विज्ञापन
विज्ञापन
नौकरी को लेकर है परेशान ? फ्री जन्मकुंडली बनवाएं और जानें निवारण!
Kundali

नौकरी को लेकर है परेशान ? फ्री जन्मकुंडली बनवाएं और जानें निवारण!

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

अमेरिका में रिसर्च छोड़कर वापस आए डॉ संदीप, बच्चों को विज्ञान के प्रति कर रहे जागरूक

डॉ. संदीप सिंह अमेरिका में पोस्ट डॉक्टरल रिसर्च छोड़कर वापस अपने देश आ गए हैं और ग्रामीण बच्चों को विज्ञान और तकनीक के प्रति जागरूक कर रहे हैं।

13 अक्टूबर 2020

विज्ञापन
Digital Edition

वायरल हुआ प्रधान के मृत पति का ऑडियो, बताए जिंदा जलाए जाने वालों के नाम

दलित प्रधान पति की हत्या की घटना के बाद शुक्रवार को सोशल मीडिया पर एक ऑडियो वायरल हुआ। मृत्यु पूर्व के बताए जा रहे इस ऑडियो क्लिप में प्रधान पति ने उन पांच लोगों पर अपहरण करके जिंदा फूंक देने की बात कही है जिनके खिलाफ परिवारीजनों ने नामजद केस दर्ज कराया है।

शुक्रवार दोपहर बाद सोशल मीडिया पर एक ऑडियो वायरल हुआ। वारयल ऑडियो में एक व्यक्ति किसी से यही पूछता हुआ सुनाई पड़ रहा है कि बाबू के के रहन जलावै मा। इस पर एक व्यक्ति कराहता हुआ कहता है कि केके तेवारी, राजेश मिसिर, रवि व संतोष। कराहता हुआ व्यक्ति एक नाबालिग का भी नाम लेता है जिसका उल्लेख यहां नहीं किया जा सकता। फिर सवाल होता है कि ये सब पकड़ि के लई गयेन हैं चौरहवा से तो कराहता हुआ व्यक्ति जवाब में हां कहता है।

परिवार वालों का कहना है कि बातचीत का यह ऑडियो तब का है जब गंभीर रूप से झुलसे अर्जुन को इलाज के लिए सुल्तानपुर ले जाया जा रहा था। परिवार वालों का यह भी कहना था कि अर्जुन की ओर से दिए गए बयान की ऑडियो क्लिप पुलिस को दे दी गई है।
 
... और पढ़ें
वायरल हुआ प्रधान के मृत पति का ऑडियो वायरल हुआ प्रधान के मृत पति का ऑडियो

कोविड काल में प्रदेश को मिले 45,000 करोड़ के निवेश प्रस्ताव

अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टंडन ने कहा है कि सरकार ने कोविड-19 के दौरान 40 से अधिक निवेश प्रस्ताव प्राप्त करने में सफलता हासिल की है। इससे 45,000 करोड़ रुपये का निवेश होगा। इनमें से करीब 1.35 लाख रोजगार से जुड़ी परियोजनाओं का क्रियान्वयन शुरू हो गया है।

टंडन लोकभवन में आयुक्त सभाकक्ष में अपर मुख्य सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आलोक कुमार के साथ पत्रकारों से मुखातिब थे। उन्होंने बीते छह महीने में निवेश आकर्षित करने के लिए किए गए प्रयासों व प्राप्त उपलब्धियों साझा किया। टंडन ने बताया कि इन निवेश प्रस्तावों में जापान, अमेरिका, इंग्लैंड, कनाडा, जर्मनी व दक्षिण कोरिया आदि की कंपनियों के निवेश प्रस्ताव शामिल हैं। उन्होंने बताया कि पिछले छह महीने में 6,700 करोड़ रुपये के निवेश परियोजनाओं के लिए 426 एकड़ (326 भूखंडों) भूमि का आवंटन किया गया है। इससे 1,35,362 लोगों को रोजगार मिल सकेगा। निवेश से जुड़ी अन्य परियोजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़ी कार्यवाही चल रही है।

