विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus in UP Live Updates: प्रदेश में 80 संक्रमित, लखनऊ में 9 दिनों से नहीं मिला कोई मरीज

शासन और प्रशासन संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए लगातार कोशिश कर रहा है। लोगों से भी हर वक्त घरों में रहने की अपील की जा रही है।

30 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

आजमगढ़

सोमवार, 30 मार्च 2020

सोशल डिस्टेंसिंग सिस्टम का पालन नहीं करा रही गैस एजेंसी

आजमगढ़। गैस एजेंसी संचालकों द्वारा वैसे तो पूछने पर होम डिलीवरी करने का दावा किया जाता है। गोदाम से किसी को भी गैस न देने की बात कही जाती है। लेकिन जब सबसे ज्यादा होम डिलीवरी की जरूरत है तो गैस एजेंसी संचालक गोदाम से ही गैस वितरण करा रहे हैं। इतना ही नहीं वितरण के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं किया जा रहा है।
लाक डाउन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग को लागू करने के लिए जिला प्रशासन की ओर से लोगों को जरूरी सामानों की होम डिलीवरी कराने का निर्णय लिया गया है। वहीं अपने जनपद में होम डिलीवरी का दावा करने वाले गैस मालिकों द्वारा शुक्रवार को होम डिलीवरी के बजाए एक स्थान पर लाइन लगाकर लोगों में गैस वितरित की जा रही थी। इसकी फोटो सोशल मीडिया पर अपलोड होने के बाद डीएम एनपी सिंह ने इसे संज्ञान लिया और जिला पूर्ति अधिकारी को तत्काल कार्रवाई करने का निर्देश दिया। जिला पूर्ति अधिकारी देवमणि मिश्रा ने बताया कि उक्त गैस व एजेंसी के मालिक को नोटिस जारी कर चेतावनी दे दी गई है कि अगर दोबारा उनके द्वारा ऐसा किया गया तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसलिए वह होम डिलवरी शुरू करें।
... और पढ़ें

मिला एक और संदिग्ध, मेडिकल कालेज में भर्ती

आजमगढ़। स्वास्थ्य महकमे ने एक और कोरोना संदिग्ध की पहचान किया है। मेंहनगर तहसील क्षेत्र के रहने वाला यह युवक दस-बारह दिन पूर्व विदेश से लौटा था। उसे राजकीय मेडिकल कालेज के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। मेडिकल कॉलेज की टीम ने उसका सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिया है। जिले में अब तक 13 संदिग्ध सामने आ चुके है। जिसमें नौ की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। शेष चार संदिग्धों के रिपोर्ट का अभी इंतजार है। सीएमओ डॉ. एके मिश्रा ने बताया कि जिले में विदेश से कुल 1435 लोग आये है तो वहीं देश के अलग-अलग हिस्सों से जिले में आने वालों की कुल संख्या 8598 है। ज्यादातर लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। जो बचे है, उनकी स्क्रीनिंग के लिए विभाग की टीम लगायी गई है। 4312 लोगों को होम क्वारंटीन में रहने का निर्देश दिया गया है। फिलहाल चार कोरोना संदिग्धों में दो राजकीय मेडिकल कालेज व दो जिला अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती है।
वहीं बृहस्पतिवार को जिले में तीन नए कोरोना संदिग्ध मिले थे। इनमें से दो पिता-पुत्र हैं। जिन्हें जिला अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में रखा गया है। बाप-बेटा अहरौला क्षेत्र के रहने वाले है और बाप कुछ दिनों पूर्व नेपाल से लौटा है। उसकी हालत वर्तमान में अन्यंत खराब बतायी जा रही है। इस बाबत एसआईसी डॉ. एसकेजी सिंह ने बताया कि दो मरीजों में वृद्ध मरीज की हालत गंभीर है। कोरोना की जांच के लिए सेंपल भेज दिया गया है लेकिन वह टीबी का पुराना मरीज है। जिसके चलते ही उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है। फिलहाल आईसोलेशन वार्ड में बाप-बेटा दोनों भर्ती है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही उनकी स्थिति के बारे में ज्यादा कुछ बताया जा सकेगा। वहीं बृहस्पतिवार को ही मिले एक अन्य संदिग्ध राजकीय मेडिकल कालेज के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती है। वह शहर कोतवाली क्षेत्र का रहने वाला है।
... और पढ़ें

