विज्ञापन
विज्ञापन
कार्य बाधा एवं परेशानियों को दूर करने हेतु कामाख्या शक्तिपीठ में कराएं बगलामुखी विशिष्ट पूजा
Navratri Special

कार्य बाधा एवं परेशानियों को दूर करने हेतु कामाख्या शक्तिपीठ में कराएं बगलामुखी विशिष्ट पूजा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

आगराः नकल करते पकड़े गए एमबीबीएस के छात्रों को मिली जमानत

ऑनलाइन रामलीलाः साधु वेश में आया दशानन, सीता को हर ले गया, आज देखें सबरी के बेर की लीला

श्रीरामलीला कमेटी के सहयोग से दिखाई जा रही ऑनलाइन रामलीला में बुधवार को दर्शकों ने सीता हरण की लीला देखी। रावण साधु के वेश में आया और जानकी का हरण कर ले गया।

लीला में दिखाया गया कि शूर्पणखा के नाक-कान कट जाने के बाद रावण सीता हरण के लिए आता है। वह राम और लक्ष्मण को सीता से दूर भेजने के लिए मारीच को भेजता है। मारीच स्वर्ण मृग का रूप बनाकर जाता है। जानकी प्रभु राम से कहती हैं कि वह मृग को लेकर आएं। राम मृग के पीछे जाते हैं।

मारीच प्रभु की आवाज में शोर मचाता है। इस पर जानकी लक्ष्मण को भेजती हैं। लक्ष्मण जाते हुए कुटिया के बाहर रेखा खींच जाते हैं और जानकी से कहते हैं कि वह रेखा को पार न करें। इसके बाद दशानन साधु वेश में आता है और जानकी से रेखा के बाहर आकर भिक्षा देने के लिए कहता है। जैसे ही जानकी लक्ष्मण रेखा पार करती हैं, रावण उनका हरण कर लेता है।

आज सबरी के बेर की लीला
ऑनलाइन रामलीला में गुरुवार को सबरी के बेर खाने की लीला दिखाई जाएगी। प्रभु राम सबरी के आश्रम में पहुंचते हैं। सबरी उन्हें खाने के लिए बेर देती है। वह खुद चखने के बाद प्रभु को देती है, ताकि पता चलता रहे कि बेर मीठे ही हैं। इस क्यूआर कोड को स्कैन करके यह लीला देखी जा सकती है।
 
... और पढ़ें

साहित्य सागर में हिंदी पर चर्चाः छोटी-छोटी बोली व भाषाओं को समाहित कर हिंदी हुई व्यापक

अमर उजाला और डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय के सामुदायिक रेडियो-90.4- आगरा की आवाज की ओर से बुधवार को ‘साहित्य सागर’ कार्यक्रम की कड़ी में ‘हिंदी की दशा एवं दिशा’ विषय पर परिचर्चा कराई गई। इसमें लखनऊ और मणिपुर के विश्वविद्यालयों से विशेषज्ञ जुड़े और अपनी राय रखी। इसका रेडियो पर प्रचारण किया गया। लखनऊ विश्वविद्यालय से संबद्ध विद्यांत पीजी कॉलेज, लखनऊ के हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ. विजय कुमार कर्ण ने कहा कि हिंदी को बढ़ाने में बोलियों व उप बोलियों और उप भाषाओं का बड़ा योगदान है। छोटी-छोटी बोली व भाषाओं को समाहित कर हिंदी व्यापक हुई है।


उन्होंने कहा कि हिंदी साहित्य का विशाल भंडार है। साहित्य के सागर में जो डुबकी लगाता है, वह अनेक बहुमूल्य रत्नों को प्राप्त करता है। हिंदी में कामकाज करने वाले बढ़े हैं। विश्वविद्यालय के सामुदायिक रेडियो के निदेशक प्रो. लवकुश मिश्रा निर्देशन में कार्यक्रम संपन्न हुआ। सामुदायिक रेडियो की प्रोग्राम एग्जक्यूटिव पूजा सक्सेना ने संचालन किया। इंजीनियरिंग असिस्टेंट तरुण श्रीवास्तव ने सहयोग दिया।

हिंदी भाषा पर कोई संकट नहीं : प्रो. पीआर 
माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के पूर्व चेयरमैन व लखनऊ विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग के प्रो. पीआर पॉल ने कहा कि हमारी भाषा व संस्कृति अक्षुण है। हिंदी विभिन्न बोलियों का समुच्चय है। भाषा सुरक्षित रहेगी तो संस्कृति भी सुरक्षित रहेगी। हिंदी भाषा पर फिलहाल कोई संकट नहीं है। हम पूरे विश्व से जुड़ रहे हैं। हमारी हिंदी भाषा को कोई नजरअंदाज नहीं कर सकता है। आज 50 देशों में हिंदी पढ़ाई जाती है। विदेशों में भी हिंदी का परचम पहरा रहा है। यह रोजगार भी दे रही है।
... और पढ़ें

दुनिया के सातवें अजूबे पर दिखा कोरोना संक्रमण का प्रभाव, 70 हजार भी नहीं पहुंची सैलानियों की संख्या

ताजमहल में छाता लगाए महिला पर्यटक ताजमहल में छाता लगाए महिला पर्यटक

टूंडला विधानसभा उपचुनावः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की चुनावी सभा आज

टूंडला विधानसभा सीट के उपचुनाव के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में आज (गुरुवार) बीरी सिंह महाविद्यालय के मैदान पर चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। उनके आगमन की तैयारियां जोरों से की जा रही हैं। मुख्यमंत्री शाम करीब सवा चार बजे सभास्थल पर आएंगे। वहीं आगरा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत गुरुवार को तीन मंत्री शहर में रहेंगे। मुख्यमंत्री निजी हेलीकॉप्टर से टूंडला से शाम पांच बजे आगरा एयरपोर्ट आएंगे। यहां पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों से मिलेंगे। 


जबकि ग्राम्य विकास मंत्री राजेंद्र प्रताप ‘मोती सिंह’ लखनऊ से सड़क मार्ग होते हुए सर्किट हाउस आएंगे। यहां शाम चार बजे विभागीय समीक्षा बैठक करेंगे। गुरुवार को 11 बजे सड़क मार्ग से ही स्टांप एवं न्यायालय शुल्क एवं पंजीयन राज्य मंत्री रवींद्र जायसवाल सर्किट हाउस में मंडलीय अधिकारियों के साथ विभागीय समीक्षा बैठक करेंगे। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन को लेकर प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट है। सभी व्यवस्थाओं को पूरा किया गया है। नगर पालिका चेयरमैन रामबहादुर चक ने ईओ मुकेश कुमार के साथ पहुंचकर कर्मचारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। पालिका कर्मियों से मैदान की साफ-सफाई के साथ ही समतलीकरण कराया गया जिससे सभा में आने वाले लोगों को परेशानी न हो। वहीं उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने भी सभा स्थल का जायजा लिया।
 
... और पढ़ें

'रोटी वाली अम्मा' को मिला पीएम स्वनिधि योजना से लोन, बोलीं- जब तक हाथ-पैर चलेंगे करूंगी सेवा

सेल्फी प्वाइंट आगरा

आगराः बर्फ खरीदने गई दस वर्षीय बालिका से दुष्कर्म, विवाहिता की अस्मत लूटी

आगरा-जयपुर हाईवे पर स्थित एक कस्बे की 10 वर्षीय बालिका के साथ एक युवक ने दुष्कर्म किया। घटना सोमवार की है। वह बर्फ खरीदने दुकान पर गई थी। वहीं से युवक उसे बहाने से बुलाकर खेत में लेकर चला गया था। वहीं एक अन्य गांव में विवाहिता के साथ भी दुष्कर्म की घटना हुई है। दोनों मामलों में पुलिस ने मुकदमे दर्ज कर लिए हैं।

 हाईवे स्थित कस्बे की रहने वाली महिला ने बताया कि उसका पति नहीं है। वह गांव-गांव फेरी कर महिलाओं के सौंदर्य प्रसाधन का सामान बेचती है। सोमवार को वह फेरी पर गई थी। घर में उसकी 10 वर्षीय बेटी थी। जो बर्फ खरीदने गांव में ही स्थित दुकान पर गई थी। आरोप है कि वहां एक युवक बालिका को बहाने से खेत में ले गया। जहां उसके साथ दुष्कर्म किया। घर आने पर उसने मां को घटना की जानकारी दी। महिला बेटी को लेकर थाना मलपुरा पहुंची और आरोपी असलम के खिलाफ तहरीर दी।
 
वहीं क्षेत्र के एक गांव की महिला मंगलवार को घर में अकेली थी। आरोप है कि तभी गांव का एक युवक घर में आ गया। उसके साथ दुष्कर्म किया। विरोध पर मारपीट भी की। पुलिस ने विवाहिता का मेडिकल कराया। थाना मलपुरा प्रभारी अनुराग शर्मा ने बताया है कि दोनों ही मामलों में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। मामलों की जांच करने के साथ आरोपियों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।
... और पढ़ें

एक्सप्रेस की तरह चलेंगीं आगरा-झांसी की चार पैसेंजर ट्रेन, देखिये आगरा में रुकने वाली गाड़ियों की सूची

स्पेशल और फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों के साथ ही रेलवे पैसेंजर, डेमू और मेमू ट्रेनों को मेल एक्सप्रेस के रूप में संचालित करने जा रहा है। उत्तर मध्य रेलवे में आगरा से झांसी के बीच चार पैसेंजर ट्रेनों का संचालन मेल एक्सप्रेस के रूप में किया जाएगा।  


रेलवे ने संक्रमण के दौरान एक जून से स्पेशल ट्रेनों का संचालन कर रहा है। इनमें अधिकांश ट्रेनें लंबी दूरी की हैं। अभी तक इंटरसिटी भी गिनी चुनी चलाई गई हैं। अब पैसेंजर, डेमू व मेमू ट्रेनों को मेल एक्सप्रेस के रूप में संचालित करने की तैयारी है। एक नवंबर से इसकी घोषणा की जा सकती है। हर रीजन को छोटी दूरी की यात्रा वाली पैसेंजर ट्रेनों को मेल/एक्सप्रेस के रूप में संचालित करने को डिमांड भेजी गई थीं, जिस पर रेलवे बोर्ड ने मुहर लगा दी गई है।

आगरा मंडल से दो जोड़ी आगरा कैंट-झांसी पैसेंजर ट्रेन मेल के रूप में संचालित होंगी। इनमें 51815 झांसी से आगरा कैंट, 51816 आगरा कैंट से झांसी व 51831 झांसी से आगरा कैंट व 51832 आगरा कैंट से झांसी नियमित ट्रेनों को मंजूरी दी गई है। रेल अधिकारियों ने बताया कि इन ट्रेनों में भी जनरल सीट नहीं होंगी। रिजर्वेशन कराने के बाद ही यात्रा की जा सकेगी। 
... और पढ़ें

तालाब की जमीन को पाटकर खोल लिए शराब के ठेके, डीएम के आदेश के बाद भी नहीं हटा अतिक्रमण

भोगीपुरा में तालाब को पाटकर पक्की दुकानें बनाई गईं और शराब के दो ठेके भी खोल लिए गए। डीएम के आदेश के बावजूद इन्हें हटाया नहीं गया। आसपास के लोग सात साल से तहसील से लेकर कलक्ट्रेट और एडीए से लेकर नगर निगम तक चक्कर काट रहे हैं।

मौजा भोगीपुरा में राजस्व रिकॉर्ड में 367 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में पुरानी पोखर है। खसरा-खतौनी में वक्फ बोर्ड भूमि पर पोखर दर्ज है। बुधवार को अमर उजाला टीम यहां पहुंची तो मौके पर आठ पक्की दुकानों का निर्माण मिला। दो दुकानों में शराब की मॉडल शॉप खुली है।

ये भी पढ़ें-
तालाबों की जांच में चौंकाने वाले खुलासे, पार्क बनाया, खुल गई पौधशाला

क्षेत्रीय निवासी परशुराम शर्मा ने बताया कि पोखर में पूरे इलाके की नालियों का और बरसात में पानी इकठ्ठा होता था। 2013 में जब यहां अतिक्रमण व अवैध निर्माण हो रहे थे तब मैंने तत्कालीन डीएम जुहेर बिन सगीर से शिकायत की थी। उन्होंने नगर आयुक्त को पोखर से अवैध कब्जे हटाने के आदेश किए थे। इसके बाद भी अफसर नगर निगम, कलक्ट्रेट, तहसील और एडीए में चक्कर लगवाते रहे, लेकिन अतिक्रमण ध्वस्त नहीं किए। उन्होंने क्षेत्रीय लेखपाल व अधिकारियों पर कब्जा नहीं हटाने के नाम पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए। ... और पढ़ें

ताजनगरी में मेट्रोः बनेंगे भूमिगत और एलिवेटेड ट्रैक, प्रोजेक्ट पर खर्च होंगे 8379 करोड़ रुपये

मेट्रो रेल के लिए शहर में 22.3 किमी एलिवेटेड और 7.7 कि.मी भूमिगत कॉरीडोर बनेंगे। 30 किमी लंबे दोनों ट्रैक में 29 स्टेशन होंगे। डीपीआर बनाने वाली कंपनी राइट्स ने पूरे ट्रैक में 25 प्रतिशत भूमिगत और 75 प्रतिशत एलिवेटेड ट्रैक निर्माण का प्रावधान किया है। टेंडर हो जाने के बाद अब इन पर काम होगा। कंपनी 25 दिसंबर से पहले काम शुरू कर सकती है।

भूमिगत ट्रैक सिर्फ सिकंदरा से ताजमहल के पूर्वी गेट तक प्रस्तावित पहले कॉरीडोर बनेगा। 14.25 किमी इस ट्रैक में 14 स्टेशन बनेंगे। इनमें पांच स्टेशन भूमिगत होंगे बाकी सभी एलिवेटेड रहेंगे। कालिंदी विहार से आगरा कैंट रेलवे स्टेशन तक प्रस्तावित दूसरे 15.4 कि.मी लंबे कॉरीडोर में सभी 15 स्टेशन एलिवेटेड होंगे। इस कॉरीडोर में कोई भूमिगत स्टेशन नहीं बनेगा।

पूरे प्रोजेक्ट पर करीब 8379 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इसमें पहले कॉरीडोर के लिए तीन स्टेशन और चार कि.मी ट्रैक निर्माण 273 करोड़ रुपये में होगा। इसके लिए सेम इंडिया बिल्डवेल को ठेका मिला है। कंपनी 25 दिसंबर से पहले काम शुरू कर सकती है। फरवरी 2023 तक कंपनी को काम पूरा करना है।
... और पढ़ें
Test
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X