विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

राजस्थान

शुक्रवार, 6 दिसंबर 2019

गहलोत ने गोगोई से पूछा सवाल, कहा- बताएं पहले सही थे आप या अब

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देश में मौजूदा हालात को चिंताजनक करार देते हुए दो साल पहले सुप्रीम कोर्ट के चार न्यायाधीशों द्वारा संवाददाता सम्मेलन किए जाने की घटना का शुक्रवार को जिक्र किया और कहा कि पूर्व प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) रंजन गोगोई को अब बताना चाहिए कि वे पहले सही थे या बाद में।

गहलोत भारतीय संविधान को अंगीकृत करने के 70 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में विधानसभा में भारत के संविधान तथा मूल कर्तव्यों पर हुई चर्चा में भाग ले रहे थे।

उन्होंने कहा कि उच्चतम न्यायालय के चार न्यायाधीशों ने कहा कि देश में लोकतंत्र को खतरा है। पूरा देश सन्न रह गया। दुनिया में इससे क्या संदेश गया? चारों ने कहा कि देश में लोकतंत्र को खतरा है और कल्पना करें कि उनमें से एक देश के प्रधान न्यायाधीश बन गए। तो श्रीमान (रंजन) गोगोई से कोई पूछे कि आपने पहले चार लोगों के साथ जो आरोप लगाए थे वे सही थे या सीजेआई बनने के बाद वही काम किए जो चल रहे थे वे सही हैं, कौन सा सही है बताइए।

गहलोत ने कहा कि अब तो वह सीजेआई नहीं हैं, उन्हें देश को बताना चाहिए, देश जानना चाहता है उनसे कि आप चार जजों ने संवाददाता सम्मेलन में कुछ आरोप लगाए थे तो बाद में क्या हो गया आपको। आप बाद में अचानक ही बदल गए। सुप्रीम कोर्ट की प्रक्रिया जो पहले थी वह चलती रही आपके जमाने में भी। यह रहस्य बना हुआ है। रहस्य खुलना चाहिए। जनता को पता चलना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि जनवरी 2018 में पूर्व सीजेआई गोगोई ने न्यायमूर्ति जे चेलमेश्वर, न्यायमूर्ति एमबी लोकुर और न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ के साथ मिलकर सुप्रीम कोर्ट की कार्य प्रणाली और मामलों के आवंटन को लेकर संवाददाता सम्मेलन किया था।

गहलोत ने कहा कि देश में इस तरह के हालात हैं कि एक तरफ तो न्यायपालिका दबाव में है। आयकर विभाग, ईडी, सीबीआई से एक के बाद एक छापे मरवाए जा रहे हैं। कोई भी बुद्धिजीवी सरकार की व्यक्तिगत स्तर पर भी आलोचना कर दे तो राजद्रोह का मामला दर्ज हो जाता है। क्या यह संविधान में लिखा हुआ है।
... और पढ़ें

बीकानेर में भीषण सड़क हादसा, ट्रक और पिकअप जीप की टक्कर में पांच लोगों की मौत, चार घायल

राजस्थान के बीकानेर जिले के लूणकरनसर थाना क्षेत्र में शुक्रवार सुबह ट्रक और पिकअप जीप की आमने-सामने की टक्कर में पांच लोगों की मौत हो गई जबकि चार अन्य घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि घने कोहरे के कारण यह हादसा हुआ।

पुलिस ने बताया कि बीकानेर-सूरतगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग 62 पर धीरेंरा गांव के पास घने कोहरे के कारण ट्रक और पिकअप जीप की टक्कर में पांच लोगों की मौत हो गई जबकि चार लोग गंभीर रुप से घायल हो गए जिन्हें बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पिकअप जीप में सवार सभी लोग सड़क निर्माण का काम करने वाले थे।

उन्होंने बताया कि मृतकों की पहचान पिकअप चालक कैलाश, इंजीनियर मोहित, ईश्वर और देवीलाल के रूप में की गई है। वहीं हादसे में घायल यश, अखिलेश, बंसीलाल और कुलदीप को पीबीएम अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

प्रशिक्षण शिविर में शिक्षक करने लगे 'नागिन डांस', वीडियो वायरल होने पर निलंबित

राजस्थान के जालोर जिले में शिक्षक और शिक्षिका का ठुमका लगाने का वीडियो वायरल हो रहा है। जिले के सायला उपखंड क्षेत्र में शिक्षकों का प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया जा रहा था। प्रशिक्षण शिविर में शिक्षक और शिक्षिका दोनों हिंदी गानों पर नाचते नजर आए। इतना ही नहीं इसी दौरान दोनों 'नागिन डांस' करने लगे। वहीं, साथ खड़े दूसरे शिक्षक इसे देखकर ठहाके लगाते नजर आ रहे हैं। 

हालांकि यह घटना 10 दिनों पहले की है, लेकिन इस वीडियो के वायरल होने के बाद बुधवार को शिक्षा विभाग ने इनके खिलाफ कार्रवाई की। शिक्षा विभाग ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रशिक्षण शिविर के प्रभारी व बिशनगढ़ राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य को निलंबित कर दिया। 

वहीं, इस घटना की जांच की जिम्मेदारी जिला शिक्षा अधिकारी राजेंद्र कुमार शर्मा को सौंपी है। अब जांच के आदेश मिलने के बाद डीईओ शर्मा ने इस मामले को लेकर नीचे के अधिकारियों से तत्काल रिपोर्ट मांगी है। 
... और पढ़ें

जयपुर: खेत में खेल रहा बच्चा बोरवेल में गिरा, 6 घंटे बाद निकाला

बोरवेल (सांकेतिक तस्वीर) बोरवेल (सांकेतिक तस्वीर)

#KabTakNirbhaya राजस्थान में नाबालिग लड़की से पांच लोगों ने किया दुष्कर्म

हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ हुई घटना ने जहां पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है, लोगों में इस घटना को लेकर गुस्सा और विरोध साफ दिख रहा है, लेकिन ऐसे माहौल में भी महिलाओं के साथ दुष्कर्म और बर्बरता की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामला राजस्थान का है जिसे सुनकर आपका खून खौल उठेगा।

इंसानियत को शर्मसार करती ये घटना राजस्थान के बारां के अटरू इलाके में घटी है। जहां एक नाबालिग लड़की के साथ पांच लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। डिप्टी एसपी जोगिंदर सिंह ने बताया कि, इस मामले में आईपीसी की धारा 376DA, पॉक्सो अधिनियम की धारा 5/6 और एससी/ एसटी (अत्याचार निवारण) अधिनियम की धारा 3 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। आरोपी जल्द ही पकड़ा जाएगा।
 



 

 

... और पढ़ें

कोटा में नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को उम्रकैद

राजस्थान की एक अदालत ने कोटा में दो साल पहले 14 साल की एक लड़की से दुष्कर्म के दोषी व्यक्ति को उम्रकैद की सजा सुनाई है। साथ ही अदालत ने उस पर 40,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया।

कोटा की पॉक्सो अदालत ने मंगलवार को सुनाए गए फैसले में दोषी व्यक्ति के साथी को भी तीन साल की कैद की सजा सुनाई और उस पर 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया।

विशेष लोक अभियोजक ललित कुमार शर्मा ने कहा कि न्यायाधीश जगेंद्र कुमार अग्रवाल ने अपराध को अत्यंत नृशंस करार दिया और कन्हैया लाल को यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (पॉक्सो) कानून की संबंधित धाराओं और भारतीय दंड संहिता की धारा 363 और धारा 366 के तहत दोषी पाया। दोषी व्यक्ति की उम्र 21-22 साल के आस-पास है।

उन्होंने बताया कि लाल के साथी सत्यनारायण को भी धारा 363 और 366 के तहत दोषी पाया गया।

लड़की की मां की ओर से दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक 23 नवंबर,2017 की रात जब बच्ची घर से बाहर शौच के लिए गई थी, लाल ने चाकू का डर दिखा उसे अगवा कर लिया था।शर्मा ने बताया कि बाद में लाल मोटरसाइकिल से उसे एकांत स्थान पर ले गया और उससे दुष्कर्म किया।

उन्होंने बताया कि बाद में सत्यनारायण, लाल के पास आया और वे नाबालिग को दूसरी जगह ले गए और लाल ने दोबारा उससे दुष्कर्म किया। शर्मा ने बताया कि दोनों ने बाद में पीड़िता को उसके घर के पास छोड़ दिया।

... और पढ़ें

राजस्थान में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, सात आईएएस अधिकारियों का तबादला, जोगाराम बने जयपुर के डीएम

भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी जोगाराम जयपुर के नए जिला कलेक्टर होंगे। राज्य के कार्मिक विभाग ने मंगलवार देर रात इस बारे में आदेश जारी किया। इसमें बताया गया कि सात आईएएस अधिकारियों का तबादला किया गया है। इसके तहत जोगाराम को जयपुर का जिला कलेक्टर बनाया गया है जो फिलहाल भरतपुर के जिला कलेक्टर हैं।

उल्लेखनीय है कि जयपुर के निवर्तमान जिला कलेक्टर जगरूप सिंह पिछले सप्ताह सेवानिवृत्त हो गए थे।

इस आदेश के अनुसार, माध्यमिक शिक्षा विभाग के निदेशक नथमल डिडेल भरतपुर के नए जिला कलेक्टर होंगे। डिडेल की जगह हिमांशु गुप्ता लेंगे। इसी तरह अरूणा राजोरिया को आजीविका परियोजना में स्टेट मिशन निदेशक बनाया गया है। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग में विशिष्ट शासन सचिव नन्नूमल पहाड़िया को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग में आयुक्त बनाया गया है।
... और पढ़ें

नशामुक्ति पर प्रवचन देने वाला ही निकला नशे का सौदागार, पुलिस ने किया गिरफ्तार

सांकेतिक तस्वीर
राजस्थान के जोधपुर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया। यहां जागरण में भजन सुनाकर लोगों को नशामुक्ति और पर्यावरण संरक्षण का प्रवचन देने वाला भजन गायक तस्कर निकला। जोधपुर ग्रामीण पुलिस ने इस भजन गायक को 220 किलो डोडा-पोस्त के साथ गिरफ्तार किया। भजन गायक की गिरफ्तारी के बाद सभी लोग हैरान रह गए। 

पुलिस ने बताया कि इस भजन गायक का नाम गोरधन राम विश्नोई हैं। विश्नोई ने करीब छह महीने पहले ही लक्जरी एसयूवी खरीदी थी, वह इसी से डोडा-पोस्त की तस्करी करता था। पुलिस ने बताया कि जागरण की बुकिंग मिलने पर वह इसमें साउंड सिस्टम ले जाता था, वहीं इसी से नशे का कारोबार भी चलता था। 

एसपी (ग्रामीण) ने बताया बावड़ी से सेवकी खुर्द जाने वाली रोड पर कास्टी सरहद पर खेड़ापा थाने की टीम ने विश्नोई को गिरफ्तार किया। आरोपी को मंगलवार को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे 10 दिसंबर तक पुलिस रिमांड में भेजा गया है। 

पुलिस ने जानकारी दी कि भजन कलाकार के रूप में पहचान बना चुके गोरधन करीब दो साल से तस्करी करते आ रहा था। सोमवार को वह रावर की ढाणी में भी एक परिवार द्वारा आयोजित भजन संध्या में भी गोरधन प्रस्तुतियां देने वाला था, लेकिन इससे पहले ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में उसने बताया कि वह डोडा-पोस्त की सप्लाई अन्य छोटे तस्करों को करने वाला था। पुलिस अब अन्य तस्करों की  पहचान कर रही है। 
... और पढ़ें

एसएचओ और एएसआई ने की थाने में शख्स की पिटाई , हटाए गए ड्यूटी से

परिक्रमा मार्ग पर हादसा, स्कॉर्पियो कार ने ईरिक्शा में मारी टक्कर, जयपुर के श्रद्घालु घायल

राधाकुंड परिक्रमा मार्ग स्थित पंचमुखी हनुमान मंदिर के सामने स्कॉर्पियो और ई रिक्शा में आमने-सामने की भिड़ंत हो गई। इस हादसे में ईरिक्शा चालक सहित परिक्रमा करने वाले तीन श्रद्धालु घायल हो गए। सभी श्रद्धालु जयपुर निवासी थे। ई-रिक्शा बुरी तरह से छतिग्रस्त हो गया। सभी घायलों को उपचार के लिए गोवर्धन स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया है।

