विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान
Puja

एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

मध्यप्रदेश के अलीराजपुर में शादी समारोह में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां

इंदौर में संक्रमितों की संख्या 3100 के पार, अब तक 117 मरीजों की मौत

देश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में शामिल इंदौर में पिछले 24 घंटे के दौरान 39 नए मरीज मिले हैं। इसके साथ ही, जिले में महामारी की जद में आये लोगों की तादाद 3,064 से बढ़कर 3,103 पर पहुंच गई है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) प्रवीण जाडिया ने मंगलवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोविड-19 से संक्रमित पाए गए 74 वर्षीय पुरुष की एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान शनिवार को मौत हो गई। इसके बाद जिले में इस महामारी की चपेट में आकर दम तोड़ने वाले मरीजों की तादाद बढ़कर 117 पर पहुंच गई है।

सीएमएचओ ने बताया कि कोविड-19 से दम तोड़ने वाले बुजुर्ग मधुमेह, उच्च रक्तचाप और अन्य बीमारियों से पहले ही जूझ रहे थे। उन्होंने बताया कि इलाज के बाद संक्रमणमुक्त होने पर जिले में 1,484 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है।

कोविड-19 का प्रकोप कायम रहने के कारण इंदौर जिला रेड जोन में बना हुआ है। जिले में कोरोना वायरस के प्रकोप की शुरुआत 24 मार्च से हुई, जब पहले चार मरीजों में इस महामारी की पुष्टि हुई थी।
... और पढ़ें

मध्यप्रदेश: पटवारी की शादी में लॉकडाउन की उड़ीं धज्जियां, शामिल हुए एक हजार लोग

मध्यप्रदेश के अलीराजपुर में सोमवार रात कोविड-19 के प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के बीच एक शादी में भारी भीड़ जुटी। मामला जिले के बिलासा गांव का है, जहां एक पटवारी की शादी में शामिल होने के लिए एक हजार के करीब लोग पहुंच गए। 



पटवारी की शादी में सिर्फ 25 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति थी, लेकिन यहां एक हजार के करीब लोग लॉकडाउन के नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए पहुंच गए। बारात में जमकर नाच-गाना हुआ। इन लोगों ने न तो मास्क पहना हुआ था और न ही ये सामाजिक दूरी के नियमों का पालन कर रहे थे। मिली जानकारी के अनुसार, पटवारी बिलासा के रहने वाले हैं और इन दिनों इनकी तैनाती बैतूल जिले में हैं। 

जानकारी के मुताबिक, कनु चौहान नामक शख्स की शादी थी। वह मध्यप्रदेश सरकार में पटवारी है। इनकी लॉकडाउन के माहौल में भी शादी जोर-शोर से हुई। धूमधाम से बरात निकाली गई और एक हजार के करीब लोग शामिल हुए। 
 

मामले की सूचना मिलने पर पुलिस टीम यहां पहुंची और लोगों को अपने-अपने घर भेजा। अनुविभागीय पुलिस अधिकारी धीरज बब्बर ने कहा कि पुलिस ने धारा 144 का उल्लंघन करने पर पटवारी के खिलाफ मामला दर्ज किया है। प्रशासन की तरफ से शादी की अनुमति दी गई थी, लेकिन समारोह में केवल 25 लोगों को शामिल होने की इजाजत थी। 

  ... और पढ़ें

मध्य प्रदेश के झाबुआ में पानी की कमी, लोगों को सता रहा पानी चोरी होने का डर

मध्य प्रदेश मध्य प्रदेश

मध्यप्रदेशः पुलिस ने बेरोजगार को चोरी करते पकड़ा, आपबीती सुन घर पहुंचाया राशन

मानव जीवन पर कोविड-19 के प्रभावों की अलग-अलग कहानियों के बीच मध्यप्रदेश के इंदौर में चोर-पुलिस का अनोखा मामला सामने आया है। पुलिस ने लॉकडाउन के दौरान बेरोजगारी से जूझ रहे 23 वर्षीय वाहन चालक को सूने घर में घुसकर चोरी का प्रयास करते रंगे हाथों गिरफ्तार किया। लेकिन बाद में उसकी दुखभरी कहानी सुनने के बाद उसके परिवार को राशन पहुंचाया।

