार ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी। इसमें आरोप लगाया गया था कि महतो ने 28 सितंबर 2017 को पीड़िता के साथ उस समय दुष्कर्म किया, जब वह बरलांगा गांव में नदी में नहाने गई थी।
... और पढ़ें

झारखंड विधानसभा चुनाव : हिंसा के बीच दूसरे चरण में 20 सीटों पर 64.39 प्रतिशत मतदान

झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में शनिवार को मतदान संपन्न होने तक 64.39 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। हिंसा की एक घटना को छोड़कर दूसरे चरण में सभी बीस सीटों के लिए लगभग शांतिपूर्ण ढंग से मतदान हुआ।





मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि दूरदराज के कुछ अन्य इलाकों से मतदान के आंकड़े प्राप्त होने के बाद मतदान प्रतिशत में और बढ़ोत्तरी हो सकती है।

गुमला जिले के सिसाई विधानसभा में मतदान के दौरान उपद्रवियों ने एक सुरक्षाकर्मी से उसका हथियार छीनने का प्रयास किया। इसके बाद सुरक्षाकर्मी ने अपने बचाव में गोली चला दी, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई और दो घायल हो गए। इसके बाद गुस्साई ग्रामीणों ने पत्थरबाजी की जिसमें एक पुलिस अधिकारी घायल हो गया।

झारखंड के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) मुरारी लाल मीणा ने बताया कि सिसाई विधानसभा क्षेत्र के पोलिंग बूथ संख्या 36 पर तैनात रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) के जवान से भीड़ ने उसका हथियार छीनने का प्रयास किया। अपने बचाव में जवान ने गोली चला दी जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई।

दोनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मीणा ने कहा कि अन्य जगहों पर मतदान शांतिपूर्ण रहा। किसी तरह की हिंसा की कोई खबर नहीं है। झारखंड के मुख्य चुनाव अधिकारी विनय कुमार चौबे के मुताबिक, सिसाई में हुई हिंसा के बाद मतदान रोक दिया गया। मामले की जांच की जाएगी।

दिल का दौरा पड़ने से पुलिस अफसर की मौत

उत्तरी सिंघभूम में चुनाव ड्यूटी पर तैनात एक पुलिस अधिकारी की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। बहारगोड़ा पुलिस स्टेशन के इंचार्ज राजधान सिंह ने बताया कि चुनाव ड्यूटी के दौरान एएसआई हरीश चंद्र गिरी (44) को दिल का दौरा पड़ा। इसके बाद उन्हें पास के एक स्वास्थ्य केंद्र पर ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने हरीश को मृत घोषित कर दिया। एएसआई हरीश उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के रहने वाले थे।
... और पढ़ें

झारखंड चुनाव: मुख्यमंत्री रघुवर दास ने किया मतदान, कहा- झामुमो और कांग्रेस का होगा पूरी तरह सफाया

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने शनिवार को यहां भालूबासा मतदान केंद्र में मतदान करने के बाद दावा किया कि संथाल परगना में भी भाजपा इस बार झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस की पूरी तरह सफाई कर देगी। झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत 20 सीटों पर मतदान हो रहा है।

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने अपने जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा क्षेत्र में पूर्वाह्न लगभग 10 बजे सपरिवार मतदान किया। यहां त्रिकोणीय संघर्ष में उनका मुख्य मुकाबला उनके कैबिनेट साथी रहे सरयू राय से है जिन्होंने भाजपा से टिकट न मिलने के बाद मुख्यमंत्री को इसके लिए दोषी मानते हुए उनके ही खिलाफ मोर्चा खोल दिया और दास के खिलाफ चुनाव मैदान में उतर गए।

इस सीट पर तीसरे प्रमुख उम्मीदवार कांग्रेस के गौरव वल्लभ हैं लेकिन मुख्य मुकाबला मुख्यमंत्री और सरयू राय में ही होता प्रतीत हो रहा है।

रघुवर दास ने मीडिया से कहा कि उनकी सरकार ने पिछले पांच साल में आम लोगों के लिए बड़े पैमाने पर काम किए हैं जिसका परिणाम चुनावों के परिणाम में प्रतिबिंबित होगा। उन्होंने कहा कि झामुमो का गढ़ माने जाने वाले संथाल परगना में भी लोग उनकी सरकार के काम से इतना खुश हैं कि संथाल में भी झामुमो और कांग्रेस का इस बार खाता खुलना मुश्किल है।
... और पढ़ें

