विज्ञापन
विज्ञापन
नौकरी एवं व्यापारिक वृद्धि हेतु शरद पूर्णिमा पर जरूर कराएं श्री कृष्ण का यह प्रभावशाली पूजन
astrology

नौकरी एवं व्यापारिक वृद्धि हेतु शरद पूर्णिमा पर जरूर कराएं श्री कृष्ण का यह प्रभावशाली पूजन

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

विजयदशमी के मौके पर ताजमहल में लहराया भगवा, शिव चालीसा का भी किया पाठ

खतरनाक हुई ताजनगरी की हवा, धूल कणों की संख्या सामान्य से सात गुना अधिक

खराब चल रही ताजनगरी की हवा रविवार को खतरनाक  स्थिति में पहुंच गई। वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 309 दर्ज किया गया। यह इस सीजन का उच्चतम स्तर है। धूल कणों की संख्या सामान्य से सात गुना ज्यादा है। शहर में कई जगह एक्यूआई 400 के पार गया। यहां लोगों को सांस लेने में दिक्कत हुई।

विशेषज्ञों के अनुसार प्रदूषण के खतरनाक स्तर पर पहुंच जाने की वजह आसपास पराली जलाए के साथ ही शहर में लगातार धूल उड़ना भी है। शहर में 450 किमी सड़कों की खोदाई चल रही है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा शाम को जारी की गई सूची में आगरा का एयर क्वालिटी इंडेक्स 309 रहा। यह 24 घंटे का औसत है जबकि शहर में लगे पर्यावरण उपकरणों की रिपोर्ट के मुताबिक फतेहाबाद रोड पर स्मार्ट सिटी की खुदाई के कारण पुरानी मंडी और बसई तिराहे पर प्रदूषण इससे कहीं ज्यादा है।

पुरानी मंडी पर एक्यूआई 448
ताजमहल के पास पुरानी मंडी चौराहे पर एयर क्वालिटी इंडेक्स 448 दर्ज किया गया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मानकों के मुताबिक 400 से 500 के बीच हालात बेहद खराब माने जाते हैं और इमरजेंसी जैसी स्थिति बनती है। ईदगाह चौराहे पर एयर क्वालिटी इंडेक्स 418 और शाहगंज क्षेत्र में 401 है। यह बेहद खतरनाक हालात है। सामान्य से 7 गुना ज्यादा धूल कणों के कारण इन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों का सांस लेना भी मुश्किल हो गया है।
... और पढ़ें

Corona In Agra: ताजनगरी में सात हजार पार हुआ आकंड़ा, 423 सक्रिय मरीज

आगरा में 35 नए मरीज और मिलने से रविवार को संक्रमितों का आंकड़ा सात हजार पार कर गया है। डीएम प्रभु एन सिंह ने बताया 142 संक्रमितों की मृत्यु हो चुकी है। कुल संक्रमितों की संख्या 7015 है।


उपचार के बाद 6450 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। 423 मरीज उपचाराधीन हैं। जिले में 2.52 लाख से अधिक लोगों के सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं। मरीजों के ठीक होने की दर 91.95% है।


एसएन के जूनियर डॉक्टर सहित 35 और संक्रमित
एसएन मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टर, टेलीकॉम ऑफिसर और नौ साल के बच्चे समेत कोरोना वायरस के 35 नए मरीज मिले हैं।  एलाइंस शेल्टर अपार्टमेंट में भाई-बहन की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनकी उम्र 15 और 17 साल है। तुलसी विहार दयालबाग, विमल वाटिका कर्मयोगी, भरतपुर हाउस, ट्रांस यमुना कॉलोनी में एक ही परिवार के दो-दो लोग संक्रमित मिले हैं।


पुष्पदीप बोदला, नयाबांस लोहामंडी, खंदारी, सदरभट्टी, शास्त्रीपुरम, शाहगंज, कालिंदी विहार यमुनापार, ताजगंज, गैलाना रोड सिकंदरा, नगला रामबल, लॉयर्स कॉलोनी, कमला नगर, दयालबाग, गैलाना, मानस नगर, नेहरू नगर, पाय चौकी, इंजीनियर्स कॉलोनी, रायभा में भी कोरोना वायरस के मरीज मिले हैं। 
 
... और पढ़ें

कोरोना: ताजनगरी के लिए राहत की खबर, रोज 30 लोग दे रहे 'वायरस' को मात

ताजनगरी के लिए राहत की खबर है। जिले में रोज 30 लोग कोरोना वायरस को मात दे रहे हैं। अक्तूबर के 23 दिनों में 701 लोग ठीक हो चुके हैं। ठीक होने की दर 92 फीसदी के करीब पहुंच गई है। सितंबर के मुकाबले यह 6.91 फीसदी ज्यादा है।

अक्तूबर के 23 दिन में कोरोना के 1135 मामले आए हैं। एक अक्तूबर को संक्रमण के 5808 मामले थे और इनमें से 754 मरीजों का इलाज चल रहा था। मरीजों के ठीक होने की दर 84.81 प्रतिशत थी। 23 अक्तूबर की बात करें तो कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 6943 पहुंच गई हैं, लेकिन 701 मरीज ठीक भी हुए।


इनमें से अभी 434 मरीज ही संक्रमण का इलाज करा रहे हैं। ठीक होने की दर 91.72 प्रतिशत पहुंच गई है। इस तरह से इन 23 दिन में कोरोना वायरस के संक्रमण से ठीक होने की दर 6.91 फीसदी बढ़ गई।
... और पढ़ें
आगरा में कोरोना वायरस आगरा में कोरोना वायरस

एटा: जिला अस्पताल की 10वी मंजिल से गिरकर किशोरी की मौत, पिता हिरासत में

उत्तर प्रदेश के एटा में जिला अस्पताल की नव निर्मित इमारत की 10वीं मंजिल से गिरकर किशोरी की मौत हो गई। किशोरी का शव छोड़कर भाग रहे पिता को वहां मौजूद लोगों ने पकड़ लिया। मृतका के परिजनों पर ही हत्या का आरोप लग रहा है। 

जिला अस्पताल की 10वीं मंजिल पर मेटरनिटी विंग है। सोमवार दोपहर को वहां से 15 वर्षीय किशोरी नीचे गिर गई। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने किशोरी के पिता को हिरासत में ले लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है।


अवागढ़ हाउस निवासी मृतक किशोरी का पिता एंबुलेंस चालक है। जिला अस्पताल के पास ही उसका घर है। बताया जा रहा है कि घर से किशोरी जिला अस्पताल आई थी।  इसके बाद संदिग्ध हालात में 10 मंजिल से नीचे गिर गई। 
 
... और पढ़ें

ट्रेनों में लूटपाट के मामलों में गिरफ्तार बदमाशों की खुलेगी हिस्ट्रीशीट, एडीजी रेलवे ने दिए निर्देश

एडीजी रेलवे पीयूष आनंद सोमवार को सुबह 10 बजे आगरा पहुंचे। उन्होंने जीआरपी लाइन का निरीक्षण किया। करीब एक घंटे तक वहां रहने के दौरान एडीजी ने कार्यालय के अभिलेखों, शस्त्रागार और मैस का मुआयना किया। इसके बाद उन्होंने अधीनस्थों के साथ बैठक करके ट्रेनों में हुए अपराधों और जीआरपी द्वारा की गई कार्रवाई की समीक्षा की। समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को इस संबंध में दिशा-निर्देश दिए गए।

एडीजी ने ट्रेनों में लूटपाट के मामलों में गिरफ्तार बदमाशों की हिस्ट्रीशीट खोलने के निर्देश दिए। रेलवे के थानों द्वारा कितने बदमाशों की हिस्ट्रीशीट खोली गई। इसके बारे में जानकारी की। इसके साथ ही एडीजी ने जेल जाने और छूटकर बाहर आने वाले बदमाशों की निगरानी करने के निर्देश दिए ।
 

एडीजी रेलवे पीयूष आनंद ने अधीनस्थों को यात्रा करने वाली महिलाओं की सुरक्षा पर विशेष ध्यान देने की कहा। ताकि वे सफर शुरू करने से पहले खुद को सुरक्षित महसूस कर सकें। उन्होंने कहा कि सभी जीआरपी थानों में महिला हेल्प डेस्क खोली गई हैं। जीआरपी में महिला सिपाहियों की संख्या बढ़ाई जाएगी।  

गांजा तस्करी पर विशेष नजर

इस साल ट्रेनों गांजा तस्करी के सबसे ज्यादा मामले पकड़ में आए । जीआरपी ने इस वर्ष 50 से ज्यादा गांजा तस्करों को गिरफ्तार किया। अधिकांश तस्करों ने सरगना के दिल्ली में होने की बताया । मगर, जीआरपी अभी तक उसके सरगना तक नहीं पहुंच पाई। इस पर एडीजी ने अधिकारियों को गांजा तस्करी पर विशेष नजर रखने के साथ ही उसके नेटवर्क को खत्म करने की कहा।
... और पढ़ें

फिरोजाबाद में कॉलेज प्रवक्ता का कंकाल बरामद, पत्नी पर सुपारी शूटर से हत्या कराने का आरोप

एडीजी रेलवे पीयूष आनंद
उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। थाना नारखी क्षेत्र में पुलिस ने सोमवार की सुबह एक कॉलेज प्रवक्ता का कंकाल बरामद किया। कॉलेज प्रवक्ता की हत्या बरेली में हुई थी, उनका शव यहां लाकर खेत में दफन किया गया था। आरोप उसकी पत्नी और ससुराल वालों पर है, जिन्होंने सुपारी शूटर से हत्या कराई थी। 

थाना नारखी क्षेत्र के गांव भीतरी निवासी अवधेश बरेली जिले के संघोडा इंटर कॉलेज में संस्कृत के प्रवक्ता थे। अवधेश की शादी 10 साल पहले नारखी के गांव खेरिया निवासी विनीता से हुई थी। आरोप है कि विनाता ने अपने भाई और पिता की मदद से शूटर शेर सिंह उर्फ चीकू को पांच लाख रुपये देकर अवधेश की हत्या कराई थी। 12 अक्तूबर को बरेली में अवधेश के आवास पर ही इस वारदात को अंजाम दिया गया था। इसके बाद शूटर ने बरेली से शव यहां लाकर खेत में दफन कर दिया। 


पत्नी ने ही दर्ज कराई थी गुमशुदगी की रिपोर्ट

उधर, अवधेश की पत्नी ने ही उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट बरेली में दर्ज करा दी थी। इस संबंध में बरेली पुलिस अवधेश के घरवालों और ससुरालवालों से पूछताछ कर रही थी। इस दौरान अवधेश के भाई ने उनकी पत्नी पर ही हत्या का शक जताया। इस पर बरेली पुलिस ने थाना नारखी पुलिस को सूचना दी। यहां की पुलिस ने शक के आधार पर सुपारी शूटर शेर सिंह को उठा लिया।
... और पढ़ें

पिता ने की थी नाबालिग बेटी की हत्या, आरोप लगा दिया तीन युवकों पर, पुलिस ने किया खुलासा

फिरोजाबाद के थाना रसूलपुर क्षेत्र में हुई नाबालिग छात्रा की हत्या के मामले का पुलिस ने सोमवार को खुलासा कर दिया। छात्रा की हत्या उसके पिता ने की थी। उसने इसका आरोप तीन युवकों पर लगा दिया था। पुलिस की पूछताछ में आरोपी पिता ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। 

रसूलपुर क्षेत्र के प्रेमनगर डाकबंगला के गली नंबर दो निवासी अजय चक ने शुक्रवार रात को पुलिस को सूचना दी थी कि उनकी 16 वर्षीय बेटी ईशू चक की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। ईशु 11वीं की छात्रा थी। अजय चक ने तीन युवकों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। 


संबंधित खबर-
 फिरोजाबाद: छेड़छाड़ के विरोध पर घर में घुसकर 11वीं की छात्रा की गोली मारकर हत्या

पुलिस ने तीनों युवक को हिरासत में लिया। उन्होंने खुद को निर्दोष बताया था। उधर, पुलिस ने मृतका के परिजनों से भी अलग-अलग पूछताछ की। वे अलग-अलग बयान दे रहे थे। इस पर पुलिस का शक मृतका के पिता अजय चक और भाई पर गहरा गया।  ... और पढ़ें

मथुरा: बेटी के प्रेमी को फंसाने के लिए दंपती ने कमरे में लगाई आग, खुद ही झुलसे

मथुरा के गोविंद नगर में दंपती ने अपनी बेटी के प्रेमी को फंसाने के लिए खौफनाक कदम उठा लिया। उन्होंने खुद को कमरे में बंद कर आग लगा ली। पड़ोसियों ने पति-पत्नी को बाहर निकाला। आग से दोनों 15 फीसदी झुलस गए। जिला अस्पताल में उनका उपचार चल रहा है। दंपती की बेटी ने अज्ञात पर माता-पिता को जिंदा जलाने की कोशिश का आरोप लगाया था। 

थाना गोविंद नगर क्षेत्र की महाविद्या कालोनी में संगीत चौरसिया एक मकान में परिवार के साथ किराए पर रहते हैं। सोमवार की सुबह तकरीबन चार बजे संगीत चौरसिया और उनकी पत्नी के कमरे में आग लग गई। आग की लपटों में पति-पत्नी घिर गए। चीख-पुकार सुनकर पहुंचे पड़ोसियों ने किसी तरह उन्हें बाहर निकाला। बाद में फायर ब्रिगेड पहुंची। हालांकि तब तक आग बुझ चुकी थी।


पुलिस ने झुलसे दंपती को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। दंपती की बेटी का कहना था कि घटना के वक्त भाई और माता-पिता घर पर थे। वह अपने रिश्तेदार के यहां गई थी। उसने अज्ञात पर माता-पिता को जिंदा जलाकर मारने की कोशिश का आरोप लगाया था। पुलिस ने जांच की तो मामला कुछ और ही निकलकर आया।

संगीत चौरसिया ने खुद ही यह साजिश रची थी। क्षेत्राधिकारी (सीओ) वरुण सिंह ने बताया कि संगीत चौरसिया और उसकी पत्नी ने जानबूझकर कमरे में आग लगाई थी। इससे वे 15 फीसदी झुलस गए। उन्होंने अपनी बेटी के प्रेमी को फंसाने के लिए यह सब किया था। मामले में कार्रवाई की जा रही है। 
 
... और पढ़ें

आगरा: 90 फीट गहरे कुएं में गिरी 15 साल की किशोरी, 30 घंटे के बाद सुरक्षित निकली

आगरा जिले में शनिवार शाम से लापता किशोरी 30 घंटे बाद कुएं में मिली। रविवार रात तकरीबन 12 बजे उसे कुएं से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। कुआं काफी समय से सूखा हुआ है। इसकी गहराई 80 से 90 फीट है। ग्रामीणों का कहना है कि कुएं में कई बार सांप भी देखे गए। किशोरी सकुशल है, यह चमत्कार से कम नहीं है। 

मामला शमशाबाद थाना क्षेत्र के ग्राम राधे धाम ऊंचा का है। गांव निवासी लखपत सिंह की 16 वर्षीय पुत्री पूनम शनिवार शाम को छह बजे कुछ सामान लाने के लिए दुकान पर गई थी। देर रात तक उसके वापस नहीं आने पर परिजनों ने खोजबीन शुरू की, लेकिन उसका पता नहीं चला। इसके बाद परिजनों ने किशोरी के लापता होने की जानकारी थाना पुलिस को दी। 


थानाध्यक्ष राकेश कुमार यादव ने पुलिस की तीन टीमों को किशोरी की तलाश में लगा दी। परिजन और ग्रामीण भी ढूढ़ रहे थे। रविवार रात तकरीबन 12 पुलिस टीम को गांव के बाहर बने कुएं में टॉर्च की रोशनी में हाथ दिखाई दिया। इसकी सूचना मिलते ही परिजन पहुंचे और किशोरी को आवाज लगाई। इस पर कुएं से किशोरी की हल्की आवाज आई। 

पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से रस्सी बांधकर चारपाई में कुएं में डाली। इसके बाद किशोरी को बाहर निकाला। ग्रामीणों का कहना था कि उन्होंने इस कुएं में कई बार सांपों को देखा है। 30 घंटे तक किशोरी कुएं में सुरक्षित रही। कुएं में गिरने से भी उसको चोट नहीं आई। थानाध्यक्ष राकेश कुमार यादव ने बताया कि किशोरी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है।
... और पढ़ें

मधुमेह मरीजों के लिए जानलेवा साबित हो रहा कोरोना संक्रमण, चौंकाने वाली है यह रिपोर्ट

आगरा में मधुमेह मरीजों के लिए कोरोना संक्रमण जानलेवा साबित हो रहा है। अभी तक संक्रमण से दम तोड़ने वाला हर दूसरा मरीज मधुमेह से पीड़ित था। 20 फीसदी मृतक उच्च रक्तचाप के मरीज थे। चिकित्सक बता रहे हैं कि घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन मधुमेह और उच्च रक्तचाप को नियंत्रित रखें। 

जिले में रविवार तक कोरोना वायरस के संक्रमण से 142 मरीजों की मौत हो चुकी है। इनमें मरने वाले मधुमेह, किडनी, लिवर, कैंसर, टीबी, हृदय, उच्च रक्तचाप की बीमारियां से भी ग्रस्त थे। एसएन मेडिकल कॉलेज के कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज कर रहे चिकित्सकीय टीम ने मृतकों में विभिन्न बीमारियों की भी रिपोर्ट बनाई है। 


इसमें मरने वालों में सबसे ज्यादा 51 फीसदी मरीजों में मधुमेह रोग था। इसमें अधिकांश मरीजों की शुगर स्तर अनियंत्रित था और दवाएं भी नियमित नहीं ले रहे थे। 22 फीसदी मृतक उच्च रक्तचाप की परेशानी से जूझ रहे थे। 38 प्रतिशत मरीजों में मधुमेह और उच्च रक्तचाप की परेशानी पाई गई। 
... और पढ़ें

ताजनगरी के सबसे लंबे फ्लाईओवर पर अगले महीने से भरिए फर्राटा, दूसरी लेन भी लगभग तैयार

राष्ट्रीय राजमार्ग-2 (एनएच-2) पर आगरा का सबसे लंबा शाहदरा फ्लाईओवर नवंबर तक बनकर तैयार हो जाएगा। 1.09 किलोमीटर लंबे फ्लाईओवर का कार्य तीन साल से चल रहा है। फ्लाईओवर की आगरा से फिरोजाबाद की ओर जाने वाली लेन बनकर तैयार हो चुकी है। दूसरी लेन पर भी 80 फीसदी कार्य हो चुका है। इस फ्लाईओवर पर यातायात शुरू होने से हाईवे पर ट्रैफिक की रफ्तार में इजाफा हो जाएगा।

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने एनएच-2 पर शाहदरा चुंगी चौराहे पर फ्लाईओवर के निर्माण का काम तीन साल पहले शुरू किया था। निर्माणदायी एजेंसी ओरिएंटल कंपनी ने 2017 में शाहदरा चुंगी चौराहे पर फ्लाईओवर का काम शुरू किया था। तकरीबन एक साल तक यहां आसपास जमीन अधिग्रहण और कब्जे हटाने के कारण काम अवरुद्ध रहा। 


अब लॉकडाउन में इसका काम दोबारा शुरू हो गया। इसमें वजनी गर्डरों की लांचिंग का कार्य लॉकडाउन के दौरान पूरा कर लिया गया। यातायात के सामान्य रहने पर गर्डर लांचिंग की जाती तो यातायात को बंद करना पड़ता। आगरा से फिरोजाबाद की ओर जाने वाली लेन का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। इसमें आठ स्पॉन बनकर तैयार हो चुके हैं। फिरोजाबाद से कानपुर की ओर जाने वाली लेन पर 80 फीसदी से ज्यादा कार्य हो चुका है। 
... और पढ़ें
Test
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X