सब इंस्पेक्टर कल्पना चौहान ने गुरुवार को बताया कि एरोड्रम थाना क्षेत्र के सूने घर में मंगलवार शाम एक व्यक्ति ताला तोड़कर घुस गया था, इसकी सूचना मिलने पर पुलिस जब मौके पर पहुंची, तो उसे दरवाजा अंदर से बंद मिला।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने कॉलोनी निवासियों की मौजूदगी में दरवाजा तोड़कर घर में प्रवेश किया। उन्होंने बताया कि घर का सामान बिखरा पड़ा था और अलमारी खुली हुई थी, तलाशी के दौरान घर में एक व्यक्ति छिपा मिला जिसकी पहचान रोहित (23) के रूप में हुई।

चौहान ने बताया कि पुलिस ने जब आरोपी से पूछा कि उसने चोरी का प्रयास क्यों किया, तो उसने कहा कि लॉकडाउन से पहले वह शहर में चार पहिया वाहन चलाता था। लेकिन लॉकडाउन लागू होने के बाद काम-धंधे ठप पड़ जाने के कारण वह पिछले दो महीने से बेरोजगारी से जूझ रहा है।

उन्होंने बताया कि आरोपी ने हमसे कहा कि उसकी माली हालत काफी खराब है और उसके परिवार को राशन की परेशानी हो रही है। इंदौर नगर निगम की ओर से एकाध बार उसके घर मुफ्त राशन पहुंचाया गया था। लेकिन राशन खत्म होने के बाद उसके परिवार को फिर इसकी किल्लत का सामना करना पड़ रहा है।

सब इंस्पेक्टर ने बताया कि पुलिस ने रोहित के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 380 (चोरी), 454 (घर में जबरन घुसना) और धारा 511(उम्रकैद या अन्य कारावास से दंडनीय अपराधों को अंजाम देने का प्रयास) के तहत मामला दर्ज किया है। गिरफ्तारी के बाद उसे बुधवार को एक स्थानीय अदालत में पेश किया, जिसने उसे 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत के तहत जेल भेज दिया है।
... और पढ़ें

चार लोगों के परिवार ने भोपाल से दिल्ली के लिए बुक किया पूरा विमान, चुकाई मोटी रकम

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के राजा भोज हवाई अड्डे से सोमवार को घरेलू उड़ानों का परिचालन शुरू हुआ। साथ ही चार्टर विमानों को भी परिचालन की अनुमति दी गई। इसके बाद से ही कोरोना वायरस से बचने के लिए उच्च आय वाले परिवार और लोग विमानों में अकेले यात्रा करने को तवज्जो दे रहे हैं। 

ऐसा ही एक मामला सामने आया, जब एक उच्च आय वाले परिवार ने चार सदस्यों की दिल्ली यात्रा के लिए एयरबस ए320 को पूरा बुक कर लिया। दिल्ली जाने वाले लोगों में पत्नी, दो बच्चे और उसके घर में काम करनेवाली एक महिला शामिल थी।


पश्चिम भारत स्थित कंपनी ने इस 180 सीटर विमान को किराये पर लिया था। उद्योग के अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि इस पूरी यात्रा की लागत लगभग 10 लाख रुपये हो सकती है। इस विमान ने सोमवार को दिल्ली से केवल क्रू मेंबर्स (सदस्य) के साथ सुबह 9.05 पर उड़ान भरी और 10.30 बजे भोपाल पहुंचा। इसके बाद चार यात्रियों को लेते हुए विमान ने भोपाल हवाई अड्डे से 11.30 बजे उड़ान भरी और 12.55 बजे यह दिल्ली पहुंचा। 

