विज्ञापन
विज्ञापन
जानें क्या है कुंभ संक्रांति की पूजा विधि?
Astrology

जानें क्या है कुंभ संक्रांति की पूजा विधि?

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

कासगंज: फौजी के बेटे ने खुद को गोली मार उतारा मौत के घाट, परिवार में मचा कोहराम

पटियाली कोतवाली क्षेत्र के गांव दरियावगंज में फौजी के बेटे ने गोली मारकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं है, लेकिन पुलिस प्रथम दृष्टया गृह क्लेश मान रही है। इधर युवक की मौत से परिवार में कोहराम मच गया है।दरियावगंज निवासी नक्षत्र पाल जम्मू में सैनिक हैं, उनका परिवार गांव में ही रहता है।

मंगलवार की शाम सभी परिजन खेत पर गए हुए थे। उनका 17 वर्षीय बेटा विकास यादव घर पर था। शाम लगभग पांच बजे घर से गोली चलने की आवाज सुनाई दी। गोली की आवाज सुन पड़ोसी घर की ओर दौड़े। देखा तो खून से लथपथ विकास जमीन पर पड़ा हुआ था और उसके समीप एक 315 बोर का तमंचा पड़ा था। युवक के सीने में गोली लगी थी। इसकी सूचना खेत पर काम कर रहे परिजनों को दी गई।

आगरा: सेना में भर्ती होने का युवाओं के लिए सुनहरा मौका, जानिए कब से शुरू होंगी भर्तियां

परिजन घर पहुंचे और उसे सरकारी अस्पताल ले गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। युवक की मौत से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। सूचना पर सीओ पटियाली गवेंद्र गौतम पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है। परिजन और ग्रामीण तो घटना का कोई कारण स्पष्ट नहीं कर रहे, लेकिन पुलिस इस घटना का कारण गृह क्लेश मान रही है।
  ... और पढ़ें

आगरा: पांच फरवरी से शुरू होगा टीकाकरण का दूसरा सत्र, इन लोगों को लगाया जाएगा टीका

Farmers Tractor Rally: दिल्ली बवाल के बाद भड़के किसान, यमुना एक्सप्रेसवे पर निकाली ट्रैक्टर रैली

किसान ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हुए बवाल के बाद मथुरा जिले के किसान भड़क गए। मंगलवार को हजारों की संख्या में किसान सुरक्षा व्यवस्था को धता बताते हुए ट्रैक्टर लेकर यमुना एक्सप्रेसवे पर चढ़ गए और दिल्ली जाने लगे। इन किसानों को टप्पल कट पर रोक लिया गया। पुलिस-प्रशासन के अफसर के समझाने पर किसान मान गए। इसके बाद मथुरा लौट गए। 

गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली निकालने के एलान के बाद मथुरा पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था करने के दावे किए थे। सोमवार सुबह से ही हाईवे और यमुना एक्सप्रेसवे पर पुलिस और पीएसी के जवान तैनात कर दिए गए थे। मंगलवार को फोर्स और बढ़ा दी गई, लेकिन दिल्ली में हुए बवाल के बाद मथुरा जिले के किसान भी बेकाबू हो गए। 
संबंधित खबर- 
सिंघु बॉर्डर पर 20 किलोमीटर तक लगी ट्रैक्टरों की लाइन, टीकरी बॉर्डर पर 13 किलोमीटर लंबा जाम

नौहझील क्षेत्र में स्थित मोरकी इंटर कॉलेज के मैदान में चल रहे धरना-प्रदर्शन में सुबह से ही किसान ट्रैक्टर लेकर पहुंचने लगे थे। यहां किसान नेता रामबाबू सिंह कटैलिया व अन्य किसानों ने ध्वजारोहण किया। इसके बाद ट्रैक्टर रैली लेकर निकल पड़े। बाजना कट से किसान ट्रैक्टर लेकर यमुना एक्सप्रेसवे पर चढ़ गए। किसानों की भीड़ के आगे पुलिस बेबस नजर आई। 
... और पढ़ें

