विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम
Puja

मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

Pratapgarh: कोराेना काल में रिश्ते तार-तार, युवक के मरते ही छोड़कर भागा परिवार, रातभर लावारिस पड़ा रहा शव

जिले में अब तक बने 90 कंटेनमेंट जोन

अमेठी। कोरोना महामारी के बीच संक्रमित पाए जाने पर अब तक जिले में 90 कंटेनमेंट जोन घोषित किए जा चुके हैं। कोरोना संभावित कैरियर मानते हुए 2,375 लोगों की सैंपलिंग कराई जा चुकी हैं जिनमें से 104 पॉजिटिव केस मिले हैं। इलाज के दौरान 28 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद उन्हें डिस्चार्ज कर घर भेजते हुए 14 दिनों के लिए होम क्वारंटीन कराया गया है।
देश में कोरोना महामारी शुरू होने के बाद पांच मई से जिले में शुरू हुआ पॉजिटिव मरीज मिलने का सिलसिला लगातार जारी है। पॉजिटिव मरीज मिलने पर जिला प्रशासन की ओर से अब तक 90 कंटेनमेंट जोन घोषित किए जा चुके हैं।
इनमें से सर्वाधिक अमेठी तहसील में 27, गौरीगंज में 26, मुसाफिरखाना में 21 तो तिलोई में 16 जोन शामिल हैं। मार्च माह के पहले सप्ताह से 30 मई तक जिले में कुल 2375 कोरोना संभावितों की सैंपलिंग कराई जा चुकी है। इनमें से अब तक 132 पॉजिटिव तो 1689 की रिपोर्ट निगेटिव आई है।
132 संक्रमितों के सापेक्ष 30 मई तक इलाज के दौरान 28 मरीज स्वास्थ हुए हैं। स्वस्थ होने के बाद सभी को एल-1 अस्पताल से डिस्चार्ज करते हुए घर भेजा जा चुका है। जिला प्रशासन को 30 मई तक 1,853 सैंपलों की रिपोर्ट मिल चुकी है।
डीएम अरुण कुमार के अनुसार लक्षण वाले लोगों के साथ ही गैर प्रांत से आ रहे प्रवासी श्रमिकों की सैंपलिंग कराई जा रही है। वहीं जिले में पहुंच रहे प्रवासियों को होम क्वारंटीन कराकर वायरस को फैलने से रोकने की कवायद चल रही है।
... और पढ़ें

होम क्वारंटीन तोडने वालों पर दर्ज होगा केस

अमेठी। गैर प्रांत से हर रोज बड़ी संख्या में गांव पहुंच रहे लोग होम क्वारंटीन को धता बताते हुए खुले में घूम रहे हैं। ऐसे में ग्रामीण कोरोना वायरस के आम लोगों में फैलने को लेकर भयभीत हैं।
आए दिन मिल रही शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए जिला व पुलिस प्रशासन ने सख्त रुख अख्तियार किया है। डीएम ने जहां ऐसे लोगों को दिए जा रहे एक हजार रुपये के भत्ता राशि पर रोक लगाने तो एसपी ने सभी एसओ को ऐसे लोगों को चिन्हित कर केस दर्ज कर कार्रवाई का निर्देश जारी किया है।
कोरोना वायरस को बढ़ने से रोकने के लिए घोषित लॉकडाउन के बीच गैर प्रांत में फंसे लोगों के अपने गांव आने का सिलसिला जारी है। हर रोज स्पेशल ट्रेन, प्राइवेट साधन से बड़ी संख्या में आ रहे लोगों को प्रशासन की ओर से होम क्वारंटीन कराया जा रहा है।
शासन के निर्देश पर ऐसे लोगों को राशन के साथ ही एक हजार रुपये क्वारंटीन भत्ता के रूप में प्रशासन की ओर से दिया जा रहा है। गांव पहुंच रहे ज्यादातर प्रवासी होम क्वारंटीन न रहकर जहां परिवार के साथ रहे रहे हैं वहीं खुले में समूह के टहलते हुए बाजारों में भी जा रहे हैं।
ग्रामीणों के विरोध करने वह मारपीट पर उतर आ रहे हैं। ऐसे में ग्रामीण कोरोना वायरस के आम लोगों में फैलने को लेकर भयभीत हैं। ग्रामीणों की ओर से आए दिन मिल रही ऐसी शिकायतों को जिला व पुलिस प्रशासन ने गंभीरता से लिया है।
एसपी डॉ. ख्याति गर्ग ने बताया कि सभी एसओ को अपने क्षेत्र के ऐसे लोगों को चिन्हित कर उनके खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई का निर्देश दिया गया है। एडीएम वंदिता श्रीवास्तव ने बताया कि सभी एसडीएम को होम क्वारंटीन का पूरी तरह से पालन कराने का निर्देश दे दिया गया है। कहा कि उल्लंघन करने वालों को दी जाने वाली होम क्वारंटीन भत्ते की राशि नहीं दी जाएगी।
... और पढ़ें

यूपी में आज सुबह आठ बजे से शुरू होगी बस सेवा, बाइक पर भी बैठ सकेंगे दो लोग

यूपी सरकार ने अनलॉक-1 के लिए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। आज सुबह आठ बजे से प्रदेश में बस सेवा शुरू की जाएगी। बस में यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी और सभी का मास्क पहनना जरूरी होगा।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि बसों को सैनिटाइज किया जाएगा। बसों में जितनी सीटें होंगी उतने यात्री बैठ सकेंगे। इसके साथ ही ऑटो में भी फुल क्षमता के मुताबिक सवारियां बैठ सकेंगी। इसके अलावा बाइक पर भी एक साथ दो लोग बैठ सकेंगे।

दिशा-निर्देश जारी होने के बाद उत्तर प्रदेश राज्य परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक राज शेखर ने ट्वीट कर कहा कि परिवहन निगम 1 जून, प्रातः 8 बजे से प्रदेश के अंदर समस्त प्रकार के अंतर्जनपदीय बस सेवाएं पुनः प्रारंभ करेगा।



परिवहन निगम अपने समस्त "सम्मानित यात्रियों"का हार्दिक स्वागत करता है। परिवहन निगम अपने सभी यात्रियों की "सुगम और सुरक्षित यात्रा” के लिए कटिबद्ध है।
 
... और पढ़ें
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

यूपीः सरकारी कार्यालयों में आज से शत-प्रतिशत उपस्थिति अनिवार्य, आदेश जारी

प्रदेश सरकार ने सोमवार से प्रदेश के समस्त कार्यालयों में शत-प्रतिशत उपस्थिति अनिवार्य कर दी है। कोविड-19 महामारी के मद्देनजर कार्यालयों में भीड़-भाड़ न हो इसके लिए कार्यालय पूर्व की तरह तीन पालियों में खुलेंगे। 

सचिवालय में मंत्री से लेकर अधिकारी और कर्मचारी तक सभी आना शुरू कर देंगे। मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने रविवार को प्रदेश के समस्त सरकारी कार्यालयों में शत-प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित किए जाने संबंधी आदेश जारी किया। 

उन्होंने कहा है कि संक्रमण की रोकथाम के लिए कार्यालयों में भीड़भाड़ न हो इसके लिए कार्यालय स्टाफ को तीन पालियों में बुलाया जाएगा। कार्यालयों में सेनेटाइजेशन, फेसमास्क, फेसकवर, सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य सुरक्षात्मक उपायों का पूरा ध्यान रखा जाएगा। 

समस्त कर्मचारी अपने मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करेंगे। मुख्य सचिव ने कहा है कि अधीनस्थ कार्यालयों, निगमों और स्थानीय निकायों आदि के लिए भी यही व्यवस्था लागू होगी। 

इसी तरह अपर मुख्य सचिव सचिवालय प्रशासन ने सचिवालय में अधिकारियों, कर्मचारियों की  शत-प्रतिशत उपस्थिति के लिए आदेश जारी कर दिया है। यहां भी तीन पालियों में कर्मी आएंगे। 

मंत्रियों के कार्यालय भी नियमित रूप से शत-प्रतिशत कर्मियों की उपस्थिति के साथ खुलेंगे। इस संबंध में मंत्रियों को भी सूचित कर दिया गया है। मंत्रियों की उपस्थिति से सचिवालय की रौनक आम दिनों की तरह होने की उम्मीद है।

इस तरह तीन पाली में आएंगे कर्मी  प्रथम पाली- प्रात: 9 बजे से शाम 5 बजे, द्वितीय पाली- प्रात: 10 बजे से शाम 6 बजे और तृतीय पाली प्रात: 11 बजे से शाम 7 बजे। 
... और पढ़ें

अमेठी: दो मासूम समेत 14 कोरोना पॉजिटिव मिले, इलाज के लिए लेवल-1 अस्पताल भेजा गया

अमेठी जिले में कोरोना पॉजिटिव मिलने का सिलसिला रविवार को भी जारी रहा। रविवार को जिले में दो मासूम समेत 14 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले। पहली बार पांच स्थानीय भी पॉजिटिव मिले हैं। प्रशासन सभी को इलाज के लिए लेवल-1 अस्पताल भेजकर अन्य आवश्यक कार्रवाई में जुटा है।

जिलाधिकारी अरुण कुमार ने बताया कि रविवार को 14 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिन लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है उनमें चार दिल्ली, तीन मुंबई व दो सूरत से पिछले दिनों अपने घर आए थे। शिकायत पर इनकी जांच कराई गई थी।

डीएम ने बताया कि रविवार को पहली बार पांच स्थानीय भी पॉजिटिव पाए गए हैं। पॉजिटिव मिले लोगों में सूरत से अमेठी के जंगल रामनगर गाँव आई एक पाँच वर्षीय मासूम बच्ची और उसकी माँ के अलावा संग्रामपुर के टिकरिया गाँव की नौ वर्षीय मासूम बच्ची और उसकी मां भी शामिल है।

पॉजिटिव लोगों में जामों गौरीगंज ब्लॉक के दो-दो, अमेठी व संग्रामपुर ब्लॉक के चार-चार तथा एक-एक लोग मुसाफ़िरखाना व सिंहपुर ब्लॉक के हैं। डीएम ने बताया कि पॉजिटिव मिले सभी लोगों को गौरीगंज स्थित लेबल-1 अस्पताल में भर्ती कराने के बाद संबंधित गांवों के सैनिटाइजेशन व उनके संपर्क में आए लोगों की तलाश समेत अन्य आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। रविवार को मिले 14 मरीजों के बाद जिले में कोरोना के कुल मरीजों की संख्या 146 पहुँच गई है। अब तक 29 मरीज स्वस्थ हो गए हैं। इस प्रकार ज़िले में एक्टिव मरीजों की कुल संख्या 117 है।
... और पढ़ें

अनलॉक-1: नोएडा व गाजियाबाद के जिलाधिकारी लेंगे दिल्ली बॉर्डर खोलने का फैसला

यूपी सरकार ने अनलॉक-1 को लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं पर कोरोना के हॉटस्पॉट पर राहत देने का फैसला जिला प्रशासन पर छोड़ दिया है।

जारी की गई गाइडलाइंस में नोएडा व गाजियाबाद जिला प्रशासन को दिल्ली बॉर्डर खोलने की जिम्मेदारी दी गई है। बताया गया है कि दिल्ली के हॉटस्पॉट से आने वाले लोगों को यूपी में इंट्री नहीं दी जाएगी। बता दें कि गौतमबुद्धनगर जिला एक बड़ा हॉटस्पॉट बना हुआ है।