झारखंड में बोले शाह- मोदी और रघुबर ने नक्सलवादियों को 20 फुट नीचे दबाया

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह चौथी बार झारखंड पहुंच गए हैं। गिरिडीह में एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि पूरे झारखंड के अंदर जनता तय करके बैठी है कि इस बार फिर नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में कमल के फूल की सरकार बनानी है और झारखंड को विकास के पथ पर ले जाना है। कमल पर दिया गया एक-एक वोट झारखंड को विकास और प्रगति की ओर ले जाएगा।

उन्होंने कहा कि झारखंड में आज जो गठबंधन सामने है वो राजनीतिक फायदा उठाने वाला है। मैं हेमंत जी को पूछना चाहता हूं कि मुख्यमंत्री बनने के लिए जिस कांग्रेस की गोद में बैठकर आए हो, झारखंड के युवाओं पर गोली चलाने वाली वह ही कांग्रेस थी। जिस झारखंड को अटल जी ने बनाया, उस झारखंड में रघुबर दास और नरेंद्र मोदी जी की जोड़ी ने झारखंड को विकास के रास्ते पर आगे ले जाने का काम किया है।

नक्लसवाद का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि जिस झारखंड के अंदर नक्सलवादियों का नंगा नाच दिखाई पड़ता था आज मैं कहने आया हूं कि नरेंद्र मोदी जी और रघुबर दास जी ने नक्सलवादियों को 20 फुट जमीन के नीचे दबाने का काम किया है। मुझे बताओ माताओं-बहनों और युवाओं! नक्सलवाद के रहते झारखंड का विकास हो सकता है क्या? हेमंत सोरेन और कांग्रेस की सरकार नक्सलवाद को रोक सकती है क्या? नक्सलवाद को केवल और केवल हमारे नेता नरेंद्र मोदी जी ही रोक सकते हैं।

कांग्रेस पर हमला बोलते हुए भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा को जब-जब मौका मिला, झारखंड को लूटने में कोई कसर नहीं छोड़ी। यहां से थैले के थैले भरकर दिल्ली के दरबार में रुपया ले जाते थे, जो रुपया मेरे झारखंड के गरीब युवाओं के विकास के लिए था। 70-70 साल तक कांग्रेस की सरकार रही, गरीबों के घर में बिजली नहीं आती थी, आदिवासियों, पिछड़ा समाज, दलितों के घर में बिजली नहीं आती थी, आज इस विधानसभा के सभी गांवों में बिजली पहुंचाने का काम नरेंद्र मोदी और रघुबर दास ने पूरा कर दिया।

उन्होंने कहा कि 70 साल राहुल बाबा की पार्टी ने शासन किया। इनकी पार्टी ने चार-चार पीढ़ी तक शासन किया, मगर गरीब माताओं-बहनों, गरीब बेटियों के लिए शौचालय उपलब्ध कराने का काम नहीं किया। गरीब घर की माताओं, बेटियों को खुले में कुदरती प्रक्रिया के लिए जाना पड़ता था।ग रीब का घर, उसकी रसोई धुएं से भरी होती थी। गरीब मां चूल्हा फूंक-फूंककर खाना पकाती थी, उसकी नेत्र की ज्योति चली जाती थी, फेफड़े धुएं से भर जाते थे, फाइब्रोसिस हो जाता थी, मां बेचारी 50 साल में ही बुढ़िया दिखने लगती थी। 
... और पढ़ें
अमित शाह अमित शाह

झारखंड: कथित यौन उत्पीड़न पीड़ित नाबालिग की मौत, दूसरी गंभीर

झारखंड के चतरा जिले में दो नाबालिगों के साथ कथित यौन व शारीरिक उत्पीड़न का मामला समाने आया है। इनमें से एक की मौत हो गई, जबकि दूसरी की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने बताया कि इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। जबकि कई अन्य संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस ने बताया कि घटना बुधवार की है। दो दस वर्षीय व एक आठ वर्षीय नाबालिग किरिगडा के जंगलों में लकड़ी लेने गए थे। देर शाम तक वे लौटे नहीं तो परिजनों व ग्रामीणों ने पुलिस से शिकायत की। इसके बाद इनकी खोजबीन शुरू हुई। 

