विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

मध्य प्रदेश

रविवार, 5 अप्रैल 2020

मध्यप्रदेश: महंगाई भत्ता देने के फैसले पर शिवराज ने लगाई रोक, कमलनाथ भड़के 

मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को महंगाई भत्ता देने के कमलनाथ सरकार के फैसले पर रोक लगा दी है। कमलनाथ सरकार ने सरकार गिरने से पहले 16 मार्च को ये फैसला लिया था। कमलनाथ ने 20 मार्च को सीएम पद से इस्तीफा दे दिया था।  
 
महंगाई भत्ता बढ़ाने का ये फैसला एक जुलाई से लागू होना था लेकिन शिवराज सरकार ने इसे रोकने का फैसला किया है। पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार ने 16 मार्च को कर्मचारियों का महंगाई भत्ता पांच फीसदी बढ़ाने का फैसला लेते हुए इसे सातवें वेतनमान आयोग के मुताबिक 17 फीसदी तक पहुंचााया था। 

शिवराज सरकार के इस फैसले की कमलनाथ ने आलोचना की है। उन्होंने कहा कि अगर भाजपा सरकार ने ये तानाशाहीपूर्ण फैसला वापस नहीं लिया तो कांग्रेस विरोध प्रदर्शन करेगी।  
 
उन्होंने ट्वीट कर कहा- महंगाई भत्ता बढ़ाने का फैसला एक ऐतिहासिक फैसला था जिसका लाखों कर्मचारियों ने स्वागत किया था। लेकिन शिवराज सरकार ने इस पर रोक लगा दी। 
  
हालांकि, भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कि ये एक उचित फैसला है और शिवराज सरकार की प्राथमिकता कोरोना वायरस से लड़ने की है।  
 
... और पढ़ें

इंदौर: कोरोना के खिलाफ जागरूकता फैलाने के लिए पुलिस ले रही 'भूतों' की मदद

भारत में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। देश के कई शहर कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट बन चुके है। वही, देश में कोविड-19 के प्रकोप से सबसे ज्यादा प्रभावित शहरों में शामिल इंदौर में इस महामारी के खतरों के प्रति लोगों को आगाह करने के लिए पुलिस 'भूतों' की मदद भी ले रही है। 

दरअसल, विजय नगर पुलिस ने स्वयंसेवकों का दल तैयार किया है जो भूत के हुलिए में खासकर झुग्गी बस्तियों में पहुंचते हैं और लोगों को इस महामारी के खिलाफ जागरुक करते हैं। पुलिस की इस अनोखी मुहिम के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। डरावने मुखौटों वाले ये 'भूत' अस्थि पिंजर के चित्र वाली खास पोशाक पहने नजर आते हैं।

विजय नगर पुलिस थाने के प्रभारी तहजीब काजी ने शुक्रवार को पीटीआई को बताया कि हमने छह स्वयंसेवकों का खास दल तैयार किया है जो तीन अलग-अलग पालियों में भूत के हुलिए में खासकर उन झुग्गी बस्तियो में पहुंचते हैं जहां लोगों में कोविड-19 के खिलाफ जागरुकता की कमी है। 

उन्होंने बताया कि जो लोग शहर में कर्फ्यू लगा होने के बावजूद घर से बाहर देखे जाते हैं, उन्हें भूत के हुलिए वाले हमारे स्वयंसेवक अपने डरावने अभिनय से आगाह करते हैं कि अगर वे बगैर किसी वजह के बाहर घूमेंगे तो कोरोना का भूत उन्हें अपनी गिरफ्त में ले लेगा। ये स्वयंसेवक लोगों को बताते हैं कि कोविड-19 से बचने के लिए सामाजिक दूरी बनाना कितना जरूरी है। 




बता दें मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। सबसे ज्यादा मामले इंदौर में सामने आए हैं। गुरुवार को इंदौर में 14 और छिंदवाड़ा में एक कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने की पुष्टि की गई है। इसके साथ ही अब इंदौर में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 89 हो गई है।