इसके अलावा, सोमवार सुबह आठ बजे से प्रदेश में बस सेवा शुरू की जाएगी। बस में यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी और सभी का मास्क पहनना जरूरी होगा।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि बसों को सैनिटाइज किया जाएगा। बसों में जितनी सीटें होंगी उतने यात्री बैठ सकेंगे। इसके साथ ही ऑटो में भी फुल क्षमता के मुताबिक सवारियां बैठ सकेंगी। इसके अलावा बाइक पर भी एक साथ दो लोग बैठ सकेंगे।

दिशा-निर्देश जारी होने के बाद उत्तर प्रदेश राज्य परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक राज शेखर ने ट्वीट कर कहा कि परिवहन निगम 1 जून, प्रातः 8 बजे से प्रदेश के अंदर समस्त प्रकार के अंतर्जनपदीय बस सेवाएं पुनः प्रारंभ करेगा।

परिवहन निगम अपने समस्त "सम्मानित यात्रियों"का हार्दिक स्वागत करता है। परिवहन निगम अपने सभी यात्रियों की "सुगम और सुरक्षित यात्रा” के लिए कटिबद्ध है।
... और पढ़ें

कोरोना के डर से अपनों ने छोड़ा साथ, टूटी सांसें, फोन करने पर भी नहीं आए रिश्तेदार

file foto
कोरोना से इस कदर दहशत फैली हुई है कि अपने भी साथ छोड़ दे रहे हैं। मदद करना तो दूर पास भी आने से कतराने लगे हैं। ठीक ऐसा ही एक वाकया डालीगंज में देखने को मिला।

डालीगंज निवासी मरीज जफर अहमद पुत्र हबीब अहमद को उनके घरवाले ही कोरोना के डर से अस्पताल ले जाने को राजी नहीं हुए। तब किसी ने इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंचे दो कांस्टेबल ने मरीज के मामा को फोन किया। तो उसके मामा ने भी असमर्थता जताते हुए उसे भर्ती कराने से इन्कार कर दिया।

यहां तक कि मरीज के भाई का नंबर लेकर उसे फोन किया गया लेकिन उसने भी साथ जाने से इन्कार कर दिया। जब कोई तैयार नहीं हुआ तो मजबूरन पुलिस खुद मरीज को लेकर अस्पताल चल पड़ी। हालांकि सिविल अस्पताल पहुंचने से पहले ही मरीज की मौत हो गई।

गाजीपुर थाना क्षेत्र के कांस्टेबल रवींद्र द्विवेदी ने बताया कि जफर अहमद पुत्र हबीब अहमद को परिवारजनों के इन्कार के बाद वो खुद अस्पताल ले गए। मृतक के सगे भाई वसीम ने अस्पताल जाने से मना कर दिया।
... और पढ़ें

मुख्यमंत्री योगी बोले, 'जान भी और जहान भी' दोनों के साथ लेकर चलेंगे

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऑनलाइन प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि अनलॉक-1 को लेकर कुछ देर में दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे। 68 दिनों के लॉकडाउन में लोगों ने बहादुरी के साथ कोरोना महामारी का सामना किया।
 

मुख्यमंत्री योगी ने कहा, 'चार चरणों के लॉकडाउन के बाद सोमवार से अनलॉक की कार्रवाई शुरू होगी। निरुद्ध क्षेत्रों को नियंत्रित करते हुए शेष क्षेत्रों में अधिकतम कार्यों को छूट देने की तैयारी हो रही है। हमारी आर्थिक गतिविधियां तेजी से आगे बढ़ रही हैं और पिछले माह की तुलना में इस माह भी हमें अच्छा राजस्व मिल रहा है। हम जनता पर कोई अलग से कर लगाने के बजाय उसे अधिक से अधिक राहत देने की कोशिश कर रहे हैं।'

सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अधिकतर विकास योजनाएं शुरू हो चुकी हैं। हमारा प्रयास है कि 'जान भी और जहान भी' दोनों के साथ लेकर चलेंगे। हम कोरोना की कड़ी तोड़कर आर्थिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने पर ध्यान दे रहे हैं

धार्मिक स्थलों को खोलने से अधिक लोगों के बाहर निकलने पर कोरोना विस्फोट होने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा, 'अधिक लोगों के एकत्र होने को हर हाल में रोकना है। कोई बड़े आयोजन नहीं होंगे। मेरा विश्वास है कि अब हर व्यक्ति इसके लिए तैयार हो चुका है कि इस वायरस के साथ जीना है।'

मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान उत्तर प्रदेश में अन्य राज्यों से 30 लाख प्रवासी श्रमिक और कामगार आए। सभी मानते थे कि इनके कारण अव्यवस्था फैलेगी, लेकिन हमने माना कि वे हमारी ताकत हैं।

प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने कांग्रेस पर भी हमला बोला और कहा कि कांग्रेस ने ऐसे वक्त में भी राजनीति की। राजस्थान के कोटा से बच्चों को भिजवाने के लिए हमसे तेल व किराया लिया और श्रमिकों के लिए फर्जी बसों की सूची भेज दी। यह एक अक्षम्य अपराध है।
... और पढ़ें

यूपी में कोरोना LIVE: प्रदेश में मिले रिकॉर्ड 378 मरीज, संक्रमित आठ हजार के पार

यूपी में मिले 378 नए मरीज, कुल 8075 पॉजिटिव
यूपी में अब तक एक दिन में सबसे ज्यादा 378 कोरोना पॉजिटिव मरीज रविवार को सामने आए। इससे पहले 19 मई को 323 और 21 मई को 341 केस सामने आए थे। इसी के साथ ही कुल मरीजों का आंकड़ा भी 8075 पर पहुंच गया है। 

