बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
ये हैं सप्ताह की चार भाग्यशाली राशियां, धनलाभ के बनेंगे प्रबल योग
Myjyotish

ये हैं सप्ताह की चार भाग्यशाली राशियां, धनलाभ के बनेंगे प्रबल योग

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

विवाह करने वाले जोड़े की सुरक्षा में धर्मांतरण महत्वपूर्ण तथ्य नहीं - हाईकोर्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा है कि धर्म परिवर्तन करके शादी करने वाले दो बालिग लोगों को सुरक्षा प्रदान करने में धर्मांतरण महत्वपूर्ण तथ्य नहीं है। यदि जबरदस्ती धर्मांतरण का आरोप नहीं है तो ऐसे जोड़े को सुरक्षा देना पुलिस और प्रशासन की बाध्यता है। कोर्ट ने कहा कि यदि दो बालिग लोग अपनी मर्जी से विवाह कर रहे हैं या विवाह नहीं भी किया है तब भी उनको साथ रहने का अधिकार है। भले ही उनके पास विवाह का प्रमाण नहीं है। संबंधित पुलिस अधिकारी को ऐसे लोगों को प्रमाण देने के लिए बाध्य नहीं करना चाहिए। 

यशीदेवी की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश न्यायमूर्ति सलिल कुमार राय ने दिया है। याची 20 वर्षीय यशी देवी ने इस्लाम स्वीकार करने के बाद 40 वर्षीय गुच्छन खान से 11 फरवरी 2021 को शादी की थी। उसने याचिका दाखिल कर परिवार वालों पर परेशान करने और धमकाने का आरोप लगाया। कोर्ट ने कहा कि ऐसे मामलों में कानूनी स्थिति स्पष्ट है।
... और पढ़ें

एसआरएन में दुष्कर्म के आरोप का मामला : आखिरकार दर्ज हुआ चिकित्सा स्टाफ का बयान 

एसआरएन में भर्ती मिर्जापुर की युवती से दुष्कर्म आरोप मामले में आखिरकार कार्रवाई आगे बढ़ी। पुलिस ने कथित घटना के वक्त ड्यूटी में मौजूद चिकित्सा स्टाफ का बयान दर्ज किया। हालांकि अभी संबंधित सभी स्टाफ का बयान नहीं हो पाया है। शेष का बयान भी जल्द ही दर्ज किया जाएगा। युवती की आठ जून को इलाज के दौरान मौत के बाद कोतवाली थाने में एफआईआर दर्ज की गई थी।

एक दिन पहले तक पुलिस यह कहती रही थी कि चिकित्सा स्टाफ की जानकारी न मिलने के कारण उनका बयान नहीं दर्ज किया जा सका। जबकि अस्पताल एसआईसी डॉ. अजय सक्सेना ने बताया था कि स्टाफ के नाम के साथ ही जांच रिपोर्ट भी पुलिस को उपलब्ध करा दी गई है। आखिरकार शनिवार को पुलिस ने ड्यूटी पर मौजूद चिकित्सा स्टाफ का बयान दर्ज किया।

सूत्रों का कहना है कि फिलहाल दो ही चिकित्सा स्टाफ का बयान शनिवार को लिया जा सका। शेष का बयान भी जल्द ही दर्ज किया जाएगा। उधर मुकदमा वादी से भी सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो व पीड़िता के कथित बयान संबंधित नोट भी मांगा गया है। मामले में पुलिस अफसर ज्यादा कुछ बताने को तैयार नहीं। सीओ कोतवाली सत्येंद्र प्रसाद तिवारी का कहना है कि विवेचना जारी है। साक्ष्य संकलन समेत अन्य कार्रवाई में पुलिस जुटी है। 

जनता को किया जा रहा गुमराह

एसआरएन दुष्कर्म आरोप मामले में सपा नेत्री ऋचा सिंह ने डॉक्टरों से जांच में सहयोग की मांग की है। एमएलएन मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन व इलाहाबाद मेडिकल एसोसिएशन के नाम पर उन्होंने एक पत्र जारी किया। जिसमें मांग उठाई कि डॉक्टर सामूहिक दुष्कर्म आरोप मामले में पुलिस का सहयोग करें। उन्होंने एसएसपी को भी एक पत्र भेजा है जिसमें घटना के 12 दिन बाद भी आरोपियों की पहचान न होने का आरोप लगाकर सवाल उठाया है। आरोप लगाया है कि तीन जून को ही आईजी प्रयागराज ने सुबह 8.08 मिनट पर आरोपी डॉक्टरों को क्लीन चिट अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से दी थी। जिसका आधार सीएमओ प्रयागराज की जांच थी। अब बिना आरोपियों से पूछताछ तो उन्हें क्लीन चिट दी नहीं गई होगी। ऐसे में आरोपियों की पहचान न होने संबंधित बयान गुमराह करने वाला है।
... और पढ़ें

डेढ़ साल बाद अचेत हालत में मिली ससुराल से ठुकराई महिला

अचेत हालत में फूलपुर पुलिस को मिली एक महिला आखिरकार महीने भर के इलाज के बाद शनिवार को होश में आ गई। मनोचिकित्सकों की मदद से उसकी काउंसलिंग कराकर परिजनों का पता लगाया गया। अंतत: उसे उसकी बहन को सुपुर्द कर दिया गया। सड़क के किनारे पटरी पर बेहोशी की हालत में मिली एक महिला के बारे में पुलिस ने बीती 23 मई को जिला प्रोबेशन अधिकारी पंकज मिश्र को सूचना दी। जानकारी मिलने के बाद पुलिस की मदद से प्रोबेशन अधिकारी ने उसे खुल्दाबाद स्थित सखी वन स्टाफ सेंटर भिजवा दिया। मानसिक स्थिति ठीक न होने की वजह से वहां उसकी हालत और भी बिगड़ गई। महिला की तबीयत खराब होने पर उसे काल्विन अस्पताल में दिखाया गया।

लगातार उपचार केे बाद अंतत: महिला को होश आ गया। होश आने के बाद सखी वन स्टॉप सेंटर की परामर्शदाता प्रिंयका पांडेय ने उसकी काउंसलिंग की तब पता चला कि उसकी बहन पुराना कटरा में रहती है। उसने अपना घर वाराणसी बताया। महिला की सूचना के आधार पर उसकी मां से वीडियो कांफ्रेंसिंग कराई गई तो उसने अपनी बेटी को पहचान लिया, लेकिन उसे लेने के लिए आने में असमर्थता जताने लगी। इस पर वन स्टाफ सेंटर की प्रभारी शिष्या सिंह ने पुलिस की मदद से उसकी पुराना कटरा स्थित बहन से संपर्क किया। शनिवार की दोपहर उसकी बहन खुल्दाबाद स्थित सेंटर पहुंची और फिर डेढ़ साल बाद महिला अपने परिजनों के पास पहुंच सकी।
... और पढ़ें

दो माह में खा डालीं पैरासिटामॉल की 50 लाख से अधिक गोलियां

पैरासिटामॉल पैरासिटामॉल

निजी अस्पताल में येलो फंगस संक्रमित की सर्जरी, एसआरएन में ब्लैक फंगस के 20 मरीज भर्ती

जिले के एक निजी अस्पताल में येला फंगस संक्रमित मरीज की सर्जरी की गई। जिले में येलो फंगस का यह पहला मामला है। वहीं एलथ्री एसआरएन अस्पताल में ब्लैक फंगस संक्रमित 20 मरीज भर्ती हैं।  एसआरएन अस्पताल के सह प्रभारी कोरोना डॉ. सुजीत वर्मा के मुताबिक उनके यहां ब्लैक फंगस छह संक्रमितों की सर्जरी की जा चुकी है। 14 अन्य मरीजों का उपचार किया जा रहा है।

किसी मरीज में येलो फंगस के लक्षण नहीं मिले। निजी क्षेत्र के कोविड सेंटर यूनाइटेड मेडीसिटी के प्रधानाचार्य डॉ. मंगल सिंह ने बताया कि कोरोना संक्रमण मुक्त हो चुके एक 73 वर्षीय बुजुर्ग में जांच के बाद ब्लैक के साथ येलो फंगस संक्रमण की पुष्टि हुई है। चूंकि संक्रमण प्रारंभिक स्तर का था इसलिए संक्रमित की सर्जरी की गई है। डॉ. मंगल सिंह ने बताया कि संक्रमित का ऑपरेशन करने वाली टीम में डॉ. प्रभात श्रीवास्तव भी शामिल थे।

उन्होंने बताया कि इससे पहले 24 मई को गाजियाबाद में येलो फंगस संक्रमित पाया गया था।  इस संबंध में सीएमओ को जानकारी दी गई है। उनसे मरीज के लिए एंफोटेरेसिन बी इंजेक्शन उपलब्ध कराने की मांग की गई है। बाजार में इंजेक्शन है नहीं सिर्फ एसआरएन में भर्ती मरीजों को शासन की ओर से उपलब्ध कराए गए एंफोटेरेसिन बी इंजेक्शन दिए जा रहे हैं।
... और पढ़ें

सुबह-शाम टहलने वाले को राहत, आज से खुलेगा आजाद पार्क

prayagraj news : गंगा में फिर दो शव मिले।
कोरोना की दूसरी लहर में बढ़ते संक्रमण की वजह से बंद हुआ चंद्रशेखर आजाद पार्क ( कंपनी बाग) आम जनता के लिए सोमवार 14 जून की सुबह खुल जाएगा। अभी पार्क  सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक खुलेगा। प्रशासन के इस निर्णय से सुबह और शाम के वक्त आजाद पार्क में टहलने के लिए आने वाले हजारों लोगों को राहत मिलेगी। जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री और उद्यान अधीक्षक से हुई वार्ता के बाद आजाद पार्क खोले जाने का निर्णय लिया गया।
आजाद पार्क अभी सप्ताह में पांच दिन ही खुलेगा।

शनिवार और रविवार को यह बंद रहेगा। दरअसल प्रयागराज में एक मई से लगे कोरोना कर्फ्यू के दौरान ही आजाद पार्क बंद हो गया। इस बीच एक जून को कर्फ्यू खत्म हो जाने के बाद इसे नहीं खोला गया। इसे लेकर मॉनिंग वाकर्स एसोसिएशन ने भी जिलाधिकारी से आजाद पार्क को खोले जाने की मांग की। इसे लेकर जिलाधिकारी ने रविवार को आजाद पार्क खोले जाने का आदेश जारी कर दिया। उद्यान अधीक्षक डा. सीमा सिंह राणा ने बताया कि आजाद पार्क सोमवार से शुक्रवार तक सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक ही खुलेगा। शनिवार और रविवार को यह बंद रहेगा।
... और पढ़ें

स्वामी आनंद गिरि बने युवा साधु समाज अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष

स्वामी आनंद गिरि को रविवार को युवा भारत साधु समाज का अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया। जिम्मेदारी मिलने के बाद आनंद गिरि ने कहा कि जल्द ही वह दुनिया के सभी देशों में युवा भारत साधु समाज की शाखाओं का गठन करेंगे, ताकि संत समाज को मजबूती प्रदान की जा सके। 

हरिद्वार स्थित साधु गरीबदासीय सेवाश्रम ट्रस्ट में चेतन ज्योति आश्रम के महंत स्वामी ऋषिश्वरानंद की अध्यक्षता में हुई बैठक में आनंद गिरि को युवा भारत साधु समाज का अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया। महामंत्री स्वामी रविदेव शास्त्री ने कहा कि धर्म एवं संस्कृति के प्रचार-प्रसार में संत महापुरुषों ने अग्रणी भूमिका निभाई है।

युवा भारत साधु द्वारा समाज युवा पीढ़ी को संस्कारवान बनाकर उनमें उच्च संस्कारों को संचारित करने का कार्य कर रहा है। गो सेवा एवं गंगा संरक्षण के लिए भी संत महापुरुष कटिबद्ध हैं। इस मौके पर महंत शिवानंद, संत जगजीत सिंह, महंत कामेश्वर पुरी, स्वामी हरिहरानंद, महंत दिनेश दास, महंत राजेंद्र दास, महंत श्रवण मुनि, महंत सुमित दास, महंत रामजी दास, महंत सुतीक्षण मुनि, स्वामी कृष्णानंद, स्वामी अनंतानंद, महंत सूरज दास, समाजसेवी संजय वर्मा मौजूद रहे।
... और पढ़ें

गंगा-गोमती और प्रयाग-बरेली एक्सप्रेस का सोमवार से शुरू हो जाएगा संचालन

22 अप्रैल से बंद चल रही गंगा गोमती एक्सप्रेस और बरेली-प्रयाग एक्सप्रेस का संचालन सोमवार 14 जून से शुरू होने जा रहा है। सोमवार को गंगा-गोमती लखनऊ से एवं बरेली-प्रयाग एक्सप्रेस बरेली से रवाना होगी। इसके बाद मंगलवार 15 जून को यह दोनों ही ट्रेनें प्रयागराज संगम से चलनी शुरू हो जाएंगी। अभी स्पेशल ट्रेन के रूप में ही इन दोनों ट्रेनों का संचालन होगा।

कोरोना की दूसरी लहर के चलते यात्रियों की कम आवाजाही की वजह से अप्रैल माह में ही  गंगा-गोमती और प्रयाग-बरेली एक्सप्रेस का संचालन बंद हुआ था। अब एक बार फिर से यात्रियों की संख्या बढ़ी है तो रेलवे ने गंगा-गोमती और प्रयाग बरेली एक्सप्रेस को चलाने की तैयारी की है। गाड़ी संख्या 04215 प्रयागराज संगम से मंगलवार सुबह 5.40 बजे रवाना होगी। जो कि 5.58-6.00 बजे प्रयाग जंक्शन पहुंचेगी।

यह ट्रेन सुबह 10.10 बजे लखनऊ पहुंच जाएगी। इसी तरह 04307 प्रयागराज संगम से बरेली के लिए मंगलवार रात 1.05 बजे रवाना होगी, जो 1.23 बजे प्रयाग एवं सुबह 10:52 बजे बरेली पहुंच जाएगी। उधर बताया जा रहा है कि उत्तर रेलवे के लखनऊ मंडल ने सरयू एक्सप्रेस, लखनऊ इंटरसिटी, मनवार संगम एक्सप्रेस के संचालन का भी प्रस्ताव दिल्ली मुख्यालय को भेजा है। अफसरों को उम्मीद है कि इन ट्रेनों के संचालन की अनुमति मुख्यालय द्वारा दे दी जाएगी।
... और पढ़ें

यूपी एटीएस ने प्रतापगढ़ में अवैध हथियारों की फैक्ट्री का किया भंडाफोड़

यूपी एटीएस ने अवैध तरीके से असलहे बनाने की फैक्ट्री का भंडा फोड़ करते हुए प्रतापगढ़ के लालगंज क्षेत्र से 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अभियुक्तों में तीन बिहार के मुंगेर के रहने वाले हैं जो यहां आकर न सिर्फ अवैध असलहे बना रहे थे बल्कि दूसरे युवकों को इसकी ट्रेनिंग भी दे रहे थे। 

यूपी एटीएस के आईजी जीके गोस्वामी ने बताया कि पकड़े गए अभियुक्तों में तीन युवक मुंगेर के रहने वाले हैं जिसमें शायल आलम, मोहम्मद सरफराज आलम और मोहम्मद आजाद शामिल हैं। इसके अलावा गोरखपुर का रहने वाला तिरुपति नाथ वर्मा, प्रतापगढ़ का स्वालीन अंसारी और अखलीन अंसारी को भी गिरफ्तार किया गया है। इनके पास से 300 कारतूस, 2 पिस्टल, 2 तमंचे, ू देसी कट्टे और 17 अवैध पिस्टल बरामद किए हैं। 
... और पढ़ें

पुलिस कांस्टेबल से अफसर बने प्रयागराज के धीरज गुप्ता, बने युवा कल्याण अधिकारी

सफलता किसी प्रतिभा की मोहताज नहीं होती और इस बात को बहरिया के धीरज कुमार गुप्ता ने साबित कर दिखाया है। पुलिस विभाग में आरक्षी केपद पर तैनात धीरज ने लोअर पीसीएस 2018 परीक्षा में सफलता पाकर युवा कल्याण अधिकारी पद पर चयन पाया है। उनकी इस सफलता से परिजनों व स्नेहीजनों में हर्ष है।

फतेहपुर पुलिस लाइन में तैनात धीरज के पिता छेदी लाल का निधन हो चुका है। बहरिया के चकिया धमौर गांव के रहने वाले धीरज ने अपनी शिक्षा शहर में ही मामा केघर रहकर पूरी की। 2015 में उनका चयन पुलिस विभाग में आरक्षी केपद पर हो गया। हालांकि इसके बाद भी वह प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में पूरी लगन से जुटे रहे। आखिरकार उन्हें उनकी मेहनत का फल भी मिला। 531 पदों के लिए हुई 2018 लोअर पीसीएस परीक्षा में सफलता पाकर वह युवा कल्याण अधिकारी केपद पर चयनित हुए हैं। दो भाई और एक बहन में सबसे बड़े धीरज सफलता का श्रेय अपनी माता, मामा और पत्नी अल्का गुप्ता को देते हैं।
... और पढ़ें

मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज : एमबीबीएस रैकेट के सदस्यों का रिमांड बनवाएगी पुलिस

मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में बुलाकर एमबीबीएस दाखिले के नाम पर 17 लाख की ठगी के आरोपियों पर शिकंजा कसने की तैयारी शुरू कर दी गई है। मामले में नोएडा के गिरोह का हाथ होने के खुलासे के बाद पुलिस ने फरार सरगना सचिन सिंह की तलाश तो शुरू कर ही दी है। जेल में बंद गिरोह के चार सदस्यों का रिमांड बनवाने की भी तैयारी में है। सब कुछ ठीक रहा तो इसके लिए कोर्ट में जल्द अर्जी दी जा सकती है। 

एमबीबीएस दाखिले के नाम पर 17 लाख की ठगी में नोएडा के जिस गिरोह का नाम सामने आया है, उसके चार सदस्य जेल में बंद हैं। इसके अलावा सरगना अब तक नहीं पकड़ा जा सका है। इस गिरोह पर प्रयागराज के अलावा नोएडा में चार और बरेली में भी एमबीबीएस दाखिले के नाम पर लाखों की ठगी का मामला दर्ज है। नोएडा पुलिस ने मार्च में इसके दो सदस्यों को जेल भेजा था जबकि दो पहले ही सरेंडर कर जेल चले गए थे। मामले में किस गिरोह का हाथ है, इसका भले ही खुलासा हो गया हो लेकिन प्रयागराज में दर्ज मामले की जांच में जुटी पुलिस को अब भी कई सवालों के जवाब ढूंढ़ने हैं। इनमें से सबसे बड़ा सवाल यह है कि आखिर मेडिकल कॉलेज के वह कौन से कर्मचारी हैं, जो ठग गिरोह से मिले हुए थे और इस पूरे खेल में शामिल थे।

पुलिस अफसरों का कहना है कि फिलहाल इसका पता तभी चल सकता है जब सरगना सचिन पकड़ा जाए। यही नहीं, लंबे समय से फरार सचिन के बारे में उसके गिरोह के सदस्य ही सटीक जानकारी दे सकते हैं और यह तभी संभव होगा जब उनसे पूछताछ हो। ऐसे में पुलिस जेल में बंद गिरोह केसदस्यों का रिमांड बनवाने की तैयारी में है। इसके लिए जल्द ही कोर्ट में अर्जी दी जा सकती है। प्रकरण की जांच टीम का नेतृत्व कर रहे सीओ कोतवाली सत्येंद्र प्रसाद तिवारी ने बताया कि चारों आरोपियों का रिमांड बनवाकर वारंट कोर्ट में तामीला कराया जाएगा। इसके बाद कोर्ट की अनुमति पर उन्हें कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी।

वादी को भी बुलाया गया
जांच में जुटी पुलिस ने मुकदमा वादी को भी  बुलाया है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि वादी को बुलाया गया है ताकि इस बात की जानकारी की जा सके कि मेडिकल कॉलेज के किस विभाग और कक्ष में फर्जी काउंसलिंग कराई गई। जानकारी मिलने के बाद संबंधितों से पूछताछ की जाएगी। गौरतलब है कि नोएडा में गिरफ्तारी के दौरान गिरोह केसदस्यों ने इस बात का ख्ुालासा किया था कि फर्जीवाड़े केइस खेल में मेडिकल कॉलेज के कुछ कर्मचारी भी शामिल थे। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us