विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

कोरोना वायरसः पंजाब में एनआरआई की वेरिफिकेशन के लिए प्रोफार्मा जारी, लोगों से मांगी जानकारी

पंजाब को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से राज्य सरकार ने उन एनआरआई और विदेशी यात्रियों के लिए स्व-घोषणा (सेल्फ डिक्लेरेशन) फार्म जारी किया है।

31 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

लुधियाना

मंगलवार, 31 मार्च 2020

पंजाब: पुलिस और सामाजिक संस्थाएं बनी मसीहा, लोगों तक यूं पहुंचाया खाना, गांवों को अभी भी इंतजार

केंद्र व पंजाब सरकार ने भी देश में लॉकडाउन को लेकर जरूरतमंद लोगों को सुविधा देने का एलान किया है। शुक्रवार को एसएसपी संदीप गोयल ने कर्फ्यू के दौरान पुलिस कर्मचारियों व एनजीओ के सहयोग से जरूरतमंद लोगों को राशन के एक हजार पैकेट बांटे। खाने की सामग्री के ट्रक को महिला पुलिस कांस्टेबल व होमगार्ड के कर्मचारियों से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। 

एसएसपी गोयल ने कहा जरूरतमंद परिवारों की पहचान की जा रही है, ताकि उनको भी राशन मुहैया करवाया जा सके। उन्होंने कहा कि अगर आम लोगों को कोई जरूरतमंद दिखाई देता है तो उसकी जानकारी सीधे तौर पर पुलिस को दी जाए या फिर 112 नंबर पर बताया जा सकता है। उन्होंने कहा कि पैकेट में एक किलो चीनी, एक किलो चावल, एक किलो दाल, दो किला आटा, 250 सो ग्राम चाय पत्ती, नमक एक थैली, मिर्च, हल्दी, सब्जी मसाला, के पैकेट बनाकर एक हजार जरूरतमंद लोगों की पहचान करके हंडिआया व बरनाला में बांटे गए हैं।
... और पढ़ें

अस्पताल से ताया को लेकर आ रहा था 20 वर्षीय युवक, पुलिस ने डंडों से पीटा, धरने पर बैठे

रायकोट के एक निजी अस्पताल में दाखिल अपने ताया जगदीश सिंह को छुट्टी करवा घर को ले जा रहे दत्ताहुर के बीस वर्षीय छात्र दिलप्रीत को पुलिस ने डंडों से पीटा। पीड़ित ने परिवार के साथ पिटाई करने के आरोपी थाना सिटी के प्रभारी अमरजीत सिंह गोगी के खिलाफ कार्रवाई के लिए थाना रायकोट के मुख्य द्वार पर धरना प्रदर्शन किया।

रायकोट के टेलीफोन एक्सचेंज चौक पर नाकाबंदी के दौरान गुरुवार को थाना प्रभारी अमरजीत सिंह गोगी ने मोटरसाइकिल पर जा रहे दिलप्रीत को अपने अन्य मुलाजिमों के साथ मिलकर पीटा और पीछे बैठी उसकी तायी कर्मजीत कौर को भी भद्दी गालियां दी। यह सारी घटना चौक में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।
 
इसके वीडियो वायरल होते ही लोगों का पुलिस के खिलाफ गुस्सा भड़क गया। थाना प्रभारी अमरजीत सिंह गोगी ने दिलप्रीत को न ही सिर्फ पीटा बल्कि थाने ले जाकर फिर उसकी जमकर पिटाई की और उसकी पगड़ी उतार कर हवालात में धकेल दिया। लोगों का बढ़ता दबाव देख पुलिस ने सफेद कोरे कागज पर दिलप्रीत के दस्तखत करवा कर उसे छोड़ दिया।
... और पढ़ें

सड़क हादसे में एएसआई की मौत

पंजाब में कोरोना से तीसरी मौत, तीन नए केस आए सामने, पीड़ितों की कुल संख्या पहुंची 41

पंजाब में सोमवार तक कोरोना वायरस के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर तीन हो गई। अमृतसर में रविवार देर रात एक व्यक्ति की मौत के बाद सोमवार शाम छह बजे पटियाला के अस्पताल में भर्ती महिला ने भी दम तोड़ दिया। वह लुधियाना की रहने वाली थी। इसके साथ ही, सोमवार को प्रदेश में कोरोना के पॉजिटिव केसों की संख्या भी 38 से बढ़कर 41 पर पहुंच गई। वहीं फिरोजपुर में कोरोना के एक संदिग्ध 31 वर्षीय युवक की मौत हो गई है। उसके सैंपल जांच के लिए अमृतसर भेजे गए हैं। पंजाब में कर्फ्यू की अवधि भी 14 अप्रैल तक बढ़ा दी गई। 