मेरठ में 10 साल के बच्चे सहित 15 संक्रमित मिले 
कोरोना मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। रविवार देर रात आई रिपोर्ट में 10 साल के बालक समेत 15 संक्रमित मरीज मिले। अब तक मेरठ में 433 संक्रमित मिल चुके हैं। 313 लोगों की छुट्टी हो चुकी है, 27 की मौत हो चुकी है। एक्टिव केस 93 बचे हैं।

गाजियाबाद में कोरोना संक्रमण के 32 नए मामले आए सामने
रविवार को कोरोना संक्रमण के 32 नए मामले सामने आए हैं। यह पहली दफा है कि जब एक दिन में इतनी बड़ी संख्या में केस सामने आए हैं। हालांकि इनमें से 14 मामलों की रीसैंपलिंग कराने का आदेश भी स्वास्थ विभाग ने दिया है। इस तरह से जिले में अब कोरोना संक्रमण के कुल मामले 319 हो गए हैं।

आगरा में सात लोग कोरोना संक्रमित
ताजनगरी में रविवार को कोरोना संक्रमण के सात नए मामले सामने आए हैं। इसके बाद अब जिले में 67 एक्टिव केस हो गए हैं। जबकि अब तक 788 कोरोना मरीज ठीक होकर अपने घर लौट गए हैं। वही अब तक 42 मरीजों की मौत हो गई है। डिस्चार्ज मरीजों का प्रतिशत  87.65 पहुंच गया है। अब तक 13,320 सैंपल एकत्रित किए गए।

अलीगढ़ में 11 और कोरोना पॉजिटिव मिले
उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। अलीगढ़ में आज 11 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं। 

मुरादाबाद में वार्ड ब्यॉय और पुलिस कर्मी समेत तीन नए कोरोना पॉजिटिव केस 
मुरादाबाद में जिला अस्पताल के वार्ड ब्वॉय और रामपुर में तैनात पुलिस कर्मी समेत तीन नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं। तीसरे पॉजिटिव आर्मी से रिटायर्ड बुजुर्ग हैं जो नोएडा से मुरादाबाद रेफर हुए हैं। तीन नए केस के साथ जिले में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 227 पहुंच गई है। वहीं 166 और लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कोरोना मरीजों को टीएमयू में भर्ती कराया गया है। 

वाराणसी, मिर्जापुर और आजमगढ़ मंडल में 70 पॉजिटिव केस मिले 
वाराणसी, मिर्जापुर और आजमगढ़ मंडल में रविवार को 70 पॉजिटिव केस मिले हैं। इनमें 63 प्रवासी हैं। संक्रमितों में गाजीपुर में 19 मरीज मिले हैं, जिनमें 14 लोग एक ही गांव के हैं। वाराणसी में 14, जौनपुर में 13, बलिया में 7, मऊ और आजमगढ़ में 6-6 जबकि भदोही में चार और सोनभद्र का एक कोरोना पॉजिटिव की पु्ष्टि हुई है।

बरेली में दो और कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले
बरेली में दो और कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। यह दोनों ही लोग अहमदाबाद से आये थे। दोनों युवक बिथरी चैन पुर थाना क्षेत्र के मोहनपुर ठिरिया के रहने वाले हैं। बरेली में कुल कोरोना मरीजों की संख्या अब 46 हो गई है। जबकि 17 लोग ठीक होकर अपने घर लौट गए हैं। वहीं दो मरीजों की हो मौत हो चुकी है। बरेली में कोरोना के 27 केस एक्टिव हैं। यह जानकारी एसीएमओ डॉ रंजन गौतम ने दी है। 

एक कोरोना संक्रमित की मौत, सात नए मामले भी आए सामने
कोरोना संक्रमण का शिकार हुए फिरोजाबाद के कोटला मोहल्ला निवासी एक युवक की रविवार को आगरा में मौत हो गई। शव का अंतिम संस्कार भी आगरा में ही कर दिया गया। कोटला मोहल्ले में जहां युवक का निवास स्थान है उस क्षेत्र को सील कर दिया गया है। रविवार को कोरोना संक्रमण के सात नए केस और मिले हैं। जिले में कोरोना संक्रमित लोगों का आंकडा अब 268 हो गया है। इनमें से 194 लोग कोरोना से मुक्त हो चुके हैं। जबकि 12 लोगों की मौत हुई है।

मैनपुरी में कोरोना संक्रमित एक बुजुर्ग की मौत 
शनिवार रात शहर के अमर नगर निवासी 57 वर्षीय बुजुर्ग की सैफई में उपचार के दौरान मौत हो गई। रविवार को सुबह शहर के पीपरा घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम संस्कार के बाद सैफई अस्पताल प्रशासन ने उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने की सूचना दी। सूचना पर प्रशासन ने क्षेत्र सील करने के साथ ही परिवार के सदस्यों को क्वारंटीन सेंटर भेजा है। बुजुर्ग दिल्ली में रहकर सिलाई का काम करते थे। वह 28 मई को ही दिल्ली से मैनपुरी लौटे थे।




कन्नौज में और दो कोरोना पॉजिटिव केस मिले 
कन्नौज के 30 वर्षीय कृष्ण कुमार, निवासी मछरैया छिबरामऊ को कोरोना की पुष्टि हुई है। यह मानेसर हरियाणा से 23 मई को लौटे थे। घर में रहने के बाद इनका 29 मई को मेडिकल कॉलेज में सैंपल कराया गया था। आज यानी रविवार को इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसी तरह 28 वर्षीय अजीत, निवासी बेहरिन कन्नौज, दिल्ली से 28 मई को लौटे थे। इन्होंने भी 29 मई को मेडिकल कॉलेज में सैंपल दिया था। अब इनकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। यह भी घर में क्वारंटीन थे। दोनो को फरुर्खाबाद जनपद के बरौन कोविड-19 अस्पताल भेजा गया है।