मुख्य चिकित्सक डॉ. रूपेंद्र कुमार द्वारा घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद घायलों की स्थिति गंभीर होने के कारण उन्हें निजी अस्पताल में मथुरा इलाज के लिए भेज दिया गया। बताया गया है कि सोमवार को जयपुर राजस्थान के तीन श्रद्धालु सुरेश अग्रवाल ,बंटी कुमार, सत्यनारायण, चालक सोनू के ई-रिक्शा में बैठकर गिरिराज परिक्रमा लगा रहे थे।

तभी पंचमुखी हनुमान मंदिर के करीब राधाकुंड से गोवर्धन की तरफ जा रही स्कॉर्पियो ने ई रिक्शा को टक्कर मार दी। इस हादसे में राजस्थान जयपुर निवासी सहित अन्य श्रद्धालु घायल हो गए।

राधाकुंड चौकी प्रभारी अमरेश कुमार ने घायलों को उपचार के लिए स्वास्थ्य केंद्र गोवर्धन पहुंचाया। राजस्थान जयपुर निवासी सुरेश अग्रवाल गंभीर रूप से घायल हैं। जिन्हें उपचार के लिए नियति अस्पताल रेफर करा दिया गया है।
 
... और पढ़ें

#KabTakNirbhaya : राजस्थान में मासूम से दुष्कर्म और हत्या के आरोपी को चार दिन की रिमांड पर भेजा

राजस्थान के टोंक जिले में छह साल की बच्ची के साथ बलात्कार और हत्या के आरोपी ट्रक चालक को मंगलवार को चार दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है। छह दिसंबर तक पुलिस हिरासत में भेजने जाने से पहले आरोपी महेंद्र उर्फ धोल्या को पुलिस ने एक स्थानीय अदालत में पेश किया था।

बता दें कि ट्रक चालक शनिवार दोपहर मासूम को टॉफी का लालच देकर स्कूल परिसर से जंगल ले गया और फिर बच्ची के साथ बलात्कार किया। इसके बाद पहचाने जाने के डर से उसने मासूम की गला दबाकर हत्या कर दी और फरार हो गया। अलीगढ़ शहर के एक सुनसान इलाके से रविवार सुबह लड़की का शव बरामद किया गया था।

एसपी आदर्श संधू ने बताया कि आरोपी चालक सुबह से शाम तक शराब के नशे में ही रहता था, इसलिए उसकी अपनी पत्नी से भी अनबन होती रहती थी। 10-11 माह से वह पत्नी से अलग रह रहा था। आरोपी को रविवार को ही चिह्नित कर लिया गया था। इसके बाद सोमवार दोपहर को उसे जंगल से गिरफ्तार कर लिया। 
... और पढ़ें

#KabTakNirbhaya दरिंदगी के बाद इतनी जोर से दबाया मासूम का गला कि निकल आईं आखें

हैदराबाद में महिला पशु चिकित्सक के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या का मामला शांत भी नहीं हुआ है कि राजस्थान के टोंक में एक मासूम के साथ इसी तरह की दरिंदगी का मामला सामने आया है। टोंक जिले के खेड़ली गांव में पहली कक्षा में पढ़ने वाली मासूम बच्ची को एक हैवान शनिवार को स्कूल से घर लौटते समय जगंल ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। इस मामले में एक व्यक्ति को पुलिस ने हिरासत में लिया है। 

इसके बाद बच्ची की बेल्ट से ही उसकी गला दबाकर हत्या कर दी गई। दरिंदे ने इतनी जोर से बच्ची का गला दबाया कि उसकी आंखे बाहर निकल गईं। रविवार को बच्ची का शव मिलने के बाद से स्थानीय लोगों में आक्रोश है। पुलिस अधीक्षक (एसपी) आदर्श सिंधु ने घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। टोंक के थाना प्रभारी राम किशन ने बताया कि इस मामले में एक संदिग्ध महेंद्र उर्फ ढोलू को हिरासत में लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने कहा कि घटनास्थल पर मिले साक्ष्यों के आधार पर उसे पकड़ा गया है।

स्कूल से अकेले घर जाती थी मासूम

एसपी का दावा है कि आरोपी की पहचान हो गई है। एफएसएल, पुलिस मोबाइल टीम और डॉग स्क्वायड ने घटनास्थल पर पहुंचकर सबूत इकट्ठा किए हैं। पुलिस जांच में पता चला है कि शनिवार को बच्ची के स्कूल में वाद-विवाद प्रतियोगिता हुई थी। उस समय बच्ची का मामा वहां मौजूद था। शाम लगभग तीन बजे छुट्टी के बाद बच्ची स्कूल से घर के लिए हमेशा की तरह अकेले रवाना हुई लेकिन शाम तक घर नहीं पहुंची।

हाईवे जाम करने की दी चेतावनी

परिजनों ने आसपास उसकी तलाश की मगर कोई जानकारी नहीं मिल पाई। आक्रोशित ग्रामीणों ने हत्यारे को गिरफ्तार न करने पर टोंक-सवाई माधोपुर हाईवे जाम करने की चेतावनी दी है। साथ ही मृतका के परिजनों को 25 लाख रुपये आर्थिक सहायता दिए जाने की मांग की है। बच्ची के माता-पिता मध्यप्रदेश के श्योपुर जिले के मानपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में रहते हैं। वह अपनी दादी के साथ यहां रहती थी। 

टॉफी-कचौरी खिलाने के बहाने ले गया था आरोपी

माना जा रहा है कि आरोपी बच्ची को पहले से जानता था। वह उसे टॉफी और कचौरी खिलाने के बहाने जंगल में ले गया और वहां उसके साथ हैवानियत को अंजाम दिया। बच्ची का शव स्कूल से 300 मीटर दूर जंगल में मिला है। उसके गले में बेल्ट लिपटी हुई है। पास में ही बीयर और शराब की बोतलों के साथ कचौरी के टुकड़े और टॉफी के रेपर मिले हैं।

भाजपा का कांग्रेस पर हमला

राजस्थान से सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने इस घटना को लेकर कांग्रेस सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि राज्य में जब से कांग्रेस सरकार आई है तब से पुलिस का डर खत्म हो गया है। पुलिस अधिकारियों की जातियां देखकर उनकी फील्ड में नियुक्तियां की जा रही हैं। न बच्चे सुरक्षित हैं और न बड़े। टोंक की घटना इसका जीता-जागता उदाहरण है।
... और पढ़ें

पिता काे महिला के साथ पकड़ा तो जंजीरों से बांधा, ननिहाल जाकर लड़की ने किया खुलासा

राजस्थान के जालोर जिले के बागोड़ा थाना क्षेत्र में लड़की ने अपने पिता को किसी अन्य महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया। जिसके बाद पिता और उस महिला ने लड़की को जंजीरों से बांधकर एक कमरे में बंद कर दिया और बाहर से ताला लगा दिया। 

दस दिन बाद किसी तरीके से उस बंद कमरे से बाहर निकली और अपने ननिहाल पहुंची। ननिहाल पहुंचकर उसने अपने मामा को पूरी घटना के बारे में बताया तो इस मामले का खुलासा हुआ। 

बच्ची ने आरोप लगाया है कि उसके पिता ने उसके साथ ही दुष्कर्म किया। मामा की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने पॉक्सो सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने लड़की के बयान के आधार पर आरोपी पिता को पकड़ने के प्रयास किए, लेकिन वह फरार हो गया। 

पुलिस ने कहा कि संबंधित महिला से पूछताछ की जाएगी। पुलिस के अनुसार बागोड़ा थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाले एक व्यक्ति ने दो महिलाओं के साथ शादी की थी। 

पुलिस ने बताया कि दोनों महिलाओं ने उसकी प्रताड़नाओं से दुखी होकर उसे छोड़कर जा चुकी हैं। पहली पत्नी से हुई लड़की उसके पास ही थी। करीब 10 दिन पहले लड़की ने उसके पिता को पड़ोस की रहने वाली एक महिला के साथ संदिग्ध अवस्था में देख लिया था। लड़की ने जब इसका विरोध किया तो पिता तथा उस महिला ने जंजीर से दोनों पैर बांध दिए तथा उसे एक कमरे में बंद कर बाहर से ताला लगा दिया। 

शनिवार शाम को लड़की किसी तरह उस कमरे से बाहर निकली और अपने ननिहाल पहुंची और पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
विज्ञापन