विज्ञापन

सीएए विरोधः अलीगढ़ में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे, शहर में तनाव

अमर उजाला नेटवर्क, अलीगढ़ Updated Thu, 27 Feb 2020 02:03 AM IST
विज्ञापन
धरने पर बैठी महिलाएं
धरने पर बैठी महिलाएं - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हुए उपद्रव के चौथे दिन बुधवार को भी शहर में जबरदस्त तनाव और अफवाहों का दौर कायम रहा। मुरादाबाद-अनूपशहर हाईवे को जोड़ने वाले क्वार्सी बाईपास स्थित जीवनगढ़ पुलिया पर पिछले 48 घंटे (सोमवार) से जाम-धरना लगाए बैठी प्रदर्शनकारी महिलाएं नारेबाजी के बीच पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे भी लगा रही हैं। 
विज्ञापन
इसको देखते हुए प्रशासन ने अग्रिम आदेश तक क्वार्सी चौराहे पर बृहस्पतिवार और रविवार को लगने वाली पैंठ न लगाने का आदेश दिया है। वहीं शाहजमाल ईदगाह पर चल रहा धरना भी 30वें दिन जारी रहा। पुरानी चुंगी स्थित एएमयू गेट पर भी धरना जारी रहा। यहां नोकझोंक के बावजूद पुलिस ने शामियाना नहीं लगने दिया। अब शहर में बाजार खुलने लगे है। 

मुस्लिम बहुल बाजार में भी दुकानें खुलना शुरू हो गई हैं। मगर तनाव के चलते रौनक नहीं लौट रही है। शाम को एडीजी आगरा जोन अजय आनंद के नेतृत्व में पुलिस प्रशासनिक टीम ने धर्म गुरुओं के साथ पुराने शहर में शांति सद्भाव मार्च निकाला। वहीं इंटरनेट पर लगी रोक अभी बरकरार है।

रविवार को ऊपरकोट और सोमवार तड़के जमालपुर में हुए उपद्रव के बाद सोमवार दोपहर तीन बजे से जीवनगढ़ पुलिया स्थित बाईपास पर महिलाएं जाम-धरना लगाए बैठी हैं। इनकी संख्या लगातार बढ़ रही है और ऊपर तंबू तक तान दिया गया है। इस दौरान माइक से लगातार कुछ महिलाएं संबोधित करती रहती हैं और नारेबाजी भी होती रही। 

एसीएम द्वितीय रंजीत सिंह ने बताया कि इस प्रदर्शन में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे भी लग रहे हैं, जिसकी रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजी जा रही है। इन्हें समझाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। बुधवार को दो बार शांति समिति की बैठक भी की गई, मगर यह बात निकलकर आई कि स्थानीय लोग इस जाम को हटवाना चाहते हैं, मगर यहां बाहरी आ गए हैं जो हटने नहीं दे रहे। 

एसीएम ने बताया कि इस तरह की रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजी जा रही है। उन्होंने बताया कि धरना से चंद दूरी पर क्वार्सी चौराहे पर बृहस्पतिवार-रविवार को लगने वाली पैंठ फिलहाल न लगाने का आदेश दिया गया है। इधर, शाहजमाल पर धरना बुधवार को 30वें दिन जारी रहा। यहां दोपहर में दो युवक पर्चे बांटने आए। इस हरकत पर पुलिस ने उनकी घेराबंदी की तो वह भाग खड़े हुए। बाद में बांटे गए पर्चे जब्त कर लिए गए हैं। पुरानी चुंगी पर धरना जारी है। 

यहां बुधवार को शामियाना लगाने की कोशिश पुलिस द्वारा नाकाम कर दी गई। इधर, पुराने शहर में दिन भर तैरती अफवाहों और जबरदस्त तनाव को कम करने के उद्देश्य से शाम को एडीजी जोन अजय आनंद, डीआईजी रेंज डॉ. प्रीतिंदर सिंह, डीएम-एसएसपी व धर्मगुरुओं के साथ पुलिस बल ने शांति सद्भाव मार्च निकाला। इससे पहले ऊपरकोट कोतवाली में शांति समिति की बैठक हुई। इसके बाद यह मार्च शुरू हुआ। जो पुराने शहर के विभिन्न इलाकों में घूमा। लोगों से अमन व संयम की अपील की गई।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us