अन्य निवेश परियोजनाओं में करीब 10 देशों निवेश प्रस्ताव भी शामिल हैं। हीरानंदानी ग्रुप, सूर्या ग्लोबल, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एमजी कैप्सूल्स, केशो पैकेजिंग, माउंटेन व्यू टेक्नालोजी जैसे निवेशक  अपने प्रोजेक्ट लगाएंगे। इसी तरह कोविड-19 के बाद 14,900 करोड़ रुपये के निवेश-प्रस्तावों को वास्तविक परियोजनाओं में परिवर्तित कर अब तक 43 प्रतिशत एमओयू क्रियान्वयन में सफलता मिली है।

उन्होंने बताया कि निवेशकों की सुविधा के लिए 52 प्रक्रियाओं का सरलीकरण किया गया है। प्रदेश ईज ऑफ डुइंग बिजनेस में 12 अंक की छलांग लगाकर देश में दूसरे स्थान पर आ गया है। नीतियों में सुधार, भूमि आवंटन व पिछड़े क्षेत्रों में निवेश प्रोत्साहन के कई नए कदम उठाए गए हैं। इसके अलावा इन्वेस्टर्स समिट से जुड़े एमओयू के क्रियान्वयन को लेकर भी फोकस काम हो रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के पिछड़े क्षेत्रों खासकर पूर्वांचल और मध्यांचल में कई निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं।
... और पढ़ें

दलित प्रधान पति की हत्या के बाद गांव में दहशत का माहौल, पत्नी बोली- दिया जाए शस्त्र लाइसेंस

परिवार के मुखिया व अपने पति की हत्या से क्षुब्ध महिला ग्राम प्रधान ने शस्त्र लाइसेंस व सुरक्षा के साथ तीन बीघा जमीन व विभिन्न मदों से मिलने वाली आर्थिक सहायता तत्काल दिलाने की मांग की है। ग्राम प्रधान ने कहा कि पति की हत्या से उनके परिवार का सहारा छिन गया है।

बंदोइया गांव में गुरुवार रात हुई महिला ग्राम प्रधान के पति की हत्या ने पूरे परिवार को तोड़ दिया है। शुक्रवार शाम ग्राम प्रधान के पति का शाम पोस्टमॉर्टम के बाद गांव पहुंचा तो परिवारीजनों के सब्र का बांध टूट गया। महिला ग्राम प्रधान छोटका का कहना था कि गांव के कुछ लोग उसके परिवार को गांव में कराए गए विकास कार्यों में धांधली का आरोप लगाकर लगातार परेशान कर रहे थे। मन नहीं भरा तो शिकायतकर्ताओं ने उसके पति को जलाकर मार डाला। महिला ग्राम प्रधान ने कहा कि उसका पति ही परिवार का मुखिया और सहारा थ। पति की मौत से पूरा परिवार टूट गया है। 

ग्राम प्रधान ने प्रशासन से परिवार को शस्त्र लाइसेंस व सुरक्षा, किसान दुर्घटना बीमा का पांच लाख रुपये, एससीएसटी एक्ट में मिलने वाली 8.12 लाख रुपये की अनुग्रह राशि, जीवन यापन के लिए तीन बीघा जमीन का आवंटन दिलाने के साथ घटना में नामजद आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार कराने की मांग की। महिला ग्राम प्रधान का कहना था कि दबंगों ने उसके परिवार का चैन सुकून छीनने के बाद जीने का सहारा भी छीन लिया।
 
... और पढ़ें

सजती दिख रही यूपी की भावी सियासत की तस्वीर, कांग्रेस की मुसीबत, भाजपा और सपा...

राज्यसभा चुनाव के घटनाक्रम ने प्रदेश में जिस तरह नए सियासी समीकरणों को जन्म दिया है, उससे प्रदेश की भावी सियासत की तस्वीर सजती दिखाई देने लगी है। वैसे तो राजनीति में कोई घटनाक्रम स्थायी नहीं होता है, लेकिन जिस तरह बसपा सुप्रीमो मायावती सपा पर आक्रामक हुई हैं और सपा की तरफ से बसपा में बगावत को हवा दी गई है उसको देखते हुए प्रदेश में 2022 का मुख्य सियासी मुकाबला भाजपा बनाम सपा के बीच होने के आसार बनने लगे हैं।

जिसमें ध्रुवीकरण की सुगबुगाहट भी सुनाई देने लगी है। यह सुगबुगाहट कांग्रेस, रालोद और अन्य भाजपा विरोधी दलों के लिए कड़ी तथा बड़ी चुनौती लेकर आई है। खासतौर से कांग्रेस के लिए जो बीते तीन-साढ़े तीन महीने से प्रदेश सरकार पर हमला बोलने की होड़ में आगे दिख रही थी।

ताजा घटनाक्रम से बदली परिस्थितियां किसी न किसी रूप में कांग्रेस को सपा के पाले में खड़े होने के लिए सियासी तौर पर मजबूर करती दिख रही हैं। ऐसा न करने पर उसे नए समीकरणों में अस्तित्व के लिए भी जूझना पड़ सकता है। साथ ही भाजपा विरोधी वोटों में बिखराव का आरोप सुनना पड़ सकता है। वैसे भी आज की स्थिति में तमाम दावों के बावजूद वह उत्तर प्रदेश में अभी अकेले अपने दम पर कोई  सियासी चमत्कार करने की स्थिति में नहीं दिखती।
... और पढ़ें

मुख्तार अंसारी के सांसद भाई अफजाल अंसारी की पत्नी के खिलाफ इन धाराओं में दर्ज हुई एफआईआर

प्रतीकात्मक तस्वीर
जिला प्रशासन ने शुक्रवार को एक बड़ी कार्रवाई की। सांसद अफजल अंसारी की पत्नी फरहत अंसारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। फरहत अंसारी के खिलाफ अपराधिक षड्यंत्र समेत 6 धाराओं में एफआईआर दर्ज हुई जियामऊ के लेखपाल की तहरीर पर हजरतगंज थाने में एफआईआर दर्ज की गई। 

आईपीसी की धारा 120B,420, 447, 448 और 427 के तहत एफआईआर दर्ज हुई।  निष्क्रान्त संपत्ति पर अवैध कब्जे पर भी एफआईआर दर्ज हुई। 

बता दें मुख्तार अंसारी के सांसद भाई अफजाल अंसारी को भी एलडीए ने नोटिस दिया था। दोनों अवैध निर्माण के पीछे की तरफ ही सांसद अफजाल का भी बंगला बना हुआ है। विहित प्राधिकारी ऋतु सुहास ने बताया कि सांसद के निर्माण के लिए नक्शा एलडीए से स्वीकृत है। ऐसे में आगे की कार्रवाई स्थगित कर दी गई। अन्य निर्माण की जांच एलडीए करा रहा है।

इसी के चलते बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के भाई व सांसद अफजाल अंसारी दोबारा एलडीए अपने बंगले के शमन मानचित्र को निरस्त किए जाने और अवैध निर्माण घोषित करने की कार्रवाई में अपना पक्ष रखने पहुंचे थे। सांसद के साथ उनकी पत्नी फरहत अंसारी व बेटियां भी पहुंचीं थीं। एलडीए वीसी शिवाकांत द्विवेदी ने उनके प्रकरण को करीब डेढ़ घंटे तक सुना था।
... और पढ़ें

सड़क किनारे खड़े ट्रक में घुसी कार, तीन की मौत, तीन गंभीर

बलरामपुर में सड़क के किनारे खड़ी ट्रक में तेज रफ्तार अनियंत्रित कर टकरा गई। घटना में तीन की मौके पर ही मौत हो गई। घटना में पांच लोग घायल हुए हैं। चार की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस ने घायलों को जिला संयुक्त अस्पताल में भर्ती कराकर मामले की छानबीन में जुट गई है। 

प्रभारी निरीक्षक नगर कोतवाली राजितराम ने बताया कि शुक्रवार को शक्तिपीठ देवीपाटन मंदिर तुलसीपुर से दर्शन पूजन कर ग्राम काजी देवर थाना मोतीगंज जनपद गोंडा निवासी भुवनेश्वर शुक्ल का परिवार अपने कार से वापस घर लौट रहा था। दोपहर बाद करीब 3.30 बजे नगर कोतवाली क्षेत्र के संतोषी माता तिराहे के निकट तेज रफ्तार अनियंत्रित कार सड़क के किनारे खड़ी ट्रक में घुस गई।

टना में भुवनेश्वर शुक्ल(50), उनकी पत्नी कंचन शुक्ला (42) तथा 3 वर्षीय मासूम बच्ची छाया की मौत हो गई है। घटना में भुवनेश्वर की बेटी ज्योति (18), भाभी किरन (35) तथा सास माया (60),  आशीष (12) तथा शिवांश(7) घायल हो गए हैं। घायलों में ज्योति, किरन, माया व शिवांश की हालत गंभीर बताई जा रही है । सभी घायलों को इलाज के लिए संयुक्त जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक कार भुवनेश्वर शुक्ल चला रहे थे। नगर के व्यस्त इलाके में कार ओवरस्पीड थी इसी वजह से यह हादसा हुआ है। हादसे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस व स्थानीय लोगों ने कार के अंदर फंसे लोगों को बाहर निकालकर अस्पताल भेजवाया।
... और पढ़ें

डीआईजी अनिल कुमार और उनकी पत्नी पर एफआईआर दर्ज, ये है मामला 

36 रुपये आलू, 55 रुपये किलो प्याज बेचेगी सरकार- मोबाइल वैन से आज से शुरू होगी बिक्री

राज्य सरकार मोबाइल वैन के जरियें सस्ती दरों पर प्याज व आलू उपलब्ध कराने जा रही है। शुक्रवार से लखनऊ में इसकी शुरुआत होगी। वैन से आलू 36 व प्याज 55 रुपये प्रति किलो बेचा जाएगा। 
आलू व प्याज की आसमान छूती कीमतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कृषि व विपणन कार्य से जुड़ी संस्थाओं व विभागों को समस्या के समाधान करने के निर्देश पहले ही दिए हैं।

इसी क्रम में मोबाइल वैन से आलू व प्याज की बिक्री की योजना बनाई गई है। उत्तर प्रदेश राज्य औद्यानिक सहकारी विपणन संघ के प्रबंध निदेशक डॉ. आरके तोमर ने बताया कि वैन से आलू-प्याज के साथ दाल भी बेचने की योजना है। शासन से मंडी परिषद के द्वारा इस योजना के लिए कार्यशील पूंजी उपलब्ध कराए जाने का आग्रह किया गया है। लखनऊ के बाद इस योजना को अन्य जिलों में भी संचालित किया जाएगा। 

उधर राज्य मंडी परिषद के प्रबंध निदेशक जेपी सिंह ने कहा कि प्रयागराज, झांसी, आगरा, गोरखपुर व मथुरा के व्यापारी संघों व आढ़तियों के सहयोग से सस्ते दामों पर आलू व प्याज बेचने का काम शुरू कर दिया गया है। इसके अलावा पीसीएफ व पीसीयू के जरिये दलहन की बिक्री शुरू की जा रही है। दोनों संस्थाओं को इस कार्य के लिए 12.5-12.5 करोड़ रुपये उपलब्ध करा दिए गए हैं।
 
... और पढ़ें

पीतल और कांसे के करवाें से चमका बर्तन बाजार, सबसे ज्यादा इस करवे की डिमांड, देखें- कीमत

लखनऊ का बर्तन बाजार सहालग, दीपावली और करवाचौथ की ग्राहकी से चहक उठा है। बाजार जहां दीपावली बर्तनों की नई-नई वैराइटी से सज गए हैं, वहीं मुरादाबाद के पीतल और कांसे के करवे अलग ही चमक बिखेर रहे हैं। नक्काशीदार पीतल के करवा महिलाओं को खासा पसंद आ रहे हैं। बर्तन बाजार पर करवाचौथ से पहले ही पांच दिवसीय दीपोत्सव का रंग चढ़ने लगा है। करवा सहित अन्य बर्तन बाजार में उतर चुके, जिनमें मुरादाबादी रंग-बिरंगी डिजाइनर पीतल और कांसा के करवा की इस बार बहार है। मुरादाबादी करवा की कीमत 750 से 1000 रुपये तक है। मुरादाबादी डिजाइनर करवा के सेट भी है, जिसके साथ डिजाइनर स्टील की चलनी और दीपक भी शामिल हैं। चलनी की कीमत 180 रुपये और दीपक 50 रुपये का है। ऐसी करवा और फैंसी बर्तनों से दुकानें सज चुकी है। यह अलग बात की धनतेरस पर बिकने वाले अन्य बर्तन की नई खेप अभी बाजार नहीं पहुंच सकी।    

 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X