साढ़े तीन लाख लोगों को मिलेगा मुफ्त अनाज

आजमगढ़। लॉकडाउन में रोज कमाने और खाने वालों के समक्ष भुखमरी की समस्या उत्पन्न हो गई है। सरकार की ओर से इन गरीबों को मुफ्त में राशन दिया जाएगा। ऐसे लाभार्थियों की संख्या जिले में साढ़े तीन लाख के आसपास है। गरीबों को अनाज वितरण के लिए सरकारी गोदाम से राशन का उठान शुरू हो गया है। 31 मार्च से नोडल अधिकारी के नेतृत्व में राशन वितरण होगा।
जिले में करीब एक लाख से अधिक अंत्योदय कार्डधारक हैं। इन्हें इस बार नि:शुल्क 35 किलो राशन दिया जाएगा। इसमें 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल है। इसके अलावा जिले में करीब छह लाख पात्र गृहस्थी कार्ड धारक हैं। इनमें से लगभग ढाई लाख लोग मनरेगा जॉब कार्ड धारक या श्रम विभाग के रजिस्टर्ड मजदूर हैं। मनरेगा मजदूरों और श्रम विभाग के रजिस्टर्ड श्रमिकों को मुफ्त राशन का लाभ मिलेगा। इन सभी को भी 35 किलो राशन दिया जाएगा। डीएम के आदेश पर मनरेगा और श्रम विभाग से मजदूरों का आंकड़ा मांगा गया है। ब्लाक स्तर पर सूची तैयार करने का काम अंतिम समय में चल रहा।
बता दें की पूरे जिले में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में मिलाकर कुल 22 सौ सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान है। यहां से राशन वितरण का कार्य किया जाता है। योजना के तहत ज्यादातर कोटेदार गोदाम से राशन उठा चुके हैं। जो नही उठाए हैं उन्हें जल्द से जल्द राशन का उठान करने का निर्देश दिया गया है। ताकि 31 मार्च से हरहाल में राशन का वितरण शुरू हो सके।
22 सौ तैनात किए जाएंगे नोडल अधिकारी
सरकार के आदेश पर जिला प्रशासन द्वारा गरीबों को मुफ्त में अनाज दिया जा रहा। कोटेदारों के माध्यम से बंटने वाले राशन में किसी भी प्रकार की लापरवाही न होने पाए। इसको ध्यान में रखते हुए सभी 22 सौ सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों पर नोडल अधिकारी नियुक्त किए जाएंगे। नोडल अधिकारियों की तैनाती के लिए ब्लाकवार सूची मांगी गयी है। सूची मिलते है ही उनकी ड्यूटी लगायी जाएगी। गरीबों को बंटने वाले राशन का भुगतान डीएम को करना है। इसलिए पूरी तरह से पारदर्शिता बरती जाएगी।
मशीन न चलने पर रजिस्टर में दर्ज होगा
सभी कोटेदारों के यहां से राशन लेने वालों का पूरा रिकार्ड इलेक्ट्रानिक मशीन में मौजूद है। आधार कार्ड के जरिए इनका अंगूठा लगाने के बाद राशन दिया जाएगा। जिन स्थानों पर नेटवर्क या अन्य किसी गड़बड़ी की वजह से राशन वितरण में परेशानी हुई तो। पूरा विवरण नोडल अधिकारी के समक्ष रजिस्टर में दर्ज होगा ताकी पारर्दिता बनी रहे।
मुफ्त में 35 किलों अनाज पाने वाले ज्यादातर लोगों की सूची तैयार हो गयी है। लगभग साढ़े तीन लाख से अधिक लोगों को यह लाभ मिलेगा। 31 मार्च से वितरण शुरू हो जाएगी। देवमणि मिश्रा, डीएसओ, आजमगढ़
... और पढ़ें

हैलो ! कमिश्नर बोल रही हूं, लॉक डाउन पर बहुत दुर्व्यवस्था है,सुधार करो नहीं तो मैं माफ नहीं करूंगी

हैलो ! मैं कमिश्नर कनक त्रिपाठी बोल रही हूं, तुम्हारे यहां लॉक डाउन में बहुत दुर्व्यवस्था है। सड़कों पर बहुत भीड़ है। सुधार करो नहीं तो मैं माफ नहीं करूंगी। फोन के कुछ ही देर बाद कमिश्नर और डीआईजी मुबारकपुर पहुंच गए। ऐसे में प्रभारी पुलिस निरीक्षक की सांस ऊपर नीचे होने लगी। हालांकि बाद में जांच में हकीकत सामने आ गई कि मुबारकपुर क्षेत्र की ही एक महिला ने कमिश्नर के नाम पर फोन किया था।  देर शाम सच्चाई सामने आने पर पुलिस ने महिला के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है  और उसकी तलाश में जुटी है।
 
दरअसल, आजमगढ़ कमिश्नर कनक त्रिपाठी की कार्रवाइयों से मातहतों में खौफ है। शनिवार को दिन में करीब 11 बजे एक महिला ने मुबारकपुर के प्रभारी पुलिस निरीक्षक के सरकारी नंबर पर फोन किया। उसने कहा कि मैं कनक त्रिपाठी कमिश्नर आजमगढ़ बोल रही हूं। तुम्हारे यहां लॉक डाउन में सड़कों पर बहुत भीड़ होने से बहुत दुर्व्यवस्था है, सुधार करो नहीं तो माफ नहीं करूंगी।
... और पढ़ें
112 नंबर पर कॉल 112 नंबर पर कॉल

रोडवेज पर मजिस्ट्रेट, दो मेडिकल टीम होगी तैनात

आजमगढ़। कोरोना संकट को देखते हुए विभिन्न प्रदेशों से मजदूर और कामगार वर्ग के लोग पैदल ही अपने घर को चल दिए हैं। सैकड़ों की संख्या में ऐसे लोग रोजाना गुजर रहे हैं। शासन ने इन लोगों को लेकर के जिला प्रशासन को सख्त निर्देश दिए हैं। इसके तहत प्रत्येक रोडवेज स्टेशन पर इन लोगों को घर तक पहुंचाने की व्यवस्था करने के साथ ही एक मजिस्ट्रेट और दो मेडिकल टीम तैनात करने के निर्देश हैं। शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन ने इसकी जिम्मेदारी एसडीएम सदर को सौंपी है।
कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर प्रदेश में 21 दिन का लॉकडाउन चल रहा है। लॉकडाउन के बाद में काफी संख्या में ऐसे लोग जोकि विभिन्न प्रदेशों में दैनिक मजदूरी और अन्य काम करते हैं, उन्होंने अपने घर के लिए पलायन शुरू कर दिया है। पैदल ही यह लोग अपने घरों के लिए निकल पड़े हैं। शासन ने इस संबंध में सभी जिला प्रशासन को साथ ही एसपी को निर्देशित किया है। सख्त निर्देश दिए गए हैं कि प्रत्येक दशा में बस स्टेशन एवं अन्य सार्वजनिक स्थानों पर जहां ऐसे लोग आ रहे हैं, वहां इनके भोजन और खानपान की व्यवस्था की जाए।
साथ ही उन्हें चिकित्सा की सुविधा भी मुहैया कराई जाए। इसके लिए बस स्टेशन पर 24 घंटे मजिस्ट्रेट की तैनाती, पुलिस और दो मेडिकल टीम तैनात करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ-साथ ऐसे लोगों को सूची बनाकर के उनके गंतव्य तक पहुंचाने के निर्देश भी दिए गए हैं। मुख्य विकास अधिकारी आनंद कुमार शुक्ला ने बताया शासन के निर्देश पर उक्त व्यवस्थाएं कराने के लिए एसडीएम सदर रविंद्र सिंह को निर्देशित किया गया है।
... और पढ़ें

लॉक डाउन : बाजार में आटा की कमी, मटर की दाल भी हुई गायब

आजमगढ़। लॉकडाउन में खाद्य पदार्थों की कमी सामने आने लगी है। जमाखोरी से परेशानी और भी बढ़ गई। आने वाले दिनों में खाद्य पदार्थों की कमी न हो इसलिए स्थिति पर नियंत्रण के लिए मुख्य राजस्व अधिकारी की अध्यक्षता में कमेटी का गठन कर दिया गया है।
जनपद में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन किया गया है। लॉकडाउन को अभी कुछ ही दिन बीते हैं कि मार्केट से आटा गायब होने लगा है। जिला प्रशासन की ओर से आटे का रेट 25 रुपये किलो निर्धारित किया गया है, कुछ जमाखोंरों की ओर से दाम बढ़ाने के कारण आटा मार्केट में 30 से 35 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गया है। वहीं, मार्केट से मटर का दाल गायब हो गई है। इससे अरहर की दाल 95 से 100 रुपये किलो पहुंच गई है। चीनी के दामों में भी जबरदस्त उछाले देखी जा रही है। खाद्य विभाग के अधिकारी सबकुछ जानने के बाद भी चुप्पी साध कर बैठे हैं। जमाखोरी करने वाले शहर के ही बड़े व्यापारी हैं। साठगांठ करने के कारण विभाग कार्रवाई से बच रहा है।
वहीं, जिलाधिकारी एनपी सिंह ने कहा कि आशंका है कि थोक व्यापारियों के पास स्टाक कम हो सकता है। इसके कारण आवश्यक खाद्य सामग्री एवं उससे जुड़ी हुई वस्तुओं की आपूर्ति में कमी हो सकती है। इससे लोगों के समक्ष संकट की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। थोक व्यापारी स्टाक होर्डिंग करके दर को कृत्रिम रूप से बढ़ा भी रहे हैं।
सीडीओ की अध्यक्षता में समिति का गठन
खाद्य सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए मुख्य राजस्व अधिकारी की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया है। मुख्य राजस्व अधिकारी 9454417023, एसएसपी नगर 9454401017, क्षेत्रीय प्रबंधक भारतीय खाद्य निगम 9076999909, उप निदेशक मंडी प्रशासन 8090999208, जिला पूर्ति अधिकारी 7379128000, जिला खाद्य विपणन अधिकारी 9415242677, एके बनर्जी उपायुक्त वाणिज्य कर 7235003417, 9839068688, अभिहित अधिकारी खाद्य 9452704270, प्रबंधक डेयरी 9454864670, 8630802477 को कमेटी में शामिल किया गया है। निर्देशित किया है कि आवश्यतानुसार खाद्यान्न की उपलब्धता सुनिश्चित कराएं। सुनिश्चित कराएं कि जनपद के सभी फ्लोर मिल और आटा चक्की खुली रहें, ताकि आटे की कोई दिक्कत न हो सके। यदि कोई थोक विक्रेता कालाबाजारी कर रहा है, स्टाक होर्डिंग कर रहा है तो कार्रवाई करें।
... और पढ़ें

कमिश्नर बनकर एसओ मुबारकपुर को हड़का रही थी महिला, केस दर्ज

आजमगढ़। मंडलायुक्त कनक त्रिपाठी की ओर से की गई कई कार्रवाइयों से मातहतों में खौफ है। इसका फायदा मुबारकपुर की रहने वाली एक महिला ने उठाते हुए शनिवार को एसओ मुबारकपुर को फोन कर कमिश्नर के नाम का जमकर रौब झाड़ा। कार्रवाई की चेतावनी तक दे डाली। देर शाम को इसका भंडाफोड़ होने पर महिला के खिलाफ तहरीर देकर पुलिस ने केस दर्ज किया है। पुलिस उसकी तलाश में जुट गई है।
प्रभारी निरीक्षक मुबारकपुर अखिलेश मिश्रा की तरफ से दी गई तहरीर में मुबारकपुर की रहने वाली तलत नामक महिला को आरोपित किया गया है। प्रभारी निरीक्षक का आरोप है कि शनिवार को दिन में करीब 11 बजे तलत ने उनके सरकारी नंबर पर फोन किया। उसने कहा की मैं कनक त्रिपाठी कमिश्नर आजमगढ़ बोल रही हूं। तुम्हारे यहां लॉक डाउन पर बहुत दुर्व्यवस्था है। सड़कों पर बहुत भीड़ है। सुधार करो नहीं तो मैं माफ नहीं करूंगी। संयोग ही रहा कि फोन करने के कुछ ही देर बाद कमिश्नर और डीआईजी मुबारकपुर पहुंच गए। ऐसे में प्रभारी निरीक्षक की सांस ऊपर नीचे होने लगी। शाम को मामला संज्ञान में आने पर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता कैलाश पांडेय ने कमिश्नर को फोन कर पूछा तो कमिश्नर ने किसी भी प्रकार का फोन करने से इंकार कर दिया। इसके बाद पुलिस ने जब महिला के नंबर का लोकेशन निकाला तो वह नंबर मुबारकपुर की रहने वाली तलत का निकला। उसके विरुद्ध फर्जी अधिकारी बनकर सरकारी कर्मचारी को धमकी देने सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर किया किया है। महिला घर छोड़कर फरार है। उसकी तलाश की जा रही है। बता दें आरोपी महिला पूर्व में भी इसी तरह से कमिश्नर के नाम पर अन्य अधिकारियों पर भी रौब झाड़ते हुए उन्हें धमका चुकी है। सीओ सदर मो. अकमल खां ने बताया की केस दर्ज कर लिया गया है। महिला घर पर नहीं मिली। उसकी तलाश की जा रही है।
... और पढ़ें

