विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सावन के सोमवार पर कराएं शिव का सहस्राचन, मिलेगी समस्त आकस्मिक परेशानियों से मुक्ति
SAWAN Special

सावन के सोमवार पर कराएं शिव का सहस्राचन, मिलेगी समस्त आकस्मिक परेशानियों से मुक्ति

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

यूपी में 24 घंटे में कोरोना से 24 मौतें, 933 नए मरीज मिले: अपर मुख्य सचिव गृह

यूपी के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 24 लोगों की मौत कोरोना के कारण हुई है जबकि 933 नए मरीज पाए गए हैं।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब कोरोना के 8718 सक्रिय केस हैं जबकि 19109 मरीज पूरी तरह ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके हैं।

अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 25918 नमूनों की जांच की गई है। जबकि अब तक 8,87,997 नमूने टेस्ट किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि धारा 188 के अंतर्गत अब तक 85033 एफआईआर दर्ज की गई है। 218532 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है जबकि अब तक 61000 वाहन सीज गए हैं। कार्रवाई करते हुए 40 करोड़ 11 लाख रुपये की राशि जुर्माने के रूप में वसूली गई है।



उन्होंने बताया कि अब तक फेक न्यूज के 1698 मामले सामने आए हैं जिसमें से पिछले 24 घंटे में सात ट्विटर और पांच मामले फेसबुक के हैं। मामले में अब तक 50 एफआईआर दर्ज की जा चुकी हैं।
... और पढ़ें
अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी

कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी विकास दुबे पर ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित

कानपुर एनकाउंटर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मुख्य आरोपी विकास दुबे पर प्रदेश सरकार ने ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित किया है। इस संबंध में आईजी रेंज कानपुर ने प्रदेश के डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी को इस संबंध में फाइल भेजी थी जिस पर डीजीपी ने निर्णय लिया है।

बता दें कि आरोपी विकास दुबे अभी तक फरार है। पुलिस का कहना है कि वारदात के बाद विकास मोबाइल का उपयोग नहीं कर रहा है। पहले भी वह स्मार्टफोन की जगह सामान्य मोबाइल का इस्तेमाल करता था जिससे कि उसे ट्रेस करना मुश्किल हो जाए।



इसके पहले रविवार को ही मिश्रिख इलाके के नैमिष में रविवार को चेकिंग के दौरान पुलिस ने दो लग्जरी गाड़ियों से 9 असलहे और 150 कारतूस बरामद किया।

असलहों में 6 रायफल, एक बंदूक और दो पिस्टल हैं। दोनों गाड़ियों से 13 लोग हिरासत में लिए गए। सूत्रों के अनुसार इनमें विकास दुबे का रिश्तेदार अनुपम दुबे और उसके दोस्त हैं। उसके खिलाफ फर्रूखाबाद जिले समेत कई थानों में 30 संगीन मामले दर्ज हैं। इनमें हत्या तक के केस भी हैं।

विकास का रिश्तेदार होने को लेकर पुलिस खुलकर बोलने से बच रही है। हालांकि पुलिस के कुछ सूत्रों ने यह जरूर कहा कि हो सकता कोई दूर का रिश्तेदार हो। सभी 13 लोगों पर कोरोना महामारी अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है। एसपी आरपी सिंह ने बताया कि सभी से पूछताछ की जा रही है।
... और पढ़ें

यूपी: सावन के पहले दिन झमाझम बारिश, लोगों ने भीगते हुए की शिव आराधना

राजधानी लखनऊ और आसपास के इलाकों में सावन के पहले दिन झमाझम बारिश हुई जिससे लोगों को गर्मी व उमस से राहत मिली है।

मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मानसूनी सिस्टम सक्रिय चल रहा है, प्रदेश के दूसरे हिस्सों से गुजर रही टर्फ लाइन की चाल बदलते ही लखनऊ समेत आसपास के इलाकों में आगे भी अच्छी व तेज बारिश होने की संभावना है।



वहीं, सावन के पहले सोमवार पर लखनऊ के मनकामेश्वर मंदिर में सुबह-सुबह आरती की गई। जिसमें मंदिर के बाहर खड़े भक्तों ने भीगते हुए आरती में भाग लिया।

हालांकि, मंदिरों में हर बार की तरह उतनी ज्यादा भीड़ नहीं रही और जो भी लोग मौजूद रहे उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए दर्शन किए।
... और पढ़ें

मायावती ने बसपा में किया बड़ा सांगठनिक फेरबदल, हर मंडल में सेक्टर प्रभारियों की बड़ी टीम

बसपा सुप्रीमो मायावती ने बड़ा सांगठनिक फेरबदल किया है। उन्होंने कई-कई मंडलों पर सेक्टर प्रभारियों की व्यवस्था समाप्त कर मंडल स्तर पर मुख्य सेक्टर प्रभारियों की तैनाती की है। इन सेक्टर प्रभारियों के निर्देशन में मंडलों को दो हिस्से में बांटकर अलग से सेक्टर प्रभारी तैनात किए गए हैं। इसके अलावा जिले स्तर पर भी सेक्टर प्रभारी बनाए गए हैं।

