ओडिशा में पिनाका रॉकेट का सफलतापूर्वक परीक्षण, पहले इसकी मारक क्षमता सिर्फ 40 किलोमीटर थी

Avdhesh Kumarअवधेश कुमार Updated Wed, 30 May 2018 05:38 PM IST
विज्ञापन
पिनाका रॉकेट
पिनाका रॉकेट

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
ओडिशा के चांदीपुर में बुधवार को पिनाका रॉकेट के उन्नत संस्करण का सफल परीक्षण किया गया। दिशानिर्देशन प्रणाली वाले इस रॉकेट (गाइडेड) की मारक क्षमता बढ़ाई गई है। यह परीक्षण प्रूफ एंड एक्सपेरीमेंट एस्टैब्लिशमेंट से किया गया।
विज्ञापन


रक्षा सूत्रों ने बुधवार को कहा, 'दो दौर के परीक्षण किए गए हैं। कुछ और दौर का परीक्षण किए जाने की योजना है। सूत्रों के अनुसार पहले के पिनाका में दिशानिर्देशन प्रणाली नहीं थी, उसे अब अपग्रेड कर दिशानिर्देशन प्रणाली से लैस किया गया है। इस सिलसिले में हैदराबाद रिसर्च सेंटर इमारत (आरसीआई) ने नौवहन, दिशानिर्देशन एवं नियंत्रण किट विकसित किया था। 


आरसीआई रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के अंतर्गत आता है। डीआरडीओ के सूत्र के अनुसार इस बदलाव से पिनाका की मारक क्षमता और सटीकता बढ़ गयी है। पहले उसकी मारक क्षमता 40 किलोमीटर थी जो अब 70 किलोमीटर हो गयी है।

सूत्र ने कहा, '' चांदीपुर के रक्षा क्षेत्र में रडार, इलेक्ट्रो ऑप्टिकल सिस्टम, टेलीमेट्री सिस्टम ने रॉकेट की उसके पूरे मार्ग में निगरानी की। गाइडेड संस्करण पिनाक मार्क- ।। है जो पिनाक मार्क- । से विकसित हुआ है। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X