आजमगढ़ में अब तक मिले 14 संदिग्धों में 13 की निगेटिव

आजमगढ़। जिले में अब तक 14 कोरोना संदिग्ध मिले हैं। इसमें से 13 की जांच रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। मात्र एक संदिग्ध की रिपोर्ट आनी बची है। 14 में से 13 की रिपोर्ट निगेटिव में आने पर स्वास्थ्य महकमे ने राहत की सांस ली है।
सीएमओ डॉ. एके मिश्रा ने बताया कि मेडिकल कालेज में भर्ती दो संदिग्धों में से एक की रिपोर्ट आ गई है। यह भी निगेटिव है। उन्होंने यह भी बताया कि जिला अस्पताल में भर्ती बाप-बेटा की रिपोर्ट शनिवार को ही आ गई थी और दोनो निगेटिव थे। अब तक जिले में कुल 14 संदिग्ध मरीजों को क्वारंटीन के लिए भर्ती कर जांच के लिए सैंपल भेजा गया था। इसमें 13 की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। वर्तमान में मात्र एक मरीज ही क्वारंटीन है। उम्मीद है कि सोमवार तक इसकी भी रिपोर्ट आ जाएगी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य महकमा किसी भी आपदा की स्थिति से निपटने को तैयार है। इसके साथ ही बाहर से आने वालों को निर्देशित करते हुए उन्होंने अपील की कि वे घर पर ही अलग कमरे में परिवार के सदस्यों से दूरी बना कर रहे। किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो तत्काल कंट्रोल रूप नंबर पर कॉल करें।
... और पढ़ें

315 क्वारंटीन, 31 आईसोलेशन बेड आरक्षित, 3

आजमगढ़। कोरोना को लेकर स्वास्थ्य महकमे ने किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए कमर कस ली है। क्वारंटीन व आइसोलेशन बेडों की संख्या में इजाफा किया गया है तो वहीं 13 प्राइवेट अस्पतालों को भी क्वारंटीन वार्ड बनाने के लिए चिह्नित कर लिया गया है। वहीं नौ प्राइवेट अस्पतालों के एंबुलेंस के साथ ही कुल 114 एंबुलेंस को अलर्ट पर रखा गया है। सरकारी व प्राइवेट मिला कर कुल 38 वेंटीलेटर का भी इंतजाम किया गया है।
सीएमओ डॉ. एके मिश्रा ने बताया कि कोरोना को देखते हुए लगातार जरूरी इंतजाम बढ़ाए जा रहे है। फिलहाल तीन सरकारी अस्पतालों पर क्वारंटीन व आइसोलेशन की सुविधा उपलब्ध थी। अब यहां भी बेडों की संख्या को बढ़ा दी गई है। उन्होंने बताया कि राजकीय मेडिकल कालेज, 100 शैय्या अतरौलिया व जिला अस्पताल में अब कुल 225 बेड क्वारंटीन व 31 बेड आइसोलेशन के लिए आरक्षित कर दिए गए हैं। 15 सरकारी वेंटीलेटर भी तैयार है। इसके अलावा 13 प्राइवेट अस्पतालों में कुल 90 बेड आरक्षित किए गए हैं। इसके साथ ही प्राइवेट अस्पतालों के 23 वेंटिलेटर, 113 आईसीयू भी किसी भी आपदा से निपटने के लिए सुरक्षित कर लिए गए हैं। सीएमओ ने बताया कि कुल 114 एंबुलेंस भी आरक्षित है। जिसमें नौ एंबुलेंस प्राइवेट नर्सिंग होम के हैं। इमरजेंसी की स्थिति में अन्य प्राइवेट एंबुलेंसों को भी अधिग्रहीत किया जा सकता है। इतना ही नहीं सरकारी अस्पतालों में 30 और बेड की व्यवस्था कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि जैसी जरूरत होगी वैसे प्राइवेट अस्पतालों की सेवाओं व संसाधनों को अधिग्रहीत किया जायेगा।
अस्पताल क्वारंटीन बेड की संख्या आईसोलेशन बेड की संख्या
100 शैय्या अस्पताल अतरौलिया 145 8
राजकीय मेडिकल कालेज 75 20
जिला अस्पताल 5 3
13 प्राइवेट अस्पताल 90 0
कुल वेटिंलेटर
सरकारी- 15
प्राइवेट- 23
कुल एंबुलेंस
सरकारी- 105
प्राइवेट- 9
... और पढ़ें

जमाखोरी और रेट बढ़ाने पर होगी जेल

मुबारकपुर/अमिलो (आजमगढ़)। थाना परिसर में शनिवार को कमिश्नर कनक त्रिपाठी और डीआईजी सुभाष चन्द्र दूबे ने बैठक की। लॉकडाउन का पालन करने के संबंध में दिशा निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि कालाबाजार करने वाले पर एनएसए लगेगा। मुहल्ला कटरा में बांसफोर बिरादरी के लोगों को लंच पैकेट का वितरण किया।
मातहत अधिकारियों को निर्देश दिया कि लॉकडाउन का पालन करने के साथ साथ मुबारकपुर नगरपालिका परिषद के सभी वार्डों में राशन, सब्जी, फल की होम डिलीवरी कराएं। जमाखोरी व अधिक रेट पर सामान बेचने पर कार्रवाई कर जेल भेजा जाए। अधिशासी अधिकारी राज अविचल प्रजापति से जानकारी ली। उन्होंने बताया कि कुल 211 ठेले हैं। कमिश्नर कनक त्रिपाठी ने कहा कि सभी 25 वार्डों में 64 ठेले का पास जारी कर उनका पता, मोबाइल नंबर नोट कर लें।
सुबह 10 से शाम चार बजे तक सब्जी, फल घर-घर पहुंचाएं। किसी भी तरह से रेट से अधिक मूल्य पर राशन व खाद्य सामग्री न बेचें। मेन बाजार में सब्जी मंडी न लगा कर रविवार को राम लीला मैदान में सुबह 7:30 बजे से 12:30 बजे तक मंडी लगाई जाए। डीआईजी सुभाष चन्द्र दूबे ने कहा कि भीड़ और जमाखोरी न होने पाएं।
थाना प्रभारी निरीक्षक अखिलेश कुमार मिश्र को कहा कि रामलीला मैदान में लाकडाउन का पालन कराएं। मुहल्ला कटरा में बांसफोर बिरादरी के लोगों को कमिश्नर व डीआईजी ने लंच पैकेट का वितरण किया। एसडीएम राघवेन्द्र सिंह, उपजिलाधिकारी राजीव रतन सिंह, क्षेत्राधिकारी अकमल खान, विनय कुमार सिंह, मौजूद रहे।
... और पढ़ें

जरूरतमंदों के लिए आगे आए लोग, बांटी राहत सामग्री

आजमगढ़। कोरोना वायरस को लेकर पूरे जनपद में लाकडाउन है। बहुत से लोगों के लिए खाने का जुगाड़ करना मुश्किल है। इसके लिए जिला प्रशासन के साथ ही पुलिस विभाग और विभिन्न सामाजिक संगठनों की ओर से व्यवस्था की जा रही है।
डीएम एनपी सिंह ने लाकडाउन की स्थिति में जरूरतमन्द लोगों की मदद के लिए कम्हरिया बाजार में दिहाड़ी मजदूरों तथा पल्हना बाजार में बांसफोर और मुसहर परिवारों में खाद्य सामग्री का वितरण किया। भारत रक्षा दल ने पका-पकाया भोजन उनके घर तक पहुंचाया। प्रदेश उपाध्यक्ष हरिकेश विक्रम श्रीवास्तव ने बताया कि सब लोग अपनी- अपनी क्षमता के अनुसार लगे हुए हैं।
शनिवार को को तीसरे दिन प्रथम पाली में 99 लोगों को खाना पहुंचाया गया। अतरौलिया में मजदूरी व ठेला चलाने वालों को एसडीएम बूढ़नपुर दिनेश कुमार मिश्र, तहसीलदार शक्ति प्रताप सिंह और अधिशासी अधिकारी अतरौलिया अंजली वर्मा ने खाद्यान्न सामग्री बांटी। सरायमीर के मिर्जापुर ब्लाक अंतर्गत बस्ती (नहर) के समीप बसे गरीबों के लिए जय गुरुदेव आश्रम खानपुर की ओर से अनाज वितरण किया गया। सरायमीर में पूर्व सभासद वसीम अहमद ने गरीबों में आटा, आलू, दाल, चावल आदि वितरण किया। अतरौलिया में नगर पंचायत अध्यक्ष सुभाष चंद जायसवाल ने जरूरतमंदों को राशन वितरित किया। भाजपा नेता रमाकांत मिश्रा ने सफाई कर्मियों को मास्क दिया।
अंबारी में डायल 112 पर सहायता के लिए काल की गई। बताया गया कि प्रतिदिन कमाने खाने वाले परिवार में 17 लोग और चार बच्चे हैं। तहसीलदार नवीन प्रसाद, नायब तहसीलदार पंकज शाही समाजसेवी शाहिद शादाब ने लहिडीह बाजार में इन भूखे परिवारों को राहत सामग्री दी। तरवां थाना क्षेत्र के बोगरिया बाजार के मुस्लिम बस्ती में कुछ जरूरतमंदों को आजाद कल्याण समाज सेवा समिति की ओर से राशन वितरण किया गया। इस मौके पर सीओ लालगंज अजय कुमार यादव और चौकी प्रभारी शिवभजन थे। मेंहनगर के कम्हरिया गांव में पंकज कुमार सिंह ने दिहाड़ी मजदूरों और गरीब लोगों में राशन वितरण किया। खरिहानी बाजार में 15 परिवार को जिलाधिकारी ने राशन बांटा।
बेलइसा में दो दर्जन से ज्यादा लोगों को फंसा देखकर बेलइसा मंडी में फल विक्रेता राधेश्याम यादव ने उन्हें भोजन-फल आदि का प्रबंध कर मानवीयता की मिसाल पेश की। मजदूरों को बेबस देखकर बेइलसा से सटे शाहकुंदनपुर निवासी राधेश्याम यादव ने 35 लोगों का भोजन का प्रबंध किया। योग मंच ने पुलिसकर्मियों को खाद्य सामग्री वितरित की।
... और पढ़ें

प्राइवेट अस्पतालों में भी बनाया जायेगा आईसोलेशन वार्ड

आजमगढ़। भले ही अभी अपना जिला कोरोना मुक्त है लेकिन संदिग्धों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। बीते चार दिनों से तो प्रतिदिन एक से दो की संख्या में नये संदिग्ध मरीज सामने आने लगे है। जिसे देखते हुए स्वास्थ्य महकमा अब आईसोलेशन व क्वारंटीन के लिए बेडों की संख्या बढ़ाने के लिए प्राइवेट अस्पतालों को चिन्हित कर रहा है। दर्जन भर से अधिक प्राइवेट अस्पतालों में 75 बेड आईसोलेशन व क्वारंटीन के लिए सुरक्षित किए जाने की योजना पर काम चल रहा है।
शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग प्राइवेट अस्पतालों में भी आईसोलेशन व क्वारंटीन वार्ड बनाने की कवायद शुरू कर दी है। डीएम एनपी सिंह व सीएमओ डॉ. एके मिश्रा ने लगातार प्राइवेट अस्पतालों का चक्रमण कर सुविधा जनक दर्जन भर अस्पतालों की सूची तैयार किया है। जिसमें कुल 75 बेड कोरोना संदिग्ध मरीजों के लिए आरक्षित किए जाएंगे।
सीएमओ डॉ. एके मिश्रा ने बताया कि चिन्हित अस्पतालों की सूची निदेशालय प्रेषित कर दी गई है। इसके साथ ही सूची में शामिल अस्पतालों को अपने यहां आईसोलेशन व क्वारंटीन वार्ड बनाने की कवायद भी शुरू कर देने का निर्देश दे दिया गया है। निदेशालय से निर्देश आते ही चिन्हित प्राइवेट अस्पतालों में भी आईसोलेशन व क्वारंटीन वार्ड संचालित होने लगेंगे। इसके साथ ही उन्हें जरूरी सुविधाएं भी मुहैया करायी जायेगी। ताकि यदि कोरोना संदिग्ध मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा होता है तो उन्हें चिन्हित प्राइवेट अस्पतालों के आईसोलेशन वार्डो में भी भर्ती करा कर इलाज आदि की शुरूआत की जा सके। इसके साथ ही सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा जा सके।
जिले में कोरोना संदिग्ध मरीजों के लिए फिलहाल 59 बेड आरक्षित है। स्वास्थ्य महकमे ने अपने तीन अस्पतालों राजकीय मेडिकल कालेज चक्रपानपुर, जिला अस्पताल व 100 शैय्या अस्पताल अतरौलिया में आईसोलेशन वार्ड व क्वारंटीन सेंटर स्थापित कर रखा है। राजकीय मेडिकल कालेज पर 20 बेड का आईसोलेशन वार्ड स्थापित किया गया है। जिला अस्पताल में कुल 10 बेड की व्यवस्था है तो वहीं 100 शैय्या अस्पताल अतरौलिया पर 29 बेड कोरोना संदिग्धों के लिए आरक्षित रखा गया है।
स्वास्थ्य विभाग ने अपने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर भी आईसोलेशन वार्ड बनाये जाने की कवायद शुरू करा दिया है। सभी एमओआईसी को निर्देश दिया गया है कि वे अपने-अपने अस्पतालों पर तैयारी पूरी रखे, ताकि जरूरत पड़ने पर तत्काल आईसोलेशन वार्ड स्थापित कर मरीजों का इलाज शुरु कराया जा सके।
... और पढ़ें

कोरोना से बचाव के लिए गांव के रास्ते पर खींची लक्ष्मण रेखा

आजमगढ़। कोरोना वायरस से बचाव के लिए अब लोगों ने अपनी तरफ से भी कई प्रयास करने शुरू कर दिए हैं। ऐसा ही मामला देखने को मिला है आजमगढ़ के मेंहनगर तहसील के गांव उम्मरपुर में। गांव में ग्रामीणों ने बैरियर लगाकर के उस पर एक पोस्टर चस्पा कर दिया है। इस पोस्टर पर बाहरी लोगों का प्रवेश वर्जित कर दिया गया है। इसके साथ ही गांव के लोगों को भी आपस में दो मीटर की सामाजिक दूरी रखने के निर्देश लिख दिए हैं।
मेहनगर तहसील के सिंहपुर के पास स्थित गांव उम्मरपुर के ग्रामीणों का यह प्रयास लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है। यहां के ग्रामीणों ने डॉक्टर सुभाष सिंह के नेतृत्व में गांव के मुख्य रास्ते पर एक बैरियर लगा दिया है। बैरियर पर चस्पा किए गए पोस्टर पर लिखा गया है कि कोरोना एक जानलेवा बीमारी हैं। बाहरी लोगों से निवेदन है कि लाकडाउन का पालन करें और गांव में प्रवेश न करें।
इसके साथ ही समस्त ग्रामवासियों से निवेदन किया गया है कि दो मीटर की सामाजिक दूरी बनाए रखें। तथा अपने घर से बाहर न निकले ग्रामीणों की ओर से खींची गई यह लक्ष्मणरेखा की चर्चा हर तरफ फैल रही है। इस संबंध में ग्रामीणों से बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि कोरोना की भयावहता को देखते हुए सरकार ने 14 अप्रैल तक 21 दिन का लाकडाउन कर रखा है।
हम गांव के लोगों और इसके साथ ही बाहरी लोगों से निवेदन कर रहे हैं कि इसका पूरी तरीके से पालन किया की जाए, ताकि स्वयं के साथ ही दूसरे लोगों का भी इस गंभीर बीमारी से बचाव हो सके। कई स्थानों से मिल रही हैं ऐसी चर्चाएं आजमगढ़ की मेंहनगर तहसील के उमरपुर गांव से पहले अन्य जनपदों में भी इस तरीके की पोस्टर लगने की जानकारी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इसको देख कर के जनपद के ग्रामीण भी इस तरीके का कदम उठा रहे हैं।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
deshara coopan
Badhai coopan
DIWALI COOPAN
DIWALI COOPAN

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us