क्या आपको खरीदनी चाहिए टर्बो पेट्रोल इंजन वाली कार या SUV, ये है बड़ी वजह

ऑटो डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Sat, 11 Apr 2020 09:05 PM IST
विज्ञापन
Turbocharged petrol Engine
Turbocharged petrol Engine - फोटो : Amar Ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

सार

  • कंपनियों को पसंद आ रहा है ‘छोटा है तो दमदार है’ का स्लोगन
  • 1.0 से 1.5 लीटर की रेंज में बना रही हैं छोटे टर्बो पेट्रोल इंजन
  • नैचुरली एस्पायरेटेड पेट्रोल इंजन के मुकाबले हैं ताकतवर    

विस्तार

पिछले कुछ सालों से गाड़ियों के इंजन में आपने एक खास बदलाव पर गौर किया होगा। खासतौर पर छोटी हैचबैक या सब कॉम्पैक्ट एसयूवी सेगमेंट में, जहां गाड़ियां छोटे इंजन के साथ लॉन्च हो रही हैं। हाल फिलहाल में जितनी भी गाड़ियां लॉन्च हो रही हैं वे सभी टर्बो इंजन के साथ आ रही हैं और उनकी इंजन क्षमता भी कम होती है। कंपनियां 1.0 से 1.5 लीटर की रेंज वाले छोटे टर्बो पेट्रोल इंजन वाली गाड़ियों पर फोकस कर रही हैं। आने वाले कुछ समय में टर्बो इंजन वाली गाड़ियों की भरमार होगी। आखिर इसके पीछे क्या है वजह...
विज्ञापन

 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X