विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान
Puja

एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

बिहार को ट्रेन चलने की अफवाह पर उग्र प्रवासियों ने किया पथराव

मंडी गोबिंदगढ़ में सोमवार सुबह बिहार के लिए ट्रेन चलने की अफवाह से सैकड़ों प्रवासी मजदूर खालसा स्कूल के खेल मैदान में इकट्ठा हो गए। सुबह सात बजे मजदूरों ने ट्रेन न चलने के रोष में स्कूल के बाहर नेशनल हाईवे सर्विस रोड पर पत्थर आदि रखकर रोड ब्लाक करने की योजना बनाकर नारेबाजी शुरू कर दी। मौके पर पहुंचे एसएचओ मंडी गोबिंदगढ़ महिंदर सिंह ने प्रवासियों को शांत किया लेकिन मजदूरों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया और तीन-चार गाड़ियों के शीशे भी तोड़ दिए। पुलिस ने मजदूरों को सभी और से घेरा डाल लिया। इसके बाद सभी मजदूर भाग गए। बाद दोपहर गांव अजनाली और खालसा स्कूल के बाहर से करीब आठ बसों के माध्यम से 300 प्रवासी मजदूरों को अंबाला रेलवे स्टेशन के लिए रवाना किया गया। इस मौके पर एसडीएम आनंद सागर शर्मा और अमलोह के डीएसपी सुखविंदर सिंह गिल खुद मजदूरों के साथ अंबाला गए।
बता दें कि रविवार को भी एक ट्रेन बिहार को जानी थी जिसमें 1600 यात्रियों को भेजा जाना था। ट्रेन रद्द होने के कारण मजदूरों को भेजा नहीं जा सका और अफवाहों के कारण सोमवार को मजदूर भड़क गए। देर शाम अपने दफ्तर से प्रेस नोट जारी कर एसएसपी अमनीत कौंडल ने कहा कि आज की घटना किसी व्यक्ति द्वारा अफवाह फैलाने के कारण हुई है जिसकी तलाश की जा रही है और उस पर बनती कार्रवाई भी की जाएगी। एसएसपी ने स्पष्ट किया कि किसी भी मजदूर पर पुलिस ने लाठीचार्ज नहीं किया और ना ही उक्त घटना में कोई घायल हुआ है। एसएसपी ने कहा कि सोशल मीडिया पर गुमराह करने वाली जानकारी देने वालों के खिलाफ कानून के मुताबिक कार्रवाई की जा रही है।
... और पढ़ें

प्रदेश सरकार की अर्थी जलाकर मनाया काला दिवस

लंबे समय रोजगार प्राप्ति के लिए संघर्ष कर रहे बेरोजगार ईटीटी टेट पास अध्यापकों ने सोमवार को खनौरी में प्रदेश सरकार की अर्थी जलाई। साथ ही सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर भड़ास निकाली।
यूनियन के प्रदेश प्रेस सचिव दीप बनारसी ने कहा कि लंबे समय से सरकार नौजवानों को रोजगार देने के लिए गंभीर नहीं है। मौजूदा पंजाब सरकार तो घर-घर नौकरी का वादा करके सत्ता में आई है। शिक्षा और डिग्री प्राप्त करके भी उन्हें नौकरी नहीं मिल रही। बेरोजगार नौजवानों की हाल बेहद खराब होती जा रही है। उन्होंने कहा कि वह अपनी मांगों को पूरी करवाने के लिए जल्द गुप्त एक्शन करेंगे। उन्होंने मांग की कि ईटीटी अध्यापकों की 1,664 पदों में बढ़ोतरी करके 12 हजार किए जाएं। करोना की आड़ में अध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया न रोकी जाए। इस मौके पर सोनू बनारसी, संदीप शर्मा, राजा, राकेश कुमार, प्रवीन अनदाना, हरदीप सिंह मौजूद थे।
... और पढ़ें

लुधियानाः पिता ने की नाबालिग बेटी से दुष्कर्म की कोशिश, पत्नी ने बच्चों के साथ मिलकर मार डाला

एक ठेकेदार ने अपनी नाबालिग बेटी के साथ दो दिन पहले दुष्कर्म की कोशिश की। इसी बात को लेकर शनिवार को घर में हुए क्लेश के बाद पत्नी ने बेटे और नाबालिग बेटी के साथ मिलकर पति को ही मौत के घाट उतार दिया। वारदात को अंजाम देने में जो बेटा शामिल है वह मृतक राज किशोर (45) की पहली पत्नी का बेटा है।

बाद में आरोपी खुद शव के पास बैठे रहे। पड़ोसियों द्वारा इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस ने राज किशोर की पत्नी गीता, उसके बेटे विशाल (19) और नाबालिग बेटी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। तीनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

एसीपी नार्थ गुरबिंदर सिंह ने बताया कि राज किशोर राजमिस्त्री था और शराब पीने का आदी था। दो दिन पहले उसने अपनी नाबालिग बेटी के साथ दुष्कर्म की कोशिश की। जिस कारण परिवार में क्लेश बढ़ा हुआ था। शनिवार रात को इसी बात को लेकर राज किशोर का परिजनों के साथ झगड़ा हो गया। इसके बाद वह बाहर चला गया और शराब पीकर लौटा। फिर उसका परिजनों से झगड़ा हुआ।

गुस्से में उसकी पत्नी और बेटे व बेटी ने राज किशोर के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। इसी दौरान तीनों ने बिजली के तार से गला दबा कर राज किशोर की हत्या कर दी। पहले चिल्लाने और बाद में शांत होने पर पड़ोसियों ने जाकर देखा तो राज किशोर मृत पड़ा था। उन्होंने तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दी। इंस्पेक्टर विजय ने बताया कि तीनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।
... और पढ़ें

पंजाब में लॉकडाउन हटेगा या बढ़ेगा, 30 मई को कैप्टन अमरिंदर सिंह करेंगे घोषणा

कैप्टन अमरिंदर सिंह कैप्टन अमरिंदर सिंह

2 लाख 52 हजार नशीली गोलियों सहित चार काबू, चार लाख की ड्रग मनी की बरामद

बुधवार देर शाम जिला पुलिस मुखी संदीप गोयल ने बताया कि सीआईए स्टाफ के इंचार्ज बलजीत सिंह की अगवाई में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे में से 2, 52, 500 नशीली गोलियां और चार लाख की ड्रग मनी बरामद की है। एसएसपी गोयल ने बताया कि डी फारमेसी की डिग्री करने वाले एक नौजवान बलविंदर सिंह को काबू उससे ढाई लाख नशीली गोलियां और चार लाख की ड्रग मनी बरामद की है। जबकि उसके साथियों रविंदर सिंह, सतवीर सिंह एवं लवप्रीत सिंह के काबू कर उनके कब्जे में से 2500 नशीली गोलियां बरामद कीं। सभी को अदालत में पेश कर पूछताछ के लिए तीन दिन का पुलिस रिमांड हासिल कर लिया है। वहीं 40 लाख नशीली गोलियां व डेढ़ करोड़ की नकदी पकडे़ जाने के मामले में नशा तस्कर रिंकू मित्तल की जमानत अर्जी खारिज हो गई है। ... और पढ़ें

अकाली नेत्री के स्वस्थ होते ही उसे गिरफ्तार करेंगे : डीएसपी रंधावा

डेरा बाबा जगीरदास तपा के डेरा संचालक महंत हुक्म दास बबली की रविवार को संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी। इस मौत पर डेरा संचालक के पारिवारिक सदस्यों ने शिअद की राज्य की सीनियर उपाध्यक्ष अकाली नेत्री जसविंदर कौर शेरगिल व उसके भाइयों पर उसे सुसाइड के लिए मजबूर करने के आरोप लगाए हैं। पुलिस ने मृतक के बेटे सोमदास के बयान पर शिअद स्त्री विंग की सीनियर प्रांतीय उपाध्यक्ष जसविंदर कौर शेरगिल, दोनों भाइयों के खिलाफ सुसाइड के लिए मजबूर करने का केस दर्ज कर लिया है। दूसरी तरफ शिअद स्त्री विंग की प्रांतीय उपाध्यक्ष जसविंदर कौर शेरगिल सिविल अस्पताल बरनाला में उपचाराधीन है, जिनका अरेस्ट वारंट जारी हो चुका है, जैसे ही सिविल अस्पताल से वह मेडिकली फिट हो जाती हैं, पुलिस उनको गिरफ्तार कर कार्रवाई शुरू करेगी। डीएसपी तपा रविंदर सिंह रंधावा ने कहा कि पुलिस ने मृतक हुक्म दास बबली के बेटे के बयान पर जसविंदर कौर शेरगिल उसके दोनों भाइयों राजविंदर सिंह व प्रदीप सिंह के खिलाफ हत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज कर लिया गया है। लेकिन जसविंदर कौर शेरगिल अस्पताल में एडमिट है, जैसे ही वह ठीक हो जाती है, उनको गिरफ्तार कर लिया जाएगा। सिविल अस्पताल में पुलिस तैनात की गई है। उनके दोनो भाइयों को गिरफ्तार करने के लिए भी छापा मार रहे हैं। ... और पढ़ें

नाबालिग प्रवासी का हत्यारोपी गिरफ्तार

पंजाबी बाग के पास 25 मई को खेत में नाबालिग प्रवासी संजय कुमार की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस उससे हत्या के संबंध में गहराई से पूछताछ कर रही है। नाबालिग का का शव नग्न हालत में खेत से बरामद किया गया था, जिसकी तार के साथ गला घोट कर हत्या की गई थी। थाना जगरावां पुलिस ने पहले अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था।
एसएसपी विवेकशील सोनी ने बताया कि इस हत्या की गहराई के साथ पुलिस जांच कर रही थी। इस दौरान पुलिस ने मोहम्मद अब्दुल गांव मानकपुर खेड़ा राजपुरा को हिरासत में लिया। पूछताछ में आरोपी ने बताया अप्राकृतिक सेक्स करने का आदी है, इसलिए उसने संजय कुमार के साथ संबंध बनाए थे। एक योजना के तहत उसने तार से गला घोट उसे मौत के घाट उतार दिया, ताकी वह किसी को कुछ बता ना दे।
संजय कुमार जगतार सिंह के लिए काम करता था। जगतार सिंह के साथ उसका कुछ विवाद था। वह एक तीर से दो निशाने लगाना चाह रहा था। संजय की हत्या का इल्जाम किसी तरह जगतार सिंह पर लग जाए। आरोपी ने खुलासा किया साल 2017 में भी उसने एक अज्ञात प्रवासी को मौत के घाट उतारा था। थाना सिटी जगरावां पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ 9 फरवरी 2017 को मामला दर्ज किया था। इस तरह पुलिस ने दो हत्याओं की गुत्थी सुलझा ली है।
... और पढ़ें

20 साल में पहली बार बठिंडा में तापमान पहुंचा 47.5 डिग्री

मई के आखिर में गर्मी ने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। बुधवार को बीस साल में पहली बार तापमान 47.5 डिग्री तक पहुंच गया। इससे पहले 8 जून 2014 को 47.2 डिग्री तापमान दर्ज किया गया। बठिंडा से मौसम विभाग के अधिकारी राजकुमार पाल ने जारी बयान में बताया कि बुधवार को न्यूनतम 25.2 अधिकतम 47.5 डिग्री दर्ज किया गया। आने वाले दिनों में बारिश की संभावना है। जिस कारण गर्मी से लोगों को राहत मिल सकती है। दस जून को धान का सीजन शुरू होने पर किसानों के लिए भीषण गर्मी में फसल लगाना मुश्किल हो जाएगा।
वहीं वहीं दूसरे नंबर पर रहे फरीदकोट में अधिकतम तापमान 46 डिग्री तो न्यूनतम तापमान 25.4 डिग्री रहा। इसी तरह लुधियाना में अधिकतम तापमान 43.2 तो न्यूनतम तापमान 25.4 डिग्री रहा है। हालांकि मंगलवार को फरीदकोट गर्मी में सबसे अधिक थी। लुधियाना से पीएयू मौसम विभाग के डॉक्टर केके गिल ने बताया कि वीरवार शाम से लोगों को कुछ राहत मिलने की उम्मीद है, वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते कुछ एरिया में बरसात हो सकती है। वही इस दिन धूल भरी आंधियां भी चल सकती है। ऐसे में लोगों को सलाह है कि वह दोपहर 12 बजे से शाम चार बजे तक अपने घरों में रहकर इस लू से बच सकते है।
... और पढ़ें

पंजाब मंत्रिमंडल की बैठक आज, लॉकडाउन बढ़ाने पर हो सकता फैसला, मुख्य सचिव-मंत्रियों के विवाद पर भी निगाहें

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में पंजाब मंत्रिमंडल की बैठक आज (बुधवार) होगी। कोविड-19 के कारण कर्फ्यू-लॉकडाउन के दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से होने वाली यह बैठक बुधवार को पहले की तरह होगी, हालांकि इसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा। कैबिनेट की बैठक दोपहर तीन बजे शुरू होगी। बैठक में 31 मई को समाप्त हो रहे लॉकडाउन को आगे बढ़ाने और राज्य में कोरोना की मौजूदा स्थिति की समीक्षा की जाएगी। 

इसके अलावा, बैठक में मुख्य सचिव करण अवतार सिंह को लेकर भी चर्चा होने के आसार हैं। करण अवतार सिंह इस बैठक में मौजूद रहेंगे या नहीं, इस बारे में अभी कुछ साफ नहीं है। पिछली बैठक में करण अवतार सिंह की जगह सतीश चंद्रा ने कामकाज संभाला था। हालांकि तब मुख्यमंत्री की तरफ से कहा गया था कि करण अवतार सिंह आधे दिन के अवकाश पर हैं। लेकिन दूसरी ओर, चर्चा यह थी कि वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री को यह साफ कर चुके थे कि अगर करण अवतार सिंह बैठक में आएंगे तो वे बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे।


यह भी पढ़ें-
आसमान से बरसी आग, टूटा 10 साल का रिकॉर्ड, हरियाणा में हिसार तो पंजाब में फरीदकोट सबसे गर्म

इस बीच, सोमवार को मुख्यमंत्री द्वारा अपने आवास पर मनप्रीत बादल और मुख्य सचिव को आमने-सामने बैठाकर की गई चर्चा का क्या लब्बोलुआब निकला, वह भी बुधवार की मंत्रिमंडल की बैठक में साफ हो जाएगा। अगर करण अवतार सिंह बैठक में मौजूद रहे तो यह मान लिया जाएगा कि मुख्यमंत्री उन्हें मुख्य सचिव पद से हटा नहीं रहे हैं और अगर मनप्रीत सिंह बादल भी मुख्य सचिव की मौजूदगी में बैठक में मौजूद रहते हैं तो यह भी मान लिया जाएगा कि इस पूरे मामले में मुख्यमंत्री ने सुलह करा दी है। फिलहाल मुख्य सचिव नियमित तौर पर सचिवालय पहुंच रहे हैं और अपने कार्यालय में बैठकर काम कर रहे हैं।
... और पढ़ें

पंजाब में 25 नए पॉजिटिव मिले, पांच मरीज ठीक भी हुए, प्रदेश में 2106 कुल संक्रमित

पंजाब में कोरोना ने फिर पांव पसारने शुरू कर दिए हैं। मंगलवार को राज्य के विभिन्न जिलों में 25 पॉजिटिव केस सामने आए। अकेले जालंधर में ही 10 केसों की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही राज्य में कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़कर 2106 तक पहुंच गई है। इस बीच 24 घंटे में 5 मरीजों के ठीक होने की खबर है, जिनमें जालंधर के तीन, पटियाला और फरीदकोट के एक-एक मरीज हैं।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मंगलवार को जालंधर में कोरोना के जिन 10 केसों की पुष्टि हुई, वे सभी व्यक्ति पहले से संक्रमित के संपर्क में थे। इनके अलावा पठानकोट में भी पॉजिटिव मिले 5 लोग और होशियारपुर के चार लोग पहले से पीड़ित व्यक्ति के करीबी हैं। फरीदकोट में एक, लुधियाना में दो, नवांशहर में एक और अमृतसर में 2 नए मामलों की पुष्टि हुई है। 


यह भी पढ़ें-
पिता ने थमाई थी हॉकी, जुनून ने बनाया दुनिया का सितारा, पढ़ें- दिग्गज खिलाड़ी बलबीर सिंह की अनसुनी बातें

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, राज्य में अब तक 69818 संदिग्ध मरीजों के सैंपल लिए गए हैं, जिनमें से 64160 निगेटिव पाए गए हैं। 2106 सैंपल की जांच रिपोर्ट आना बाकी है। राज्य में अब तक कुल 1918 मरीज ठीक हुए हैं, जबकि विभिन्न अस्पतालों में इस समय 148 मरीजों का इलाज चल रहा है। राज्य में कोरोना के कारण अब तक 41 लोगों की मौत हो चुकी है।
... और पढ़ें

पंजाब में बाहर से आने वालों के लिए नई एडवाइजरी जारी, निगेटिव रिपोर्ट आई तो क्वारंटीन के देने होंगे पैसे

पंजाब में दाखिल होने वाले प्रत्येक व्यक्ति को अनिवार्य रूप से क्वारंटीन करने संबंधी घोषणा के बाद अब स्वास्थ्य विभाग ने हवाई, रेल और सड़क यात्रा कर पंजाब आने वाले अंतरराष्ट्रीय और घरेलू यात्रियों के लिए नई एडवाइजरी जारी की है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने बताया कि सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को एंट्री प्वाइंट पर स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के अनुसार अपनी स्क्रीनिंग के लिए राज्य के अधिकारियों को निजी और स्वास्थ्य संबंधी विवरणों समेत सेल्फ डिक्लेरेशन भी देनी होगी।


यह भी पढ़ें-
चंडीगढ़: पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में किया पेश, निकला कोरोना पॉजिटिव, जज क्वारंटीन

उन्होंने कहा कि वायरस के फैलाव को रोकने के लिए सक्रिय टेस्टिंग, ट्रेसिंग और एकांतवास ही एकमात्र उपाय हैं। स्क्रीनिंग के दौरान लक्षण पाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को टेस्टिंग के लिए स्वास्थ्य संस्था में ले जाया जाएगा और कोविड टेस्टिंग के लिए आईसीएमआर के दिशा-निर्देशों के मुताबिक उनके आरटी पीसीआर सैंपल लिए जाएंगे। 

उन्होंने बताया कि जो व्यक्ति पॉजिटिव पाए जाएं लेकिन कोई लक्षण न हों, 60 साल से कम उम्र के हों और किसी अन्य बीमारी से पीड़ित न हों, को कोविड केयर सेंटरों में रखा जाएगा। जो व्यक्ति पॉजिटिव हैं और मेडिकल निगरानी अपेक्षित है (चाहे गंभीर लक्षण होने के कारण या 60 साल से अधिक उम्र होने के कारण या अन्य बीमारी से पीड़ित होने के कारण), उनको डॉक्टरी स्थिति के आधार पर दर्जा-2 या दर्जा-3 की स्वास्थ्य सुविधा में रखा जाएगा। जिन यात्रियों में लक्षण नहीं पाए जाते और जो निगेटिव पाए जाते हैं, उन्हें भुगतान के आधार पर संस्थागत एकांतवास (सरकारी / होटल क्वारंटीन) में रखा जाएगा और 5वें दिन उनका टेस्ट किया जाएगा।
... और पढ़ें

पंजाब: लुधियाना में दुकानदार ने फंदा लगाया, मुक्तसर में आढ़ती ने गोली मार की आत्महत्या

काम धंधा चौपट होने से परेशान महा सिंह नगर निवासी श्याम लाल (52) ने सोमवार देर रात घर में फंदा लगा लिया। जब उसकी पत्नी और बेटे ने देखा तो उन्होंने श्याम लाल को नीचे उतारा और पास के निजी अस्पताल ले गए। वहां उसकी मौत हो गई। सूचना पर थाना डाबा की पुलिस मौके पर पहुंची।

एएसआई जुझार सिंह ने बताया कि श्याम लाल के घर के बाहर ही किराना की दुकान है। श्याम लाल का दो महीने से काम धंधा नहीं चल रहा था। इस कारण वह काफी परेशान था। सोमवार रात को सारा परिवार खाना खाकर सोने लगा तो श्याम लाल ने करीब 12 बजे कमरे में फंदा लगा लिया। उसकी पत्नी की नींद खुली तो श्याम लाल फंदे से लटका था।

चीख सुनकर बेटा भी आ गया। दोनों ने शव को नीचे उतारा और आसपास के लोगों की मदद से अस्पताल ले गए। वहां उसकी मौत हो गई। एएसआई जुझार सिंह ने बताया कि अब तक की जांच में यहीं पता चल सका है कि श्याम लाल का काम धंधा बंद था और वह परेशान था। इस कारण उसने आत्महत्या की है। 

यह भी पढ़ें-
पिता ने थमाई थी हॉकी, जुनून ने बनाया दुनिया का सितारा, पढ़ें- दिग्गज खिलाड़ी बलबीर सिंह की अनसुनी बातें

मुक्तसर: आढ़ती ने लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मार की आत्महत्या 
रुपयों के लेनदेन को लेकर मंडी बरीवाला के आढ़ती ने लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मंडी बरीवाला के निरंजन कुमार (50) पुत्र ओम प्रकाश सुबह 11 बजे मंडी स्थित अपनी आढ़त की दुकान पर आया और अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से सिर में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। 

एसपी (एच) गुरमेल सिंह, डीएसपी तलविदर सिंह, थाना प्रभारी मंडी बरीवाला प्रेमनाथ मौके पर पहुंच गए और रिवाल्वर और शव को अपने कब्जे में लिया। एसएचओ प्रेम नाथ ने बताया कि मृतक के पास से सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने रुपयों के लेनदेन के बारे में लिखा है। उन्होंने बताया कि सुसाइड नोट में किसी का भी नाम नहीं लिखा है। परिजनों से बातचीत की जा रही है। परिजन जो बयान देंगे उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। 
... और पढ़ें

लॉकडाउन में नौकरी गई, वीडियो बना सुनाई दास्तां फिर नहर में कूदकर दे दी जान

लुधियाना में निजी बैंक के गोल्ड लोन विभाग में काम करने वाले एक युवक की नौकरी लॉकडाउन के बीच चली गई। जिससे परेशान होकर उसने दोराहा नहर में चार दिन पहले कूद कर अपनी जान दे दी। सोमवार की शाम को उसका शव बरामद हुआ। मृतक की पहचान बस्ती जोधेवाल के न्यू सुभाष नगर इलाके में रहने वाले रविश कुमार (35) के रुप में हुई है। 

थाना साहनेवाल पुलिस ने रविश के परिजनों की शिकायत पर साहनेवाल स्थित बैंक ब्रांच के मैनेजर रोहित दवेसा और कंपनी के आरएम नरेंद्र सिंह के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज किया है। नहर में कूदने से पहले रविश कुमार ने बैंक के बाहर बैठकर खुद का वीडियो बनाया और सारी दास्तां बता कर आत्महत्या कर ली।


यह भी पढ़ें-
पिता ने थमाई थी हॉकी, जुनून ने बनाया दुनिया का सितारा, पढ़ें- दिग्गज खिलाड़ी बलबीर सिंह की अनसुनी बातें

रविश कुमार ने वीडियो में बताया कि वह बैंक के गोल्ड लोन विभाग में काम करता था। लॉकडाउन से पहले मैनेजर और आरएम गलत ढंग से लोन करते थे। उसे इस बारे में पता था। वह उसे अक्सर पैसे लेने के लिए भेज देते थे। लॉकडाउन के दौरान काम धंधा नहीं हो सका तो वह अपनी तनख्वाह लेने के लिए गया। दोनों आरोपियों ने कहा कि उसे नौकरी से निकाल दिया गया है। कंपनी की तरफ से उसे टर्मिनेट कर दिया गया है। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us