बसपा अध्यक्ष मायावती ने दिल्ली में पिछले दो दिनों के भीतर प्रदेश के प्रत्येक मंडल के चुनिंदा दो-दो पदाधिकारियों से अलग-अलग मुलाकात कर संगठन के नए ढांचे का एलान किया। खास बात ये है पिछले कई वर्षों से दूसरे प्रदेशों में प्रभारी के रूप में काम देख रहे कई वरिष्ठ नेताओं को फिर से प्रदेश के मंडलों की सांगठनिक जिम्मेदारी से जोड़ दिया गया है।

बसपा विधानमंडल दल के नेता लाल जी वर्मा को लखनऊ मंडल व बसपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर को प्रयागराज मंडल के मुख्य सेक्टर प्रभारी की जिम्मेदारी मिली है। इनके साथ कई अन्य नेताओं को भी शामिल किया गया है। इसे 2022 के विधानसभा चुनाव की तैयारी के रूप में देखा जा रहा है।
... और पढ़ें

प्रदेश में रोपे गए रिकॉर्ड 25.87 करोड़ से ज्यादा पौधे, वन मंत्री बोले-हमने फिर रचा इतिहास

बसपा सुप्रीमो मायावती।
प्रदेश में 5 जुलाई को लक्ष्य पार करते हुए 25.87 करोड़ से ज्यादा पौधे लगाए गए। वन मुख्यालय पर स्थित कंट्रोल रूम में दर्ज सूचना के अनुसार, शाम 6 बजे तक 25,08,84,208 पौधे रोपे गए। 

इसमें वन विभाग समेत 26 विभागों व अन्य संस्थाओं की भागीदारी रही। इस अवसर वन मंत्री दारा सिंह चौहान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि प्रदेश में एक नया इतिहास रचा गया है। पिछले साल 9 अगस्त को प्रदेश में 22.60 करोड़ पौधे रोपे गए थे जो एक विश्व कीर्तिमान था। 

5 जुलाई को अपने ही उस रिकार्ड को भी प्रदेश ने ही पीछे छोड़ दिया। दारा सिंह ने कहा कि दस देशों के लोगों ने इस अभियान से जुड़ी वेबसाइट पर हिट किया है। पौधरोपण कार्यक्रम के तहत जिलों में पंचवटी, हरिशंकरी, व नक्षत्र वाटिका की स्थापना की गई। 

गंगा किनारे के 27 जिलों में दोनो तटों से 10 किलोमीटर तक छह हजार हेक्टेयर में 67 लाख पौधे रोपे गए। गंगा-यमुना की 40 से अधिक सहायक नदियों के तटों के दोनो ओर करीब 21 हजार हेक्टेयर में 1.5 करोड़ पौधे लगाए गए हैं। 

उन्होंने कहा कि 5 जुलाई का अभियान गिनीज बुक में दर्ज हो सकता था, पर गिनीज बुक के अधिकारियों ने कोविड-19 के कारण बड़े स्तर पर भीड़ एकत्र करने और सभी स्थानों पर अपना प्रतिनिधि भेजने में असमर्थता जता दी थी। वन मंत्री ने कहा कि गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज कराने के लिए प्रदेश के पांच जिलों में विशेष पौधरोपण अभियान का आयोजन किया जाएगा।
... और पढ़ें

लखनऊः डेंटल कॉलेज के मालिक व उसके पिता पर गैंगस्टर

लखनऊ मे मड़ियांव के आईआईएम रोड स्थित सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा कर कैरियर डेंटल कॉलेज खड़ा करने वाले पूर्व दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री इकबाल व उसके पिता अजमत अली के खिलाफ पुलिस ने गैंगस्टर की कार्यवाही की। इस मामले में  प्रभारी निरीक्षक मड़ियांव की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है।
 
हाल ही में पुलिस प्रशासन के सहयोग से सिंचाई विभाग की जमीन पर बने डेंटल कॉलेज के अवैध निर्माण को गिराया गया था। इसके बाद ही पुलिस ने गैंगस्टर की कार्रवाई की है। यहीं नहीं पिता व बेटे के खिलाफ मड़ियांव थाने में नौ केस दर्ज हैं। मालूम हो कि इकबाल सपा सरकार में स्टेट प्लानिंग कमीशन का सदस्य रह चुका है।  
 
प्रभारी निरीक्षक मड़ियांव विपिन सिंह के मुताबिक, अजमत अली और इकबाल का संगठित गिरोह है। गिरोह का सरगना अजमत अली अपने साथियों के साथ महंगी सरकारी जमीनों पर कब्जा करता है। इनकी दबंगई की वजह से कोई भी व्यक्ति रिपोर्ट नहीं दर्ज कराता है और गवाही तक देने को तैयार नहीं होता है। मड़ियांव पुलिस ने इनके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के कार्रवाई की हैं। एफआईआर में अजमत का पता घैला, मड़ियांव और इकबाल का पता विकासनगर लिखाया गया है। 

