विज्ञापन
विज्ञापन
जल्दी कीजिये, आर्थिक परेशानियों से छुटकारा पाने का आख़िरी मौका ! आज ही बुक करें महालक्ष्मी पूजन
Puja

जल्दी कीजिये, आर्थिक परेशानियों से छुटकारा पाने का आख़िरी मौका ! आज ही बुक करें महालक्ष्मी पूजन

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

डायग्नोस्टिक सेंटर के अवैध संचालन पर कसा शिकंजा

बलरामपुर। सीएचसी अधीक्षक श्रीदत्तगंज ने दल-बल के साथ महदेइया बाजार स्थित डायग्नोस्टिक सेंटरों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान सेंटर पर न तो विशेषज्ञ डॉक्टर मिले और न सेंटर से संबंधित कोई अभिलेख ही मिला। डायग्नोस्टिक सेंटरों का संचालन अवैध मानते हुए अधीक्षक ने कार्रवाई के लिए डीएम व सीएमओ को रिपोर्ट सौंपी है।
सीएचसी अधीक्षक श्रीदत्तगंज डॉ. सुजीत पांडेय, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी विजय प्रताप सिंह एवं बीपीएम आशुतोष शुक्ला ने शुक्रवार को महदेइया बाजार स्थित डायग्नोस्टिक सेंटर जनता एवं सविता डायग्नोस्टिक सेंटर का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान सेंटर पर कोई भी पैथालॉजिस्ट या रिपोर्ट देने वाला डॉक्टर उपलब्ध नहीं मिला। डायग्नोस्टिक सेंटर का रजिस्ट्रेशन व अन्य अभिलेख भी मौके पर उपलब्ध नहीं था।
जनता डायग्नोस्टिक सेंटर पर अल्ट्रासाउंड व एक्स-रे मशीन तथा लैब संबंधी सामान मौके पर पाए गए लेकिन अल्ट्रासाउंड करने वाले डॉक्टर मौजूद नहीं मिले। डॉक्टर व अभिलेखों के संबंध में पूछताछ करने पर कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दिया गया। सीएचसी अधीक्षक ने बताया कि निरीक्षण के दौरान संबंधित डॉक्टर व अभिलेख न मिलने पर सेंटरों का संचालन अवैध मानते हुए कार्रवाई के लिए रिपोर्ट डीएम और सीएमओ को भेजी गई है। इस संबंध में सीएमओ डॉ. घनश्याम सिंह ने बताया कि अधीक्षक की रिपोर्ट के आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

सड़क हादसे में दो घायल

मिशन प्रेरणा में बेसिक शिक्षा का शानदार प्रदर्शन

बलरामपुर। मिशन प्रेरणा में बेसिक शिक्षा ने शानदार प्रदर्शन किया है। राज्य परियोजना कार्यालय लखनऊ की तरफ से प्रदेश के 75 जिलों की मिशन प्ररेणा की रैंकिंग जारी की गई है। मंडल में पहला और प्रदेश की रैंकिंग में बलरामपुर को मिशन प्ररेणा के क्षेत्र में 5वां रैंक मिला है। मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक देवीपाटन मंडल विनय मोहन वन ने बीएसए डॉ. रामचंद्र सहित मिशन प्रेरणा की टीम को बधाई दी है।
मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक ने बीते दिन बताया कि मिशन प्रेरणा के तहत जिले में सहयोगात्मक पर्यवेक्षण के लिए एसआरजी, एआरपी व डायट मेंटर्स को राज्य परियोजना व जिला परियोजना कार्यालयों की तरफ से स्कूलों का नियमित भ्रमण करने का निर्देश दिया गया था। जिले में चयनित एसआरजी, एआरपी व डायट मेंटर्स की तरफ से स्कूलों के नियमित भ्रमण करने में सहयोगात्मक पर्यवेक्षण का सराहनीय योगदान रहा।
उन्होंने बताया कि राज्य परियोजना कार्यालय लखनऊ की तरफ से सहयोगात्मक पर्यवेक्षण का मूल्यांकन किया गया। मूल्यांकन में बलरामपुर जनपद को प्रदेश के 75 जिलों में 5वीं रैंक प्राप्त हुई। देवीपाटन मंडल के चार जनपदों में बलरामपुर ने पहला स्थान प्राप्त किया।
मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक ने बीएसए के साथ मिशन प्ररेणा में शानदार योगदान देने वाले जिला समन्वयक सामुदायिक सहभागिता निरंकार पांडेय, डीसी प्रशिक्षण मोहित देव त्रिपाठी, सभी एसआरजी, एआरपी व डायट मेंटर्स को बधाई दी है। भविष्य में इसी तरह से प्रयास करके मिशन प्ररेणा को मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक ने प्रदेश में प्रथम स्थान लाने के लिए आशा जताई है।
... और पढ़ें

बलरामपुर में मिले पांच और कोरोना पॉजिटिव

बलरामपुर। जिला सूचना कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार को आई जांच रिपोर्ट में पांच लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। पॉजिटिव पाए गए लोगों को कोविड-केयर सेंटर में शिफ्ट किया गया है। कोरोना पॉजिटिव पाए गए लोगों के कांटेक्ट की तलाश की जा रही है।
जिला सूचना कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार बलरामपुर के मोहल्ला सिविल लाइन में एक, तुलसीपार्क में दो तथा गैसड़ी के पुरुषोत्तमपुर में दो लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। विभिन्न स्थानों पर रखे गए 6 लोगों का दूसरी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव मिली है। जिले में कुल पॉजिटिव केस की संख्या 1758 हो गई है जिनमें से 1634 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। 26 लोगों की कोरोना के चलते मौत हो चुकी है। जिले में एक्टिव कोरोना केस की संख्या 98 है।
... और पढ़ें

48 लाख लोगों को मिलेगी 24 घंटे बिजली की सौगात

बलरामपुर। पॉवर फार आल योजना से 120 करोड़ 72 लाख रुपये की लागत से पारेषण खंड की तरफ से सदर ब्लॉक के घुघुलपुर गांव में 220 केवी बिजली घर का निर्माण हो रहा है। 10 एकड़ जमीन में 33 केवी वाले सात फीडर के साथ मार्च 2021 में नए बिजली घर के चालू होने की संभावना जताई जा रही है। तीन जिलों में 220 केवी बिजली घर घुघुलपुर से आपूर्ति शुरु की जाएगी। छह माह बाद तीन जिलों के 48 लाख लोगों को अच्छी गुणवत्ता वाले वोल्टेज के साथ 24 घंटे बिजली की सौगात मिलेगी।
विद्युत उपकेंद्र भगवतीगंज के एसडीओ ट्रांसमिशन शादाब खान ने बताया कि एक अरब 20 करोड़ 72 लाख रुपये की लागत से सदर ब्लॉक के घुघुलपुर गांव में 10 एकड़ जमीन में 8 मार्च 2019 से पॉवर फॉर ऑल योजना के तहत 220 केवी के नए बिजली घर का निर्माण कार्य किया जा रहा है। 220 केवी का नया बिजली घर बनने से भगवतीगंज उपकेंद्र को बिजली आपूर्ति का दूसरा स्रोत मिल जाएगा। नए बिजली घर से बलरामपुर व श्रावस्ती जिलों के समस्त और गोंडा जिले के इटियाथोक ब्लॉक को अनवरत बिजली आपूर्ति की जाएगी। नया बिजली घर शुरू होने से तीनों जिलों के 48 लाख उपभोक्ताओं को अच्छी गुणवत्ता वाले वोल्टेज के साथ 24 घंटे विद्युत सप्लाई मिलेगी।
नए बिजली घर का संचालन शुरु होने पर बलरामपुर चीनी मिल व बजाज शुगर मिल की तरफ से स्थापित संयंत्रों से उतरौला तहसील के लोगों को भी बिजली आपूर्ति करने में आसानी होगी। नए बिजली घर से इकौना, भिनगा, हरिहरगंज, बौद्घ स्तूप, कटरा, नवोदय विद्यालय, घुघुलपुर, गिलौला, लक्ष्मननगर व लक्षमनबाजार सहित कई नगर व ग्रामीण बाजारों को 24 घंटे बिजली सप्लाई की सौगात मिलेगी। देवीपाटन मंडल के तीन जिलों बलरामपुर, बहराइच व श्रावस्ती को नीति आयोग की तरफ से पिछड़ापन दूर करने के लिए चयनित किया गया है जिसके तहत विद्युत आपूर्ति में सुधार लाने के लिए 220 केवी के नए बिजली घर का निर्माण कराया जा रहा है।