एटा जिले में एक और कोरोना पॉजिटिव मिला
एटा जिले में एक और कोरोना पॉजिटिव केस मिला है। अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज से शाम को आई रिपोर्ट में जिले के एक और युवक को कोरोना की पुष्टि हुई है। युवक को जेएलएन डिग्री कॉलेज में क्वारंटीन किया गया था। इसके बाद अब जिले में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 32 हो गई है। 

शामली में कोरोना पॉजिटिव के दो नए केस मिले
रविवार शाम को मेरठ मेडिकल से आई सैंपल की जांच रिपोर्ट में स्वास्थ्य कर्मी के रिश्तेदार समेत दो लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। बताया गया है कि स्वास्थ्य कर्मी का रिश्तेदार मुजफ्फरनगर जिले के गांव सिंघावली का निवासी है और वह गाजियाबाद में एक फैक्ट्री में काम करता है। 28 मई को स्वास्थ्यकर्मी का रिश्तेदार अपने एक अन्य साथी जो मुजफ्फरनगर जिले के गांव अलमासपुर का रहने वाला है, के साथ शामली आया था। दोनों युवकों ने अपनी कोरोना की जांच कराने की इच्छा जताई थी। स्वास्थ्यकर्मी के कहने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 28 मई को ही दोनों को सैंपल लेकर जांच को भेज दिए थे। स्वास्थ्यकर्मी का रिश्तेदार शामली में अलग मकान में होम क्वारंटीन हो गया था, जबकि उसका साथी अपने घर अलमासपुर चला गया था। रविवार को दोनों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद शामली में रह रहे युवक को अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है, जबकि मुजफ्फरनगर निवासी युवक के बारे में स्वास्थ्य विभाग द्वारा वहां के स्वास्थ्य विभाग को सूचना दे दी गई है।

पूर्वांचल के जौनपुर जिले में कोरोना के 13 नए मरीज मिले 
पूर्वांचल के जौनपुर जिले में कोरोना के 13 नए मरीज मिले हैं। इसमें तीन शाहगंज, तीन सुजानगंज, दो सुइथाकला, दो डोभी, एक सिकरारा, एक मुंगराबाद शाहपुर और एक जौनपुर का निवासी है। सभी संक्रमित प्रवासी हैं। अब तक कुल केस की संख्या 182 हो गई है। इसमें 89 मरीज स्वस्थ हुए हैं, जबकि तीन की मौत हो चुकी है। 90 केस एक्टिव हैं। इसकी डीएम दिनेश कुमार सिंह ने पुष्टि की है। 

सहारनपुर जिले में एक और व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिला 
सहारनपुर जिले में एक और व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिला है। अब तक जिले में कुल 244 मरीज मिल चुके हैं। वहीं एक्टिव मरीजों की संख्या 43 है, जबकि 201 कोरोना पॉजिटिव ठीक हो चुके हैं।

वाराणसी में तीन पुलिसकर्मी समेत 14 कोरोना के नए मरीज मिले
वाराणसी में रविवार को 14 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इन मरीजों में तीन पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। सीएमओ डॉक्टर वीबी सिंह ने बताया कि आईएमएस बीएचयू के माइक्रोबायोलॉजी लैब से जिन 14 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनमें पहले से संक्रमित प्रवासियों के संपर्क में आने वाले लोग भी शामिल हैं। फिलहाल संक्रमित मिले सभी लोगों को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया जा रहा है। इसके पहले भी एक दिन में 14 मरीज मिल चुके हैं। जिले में अब तक कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 184 हो गई है। इसमें चार लोगों की मौत हो चुकी है और 111 लोग अब तक ठीक हो चुके हैं।

मऊ में मिले छह नए कोरोना मरीज
मऊ जिले में रविवार को कोरोना वायरस के छह नए मरीज मिले हैं। इसमें एक छह साल की बच्ची और दो सगे भाई भी शामिल हैं। जिलाधिकारी ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने इसकी पुष्टि की है। रविवार को छह कोरोना संक्रमित मिलने से जिले में अब मरीजों की संख्या 29 हो गई है। इसमें 28 मरीज सक्रिय हैं, जबकि एक मरीज ठीक हो चुका है।

गाजीपुर में 19 की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव
गाजीपुर जिले में रविवार को 19 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। सीएमओ डॉ जीसी मौर्या ने इसकी पुष्टि की है। इनमें ज्यादातर दूसरे राज्यों से आए लोग हैं।
 जिले में अब कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 122 हो गई है। जिसमें 35 मरीज ठीक हो गए हैं, जबकि 87 मरीजों का इलाज चल रहा है।

बलिया में सात नए कोरोना मरीज मिले
बलिया जिले में रविवार को सात नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले हैं। कुल मरीजों की संख्या अब 49 हो गई है। जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही ने इसकी पुष्टि की है। बलिया जिले में इससे पहले 12 मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं।

इटावा में एक और मरीज कोरोना पॉजिटिव
यूपी में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। रविवार को इटावा जिले में कोरोना का एक और मरीज बढ़ गया। कोरोना पॉजिटिव भरथना के कुंवारा गांव निवासी है। वह नोएडा से लौटे थे। इटावा में कोरोना मरीजों की संख्या अब 50 पहुंच गई है। जबकि एक की पहले ही मौत हो चुकी है। वही जिले में पांच मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। एक्टिव मरीजों में 29 प्रवासी हैं।

देवरिया जिले में रविवार को 11 नए कोरोना संक्रमित मिले
उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में रविवार को 11 नए कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिले में अब यह संख्या बढ़कर 92 हो गई है। इसमें 25 मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। सीएमओ आलोक पांडेय ने मामले की पुष्टि करते हुए कहा कि मरीजों को सेंट्रल एकेडमी स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया जा रहा है। 

