विज्ञापन
विज्ञापन
कुंडली में स्थित बुध एवं केतु का सम्बन्ध किस प्रकार करता है आपको प्रभावित !
Astrology

कुंडली में स्थित बुध एवं केतु का सम्बन्ध किस प्रकार करता है आपको प्रभावित !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

आज से शराब की दुकान सुबह 10 से रात 10 बजे तक खुलेंगी

जिले में आज से शराब-बीयर की दुकान, मॉडल शॉप व बार सुबह 10 से रात 10 बजे तक खुलेंगे। यह आदेश भांग की दुकानों पर भी जारी रहेगा। हालांकि यह व्यवस्था कंटेनमेंट जोन के बाहर की दुकानों पर लागू रहेगी।
जिला आबकारी अधिकारी धीरज शर्मा ने बताया कि शासन के आदेश पर यह व्यवस्था अलीगढ़ में लागू की गई है। लॉकडाउन के बाद आई गाइड लाइन के तहत सुबह दस बजे से रात नौ बजे तक बार, मॉडल शॉप और फुटकर दुकानों को खोला जा रहा था। सभी शराब विक्रेताओं को आदेश से अवगत करा दिया गया है। इसके साथ त्योहारी सीजन को देखते हुए शराब-बीयर की दुकानों, बार पर चेकिंग की व्यवस्था के लिए टीम लगाई गई है। विक्रेताओं को सख्त आदेश जारी करते हुए समयानुसार ही दुकान खोलने को कहा गया है। रात 10 बजे के बाद कोई दुकान, बार खुलता पाया गया तो कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

हाथरस: एसटीएफ ने श्यौराज जीवन से की पूछताछ, अब टीवी रिपोर्टर की बारी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
हाथरस कांड की आड़ में जातीय दंगे की साजिश रचने और कांग्रेस नेता श्यौराज जीवन द्वारा भड़काऊ बयान देने के मुकदमों में एसटीएफ ने विवेचना तेज कर दी है। इसी क्रम में एसटीएफ ने अलीगढ़ पहुंचकर कांग्रेस नेता जीवन से पूछताछ की। इस दौरान जीवन ने एसटीएफ के समक्ष अपना पक्ष रखते हुए कहा कि वह कई साल हाथरस कांग्रेस के जिलाध्यक्ष रहे हैं, हर वर्ग की सेवा की है। उस रात माहौल के बीच भावनाओं में बहकर कुछ कह दिया होगा, मगर किसी जाति या धर्म को लेकर मन में कोई भाव नहीं है। बता दें कि चंदपा पुलिस भी पूर्व में इस मुकदमे में जीवन को चंदपा बुलाकर पूछताछ कर चुकी है।
हाथरस प्रकरण में शासन के निर्देश पर यह मुकदमा दर्ज कराया गया था कि इस प्रकरण की आड़ में जातीय दंगा कराने की साजिश रची गई थी। इसके अलावा कांग्रेस नेता श्यौराज जीवन के खिलाफ भी भड़काऊ बयान देने का मुकदमा दर्ज कराया गया था। उनके भाषण का वीडियो भी वायरल हुआ था। यह दोनों मुकदमे चंदपा थाने में दर्ज हैं। इनकी विवेचना एसटीएफ की सौंप दी गई है। जातीय दंगे की साजिश के मुकदमे की विवेचना एसटीएफ की नोएडा शाखा कर रही है तो श्यौराज जीवन के खिलाफ दर्ज मुकदमे की विवेचना बरेली शाखा कर रही है। सोमवार को बरेली से एसटीएफ की टीम चंदपा थाने आई थी और वहां रिकॉर्ड खंगाले थे। उसके बाद बिटिया के गांव पहुंचकर एसटीएफ ने बिटिया के परिजनों से जीवन के बारे में पूछताछ की थी।
सोमवार शाम को एसटीएफ अलीगढ़ पहुंची और श्यौराज जीवन से पूछताछ की। उनका जो वीडियो वायरल हुआ था, उसको लेकर भी बातचीत थी। इस मामले में श्यौराज जीवन का कहना है कि एसटीएफ की टीम ने उनसे इस मामले में पूछताछ की है। उन्होंने भी एसटीएफ के समक्ष अपना पक्ष रखा। जीवन का कहना है कि जब वह बिटिया के गांव गए थे तो वहां का माहौल काफी भयावह था। जीवन का कहना है कि भावनाओं में बहकर उन्होंने कुछ कह दिया था।
उन पर जो भी आरोप लगाए गए हैं, वह पूरी तरह से निराधार हैं। किसी भी जाति के लिए उनकी गलत भावना कभी नहीं रही। किसी जाति विशेष के लिए कोई बात भी उन्होंने नहीं कही। वह कांग्रेस के सिपाही हैं। हर जाति और धर्म के लोगों की उन्होंने हमेशा मदद की है। कई साल हाथरस में जिलाध्यक्ष रहे हैं। जीवन ने बताया कि पिछले एक सप्ताह में एसटीएफ ने यह उनसे दूसरी बात पूछताछ की है और दोनों बार की बातचीत में संतुष्ट होकर गई है।
चैनल पर प्रसारित स्टिंग की सीडी बताएगी सच्चाई
श्यौराज जीवन ने एसटीएफ से बातचीत में टीवी पर प्रसरित खबर के मामले में खुद को निर्दोष बताते हुए कहा कि उन्हें फंसाया गया। इस पर एसटीएफ की ओर से उन्हें भरोसा मिला कि आप परेशान न हों। वह सीडी की जांच साफ कर देगी। अगर टीवी पर प्रसारित खबर की सीडी से छेड़छाड़ या कटिंग हुई होगी तो जांच में साफ हो जाएगा। उसके बाद किसी को कुछ कहने की जरूरत नहीं।
... और पढ़ें

कोरोना से दो महिलाओं सहित तीन की मौत, 19 संक्रमित

कोरोना वायरस की चपेट में आकर दो बुजुर्ग महिलाओं सहित तीन लोगों की मौत हो गई है। 19 नए लोग वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। 24 लोग कोरोना को पराजित कर स्वस्थ हुए हैं। अब तक जनपद में संक्रमितों की संख्या 9396 और स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 9098 तक पहुंच गई है। वर्तमान समय में 250 मरीज सक्रिय हैं।
जेएन मेडिकल कॉलेज में 55 वर्षीय एक मरीज की मौत हुई है। शहर के एक निजी अस्पताल में रामबाग कॉलोनी की 76 वर्षीय महिला की मृत्यु हो गई। अंतिम संस्कार के बाद उनकी रिपोर्ट धनात्मक है। तीसरी मौत दिल्ली में हुई है
। 14 अक्तूबर को गूलर रोड निवासी 75 वर्षीय महिला संक्रमित पाई गई थी। उनका उपचार दिल्ली के एक अस्पताल में चल रहा था।, जहां महिला की मृत्यु हो गई। जेएन मेडिकल कॉलेज, दीनदयाल अस्पताल, प्राइवेट लैब एवं एंटीजन टेस्ट में मंगलवार को 19 लोग संक्रमित पाए गए हैं। जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने बताया कि संक्रमित मरीजों को कोविड-19 अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है। परिजन एवं संपर्क में आए लोगों को क्वारंटीन कर नमूना लिया जाएगा।
... और पढ़ें

एक युद्ध पटाखों के विरुद्धः पटाखों रहेंगे दूर, दीपक जलाएंगे भरपूर

अमर उजाला अभियान ‘एक युद्ध, पटाखों के विरुद्ध’ के अंतर्गत शुक्रवार को आईटीआई रोड स्थित रोज एकेडमी पब्लिक स्कूल में महिलाओं को मिशन साक्षरता अधिकारी व जीजीआईसी छर्रा की प्रधानाचार्य नीलम शर्मा ने शपथ दिलाई। कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए दीवापली पर पटाखों को नहीं जलाएंगे। महिलाएं घर का अभिन्न अंग होती हैं। इस अभियान में मातृ शक्ति पूरा सहयोग करेगी।
नीलम शर्मा ने बताया कि शुक्रवार को मोबाइल पर आए नोटिफिकेशन के अनुसार अलीगढ़ शहर का वायु गुणवत्ता सूचकांक 355 था, जो कि हानिकारक है। ऐसे परिवेश में लंबे समय तक रहने पर फेफड़े और दिल की बीमारियां बढ़ेंगी।
राधे राधे वूमेन क्राफ्ट इंस्टीट्यूट के डायरेक्टर गौरव अग्रवाल ने कहा कि वायू प्रदूषण के चार प्रमुख कारण हैं। पहला हवा के बहाव में कमी आना। दूसरा दीपावली पर अत्यधिक बारूद चलाना। तीसरा हरियाणा और पंजाब के में पराली जलना और वाहनों की संख्या में अत्यधिक वृद्धि होना। ऐसे में दीपावली पर ‘अमर उजाला’ के अभियान का हिस्सा बनकर लोगों को पटाखे न जलाने के लिए प्रेरित करेंगे। इससे प्रदूषण को काफी हद तक रोका जा सकेगा। इस मौके पर जिला केंद्र प्रभारी रागिनी राजपूत, केंद्र प्रभारी गौसिया नसीम, प्रेरणा सक्सेना, रिया सक्सेना, प्रबंधक देश दीपक शर्मा मौजूद रहे।
- वायु प्रदूषण में पटाखे भी कई हद तक प्रमुख कारण है। मैं अपने परिवार को प्रेरित करूंगी कि वह इस बार घर में पटाखें नहीं लाएं और अमर उजाला के अभियान से जुड़े। -रागिनी राजपूत।
-पटाखों के साथ वाहनों की बढ़ती संख्या भी प्रदूषण को बढ़ावा दे रही है। हम पटाखों को न लाने की शपथ ले रहे हैं। इसके साथ ही प्राकृतिक ईधन से चलने वाले वाहनों को तवज्जो देनी चाहिए। -अंजलि राजौरा।
-अलीगढ़ में वायु प्रदूषण में बढ़ोत्तरी हो रही है। ऑक्सीजन की कमी हो रही है। अगर आज हम सचेत नहीं हुए तो आने वाली पीढ़ियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। - प्रेरणा सक्सेना।
-हमें हर वह तकनीक विकसित करनी होगी, जिससे पर्यावरण का संरक्षण कर सकें। अन्यथा आने वाली पीढ़ी को आक्सीजन मास्क लगाकर घूमना पड़ेगा। आज नहीं सुधरे तो कल का भविष्य अंधकार में होगा। -प्रिया सक्सेना।
- त्योहार पर आतिशबाजी करना अच्छा लगता है, लेकिन मानवजाति के हित को देखते हुए अमर उजाला के अभियान से जुड़ रहे हैं। हम खुद न तो आतिशबाजी लाएंगे और न ही परिजनों को लाने देंगे। -देश दीपक भट्ट, डायरेक्टर रोज एकेडमी पब्लिक स्कूल।
पटाखों के खिलाफ शपथ लेतीं युवतियां।
पटाखों के खिलाफ शपथ लेतीं युवतियां।- फोटो : CITY OFFICE
... और पढ़ें
पटाखों के विरुद्ध शपथ दिलाते मिशन साक्षरता अधिकारी एवं जीजीआईसी छपरा की प्रिंसिपल नीलम शर्मा। पटाखों के विरुद्ध शपथ दिलाते मिशन साक्षरता अधिकारी एवं जीजीआईसी छपरा की प्रिंसिपल नीलम शर्मा।

अलीगढ़ पुलिस ने किया ऑनलाइन ठगी करने वाले अंतरराष्ट्रीय गिरोह का भंडाफोड़, तीन गिरफ्तार

साइबर सेल की मदद से क्वार्सी पुलिस को बड़ी सफलता हासिल हुई है। पुलिस ने दिल्ली में रहकर ऑनलाइन ठगी करने वाले अंतरराष्ट्रीय साइबर ठग गैंग के दो नाइजीरियन सरगनाओं सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। यह साइबर ठग फेसबुक पर दोस्ती कर लोगों को इनामी लालच देकर ठगते हैं। इस गैंग ने यहां किशनपुर इलाके के एक शिक्षक से इसी तरह का लालच देकर 31.23 लाख रुपये ठग लिए। इसी शिक्षक की शिकायत पर जांच करते हुए पुलिस इस गैंग तक पहुंची। साइबर ठगी से जुटाई गई रकम वेस्टर्न यूनियन मनी ट्रांसफर के जरिये नाइजीरिया ट्रांसफर की गई है। जालसाज अब तक डेढ़ करोड़ रुपये से अधिक की रकम इसी तरह ऐंठ चुके हैं।

यह जानकारी देते हुए एसपी देहात शुभम पटेल ने शुक्रवार को पुलिस लाइन सभागार में प्रेसवार्ता में बताया कि किशनपुर दयाल नगर निवासी भगवती दत्त शर्मा पेशे से शिक्षक हैं। उन्होंने पांच अगस्त को यह शिकायत दी कि उनके साथ फेसबुक पर कुछ विदेशी लोगों ने दोस्ती कर पिछले एक साल के दौरान 31.23 लाख रुपये की (मार्च 2019 से जुलाई 2020 के मध्य) ठगी कर ली है। एसएसपी ने इस शिकायत पर साइबर सेल को जांच सौंपते हुए क्वार्सी थाने में धोखाधड़ी व साइबर एक्ट का मुकदमा दर्ज कराया। इसी मामले में साइबर सेल ने जांच करते हुए विभिन्न तकनीकी पक्षों की मदद से पाया कि यह गैंग फेसबुक पर खुद को विदेशी बताकर भारतीय लोगों से दोस्ती करते हैं। इसके लिए बाकायदा फर्जी फेसबुक आईडी बनाई जाती हैं। अधिकांश मामलों में महिला की आईडी से पुरुष से और पुरुष की आईडी से महिला से दोस्ती की जाती है। 

अलग-अलग खातों में मंगवाते थे रुपये
फेसबुक पर दोस्ती के नाम पर ये जालसाज अपने शिकार को गिफ्ट पार्सल आदि भेजने की बात कहते हैं और उसे रिसीव कराने के नाम पर रकम ऐंठते हैं। जांच में पाया गया कि यह अपने शिकार को धमकाते हैं कि माल कस्टम में फंस गया है। फिर शिकार के पास अलग-अलग विदेशी व भारतीय नंबरों व व्हाट्सएप नंबरों से कॉल की जाती है। कोई खुद को कस्टम अधिकारी बताता है और कोई कुछ बताकर अलग-अलग एकाउंट में रुपये मंगाए जाते हैं। जांच में पाया कि यह लोग देश भर में घूमते हैं। अलग-अलग खातों में रुपये मंगाते हैं। 

भगवती दत्त शर्मा से भी दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद के अलग-अलग खातों में रुपये मंगवाए गए। जांच में एक बैंक एकाउंट की मदद से पुलिस गैंग तक पहुंचने में सफल हुई और गैंग के नाइजीरिया निवासी सरगना, उसके साथी सहित तीन लोगों को इंस्पेक्टर क्वार्सी छोटेलाल व उनकी टीम ने गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में दोनों नाइजीरिया के नागरिकों जॉन बुल पुत्र इलोमा व मार्वेलॉस पुत्र कॉफी निवासीगण एग्ब्रो डेल्टा नाइजीरिया हाल निवासी एस 2-59 टॉप फ्लोर महावीर नगर तिलक नगर दिल्ली ने स्वीकार किया कि वे कई साल से भारत में हैं। दिल्ली का तिलक नगर उनका बेस कैंप है। वहां एक चर्च भी बना लिया है। उसी के इर्द-गिर्द काफी साथी किराये पर रहते हैं। कोई यहां पढ़ने तो कोई व्यापार करने आया है। 

वीजा अवधि खत्म होने के बाद भी रह रहे भारत में
जांच में यह भी पाया गया कि पकड़े गए नाइजीरियाई नागरिक में से जॉन बुल का वीजा 2015 में ही खत्म हो चुका है, जबकि मार्वेलॉस का वीजा 2019 में खत्म हो चुका है। वहीं पकड़ा गया तीसरा व्यक्ति सुमीर पुत्र श्रीकांत निवासी 28के ब्लाक महीपालपुर दिल्ली इनका एजेंट है। उसी के बैंक एकाउंट में आखिरी बार भगवती दत्त का रुपया पहुंचा था, जिसकी वजह से ये पकड़े गए। पुलिस ने तीनों पर धोखाधड़ी, साइबर एक्ट का मुकदमा दर्ज किया है। वहीं दोनों नाइजीरियन नागरिकों पर विदेश अधिनियम के तहत वीजा नियमों के उल्लंघन का भी अपराध दर्ज किया गया है। इनके पास से एक लैपटॉप, 18 स्मार्टफोन, 9 फोन कीपेड, 2 हार्ड डिस्क, 4 डोंगल, 6 चार्जर, 3 लैपटॉप चार्जर, 400 नाइजीरियन करेंसी बरामद हुए।
... और पढ़ें

राज को राज रहने दो...आरटीओ में फोटो खींचा या वीडियो बनाई तो होगी जेल

संभागीय परिवहन विभाग के कर्मचारियों व अधिकारियों के भ्रष्टाचार की करतूत समय-समय जनता के सामने वीडियो-फोटो के जरिए आती रहती है। मगर, अब इसको कैमरे में कैद करने की किसी ने हिम्मत की तो उसको परिवहन विभाग जेल भिजवा देगा। आरटीओ कार्यालय की नई व पुरानी बिल्डिंग में जगह-जगह इस प्रकार के चेतावनी संदेश वाले पोस्टर चस्पा कर दिए गए हैं।

इन पोस्टरों को लेकर विभाग की सफाई है कि यह आदेश सिर्फ कुछ उन्मादी तत्वों को रोकने के लिए है। वह कार्यालय में आकर फोटो-वीडियो लेकर ब्लैकमेल करने की कोशिश करते हैं। इधर, शहर विधायक संजीव राजा ने इस आदेश को लेकर विभाग को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि इस प्रकार के आदेश से साफ है कि अधिकारी खुद अपने विभाग के भ्रष्टाचारियों पर पर्दा डालने की कोशिश कर रहे हैं। परिवहन मंत्री से इस संबंध में शिकायत की जाएगी।

अमर उजाला में प्रकाशित खबर से तिलमिलाए
दरअसल, बृहस्पतिवार के अंक में अमर उजाला की ओर से एक खबर प्रकाशित की गई थी, जिसमें एआरटीओ प्रशासन रंजीत सिंह के कार्यालय में उनकी कंप्यूटर सीट पर उन्हीं की मौजूदगी में एक बाहरी व्यक्ति बैठकर काम कर रहा था। इससे पहले एक महिला बाबू की रिश्वत लेते हुए वीडियो वायरल हुई थी। उसकी भी खबर प्रमुखता से प्रकाशित हुई थी। यह तस्वीरें और वीडियो कार्यालय में वाहन संबंधी कार्य लेकर आने वाले आवेदकों द्वारा कैद की गई थी।

मीडिया के लिए यह आदेश लागू नहीं है। कई बार उन्मादी लोग आकर फोटो/वीडियो लेकर ब्लैकमेल करते हैं। इसको रोकने के लिए यह आदेश चस्पा कराए गए हैं।
- केडी सिंह, आरटीओ प्रशासन

आरटीओ की ओर से जारी आदेश के संबंध में उनसे जवाब तलब करते हुए आदेश के पीछे की स्पष्ट मंशा जानी जाएगी। अगर कोई सरकारी कर्मचारी या अधिकारी रिश्वत मांगता है तो पीड़ित को अपनी शिकायत मजबूती से करने के लिए वीडियो या फोटो बतौर सबूत जुटाने की पूरी छूट है।
- जीएस प्रियदर्शी, मंडलायुक्त

आरटीओ कार्यालय में जो भी भ्रष्टाचार हो रहा है। उसके खिलाफ कार्रवाई कराई जाएगी। वहीं, आरटीओ की ओर से फोटो और वीडियो लेने पर कानूनी कार्रवाई का आदेश जारी करना स्वीकार नहीं है। इससे साफ है कि वहां भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने की कोशिश हो रही है। इसकी शिकायत परिवहन मंत्री से की जाएगी।
- संजीव राजा, शहर विधायक

आरटीओ के बाबुओं को नोडल अधिकारी से भी खौफ नहीं
जिले में दो दिवसीय दौरे पर आए नोडल अधिकारी नितिन रमेश गोकर्ण को लेकर जिले के सभी विभाग अलर्ट थे। मगर, आरटीओ कार्यालय में कई बाबू 11 बजे बाद भी अपने कार्यालय से गायब थे। इसके चलते वाहन संबंधी कार्यों के लिए आए आवेदकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। कार्यालय से गायब रहने वालों में रजिस्ट्रेशन पटल पर बैठने वाले बाबू कृष्णकुमार गौतम 11 बजे बाद भी कार्यालय से गायब दिखे। इसके साथ ही लाइसेंस रिन्यूवल व डुप्लीकेट काउंटर से भी कर्मचारी नदारद था।

कार्यालय में लर्निंग लाइसेंस बनवाने के लिए आए आवेदक निरंजन निवासी भगवान गढ़ी ने बताया कि वह 10 बजे कार्यालय में आए थे। उक्त समय कोई भी कर्मचारी यहां नहीं मिला। 11 बजे बाद काउंटर्स पर काम शुरू हुआ। आरटीओ प्रशासन केडी सिंह ने बताया कि समय पर न आने वाले कर्मचारियों से स्पष्टीकरण तलब किया जाएगा।
... और पढ़ें

एएमयू का जीव विज्ञान विभाग भारतीय विश्वविद्यालयों में दूसरी रैंक पर

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने अपने शताब्दी वर्ष में रैंकिंग में एक और उपलब्धि हासिल की है। टाइम्स वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2020-21 में एएमयू के जीव विज्ञान विषय में उच्च शिक्षा और अनुसंधान के लिए भारतीय विश्वविद्यालयों में उसे दूसरा सर्वश्रेष्ठ विद्यालय नामित किया गया है।

इसके अलावा सामाजिक विज्ञान विभाग में तीसरा, मेडिकल शिक्षा में सातवां, भौतिक विज्ञान में नौवां, इंजीनियरिंग में 10वां और कंप्यूटर साइंस में 15वां स्थान दिया गया है। एएमयू के जनसंपर्क अधिकारी सलीम पीरजादा कहते हैं कि इस वर्ष एएमयू ने छह विषयों में प्रमुख स्थान प्राप्त किया है। जबकि पिछले वर्ष 4 प्रमुख विषयों में स्थान प्राप्त किया था।

विश्वविद्यालय की शैक्षणिक प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए एएमयू के कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने कहा कि छह विषयों में महत्वपूर्ण स्थान प्राप्त करना विश्वविद्यालय की सभी क्षेत्रों में प्रगति का संकेत है। विश्वविद्यालय की बेहतर छवि के कारण आने वाले वर्षों में प्रदर्शन में और सुधार होगा। रैंकिंग समिति के अध्यक्ष प्रोफेसर एम सालिम बेग ने कहा कि इस वर्ष की रैंकिंग में 18 भारतीय संस्थाएं एएमयू से ऊपर हैं, जबकि पिछले शैक्षिक सत्र में 23 संस्थाएं एएमयू से ऊपर थीं। उन्होंने कहा कि एएमयू ने समग्र रूप से और विभिन्न विषयों में शिक्षा, अनुसंधान, संदर्भ और अंतरराष्ट्रीय दृष्टिकोण के आधार पर शानदार स्थान हासिल किया है।

इस तरह दी गई है रैंकिंग
टाइम्स हायर एजुकेशन की नवीनतम वार्षिक विषय रैंकिंग में 93 देशों के 1512 विश्वविद्यालयों को 11 विषय क्षेत्रों में स्थान दिया गया है।

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय अपने शताब्दी वर्ष में रैंकिंग में लगातार उपलब्धि हासिल कर रहा है। यह खुशी की बात है। इस बात के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन के साथ-साथ यहां के शिक्षक, अन्य स्टाफ और छात्र बधाई के पात्र हैं।
डॉ. हमजा मलिक, अध्यक्ष, आरडीए

यह बहुत खुशी की बात है कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के विभिन्न विभाग रैंकिंग में लगातार स्थान हासिल कर रहे हैं। इससे शैक्षिक स्तर को और भी ऊंचा उठाने में मदद मिलेगी।
- मोहम्मद शिकोह, शोध छात्र, पुस्तकालय विज्ञान
... और पढ़ें

केनरा बैंक के एक दर्जन एटीएम का ऊपरी हिस्सा खोल चोरी

एएमयू
बिना सिक्योरिटी गार्ड चल रहे केनरा बैंक के एक दर्जन एटीएम इन दिनों चोरों के निशाने पर हैं। अलीगढ़ व हाथरस में केनरा बैंक ने डाईबोल्ट (कंपनी विशेष) के जहां-जहां एटीएम लगवा रखे हैं, वहां चोर दस्तक दे रहे हैं। नकाबपोश चोर एटीएम केबिन में घुसकर कार्ड व चाभी की मदद से रुपये निकालते हैं। एक बार में पांच हजार रुपये तक निकलते हैं। मगर वह खाताधारक के खाते से कटते नहीं हैं। इसलिए खाताधारक को इस चोरी की जानकारी नहीं होती। एक पखवाड़े में एक दर्जन एटीएम केबिन में हुईं इन घटनाओं पर जब बैंक अधिकारियों का ध्यान गया तो लीड बैंक मैनेजर तक मसला पहुंचा। मामले में तकनीकी टीम को लगाकर जांच शुरू करा दी गई है और कई थानों में मुकदमे भी दर्ज कराए गए हैं।


घटनाक्रम इस प्रकार है कि अक्तूबर माह की शुरुआत में ही केनरा बैंक की गूलर रोड एसएसआई शाखा के एटीएम में एक दिन टीम सुबह-सुबह रुपये डालने पहुंची तो मशीन का ऊपर का हिस्सा खुला मिला। इसकी जांच पड़ताल अभी पूरी हो पाती कि एक-एक कर कई एटीएम से इस तरह की शिकायतें आईं। सभी के सीसीटीवी चेक किए गए तो पाया गया कि रात के समय में नकाबपोश एक या दो लोग सभी एटीएम में पहुंचे हैं। नकाब व कैप लगा होने के कारण पहचान संभव नहीं हो रही।


फिर वे एटीएम में अपना कार्ड डालकर पिन कोड भी डालते हैं। पिन डालते ही केबिन की पावर सप्लाई काट देते हैं। इसके बाद सीसीटीवी में कुछ दिखाई नहीं देता। मगर सुबह पाया गया है कि मशीन का ऊपरी हिस्सा बाकायदा ऐसे खुला है, जैसे चाभी से खोला गया है। साथ ही कई खातों से पांच-पांच हजार रुपये भी निकाले गए हैं। मगर ये रकम खाते से न कटने के कारण खाताधारक को जानकारी नहीं हुई है।


जांच में यह भी पाया कि यह घटना सिर्फ डाईबोल्ट कंपनी के एटीएम में हुई। इनमें भी उन एटीएम को निशाना बनाया गया जहां निकासी कम है और कम लोग आते हैं। अलीगढ़ जिले में कुल नौ और हाथरस में तीन एटीएम में ऐसा हुआ है। इसे लेकर बन्नादेवी के गूलर रोड की घटना, क्वार्सी के रामघाट रोड की घटना, गांधीपार्क की घटना को लेकर सभी थानों में चोरी के प्रयास के मुकदमे भी संबंधित शाखा प्रबंधकों की ओर से दर्ज कराए गए हैं। 

ये है अंदेशा
इस मामले में बैंक की तकनीकी टीम जांच कर रही है। जांच में यही पाया गया है कि डाईबोल्ट कंपनी के एटीएम एक ही तरह की चाभी से खुल जाते हैं। कोई व्यक्ति यह चाभी पा गया है और चोरियां कर रहा है। वह विद्युत आपूर्ति बंद कर यह चोरी करने का प्रयास करता है। कुछ जगह वह सफल हुआ है और कुछ जगह नहीं हो पाया है। अधिकांश वही एटीएम निशाने पर हैं जहां लोगों की कम आवाजाही है।

- हमारी बैंक के जहां-जहां डाई बोल्ट कंपनी के एटीएम लगे हैं, वहां-वहां चोरी की घटनाएं पिछले माह की 15 तारीख से प्रकाश में आ रहीं हैं। इसकी तकनीकी शाखा से जांच कराई जा रही है। साथ ही संबंधित थानों में मुकदमे दर्ज कराए गए हैं। अब तक कितनी रकम चोरी हुई है, इसे लेकर सभी जगहों से रिपोर्ट तलब की गई है। इसके बाद आगे की कार्रवाई तय होगी।
-अनिल कुमार, लीड बैंक मैनेजर, केनरा बैंक
 
... और पढ़ें

समाजसेवी हरिश्चंद्र सिंघल पंचतत्व में विलीन, बीते चार महीने से थे अस्वस्थ

कृष्णा इंटरनेशनल स्कूल के संस्थापक व समाजसेवी हरिश्चंद्र सिंघल (81) का निधन हो गया। उन्होंने बृहस्पतिवार सुबह चार बजे दिल्ली के अपोलो अस्पताल में अंतिम सांस ली। वह चार महीने से अस्वस्थ थे। बृहस्पतिवार दोपहर 12 बजे नुमाइश मैदान के मुक्ति धाम में उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। चिता को मुखाग्नि उनके ज्येष्ठ पुत्र प्रवीन अग्रवाल ने दी। इस अवसर पर शहर के राजनीतिक व संभ्रांत व्यक्ति मौजूद रहे।

सिंचाई विभाग में बतौर इंजीनियर कार्य करने के बाद हरिश्चंद्र सिंघल वर्ष 1999 में सेवानिवृत्त हुए थे। इसके बाद वह व्यापार करने लगे। उनकी देखरेख में बेटों ने व्यापार को बुलंदियों तक पहुंचाना शुरू कर दिया। विकासखंड पला के गांव कौरह रुस्तमपुर में जन्मे हरिश्चंद्र सिंघल अपने परिवार के साथ वर्ष 1993 में अलीगढ़ के गूलर रोड इलाके में बस गए थे।

हरिश्चंद्र सिंघल का सपना था कि वो एक ऐसे विद्यालय की स्थापना करें, जहां मिलने वाली शिक्षा से बच्चे वैश्विक दुनिया से मुकाबला कर सकें। उनके इस सपने को मूर्त रूप वर्ष 2007 में कृष्णा इंटरनेशनल स्कूल के रूप में मिला। हरिश्चंद्र सिंघल के बेटे प्रवीन अग्रवाल ने बताया कि उनकी यही कोशिश होती थी कि सबको उच्चकोटि की शिक्षा और बेहतर इलाज मिले। वह पिछले चार महीने से सोरायसिस बीमारी से ग्रस्त थे।

फिर उनके लीवर में संक्रमण हो गया, जिससे उनका देहांत हो गया। वे अपने पीछे भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं। इनमें पत्नी कृष्णा सिंघल, पुत्र प्रवीन अग्रवाल, मुकेश सिंघल, अनुपम सिंघल, भाई दिनेश चंद्र अग्रवाल, मुकुट बिहारी लाल अग्रवाल, मुरारीलाल अग्रवाल, रमेश चंद्र सिंघल, विनोद सिंघल, सुरेश सिंघल आदि शामिल हैं। 

अमर उजाला के नियमित पाठक रहे, आग्रह करके बढ़वाया था सुडोकू का आकार
अमर उजाला को नियमित पढ़ना समाजसेवी हरिश्चंद्र अग्रवाल की दिनचर्या में शामिल था। लॉकडाउन में स्कूल और व्यापार बंद होने के चलते हरिश्चंद्र सिंघल अपने घर पर अमर उजाला में प्रकाशित सुडोकू भरते थे, लेकिन सुडोकू का आकार छोटा होने से उन्हें परेशानी होती थी। उन्होंने संपादक से तमाम बुजुर्ग पाठकों का ध्यान रखते हुए सुडोकू का आकार बड़ा करने का आग्रह किया। उनके आग्रह पर सुडोकू का आकार बड़ा कर दिया गया।
... और पढ़ें

विद्यालय आवंटन काउंसलिंग में दो शिक्षिकाएं कोरोना संक्रमित

कंपोजिट मॉडल इंग्लिश स्कूल एलमपुर में विद्यालय आवंटन के लिए हो रही काउंसलिंग में दो शिक्षिकाएं कोरोना संक्रमित पाई गई। बृहस्पतिवार को 56 दिव्यांग व महिला शिक्षिकाओं की काउंसलिंग हुई, जबकि दोअनुपस्थित रहे।

एलमपुर में चार-तीन दिव्यांग महिला व पुरुष व 49 महिला शिक्षिकाओं की काउंसलिंग हुई। काउंसलिंग में देरी से पहुंचने के चलते एक महिला शिक्षिका व दिव्यांग कोटे से एक पुरुष की काउंसलिंग नहीं हो सकी। अब इनकी काउंसलिंग शुक्रवार व शनिवार को होगी। इससे पहले स्वास्थ्य टीम की ओर से की गई एंटीजन जांच में दो शिक्षिकाएं कोविड-19 संक्रमित पाई गईं। हालांकि, स्वास्थ्य टीम की देखरेख में शिक्षा विभाग ने कोविड-19 के दिशा-निर्देश का पालन करते हुए दोनों संक्रमित शिक्षिकाओं की काउंसलिंग करा दी।

काउंसलिंग से पहले शिक्षिकाओं की थर्मल स्कैनिंग हुई। उन्हें गोले में लगी कुर्सी पर बिठाया गया। डायट के प्राचार्य डॉ. आईपीएस सोलंकी, बीएसए डॉ. लक्ष्मीकांत पांडेय, परियोजना निदेशक सचिन की देखरेख में शिक्षिकाओं की काउंसलिंग हुई। काउंसलिंग की व्यवस्था वीके सिंह, दुष्यंत सिंह, सचिन दीक्षित, देवेश गुप्ता व कुलदीप चौधरी ने संभाली।
... और पढ़ें

जिले के नोडल अधिकारी व पीडब्ल्यूडी प्रमुख सचिव ने जल निगम को लगाई फटकार

जिला के नोडल अधिकारी एवं लोक निर्माण विभाग के प्रमुख सचिव नितिन रमेश गोकर्ण ने बृहस्पतिवार को दीनदयाल अस्पताल व हरदुआगंज के निरीक्षण के बाद जिले में सरकारी विभागों द्वारा कराए जा रहे विकास कार्यों की समीक्षा की।

इस दौरान जल निगम को लापरवाही के चलते कड़ी फटकार पड़ी तो जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना से बचाव के लिए किए जा रहे इंतजामों के लिए सराहना मिली। नोडल अधिकारी ने कोरोना के खात्मे तक कोविड हेल्पडेस्क, मास्क वितरण, सैनिटाइजेशन और कोरोना जांच के कार्य पर पर विशेष ध्यान देने के निर्देश भी दिए।

कलेक्ट्रेट सभागार में हुई समीक्षा बैठक में नोडल अधिकारी ने पेयजल सप्लाई को लेकर जल निगम के अधिशासी अभियंता से सवाल किए तो उन्होंने बताया कि विभाग की 44 योजनाओं में रेट्रो फिटिंग हो गई है। नई परियोजनाएं पाइप लाइन में हैं। पाइप लाइन वाली बात पर नोडल अधिकारी ने जल निगम के कार्यों के प्रति गहरा असंतोष प्रकट करते हुए कार्यशैली में सुधार लाने के कड़े निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि जनमानस में न तो विभाग की छवि अच्छी है और न ही विभाग द्वारा संतोषजनक कार्य कराए जा रहे हैं। उन्होंने पाइप लाइन डालने के लिए किए गए खुदाई कार्य का गुणवत्तापूर्ण ढंग से समतलीकरण करने के सख्त निर्देश दिए। इधर, विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता द्वारा बताया गया कि पेयजल योजना में 38 के सापेक्ष 22 पंप स्टेशन में विद्युत आपूर्ति बहाल कर दी गई है, शेष स्टेशनों में भी शीघ्र ही विद्युत आपूर्ति बहाल कर दी जाएगी। इस पर उन्होंने जल्द ही कार्य करने के निर्देश दिए। वहीं, नगर निगम की ओर से बताया गया कि शहर में चौराहों पर यातायात लाइटिंग, पब्लिक एड्रेस सिस्टम और 25 स्थानों पर प्रदूषण मापन यंत्र स्थापित कर दिया गया है।

कोरोना से बचाव के इंतजामों की सराहना
नोडल अधिकारी नितिन रमेश गोकर्ण ने कहा कि जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह के नेतृत्व कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर सराहनीय कार्य कराए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की रोकथाम और सर्दी के मौसम में संक्रमण के संभावित उछाल से निपटने के लिए आने वाले समय में विशेष उपाय किए जाने की आवश्यकता है। समय-समय पर आरटीपीसीआर एवं एंटीजन जांच कराई जाए। प्रत्येक संक्रमित के औसतन 25 संपर्कियों का पता लगाकर उनकी जांच की जाए।

सभी सरकारी एवं निजी अस्पतालों में आने वाले आईएलआई एवं सारी के मामलों की कोविड जांच की जाए। हाईरिस्क मरीजों का कोविड टेस्ट सुनिश्चित किया जाए। समय-समय पर वेंडर, ऑटो रिक्शा चालक, स्वास्थ्य कर्मी और कोविड हेल्पडेस्क पर पहचान किए गए लक्षणयुक्त व्यक्तियों की जांच अवश्य की जाए।

बंदीगृह में रहने वाले बंदियों, वृद्धाश्रम, बाल सुधार गृह, नारी निकेतन में रहने वाले व्यक्तियों की नियमित रूप से जांच की जाए। लोगों को मास्क पहनने, नियमित हाथ धोने, सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए प्रोत्साहित किया जाए। आतिशबाजी एवं पराली जलाने से होने वाले प्रदूषण के प्रति भी सचेत रहने के निर्देश दिए। बैठक में डीएम, एडीएम सिटी, प्रशासन, वित्त एवं राजस्व सहित पूरा प्रशासनिक अमला मौजूद रहा।
... और पढ़ें

ट्रांसपोर्ट नगर का निर्माण आरंभ, ओएसडी बोले- समतलीकरण का काम एक सप्ताह में हो जाएगा पूरा

गांव ल्योहसरा में बहुप्रतीक्षित ट्रांसपोर्ट नगर निर्माण कार्य बृहस्पतिवार से विधिवत रूप से आरंभ हो गया। पैमाइश हुई तो समतलीकरण में जुटी प्राधिकरण की जेसीबी दिनभर दहाड़ती रही। इस दौरान ग्राम प्रधान ठा. रहीशपाल सिंह भी मौजूद रहे और इस सफलता के लिए क्षेत्रवासियों के साथ-साथ जिला प्रशासन को भी बधाई दी है।

गांव ल्योहसरा में ट्रांसपोर्ट नगर निर्माण के लिए भूमि के समतलीकरण का काम बृहस्पतिवार से आरंभ हो गया। ओएसडी आलोक गुप्ता के नेतृत्व में प्राधिकरण की जेसीबी दिनभर भूमि समतल करने में जुटी रही। बताते चलें कि प्राधिकरण के अधिकार क्षेत्र में आई 50 हेक्टेयर भूमि के चरणवार समतलीकरण की रणनीति बनाई गई है।

पहले चरण में 8 हेक्टेयर भूमि की पैमाइश हो गई है। बृहस्पतिवार से इस भूमि के समतलीकरण का काम आरंभ हो गया। ओएसडी आलोक गुप्ता ने बताया कि चयनित भूमि के समतलीकरण का काम अगले सप्ताह के अंत तक पूर्ण हो जाएगा। ग्राम प्रधान ठा. रहीशपाल सिंह ने कहा है कि इस काम में प्रशासन का पूरा सहयोग किया जाएगा।
... और पढ़ें

कारीगर के घर में पटाखे की चिंगारी से लगी आग

थाना बन्नादेवी क्षेत्र के सराय रहमान के एक फर्नीचर कारीगर के घर में पटाखे की चिंगारी से आग लग गई। इस आग में घर में रखा काफी सामान जल गया और आग बुझाने के प्रयास में खुद कारीगर व पड़ोसी झुलस गए। हालांकि खबर पर पहुंची दमकल ने आग पर काबू पाया।

सराय रहमान निवासी फर्नीचर कारीगर यूसुफ के घर में बृहस्पतिवार शाम बच्चे खेलते समय पटाखे चला रहे थे। इसी दौरान चिंगारी से घर में आग लग गई। कुछ देर बाद घर से धुआं निकलने लगा। देखते ही देखते आग ने भीषण रूप ले लिया। आग की लपटें देख आसपास के लोग हरकत में आ गए और आग बुझाने के प्रयास किए। खबर पर 20 मिनट में दमकल भी पहुंच गई। कुछ ही देर में आग पर काबू पा लिया गया। इस दौरान आग बुझाने के प्रयास में यूसुफ सहित दो लोग झुलस गए। बन्नादेवी पुलिस के अनुसार फर्नीचर व घरेलू सामान का नुकसान इस आग में हुआ है।


पटाखे नहीं चलाएंगे पर्यावरण बचाएंगे
पटाखे वायु प्रदूषण तो बढ़ाते ही हैं, हर साल इनके कारण होने वाली दुर्घटनाओं से जान माल को भारी नुकसान भी होता है। महामारी के इस दौर में वायुप्रदूषण बढ़ा तो खतरा कई गुना बढ़ जाएगा।  इस खतरे को देखते हुए अमर उजाला ने एक युद्ध पटाखों के विरुद्ध छेड़ दिया है। इस युद्ध को जीतने के लिए हम सब को एक शपथ लेनी होगी - पटाखे नहीं चलाएंगे, पर्यावरण बचाएंगे।


बच्चे हमारे इस अभियान के ब्रांड एंबेस्डर हो सकते हैं। बच्चों से अपील है कि एक पोस्टर पर यही शपथ लिखकर पोस्टर के साथ अपना फोटो खिंचवाकर निम्नलिखित मेल आईडी पर भेजें। मेल के साथ अपना नाम उम्र और शहर -कस्बे का नाम जरूर लिखें। चुनिंदा फोटो अमर उजाला में प्रकाशित किए जाएंगे। मेल आई डी-ali-cityreporter @ali.amarujala.com 
... और पढ़ें
Karwachauth Coupon
Karwachauth Coupon
Karwachauth Coupon
Karwachauth Coupon
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X