रोजगार का सपना दिखाकर 102 बेरोजगारों से 20.40 लाख की ठगी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Updated Tue, 20 Feb 2018 06:10 PM IST
विज्ञापन
Fraud
Fraud

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
इटौंजा इलाके में जालसाजों ने 102 बेरोजगार युवकों को नौकरी दिलाने का झांसा देकर 20.40 लाख रुपये ऐंठ लिए। ठगी का एहसास होने पर इटौंजा निवासी योगेंद्र कुमार पाल ने दो जालसाजों के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज करवाई है। पुलिस आरोपियों की तलाश में दबिश दे रही है।
विज्ञापन

इंस्पेक्टर शिव शंकर सिंह ने बताया कि  इटौंजा के विक्रमपुर गांव निवासी योगेंद्र कुमार पाल माल रोड शंतिनगर मरपा स्थित एक दुकान में काम करता है। आरोप है कि कुछ माह पहले उसकी मुलाकात इटौंजा के खेरिया गांव निवासी निर्मल व बीकेटी के सहपुरवां निवासी अजय से हुई थी। 
दोनों ने खुद को ग्लोज ट्रेडिंग इंडिया कंपनी का अधिकारी बताते हुए नौकरी दिलवाने की बात कही। साथ ही अन्य परिचितों को भी नौकरी दिलाने का झांसा दिया। जालसाजों ने पिछले वर्ष 14 मार्च को 102 बेरोजगार युवकों से 20 हजार रुपये प्रति व्यक्ति के हिसाब से 20.40 लाख जमा करवाए।
इसके एक माह बाद सभी युवकों को प्रशिक्षण ने नाम पर बिजनौर रोड स्थित नजीमाबाद के आदर्शनगर में ले गया। जहां पांच माह तक सभी को किराए के मकान में रखा गया। पांच माह बाद मकान मालिक द्वारा किराए के रुपये मांगने पर ठगी का एहसास हुआ।

इसके बाद सभी युवक किसी तरह अपने घर पहुंचे और परिवारीजनों को आपबीती सुनाई। परिवारीजनों ने दोनों जालसाजों को फोन कर रकम लौटाने को कहा तो वे टरकाने लगे। इससे तंग आकर पीड़ित युवक ने सोमवार थाने पहुंचकर पुलिस से शिकायत की। योगेंद्र कुमार पाल ने रिपोर्ट दर्ज कराई है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

प्रशिक्षण के बाद जॉइनिंग लेटर का दिया था झांसा 

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us