आठ साल का नाबालिग उन्हें घायल मिला, उसे रांची के रिम्स में भर्ती कराया गया। पीड़ित ने बताया कि आरोपियों ने तीनों ही बच्चों की पिटाई की और दो लड़कियों को अगवा कर घने जंगल में ले गए। पुलिस ने जब और खोजबीन की तो बृहस्पतिवार को दोनों नाबालिग मिल गईं, उन्हें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। 

यहां एक को मृत घोषित कर दिया जबकि दूसरी को रिम्स रेफर कर दिया गया। पुलिस ने कहा प्रथम दृष्टया यह मामला यौन उत्पीड़न व हत्या का लग रहा है। इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है।
... और पढ़ें

झारखंड चुनावः पति के अंतिम संस्कार से पहले मतदान करने पहुंची महिला, कायम की मिसाल

झारखंड के बोकारो शहर में गुरुवार को एक महिला ने अपने पति के अंतिम संस्कार से पहले मतदान कर सभी के लिए एक मिसाल कायम की। बता दें कि गुरुवार को प्रदेश में विधानसभा के तीसरे चरण के चुनावों के लिए मतदान हुआ था। अब इससे जुड़ी खबरें सामने आने पर सोशल मीडिया पर लोग इस महिला की काफी तारीफ कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, झारखंड विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के मतदान के दौरान रेणू देवी नामक महिला अपने पति का शव घर पर छोड़कर बेमरो प्रखंड की कारो बस्ती के मतदान केंद्र संख्या 87 पर पहुंची थी। रेणू देवी ने यहां मतदान किया। इसके बाद उन्होंने घर लौटकर अपने पति के शव को अंतिम संस्कार के लिए श्मशान भेजा।

रेणू ने शुक्रवार को पत्रकारों से कहा कि मेरे 63 वर्षीय पति ने मुझे किसी भी काम से पहले मतदान करने की सीख दी थी, क्योंकि हमें अपना प्रतिनिधि चुनना होता है। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि ठंड लगने से बुधवार रात उनके पति की मौत हो गई थी।
... और पढ़ें

झारखंड: दुष्कर्म के बाद दो बच्चियों की हत्या, बहन के बारे में पूछने पर भाई को बुरी तरह पीटा

झारखंड के पिपरवार इलाके में 10 और 12 साल की दो बच्चियों के साथ दरिंदगी करने के बाद उनकी हत्या कर दी गई है। आठ साल का एक बच्चा गंभीर रूप से घायल है। जिसे रिम्स में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मामले में गांव के सोनू मोची को गिरफ्तार किया है। उसके खिलाफ यौन शोषण और हत्या का मामला दर्ज कराया गया है।

बुधवार से लापता थे बच्चे

तीनों बच्चों को सोनू बुधवार दोपहर को फल खिलाने की बात कहकर जंगल ले गया था। जब वह शाम तक नहीं लौटे तो परिजनों ने उनकी तलाश शुरू कर दी। पुलिस ने भी रातभर बच्चों को तलाशा। गुरुवार तड़के बच्चे की आवाज सुनकर मां और अन्य लोग वहां पहुंचे तो उसे खून से लथपथ देखा। 

परिजनों ने उसे रिम्स में भर्ती कराया है। ग्रामीणों को गुरुवार दोपहर दोनों बच्चियां भी गंभीर हालत में जंगल में मिलीं। जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने एक बच्ची को मृत घोषित कर दिया। वहीं दूसरी बच्ची को रिम्स रेफर किया गया लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। 

फल खिलाने के बहाने बच्चों को जंगल ले गया था आरोपी

रिम्स में भर्ती घायल बच्चे ने बताया कि सोनू फल खिलाने की बात कहकर पहले बहन और उसकी सहेली को जंगल ले गया था। कुछ देर बाद वह मुझे भी ले गया। जब मुझे वहां बहन दिखाई नहीं दी तो मैंने उससे उनके बारे में पूछा। इसपर उसने मेरी पिटाई करनी शुरू कर दी। जबरदस्ती खींचते हुए मुझे कुछ दूर तक लेकर गया और पत्थर से सिर पर हमला कर दिया। इसके बाद शर्ट से मेरे हाथ बांध दिए और गर्दन को पेड़ में फंसाकर वहां से भाग गया। सुबह जब मैंने आवाज लगाई तो मां और अन्य लोग वहां पर पहुंचे।