आईएएस अधिकारी की पहली जांच रिपोर्ट पॉजिटिव, दूसरी का इंतजार
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के एक अधिकारी की कोविड-19 के लिए की गई जांच की शुक्रवार को पहली रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। हालांकि, दूसरी रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है। 

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एक आईएएस अधिकारी की कोरोना वायरस के लिए की गई जांच की पहली रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। लेकिन हम उनकी दूसरी जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह 2011 बैच के आईएएस अधिकारी हैं और स्वास्थ्य विभाग में तैनात हैं।

उन्होंने मध्य प्रदेश के बाहर भी यात्राएं की हैं और जब उनमें कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई देने लगे, तब कोविड-19 की जांच के लिए उनके नमूने भेजे गए।

शासकीय महात्मा गांधी स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय के एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि 14 नए मरीजों में तीन महिलाएं और 11 पुरुष हैं। इन मरीजों की उम्र 19 से 60 साल के बीच है। अधिकारी ने बताया कि पिछले नौ दिन में इलाज के दौरान कोरोना वायरस संक्रमित इंदौर के पांच मरीजों की मौत हो चुकी है।
... और पढ़ें

कोरोना: भोपाल में आईएएस अधिकारी की पहली जांच रिपोर्ट पॉजिटिव, इंदौर में 89 मरीज

मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। सबसे ज्यादा मामले इंदौर में सामने आए हैं। गुरुवार को इंदौर में 14 और छिंदवाड़ा में एक कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने की पुष्टि की गई है। इसके साथ ही अब इंदौर में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 89 हो गई है।

आईएएस अधिकारी की पहली जांच रिपोर्ट पॉजिटिव, दूसरी का इंतजार
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के एक अधिकारी की कोविड-19 के लिए की गई जांच की शुक्रवार को पहली रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। हालांकि, दूसरी रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है। 

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एक आईएएस अधिकारी की कोरोना वायरस के लिए की गई जांच की पहली रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। लेकिन हम उनकी दूसरी जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह 2011 बैच के आईएएस अधिकारी हैं और स्वास्थ्य विभाग में तैनात हैं।

उन्होंने मध्य प्रदेश के बाहर भी यात्राएं की हैं और जब उनमें कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई देने लगे, तब कोविड-19 की जांच के लिए उनके नमूने भेजे गए।

शासकीय महात्मा गांधी स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय के एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि 14 नए मरीजों में तीन महिलाएं और 11 पुरुष हैं। इन मरीजों की उम्र 19 से 60 साल के बीच है। अधिकारी ने बताया कि पिछले नौ दिन में इलाज के दौरान कोरोना वायरस संक्रमित इंदौर के पांच मरीजों की मौत हो चुकी है।
 

इंदौर, देश में कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे ज्यादा प्रभावित शहरों में शामिल है। इस महामारी के मरीज मिलने के बाद से प्रशासन ने 25 मार्च से यहां शहरी सीमा में कर्फ्यू लगा रखा है।

हालांकि, राज्य लेबोरेटरी द्वारा कोरोना मरीजों की जांच रिपोर्ट सुकून देने वाली नजर आ रही है। आज की रिपोर्ट में कुल 74 जांचों में मात्र सात ही पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इससे उम्मीद बंधी है कि आने वाले दिनोंं में इंदौर में कोरोना का प्रभाव धीरे-धीरे कम होगा।   

छिंदवाड़ा में एक मरीज मिला
वहीं, छिंदवाड़ा जिला प्रशासन की ओर से एक 36 वर्षीय व्यक्ति के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि की गई है। इस शख्स के संपर्क में आए लोगों का भी पता लगाया जा रहा है।

इंदौर में मिले मरीजों के संबंध में बताया गया है कि स्थानीय प्रशासन की टीम ने सभी मरीजों को इलाज के लिए अरबिंदो अस्पताल में भर्ती कराया है। जानकारी के अनुसार, गुरुवार को इंदौर में 8 और नए कोरोना पॉजिटिव मिले, जिन्हें तुरंत ही स्थानीय प्रशासन ने अरबिंदो अस्पताल में भर्ती कराया। इस संबंध में एसडीएम अंशुल खरे के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने असरावद खुर्द में बनाए गए नए छात्रावास में इन सभी की जांच की थी।

अरबिंदो अस्पताल में अभी तक कुल 50 कोरोना पॉजिटिव मरीज भर्ती किए गए हैं। इंदौर में बढ़ती कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या को लेकर प्रशासन के साथ‑साथ आम लोग भी चिंतित हैं।  

... और पढ़ें

अंतरराष्ट्रीय कलाकार पेमा फत्या का निधन, देश के बड़े कलाकारों में होती थी गिनती

पेमा फत्या पेमा फत्या

मध्यप्रदेश: भोपाल का चार इमली और शिवाजी नगर घोषित हुआ कंटेनमेंट एरिया

भारत में लगातार कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं। इस वायरस ने महाराष्ट्र और केरल को सबसे ज्यादा प्रभावित किया है। वहीं मध्यप्रदेश में भी संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। इसी बीच भोपाल के चार इमली, जहांगीराबाद क्षेत्र, टीटी नगर पुलिस आवास क्षेत्र, शिवाजी नगर और इन्द्र कॉलोनी बाग, उमराव दूल्हा क्षेत्र के आस पास के एक किलोमीटर क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित कर दिया गया है।

इसका मतलब यह है कि इन इलाकों में रहने वाले 10 हजार से ज्यादा परिवारों के घरों का सर्वे किया जाएगा। यह फैसला स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव डॉक्टर पल्लवी जैन गौविल, शिवाजी नगर निवासी और स्वास्थ्य विभाग की अपर संचालक डॉक्टर वीणा सिन्हा और करोंद सब्जी मंडी के थोक व्यापारी अब्दुल गफ्फार की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद लिया गया है।

अब इन लोगों के संपर्क में आने वाले लोगों को क्वारंटाइन (एकांतवास) किया जाएगा। संक्रमितों के सीधे संपर्क में आने वाले लोगों के सैंपल (नमूने) परीक्षण के लिए इकट्ठा किए जाएंगे। जिलाधिकारी तरुण पिथोड़े ने कहा कि पॉजिटिव मरीज के आसपास के 50-50 घरों में रहने वाले लोगों की स्क्रीनिंग की जाएगी। इसके अलावा बाकी के घरों का सर्वे किया जाएगा।

डॉक्टर पुरोहित ने खुद को किया क्वारंटाइन
कोलार स्थित सिग्नेचर रेसिडेंसी के निवासी और स्वास्थ्य विभाग के उप निदेशक डॉक्टर सौरभ पुरोहित भी कोरोना पॉजिटिव हैं। सतपुड़ा भवन में पदस्थ डॉक्टर पुरोहित ने खुद को घर में क्वारंटाइन (एकांतवास) कर लिया है।

मध्यप्रदेश में तीन नए मामले
मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के सेंधवा में तीन कोरोना संक्रमित नए मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य अधिकारी के मुताबिक यह सभी उस 90 वर्षीय व्यक्ति के रिश्तेदार हैं जो सऊदी अरब से लौटे थे और जिनकी मौत हो गई थी।

देशभर में संक्रमित मरीजों की संख्या 3374 हुई
देश में पिछले 12 घंटे में 302 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 3374 हो गई है। इनमें 3030 सक्रिय मामले हैं, 267 लोग स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। वहीं, अब तक कोरोना वायरस से 77 लोगों की मौत हो चुकी है। यह आंकड़े केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी किए हैं।

... और पढ़ें

कश्मीरः बांदीपोरा में सेना के जवान ने खुद को मारी गोली, मौत

उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा जिले में रविवार को सेना के एक जवान ने अपनी सर्विस राइफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। सूत्रों के मुताबिक मूल रूप से मध्यप्रदेश के मुरैना निवासी सिपाही सतेंद्र कुमार तोमर ने खुद को गोली मार ली।

घटना के वक्त वह बांदीपोरा में 14 आरआर कैंप में ड्यूटी पर थे। फायरिंग की आवाज सुनते ही साथी जवान उनकी ओर दौड़े। मौके पर पहुंचे जवानों ने उन्हें खून से लथपथ पाया। इसके बाद उन्हें सेना के अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

एक पुलिस अधिकारी ने उक्त घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि इस संबंध में मामला दर्ज किया गया है और आगे की जांच की जा रही है। अधिकारी ने कहा कि यह पता लगाया जा रहा है कि जवान ने ऐसा कदम क्यों उठाया।
... और पढ़ें

मध्यप्रदेश के नाहरू खान ने बनाई स्वचालित सफाई मशीन

कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में हर कोई अपने तरीके से सहयोग कर रहा है। अब इस कड़ी में मध्यप्रदेश के नाहरू खान नाम जुड़ा है। जिन्होंने सफाई (सैनिटाइजिंग) के लिए एक स्वचालित मशीन विकसित की है। मंदसौर के रहने वाले 62 वर्षीय नाहरू खान ने इस मशीन को जिला के इंदिरा गांधी अस्पताल में सहयोग के रूप मे दिया है। नाहरू ने बताया कि उन्होंने इसे यूट्यूब से देखकर बनाया है और इस मशीन को बनाने में 48 घंटे का समय लगा। उनका कहना है कि इस मशीन से कई लोगों को लाभ मिलेगा।
 

मध्यप्रदेश में लगातार कोराना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। इंदौर में कोरोना वायरस संक्रमण के 16 नए मामले सामने आए हैं। जिसमें से 10 मामले टाटपट्टी बाखल से हैं। यह वही इलाका है जहां एक अप्रैल को सर्वे के दौरान स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों पर हमला और पथराव किया गया था। इसके साथ ही राज्य में पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 128 हो गई है। 
... और पढ़ें

मध्य प्रदेश बोर्ड: 10वीं-12वीं कक्षा के छात्रों के लिए बड़ी खबर, मुख्य विषयों की होंगी परीक्षाएं

मध्यप्रदेश के नाहरू खान
कोरोना वायरस से बचाव के लिए मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं को पहले ही स्थगित कर दिया था। ये परीक्षाएं 20 मार्च से लेकर 31 मार्च तक होने वाली थीं। इसके अलावा बोर्ड ने 21 मार्च से होने वाली उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन को भी 31 मार्च तक टाल दिया था। लॉकाडउन के चलते इस तिथि को और आगे बढ़ा दिया।  

अब जानकारी मिली है कि माध्यमिक शिक्षा मंडल जो 10वीं-12वीं परीक्षाओं का संचालन करती है, राज्य की स्थिति  को देखते हुए इन कक्षाओं के लिए केवल मुख्य विषयों की परीक्षाओं का आयोजन करेगी। ये जानकारी मंडल के सचिव ने आदेश जारी करके दी है।

शनिवार को जारी हुए आदेश में कहा गया है कि मंडल केवल उन विषयों की परीक्षा आयोजित करेगा जो उच्च शैक्षणिक संस्थाओं में प्रवेश के लिए आवश्यक हैं। बता दें कि मंडल, आयोजित होने वाली मुख्य परीक्षाओं के लिए मूल्यांकन और अंक योजना अलग से तय करेगा। ध्यान दें कि अब परीक्षाएं 11 अप्रैल तक स्थगित की गई हैं।
  • 12वीं कक्षा में संबंधित संकाय के विषय मुख्य होते हैं लेकिन भाषा के दो पेपर होते हैं- एक विशिष्ट और एक सामान्य।
  • इसके अलावा तीन विषय संकाय के होते हैं। उदहारण के रूप में किसी विद्यार्थी ने बायोलॉजी विषय लिया तो उस विद्यार्थी के मुख्य विषय फिजिक्स, कैमिस्ट्री और बायोलॉजी होंगे।
  • यदि कोई गणित  विषय चुनता है तो उसके मुख्य विषय भौतिक, रसायनिक और गणित विषय मुख्य होंगे। 
  • वहीं वाणिज्य लेने वाले बिजनेस स्टडी, व्यावहारिक अर्थशास्त्र और अकाउंटेंसी मुख्य विषय होंगे। 
  • कला यानी आर्टस वालों के लिए इतिहास, भूगाेल और राजनीति शास्त्र मुख्य विषय होंगे। 
... और पढ़ें

इंदौर के जिस इलाके में स्वास्थ्य कर्मियों पर हुआ था हमला, वहां मिले कोरोना के 10 मरीज

मध्यप्रदेश के इंदौर में कोरोना वायरस संक्रमण के 16 नए मामले सामने आए हैं। जिसमें से 10 मामले टाटपट्टी बाखल से हैं। यह वही इलाका है जहां एक अप्रैल को सर्वे के दौरान स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों पर हमला और पथराव किया गया था। इसके साथ ही राज्य में पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 128 हो गई है। 

इससे पहले शनिवार सुबह हाथीपाला क्षेत्र निवासी 42 साल के कोरोना मरीज की मौत हो गई। वहीं तीन दिन पहले चंदन नगर निवासी 80 साल की बुजुर्ग महिला की मौत हो गई थी लेकिन अधिकारियों ने इसकी जानकारी छुपा ली थी। शुक्रवार रात को 54 साल के एक मरीज की जान चली गई थी उनकी शनिवार को रिपोर्ट आई थी।

टाटपट्टी बाखल में 10 लोग कोरोना संक्रमित
टाटपट्टी बाखल में 29, 30, 35 साल के चार युवक, 30 साल की युवती, 45, 55 और 60 साल की महिलाएं, 38 और 55 साल के पुरुष कोरोना संक्रमित हैं। इसके अलावा जूना रिसाला की 40 साल की महिला, ग्रीन पार्क कॉलोनी के 66 साल के बुजुर्ग, खजराना के 54 साल के पुरुष और नयापुरा के 50 साल के पुरुष की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। दो अन्य मरीज खरगोन से हैं। इसके अलावा शुक्रवार रात उषागंज के एक बुजुर्ग की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद वहां रहने वाले 34 लोगों को शनिवार को क्वारंटीन (एकांतवास) किया गया है।

भड़काऊ वीडियो भेजने वाले चार लोगों पर मामला दर्ज
कोरोना को लेकर आइसोलेशन सेंटर से भ्रामक और भड़काऊ वीडियो वायरल करने वाले एक ही परिवार के चार लोगों पर पुलिस ने मामला दर्ज किया गया है। आरोपियों के नाम सद्दाम मुल्तानी, अब्दुल गफ्फार मुल्तानी, मोहम्मद शाकिब, आफताब मुल्तानी हैं। सभी खजराना के रहने वाले हैं। पुलिस के अनुसार इन्होंने आइसोलेशन सेंटर में सामाजिक दूरी का उल्लंघन किया और लोगों को मेडिकल की भ्रामक जानकारी देकर भड़काने की कोशिश की। स्वस्थ होने के बाद इन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।

अस्पताल से लिफ्ट लेकर घर पहुंची संक्रमित युवती
सांवेर रोड स्थित मेडिकल कॉलेज में भर्ती कोरोना संक्रमित युवती बुधवार रात को अस्पताल से सीधे घर चली गई और किसी को इसकी जानकारी नहीं हुई। स्वास्थ्य विभाग का अमला देर रात युवती को ढूंढने उसके घर पहुंचा। पूछने पर पता चला कि वह किसी से लिफ्ट लेकर घर पहुंची थी। अब उसे लिफ्ट देने वाले व्यक्ति की तलाश की जा रही है। जानकारी के अनुसार बुधवार रात को आजाद नगर निवासी 24 साल की युवती अस्पताल से घर चली गई थी।
... और पढ़ें

कोरोना से प्रभावित लोगों के लिए हो रही ग्लोबल ऑनलाइन प्रार्थना, इंदौर बना केंद्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंगल कामना प्रार्थना करने के आह्वान को ध्यान में रखते हुए देशभर में रोजाना रात 8.30 सामूहिक प्रार्थना हो रही है। इस प्रार्थना में भारत के अलग-अलग राज्यो के साथ कई देश भी हिस्सा ले रहे हैं। यह प्रार्थना ऑनलाइन है जोकि जूम प्लेटफार्म पर हो रही है और यह पूर्णत निशुल्क है।

प्रार्थना सभा में सभी धर्मों के लोग अपनी-अपनी भाषा में पूजा, दुआ, अरदास और प्रार्थना एक साथ अपने देश के ध्वज के साथ कर रहे हैं। प्रार्थना में  इंदौर के अंतरराष्ट्रीय आध्यात्मिक हीलर कृष्णा गुरुजी सूत्रधार रहते हैं। उन्होंने बताया इस प्रकार की ग्लोबल प्रेयर को मैं चार सालों से अधिक हर शनिवार ऑनलाइन करता हू्ं। 

उन्होंने कहा कि कोई भी बीमारी को ठीक होने में दवा और दुआ लगती है, दवा का काम डॉक्टर कर रहे हैं जबकि दुआ का काम हम कोरोना वायरस से ग्रस्त लोगों के लिए प्रार्थना और कोरोना का कहर कम करना हमारा प्रार्थना सभा का मुख उद्देश्य रहता है।

उन्होंने आगे कहा कि अलग-अलग देशों के नागरिकों की व्यथा सभी को और सावधानी बरतने में सहायक होती है। कृष्णा गुरुजी शहर के एक दिव्यांग हैं।और सरकारी नॉकरी में हैं। इस कार्य वो एक सेवा मानकर सालों से कर रहे हैं। प्रार्थना सभा में कोई भी इंटरनेट के सहारे भाग ले सकता है।
... और पढ़ें

कोरोना: घर के बाहर दूर बैठकर खाना खाते इस पुलिस कर्मी की तस्वीर हो रही वायरल

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच कुछ अच्छी खबरें भी आ रही हैं। डॉक्टरों और नर्सों के अलावा पुलिस विभाग के कर्मचारी भी अपनी ड्यूटी मुस्तैदी से निभा रहे हैं। ऐसे ही इंदौर के एक पुलिसकर्मी की तस्वीर फिलहाल सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।
 


ये हैं इंदौर के तुकोगंज थाने के टीआई निर्मल श्रीवास। वायरल हो रही तस्वीर में साफ देखा जा सकता है कि उनकी बेटी घर की देहरी पर दरवाजे के पास खड़ी है। जबकि टीआई निर्मल श्रीवास घर के बाहर दूर बैठकर खाना खाते दिखाई दे रहे हैं। वह वहीं बैठकर अपनी बेटी की ओर निहार रहे हैं।

श्रीवास की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। लोग उनकी काफी तारीफ कर रहे हैं। सिर्फ यही नहीं उत्तर प्रदेश में अयोध्या के एसएसपी आशीष तिवारी ने भी श्रीवास की फोटो को ट्वीटर पर शेयर किया है।

बता दें कि इससे पहले भोपाल से ऐसी ही तस्वीर सामने आई थी। जिसमें कोरोना के मरीजों के इलाज में लगे एक डॉक्टर घर के बाहर चाय पीते नजर आए थे। उनकी तस्वीर भी काफी वायरल हुई थी।
... और पढ़ें

#ladengecoronase: आर्ट ऑफ लिविंग-आईएएचवी ने प्रवासी मजदूरों और जरूरतमंदों तक पहुंचाई राहत सामग्री

मध्यप्रदेश में आर्ट ऑफ लिविंग के स्वयं सेवकों ने आईएएचवी के साथ मिलकर लाखों प्रवासी मजदूरों, परिवारों और जरूरतमंदों को 500 टन आवश्यक राहत सामग्री पहुंचाई। संस्थान ने हैदराबाद में भी एक अस्पताल की व्यवस्था की है। इसमें तनाव और चिंता को दूर करने संबंधी परामर्श के लिए एक ऑनलाइन हेल्पलाइन भी जारी की गई है।

लगातार प्रयासों के चलते आर्ट ऑफ लिविंग के स्वयं सेवकों ने अपने सहयोगी संस्थान इंटरनेशनल एसोसिएशन फॉर ह्यूमन वैल्यूज के साथ मिलकर देश के सभी कोनों महाराष्ट्र, कर्नाटक, पंजाब, मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, दिल्ली और जम्मू राज्य शामिल हैं में लगातार बिना थके हुए राहत सामग्री पहुंचा रहे हैं।

स्वयं सेवकों ने देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे एक लाख से अधिक दैनिक श्रमिकों और प्रवासी मजदूरों को राहत सामग्री पहुंचाई है। आर्ट ऑफ लिविंग / आईएएचवी ने इस अभियान में फिल्म और टीवी के सहयोगियों को शामिल करते हुए देशभर में लाखों परिवारों को 10 दिन का राशन वितरित किया। 500 टन राहत सामग्री का वितरण देश के विभिन्न हिस्सों में किया गया जिसमें भोज्य पदार्थ, दवाइयां और प्रक्षालक ( सैनिटाइजर ) शामिल हैं।
... और पढ़ें

Corona in MP: भोपाल में महिला आईएएस अधिकारी भी संक्रमित, इंदौर-छिंदवाड़ा में दो मौतें

मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। प्रदेश में दो लोगों की मौत हुई है। छिंदवाड़ा में 36 साल के सरकारी कर्मचारी और इंदौर में 42 साल के व्यक्ति की कोरोना वायरस से मौत हो गई है। इसके साथ ही राज्य में मृतकों की संख्या बढ़कर 11 हो गई है। राज्य में अब कुल कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या 164 पर पहुंच गई है। आज खरगोन में भी दो संक्रमित मिले। 



स्वास्थ्य विभाग की दो शीर्ष महिला अधिकारी संक्रमित

शनिवार को स्वास्थ्य विभाग की दो शीर्ष महिला अधिकारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गईं। इनमें से एक आईएएस अधिकारी हैं। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि दोनों महिला अधिकारी भोपाल में पदस्थ हैं। इससे पहले गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग से जुड़े एक अन्य आईएएस अधिकारी में भी कोरोना वायरस के संक्रमण के पुष्टि हुई थी।
भोपाल में अब तक 17 लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है।

पिता भी हैं कोरोना पॉजिटिव

छिंदवाड़ा जिले में कोविड-19 से पहली मौत हुई। इस शख्स के पिता की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। अतिरिक्त जिलाधिकारी (एडीएम) राजेश बाथम ने कहा, 'पीड़ित सरकारी कर्मचारी थे और उनकी तैनाती इंदौर में थी। जो मध्यप्रदेश में कोविड-19 के हॉटस्पॉट के रूप में उभरा है। उनके पिता की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्हें जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है।'
 


इंदौर में 42 साल के संक्रमित की मौत
अधिकारी ने बताया कि इंदौर में 42 साल के कोरोना संक्रमित की मौत हो गई है। इसके साथ राज्य में कोविड-19 की वजह से मरने वालों की संख्या 11 पर पहुंच गई है। शासकीय महात्मा गांधी स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि शहर के नार्थ हाथीपाला क्षेत्र में रहने वाले 42 वर्षीय पुरुष की कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण शनिवार सुबह मनोरमा राजे टीबी (एमआरटीबी) चिकित्सालय में मौत हो गई। अधिकारी ने बताया कि मरीज को पिछले तीन दिन से सांस लेने में परेशानी हो रही थी और वह खांसी एवं बुखार से भी पीड़ित था। वह उच्च रक्तचाप और मोटापे से भी पीड़ित था।



भोपाल में 14 मामले सामने आए   
भोपाल के मुख्य चिकित्सा अधिकारी सुधीर देहरिया ने कहा कि यहां अबतक 14 लोग कोरोना संक्रमित हैं। इनमें से चार लोग दिल्ली से लौटे तब्लीगी जमात के हैं। एक पुलिस कांस्टेबल भी इसकी चपेट में आया है। इनके संपर्क में आए लोगों की पहचान की जा रही है।  
  इंदौर के कलेक्टर मनीष सिंह ने जारी किए दो आदेश  
  • 5 अप्रैल को रात 9 बजे घर पर ही दीये जलाना है, घर के बाहर या सड़कों पर न निकलें। यदि कोई बाहर मिलता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 
  • कोरोना से युद्ध में जुटे सरकारी कर्मचारियों को किराए के लिए परेशान न करें मकान मालिक, ड्यूटी से लौटने पर घरों में प्रवेश पर भी न लगाएं पाबंदी। 
इंदौर में छह, उज्जैन में दो की मौत
एक अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से इंदौर में छह, उज्जैन में दो और खरगौन में एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है।

आलीराजपुर जिले में पिता-पुत्र की मौत की खबर 
वहीं, खबरों के मुताबिक, आलीराजपुर जिले के उदयगढ़ कस्बे में सात घंटे के भीतर पुत्र व पिता की मौत हुई है। इससे प्रशासन व स्वास्थ्य अमले में हड़कंप मच गया। कलेक्टर ने अंतिम संस्कार रुकवा कर पिता-पुत्र दोनों के शव से सैंपल लिए, आसपास के ग्रामीणों की भी जांच की गई। ग्रामीणजन कोरोना की आशंका से सहमे हुए हैं। हालांकि, सीएमएचओ ने कहा कि दोनों की मौत को कोरोना से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। 

खरगोन जिले में कोरोना वायरस के दो नए मामले मिले
मध्यप्रदेश के खरगोन जिले में शनिवार को कोरोना वायरस के दो नए मामले सामने आए। इनमें से एक फ्रांस में मेडिकल की पढ़ाई करने वाला विद्यार्थी और दूसरा 49 वर्षीय एक अन्य व्यक्ति है जिसने दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात के कार्यक्रम में हिस्सा लिया था। जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) रजनी डाबर ने बताया कि शनिवार को प्राप्त रिपोर्ट में दो लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। इनमें शहर के शंकर नगर में रहने वाला 49 वर्षीय व्यक्ति शामिल है जो हाल ही में निजामुद्दीन मरकज में तब्लीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल होकर 19 मार्च को खरगोन वापस लौटा था। इससे पहले यह व्यक्ति दक्षिण अफ्रीका भी गया था और वहां से दिल्ली लौटकर मरकज के कार्यक्रम में शामिल हुआ था।

मध्यप्रदेश के मुरैना में दस नए मामले
मध्यप्रदेश के मुरैना में दस नए संक्रमित पाए गए हैं। कलेक्टर प्रियंका दास ने बताया कि सभी संक्रमित दुबई से लौटे संक्रमित युगल के रिश्तेदार हैं। हालांकि, परिवार के 18 सदस्यों के रिपोर्ट नेगेटिव आए हैं।
 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन