विज्ञापन

कोरोना से बचाव को बुजुर्गों को दें प्यार, न लांघें घर का द्वार

Allahabad Bureauइलाहाबाद ब्यूरो Updated Mon, 23 Mar 2020 12:15 AM IST
विज्ञापन
Love the elders to protect Corona, do not cross the door of the house
Love the elders to protect Corona, do not cross the door of the house - फोटो : ALDCOMPACT
ख़बर सुनें
चिकित्सकों ने बुजुर्गों का खास ख्याल रखने की दी सलाह
विज्ञापन

रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने से बढ़ा है खतरा
बाहर न निकलने का मतलब कमरे में कैद करना नहीं
प्रयागराज। कोरोना से बचाव के लिए वैसे तो हर किसी को विशेष एहतियात बरतने की जरूरत है, लेकिन बुजुर्गों(60 साल से ऊपर) का कुछ खास ख्याल रखना भी बहुत ही जरूरी है । इस अवस्था में रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने के चलते उनके संक्रमित होने का खतरा अधिक ही होता है । चिकित्सकों के मुताबिक ऐसे में बुजुर्गों को घर से बाहर निकलने से परहेज करना चाहिए। इसका यह मतलब कतई नहीं कि उन्हें कमरे में कैद कर दिया जाए। घर के हर सदस्य का फ र्ज बनता है कि ऐसी विषम परिस्थिति के समय वह घर के बुजुर्ग सदस्यों से पूरी तरह प्यार से पेश आएं। उन्हें उस तरह का माहौल प्रदान करें ताकि उनको घर से बाहर निकलने की जरूरत ही न महसूस हो।
न महसूस हो एकाकीपन
एसआरएन अस्पताल के वृद्धावस्था रोग विशेषज्ञ डॉ. आरएन पांडेय के मुताबिक बुजुर्गों को एकाकीपन न महसूस हो, इसके लिए जरूरी है कि परिवार के अन्य सदस्य साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखते हुए उनको पर्याप्त समय दें। उनके लिए ऐसे कमरे का चयन कर,ें जो की हवादार और खुला हो। उनके घर की बालकनी औप बरामदे में टहलने की कोई पाबंदी न हो। मनोरंजन के लिए उनको टीवी पर उनके मनपसंद का सीरियल आदि देखने से न रोकें। यदि बुजुर्ग पूजा-पाठ करते हों तो उन्हें करने दें। व्यायाम करना भी ऐसे समय में जरूरी है। इसके लिए पार्क की जगह बरामदे और बालकनी का इस्तेमाल कर सकते हैं ।
खानपान पर दें पूरा ध्यान
महानिदेशक परिवार कल्याण डॉ. बद्री विशाल का कहना है कि ऐसे समय में बुजुर्गों के खानपान पर भी पूरी तरह से ध्यान दिया जाए ताकि उनकी प्रतिरोधक क्षमता बरकरार रहे। उनको ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ सेवन करने को दिए जाए। जैसे- गुनगुना पानी, जूस, नीबू रस गुनगुने पानी के साथ तुलसी,अदरक वाली चाय आदि। उनके भोजन में दूध, दही, पनीर, हरी सब्जियां और दाल की भरपूर मात्रा होनी चाहिए। मौसमी और प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले फल के साथ नियमित उपचार की दवाओं को लेते रहें । कोरोना से बचने का सही तरीका ज्यादा से ज्यादा सावधानी बरतना ही है ताकि वायरस को पूरी तरह से समाप्त किया जा सके । हाथों को बार-बार साबुन-पानी से अच्छी तरह से धोएं। हाथों से मुंह, आंख और नाक को अनावश्यक न छुएं। छूने के बाद हाथों को धोएं, घर के बार-बार इस्तेमाल होने वाले स्थानों की सफाई पर खास ध्यान दें और बाहरी लोगों के संपर्क में आने से बचें ।
हमने ठाना है, कोरोना को हराना है
कीडगंज निवासी 67 वर्षीय बुजुर्ग रामदीन शर्मा का कहना है कि कोरोना वायरस के फैलाव को देखते हुए वह घर के बाहर निकलने से पूरी तरह परहेज कर रहे हैं । ऐसे में पेशे से शिक्षक उनकी बहू और उनके बच्चे स्कूल में छुट्टी होने के चलते उनका पूरा साथ दे रहे हैं । घर में अकेले होने के चलते पहले वह घंटों पार्क में टहलने और दोस्तों से बातचीत करने में व्यतीत करते थे, लेकिन परिवार के सदस्यों ने उन्हें ऐसा माहौल प्रदान किया है कि उनको बाहर निकलने की जरूरत ही नहीं महसूस होती । खानपान का भी पूरा ख्याल रखा जा रहा है ताकि कोरोना को हराने में हम पूरी तरह सफल हों।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us