चित्रकूट में कोरोना का एक और मरीज आया सामने
यूपी के चित्रकूट जिले में एक और कोरोना मरीज बढ़ गया। कोरोना संक्रमित प्रवासी युवक मुंबई से आया था। विशेष श्रमिक ट्रेन से आने के बाद युवक को शेल्टर होम शिवरामपुर में रखा गया था।युवक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे बांदा मेडिकल कॉलेज इलाज के लिए भेजा गया है। चित्रकूट जिले में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ कर 38 हो गई है। इनमें 33 प्रवासी कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं।

संभल में 13 कोरोना संक्रमित मिले
यूपी के संभल जिले में रविवार को कोरोना संक्रमित 13 और नए केस सामने आए हैं। जिसके बाद संक्रमितों की संख्या 101 पहुंच गई है। 

एटा में चार और कोरोना संक्रमित मिले
एटा में रविवार को चार और लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। ये चारों प्रवासी हैं और लॉकडाउन में घर लौटे हैं। जिले में अब तक 31 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। 

उन्नाव में कोरोना के दो मरीज और बढ़े
यूपी के उन्नाव जिले में रविवार को दो और कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं। दोनों संक्रमित प्रवासी हैं। इस तरह जिले में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 35 हो गई है। जिले में एक्टिव केस 26 हैं। तीन मरीजों की कोरोना से मौत हो चुकी है। छह मरीज ठीक हो चुके हैं। संक्रमितों में 32 प्रवासी हैं।

बस्ती में पांच नए कोरोना संक्रमित मिले
उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में रविवार को 5 नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। अब जिले में कुल संक्रमितों की संख्या 169 हो गई है। इसमें पांच की मौत हो चुकी है, जबकि 43 ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। अब जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 121 हो गई है। इसकी पुष्टि प्रभारी सीएमओ डॉ. फख्रेयार हुसैन ने की है।

कासगंज में मुंबई से लौटे दो किशोर कोरोना संक्रमित मिले
कासगंज जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। रविवार को दो और कोरोना संक्रमित मिले। ये दोनों किशोर मुंबई से लौटे हैं। एक की उम्र 16 और दूसरे की 15 साल है। जिले में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 20 हो गई है।

संतकबीर नगर में तीन नए मरीज मिले
संतकबीर नगर में रविवार को तीन और कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जिले में अब तक 82 लोग पॉजिटिव मिल चुके हैं। एएसपी असित श्रीवास्तव ने बताया कि तीन लोग पॉजिटिव मिले हैं। उसमें दो बखिरा इलाके के और एक मेंहदावल इलाके का रहने वाला है।

आजमगढ़ में मिले छह कोरोना मरीज
आजमगढ़ जिले में रविवार को छह लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ एके मिश्रा ने इसकी पुष्टि की है। गोरखपुर लैब से इनकी रिपोर्ट में कोरोना संक्रमित होने की जानकारी मिली है। आजमगढ़ में अब मरीजों की संख्या 94 पहुंच गई है। इसमें 83 मरीज अभी भी सक्रिय हैं। 9 मरीज ठीक हो चुके हैं और दो की मौत हो गई है।

कानपुर में महिला में कोरोना की पुष्टि
यूपी में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। रविवार को कानपुर में कोरोना का एक और मरीज बढ़ गया। टिकरा निवासी महिला में कोरोना की पुष्टि हुई है। महिला हैलट के जच्चा-बच्चा अस्पताल में भर्ती थी। कानपुर में अभी तक का आंकड़ा 369 पर जा पहुंचा है। जिसमें से 301 मरीज ठीक हो चुके हैं। शहर में एक्टिव केस की संख्या 57 है।

सिद्धार्थनगर में सात नए मरीज मिले
उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले में रविवार सुबह सात नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। संक्रमित मिले मरीज जिले के अलग-अलग क्षेत्र के रहने वाले हैं। सीएमओ डॉक्टर सीमा राय ने सात नए मरीज मिलने की पुष्टि की है। जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 109 हो गई है।

बिजनौर में पांच लोग और कोरोना पॉजिटिव मिले
बिजनौर जिले में पांच लोग और कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें से चार नूरपुर और एक चांदपुर का रहने वाला है। ये सभी मुंबई से आए प्रवासी मजदूर हैं। ये सभी 26 मई से विभिन्न क्वारंटीन सेंटरों में क्वारंटीन थे। जिले में अब कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 100 हो गई है। इनमें से अब तक 48 मरीज ठीक भी हो चुके हैं। वर्तमान में 50 सक्रिय हैं।

उत्तर प्रदेश में 10 दिन में बढ़े दो हजार करोना मरीज 
प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या बीते 10 दिन में दो हजार बढ़ गई है। इस दौरान यह संख्या 5,000 से बढ़कर 7,701 पर पहुंच गई। जबकि यहां पहले केस से एक हजार का आंकड़ा छूने में लगभग डेढ़ महीना लगा था। इसके बाद लगभग डेढ़ महीने में मरीजों की संख्या बढ़कर सात गुना से अधिक हो गई है। कल तक यूपी में कोविड पॉजिटिव मरीजों की संख्या 7701 हो गई है।  

यूपी में शनिवार तक 7701 पर पहुंचा आंकड़ा
यूपी में शनिवार तक कोविड पॉजिटिव मरीजों की संख्या 7701 हो गई थी। शनिवार को 262 नए मरीज सामने आए थे। जिसमें अमेठी में 43 कोरोना पॉजिटिव मिले थे। जबकि नोएडा में 27 और गाजियाबाद में 17 मरीज सामने आए थे। राहत देने वाली बात यह रही कि 241 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। यह सभी पूरी तरह से ठीक हो गए थे। 
... और पढ़ें