नए बिजली घर से जुड़ेंगे फीडर, बढ़ेगा पावर
-घुघुलपुर गांव के 220 केवी बिजली घर से दो श्रावस्ती, चार बलरामपुर और एक गोंडा के इटियाथोक से 33 केवी के सात फीडर जोड़े जाएंगे। 132 केवी इटियाथोक गोंडा, 132 केवी सब स्टेशन भिनगा, 132 केवी बलरामपुर, 132 केवी तुलसीपुर व 132 केवी उतरौला को नए बिजली घर से जोड़ा जाएगा। नए बिजली घर से फीडरों को जोड़ करके पावर बढ़ाया जाएगा।
ललित कुमार, अधीक्षण अभियंता पावर कार्पोरेशन
मार्च में हर हाल में चालू होगा नया बिजली घर
-सदर ब्लॉक के घुघुलपुर गांव में ट्रांसमिशन की तरफ से 220 नए बिजली घर को मार्च 2021 में हर हाल में चालू करा दिया जाएगा। अप्रैल 2021 से तीन जिलों के लोगों को घुघुलपुर गांव के नए बिजली घर से आपूर्ति हर हाल में मिलने लगेगी। एक्सईएन ट्रांसमिशन को युद्घ स्तर पर निर्माण कार्य पूरा कराकर मार्च 2021 के अंत तक हैंडओवर कराने का निर्देश दिया गया है। कृष्णा करुणेश, डीएम
... और पढ़ें

अब पैदल नहीं स्कूली वाहन से पढ़ने जाएंगे प्राथमिक विद्यालय के बच्चे

बलरामपुर। बेसिक शिक्षा के प्राथमिक विद्यालय मद्दोभीख रेहरा बाजार के नौनिहाल स्कूल के वाहन से पढ़ने जाएंगे। प्रदेश के 75 जिलों में मद्दोभीख वाहन संचालित करने वाला पहला स्कूल बन गया है। बीएसए डॉ. रामचंद्र व बीईओ रेहरा बाजार अश्वनी गुप्ता ने मंगलवार को मिशन शक्ति के तहत स्कूल वाहन को हरी झंडी दिखाकर नौनिहालों के लिए रवाना किया। प्राथमिक विद्यालय मद्दोभीख ने स्वयं का वाहन संचालित कराने वाला प्रदेश का पहला स्कूल बनने का गौरव हासिल किया है।
बीएसए ने प्राथमिक विद्यालय मद्दोभीख के हेडमास्टर आत्माराम पाठक व समस्त स्टाफ के अथक प्रयास की इस उपलब्धि को हासिल करने की सराहना की। वर्तमान समय में मुख्यमंत्री के नेतृत्व में बेटियों व महिलाओं को चहुंओर जागरूक करने और उन्हें सम्मानित करने के लिए मिशन शक्ति कार्यक्रम चलाया जा रहा है। मद्दोभीख विद्यालय अब प्रदेश स्तर पर अपनी सफलता कायम कर रहा है। स्कूल की सभी व्यवस्थाएं उत्तम हैं। स्कूल में पंजीकृत 402 छात्र-छात्राओं के लिए फर्नीचर, सीसीटीवी कैमरे, डिजिटल लाइब्रेरी, कई लैपटॉप, विद्यालय की वेबसाइट, सॉफ्टवेयर स्कूल मैनेजमेंट डेटा बेस सिस्टम, सुंदर मनोरम भारत दर्शन पिक्चर गैलरी आदि अनेक सुविधाओं से लैस है।
अपना वाहन पाकर नौनिहालों के चेहरों पर मुस्कान छा गई। हेडमास्टर व समस्त स्टाफ के साथ स्कूल में पढ़ने वाले नौनिहालों के अभिभावकों ने वाहन का इंतजाम करने का खर्च उठाया है। जिले का पहला परिषदीय स्कूल जहां नौनिहालों को लाने व ले जाने के लिए वाहन चलाया जाएगा। कार्यक्रम में मौजूद उमेश कुमार, तुलसीराम, आनंद कुमार, यदुपति यादव, महेश यादव, जितेन्द्र वर्मा व विजय वर्मा आदि अभिभावकों ने हेडमास्टर व समस्त स्टाफ की सराहना करते हुए कहा कि अपने बच्चों को इस स्कूल में पढ़ाने के लिए गौरव महसूस कर रहे हैं।
... और पढ़ें

जमीन विवाद में चले लाठी-डंडे, 10 घायल

ललिया (बलरामपुर)। स्थानीय थाना क्षेत्र के धामाचौरी गांव में जमीन के विवाद को लेकर दो पक्षों में धारदार हथियार व लाठी-डंडों से जमकर मारपीट हुई। घटना में दोनों पक्ष के 10 लोग घायल हुए हैं। घायलों को इलाज के लिए सीएचसी शिवपुरा में भर्ती कराया गया है। छह लोगों की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन में जुट गई है।
प्रभारी निरीक्षक जयदीप दूबे ने बताया कि धामाचौरी गांव में जमीन विवाद को लेकर दो पक्ष आपस में भिड़ गए। घटना में रामगोपाल यादव (35), पंकज यादव (24), मनीष यादव (30), प्रधानपति पाटेश्वरी यादव (40), मोहन (40), घनश्याम, मुरारी, पवन कुमार व प्रताप नरायन सहित 10 लोग घायल हुए हैं। घायलों को इलाज के लिए सीएचसी शिवपुरा में भर्ती कराया गया। सीएचसी अधीक्षक अरविंद कुमार ने बताया कि रामगोपाल यादव, पंकज यादव, मनीष यादव, पाटेश्वरी यादव, मोहन यादव को गंभीर चोट लगने के कारण जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने दोनों पक्षों की तरफ से मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

बलरामपुर में कोरोना के मिले सात पॉजिटिव

बलरामपुर। जिले में रविवार व सोमवार को आई कोरोना रिपोर्ट में सात लोग पॉजिटिव पाए गए है। पॉजिटिव पाए गए लोगों को इलाज के लिए लेवल-1 कोविड केयर सेंटर में शिफ्ट किया गया है। सभी लोगों के कांटेक्ट की तलाश शुरू कर दी गई है।
जिला सूचना कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार रविवार को आई कोरोना रिपोर्ट में पचपेड़वा, बलरामपुर के मोहल्ला खलवा, सादुल्लाहनगर, महुआ इब्राहिम श्रीदत्तगंज, पचपेड़वा में एक-एक तथा सोमवार को आई कोरोना रिपोर्ट में मणिपुर शिवपुरा व बलरामपुर के पहलवारा मोहल्ले में एक-एक लोग पॉजिटिव पाए गए हैं।
पॉजिटिव पाए गए सभी लोगों को इलाज के लिए लेवल-1 कोविड केयर सेंटर में शिफ्ट किया गया है। इन लोगों के कांटेक्ट की तलाश शुरू कर दी गई है। इन लोगों के संपर्क में आए सभी लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजा जाएगा। जिला सूचना कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को 13 लोगों की दूसरी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव मिली है। जिले में कोरोना पॉजिटिव केस की संख्या 1748 हो गई है। 1622 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके है। 26 लोगों की मौत हो चुकी है। जिले में कोरोना के एक्टिव केस 100 है।
... और पढ़ें

हाईटेंशन तार की चपेट में आने से किसान की मौत

रेहरा बाजार (बलरामपुर)। स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम देवारीखेरा के मजरे धाकड़गंज निवासी युवा किसान ट्रैक्टर की मरम्मत कराते समय हाईटेंशन तार की चपेट में आ गए। घटना में गंभीर रूप से झुलसे किसान की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले की छानबीन की जा रही है।
धाकड़गंज निवासी विजय ने बताया कि उनके पिता राजेश कुमार (42) रविवार को ट्रैक्टर व रायपर मशीन लेकर मौर्यगंज बाजार में वेल्डिंग कराने गए थे। वेल्डिंग के दौरान राजेश ट्रैक्टर से संचालित रायपर मशीन पर चढ़ गए। वेल्डिंग के दौरान राजेश ने जैसे ही सरिया ऊपर उठाया सरिया हाईटेंशन तार से टकरा गई। हाईटेंशन तार की चपेट में आते ही राजेश बुरी तरह से झुलस गए और मौके पर ही उनकी मौत हो गई। प्रभारी निरीक्षक पारस प्रसाद ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। मामले की छानबीन की जा रही है।
... और पढ़ें

पीसीएफ के चार क्रय केंद्र प्रभारियों से जवाब तलब

बलरामपुर। पीसीएफ के चार धान क्रय केंद्रों के औचक निरीक्षण में खामियां पाए जाने पर चारों केंद्र प्रभारियों से जवाब तलब किया गया है। तीन दिन में संतोषजनक जवाब न देने पर उनके खिलाफ विधिक कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। जिले के 29 क्रय केंद्रों पर दो क्रय एजेंसियां धान की खरीदारी कर रही हैं। डीएम ने किसानों से अपील किया है कि बेहतर मुनाफा कमाने के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कराकर सरकारी केंद्रों पर धान बेचें।
डिप्टी आरएमओ नरेन्द्र कुमार तिवारी ने शनिवार को बताया कि जिले के किसानों को उनकी उपज का बेहतर लाभ दिलाने के लिए दो क्रय एजेंसियों के 29 धान केंद्रों का संचालन शुरु करा दिया गया है। धान खरीद का जायजा लेने के लिए उन्होंने 22 अक्तूबर को डीएम के निर्देश पर पीसीएफ के चार क्रय केंद्रों का औचक निरीक्षण किया।
इसमें धान क्रय केंद्र लिलवा पर खरीद के लिए कोई इंतजाम नहीं मिला। केंद्र पर अभी तक इलेक्ट्रानिक कांटा, नमी मापक यंत्र, झरना, पंखा व बोरे नहीं मिले जिसके चलते केंद्र पर धान खरीद शुरु नहीं हो सकी है। गौरा चौराहा धान क्रय केंद्र पर बैनर लगा है। एक नमी मापक यंत्र, दो इलेक्ट्रॉनिक कांटा, पंखा, झरना आदि इंतजाम मिला। 28 किसानों ने धान बेचने के लिए नाम व मोबाइल नंबर भी दर्ज करा दिया है लेकिन अभी खरीद शुरू नहीं हुई है।
धान क्रय केंद्र जैतापुर में निरीक्षण के समय प्रभारी राकेश शुक्ला नदारद मिले। बैनर लगा मिला लेकिन नमी मापक यंत्र नदारद रहा। एक इलेक्ट्रानिक कांटा केंद्र पर पाया गया। केंद्र पर खरीदे गए किसानों के रजिस्ट्रेशन प्रपत्र उपलब्ध नहीं थे और न ही उपलब्ध धान की मात्रा का सत्यापन किया जा सका।
छह किसानों ने केंद्र पर 365 क्विंटल धान बेंचा है। धान बेचने के लिए संपर्क रजिस्टर भी नहीं मिला। धान क्रय केंद्र पकड़ी में अभी तक खरीद शुरु नहीं हुई है। केंद्र पर सभी संसाधन पाए गए। लेकिन केंद्र पर बोरे नहीं मिले। चारों क्रय केंद्र प्रभारियों से खामियों के चलते जवाब तलब किया गया है। डीएम ने चेतावनी दी है कि यदि धान क्रय केंद्रों के संचालन में खामियां मिली तो संबंधित संचालक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