श्रीकृष्ण जन्मभूमि मामला: रिवीजन याचिका पर सुनवाई आज, अदालत में शाही मस्जिद पक्ष रखेगा दलील

मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मभूमि मामले में प्रतिवादी पक्ष शाही मस्जिद ईदगाह की दलीलों और आपत्ति पर गुरुवार को जिला जज की अदालत में सुनवाई होगी। 18 जनवरी को हुई सुनवाई में शाही मस्जिद पक्ष ने श्रीकृष्ण विराजमान की ओर से दाखिल दावे की अपील को गलत बताया था। अदालत ने प्रतिवादी की आपत्ति को स्वीकार करते हुए अपील को संशोधित करते हुए रिवीजन में बदल दिया है। 

बता दें कि अधिवक्ता रंजना अग्निहोत्री व अन्य ने श्रीकृष्ण विराजमान के भक्त के रूप में 25 सितंबर 2020 को अदालत में दावा किया था कि शाही मस्जिद ईदगाह के साथ वर्ष 1967 में हुए समझौते के बाद हुई डिक्री (न्यायिक निर्णय) को रद्द कर दिया जाए। जिससे कि श्रीकृष्ण जन्मस्थान से संबंधित कटरा केशवदेव की 13.37 एकड़ जमीन श्रीकृष्ण विराजमान को मिल सके।

इस दावे में वादी की ओर से यूपी सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन, शाही मस्जिद ईदगाह के सचिव, श्रीकृष्ण जन्मभूमि ट्रस्ट के ट्रस्टी और श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान के सचिव को प्रतिवादी बनाया गया था। श्रीकृष्ण विराजमान का दावा सिविल जज सीनियर डिवीजन की अदालत के अनुपस्थित होने के कारण फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुना गया और उसे प्रकीर्ण वाद में दर्ज किया गया। 
... और पढ़ें
श्रीकृष्ण जन्मस्थान मंदिर और पास में स्थित शाही मस्जिद ईदगाह, मथुरा। श्रीकृष्ण जन्मस्थान मंदिर और पास में स्थित शाही मस्जिद ईदगाह, मथुरा।

आगरा: क्रेडिट कार्ड की जानकारी हासिल कर 300 लोगों से एक करोड़ की ठगी, चार आरोपी गिरफ्तार

नोएडा की विशेष कार्य बल (एसटीएफ) और आगरा के थाना खेरागढ़ की पुलिस टीम ने साइबर ठगों के ऐसे गिरोह को पकड़ा है, जो 300 लोगों से एक करोड़ रुपये की ठगी कर चुका है। आरोपियों के पास से एक लैपटॉप, एक स्कॉर्पियो, एक होंडा सिटी कार, 6.59 लाख रुपये नगद और 15 डायरियां मिली हैं। 

डायरियों में 6000 से ज्यादा लोगों के क्रेडिट कार्ड का डाटा है। यह गिरोह क्रेडिट कार्ड धारकों को फोन करके जानकारी हासिल कर खुद की बनाई फर्जी वेबसाइट कंपनी पर शॉपिंग करता है और रकम अपने खातों में जमा करा लेता है। पांच साल से ठगी कर रहे थे।

आगरा के एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि पिछले दिनों एसबीआई कार्ड्स एंड पेमेंट लिमिटेड के अधिकारियों ने एडीजी एसटीएफ से शिकायत की थी। खेरागढ़ क्षेत्र में इसी तरह क्रेडिट कार्ड धारक से ठगी की गई थी। इस संबंध में खेरागढ़ थाने में धोखाधड़ी और आईटी एक्ट की धारा में मुकदमा दर्ज हुआ था।
... और पढ़ें

छात्रवृत्ति घोटाला: 71 आईटीआई संस्थानों के आवेदनों की जांच कर रहा समाज कल्याण विभाग

करोड़ों रुपये के छात्रवृत्ति घोटाले में शासन द्वारा डिफॉल्टर पाए गए 71 आईटीआई शिक्षण संस्थानों के छात्रवृत्ति फार्मों की जांच समाज कल्याण विभाग द्वारा की जा रही है। इसके बाद शासन के निर्देश के अनुसार निस्तारण किया जाएगा । अभी तक शासन ने इन विद्यालयों को ब्लैक लिस्ट नहीं किया है जबकि सभी शिक्षण संस्थाओं के खिलाफ समाज कल्याण विभाग द्वारा एफआईआर दर्ज कराई गई है। 

छात्रवृत्ति घोटाले में फर्जीवाड़ा कर छात्रवृत्ति पाने वाले 71 आईटीआई शिक्षण संस्थाओं के खिलाफ शासन द्वारा एफआईआर दर्ज करा दी गई है। इन शिक्षण संस्थाओं द्वारा हाईकोर्ट में रिट दाखिल की गई। हाईकोर्ट ने रिट का निस्तारण करते हुए फिलहाल आईटीआई कॉलेजों के खिलाफ कोई भी कार्रवाई रोकने के आदेश दिए हैं। शासन द्वारा इस संबंध में 8 फरवरी तक अपना पक्ष हाईकोर्ट में रखा जाएगा। उधर, सभी शिक्षण संस्थाओं द्वारा पूर्व की भांति छात्रवृत्ति पाने के लिए आवेदन किया गया है।

समाज कल्याण विभाग द्वारा इन सभी कॉलेजों की छात्रवृत्ति संबंधी फार्मों की जांच की जा रही है। जांच के बाद शासन के निर्देशों के अनुसार ही इन विद्यालयों की छात्रवृत्ति के संबंध में कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में जानकारी देते हुए समाज कल्याण अधिकारी रमाशंकर गुप्ता ने बताया कि अभी हम इन शिक्षण संस्थाओं के छात्रवृत्ति फार्म की जांच कर रहे हैं। इसके बाद ही शासन से निर्देश के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। 

ये भी पढ़ें- 
छात्रवृत्ति घोटाला: समाज कल्याण विभाग ने मथुरा के 68 आईटीआई संचालकों को किया तलब


नौ शिक्षण संस्थाओं के नाम भी एफआईआर में हुए शामिल 
समाज कल्याण विभाग द्वारा शुरुआत में शासन के निर्देश पर 62 शिक्षण संस्थानों के खिलाफ छात्रवृत्ति घोटाला करने के आरोप में एफआईआर दर्ज कराई गई थी। 23 जनवरी को समाज कल्याण अधिकारी रमाशंकर गुप्ता द्वारा शासन के निर्देश के बाद 9 और आईटीआई शिक्षण संस्थाओं के खिलाफ तहरीर दी गई थी।  थाना सदर बाजार पुलिस ने इन सभी के नाम एफआईआर में शामिल कर लिए।
... और पढ़ें

Weather Today: ताजनगरी में मौसम की उछल-कूद, एक दिन धूप के बाद फिर छाया घना कोहरा

जनवरी के अंतिम सप्ताह में मौसम की उछल-कूद देखने को मिल रही है। आगरा में बुधवार को खिली धूप से सर्दी से राहत मिली तो गुरुवार को घने कोहरे की चादर तन गई। इससे लोगों की कंपकंपी छूट गई। तड़के चार बजे से ही घना कोहरा छा गया। इसके कारण जहां सड़कों पर वाहन रेंगते हुए चले, वहीं गलन से लोग भी परेशान नजर आए।   

ताजनगरी में बुधवार को धूप खिलने से न्यूनतम तापमान में हल्की वृद्धि दर्ज हुई। हालांकि गलन कम नहीं हुई। अधिकतम तापमान 22 डिग्री और न्यूनतम तापमान सात डिग्री सेल्सियस रहा। लेकिन गुरुवार को एक बार फिर मौसम ने करवट ली और घना कोहरा छा गया। कोहरे के चलते दृश्यता कम होने से हाईवे और एक्सप्रेसवे पर वाहन रेंगकर चले। 

कोहरे और गलन के कारण लोग ठिठुरते दिखाई दिए। आगामी दिनों में भी ठंड से राहत के आसार नहीं हैं। जनवरी माह के अंत में तापमान में और गिरावट के आसार हैं। इससे सुबह और शाम गलन वाली सर्दी का अहसास बना रहेगा। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, आगामी दिनों में न्यूनतम तापमान में कमी आएगी। इससे सर्दी अधिक महसूस की जाएगी।
... और पढ़ें

आगरा: बस में सवारी बैठाने को लेकर ट्रैवल्स एजेंसी संचालकों और कर्मचारियों में मारपीट, थाने में हंगामा

आगरा में आज मौसम: शहर में छाया कोहरा
आगरा के थाना रकाबगंज क्षेत्र में नामनेर चौराहा स्थित दो ट्रैवल्स एजेंसी संचालकों में बस में सवारी बैठाने को लेकर विवाद के बाद मारपीट हो गई। पुलिस दोनों ट्रैवल्स के लोगों को थाने पर ले आई। इसकी जानकारी पर एक के समर्थन में एक संगठन के पदाधिकारी पहुंच गए। एक घंटे तक हंगामे के बाद समझौता होने पर पुलिस ने पकड़े गए लोगों को छोड़ दिया। बाद में एक ट्रैवल एजेंसी संचालक की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

नामनेर चौराहा पर ओम साईं ट्रैवल्स और पंडित ट्रैवल्स हैं। बुधवार रात को एक ऑटो सवारियों को लेकर आया। दोनों ट्रैवल्स एजेंसी के कर्मचारी सवारी को बुला रहे थे। सवारी जयपुर की एक बस में जाकर बैठ गई। इस बात को लेकर दूसरी ट्रैवल एजेंसी के कर्मचारियों में विवाद शुरु कर दिया। बात इतनी बढ़ी कि दोनों के संचालक और कर्मचारी आपस में भिड़ गए। उनमें मारपीट होने लगी। सूचना पर थाना रकाबगंज की फोर्स पहुंच गई। पुलिस ने दोनों पक्षों के लोगों को पकड़ लिया और थाने ले आई।

पंडित ट्रेवल्स के समर्थन में एक जनप्रतिनिधि के पुत्र थाने आ गए। इसकी जानकारी पर ओम साईं ट्रैवल्स के समर्थन में एक संगठन के पदाधिकारी और कार्यकर्ता आ गए। इस पर थाने पर हंगामा होने लगा। जानकारी मिलने पर आसपास के थानों का फोर्स पहुंची। दोनों ट्रैवल्स एजेंसी के संचालकों में समझौता हो गया। इस पर पुलिस ने पकड़े गए लोगों को छोड़ दिया। 

थाना रकाबगंज के प्रभारी निरीक्षक दिनेश कुमार का कहना है कि दो ट्रैवल्स एजेंसी के संचालकों और कर्मचारियों में सवारी बैठाने को लेकर विवाद हुआ था। इस पर उन्हें थाने लाया गया था। बाद में समझौता हो गया। हालांकि ओम साईं ट्रैवल्स एजेंसी के संचालक अजय अग्रवाल से मारपीट के मामले में बलवे का मुकदमा दर्ज किया गया है। इसमें पंडित ट्रैवल्स के सोनू, हनुमान, मनोज और दो अज्ञात को नामजद किया गया है।
... और पढ़ें

Corona In Agra: आगरा में कोरोना संक्रमण के दो मरीज मिले, अस्पतालों में अब सिर्फ 53 संक्रमित

आगरा में कोरोना संक्रमण के बुधवार को दो मामले सामने आए हैं। अब संक्रमितों की कुल संख्या 10,473 पर पहुंच गई है। अब तक 10,249 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं। आगरा जनपद में कुल सक्रिय मामले भी घटे हैं। जनपद में अब 53 कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। डीएम प्रभु एन सिंह के अनुसार जनपद में रिकवरी रेट 97.86 प्रतिशत से अधिक है। अब तक कुल 48,3933 सैंपल कलेक्ट किए गए हैं। वहीं अब तक कोरोना संक्रमण के कारण 171 मरीजों की मौत दर्ज हुई है। 

मार्च में मिला था कोरोना का मरीज
गौरतलब है कि आगरा में तीन मार्च 2020 को पहली बार कोरोना वायरस के पांच मरीज मिले थे। इस महीने में 12 संक्रमित मरीज मिले। अप्रैल से संक्रमण की दर लगातार बढ़ती गई। सितंबर में संक्रमण चरम पर था। दिसंबर में संक्रमण की दर लगातार कम होती गई। जनवरी 2021 में और कमी आई है। 


 
... और पढ़ें

आगरा: सेना में भर्ती होने का युवाओं के लिए सुनहरा मौका, जानिए कब से शुरू होंगी भर्तियां

आगरा व अलीगढ़ मंडल के छह जिलों की 25 तहसीलों के लिए सेना भर्ती का रोस्टर आगरा सेना भर्ती बोर्ड व जिला प्रशासन ने बुधवार को जारी कर दिया। 15 फरवरी से 8 मार्च तक 25 तहसील क्षेत्र वार अभ्यर्थियों की शारीरिक भर्ती परीक्षा होगी।  जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने बताया 1.12 लाख अभ्यार्थी भाग लेंगे।

आगरा दिल्ली बाईपास कीठम स्थित आनंद इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट में भर्ती केंद्र बनाया है। बुधवार को परीक्षा प्रभारी एडीएम सिटी डॉ प्रभाकांत अवस्थी व एसपी सिटी रोहन बोत्रे ने भर्ती स्थल पर निरीक्षण कर व्यवस्थाए परखीं हैं। बेहतर साफ सफाई व कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराते हुए भर्ती प्रक्रिया की जाएगी। आगामी 15 फरवरी से दो मार्च तक कासगंज, हाथरस, अलीगढ़, फिरोजाबाद व मथुरा की तहसीलों के युवक आएंगे। तीन से छह मार्च तक आगरा की बाह, किरावली, खैरागढ़, फतेहाबाद व सदर के अभ्यार्थी भर्ती में शामिल होंगे।
... और पढ़ें

एटा: झोपड़ी में आग लगने से दो लोगों की जिंदा जलकर मौत, परिवार में मचा कोहराम

एटा के थाना जैथरा क्षेत्र के गांव पिपहारा में हृदय विदारक घटना घटित हुई। मंगलवार की रात एक झोपड़ी में आग लगने से दो लोगों की दर्दनाक मृत्यु हो गई। इस घटना की जानकारी ग्रामीणों को बुधवार सुबह हुई। पुलिस ने दोनों के जले हुए शवों का पोस्टमार्टम कराया है। 

एटा जनपद के थाना जैथरा क्षेत्र के गांव पिपैरा निवासी कालीचरन उर्फ कारिंदा (40) पुत्र लालता प्रसाद और राधेश्याम (35) पुत्र बालकराम झोपड़ी में आग लगने से जिंदा जल गए। कालीचरन के भाई शिवपाल ने बताया है कि गांव के बाहर मंदिर बनाया है, वहीं पर झोपड़ी डाली गई है। झोपड़ी में रोजाना की तरह कालीचरन सोने जा रहा था तभी गांव का ही रिश्ते का भतीजा राधेश्याम आ गया। दोनों में लंबे समय से दोस्ताना भी है। झोपड़ी में एक गाय भी बंधी थी। इनका कहना है कि मंगलवार की देरशाम अलाव जलाकर दोनों ताप रहे थे, इसके बाद सो गए।
 
ये भी पढ़ें- आगरा: आय से अधिक संपत्ति के केस में फंसे सेवानिवृत्त प्रधान सहायक 

संभावना जताई जा रही हैं कि रात्रि के समय झोपड़ी में किसी तरह से आग लग गई और दोनों को भागने का मौका तक नहीं मिला, लेकिन गाय खूंटा उखाड़कर भागने में सफल रही। रात्रि में लोग घरों में सो रहे थे और आग लगने की भनक तक नहीं लग सकी। सुबह ग्रामीण उठे तो झोपड़ी जली पड़ी थी, पास जाकर देखा तो दोनों के शव पूरी तरह से जल चुके थे, हड्डियां शेष बची थीं। 

आगरा: पांच फरवरी से शुरू होगा टीकाकरण का दूसरा सत्र, इन लोगों को लगाया जाएगा टीका

झोपड़ी में आग लगने से दो लोगों की जिंदा जलकर मौत हुई है। परिजनों ने आग लगने की वजह अलाव पर तापने से आग लगना बताया जा रहा है। दोनों के शवों के पास मिली शेष हड्डियों का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिए हैं। - ओपी सिंह, एएसपी
... और पढ़ें

आगरा: आय से अधिक संपत्ति के केस में फंसे सेवानिवृत्त प्रधान सहायक

आगरा के थाना हरीपर्वत में संभागीय परिवहन अधिकारी कार्यालय के सेवानिवृत्त प्रधान सहायक होती लाल शर्मा के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है। उनके खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण संगठन ने खुली जांच की थी। जांच के बाद मुकदमा दर्ज कराया गया है।

मुकदमे के मुताबिक, होती लाल शर्मा संभागीय परिवहन अधिकारी के कार्यालय में प्रधान सहायक के पद पर कार्यरत थे। तीन साल पहले उनके खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की शिकायत की गई। इस पर भ्रष्टाचार निवारण संगठन ने खुली जांच की। जांच में पाया गया कि होतीलाल शर्मा मूल रूप से मथुरा के थाना मांट स्थित नगला बिंदा के रहने वाले हैं। उनकी लॉयर्स कॉलोनी में आई 15 में कोठी है। 

लोक सेवक के रूप में कार्य करते हुए ज्ञात एवं वैध स्रोतों से 1.04 करोड़ की संपत्ति अर्जित की। उनके द्वारा कुल भरण पोषण और परिसंपत्तियों पर दो करोड़ रुपये खर्च किए गए, जो आय के सापेक्ष तकरीबन 95,00000 अधिक है। वह 91. 28 प्रतिशत अधिक व्यय संपत्ति के अर्जन स्रोत नहीं दिखा सके। इस पर आय से अधिक संपत्ति के मामले में दोषी पाए जाने पर निरीक्षक जसपाल सिंह पवार ने थाना हरीपर्वत में मुकदमा दर्ज कराया है। सेवानिवृत्त प्रधान सहायक की गिरफ्तारी की जा सकती है।
... और पढ़ें

आगरा: 14 फरवरी तक एक व्यॉयफ्रेंड बना लो, कॉलेज में नहीं मिलेगा एंट्री, जानिए क्या है इस तरह के सर्कुलर की सच्चाई

14 फरवरी यानी वेलेंटाइन डे तक एक व्यॉयफ्रेंड बना लो...सुरक्षा कारणों के लिए यह करना होगा। कॉलेज परिसर में किसी भी अकेली लड़की को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। अपने व्यॉयफ्रेंड के साथ खिंचाई ताजा फोटो कॉलेज में प्रवेश के दौरान दिखानी होगी। आगरा के एक नामचीन कॉलेज के लैटरहैड पर लिखा यह पत्र सोमवार को इंटरनेट, सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हुआ। इसकी हकीकत के लिए जब कॉलेज प्रबंधन से बात की गई तो उन्होंने बताया कि इसकी जांच की जा रही है। ये पत्र पूरी तरह फर्जी है।

ये भी पढ़ें-  आगरा: सेना में भर्ती होने का युवाओं के लिए सुनहरा मौका, जानिए कब से शुरू होंगी भर्तियां

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, स्पष्टीकरण जारी
विगत दिन एक पत्र सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ, जिसमें आगरा के नामचीन कॉलेज के वरिष्ठ प्रोफेसर के निर्देश थे कि कॉलेज की द्वितीय व अंतिम वर्ष की छात्राओं को 14 फरवरी यानी वेलेंटाइन डे तक व्यॉयफ्रेंड बनाना है। इस पत्र के बारे में कॉलेज के प्राचार्य डॉ. एसपी सिंह का कहना है कि कॉलेज में प्रो. आशीष शर्मा नाम का कोई भी शिक्षक नहीं है। कॉलेज प्राचार्य ने इसकी जांच के निर्देश दिए हैं और स्पष्टीकरण जारी किया है। पत्र में कहा गया है कि यह पत्र फर्जी है, जिसने भी यह काम किया है, उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। 
 
... और पढ़ें
Test
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X