गिराया गया था अवैध निर्माण 
आईआईएम रोड से घैला मोड़ पर बने कैरियर डेंट कॉलेज का काफी हिस्सा सरकारी जमीन पर कब्जा करके बनाया गया था। इस आरोप की जांच डीएम अभिषेक प्रकाश ने करायी थी। आरोप सही पाए जाने पर प्रशासन ने इस बिल्डिंग का निर्माण ढहा दिया था।
... और पढ़ें

कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी विकास दुबे ने स्क्रैप कारोबारी से छीनी थी सरकारी नंबर की कार

कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की गोलियां मारकर हत्या का आरोपी कुख्यात विकास दुबे लखनऊ में जिस सरकारी नंबर की अंबेसडर कार से घूमता था, वह स्क्रैप कारोबारी विनीत पांडेय से छीनी गई थी। रविवार रात स्क्रैप कारोबारी ने कृष्णानगर कोतवाली में विकास दुबे, उसके भाई दीप प्रकाश उर्फ दीपक दुबे समेत चार लोगों के खिलाफ रंगदारी और धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज कराई है। 

एसीपी कृष्णानगर दीपक कुमार सिंह ने बताया कि पीजीआई की वृंदावन कॉलोनी निवासी स्क्रैप कारोबारी विनीत पांडेय ने एक दिसंबर 2009 को नीलामी में उक्त कार खरीदी थी। स्क्रैप कारोबारी का आरोप है कि सरकारी सीरीज वाले नंबर की कार खरीदने के कुछ दिन बाद विकास अपने भाई दीप व दो अन्य लोगों के साथ उसके घर आया और गाड़ी मांगी।

मना करने पर उसने जानमाल की धमकी दी। विकास ने कहा कि अगर वह कार नहीं देगा तो सुबह का सूरज नहीं देख पाएगा। धमकियों से घबराकर विनीत ने कार उसके सुपुर्द कर दी। विनीत का कहना है कि वह इतनी दहशत में था कि किसी से शिकायत करने की या किसी को कार के बारे में बताने की हिम्मत नही पड़ी। जब भी वह विकास से कार वापस मांगता, वह धमकी देता था।
... और पढ़ें

लखनऊ यूनिवर्सिटीः टेंशन होगी छूमंतर, हंसते-मुस्कुराते होगी पढ़ाई

तनाव, अवसाद व नकारात्मक विचारों से जूझते युवाओं में सकारात्मकता का संचार करने के लिए लविवि हैप्पी थिंकिंग लैब की स्थापना करेगा। मनोविज्ञान विभाग में स्थापित होने वाली इस लैब में विद्यार्थियों का मनो-अध्यात्मिक विकास किया जाएगा। इस लैब के जरिए युवाओं को चिंता, परेशानी, रिश्तों के प्रति असुरक्षा जैसी भावना से निपटने के तरीके बताए जाएंगे।

साथ ही विद्यार्थियों पर इनके प्रभाव की गणना की जाएगी। एलयू तीन अन्य केंद्रों की स्थापना भी करेगा। मनोविज्ञान विभाग की विभागाध्यक्ष प्रो. मधुरिमा प्रधान ने बताया कि अपने शोध के दौरान उन्होंने देखा कि विद्यार्थियों में नकारात्मक विचार हावी हो रहे हैं। भारतीय दर्शन और संस्कृति में इसका समाधान है।

हमारे वेद, ग्रंथ, पुराण आदि में इसका वर्णन है। इनके अनुसार हम भौतिक सामग्री में आनंद नहीं तलाश सकते हैं। यह आनंद हमें अपने आप से जुड़कर ही मिल सकता है। विद्यार्थियों का मनो-अध्यात्मिक विकास करके विद्यार्थियों को इस नकारात्मकता से बाहर निकाला जा सकता है। इसलिए विभाग में हैप्पी थिंकिंग लैब की स्थापना की जा रही है।

यह लैब विद्यार्थियों को खुश रहने के तरीके बताएगी। लैब में थ्योरी के साथ ही योग और ध्यान जैसी प्रायोगिक क्रियाएं भी विद्यार्थियों को सिखाई जाएंगी। लैब की सबसे बड़ी खासियत विद्यार्थियों पर इन तरीकों और क्रियाओं के असर को मापने की व्यवस्था होना भी होगी। इस तरह से इस लैब के माध्यम से अपनाए जा रहे उपायों का प्रभाव भी जांचा जा सकेगा। मनोविज्ञान विभाग के विद्यार्थियों के साथ ही चॉयस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम में अन्य विभाग के विद्यार्थी भी इससे जुड़ सकेंगे।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us