लखनऊ: दो डॉक्टर व एक नर्स सहित चार कोरोना पॉजिटिव, बंद कराया गया निजी अस्पताल

राजधानी लखनऊ में दो डॉक्टर व एक नर्स सहित चार लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। डॉक्टर और नर्स हरदोई रोड स्थित चरक हॉस्पिटल के हैं और यहां भर्ती हुए मरीज के संपर्क में आने से संक्रमण की चपेट में आ गए। डॉक्टरों व नर्स को डॉ. राममनोहर लोहिया संस्थान में भर्ती कराया गया है। अस्पताल को बंद कराकर सैनिटाइज कराया जा रहा है। वहीं, निजी अस्पताल से एसजीपीजीआई में भर्ती कराए गए प्रतापगढ़ निवासी मरीज के बेटे में भी कोरोना की पुष्टि हुई है। अब राजधानी में कुल मरीजों की संख्या 398 हो गई है। इनमें लखनऊ के मूल निवासियों की संख्या 296 है।

चरक हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर में अंबेडकर नगर निवासी एक मरीज की 24 मई को डायलिसिस हुई थी। उसे भर्ती कर कोरोना जांच कराई गई थी। अगले दिन रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो डायलिसिस यूनिट को बंद कर दिया गया था। वहीं, 24 डॉक्टर व कर्मचारियों को क्वारंटीन कर प्रोटोकॉल के तहत पांचवें दिन जांच कराई गई। शनिवार को आई रिपोर्ट में दो डॉक्टर व नर्स पॉजिटिव मिले। एक डॉक्टर कुर्सी रोड तो दूसरे चौक क्षेत्र के रहने वाले हैं। वहीं नर्स हॉस्टल में रहती हैं।

चिकित्साकर्मियों के लिए सैंपल
सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि फिलहाल अस्पताल को अग्रिम आदेशों तक बंद रखा जाएगा। संक्रमित डॉक्टरों और नर्स के संपर्क में आए चिकित्सा कर्मियों के सैंपल लेकर उन्हें होम क्वारंटीन में रहने की सलाह दी गई है। संपर्क में आए लोगों की भी सूची बनाकर उनकी जांच के निर्देश दिए गए हैं। गौरतलब है कि पहले भी दो बार चरक डायग्नोस्टिक सेंटर की डायलिसिस यूनिट को संक्रमण फैलने की आशंका के मद्देनजर बंद किया जा चुका है।
... और पढ़ें

ऐतिहासिक रहा मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला साल : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल का पहला साल ऐतिहासिक रहा। साल भर में उन्होंने जो काम किया, वर्षों से देश के लिए चुनौती बनी बड़ी समस्याओं के हल के लिए उन्होंने जो जज्बा दिखाया, वह खुद में बेमिसाल है।

योगी ने कहा कि अनुच्छेद 370 की एक झटके में समाप्ति, तीन तलाक की कुप्रथा का अंत, आतंकवाद विरोधी अधिनियम लागू करना और अयोध्या में राम जन्मभूमि पर भव्य श्रीराम मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करना इसका सुबूत है। जम्मू-कश्मीर में 70 वर्षों से नासूर बने अनुच्छेद 370 के खात्मे के निर्णय से 130 करोड़ देशवासियों का एक भारत-श्रेष्ठ भारत का सपना साकार हो गया।
 

उन्होंने कहा कि अभूतपूर्व और अप्रत्याशित वैश्विक महामारी कोरोना के संकट से प्रधानमंत्री की अगुआई में जो जंग लड़ी जा रही है, वह पूरी दुनिया के लिए नजीर है। लॉकडाउन में पीएम ने सबसे प्रभावित तबके के हित पर सर्वाधिक ध्यान देकर अनुकरणीय कार्य किया। इसी तबके के हित में 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की। स्वदेशी को बढ़ावा देने के संदेश के साथ आत्मनिर्भरता का मंत्र दिया। उस राह पर चलकर शीघ्र ही भारत पूरी दुनिया का मैन्युफैक्चरिंग हब बनेगा।
... और पढ़ें

