विज्ञापन
विज्ञापन
हस्त रेखाओं से जानें कैसा होगा आपका करियर, मिलेगी सरकारी नौकरी या बनेंगे बिजनेसमैन
Plamistry

हस्त रेखाओं से जानें कैसा होगा आपका करियर, मिलेगी सरकारी नौकरी या बनेंगे बिजनेसमैन

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बागपतः आज से सड़कों पर ट्रैक्टर राज, अब दो दिन जाम के हालात, संभलकर निकलें घर से

अगर आप दिल्ली की ओर जा रहे हैं तो संभलकर निकलें। किसानों की ट्रैक्टर रैली के काफिले के कारण दो दिन जाम के हालात बन सकते हैं। सोमवार को किसान जिले से ट्रैक्टरों पर सवार होकर गाजीपुर बॉर्डर के लिए रवाना होंगे। पंजाब, हरियाणा और पश्चिम उत्तर प्रदेश के वाहनों के दिल्ली आवागमन के लिए दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर वाहनों की अधिकता रहेगी,  जिस कारण जाम के हालात बन सकते हैं।

सोमवार को दिल्ली-सहारनपुर हाईवे से होकर शामली, बागपत और मुजफ्फरनगर के किसान ट्रैक्टरों पर सवार होकर गाजीपुर बॉर्डर के लिए रवाना होंगे। सुबह से लेकर देर रात तक अलग-अलग समय पर किसान रवाना होंगे, ऐसे में यातायात व्यवस्था के लिए मुश्किलें खड़ी होने की आशंका है। ट्रैक्टरों को दिल्ली-सहारनपुर हाईवे से ईस्टर्न पेरिफेरल के रास्ते गाजीपुर बॉर्डर के लिए रवाना किया जाएगा। चांदीनगर क्षेत्र से गाजियाबाद जाने वाले रास्ते से भी ट्रैक्टर निकलेंगे।

सड़क पर बढ़ गए वाहन, निवाड़ा में लगा जाम
दिल्ली-चंडीगढ़ हाईवे पर ट्रैक्टरों की संख्या बढ़ जाने से वाहनों को करनाल से शामली और सोनीपत से निवाड़ा होते हुए बागपत के लिए डायवर्ट किया गया है। इस कारण वाहनों की संख्या दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर बढ़ गई है। दिल्ली आवागमन के लिए दिल्ली-सहारनपुर हाईवे का विकल्प ही अगले दो दिन के लिए खुला रहेगा, जिस कारण यहां भी जाम के हालात बन सकते हैं। ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे और निवाड़ा में रात के समय जाम की स्थिति बनी रही।

कराएंगे वीडियोग्राफी, करेंगे ट्रैक्टरों की निगरानी
जिले से होकर गुजरने वाले ट्रैक्टरों की वीडियोग्राफी कराई जाएगी। एसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर जगह-जगह पुलिस तैनात रहेगी। एसडीएम और सीओ बड़ौत ट्रैक्टरों की निगरानी करेंगे।

प्रशासन की ये रहेगी व्यवस्था
  • जिले को तीन जोन और दस सेक्टरों में बांटा गया है
  • नोडल अधिकारी डीआईजी रवि शंकर जिले में मौजूद
  • पुलिस-प्रशासन किसानों को समझाने में भी जुटा हुआ
  • ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे से डायवर्ट किए जाएंगे ट्रैक्टर
  • दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर रहेगा वाहनों का दबाव
  • जहां बनेगी जाम की स्थिति, वहां पर डायवर्जन प्लान
  • गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टरों की वापसी पर भी निगरानी
  • जिले से जाने वाले ट्रैक्टरों की निगरानी करेंगी पुलिस

किसने क्या कहा
  • डीएम राजकमल यादव ने कहा कि किसान राष्ट्रीय पर्व पर सहयोग करें। सड़कों पर कम से कम संख्या में निकलें, जिससे अन्य लोगों को आवागमन में परेशानी का सामना न करना पड़े।
  • एसपी अभिषेक सिंह का कहना है कि पुलिस ने रूट डायवर्जन का प्लान तैयार किया है। जहां जैसी जरूरत पड़ेगी, डायवर्जन किया जाएगा। सुरक्षा और चेकिंग व्यवस्था बनाई गई है।
... और पढ़ें
दिल्ली की ओर... दिल्ली की ओर...

काशी के मुस्लिमों ने राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण हेतु दी समर्पण राशि, दान किये इतने 

वाराणसी के लमही के इंद्रेश नगर के सुभाष भवन में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच द्वारा आयोजित राम जन्मभूमि समर्पण निधि कार्यक्रम में जुटे काशी और आस पास के जिले से आए मुस्लिमों ने दान दिया। 101 रुपये से लेकर 21 हजार रुपये तक दान दिया। राम जन्मभूमि पर शिलान्यास के वक्त प्रभु श्रीराम के ननिहाल रायपुर से मिट्टी लेकर पैदल यात्रा करने वाले मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के राष्ट्रीय सेवा प्रमुख मो. फैज खान और मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के पूर्वांचल प्रभारी मो. अजहरुद्दीन ने 786 रुपये समर्पण निधि दी।

मुख्य अतिथि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सदस्य इंद्रेश कुमार ने कहा कि मुस्लिमों ने समर्पण निधि कार्यक्रम आयोजित कर कट्टरपंथियों को करारा जवाब दिया है। राम जन्मभूमि पर सिर्फ मंदिर नहीं बन रहा है बल्कि भारत के संस्कृति का गौरव निर्मित हो रहा है।

अपनी सांस्कृतिक पहचान बनाए और बचाए रखने में राम मंदिर हमेशा मदद करेगा। कार्यक्रम में मौलाना शफीक अहमद मुजद्दीदी, मो. फैज खान, तुषार कांत, मो. अब्दुल रऊफ, मो. आरिफ, साजिद अली, फकीर अहमद, वाहिद, ईसराइल खान, शमीम हाफिज आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर आएंगे मुख्यमंत्री योगी, विकास परियोजनाओं का दे सकते हैं तोहफा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर 26 जनवरी को शहर में होंगे। वह गोरखनाथ मंदिर में शहर के प्रमुख उद्योगपतियों के साथ बैठक भी करेंगे। चर्चा है कि उद्योगपतियों के साथ श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान पर चर्चा करेंगे। सहयोग की अपील भी करेंगे। हालांकि मुख्यमंत्री के आने का आधिकारिक कार्यक्रम अभी तक नहीं आया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 26 जनवरी को दोपहर तक गोरखपुर आएंगे। वह 27 जनवरी को दिनभर गोरखनाथ मंदिर में रहेंगे, फिर लखनऊ रवाना होंगे। इसकी तैयारी में पुलिस, प्रशासनिक अफसर जुटे हैं। सूत्रों से जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र से जुड़े चंपत राय भी आएंगे।

मुख्यमंत्री, चंपत राय और आरएसएस के क्षेत्रीय पदाधिकारियों की मौजूदगी में ही शहर के प्रमुख उद्योगपति अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए सहयोग राशि देंगे। कुछ उद्योगपति बड़ी सहयोग राशि दे सकते हैं। मुख्यमंत्री विकास कार्यों की समीक्षा के साथ ही विकास परियोजनाओं का तोहफा भी दे सकते हैं।
... और पढ़ें

Farmers Protest: मथुरा में यमुना एक्सप्रेसवे और हाईवे पर पुलिस-पीएसी के 650 जवान तैनात

नए कृषि कानूनों के विरोध में गणतंत्र दिवस परेड में ट्रैक्टर ले जाने के किसान संगठनों के एलान से मथुरा जिले में पुलिस-प्रशासन अलर्ट पर है। यमुना एक्सप्रेसवे और हाईवे पर पुलिस और पीएसी के 650 जवान चप्पे-चप्पे पर तैनात किए गए हैं। किसी भी हाल में दिल्ली के लिए ट्रैक्टर नहीं जाने दिए जाएं, ऐसे निर्देश दिए गए हैं। 

रविवार से एक्सप्रेसवे और हाईवे पर पुलिस-पीएसी के जवान मुस्तैद कर दिए गए। मथुरा में कोटवन बॉर्डर पर पुलिस की कड़ी नजर है तो मांट टोल पर भी पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी है। मकसद यह है कि कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली में होने वाली ट्रैक्टर रैली में मथुरा से कोई नहीं जा सके। 

इसके लिए चप्पे-चप्पे पर पुलिस और पीएसी जवानों का पहरा बैठा दिया गया है। 26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) यह सुरक्षा हाईवे और एक्सप्रेसवे पर बनी रहेगी। एसएसपी डॉक्टर गौरव ग्रोवर ने पुलिस अफसरों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि अगर कोई ट्रैक्टर लेकर दिल्ली जा रहा है उसे समझाकर लौटा दें।
... और पढ़ें

शिखर धवन के साइबेरियन पक्षियों को दाना खिलाने पर वाराणसी पुलिस सख्त, नाविकों का चालान

यमुना एक्सप्रेसवे पर तैनात पुलिसबल
वाराणसी प्रवास के दौरान गंगा में नौकायन पर प्रतिबंध के बावजूद भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी शिखर धवन के द्वारा साइबेरियन पक्षियों को दाना खिलाने के मामले में रविवार को पुलिस ने कार्रवाई की। दशाश्वमेध थाने की पुलिस ने बंगाली टोला निवासी नाविक सोनू साहनी और नाव मालिक प्रदीप साहनी का चालान किया है। इसके साथ ही अगले आदेश तक उनके नाव संचालन पर रोक लगाई है।