वाट्सएप पर फोटो देखकर पहचाना आरोपी

पुलिस ने बच्चे को पांच युवकों की तस्वीर दिखाई। जिसमें से उसने सोनू को पहचान लिया और जंगल ले जाने की बात कही। पुलिस ने सोनू के मोबाइल की लोकेशन ट्रेस करने की कोशिश की तो फोन बंद मिला। कुछ देर में जब फोन ऑन हुआ तो पुलिस को उसकी लोकेशन मिल गई। जिसके बाद घेराबंदी करके उसे गिरफ्तार कर लिया।

एक से ज्यादा हो सकते हैं आरोपी

एसडीपीओ आशुतोष कुमार सत्यम का कहना है कि इस घटना में सोनू के अलावा एक-दो युवक और हो सकते हैं। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। दो दिन के अंदर मामले का खुलासा करके पुलिस सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लेगी।
... और पढ़ें

झारखंड में राहुल गांधी का पीएम पर हमला, कहा- डरा हुआ हिंदुस्तान चाहते हैं मोदी

सांकेतिक तस्वीर
झारखंड विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को राजमहल में आयोजित एक रैली से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि मोदी डरा हुआ हिंदुस्तान चाहते हैं। वे चाहते हैं यहां की जनता कमजोर और बंटी रहे। 

उन्होंने प्रधानमंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी ने लोगों की जेब से पैसा निकाल लिया। गरीबों ने माल खरीदना बंद किया। फैक्ट्रियां बंद हो गई। युवाओं का रोजगार खत्म हो गया। अगर सरकार अमीर उद्योगपतियों को पैसा देना बंद करे और वही पैसा भारत के युवाओं-किसानों को दे तो 15 मिनट में भारत की अर्थव्यवस्था फिर खड़ी हो जाएगी।

राहुल ने कहा कि जैसे ही राज्य में कांग्रेस-झामुमो गठबंधन की सरकार बनेगी, यहां के किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा। मैं झूठे वादे करने नहीं आया। मेरा नाम मोदी नहीं है। मैं दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात नहीं करूंगा, लेकिन झारखंड के किसानों का कर्ज माफ होगा। 

उन्होंने कहा कि मोदी भ्रष्टाचार की बात करते हैं। यहां आते हैं भ्रष्टाचार की बात करते हैं। यहां सीएम भ्रष्ट हैं। मोदी, रघुवर दास के साथ क्यों खड़े हैं? क्योंकि, मोदी खुद भ्रष्टाचार का सबसे बड़ा चिन्ह हैं। यहां चुनाव के बाद गठबंधन की सरकार बनेगी। झारखंड गरीब नहीं है। यहां की जनता गरीब है। यहां का किसान-युवा-छोटा दुकानदार गरीब है। गठबंधन की सरकार बनने के बाद धन आपके हाथ में आना शुरू हो जाएगा।
... और पढ़ें

झारखंड चुनाव: कड़ी सुरक्षा के बीच 17 सीटों पर मतदान खत्म, 62.03 फीसदी वोटिंग

झारखंड विधानसभा चुनावों के तीसरे चरण में अधिकतर गैर आदिवासी शहरी इलाकों की 17 सीटों के लिए आज कड़ी सुरक्षा के बीच शांतिपूर्ण ढंग से मतदान शाम पांच बजे तक संपन्न हो गया है। तीसरे चरण में सभी सीटों पर औसत 62.03 फीसदी वोटिंग हुई है।
 

17 सीटों में से 12 सीटों पर मतदान तीन बजे ही खत्म हो गया था। सिल्ली, खिजरी, कोडरमा, बरही, बड़कागांव, मांडू, हजारीबाग, सिमरिया, धनवार, गोमिया, बेरमो और ईचागढ़ में सुबह 7 से 3 बजे तक वोटिंग हुई। वहीं रांची, हटिया, कांके, रामगढ़ और बरकट्ठा में शाम 5 बजे तक वोटिंग हुई। 


-रांची में एक मतदान केंद्र पर महेंद्र सिंह धोनी ने डाला वोट। 
 


मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चाौबे ने बताया कि सभी 17 सीटों पर दोपहर एक बजे तक से 45.14 प्रतिशत मतदान हुआ है और कहीं से भी किसी प्रकार की अप्रिय घटना की खबर नहीं है।

उन्होंने बताया कि दोपहर एक बजे तक कोडरमा में 43.26 , बरकट्ठा में 47.00, बरही में 52.30, बड़कागांव में 44.32, रामगढ़ में 46.10, मांडू में 47.10, हजारीबाग में 39.00, सिमरिया में 49.58, धनवार में 48.64, गोमिया में 51.48, बेरमो में 45.04, ईचागढ़ में 56.01, सिल्ली में 54.52, खिजरी में 52.49, रांची में 30.61, हटिया में 33.25 और कांके में 41.35 प्रतिशत मतदान हुआ है।

आज सबसे पहले मतदान करने वालों में पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय और रांची की झारखंड मुक्ति मोर्चा की प्रत्याशी महुआ माझी शामिल थीं। धनवार में झारखंड विकास मोर्चा के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने भी अपने मताधिकार का उपयोग सुबह ही कर लिया। इसके अलावा रांची के विधायक एवं राज्य के काबीना मंत्री सीपी सिंह, विपक्ष के नेता हेमंत सोरेन ने भी सुबह दस बजे अपना मतदान किया।

तीसरे चरण में रांची से शहरी विकास मंत्री चंद्रेश्वर प्रसाद सिंह, कोडरमा से मानव संसाधन विकास मंत्री नीरा यादव और धनवार सीट से झारखंड विकास मोर्चा के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी अपना भाग्य आजमा रहे हैं। वहीं, पूर्व उपमुख्यमंत्री और आजसू के अध्यक्ष सुदेश महतो सिल्ली विधानसभा क्षेत्र से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

बेरमो सीट पर कांग्रस के राजेन्द्र प्रसाद सिंह का मुकाबला भाजपा के निवर्तमान विधायक योगेश्वर महतो से हो रहा है। विभिन्न बूथों पर मतदाताओं को मतदान की वास्तविक स्थिति बताने के लिए बूथ एप जारी किया गया है।

इस चरण के चुनाव में जिन 17 सीटों पर मतदान हो रहा हैं उनमें दो सीटें अनुसूचित जाति तथा एक आदिवासी समुदाय के लिए सुरक्षित है तथा शेष 14 सीटें अनारक्षित हैं। इस दौर के चुनाव में जहां झारखंड विकास मोर्चा सभी 17 सीटों पर चुनाव लड़ रही है वहीं भाजपा सिर्फ 16 सीटों पर चुनाव लड़ रही है।

विनय कुमार ने बताया कि अब शेष सीटों के लिए चौथे चरण में 16 दिसंबर को और पांचवें चरण में 20 दिसंबर को मतदान होगा।

उन्होंने बताया कि लगभग 40 हजार मतदानकर्मी चुनावी ड्यूटी पर तैनात किए गए हैं। 96 दूरस्थ और नक्सल प्रभावित इलाकों के मतदान केन्द्रों पर मतदान कर्मियों को हेलीकाप्टर से पहुंचाया गया है। सुरक्षा कारणों से दस मतदान केन्द्रों का स्थान परिवर्तित कर दिया गया है
 

 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड में मतदान को लेकर जनता से एक अपील भी की है। उन्होंने कहा कि आज झारखंड में तीसरे चरण का मतदान हो रहा है। जिन सीटों पर वोटिंग हो रही है वहां की जनता से मेरा आग्रह है कि वह अधिक से अधिक संख्या में मतदान में भागीदारी करे। उन्होंने कहा कि मैं युवाओं से विशेष रूप से मतदान करने का आग्रह करता हूं।
  ... और पढ़ें

झारखंड विधानसभा चुनाव : चौथे चरण में 34 फीसदी प्रत्याशियों पर आपराधिक मुकदमे

झारखंड में विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के 221 प्रत्याशियों में से 75 यानी करीब 34 फीसदी पर आपराधिक मुकदमे हैं। इनमें से 22 फीसदी पर जघन्य अपराधों के आरोप हैं। भाजपा के 15 में से सात प्रत्याशियों पर केस दर्ज हैं तो झाविमो (झारखंड विकास मोर्चा) के 15 में से सात, बसपा (बहुजन समाज पार्टी) के 13 में से चार और अजासू (ऑल झारखंड स्टूडेंट यूनियन) के 12 में से छह प्रत्याशी आरोपी हैं। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) ने इस चरण की 15 सीटों पर चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों के हलफनामों के आधार पर यह रिपोर्ट दी है।

कुछ ऐसी है प्रत्याशियों की स्थिति

  • 15 में से 14 सीट पर तीन या अधिक प्रत्याशियों पर केस
  • 14 सीटें रेड अलर्ट, यहां तीन या अधिक प्रत्याशियों पर केस
  • चार प्रत्याशियों पर महिलाओं के खिलाफ अपराध के आरोप
  • दो पर हत्या के आरोप, 16 पर हत्या के प्रयास के मामले
  • तीन प्रत्याशी किसी न किसी मामले में दोषी करार
... और पढ़ें

पीएम मोदी बोले- नागरिकता बिल को लेकर कांग्रेस असम-त्रिपुरा में आग लगा रही है

झारखंड में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पड़ोसी देशों में अल्पसंख्यकों का शोषण हुआ है। प्रधानमंत्री मोदी झारखंड विधानसभा चुनाव के चौथे चरण से पूर्व चुनावी सभा के लिए धनबाद के वरवड्डा पहुंचे थे। प्रधानमंत्री मोदी नागरिकता संशोधन विधेयक का जिक्र करते हुए कहा कि पाकिस्तान में दलितों पर अत्याचार हुआ। मंदिर, चर्च आदि पूजाघर तोड़े गए यहां तक की घर झोपड़ी तक छीन लिए गए। पीएम ने कहा कि मैं पूर्वी भारत के हर राज्य, हर जनजातीय समाज को आश्वस्त करना चाहता हूं कि असम सहित नॉर्थ ईस्ट के अलग-अलग क्षेत्रों की परंपराओं, वहां की संस्कृति, उन्हें संरक्षण देना और समृद्ध करना भाजपा की प्राथमिकता है।

प्रधानमंत्री मोदी असम के लोगों से अपील करते हुए कहा कि मैं आश्वस्त करना चाहता हूं कि कोई भी उनके अधिकार को नहीं छीन सकता है। कांग्रेस और उसके साथी पूर्वोत्तर में भी आग लगाने की कोशिश कर रहे हैं। वहां भ्रम फैलाया जा रहा है कि बांग्लादेश से बड़ी संख्या में लोग आ जाएंगे। जबकि ये कानून पहले से ही भारत आ चुके शरणार्थियों की नागरिकता के लिए है।

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस की यही राजनीति है जिसके कारण सात दशक बाद भी भारत के समाज में अनेक नई मुश्किलें आती हैं दरारे पड़ जाती हैं, दरारें दिखने लगती हैं। कांग्रेस की हमेशा से ये रणनीति रही है कि मुश्किल फैसलों को टालते रहो, उस पर राजनीति करते रहो। कांग्रेस के इरादे और कारनामे इसी के साथ ये स्थिति पैदा हुई है। कांग्रेस के साथ जेएमएम और राजद और बचे-खुचे वामपंथी जैसे इनके सहयोगी हमेशा यही करते रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा अपनी राजनीति के बारे में सोचा है। राष्ट्रहित और राष्ट्रनीति के बारे में सोचने में उनको बड़ी देर लग जाती है। कांग्रेस ने देश में एक विचित्र राजनीतिक माहौल बनाया था, जिसके कारण घोषणापत्रों पर, नेताओं के वादों पर देशवासियों का भरोसा उठ गया था। लोगों को लगने लगा था कि नेता चुनाव के दौरान घोषणाएं करते हैं और फिर भूल जाते हैं। पीएम ने कहा कि बीते 6 महीने में जितने भी फैसले लिए गए हैं इनमें से अनेक ऐसे थे जो दशकों से लटके हुए थे।
 
... और पढ़ें

झारखंड में फिर आपस में लड़े जवान, एक अधिकारी समेत चार की मौत

झारखंड में दो अलग-अलग मामलों में चार जवानों की मौत हो गई। पहला मामला रांची जबकि दूसरा मामला गोमिया का है। विधानसभा चुनावों में तैनात किए गए सीआरपीएफ जवान सोमवार को आपस में ही भिड़ गए और एक दूसरे पर गोलीबारी की जिसमें असिस्टेंड कमांडेंट समेत दो अधिकारियों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, इस घटना में चार जवान घायल हो गए। गोलीबारी करने वाले जवान की पहचान दीपेंद्र यादव के रूप में हुई है। यादव पर एक पहरेदार ने गोलीबारी कर काबू पा लिया। 

दरअसल, सोमवार को चाईबासा से द्वितीय चरण का चुनाव संपन्न कराकर लौट रहे सीआरपीएफ के जवानों और अधिकारियों को बोकारो के गोमिया स्थित कुर्कनाला के उच्च विद्यालय और मध्य विद्यालय में सीआरपीएफ की 226वीं बटालियन को ठहराया गया था। करीब दो बजे जवान विद्यालय में पहुंचे थे। रात में करीब 8.30 में खाना खाने को लेकर दोनों विद्यालयों में ठहरे जवानों में विवाद हो गया। जिसके बाद जवानों ने एक दूसरे पर गोलीबारी शुरू कर दी। 

इस गोलीबारी में सीआरपीएफ के दो अधिकारियों, असिस्टेंट कमांडेंट साहुल अहसन और एएसआइ पूर्णानंद भुइयां की मौत मौके पर ही हो गई, जबकि गोली लगने से घायल दो कांस्टेबल उपेंद्र यादव और हरिश्चंद्र गोखले को रात 12 बजे हेलीकॉप्टर से इलाज के लिए रांची भेजा गया है। इनके अलावा दो घायल जवानों खुखलरी और दीपेंद्र कुमार का इलाज बोकारो में ही चल रहा है। 

सिपाही ने कंपनी कमांडर पर की अंधाधुध फायरिंग
वहीं सोमवार को छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्सेज के एक जवान ने छुट्टी के विवाद में अपने एक अफसर पर अंधाधुंध फायरिंग कर उसकी जान ले ली। बाद में जवान ने खुद भी गोली मारकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के मुताबिक 59 वर्षीय कंपनी कमांडर ने जवान विक्रम के खिलाफ अनुशासनहीनता और अत्यधिक शराब सेवन की शिकायत की थी, जिस पर जांच जारी थी। इसके बाद से ही दोनों में तनाव चल रहा था। 
... और पढ़ें

झारखंड: बागी नेताओं के खिलाफ भाजपा की बड़ी कार्रवाई, सरयू राय समेत कई नेता 6 साल के लिए निष्कासित

झारखंड विधानसभा के दो चरणों के चुनाव संपन्न हो चुके हैं। चुनाव पांच चरणों में पूरा होना है। अभी तीन चरण के चुनाव बाकी हैं। इसी बीच भाजपा ने अपने बागी नेताओं पर बड़ी कार्रवाई की है। झारखंड सरकार में मंत्री रहे सरयू राय समेत पूर्व विधायक बड़कुंवर गगराई, महेश सिंह, दुष्यंत पटेल और पूर्व विधायक अमित यादव को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल रहने पर पार्टी से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया गया है। 

ये कार्रवाई भाजपा प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने की है। जानकारी के मुताबिक विधानसभा चुनाव में भाजपा के घोषित प्रत्याशी के खिलाफ बागी होकर चुनाव लड़ने वाले नेताओं को छह साल के लिए पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है।

सरयू राय ने जमशेदपुर पूर्वी से मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ा है। बड़कुंवर गगराई मझगांव विधानसभा में भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी बी पिंगुवा के खिलाफ चुनाव लड़ा है। जबकि, महेश सिंह निर्दलीय और दुष्यंत पटेल जदयू प्रत्याशी के तौर पर मांडू विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी जय प्रकाश भाई पटेल के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। अमित यादव बरकट्ठा में भाजपा प्रत्याशी जानकी यादव के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। 

बता दें कि बरकट्ठा और मांडू में तीसरे चरण के तहत 12 दिसबंर को मतदान होना है। इससे पहले करीब एक सप्ताह पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गिलुवा ने एक निर्देश जारी कर कहा था कि जो भी व्यक्ति पार्टी विरोधी कार्य करेंगे, उन्हें स्वत: ही पार्टी से निष्कासित माना जायेगा।

... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन