एएमयू में तनाव ः प्रशासन ने िजले में इंटरनेट सेवा बंद की

न्यूूज डेस्क, अमर उजाला, अलीगढ़। Updated Thu, 14 Feb 2019 01:45 AM IST
विज्ञापन
एएमयू के बाब-ए-सैयद
एएमयू के बाब-ए-सैयद - फोटो : Amar Ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में मंगलवार को हुए बवाल के बाद जारी तनाव को देखते हुए प्रशासन ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए बुधवार को जिले में इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी है। यह पाबंदी बुधवार दोपहर बाद लागू हो गई और गुरुवार दोपहर 12 बजे तक जारी रहेगी।
विज्ञापन


रोक लगने से  व्हाट्स ऐप, ट्विटर एवं    फेसबुक प्रेमी कसमसाते देखे गए। हालांकि प्रशासन का तर्क है कि  यह पाबंदी संदेशों के आदान      प्रदान से महानगर का माहौल   खराब होने से बचाने के लिए उठाया गया है। 
एएमयू में मंगलवार को मामूली विवाद में छात्रों में जमकर बवाल हुआ था। घटना के बाद हरकत में आए जिला प्रशासन एवं पुलिस ने एएमयू कैंपस के बाहर चौकसी कड़ी कर दी। डीएम ने बुधवार को जिले में धारा 144 के अंतर्गत शांति व्यवस्था एवं सांप्रदायिक सौहार्द बनाए रखने के लिए सभी मोबाइल कंपनियों द्वारा प्रदान की जा रही इंटरनेट सेवा बुधवार दोपहर दो बजे से गुरुवार आज दोपहर 12 बजे तक के लिए बंद करने के आदेश दिए हैं। 


इस अवधि में इंटरनेट से सभी लूप लाइन एवं लीज लाइन भी निष्क्रिय एवं बंद रहेंगी। डीएम चंद्रभूषण सिंह ने बताया कि बीएसएनएल समेत सभी इंटरनेट सर्विस प्रदाता कंपनी इंटरनेट सेवा देने का काम नहीं करेंगी। उन्होंने बताया कि बैंकिंग नेटवर्क, इंटरनेट सर्विसेज एवं सरकारी नेटवर्क मसलन एनआईसी, स्वान आदि पाबंदी से अप्रभावित रहेंगे। 


राजद्रोह का केस वापस लेने की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे एएमयू के छात्र
 एएमयू में मंगलवार को सांसद असदुद्दीन ओवैसी के दौरे के विरोध को लेकर हुए बवाल के दूसरे दिन हालात तनावपूर्ण बने रहे। एएमयू छात्र बाब-ए-सैयद (एएमयू गेट) पर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए हैं। अब्दुल्ला कॉलेज की छात्राएं भी इस धरने में शामिल हुईं। इस दौरान वीसी लॉज का घेराव कर कुलपति व पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। एएमयू के 14 छात्रों लगे राजद्रोह आदि के मुकदमे वापस कराने, भाजपा विधायक के पौत्र अजय सिंह व उनके साथियों पर मुकदमे आदि की मांग उठाई गई। इधर, एएमयू सर्किल पर दिन भर भारी पुलिस बल मौजूद रहा। डीएम-एसएसपी ने भी वहां मौजूद रहकर स्थिति की जानकारी ली।



एएमयू रजिस्ट्रार आफिस से लेकर एएमयू सर्किल पर मंगलवार को सांसद असदुद्दीन ओवैसी का विरोध कर रहे भाजपा विधायक दलवीर सिंह के पौत्र व एएमयू छात्र नेता अजय सिंह व उनके समर्थन में आए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी डॉ. निशित शर्मा, भाजयुमो जिलाध्यक्ष मुकेश लोधी आदि पर हुए हमला और बवाल के बाद 14 छात्रों पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया है। इसी मामले में एएमयू छात्रों की ओर से भी पुलिस को तहरीर दी गई, मगर पुलिस ने मुकदमा दर्ज   नहीं किया।


इसके बाद मंगलवार              रात से ही एएमयू छात्र बाब-ए-सैयद पर धरने पर बैठे हैं। इनकी मांग है कि भाजपा विधायक के पौत्र अजय सिंह सहित उनके तमाम साथियों के            एएमयू से निलंबन, एएमयू छात्रों पर दर्ज मुकदमे की वापसी और अजय सिंह व अन्य भाजपाइयों पर मुकदमा दर्ज की जाए।

 
बुधवार सुबह से ही धरनास्थल पर काफी संख्या में छात्र जमा थे। दोपहर में छात्रों के समर्थन में काफी संख्या में अब्दुल्ला कॉलेज की छात्राएं भी तराना गाते हुए जुलूस की शक्ल में धरना स्थल पर पहुंच गईं। छात्राओं के धरने में शामिल होने के बाद इनका जोश दोगुना हो गया और फिर वीसी लॉज का घेराव कर जबरदस्त नारेबाजी की गई। यहां धरना अनिश्चितकाल तक व मांगें पूरी होने तक जारी रखने का एलान किया गया।



 छात्रों के प्रदर्शन, तनाव को देखते हुए पुलिस प्रशासनिक स्तर से लगातार चौकसी बरती जा रही है। पूरा पुलिस अमला एएमयू सर्किल पर जमा रहा। डीएम चंद्रभूष्ण सिंह, एसएसपी आकाश कुलहरि ने भी              वहां पहुंचकर स्थिति देखी। इसके अलावा एएमयू के चारों ओर कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं। इधर, हमले में जख्मी अजय सिंह ट्रामा सेंटर में भर्ती हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us