एयरलाइन के एक अधिकारी ने बताया कि यहां बहुत से उच्च आय वाले लोग और कंपनियां कोरोना वायरस के चलते भारी भीड़ से बचना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि चूंकि भारत में विमानन टरबाइन ईंधन (एटीएफ) की कीमत बहुत कम है, इस समय एयरलाइंस और चार्टर कंपनियां उचित दरों की पेशकश करने में सक्षम हैं। इस कारण वायरस से बचने के लिए एचएनआई/कॉरपोरेट्स को भुगतान करने में कोई आपत्ति नहीं है।  

एक ए320 को चार्टर करने में चार से पांच लाख रुपये घंटे का खर्च आता है। इस तरह दिल्ली-मुंबई के बीच चार्टर करने में 16 से 18 लाख रुपये का खर्च आएगा। वहीं, कीमतें एटीएफ की कीमत पर निर्भर करती है। 

चार्टर उद्योग के अंदरूनी सूत्रों ने बताया कि जिस दिन भारत में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर पाबंदी की घोषणा की जाने वाली थी, उससे एक दिन पहले एक तीन लोगों के परिवार ने यूरोप से भारत आने के लिए एक चार्टर विमान बुक किया था। उन्होंने बताया कि इस यात्रा का खर्च तकरीबन 80 लाख रुपये था। 
... और पढ़ें

मध्यप्रदेश के झाबुआ में पानी के ड्रमों पर क्यों ताला लगाने के लिए मजबूर हुए लोग, जानें वजह 

हम अपने घरों में ज्यादातर क्या चीजें ताला बंद करके रखते हैं? सोना, चांदी, हीरे, गहने पर क्या आपने पानी को ताला लगाने के बारे में सोचा है?  मगर मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले में इन दिनों लोग पानी पर भी ताला लगा रहे हैं। यहां लोगों को डर है कि कहीं कोई उनका पानी ना चुरा ले। 

मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले में इन दिनों लोग पानाी की भारी किल्लत का सामना कर रहे हैं। गर्मी बढ़ने के साथ-साथ यहां पानी की भारी कमी हो गई है। कई इलाकों में हैंडपंप सूख गए हैं। 
 


झाबुआ जिले के झोनसार गांव के लोगों को पानी के लिए काफी मश्क्कत करनी पड़ती है, लोग यहां तीन किलोमीटर दूर से पानी लेकर आते हैं। कोई बैलगाड़ी तो कई लोग सिर पर मटका रखकर दूर-दूर से पानी लेकर आ रहे हैं। स्थानीय लोगों से बताया कि पूरी पंचायत का यही हाल है। 

लोग पानी के ड्रमों में ताला मार रहे हैं। एक स्थानीय निवासी ने बताया कि ताला लगाने से पानी चोरी होने से बच जाता है। पूरी पंचायत में पानी की भारी किल्लत है। कई बार पानी चोरी भी हो जाता है। इसलिए ताला लगाना जरूरी है। 
 

पब्लिक हेल्थ इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट झाबुआ के एनएस भिडे़ ने बताया कि वहां पावर पंप और हैंडपंप लगा दिए गए हैं। हम जल जीवन मिशन के तहत और व्यवस्था करेंगे। गर्मियों में पानी का स्तर बहुत नीचे चला जाता है। इसलिए लोगों को समस्या होती है। अगर हैंडपंप काम नहीं कर रहे हैं तो हम उनकी मरम्मत करेंगे। 
... और पढ़ें

इंदौर में डॉक्टरों की उतारी गई आरती, कोरोना से जंग जीतने पर 90 साल के बुजुर्ग का सम्मान

मध्यप्रदेश के झाबुआ में पानी की किल्लत

मध्यप्रदेश: 25 से 26 बनेंगे नए मंत्री, दो दिन मंथन के बाद मंत्रिमंडल विस्तार पर लगी मुहर

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पहले मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर बुधवार को भी काफी माथापच्ची हुई। इसमें मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत मौजूद रहे। दो दिन की चर्चा के बाद यह तय हो गया है कि मंत्रिमंडल विस्तार में 25 से 26 चेेहरों को शामिल किया जाएगा।
इसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया गुट के बाकी पांच लोग (प्रभुराम चौधरी, इमरती देवी, महेंद्र सिंह सिसोदिया, प्रद्युम्न सिंह तोमर और राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव) तो कांग्रेस से भाजपा में आए चार नाम (बिसाहूलाल सिंह, एंदल सिंह कंसाना, रणवीर जाटव और हरदीप सिंह डंग) शामिल हैं। वहीं भाजपा से 15-16 लोगों को मौका मिल सकता है।


सत्ता और संगठन ने लगभग डेढ़ गुना नाम तय किए हैं जिनमें से दिल्ली बात करके मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले चेहरों को अंतिम रूप दिया जाएगा। बुधवार को सुवासरा (मंदसौर) सीट से विधायक रहे हरदीप सिंह डंग भी भाजपा कार्यालय पहुंचे और प्रदेश नेतृत्व और संगठन से बातचीत की। डंग भी कांग्रेस से भाजपा में आए हैं। वे कमलनाथ सरकार बनने के कुछ समय बाद से ही भाजपा के संपर्क में थे।

24 सीटों पर उपचुनाव
मंत्रिमंडल विस्तार के साथ ही भाजपा 24 सीटों पर होने वाले उपचुनाव की तैयारियों में जुट गई है। इसी बीच बुधवार को प्रभुराम चौधरी और पूर्व मंत्री गौरीशंकर शेजवार की मुलाकात हुई। पार्टी ने मंदसौर से सांसद सुधीर गुप्ता और जिलाध्यक्ष को भोपाल बुलाकर बातचीत की। संगठन ने हाटपिपल्या से विधायक रहे दीपक जोशी को बुलाया और जीत को लेकर जोड़-तोड़ पर चर्चा की।
... और पढ़ें

भाजपा ने सिंधिया का विरोध कर रहे पूर्व सांसद गुड्डू को पार्टी से निकाला

अनुशासनहीनता का आरोप लगाते हुए भाजपा ने पूर्व लोकसभा सांसद प्रेमचंद बौरासी "गुड्डू" को बुधवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया। गुड्डू पिछले कुछ दिनों से वरिष्ठ भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ लगातार तीखी बयानबाजी कर रहे हैं।

भाजपा ने उन्हें 19 मई को नोटिस जारी कर कहा था कि वह इंदौर जिले के सांवेर विधानसभा क्षेत्र के आगामी उपचुनाव की पृष्ठभूमि में प्रिंट मीडिया और सोशल मीडिया में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणियां कर रहे हैं और उनका यह कृत्य घोर अनुशासनहीनता की परिधि में आता है।

इस नोटिस के जवाब के लिए गुड्डू को सात दिन का वक्त दिया गया था। भाजपा की इंदौर जिला इकाई (ग्रामीण) के अध्यक्ष राजेश सोनकर ने बताया कि तय समयसीमा में नोटिस का जवाब नहीं दिये जाने पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने गुड्डू को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया है।

उधर, गुड्डू ने इस कदम को बेमानी बताते हुए दावा किया कि वह राज्य की कमलनाथ नीत कांग्रेस सरकार के पतन से काफी पहले ही भाजपा छोड़ चुके हैं। उन्होंने कहा कि मैं मध्यप्रदेश भाजपा अध्यक्ष को बाकायदा पत्र लिखकर स्पष्ट कर चुका हूं कि राज्य में (23 मार्च को) भाजपा की सरकार बनने से पहले ही मैं नौ फरवरी को इस पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे चुका हूं। अब भाजपा मुझे निष्कासित किये जाने की बात कहकर मेरा राजनीतिक चरित्र हनन का प्रयास कर रही है। मैं इसके खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करूंगा। 
 
... और पढ़ें

मध्यप्रदेश: साली की शादी में शामिल होने दिल्ली से आया जीजा निकला कोरोना संक्रमित

देश में हर रोज कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। सरकार की लोगों से सावधानी बरतने की अपील का भी फायदा होते हुए नजर नहीं आ रहा है। लोगों की लापरवाहियों के चलते भी मामलों की संख्या अधिक हो रही है। 

ऐसा ही लापरवाही का मामला मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा में सामने आया, जहां एक कोरोना पॉजिटिव मरीज के शामिल होने के बाद दूल्हा-दुल्हन समेत 105 लोगों को क्वारंटीन किया गया है। दरअसल, छिंदवाड़ा के रामबाग में एक शादी का आयोजन किया गया, जिसमें शामिल होने आया जीजा कोरोना संक्रमित था। 


शादी की रस्मों के दौरान ही पुलिस और प्रशासन की टीम वहां पहुंची और उन्होंने बताया कि दुल्हन का जीजा कोविड-19 से संक्रमित है तो शादी में हड़कंप मच गया। अधिकारियों ने तत्काल ही लोगों की सूची बनाई। जिसमें पंडित, हलवाई, टैंट वाले समेत दूल्हा-दुल्हन के परिजन समेत 105 लोगों को क्वारंटीन कर दिया। बताया जा रहा है कि जीजा दिल्ली से शादी में शामिल होने आया था। 
... और पढ़ें

मध्यप्रदेश के होशंगाबाद में तेंदुए ने सो रहे वनकर्मी पर किया हमला, मौत

मध्यप्रदेश के होशंगाबाद जिले में सतपुड़ा बाघ अभयारण्य (एसटीआर) की मटकुली रेंज में मंगलवार-बुधवार की रात एक तेंदुए ने सोते हुए वनकर्मी पर हमला कर दिया जिससे उसकी मौत हो गई। 

एसटीआर के उप निदेशक अनिल शुक्ला ने बुधवार को बताया कि यह घटना जिला मुख्यालय से लगभग 70 किलोमीटर दूर मटकुली रेंज की कुकरा बैरियर पर मंगलवार-बुधवार की रात हुई। 

वन विभाग का दैनिक वेतनभोगी कर्मचारी धन्नालाल मर्सकोले कुकरा नाके पर दो अन्य श्रमिकों के साथ सो रहा था तभी तेंदुए ने मर्सकोले पर हमला कर दिया।

शुक्ला ने बताया कि हमले में मर्सकोले गंभीर रुप से घायल हो गया और बाद में उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हमले के दौरान वहीं सो रहे दो अन्य श्रमिकों ने जब  शोर मचाया तो तेंदुआ वहां से भाग निकला।

एसटीआर अधिकारी ने बताया कि मृतक के परिवार को तत्काल 25,000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की गई है और जल्द ही उन्हें चार लाख रुपए और दिए जाएंगे।
... और पढ़ें

मध्यप्रदेश: केंद्रीय मंत्री तोमर के सामने ही सामाजिक दूरी के नियमों की उड़ीं धज्जियां

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से लड़ने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार सामाजिक दूरी का पालन करने की अपील कर रहे हैं। लेकिन पीएम की इस अपील अवहेलना की खूब हो रही है। ऐसा ही एक मामला मंगलवार को मध्यप्रदेश के श्योपुर जिले में सामने आया, जहां केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के सामने ही सामाजिक दूरी का नियम तार-तार होता दिखा। 

श्योपुर दौरे पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री तोमर के रेस्ट हाउस में भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ ही बड़ी संख्या में लोग अपनी समस्याओं को लेकर पहुंच गए। ऐसा नहीं है कि यह इकलौता मामला ही रहा जहां सामाजिक दूरी के नियमों का पालन नहीं किया गया। इसके बाद कलेक्ट्रेट में बैठक के दौरान भी बाहर बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ इकट्ठा हुई। 
 


दरअसल, तोमर निषादराज भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने गए थे, जहां कोरोना योद्धाओं को सम्मानित किया गया। उन्होंने कार्यक्रम के बाद जिले में कोरोना से निपटने की स्थितियों की समीक्षा भी की। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन