विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

देश के पहले कर्नल 'जैग' कपल बन लखनऊ का नाम रोशन करेंगे अनु-अमित, बधाई देने वालों का लगा तांता

लेफ्टिनेंट कर्नल अनु डोगरा जल्द कर्नल बन जाएंगी। इसके बाद वह और उनके पति लखनऊ के डालीगंज निवासी कर्नल अमित कुमार देश की सशस्त्र सेनाओं के पहले कर्नल ज...

5 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

लखनऊ

मंगलवार, 31 मार्च 2020

बरेली में स्थानीय प्रशासन ने किया मजदूरो पर केमिकल स्प्रे तो विपक्ष ने पूछा योगी सरकार से सवाल

बसों से गंतव्य तक पहुंचाए गए एक हजार लोग

अमेठी। लॉकडाउन के बावजूद परदेसियों को गंतव्य तक पहुंचाने में प्रशासन हलकान है। अमेठी डिपो की 12 बसों व अन्य साधनों से करीब एक हजार लोगों को सोमवार को रोडवेज व प्राइवेट बसों से गंतव्य तक पहुंचाया गया। लोगों को पहुंचाने के बाद सोमवार को फिर रोडवेज सेवा बंद कर दी गई।
कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने को लेकर देश में संपूर्ण लॉकडाउन घोषित है। बावजूद इसके गैर प्रांतों व जनपदों में फंसे परदेशी अपने घर पहुंचने के लिए सड़क पर निकल पड़े तो प्रशासन की ओर से उन्हें उनके गंतव्य तक पहुंचाने की व्यवस्था कराई गई। अमेठी डिपो की 12 बसों को विभिन्न मार्गों से लखनऊ भेजा गया था। एआरएम राकेश मोहन पांडेय ने बताया कि बसों से एक हजार यात्री लाए गए। सोमवार को अमेठी बस स्टेशन पर दो प्राइवेट बस और दो मैजिक लगाई गई थीं। इन वाहनों से बस स्टेशन पहुंचने वाले जिले के यात्रियों को गंतव्य तो अन्य जिलों के यात्रियों को जिले की सीमा पर छोड़ा गया।
बाहर से आ रहे और यहां से जा रहे यात्रियों से मौजूद स्वास्थ्य टीम द्वारा एक एक कर उनसे सर्दी, जुकाम, बुखार आदि समस्या पूछकर जांच की जा रही है। लोग सीधे अपने घर जा रहे हैं। हालांकि इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे हैं।
... और पढ़ें

जिले में पहुंचे विदेश में रहने वाले दस और लोग

गौरीगंज (अमेठी)। कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच जिले में विदेश से आने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। तीन दिन पूर्व जहां जिले में विदेश से आने वालों की संख्या 88 थी वह अब बढ़कर 99 पहुंच गई है। स्वास्थ्य टीमों के परीक्षण में सभी स्वस्थ पाए गए हैं। स्वास्थ्य टीम ने एहतियातन सभी को 14 दिन तक स्वयं को क्वारंटीन रहने की हिदायत दी है।
तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस से डरे विभिन्न देशों में रह रहे लोगों का जिले में पहुंचने का सिलसिला जारी है। तीन दिन पूर्व तक जहां जिले में विदेश से आने वालों की संख्या 88 थी वह अब बढ़कर 99 हो गई है। संबंधित एअरपोर्ट से सूचना मिलते ही जिले की स्वास्थ्य टीमों ने विदेश से आए लोगों के घर पहुंचकर उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया। परीक्षण में विदेश से आए सभी लोग स्वस्थ पाए गए हैं। स्वास्थ्य टीमों ने एहतियातन सभी को 14 दिन तक अपने घर में ही क्वारंटीन रहने की सलाह दी है।
कहा गया है कि इस दौरान वह अपने घर के किसी भी व्यक्ति के पास नहीं जाएं। सभी से दो मीटर की दूरी बनाए रखें। इस दौरान किसी भी प्रकार की समस्या होने पर तत्काल दिए गए नंबरों पर सूचना देने को कहा गया है। डीएम ने तीन दिन में दस और लोगों के जिले में आने की पुष्टि करते हुए कहा कि सभी लोग पूरी तरह से स्वस्थ हैं। कहा कि जिले में अब तक कोरोना का एक भी पीड़ित नहीं है।
... और पढ़ें

Coronavirus in UP Live Updates: निजामुद्दीन मरकज में शामिल तीन लोग लखनऊ में मिले, अन्य की हो रही तलाश

सैनिटाइजर बनाने के लिए तत्काल सहमति पत्र देगा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड  
अल्कोहल आधारित सैनिटाइजर का उत्पादन करने वाली औद्योगिक इकाइयों को प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड आवेदन के साथ तत्काल सहमति पत्र जारी करेगा। बोर्ड के चेयरमैन जेपीएस राठौर ने बताया कि कोरोना के चलते सैनिटाइजर की मांग बहुत बढ़ गई है। इसकी आपूर्ति के लिए सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है। इसी के तहत नियंत्रण प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने फैसला किया है कि मौजूदा डिस्टिलरी और औद्योगिक इकाइयां अल्कोहल आधारित सैनिटाइजर बनाने के लिए निवेश मित्र पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर सकती हैं। उन्हें तत्काल बोर्ड की ओर से सहमति पत्र जारी कर दिया जाएगा। यह आदेश 31 मई तक लागू रहेगा।
... और पढ़ें
लखनऊ रवाना हुए सीएम योगी लखनऊ रवाना हुए सीएम योगी

मरकज निजामुद्दीन मामले पर मौलाना खालिद बोले, जो हुआ वो अफसोसनाक है, इसकी जांच हो

दिल्ली के निजामुद्दीन के मरकज भवन में आयोजित तबलीगी जमात कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोगों के शामिल होने और 24 लोगों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद हड़कंप मच गया है। केंद्र सरकार जमात में शामिल हुए लोगों पर सख्त कार्रवाई करने की तैयारी कर रही है।

इस पर ऐशबाग ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने कहा कि जो भी हुआ वो बेहद अफसोसनाक है। मामले की जांच होनी चाहिए। अच्छा होगा कि इसमें शामिल हुए लोग खुद ही सामने आएं और प्रशासन से अपनी जांच करवाएं।

उन्होंने बताया कि तबलीगी जमात एक धार्मिक संस्था है। जो लोगों को रोजा, हज, नमाज और जकात के बारे में बताती है। मरकज निजामुद्दीन में दुनिया भर से लोग आते हैं।

मौलाना ने मरकज में शामिल हुए लोगों से अपील की है कि वह देश के जिन भी हिस्सों में गए हों वहां के स्थानीय प्रशासन को जानकारी दें और जांच करवाने के लिए खुद आगे आएं। जिससे वो खुद भी बीमारी से बच सकें और दूसरों को भी बचा सकें।

बता दें कि मरकज में शामिल होकर लौटे कई लोग लखनऊ के भी हैं। सीएमओ डॉक्टर नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि अभी तक तीन लोग मिले हैं। इन लोगों के सैंपल लिए गए हैं। इन्हें लोकबंधु अस्पताल में क्वारंटीन के लिए भेजा जा रहा है। इनसे पूछताछ कर पुलिस अन्य लोगों के बारे में जानकारियां एकत्र कर रही है।
... और पढ़ें

राममंदिर के भूमि पूजन पर कोरोना का साया, ट्रस्ट के महामंत्री बोले, मंदिर निर्माण के लिए करना होगा इंतजार

श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन का कार्यक्रम अप्रैल के अंत में आयोजित होना था, लेकिन इस पर भी कोरोना ने ग्रहण लगा दिया है। ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय ने कहा कि अब भूमि पूजन कार्यक्रम कोरोना के नियंत्रण पर निर्भर करेगा।

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के महामंत्री चंपत राय ने कहा कि उनकी तैयारी थी कि अप्रैल के अंत में मंदिर के भूमि पूजन का कार्यक्रम आयोजित किया जाए। लेकिन आज देश में जो रोग फैला है, उस पर नियंत्रण कैसा है, कार्यक्रम का आयोजन इस पर निर्भर करेगा। उन्होंने कहा, ‘हम इसकी अनदेखी नहीं कर सकते। समाज और जनसामान्य का जीवन बहुत महत्वपूर्ण है।’ 

भूमि पूजन के कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक के भी मौजूद रहने की संभावना है लेकिन, इस बारे में अंतिम निर्णय कोरोना महामारी की स्थिति को ध्यान में रख कर लिया जाएगा। 

चंपत राय ने कहा कि किसी भी कार्यक्रम के बारे में सोचना उचित नहीं है। देश प्राणघातक महामारी से जूझ रहा है। इस पर विजय प्राप्त करना पहली प्राथमिकता है। इस पर विजय प्राप्त कर लिया तो दुनिया के लिए भारत आइडियल होगा। 

उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कोविड-19 के खिलाफ भारत के एक्शन की दुनिया तारीफ करेगी। पीएम मोदी ने जिस तरह इस महामारी पर हल्ला बोला है। यदि दुनिया के बड़े महाशक्ति देश व अमेरिका प्रारंभ से ऐसा करते तो वह अपने लोगो की रक्षा ठीक से कर पाते। पीएम मोदी ने अपने समाज की रक्षा योग्य नीति से की है।
... और पढ़ें

निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात में शामिल थे यूपी के 100 लोग, सभी की हुई पहचान

दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए जिस इज्तेमा में शामिल तब्लीगी जमात के लोग कोरोना के संदिग्ध मिले हैं, उसमें लगभग 100 लोग यूपी के शामिल हैं। इन सभी की शिनाख्त हो गई है और सब दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में क्वारंटीन किए गए हैं। 

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यूपी के जो लोग शामिल थे, उनके परिजनों से भी संपर्क किया गया तो इसकी पुष्टि हुई कि तब्लीगी जमात में शामिल सभी लोग अभी दिली में ही हैं। 

उक्त अधिकारी ने बताया कि सबसे अधिक पश्चिमी यूपी के लोग इस जमात में शामिल थे। इसके अलावा वाराणसी के भी तीन लोगों के बारे में जानकारी मिली है, जो निजामुद्दीन में आयोजित कार्यक्रम में थे। उक्त अधिकारी ने दावा किया कि सूचना मिलने के बाद तत्काल इसकी जांच कराई गई। ऐसा एक भी व्यक्ति नहीं मिला है जो जमात में शामिल होकर वापस यूपी आया हो।

वहीं, उत्तर प्रदेश पुलिस मुख्यालय ने 18 जिलों के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को एक आदेश जारी किया है कि वे निजामुद्दीन मरकज से भाग लेकर लौटने वाले लोगों का कोरोना टेस्ट करें और संक्रमित लोगों को अस्पताल में भर्ती कराएं।
... और पढ़ें

लॉकडाउन में जरुरतमंदों के लिए नगर निगम की पहल, मदद के लिए व्हाट्सएप से दें डिटेल

निजामुद्दीन में कोरोना का कहर
लॉकडाउन के चलते  पटरी दुकानदारों, रिक्शा-तांगा चालकों के सामने रोटी का संकट हो गया है। इसे देखते हुए नगर निगम से उन लोगों को आर्थिक मदद दी जानी है जो नगर निगम में पटरी दुकानदार या रिक्शा-तांगा, ठेला चालक के तौर पर पंजीकृत हैं।

आर्थिक मदद के लिए नगर निगम इनसे बैंक खाते का विवरण और आधार कार्ड की जानकारी ले रहा है। यह काम कई दिनों से चल रहा है। अब लॉकडाउन में भीड़ से बचने के लिए इन लोगों से व्हाट्सएप और ईमेल के जरिये बैंक खाता नंबर, आईएफएससी कोड और आधार नंबर नंबर की जानकारी मांगी गई है।

इसे लेकर नगर निगम ने हर जोन के कर्मचारियों के नाम, मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी जारी की है। इसके बाद भी यदि कोई व्यक्ति नगर निगम के आफिसों में जमा करने जाएगा और भीड़ लगाएगा तो उसे लॉकडाउन का उल्लंघन माना जाएगा।
... और पढ़ें

फार्म हाउस के दिव्यांग गार्ड की ईंट से कूंचकर हत्या, खून से लथपथ शव देख उड़े होश

माल में गोपरामऊ गांव स्थित शाह आलम के फार्म हाउस के दिव्यांग सुरक्षाकर्मी रामदेव मौर्या (55) की ईंट से कूंचकर हत्या कर दी गई। उसका शव फार्म हाउस के पश्चिमी गेट पर खून से लथपथ पड़ा मिला।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेजवाया। फार्म हाउस के मालिक ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। प्रभारी निरीक्षक शैलेंद्र के मुताबिक, गोंडा के तरबगंज स्थित खजरी निवासी रामदेव मौर्या गोपरामऊ स्थित शाह आलम के फार्म हाउस की रखवाली करता था।

रविवार रात अज्ञात बदमाशों ने ईंट से कूंचकर उसकी हत्या कर शव फार्म हाउस के पश्चिमी गेट पर फेंक दिया। सुबह रैथा गांव निवासी श्रीकेशन ने गेट पर खून से लथपथ शव देखा तो उनके होश उड़ गए। तत्काल गांव व पुलिस कंट्रोल रूम को दी। 
... और पढ़ें

नोएडा में बढ़ते कोरोना पर लगाम लगाने के लिए डीएम सुहास को मिली जिम्मेदारी, दमदार है इनका प्रोफाइल

नोएडा में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या प्रदेश सरकार के लिए चिंता का सबब बन चुका है। इस बीच नोएडा को कोरोना से बचाने के लिए आईएएस अधिकारी सुहास लालिनाकेरे यथिराज को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई है। दरअसल यूपी सरकार ने उन्हें गौतमबुद्ध नगर जिले का नया जिलाधिकारी नियुक्त किया गया है। 
 

सुहास मूल रूप से कर्नाटक के शिमोगा जिले के रहने वाले हैं। उन्होंने कंप्यूटर साइंस में बीटेक की डिग्री ली है। वर्ष 2007 बैच के आईएएस अफसर सुहास एलवाई ने काफी दिनों तक क्रिकेट खेलने के बाद आईएएस अकादमी से ही बैडमिंटन खेलना शुरू किया था। वे बचपन से ही शौकिया तौर पर बैडमिंटन खेलते थे। आईएएस बनने के बाद भी उन्होंने इस शौक को फिटनेस बरकरार रखने के लिए जारी रखा।

अब सुहास शटलर के रूप में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तमाम उपलब्धियां प्राप्त करके पैरालंपिक गेम्स खेलने के करीब पहुंच चुके हैं।  वर्ष 2016 में बीजिंग एशियन चैंपियनशिप में पहली बार एलएल-4 (लोअर स्टैंडिंग) में हिस्सा लिया और स्वर्ण पर कब्जा जमाया था।

वर्ल्ड रैंकिंग में नंबर दो के पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी सुहास को साल 2016 में राज्यपाल ने उत्तर प्रदेश के सबसे बेहतरीन सिविल सर्वेंट के खिताब से नवाजा था। गौतमबुद्ध नगर के डीएम नियुक्त होने से पहले सुहास उत्तर प्रदेश सरकार के प्लानिंग विभाग के विशेष सचिव थे। उन्हें फरवरी से यह कार्यभार सौंपा गया था।

प्रयागराज में बीते दिनों हुए दिव्य कुंभ मेले के दौरान बेहतरीन व्यवस्था और क्राउड मैनेजमेंट को सही तरीके से अंजाम देने के कारण सुहास मुख्यमंत्री योगी की नजरों में आए थे। कुंभ मेले के भव्य और सफल आयोजन के कारण उनकी काफी सराहना हुई थी। अपने काम और लगन के कारण वह यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव से लेकर पीएम मोदी तक, सभी के पसंदीदा अफसरों में से एक हैं।
... और पढ़ें

लखनऊ यूनिवर्सिटी: 25 विभागों ने बनाए यू-ट्यूब चैनल

लॉकडाउन के दौरान हो रहे पढ़ाई के नुकसान को पूरा करने के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय ने यू-ट्यूब चैनल के जरिए विद्यार्थियों की पढ़ाई शुरू की है। विवि के 43 विभागों में से अब तक 25 ने अपने-अपने यू-ट्यूब चैनल बना लिए हैं।

इन चैनलों पर अब तक 160 शिक्षकों ने करीब 600 लेक्चर अपलोड कर दिए हैं। कुलपति प्रो.आलोक कुमार राय को यह जानकारी सोमवार को ई-कंटेंट की मॉनिटरिंग के लिए बनाई गई समिति ने दी।

प्रो. राय ने सोमवार को समिति के साथ जूम एप के माध्यम से ऑनलाइन बैठक की। लविवि की अधिष्ठाता छात्र कल्याण और समिति की अध्यक्ष प्रो. पूनम टंडन ने बताया कि ई-कंटेंट पर अच्छा काम किया जा रहा है। इस समय काफी विद्यार्थी इसका लाभ उठा रहे हैं।

कोरोना वायरस से संक्रमण के खतरे को देखते हुए सभी विवि और कॉलेज पहले से ही बंद हैं। ऐसे में तकनीक का उपयोग करके ही कक्षाएं संचालित हो सकती हैं।
... और पढ़ें

यूपी की सभी सीमाएं सील, जो जहां हैं उसे वहीं मदद दिलाएगी सरकार, अफसरों को दिए निर्देश

केंद्र सरकार के निर्देश पर प्रदेश सरकार ने राज्य की सभी सीमाएं सील कर दी हैं। मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने अधिकारियों से कहा है कि जो जहां है, वहीं उसे आवश्यक सुविधा उपलब्ध कराएं। तिवारी सोमवार को कोविड-19 के संबंध में अन्य राज्यों में रह रहे प्रदेश के लोगों की मदद के लिए नामित नोडल अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।

मुख्य सचिव ने कहा कि फोन कॉल पर घर वापस आने का अनुरोध किए जाने पर उन्हें विनम्रतापूर्वक समझाया जाए कि केंद्र सरकार के निर्देशानुसार यूपी का बॉर्डर सील कर दिया गया है। ऐसे में जो जहां हो, वह वहीं रुके, तभी लॉकडाउन का मकसद सफल होगा। यात्रा के अलावा उनकी हर समस्या का समाधान उसी स्थान पर करा दिया जाएगा।

उन्हें यह भी बताएं कि केंद्र सरकार के निर्देशानुसार लॉकडाउन की वजह से काम पर न जाने तथा वर्क फ्रॉम होम की दशा में उनको वेतन और मजदूरी भी दी जाएगी। मकान मालिक किराया भी नहीं लेगा। अन्य राज्यों के यूपी में रह रहे लोगों की भी हरसंभव सहायता की जाए।
... और पढ़ें

आज से घर बैठे होंगे रामलला के दर्शन, फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम पर देख पाएंगे लाइव आरती

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने रामलला के भक्तों को अब घर बैठे रामलला के दर्शन करने की सौगात दी है। अस्थायी राम मंदिर में विराजमान होने के बाद से कोरोना के चलते राम भक्त अपने आराध्य राम लला के दर्शन नहीं कर पा रहे हैं। अब ट्रस्ट सोशल मीडिया के जरिए हर वक्त की आरती और पूजन का लाइव दर्शन कराएगा।

मंदिर निर्माण को हरी झंडी देने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद इस बार देश भर में रामभक्त अयोध्या में होने वाले श्रीराम जन्मोत्सव में शामिल होने की बाट जोह रहे थे, लेकिन लॉकडाउन ने सबकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया। इस बार बहुत से राम भक्त रामलला के जन्मोत्सव में शामिल नहीं हो सके। 

अयोध्या में रामलला के दर्शन भी बंद है। इसके बाद श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने रामभक्तों को रामलला के दर्शन कराने के लिए विशेष इंतजाम करने का फैसला किया। इस फैसले के बाद आज से रामभक्त घर बैठे ही मोबाइल, लैपटॉप और कंप्यूटर पर रामलला के दर्शन कर सकेंगे। 

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट आज से फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म  पर रामलला के श्रृंगार दर्शन का प्रसारण करने का फैसला किया है। हर दिन सुबह-सुबह रामलला की शृंगार का फोटो व वीडियो अपलोड किया जाएगा। ये प्रसारण राम नवमी और उसके बाद तक भी चलेगा।

रामलला को 25 मार्च चैत्र नवरात्री के पहले दिन नए अस्थाई भवन में स्थापित किया गया है। 2 अप्रैल को राम नवमी है और श्रीराम का जन्मोत्सव है। आमतौर पर इस दिन अयोध्या में लाखों लोगों की भीड़ उमड़ती है, लेकिन लॉकडाउन की वजह से इस बार भीड़ नहीं होगी।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us