विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
चंद्र ग्रहण 2020 : चंद्र ग्रहण पर रखें इन बातों का खास ख्याल
Chandra Grahan Special

चंद्र ग्रहण 2020 : चंद्र ग्रहण पर रखें इन बातों का खास ख्याल

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बाबा फरीद यूनिवर्सिटी में एमडीएस और बीडीएस की परीक्षा के खिलाफ याचिका दायर, नोटिस जारी

बाबा फरीद यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेज द्वारा एमडीएस, बीडीएस की 7 जुलाई से परीक्षा शुरू किए जाने के खिलाफ दायर याचिका पर पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने पंजाब सरकार, बाबा फरीद यूनिवर्सिटी और डेंटल काउंसिल ऑफ इंडिया को शुक्रवार 3 जुलाई के लिए नोटिस जारी कर जवाब मांग लिया है।

जस्टिस निर्मलजीत कौर ने यह नोटिस डेंटल सर्जन एसोसिएशन ऑफ इंडिया और डेंटल स्टूडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा एडवोकेट रणदीप सिंह सुरजेवाला के जरिए दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए जारी किया है। याचिका में बताया गया है कि यूनिवर्सिटी ने बिना उनसे परामर्श किए ही एमडीएस, बीडीएस कोर्स की परीक्षा 7 जुलाई से शुरू करने का निर्णय ले लिया है।

जबकि केंद्र सरकार ने 30 मई को सभी यूनिवर्सिटी को निर्देश जारी करते हुए कहा था कि वह राज्य सरकार, छात्रों और अभिभावकों से परामर्श कर आगे कैसे क्लास लगेंगी या शिक्षण कार्य होगा उसे तय करें। उसके बाद यूजीसी ने भी दिशा-निर्देश तय किए थे।

याचिकाकर्ता संगठनों के अनुसार परीक्षा के खिलाफ राज्य सरकार को रिप्रजेंटेशन भी दी गई थी। जिस पर कोई करवाई नहीं की गई है। याचिकाकर्ताओं ने वीरवार को सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार द्वारा 29 जून को जारी नई गाइडलाइन्स भी हाईकोर्ट को सौंपते हुए कहा कि इसके अनुसार शिक्षण संस्थानों को 31 जुलाई तक बंद किया गया है। ऐसे में अब उनसे कैसे 7 जुलाई से परीक्षा ली जा सकती है।
... और पढ़ें
फाइल फोटो फाइल फोटो

नियुक्ति विवाद: पंजाब सरकार-यूपीएससी और दिनकर गुप्ता को हाईकोर्ट का नोटिस, मांगा जवाब

सेंट्रल एडमिनिस्ट्रेटिव ट्रिब्यूनल (कैट) के फैसले के खिलाफ पंजाब सरकार और यूपीएससी की अपील पर 13 अगस्त से पहले सुनवाई किए जाने की मांग को लेकर डीजीपी (ह्यूमन राइट्स) मोहम्मद मुस्तफा की अर्जी पर पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने वादी पक्ष को 22 जुलाई के लिए नोटिस जारी कर जवाब मांग लिया है।

जस्टिस जसवंत सिंह एवं जस्टिस संत प्रकाश की खंडपीठ ने इसके साथ ही यूपीएससी से इस पूरे मामले को लेकर अब कई जानकारियां भी मांग ली हैं। हाईकोर्ट ने यूपीएससी को निर्देश दिए हैं कि वह मामले की अगली सुनवाई पर डीजीपी हेड ऑफ स्टेट के पद पर नियुक्ति के दौरान जिन अधिकारियों के नामों पर गौर किया गया था, उन सभी की मैरिट का चार्ट बनाकर सौंपे।

गाइड लाइन 2009 के तहत इस पद नियुक्ति से पहले जोन ऑफ कंसिडरेशन में कितने अधिकारियों को शामिल किया जाता है। देश के अन्य राज्यों में इस पद पर नियुक्ति की क्या प्रक्रिया है। क्या यूपीएससी ड्राफ्ट गाइडलाइन.2009 के तहत राज्य सरकारों से योग्य अधिकारियों की सूची मांगती है या इसे राज्य सरकार के विवेक पर छोड़ देती है। हाईकोर्ट ने ऐसी सभी जानकारियों अगली सुनवाई पर सीलबंद लिफाफे में देने के आदेश दिए हैं।

हाईकोर्ट ने कैट के फैसले पर लगा दी थी रोक
कैट ने 17 जनवरी को पंजाब के डीजीपी हेड ऑफ पुलिस फोर्स के पद पर दिनकर गुप्ता की नियुक्ति रद्द कर दी थी, जिसके खिलाफ पंजाब सरकार और यूपीएससी ने हाईकोर्ट में अपील दायर कर कैट के फैसले को चुनौती दे दी थी। हाईकोर्ट ने कैट के फैसले पर रोक लगा दी थी। इस मामले में अभी बहस जारी है।

मामले की अगली सुनवाई 13 अगस्त को होनी है। ऐसे में अब डीजीपी मोहम्मद मुस्तफा ने हाईकोर्ट में अर्जी दायर कर कहा कि इस मामले में जल्द सुनवाई की जाए। जिस पर हाईकोर्ट ने सभी पक्षों को नोटिस जारी कर जवाब मांग लिया है। साथ ही नियुक्ति से संबंधित कई जानकारियां भी अब यूपीएससी से मांग ली हैं।
... और पढ़ें

होशियारपुर: सुबह युवक ने दी जान, शाम को लड़की का शव घर के बाहर मिला, पढ़ें- मामला

थाना माहिलपुर के अधीन गांव पैंसरा में आज स्थिति उस समय तनावपूर्ण हो गई जब युवक के आत्महत्या के बाद पड़ोस में रहने वाली युवती की भी देर शाम संदिग्ध हालात में मौत हो गई। हालांकि माहिलपुर पुलिस ने लड़के पक्ष की शिकायत पर पहले ही लड़की पक्ष से संबंधित तीन लोगों के खिलाफ आत्महत्या को मजबूर करने के कथित आरोप में मामला दर्ज कर लिया था। 

जानकारी के मुताबिक सरबजीत सिंह (24 ) पुत्र हरमेशा लाल और 22 वर्षीय मट्टो पड़ोसी थे। दोनों के परिवारों में लड़ाई झगड़ा भी हुआ था जिसको बाद में सुलझा लिया गया था। गुरुवार सुबह करीब 11 बजे सरबजीत सिंह ने अपने घर में खुदकुशी कर ली। उस समय उसका पूरा परिवार बाहर गया हुआ था। 


यह भी पढ़ें-
इन एप से रहें सावधान! पुलिस को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी, वरना बैंक खाता हो जाएगा खाली

मृतक के पिता के बयान पर माहिलपुर पुलिस ने लड़की के परिजनों सोढी राम, चरनजीत सिंह और जतिन्दर सिंह के खिलाफ धारा 306 के अंतर्गत मामला दर्ज किया। गुरुवार शाम करीब छह बजे लड़की का शव उसके घर के बाहर रहस्यमयी हालत में मिला। इससे गांव में दहशत का माहौल बन गया। ग्रामीणों के अनुसार लड़की के गले पर निशान थे। थाना माहिलपुर के प्रभारी सुखविंदर सिंह ने मौके पर पहुंच कर शव को सिविल अस्पताल भेज दिया। उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के असली कारणों के बारे में बताया जा सकेगा। 
... और पढ़ें

पंजाब में कोरोना से तीन की और मौत, 120 नए पॉजिटिव मिले, 155 मरीज हुए स्वस्थ

अमृतसर, संगरूर और बठिंडा में कोरोना वायरस से गुरुवार को तीन और लोगों की जान चली गई। इसके साथ ही पंजाब में इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 152 हो गई, जबकि 24 घंटे में राज्य में 120 नए पॉजिटिव केस भी सामने आए हैं। राज्य में कोरोना पीड़ितों की कुल संख्या 5784 तक पहुंच गई है। हालांकि, गुरुवार को 155 मरीजों को स्वस्थ होने पर घर जाने की अनुमति दे दी गई।

