लॉकडाउन में काम हुआ बंद तो घर लौट आया प्रवासी श्रमिक, तालाब किनारे पेड़ से लटकी मिली लाश

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जालौन Updated Fri, 19 Jun 2020 01:35 PM IST
विज्ञापन
रोते बिलखते मृतक के परिजन
रोते बिलखते मृतक के परिजन - फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
जालौन के माधौगढ़ में शुक्रवार को सदिंग्ध परिस्थितियों में प्रवासी मजदूर ने तालाब के पास आम के पेड़ से रस्सी बांधकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मजदूर के मौत की खबर से घर में कोहराम मच गया।
विज्ञापन

कोतवाली थाना क्षेत्र के गांव डिकौली में कल्लू दोहरे (33) पुत्र स्व खेमराज ने गुरूवार रात घर से मात्र पचास मीटर दूरी पर तालाब के किनारे आम के पेड़ से रस्सी बांधकर आत्महत्या कर ली। सुबह ग्रामीण खेत की ओर जा रहे थे तभी पेड़ पर लटके युवक को देख कर दंग रह गए।
ग्रामीणों ने परिजनों और पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक की पत्नी हेमलता, पुत्री स्वीती का रो-रो कर बुरा हाल है। मृतक की पत्नी हेमलता का कहना है कि अहमदाबाद में गोलगप्पे (पानी के बतासे) का धंधा करते थे। लॉकडाउन में काम बंद हुआ तो 13 मई को घर लौटे थे। गांव में मनरेगा मजदूरी करने जाते थे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us