आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Irshaad ›   Anand Narayan Mulla Famous Nazm on Mahatma Gandhi death
महात्मा-ग़ाँधी के क़त्ल पर आनंद नारायण मुल्ला की नज़्म...

इरशाद

महात्मा-ग़ाँधी के क़त्ल पर आनंद नारायण मुल्ला की नज़्म...

अमर उजाला, काव्य डेस्क, नई दिल्ली

458 Views
मशरिक़ का दिया गुल होता है मग़रिब पे सियाही छाती है 
हर दिल सन सा हो जाता है हर साँस की लौ थर्राती है 

उत्तर दक्खिन पूरब पच्छिम हर सम्त से इक चीख़ आती है 
नौ-ए-इंसाँ काँधों पे लिए गाँधी की अर्थी जाती है 

आकाश के तारे बुझते हैं धरती से धुआँ सा उठता है 
दुनिया को ये लगता है जैसे सर से कोई साया उठता है 

कुछ देर को नब्ज़-ए-आलम भी चलते चलते रुक जाती है 
हर मुल्क का परचम गिरता है हर क़ौम को हिचकी आती है  आगे पढ़ें

सर्वाधिक पढ़े गए
Top
Your Story has been saved!