मोहाली के नया गांव में सोमवार को एक 65 वर्षीय बुजुर्ग कोरोना पॉजिटिव पाया गया। उसे पीजीआई में भर्ती किया गया है। वहीं, दुबई से लौटा एक पटियाला निवासी भी पाजिटिव पाए जाने के बाद अस्पताल में दाखिल किया गया है। सेहत विभाग इन मरीजों के संपर्क में रहे लोगों की तलाश कर रहा है। उधर, हरियाणा में अंबाला के सिविल अस्पताल और जालंधर से सामने आए मामले में मरीज के पारिवारिक सदस्यों की जांच कर ली गई है। उनकी जांच रिपोर्ट निगेटिव पाई गई है। 

राज्य सरकार द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार सेहत विभाग द्वारा अब तक 1051 संदिग्धों की जांच के लिए सैंपल लिए गए जिनमें से 881 की रिपोर्ट निगेटिव पाई गई है। फिलहाल 129 लोगों की जांच रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। फिलहाल राज्य सरकार और सेहत विभाग के लिए विदेश से लौटे ऐसे एनआरआई बड़ा सिरदर्द बने हुए हैं, जिन्होंने सरकार के आदेश के बावजूद अब तक अपनी स्वास्थ्य जांच नहीं कराई है और राज्य में इधर-उधर छिप रहे हैं। सरकार ने इनकी तलाश का काम राज्य पुलिस को सौंपा है।
... और पढ़ें
कोरोना वायरस कोरोना वायरस

पटियाला में कोरोना पॉजिटिव महिला की मौत, लुधियाना में हड़कंप, पूरे इलाके को घेरा गया

सरकारी राजिंदरा अस्पताल में सोमवार दोपहर 42 साल की महिला पूजा की मौत हो गई। उसकी सैंपल रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। सिविल सर्जन डॉ. हरीश मल्होत्रा ने बताया कि पूजा लुधियाना से रेफर होकर रविवार रात ही राजिंदरा अस्पताल आई थी। सिविल सर्जन ने बताया कि महिला को बुखार था और उसे सांस लेने में काफी तकलीफ हो रही थी। इस पर उसका सैंपल जांच के लिए लैब में भेजा गया था, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। 

उसका इलाज चल ही रहा था कि सोमवार दोपहर उसकी मौत हो गई। महिला लुधियाना के अमरपुरा मोहल्ला की रहने वाली है। सूत्रों के अनुसार, महिला दुबई जाकर आई थी। फिलहाल इस बारे में पक्के तौर पर कुछ कहा नहीं जा सकता। उन्होंने बताया कि महिला की मौत के बारे में लुधियाना के सेहत विभाग को सूचित कर दिया गया है, ताकि विभाग की ओर से मृतका के मोहल्ले में सैनिटाइजेशन और उसके संपर्क में आए लोगों को क्वारंटीन करने की प्रक्रिया शुरू की जा सके।
 
कोरोना पॉजिटिव महिला की मौत से मचा हड़कंप  
लुधियाना के अमरपुरा निवासी कोरोना पॉजीटिव महिला की सोमवार दोपहर बाद पटियाला के राजिंदरा अस्पताल में मौत के बाद हड़कंप मच गया। महिला का यात्रा इतिहास न होने की वजह से सेहत विभाग सकते में हैं। सेहत विभाग की तरफ से रविवार देर रात को जितना भी स्टाफ अस्पताल में तैनात था उसकी लिस्ट बनाना शुरू कर दिया गया है ताकि उन्हें क्वारंटीन किया जा सके। वहीं पूरे एरिया को पुलिस और सेहत विभाग ने घेर लिया है ताकि आसपास के लोगों की जांच हो सके। 

लुधियाना के अमरपुरा की रहने वाली पूजा (42) काफी समय से कैंसर से पीड़ित थी। उसका उपचार लुधियाना के एक निजी अस्पताल से चल रहा था। पूजा के पति का देहांत हो चुका है, उसके तीन बच्चे हैं। उसका बड़ा बेटा लुधियाना के गुरुनानक भवन में नौकरी करता है दो अन्य बच्चे कोई काम नहीं करते है। 