क्रिकेटर शिखर धवन बीती 20 जनवरी को काशी भ्रमण पर आए थे। इस दौरान उन्होंने दर्शन-पूजन के साथ ही गंगा में नौकायन करते हुए साइबेरियन पक्षियों को दाना खिलाया था। बर्ड फ्लू की आशंका के मद्देनजर जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने नौकायन के दौरान साइबेरियन पक्षियों को दाना खिलाने पर रोक लगा रखी है।
 
... और पढ़ें

अजमेर शरीफ दरगाह के खादिम पर सूफी इस्लामिक बोर्ड के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने दर्ज कराई एफआईआर

कानपुर में सूफी इस्लामिक बोर्ड को सोशल मीडिया के माध्यम से दलाल बोलने व अपशब्द कहने पर बोर्ड के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने राजस्थान अजमेर शरीफ दरगाह के खादिम के खिलाफ जूही थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। 

परमपुरवा निवासी सूफी इस्लामिक बोर्ड के राष्ट्रीय प्रवक्ता सूफी मोहम्मद कौसर हसन मजीदी ने बताया कि नवंबर 2020 में पीएफआई को देश में बैन कराने की मांग को लेकर बोर्ड के पदाधिकारियों ने 150 प्रार्थनापत्र राष्ट्रपति को भेजे थे।

इसके बाद राजस्थान की अजमेर शरीफ दरगाह के खादिम सरवर चिश्ती ने यू-ट्यूब पर एक वीडियो अपलोड कर पीएफआई का समर्थन करते हुए सूफी इस्लामिक बोर्ड को अपशब्द कहे। उन्होंने सरवर चिश्ती को कानूनी नोटिस भेज माफी मांगने को कहा, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला।

इस वजह से अब रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। थाना प्रभारी संतोष आर्या ने बताया कि जाति, धर्म, स्थान के नाम पर विभिन्न समूहों में द्वेष फैलाने व आईटी एक्ट की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

कोचिंग जा रही इंटरमीडियट की छात्रा को ट्रक ने रौंदा, रोड पर शव रखकर ग्रामीणों का हंगामा

गोरखपुरः रामगढ़ ताल में स्पीड बोट से टकराने से पलटी शिकारा, डूब रहे पांच बच्चों समेत 9 लोगों को बचाया गया

पर्यटन का पर्याय बन चुके रामगढ़ ताल में स्पीड बोट और शिकारा के बीच टक्कर के बाद शिकारा पलट गई। इसकी वजह से शिकारा में बैठे पांच बच्चों समेत कुल नौ लोग पानी में गिर गए। जैसे तैसे इन सभी को स्पीड बोट संचालित कर रही संस्था के सदस्यों ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया। इसकी वजह से काफी देर तक अफरा तफरी मची रही। शिकारा संचालक का अभी तक जीडीए से अनुबंध भी नहीं हुआ है। बिना अनुबंध के ही शिकारा चलाया जा रहा है। किसी को लाइफ सपोर्ट जैकेट भी नहीं पहनाया गया था।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीते दिनों जम्मू-कश्मीर की तर्ज पर शिकारा उतारने की बात कही थी। संचालन की जिम्मेदारी गोरखपुर विकास प्राधिकरण को मिली है। वहीं पर्यटन विभाग की ओर से निषाद नौकायन विकास समिति स्पीड बोट संचालित कर रही है। रविवार को शिकारा संचालकों ने ट्रायल में ही पांच बच्चों समेत नौ लोगों को बैठा लिया। अचानक एक स्पीड बोट शिकारा से टकरा गई। इससे शिकारा पलट गई। शिकारा में बैठे 5 बच्चे, दो पुरुष और दो महिला डूबने लगे। इससे चीख-पुकार मच गई। हर ओर से बचाओ-बचाओ की आवाज गूंजने लगी। 

इसी दौरान निषाद नौकायन विकास समिति के कुछ सदस्यों ने पानी में छलांग लगा दी। इसके बाद सभी को ताल से सुरक्षित निकाला गया। गनीमत यह थी कि जहां पर शिकारा पलटी वहां पानी कम था। अगर पानी ज्यादा होता तो बड़ा हादसा हो सकता था। इस हादसे के बाद ताल में बोटिंग के दौरान अपनाए जा रहे सुरक्षा इंतजामों पर सवाल उठाए जा रहे है। लोगों का कहना है कि जब शिकारा चलाने का अनुबंध नहीं था तो सवारी बैठाकर रामगढ़ ताल में उतरने की क्या जरुरत थी?
 
रामगढ़ ताल में जीडीए के अलावा पर्यटन निगम की ओर से अलग-अलग नाव संचालित कराई जाती हैं। सबके लिए जेटी और रूट निर्धारित है। निश्चित तौर कुछ गड़बड़ी की वजह से ऐसी घटना हुई होगी। मामले की जानकारी मिली है। इसकी जांच कराई जाएगी। साथ ही ऐसी व्यवस्था कराई जाएगी कि आगे से ऐसी घटना न हो। -अनुज सिंह, उपाध्यक्ष, जीडीए
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X