आज से दो दिन तीन-तीन घंटे गुल रहेगी बिजली

बलरामपुर। उतरौला तहसील क्षेत्र के नगर व ग्रामीण की बिजली 27 अक्तूबर से दो दिन तक तीन-तीन घंटे गुल रहेगी। विद्युत उपकेंद्र उतरौला में अनुरक्षण कार्य किया जाएगा। अधीक्षण अभियंता पावर कॉर्पोरेशन ललित कुमार ने विद्युत उपभोक्ताओं से अनुरक्षण कार्य में सहयोग करने की अपील की है।
उपखंडीय अधिकारी पारेषण 132 केवी उपकेंद्र उतरौला शादाब खान ने सोमवार को बताया कि उतरौला तहसील के नगर व ग्रामीण क्षेत्रों में 27 व 28 अक्तूबर को प्रात: 9 से 12 बजे तक बिजली कटौती की जाएगी। 132 केवी विद्युत उपकेंद्र पर दो दिनों तक अनुरक्षण कार्य किया जाएगा। उपकेंद्र से निर्गत पोषक 33 केवी उतरौला ग्रामीण, तहसील, टाउन, श्रीदत्तंगज व 33 केवी तुलसीपुर तहसील की विद्युत आपूर्ति प्रभावित रहेगी। इन क्षेत्रों के सभी बिजली उपभोक्ताओं से अनुरक्षण कार्य में सहयोग करने की अपील की गई है जिससे भविष्य में बेहतर ढंग से बिजली आपूर्ति उपभोक्ताओं को उपलब्ध कराई जा सके।
... और पढ़ें

नहीं दोहराया जाएगा 512 साल पुराने बलरामपुर दशहरे का इतिहास

बलरामपुर। बलरामपुर दशहरे का इतिहास 512 साल पुराना है। गुजरात के रियासत जंवाड़ा पावागढ़ किला से आए महाराज बरियार शाह ने इसकी शुरुआत की थी। कोरोना महामारी के चलते इस साल दशहरा नहीं मनाया जाएगा। दशहरा देखने वालों में आयोजन स्थगित होने से मायूसी है।
वर्ष 1269 ई. में महाराज बरियार शाह गुजरात के रियासत जंवाड़ा पावागढ़ किला से आकर तराई क्षेत्र इकौना में आकर बसे थे। 1508 में इन्हीं के वंशज महाराजा गंगाशाह बलरामपुर आकर बसे और बलरामपुर रियासत की नींव रखी तभी से यहां दशहरा मनाने के परंपरा की शुरुआत हुई। 1836 में बलरामपुर रियासत के महराजा बने दिग्विजय सिंह ने दशहरे को 1859 में भव्य स्वरूप दे दिया।
दशहरे के दिन राम बारात, राम लक्ष्मण स्वागत व पूजन तथा राम-रावण युद्घ के पश्चात रावण, कुंभकर्ण व मेघनाथ के पुतले का दहन किया जाता रहा है। यह पर्व हिन्दू-मुस्लिम एकता का प्रतीक भी बन गया। तीन दिनों तक यह पर्व मनाया जाने लगा। इस पर्व में कई रियासतों के पहलवान, तलवारबाज, निशानेबाज व घुड़सवार आदि अपना-अपना हुनर दिखाते थे।
दहशरा देखने के लिए देश के कोने-कोने से लोग बलरामपुर आते थे। नेपाल से भी भारी संख्या में लोग बलरामपुर दशहरा देखने आते थे। नेपाल के शाही परिवार से बलरामपुर रियासत का रोटी-बेटी का संबंध सदियों पुराना है। बलरामपुर स्टेट के वर्तमान महराज जयेन्द्र प्रताप सिंह बताते हैं कि दशहरे के दिन हमारे यहां शस्त्र पूजा व राम लक्ष्मण की आरती व पूजन का विशेष महत्व है। इस दिन हम लोग रावण का पुतला दहन कर बुराई समाप्त करने तथा अच्छाई के मार्ग पर चलने का संकल्प सदियों से लेते आ रहे हैं।
आजादी के बाद वर्ष 1952 से इस पर्व के आयोजन की जिम्मेदारी सनातन धर्म सभा निभा रही थी। वर्ष 2005 में सनातन धर्म सभा ने तत्कालीन महाराज धर्मेन्द्र प्रताप सिंह के दशहरे के आयोजन का जिम्मा लेने का अनुरोध किया। तभी से इसका आयोजन बलरामपुर स्टेट तथा सनातन धर्मसभा संयुक्त रूप से कर रही थी। इस वर्ष कोरोना महामारी के कारण सदियों पुरानी इस परंपरा का निर्वहन स्थगित हुआ है। परिस्थितियां अनुकूल रही तो अगले वर्ष से इसका आयोजन फिर से बहाल कर दिया जाएगा।
... और पढ़ें

साइकिल पाकर आठ बेटियों के खिले चेहरे

बलरामपुर। साइकिल पाकर आठ श्रमिकों की बेटियों के चेहरे खुशी से खिल गए। हाईस्कूल व इंटरमीडिएट पास होने वाली श्रमिकों के बेटियों को शनिवार को विकास भवन परिसर में साइकिल बांटा गया। मिशन शक्ति के तहत श्रम विभाग की तरफ से संचालित संत रविदास शिक्षा सहायता योजना के तहत विद्यार्थियों को वजीफा व साइकिल भी दिया जाएगा।
कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए सदर विधायक पल्टूराम ने कहा कि श्रमिकों की बेटियों को अच्छी शिक्षा देने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार की तरफ से योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। पढ़ाई करने वाली श्रमिक परिवार की बेटियों को वजीफा के साथ साथ स्कूल तक पहुंचने के लिए साइकिल जैसे संसाधन मुहैया कराए जा रहे है।
एडीएम वित्त एवं राजस्व अरुण कुमार शुक्ल ने कार्यक्रम को संबोधित कर श्रमिकों से अपील किया कि अपनी बेटियों को शिक्षित करके समाज की मुख्यधारा से जोड़ने में सहयोग करें। सरकार श्रमिक की बेटियों को शिक्षा दिलाने के साथ साथ हाथ भी पीले कराने के लिए योगदान दे रही है।
श्रम प्रवर्तन अधिकारी वेद प्रकाश चौधरी व भूपेंद्र मिश्र ने कहा कि हाईस्कूल व इंटरमीडिएट पास होने वाली पिंकी तिवारी, संध्या वर्मा, पूनम देवी, प्रीति यादव, अंशु यादव, महक, नेहा मिश्रा व सरोज कुमारी को मिशन शक्ति के तहत श्रम विभाग की तरफ से संचालित संत रविदास शिक्षा सहायता योजना के तहत साइकिल दिया गया है।
सुषमा भारती, अन्ना देवी, कन्या देवी, विमला देवी व माया देवी को इसी योजना के तहत पंजीकरण प्रमाण पत्र भी दिया गया है। पंजीकरण प्रमाण पत्र व साइकिल पाकर श्रमिकों की बेटियों के चेहरे खुशी से खिल गए। कार्यक्रम के आयोजन में रोहित कुमार सोनी, अजीत पांडेय, सुनील कुमार राय व राधिका मिश्रा का सराहनीय योगदान रहा।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X