रविवार को पूजा की तबीयत अचानक ज्यादा खराब हो गई। उसे देर शाम को इमरजेंसी हालत में सिविल अस्पताल ले जाया गया था। वहां तैनात स्टाफ ने उसकी हालत को देखते पटियाला के लिए रेफर कर दिया था। वहां सोमवार दोपहर लगभग 1.30 बजे उसकी मौत हो गई। उसकी मौत के बाद इस बात की पुष्टि हुई कि वह कोरोना से पीड़ित थी।
... और पढ़ें

विदेश से आए लोगों की तलाश तेज, 312 की पहचान

प्रशासन ने विदेश से आने वाले लोगों को चेतावनी दी है कि अगर वह अपने आने की जानकारी प्रशासन को नहीं देते तो उनके पासपोर्ट रद्द किए जा सकते हैं। ऐसे में बरनाला में छुपे विदेश से आए लोगों की पहचान के लिए पुलिस ने तेजी से उनकी तलाश शुरू कर दी है। बता दें कि बरनाला में अब तक 312 विदेशी जो दुबई, चीन, कनाडा से लौटे थे, की पहचान हो चुकी है। जिनके टेस्ट लेने के बाद वह नेगेटिव पाए गए। वहीं कोरोना वायरस के लक्षण वाले 14 संदिग्ध मरीज सामने आए थे, जिनको आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया व उन सबकी टेस्ट रिपोर्ट भी नेगेटिव आई है। सिविल सर्जन डॉक्टर गुरविंदर सिंह ने बताया कि विदेशों से लौटे लोगों की पहचान के लिए पुलिस अपना काम कर रही है, अगर कोई भी विदेशी पहचान छिपाता है तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने लोगों से भी अपील की कि अगर आपके आसपास कोई भी विदेश से आकर रह रहा है तो इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी जाए, ताकि जांच की जा सके। उन्होंने कहा कि अब तक बरनाला में एक भी कोरोना वायरस से ग्रस्त मरीज नहीं पाया गया। उन्होंने कहा कि जिले में 91 घरों को क्वारंटीन किया गया है, जिसमें बरनाला में केसी रोड गली नंबर 12 में एक घर को 21 मार्च से 4 अप्रैल तक किया गया है। एसएसपी संदीप गोयल ने बताया कि वैसे तो विदेश से आने वाले सभी लोगों की पहचान हो चुकी है, पांच चार लोग ही रह गए हैं, उनको भी पुलिस व सेहत विभाग की टीम लाकर उनकी जांच कराएगी। ... और पढ़ें

पिस्तौल की नोक पर मेकअप आर्टिस्ट से लूटी आई-20 कार

दुर्गापुरी हैबोवाल के रहने वाले मेकअप आर्टिस्ट दिनेश खन्ना से कार सवार चार लुटेरों ने पिस्तौल के बल पर आई-20 कार लूट ली। आरोपी कार लूट कर फरार हो गए। सूचना मिलने के बाद पुलिस के आलाधिकारी और थाना हैबोवाल की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने जांच के बाद दो आरोपियों की पहचान कर ली है, जबकि दो आरोपियों की पहचान करनी अभी बाकी है। पुलिस ने दिनेश खन्ना की शिकायत पर जोशी नगर निवासी कन्नूु और उसके भाई अमन व उसके दो साथियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस के हाथ अभी तक कोई भी आरोपी नहीं आया है। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है।
दिनेश खन्ना की शिकायत के मुताबिक कोरोना वायरस को लेकर शहर में कर्फ्यू चल रहा है। उसका दोस्त सुरेश उसके घर आया हुआ था। वह शनिवार की देर रात को उसे छोड़ने के लिए जा रहा था। इसी दौरान जब वह हैबोवाल कलां पहुंचे तो आरोपी कार में सवार होकर जा रहे थे। उन्होंने कार उनकी कार के आगे लगा दी। इसी दौरान आरोपी बाहर निकले और पिस्तौल सटा दी।
आरोपियों ने दोनों को कार से बाहर निकाला और उनकी आई-20 कार लेकर फरार हो गए। दिनेश खन्ना ने आरोपियों का पीछा करने की कोशिश की, लेकिन वह कामयाब नहीं हो सके। उसने तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दी। थाना हैबोवाल के एसएचओ इंस्पेक्टर मोहन लाल ने बताया कि जांच के दौरान आरोपियों की पहचान कर ली गई है। बाकी के दो आरोपी अभी पहचान में नहीं आए है। उन्होंने ताया जो आरोपी पहचान हो चुके है उनकी तलाश में छापे मारे जा रहे है। उनके गिरफ्तार होने पर साथियों के बारे में पता चल सकेगा।
... और पढ़ें

कोरोना और कर्फ्यूः पंजाब सरकार ने उद्योगों व ईंट भट्ठों को दी उत्पादन शुरू करने की सशर्त छूट

प्रवासी मजदूरों की समस्या हल करने और राज्य में कोविड-19 के दौरान उन्हें राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य में सभी औद्योगिक यूनिटों और ईंट भट्टे को अपना उत्पादन शुरू करने को कहा है, बशर्ते वे अपने पास मजदूरों को सुरक्षित रखने के सभी प्रबंध करें।

कैप्टन ने कहा कि उनकी सरकार ने राधा स्वामी सत्संग ब्यास, जिन्होंने पहले ही अपने भवनों को एकांतवास की सुविधा के लिए ऑफर किया है, के साथ भी प्रवासी मजदूरों के ठहरने के प्रबंध के लिए बातचीत की है, क्योंकि अगले दो सप्ताह में शुरू होने वाली गेहूं की कटाई के लिए मजदूरों की जरूरत होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर औद्योगिक इकाइयां और भट्टा मालिकों के पास प्रवासी मजदूरों को रखने के लिए अपेक्षित जगह और भोजन देने का सामर्थ्य है, तो वह अपना उत्पादन शुरू कर सकते हैं। साथ ही उन्होंने इन इकाइयों के मालिकों को इस समय के दौरान सामाजिक दूरी कायम रखने को भी यकीनी बनाने को कहा।

कैप्टन ने कहा कि सभी औद्योगिक इकाइयों में कामगारों के लिए साफ-सफाई के सभी एहतियाती कदम पूरी तरह उठाये जाएं। उन्होंने कहा कि इकाइयों को साझी सहूलतों वाले स्थानों की सफाई और वर्करों के लिए साबुन और खुले पानी के पुख्ता प्रबंध करना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रमुख स्थानों पर हाथ धोने की सहूलतें और सैनिटाइजर भी उपलब्ध होने चाहिए।

सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि देश में लाखों की संख्या में प्रवासी मजदूरों के फंसे होने की रिपोर्टों के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह फैसला उद्योग व भट्ठा मालिकों और रोजगार और मकान गंवा चुके मजदूरों दोनों के लिए लाभकारी होगा।

नौकरी से न हटाने और वेतन न काटने संबंधी एडवाइजरी जारी
इस बीच मुख्यमंत्री के निर्देश पर पंजाब के श्रम विभाग ने निजी संस्थानों के मालिकों, जिसमें उद्योग, फैक्ट्रियाें, दुकानों और व्यापारिक प्रतिष्ठान शामिल हैं, को अपने कर्मचारियों /कामगारों और ठेकेदारी कामगारों को नौकरी से न हटाने और उनके वेतन में कटौती न करने की एडवाइजरी जारी की है।
... और पढ़ें

कोरोना और कर्फ्यूः पंजाब में किसानों की मदद के लिए कंट्रोल रूम, हालात से निपटने को चार कमेटियां

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के आदेश पर कृषि एवं किसान कल्याण विभाग ने किसानों की सुविधा के लिए राज्य स्तरीय कंट्रोल स्थापित किया है ताकि कर्फ्यू के मद्देनजर किसानों को किसी किस्म की मुश्किल पेश न आए। मुख्यमंत्री ने बताया कि रबी की कटाई का सीजन शुरू हो रहा है। इस दौरान किसानों की फसलों की निर्विघ्न कटाई और मंडीकरण के पुख्ता प्रबंध सरकार द्वारा किये गए हैं।

उन्होंने बताया कि खरीफ की फसल के लिए भी बीजों, खादों और कीटनाशकों का बंदोबस्त किया गया है। अतिरिक्त मुख्य सचिव (विकास) विश्वजीत खन्ना ने बताया कि राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम स्थापित करके कृषि अधिकारियों की तैनाती कर दी गई है और किसानों की सुविधा के लिए इन अधिकारियों के संपर्क नंबर भी जारी कर दिए गए हैं। यह अधिकारी सुबह 8 बजे से शाम 8 बजे तक किसानों की काल सुनेंगे और उन्हें पेश आ रही दिक्कतों का हल बताऐंगे।

कंट्रोल रूम में इनसे करें संपर्क
- बीजों की उपलब्धता के लिए कृषि विकास अफ़सर विक्रम सिंह (9815520190, 7973082185)
- खाद की उपलब्धता के लिए एडीओ (इनपुट्स) गिरिश (9478271833) व मुख्य खाद इंस्पेक्टर गुरजीत सिंह बराड़ (8054600004)
- कीटनाशकों की उपलब्धता के लिए कृषि विकास अफ़सर पंकज सिंह (9463073047)
- सिंचाई पानी के लिए हाइड्रोलोजिस्ट जसवंत सिंह (8725827072)
- मशीनरी सबंधी दिक्कतों के लिए इंजीनियर राजन कुमार ढल (9855102604)
- फसलों की बीजाई व तकनीकी जानकारी के लिए कृषि विकास अफ़सर (सूचना) सुरिंदर सिंह (9814665016)
- किसान पूछताछ के लिए किसान कॉल सैंटर 1800 -180 -1551 पर भी संपर्क कर सकते हैं।
... और पढ़ें

रोपड़ जेल से छोड़े गए 46 हवालाती

कोरोना वायरस के चलते जिला जेल से 46 हवालातियों को छोड़ा गया है। रविवार को मोहाली और रोपड़ से संबंधित हवालातियों को घर भेज दिया गया।
जेल सुपरिंटेंडेंट जेएस थिंद ने बताया कि हाईकोर्ट और सरकार की हिदायतों के मुताबिक इन हवालातियों को जेल से छोड़ा गया है। मोहाली से संबंधित 36 और रोपड़ से संबंधित 10 हवालातियों को छोड़ दिया गया है। यह हवालाती 42 दिनों के बाद दोबारा जेल में वापस आएंगे। उन्होंने बताया कि जेल में सभी को सैनिटाइजर और मास्क दिए हुए हैं। जेल को सैनिटाइज किया गया है। जेल से छोड़े गए हवालातियों को पुलिस के हवाले कर दिया गया है। अब पुलिस इन्हें घर पहुंचाने का काम करेगी। उधर हवालातियों ने कहा कि जेल में भी सभी तरह के प्रबंध सही हैं। वह अब घरों में जाकर रहेंगे।
... और पढ़ें

लॉकडाउन की अवहेलना करने वालों के लिए चार ओपन जेल

कर्फ्यू व लॉकडाउन की अवहेलना करने वालों के खिलाफ शिकंजा कसने के लिए जिला प्रशासन ने चार ओपन जेल तैयार कर दी है। सरकार के आदेशों की धज्जियां उड़ाने वालों को पुलिस काबू कर इन जेलों में रखेंगी। वही कर्फ्यू को इंफोर्समेंट करने के लिए पुलिस की तरफ से 800 वालंटियर को मैदान में उतार दिया गया है। इन्हें वॉर्ड स्तर पर तैनात किया जाएगा।
डीसी प्रदीप अग्रवाल ने बताया कि प्रशासन की तरफ से इनडोर स्टेडियम, गुरुनानक खेल स्टेडियम, मोती नगर स्थित वाल्मीकि भवन और न्यू एसडी स्कूल में चार ओपन जेल तैयार की गई हैं। लुधियाना से कोरोना संदिग्ध लोगों के अभी तक 93 सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। इसमें 66 के परिणाम निगेटिव रहा है, जबकि दो केस ही कोरोना पीड़ित पाए गए हैं। इसमें भी एक महिला जालंधर की है, जिसका उपचार सीएमसी लुधियाना में चल रहा है। महिला का उपचार करने वाले डॉक्टर व अन्य स्टाफ के सैंपल भी जांच के लिए भेजे जा चुके है। 25 सैंपल ऐसे हैं जिनकी रिपोर्ट का अभी इंतजार किया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि जिला भर में रहने वाले मजदूरों के मकान मालिकों से साफ आदेश जारी किए गए है कि वह एक माह का किराया नहीं लेंगे। वही फैक्टरी मालिकों को भी किसी मुलाजिम को नहीं निकालने के लिए आदेश जारी कर दिए गए है। 30 और 31 मार्च को सरकार ने सभी बैंक खोलने के आदेश जारी किए है, ऐसे में बैंक मुलाजिम अपना पहचान पत्र दिखाकर अपने दफ्तर पहुंच सकते हैं।
... और पढ़ें

डीसी और एसएसपी ने सड़क पर उतरे

कोरोना वायरस को रोकने के लिए किए लॉकडाउन के बाद सड़कों पर बिना मंजूरी घूम रहे वाहनों की रविवार को खुद डिप्टी कमिश्नर बी श्रीनिवासन और एसएसपी नानक सिंह ने फौजी चौक पर चेकिंग की। अधिकारियों ने बिना मंजूरी के सड़क वाहन दौड़ा रहे लोगों को कड़ी चेतावनी देकर छोड दिया।
डिप्टी कमिशनर बी श्रीनिवासन ने बताया कि 14 अप्रैल तक पूर्ण तौर पर लॉकडाउन है। अगर किसी व्यक्ति को अपने वाहन समेत इमरजेंसी में कहीं बाहर आना जाना है तो प्रशासन से मंजूरी लेकर पास सहित जाना है। लेकिन जैसे ही उनके ध्यान में आया कि कुछ वाहन चालक सरकारी आदेशों की पालना नहीं कर रहे और बिना मंजूरी के सड़कों पर वाहन लेकर चल रहे है। डीसी ने बताया कि उिन्होंने एसएसपी नानक सिंह को साथ लेकर फौजी चौक पर से गुजरने वाले वाहनों की चेकिंग की।
उन्होंने बताया कि चेकिंग दके ौरान करीब छह वाहन ऐसे पाए गए, जिनके पास मंजूरी नहीं थी। सभई को चेतावनी देकर छोड दिया गया। एसएसपी नानक सिंह का कहना था कि अगले दिनों में अगर कोई भी वाहन चालक सरकारी आदेशों का उल्लंघन करता पाया गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। डिप्टी कमिशनर एवं एसएसपी ने लोगों से अपील की कि वह 14 अप्रैल तक अपने घर में रहकर सरकार एवं प्रशासन के आदेशों का पालन करें।
... और पढ़ें

लुधियाना में शराब के नशे में पति ने खेला खूनी खेल, पत्नी को पीट-पीटकर मार डाला

कूमकलां के गांव गाही भैणी इलाके में रहने वाले एक व्यक्ति ने शराब के नशे में अपनी पत्नी कमलजीत कौर (22) को चारपाई के पावे से पीट पीट-कर मौत के घाट उतार दिया। खुद के साथ मारपीट होते पर कमलजीत कौर ने परिजनों को फोन किया था। हत्या के बाद आरोपी फरार हो गया। 

थाना कूमकलां की पुलिस ने जांच के बाद मृतका कमलजीत कौर का शव सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने कमलजीत कौर के पति सुखबीर के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आरोपी को सोमवार अदालत में पेश करेगी। 

पुलिस के अनुसार आरोपी सुखबीर की शादी करीब तीन साल पहले कमलजीत कौर के साथ हुई थी। शादी के बाद उसके घर बेटे ने जन्म लिया था। कमलजीत कौर का पति शराब पीने का आदी था और अक्सर उसके साथ मारपीट करता रहता था। जब भी कमलजीत कौर पति को शराब पीने से रोकती थी तो आरोपी उसके साथ मारपीट करता था। शनिवार की रात को आरोपी सुखबीर शराब पीकर घर आया। जब कमलजीत कौर ने उसे शराब पीने से मना किया तो आरोपी ने उसके साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। 

इसी बीच कमलजीत कौर ने अपने भाई बेअंत को फोन किया कि सुखबीर उसके साथ मारपीट कर रहा है। बेअंत मां को लेकर जब तक पहुंचा आरोपी ने चारपाई के पावे से कमलजीत कौर की पिटाई कर उसे मौत के घाट उतार दिया। जब बेअंत घर पहुंचा तो घर के बाहर काफी भीड़ जमा थी। जब वह कमरे में गए तो अंदर कमलजीत कौर का शव खून से लथपथ पड़ा था। एसएचओ सब इंस्पेक्टर परमजीत सिंह ने बताया कि आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और उसे अदालत में पेश कर दिया जाएगा। 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us