जिंदगी हुई अनलॉक, आज से सफर शुरू

कोरोना आया तो हमारी जिंदगी ही लॉक हो गई। एक के बाद एक पाबंदियां लगती गईं...। सब कुछ ठहर गया। पर, आज फिर से जिंदगी अनलॉक हो जाएगी... पटरी पर आने लगेगी। नए सफर शुरू हो जाएंगे। ट्रेन हो, बस हो, ऑटो हो या फिर टैक्सी... आज से सब दौड़ने लगेंगे। शहर का प्रमुख बाजार अमीनाबाद भी गुलजार हो जाएगा। लंबे अंतराल के बाद यकीनन खरीदारी का मजा भी बढ़ जाएगा... मगर इन राहतों के बीच बेखबर न रहें, लापरवाह न बनें। सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजेशन का ख्याल रखें। बिना मास्क पहने घर से न निकलें, क्योंकि कोरोना से यही बचाएंगे। यात्रीगण कृपया ध्यान दें...पुष्पक प्लेटफॉर्म नंबर दो से और लखनऊ मेल तीन से चलेगी कोरोना को बेअसर करने के लिए लागू लॉकडाउन के चलते थमे ट्रेनों के चक्के आज से घूमने लगेंगे। एहतियात बरतते हुए रेलवे प्रशासन ने लखनऊ जंक्शन पर कुछ बदलाव किए हैं। इसके तहत लखनऊ मेल लखनऊ जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर तीन और पुष्पक एक्सप्रेस प्लेटफार्म नंबर दो से रवाना होगी। जबकि बाहर से आने वाली 18 ट्रेनें प्लेटफार्म नंबर एक पर आएंगी। इसके अलावा गोमती एक्सप्रेस चारबाग स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक से चलाई जाएगी। जंक्शन के प्लेटफॉर्म नंबर चार, पांच और छह पर बैरिकेडिंग रहेगी। रेलवे प्रशासन के अनुसार, गोमती एक्सप्रेस चारबाग स्टेशन के प्लेटफॉर्म एक से सुबह 6 बजे चलेगी। जबकि लखनऊ मेल जंक्शन के प्लेटफॉर्म नंबर तीन से रात 7:45 बजे और पुष्पक रात दस बजे प्लेटफॉर्म-दो से छूटेगी। यात्रियों को 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना पड़ेगा। बगैर कन्फर्म टिकट यात्रियों को स्टेशन पर एंट्री नहीं मिलेगी। साथ ही मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड होना चाहिए और मास्क लगाना अनिवार्य है। थर्मल स्कैनिंगा की जिम्मेदारी एनडीआरएफ की टीम को दी गई है। यदि किसी यात्री में कोरोना के लक्षण मिलते हैं तो यात्रा से रोक दिया जाएगा। ऐसी स्थिति में टीटीई एक प्रमाणपत्र जारी करेगा। इसके तहत यात्री को पूरा रिफंड मिलेगा। इनका रखना होगा ख्याल - स्टेशनों पर खानपान के स्टॉल खुले रहेंगे। - 10 साल से छोटे बच्चे और वरिष्ठ नागरिक अनावश्यक यात्रा से बचें। - एसी बोगियों में 25 डिग्री सेल्सियस तापमान रखा जाएगा। - 120 दिन कर दिया गया है एडवांस रिजर्वेशन पीरियड, पहले था 30 दिन। - 10 बजे से आरक्षण केंद्र पर तत्काल रिजर्वेशन शुरू। - एसी बोगियों में परदे व बेडरोल नहीं मिलेगा। चादर घर से लेकर जाएं। - पैंट्री कार की सुविधा भी नहीं मिलेगी। डिमांड पर आईआरसीटीसी ट्रेनों में पैक्ड फूड आइटम व खाना देगी। इनका भी रखें ध्यान - लखनऊ जंक्शन पर एकल प्रवेश और एकल निकास द्वार होगा। मुख्य गेट से ही मिलेगा प्रवेश। - कैब-वे का रास्ता बंद रहेगा। - प्लेटफॉर्म पर घूम नहीं सकते यात्री, ट्रेनों में ही बैठना होगा ये ट्रेनें गुजरेंगी अवध, बिहार संपर्क क्रांति, वैशाली, कुशीनगर, श्रमजीवी, सप्तक्रांति, सुहेलदेव, आनंद विहार गाजीपुर, शहीद, सरयू यमुना एक्सप्रेस, अहमदाबाद-गोरखपुर, कर्मभूमि, अमृतसर-कोलकाता, गोरखधाम, महामना, साबरमती एक्सप्रेस और गोरखपुर एलटीटी सुपरफास्ट प्रीपेड ऑटो सुविधा नहीं सीनियर डीसीएम जगतोष शुक्ल ने बताया कि चारबाग रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म एक से गोमती एक्सप्रेस चलाई जाएगी। स्टेशन की सेकंड एंट्री सहित सारे गेट बंद रहेंगे। सिर्फ मुख्य गेट से ही प्रवेश दिया जाएगा। थर्मल स्क्रीनिंग, टिकट और पहचानपत्र की जांच के बाद ट्रेन में बैठने की अनुमति दी जाएगी। थर्मल स्क्रीनिंग एनडीआरएफ की टीम संभालेगी। प्रीपेड ऑटो सुविधा नहीं मिल सकेगी।   चारबाग से कानपुर के लिए चलेंगी बसें राजधानी के चारबाग, आलमबाग और कैसरबाग बस अड्डों से 68 दिन के बाद सोमवार से रोडवेज बसें चलना शुरू हो जाएंगी। लेकिन चारबाग से सिर्फ कानपुर के लिए बसें चलाई जाएंगी। इसके आगे के जनपदों की यात्रा के लिए कानपुर के झकरकटी बस अड्डे से दूसरी बस पकड़नी होगी। जबकि कैसरबाग बस अड्डे से बाराबंकी, सीतापुर, लखीमपुर, गोला, हरदोई, बहराइच, गोंडा व बलरामपुर और आलमबाग टर्मिनल से रायबरेली, लालगंज, फतेहपुर, मौरावां, पुरवा, सुल्तानपुर, आगरा, मथुरा, झांसी, बांदा, हमीरपुर, प्रतापगढ़, प्रयागराज, गोरखपुर, आजमगढ़ और गाजियाबाद जाने के लिए बसें मिलेंगी। प्रबंध निदेशक डॉ. राजशेखर ने बताया कि यूपी के बाहर बस संचालन को लेकर आठ जून के बाद निर्णय लिया जाएगा। यात्री खड़े होकर नहीं करेंगे सफर बस में जितनी सीटें होंगी उतने ही यात्री सफर कर सकेंगे। खड़े होकर कोई यात्री सफर करता मिलेगा तो कंडक्टर जिम्मेदार होगा। रूटीन बसों की टाइमिंग में कोई बदलाव नहीं किया गया है। यात्रियों को बस में ही टिकट लेना होगा। अभी ऑनलाइन सीटों की बुकिंग नहीं होगी। सिटी बसें और ऑटो-टेंपो भी भरेंगे फर्राटा सोमवार से सिटी बसें और ऑटो-टेंपो फर्राटा भरने लगेंगे। इसकी सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इस दौरान 180 सिटी व 40 इलेक्ट्रिक बसें दो पालियों में चलेंगी। लखनऊ ऑटो रिक्शा थ्रीव्हीलर संघ और लखनऊ ऑटो ओनर्स चालक वेलफेयर एसोसिएशन ने सोमवार से ऑटो-टेंपो चलाने का निर्णय लिया है। अध्यक्ष पंकज दीक्षित ने बताया कि पहले दिन 50 फीसदी ही ऑटो चलेंगे। ... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us