राज्य में अब तक 3,17, 802 संदिग्ध मरीजों के सैंपल लिए गए हैं। राज्य के अस्पतालों में इस समय 1488 मरीजों को आइसोलेशन वार्डों में रखा गया है, जिनमें 27 मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट पर और 2 मरीज वेंटिलेटर पर हैं। गुरुवार को ठीक हुए 155 मरीजों में जालंधर के 100, गुरदासपुर के 12, पठानकोट के 9, मोहाली व तरनतारन के 6-6, फरीदकोट के 11, मोगा के 7, कपूरथला के 3, होशियारपुर का एक मरीज शामिल हैं।


यह भी पढ़ें-
इन एप से रहें सावधान! पुलिस को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी, वरना बैंक खाता हो जाएगा खाली

अमृतसर: एक महिला की मौत, पांच नए केस 
अमृतसर में कोरोना से संक्रमित एक महिला की मौत हो गई है। गंडा सिंह कॉलोनी तरनतारन रोड की रहने वाली 71 वर्षीय महिला ने एसजीपीसी द्वारा संचालित श्री गुरु राम दास जी अस्पताल में गुरुवार सुबह दम तोड़ा। इसके साथ ही अमृतसर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 45 हो गई है। गुरुवार को पांच पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुए। इसमें से दो मरीज संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए थे। बसंत एवेन्यू, आकाश एवेन्यू व जसपाल नगर में एक-एक मरीज की कोरोना पॉजिटिव होने की सूचना मिली है। अमृतसर में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 971 हो गई है। 771 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया है। 
... और पढ़ें

विवादास्पद ट्वीट: दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी ने अनुपम खेर को भेजा नोटिस, कांग्रेस ने श्री अकाल तख्त से की शिकायत

कोरोना टेस्ट
चंडीगढ़ से भाजपा सांसद किरण खेर के पति और अभिनेता अनुपम खेर द्वारा दशम पिता श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के पावन शब्दों का ‘गलत’ इस्तेमाल करने पर सिखों ने भारी रोष व्यक्त किया है। पंजाब यूथ कांग्रेस के प्रधान बरिंदर सिंह ढिल्लों ने जहां श्री अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह को इसकी लिखित शिकायत दी है। वहीं दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने अनुपम खेर को कानूनी नोटिस भेजा है। कमेटी ने खेर से तुरंत माफी मांगने और विवादास्पद ट्वीट हटाने की मांग की है।

इस ट्वीट पर गुस्साए सिख 
दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के महासचिव हरमीत सिंह ने बताया कि अनुपम खेर ने भाजपा प्रवक्ता की तारीफ करते हुए विवादास्पद ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने श्री गुरु गोबिंद सिंह जी से जुड़े दोहे ‘सवा लाख से एक लड़ाऊं’ को तोड़ मरोड़ कर इसे ‘सवा लाख से एक भिड़ा दूं’ कर दिया। दोहे को तोड़ मरोड़ कर पेश करने का अधिकार किसी के पास नहीं है। कमेटी ने अपने लीगल सेल के चेयरमैन जसविंदर सिंह जौली के माध्यम से खेर को नोटिस भेजा है। 


यह भी पढ़ें-
इन एप से रहें सावधान! पुलिस को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी, वरना बैंक खाता हो जाएगा खाली

अनुपम खेर ने माफी मांगी, ट्वीट हटाया 
सिखों के कड़े विरोध को देखते हुए अभिनेता अनुपम खेर ने गुरुवार को अपने ट्विटर हैंडल से आनन-फानन में न सिर्फ विवादित ट्वीट हटा दिया बल्कि एक नया ट्वीट कर अपनी गलती स्वीकार करते हुए लिखा कि वे क्षमाप्रार्थी हैं। इसके साथ ही उन्होंने गलती सुधारते हुए गुरु साहिब के शब्दों को सही तरीके से भी लिखा।
... और पढ़ें

हलवारा में घर में घुसकर युवती की हत्या, दुष्कर्म की आशंका, सीसीटीवी में दिखे तीन लोग

हलवारा के थाना सुधार के अंतर्गत एक गांव में गुरुवार देर शाम एक युवती की हत्या करने का मामला सामने आया। घटना के वक्त युवती घर पर अकेली थी। सीसीटीवी कैमरे में तीन लोग घर के अंदर घुसते दिख रहे हैं। सूचना मिनलते ही डीएसपी गुरबंस सिंह बैंस आरैर सुधार एसएचओ अजायब सिंह मौके पर पहुंचे और जांच शुरू की।

जानकारी के अनुसार, मृतका के पिता आर्मी से रिटायर्ड कैप्टन हैं। उनकी पहली पत्नी की मौत हो चुकी है और बेटा अपनी पत्नी-बच्चों के साथ अलग रहता था। दूसरी शादी से उनकी 23 साल की बेटी थी जो टीचर ट्रेनिंग पूरी कर चुकी थी। जानकारी के अनुसार, बुधवार रात को मृतका का सौतेला भाई अपनी पत्नी और बच्चे के साथ आया था। 


यह भी पढ़ें-
इन एप से रहें सावधान! पुलिस को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी, वरना बैंक खाता हो जाएगा खाली

सुबह वह लोग चले गए। इसके बाद दोपहर में उसके माता-पिता भी काम से बाहर चले गए। युवती घर में अकेली थी। रात आठ बजे जब वह घर लौटे तो उन्हें बेटी मरणासन्न अवस्था में मिली। वे उसे लेकर सुधार अस्पताल गए। वहां डॉक्टर न होने के कारण उसे 25 किलोमीटर दूर रायकोट अस्पताल ले जाया गया, जहां युवती को मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार, घटनास्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के अनुसार, घर में तीन लोग घुसते दिखाई दे रहे हैं। एक पगड़ीधारी पहले स्कूटी पर आया। उसके बाद दो व्यक्ति घर में घुसे। 

रायकोट अस्पताल में इमरजेंसी डॉक्टर लवप्रीत सिंह ने बताया कि युवती को जब अस्पताल लाया गया था, तब उसकी मौत हो चुकी थी। युवती के पूरे शरीर पर हमले के निशान थे। हालांकि दुष्कर्म हुआ या नहीं, इसकी पुष्टि पोस्टमार्टम के बाद ही होगी। 
... और पढ़ें

गुरपतवंत पन्नू के आतंकी घोषित होने से आईएसआई को झटका, पंजाब को अलग करने का था मंसूबा

गाड़ी से गिरकर बीएसएफ जवान की मौत, अब वायरल वीडियो ने उठाए कई सवाल

बीएसएफ की 89 बटालियन के एक जवान की मंगलवार को गाड़ी से गिरकर मौत हो गई थी। हालांकि जवान के शव का पोस्टमार्टम करवा कर घर भेज दिया गया है लेकिन जवान की ओर से कुछ दिन पहले सोशल मीडिया पर अपलोड की गई वीडियो वायरल होने के बाद बीएसएफ ने पुलिस को मामले की जांच को लिखा है। 

मृतक पूर्ण सिंह उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ के गांव मरहैला का रहने वाला था। कुछ दिन पहले अपलोड वीडियो में पूर्ण सिंह ने खुद की जान को खतरा बताया था। वायरल वीडियो में जवान कहता नजर आ रहा है- 'मैं बीएसएफ की 89 बटालियन का जवान बोल रहा हूं। मुझे मां-बाप से मिलने की बहुत इच्छा हो रही है। मुझे मारने का पूरा प्लान बना लिया गया है'। वहीं यह भी पता चला कि उक्त जवान का पिछले दिनों छुट्टी के दौरान अपने गांव में झगड़ा हुआ था। 


यह भी पढ़ें-
इन एप से रहें सावधान! पुलिस को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी, वरना बैंक खाता हो जाएगा खाली
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन